जामुन के फायदे गुण लाभ और नुकसान – Jamun (Black Plum) benefits and side effects in hindi

जामुन के फायदे गुण लाभ और नुकसान – Jamun (Black Plum) benefits and side effects in hindi
Written by Anamika

Jamun ke fayde in Hindi बारिश के मौसम की शुरूआत होते ही बाजार में जामुन की आवक शुरू हो जाती है। रस से भरी जामुन खाना सभी पसंद करते हैं, लेकिन जामुन खाने के फायदों के बारे में शायद ही आप जानते हों। तो चलिए आज हम आपको जामुन के फायदों के बारे में बताते हैं। जामुन गर्मी के मौसम में शुरू होकर बरसात में मिलने वाला एक फल है। जामुन को अंग्रेजी में ब्लैक प्लम (Black plum) कहते हैं। जामुन का फल आमतौर पर काले या गहरे गुलाबी रंग का होता है और बहुत सारे औषधीय गुणों से युक्त होता है।

जामुन के फायदे और स्वास्थ्य की दृष्टि से कई विकारों को दूर करने के लिए आयुर्वेद में भी जामुन के फल, छाल, पत्तियों एवं बीजों का उपयोग जड़ी-बूटी के रूप में किया जाता है। ज्यादातर घरों में अच्छी सेहत के लिए लोग जामुन का उपयोग स्नैक्स के रूप में भी करते हैं। जामुन की गुठली के फायदे भी अनेक है जामुन का उपयोग सिरका (vinegar) बनाने में भी किया जाता है जो कई विकारों को दूर करने में इस्तेमाल किया जाता है।

1. जामुन में पाये जाने वाले पोषक तत्व – Nutritional value of jamun in Hindi
2. जामुन खाने के फायदे – Jamun ke fayde in Hindi
3. जामुन के नुकसान – Jamun ke nuksan in hindi

कितना फ़ायदेमंद है जामुन खाना!

बारिश के मौसम की शुरूआत होते ही बाजार में जामुन की आवक शुरू हो जाती है। रस से भरी जामुन खाना सभी पसंद करते हैं, लेकिन जामुन खाने के फायदों के बारे में शायद ही आप जानते हों। तो चलिए आज हम आपको जामुन के फायदों के बारे में बताते हैं।

  • मधुमेह रोगियों के लिए जामुन बेहद फायदेमंद होती हैं। यह इंसुलिन को नियंत्रित रखने का काम करती है।
  • जामुन की गुठलियों को सुखाकर उसका पाउडर बना लें। इसे गुनगुने पानी से साथ खाली पेट 1 चम्मच लें इससे शुगर लेवल ठीक रहेगा।
  • जामुन में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं जो आपकी त्वचा को समय से पहले बूढा होने से रोकती है क्योंकि यह एंटी एजिंग भी होती हैं। आप जामुन का पेस्ट बनाकर अपने चेहरे पर लगा सकते हैं ।
  • हृदय के लिए जामुन खाना फायदेमंद होता हैं। ये रक्त को पतला करने में मदद करती हैं, जिसके कारण हार्ट ब्लॉकेज और स्ट्रोक की आशंका कम होती है।
  • जामुन का सेवन कैंसर से बचने में भी मददगार होता है।
  • याद्दाश्त बढ़ाने में भी जामुन खाना फायदेमंद होता हैं।

जामुन में पाये जाने वाले पोषक तत्व – Nutritional value of jamun in Hindi

Jamun जामुन के फल में ग्लूकोज, फ्रक्टोज, विटामिन C, A, राइबोफ्लेविन, निकोटिन एसिड, फोलिक एसिड, सोडियम और पोटैशियम के अलावा कैल्शियम, फॉस्फोरस और जिंक एवं आयरन मौजूद होता है। इसके साथ ही जामुन के छाल (bark)और शाखाओं में टैनिन, गैलिक एसिड, रेसिन, फाइटोस्टीरॉल मौजूद होता है जो स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। जामुन के बीज में ग्लाइकोसाइड, जंबोलिन और गैलिक एसिड पाया जाता है जो बीमारियों के इलाज में सहायता करता है।

जामुन के फायदे – Jamun Health benefits in hindi

जामुन के फायदे - Jamun Health benefits in hindi

जामुन के फायदे हीमोग्लोबिन बढ़ाने में – Jamun Improves hemoglobin count in hindi

इसमें विटामिन C और आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिसकी वजह से जामुन खाने से हीमोग्लोबिन बढ़ता है। शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ने से रक्त शरीर के विभिन्न हिस्सों में अधिक ऑक्सीजन का फ्लो होता है जिसकी वजह से हमारा स्वास्थ्य ठीक रहता है। जामुन में पाया जाने वाला आयरन रक्त को शुद्ध करने का काम करता है।

जामुन के फायदे त्वचा और आंखों के लिए – Jamun for skin and eyes in hindi

विटामिन A आंखों के लिए लाभकारी होता है और यह जामुन में बहुतायत पाया जाता है। इसके अलावा जामुन में खनिज और विटामिन सी भी पाया जाता है जो त्वचा के लिए भी अच्छा माना जाता है।

जामुन के फायदे हृदय के लिए – Jamun Keeps heart health in hindi

पोटैशियम से भरपूर होने के कारण जामुन हृदय को स्वस्थ रखने में बहुत सहायक होता है। 100 ग्राम जामुन में लगभग 55 मिलीग्राम पोटैशियम पाया जाता है जो उच्च रक्तचाप, स्ट्रोक सहित कई तरह के हृदय रोगों से शरीर का बचाव करता है।

जामुन के औषधीय गुण मसूढ़ों और दांतों की मजबूती के लिए – Jamun for gums and teeth in hindi

मसूढ़ों एवं दांतों के लिए भी जामुन बहुत फायदेमंद होता है। जामुन की पत्तियों में एंटीबैक्टीरियल गुण पाया जाता है जो मसूढ़ों से खून निकलने से बचाने में मदद करती हैं। जामुन की पत्तियों को सुखाकर और इसका पावडर तैयार करके दांतों को साफ करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह संक्रमण और मसूढ़ों से खून निकलने को रोकता है। जामुन के पेड़ की छाल कसैली होती है जो मुंह के अल्सर से सुरक्षा प्रदान करती है।

जामुन के फायदे संक्रमण दूर करने में – Jamun Prevents infection in hindi

जामुन में जीवाणुरोधी, संक्रमणरोधी और मलेरिया रोधी गुण पाया जाता है। जामुन के फल में मैलिक एसिड, गैलिक एसिड, ऑक्जैलिक एसिड और बेटुलिक एसिड पाया जाता है। जामुन का फल सामान्य संक्रमण से बचाने में मदद करता है। इसलिए संक्रमण से बचाव के लिए जामुन का सेवन किया जाता है।

जामुन की गुठली के फायदे डायबिटीज के इलाज में – Jamun Treats diabetes in hindi

जामुन डायबिटीज के लक्षणों, अधिक पेशाब और भूख को कम करने में मदद करता है। यह ग्लाइसेमिक इंडेक्स को कम करता है और ब्लड शुगर को सामान्य बनाए रखता है। जामुन की पत्तियां (leaves), छाल और बीज डायबिटीज के इलाज में उपयोग किए जाते हैं। यह इंसुलिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है। इसलिए जामुन के सीजन में इसके फल का सेवन डायबिटीज रोगियों को खूब करना चाहिए।

जामुन की गुठली के फायदे अशुद्धियां दूर करने में – Jamun Detoxifies the body in hindi

जामुन के बीज में प्लैनॉयड भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह शरीर से सिर्फ मुक्त कणों को ही बाहर नहीं निकालता है बल्कि एंटीऑक्सीडेंट एंजाइमों को अधिक प्रभावी बनाता है। यही कारण है कि जामुन शरीर की अशुद्धियों और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है और इम्यून सिस्टम के कार्यों को बेहतर बनाता है।

जामुन की गुठली के फायदे गैस की समस्या में – Jamun Treats Gastric Disorders in hindi

जामुन की छाल और बीज का पावडर पेट में गैस की समस्याओं को दूर करने में उपयोग किया जाता है। इसके अलावा यह डायरिया, अपच और पेचिश के इलाज में भी बहुत प्रभावी रूप से काम करता है। इसलिए लोग पेट की इन समस्याओं के निजात पाने के लिए जामुन का उपयोग करते हैं।

जामुन के फायदे पिंपल दूर करने में – Jamun Treats Pimple in hindi

चेहरे के मुंहासे के इलाज में भी जामुन का प्रयोग किया जाता है। जामुन के बीज को पीसकर इसमें गाय को दूध मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें और रात में सोने से पहले इसे चेहरे पर लगाएं और सूखने के थोड़ी देर बाद चेहरे को पानी से धोकर पोंछ ले। मुंहासे कुछ ही दिनों में दूर हो जाते हैं।

(और पढ़े – रातों रात पिंपल से छुटकारा दिलाएंगे ये घरेलू उपाय)

जामुन की गुठली का चूर्ण किडनी के समस्या में प्रभावी – Jamun Cures Kidney Disorders in hindi

गुर्दे की समस्या को दूर करने में भी जामुन का उपयोग किया जाता है। अगर आपके गुर्दे में किसी तरह की दिक्कत है तो जामुन के बीज का पावडर तैयार कर लें और इसे दही में मिलाकर खाने से किडनी के स्टोन सहित किडनी की अन्य दिक्कतें भी दूर हो जाती हैं।

(और पढ़े – पथरी होना क्या है? (किडनी स्टोन) पथरी के लक्षण, कारण और रोकथाम)

जामुन के फायदे दाद दूर करने में – Jamun Treats Ringworm Problem in hindi

दाद (ringwarm) के इलाज में भी जामुन बहुत फायदेमंद होता है। जामुन के रस को थोड़े से पानी में मिलाकर त्वचा पर लोशन के रूप में लगाने से दाद की समस्या ठीक हो जाती है।

जामुन के लाभ स्टैमिना बढ़ाने में – Jamun Improve Body Stamina in hindi

शरीर की कमजोरी को दूर करने और खून की कमी (anemia) की समस्या में जामुन का रस बहुत फायदेमंद होता है। यह यादाश्त भी बढ़ाता और और सेक्सुअल कमजोरी की परेशानी को दूर करता है। एक चम्मच जामुन के रस (jamun juice) में एक चम्मच शहर और एक चम्मच आंवला का रस मिलाकर प्रतिदिन सुबह खाने से यौनशक्ति बढ़ती है।

जामुन के नुकसान – Jamun ke nuksan in hindi

  •  सभी चीजों को सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह का प्रभाव पड़ता है। इसलिए अगर स्वास्थ्य की बात हो तो जामुन के नुकसान के बारे में भी जानना जरूरी हो जाता है।
  • जामुन के बीज, छाल और पत्तियों से बने उत्पादों (jamun product) का सेवन अधिक मात्रा में करने से यह डायबिटीज रोगियों में ब्लड शुगर लेवल को घटा सकता है जिससे उनकी दिक्कतें बढ़ सकती हैं।
  • सर्जरी से कुछ दिन पहले और कुछ दिन बाद तक जामुन का सेवन नहीं करना चाहिए अन्यथा शरीर ब्लड शुगर का स्तर घट सकता है।
  • जामुन का सेवन खाली पेट करने से कब्ज की दिक्कत हो जाती है इसलिए यह जरूर ध्यान रखें।
  • लगातार शरीर में सूजन बना हो या लगातार उल्टी की समस्या हो जामुन (black plum) नहीं खाना करना चाहिए। अत्यधिक जामुन खाने से शरीर में दर्द और बुखार भी हो जाता है।
  • दूध पीने के एक घंटे पहले या पीने के एक घंटे बाद जामुन खाने से यह नुकसान करता है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration