आयुर्वेदिक उपचार

बालों में मेहंदी लगाने के फायदे, नुकसान और लगाने का तरीका – Mehndi For Hair In Hindi

बालों में मेहंदी लगाने के फायदे, नुकसान और लगाने का तरीका - Mehndi For Hair Benefits And Side Effects In Hindi

मेंहदी का इस्तेमाल सदियों से हेयर डाई के रुप में होता आ रहा है। चाहे कोई त्योहार हो, शादी या फिर पार्टी, मेंहदी के बिना कोई काम पूरा नहीं होता। मेंहदी को हमेशा से ही बहुत शुभ माना जाता है। यह प्राचीन काल से ही मेंहदी स्वास्थ्य लाभ के लिए इस्तेमाल होती ही है लेकिन बालों के विकास के लिए भी मेंहदी का उपयोग बड़े पैमाने पर किया जाता है। बालों टूटने की समस्या को दूर करने, बाल सफेद होने और बालों से जुड़ी अन्य समस्याओं से निजात पाने के लिए महिलाएं और पुरुष दोनों ही बालों में मेंहदी लगाते हैं। पहले के समय में मेंहदी की पत्तियों को पीसकर बालों में लगाया जाता था लेकिन अब मार्केट में पैकेट बंद मेंहदी उपलब्ध है। जिन्हें लोग बालों में लगाते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको बालों में मेंहदी लगाने के फायदे और नुकसान के बारे में बताने जा रहे हैं।

मेंहदी क्या है? – What is Henna in Hindi

मेंहदी क्या है? - What is Henna in Hindi

मेंहदी एक प्लांट है जिसकी पत्तियों को पीसकर बालों और हाथों में लगाया जाता है। यह पाउडर फॉर्म में बाजारों में भी उपलब्ध है। मेंहदी की पत्तियां दवाओं के रुप में भी इस्तेमाल की जाती हैं। मेंहदी का वैज्ञानिक नाम एल्कान्ना टिंक्टोरिया (Alkanna tinctoria) है, इसकी जड़ों को एल्कान्ना रुट कहते हैं। मेंहदी का इस्तेमाल डायरिया, कैंसर, प्लीहा के बढ़ने, सिरदर्द, पीलिया, स्किन और हेयर से जुड़ी समस्याओं के उपचार के लिए किया जाता है। इसके अलावा मेंहदी कॉस्मेटिक, हेयर डाई, हेयर केयर प्रोडक्ट, नाखून, हाथ और कपड़ों को डाई करने के लिए भी उपयोग में लायी जाती है।

(और पढ़े – मेंहदी के फायदे उपयोग और नुकसान…)

बालों में मेहंदी लगाने के तरीके – Baalon Mein Mehndi Kaise Lagaye In Hindi

बालों में मेहंदी लगाने के तरीके - Baalon Mein Mehndi Kaise Lagaye In Hindi

बालों में मेंहदी लगाने के सबसे बेस्ट तरीके को जानने से पहले आपको इन चीजों की जरूरत पड़ेगी।

हम सभी जानते हैं कि बालों में मेंहदी लगाते समय कान, गर्दन और हेयर लाइन पर मेंहदी का कलर चढ़ जाता है जो देखने में अच्छा नहीं लगता है। इससे बचने के लिए बालों में मेंहदी अप्लाई करने से पहले अपने कानों, गर्दन और हेयर लाइन पर नारियल का तेल लगाएं ताकि इन स्थानों पर मेंहदी का रंग चढ़ने से बचाया जा सके।

  • इसके बाद हाथों में दस्ताना पहनें और अपने बालों को दो सेक्शन में बाटें।
  • हाथ से बालों के थोड़े थोड़े पोर्शन को पकड़ें और एप्लिकेटर ब्रश से बालों की जड़ से मेंहदी लगाना शुरू करें और बालों के सिरे (tip) तक मेंहदी लगाएं।
  • बालों के जितने हिस्से में मेंहदी लगाएं उसे ऊपर की ओर लपेटते (Wrap) जाएं।
  • इस तरह पूरे बाल में मेंहदी लगाने के बाद ऊपर जूड़ा (bun) बन जाता है।
  • जूड़ा बनने के बाद बची हुई मेंहदी को बालों के ऊपर लगाएं और शॉपर कैप से सिर को कवर कर लें एवं कुछ घंटों तक ऐसे ही रहने दें।
  • दो से तीन घंटे बाद मेंहदी धोएं और बालों में शैंपू करें।

(और पढ़े – हेयर कलर करने का तरीका और घरेलू उपाय…)

बालों की मेहंदी में क्या मिलाएं – Mehndi Mein Kya Milaye In Hindi

आमतौर पर बालों के टेक्सचर को बदलने, बालों की हेल्थ को सुधारने और बालों को कलर करने के लिए मेंहदी लगायी जाती है। इसलिए प्लेन मेंहदी की बजाय इसमें कुछ मिलाकर बालों में लगाना हमेशा फायदेमंद होता है।

मेंहदी, अंडा और नींबू

एक कांच के कटोरे में मेंहदी पाउडर में आवश्यकता अनुसार गर्म पानी, नींबू का रस और एक अंडा डालकर तब तक अच्छे तरीके से मिलाएं जब तक मोटा और चिकना पेस्ट नहीं बन जाता है। फिर इसे 12 घंटे के लिए ढक कर रख दें ताकि बालों में लगाने के बाद मेंहदी का कलर अच्छे तरीके से चढ़ जाए। मेंहदी में अंडा मिलाकर लगाना बालों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह बालों को डबल प्रोटीन ट्रीटमेंट देता है और स्कॉल्प को क्लीन रखने के साथ ही हेयर शाफ्ट को रंग और पोषण प्रदान करता है। नींबू में पाया जाने वाला विटामिन सी कोलेजन को बढ़ाता है जिससे हेयर ग्रोथ तेज होती है।

आंवला और मेंहदी पाउडर

एक कांच के कटोरे में आधा कप मेंहदी पाउडर, दो चम्मच आंवला पाउडर, एक चौथाई कप गर्म पानी डालकर अच्छे तरीके से गाढ़ा पेस्ट बनाएं। फिर मेंहदी को कुछ घंटे तक ढक कर रखें। इसके बाद एप्लिकेटर ब्रश से बालों में मेंहदी लगाएं। आंवला में उच्च मात्रा में विटामिन सी, आयरन और कैरोटिन पाया जाता है जो बालों की बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा विटामिन सी कोलेजन लेवल बढ़ाने में मदद करता है जिससे बालों का झड़ना बंद होता है और बाल बहुत तेजी से लंबे होते हैं।

एलोवेरा और मेंहदी पाउडर

मेंहदी की ताजी पत्तियों को पानी से अच्छी तरह धो लें। इसके बाद ताजे एलोवेरा के पत्तों को बीच से काटर चाकू से जेल निकालें। इन दोनों को मिक्सर में एक साथ पीसकर एक मुलायम पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को बालों में दो से तीन घंटे तक लगाए रखें और फिर ठंडे पानी से धोकर बालों में शैंपू कर लें। आपको कुछ ही दिनों में अपने बालों में फर्क नजर आएगा। वास्तव में एलोवेरा में कुछ ऐसे यौगिक मौजूद होते हैं जो बालों की कंडिशनिंग करते हैं और बालों को ड्राई होनेके साथ ही रुसी की समस्या से बचाते हैं। इसलिए मेंहदी में एलोवेरा मिलाकर बालों में लगाना फायदेमंद होता है।

चुकंदर और मेंहदी

एक बर्तन में चुकंदर कद्दूकस करें और उसमें दो कप पानी डालकर तब तक उबालें जब तक पानी जलकर आधा ना हो जाए। इसके बाद बर्तन को आंच से उतारें और कुछ देर तक ठंडा होने दें और पानी को दूसरे बर्तन में छान लें। अब इसमें मेंहदी पाउडर मिलाएं और तीन घंटे तक ढक कर रखें और फिर बालों में ब्रश से अप्लाई करें। सूखने से बाद पानी से धोकर बालों में शैंपू कर लें। चुकंदर में विटामिन और मिनरल दोनों पाया जाता है जो बालों के विकास के लिए बेहद जरूरी होता है। ये हेयर फॉलिकल को पोषण प्रदान करता है और बालों के रंग को बढ़ाता है। इसलिए मेंहदी में चुकंदर मिलाकर लगाएं और फिर देखें कि आपके बाल कितने आकर्षक दिखते हैं।

(और पढ़े – बालों में अंडा लगाने का तरीका और फायदे…)

बालों में मेंहदी लगाने के फायदे – Mehndi Benefits For Hair in Hindi

बालों में मेहंदी लगाने के तरीके - Baalon Mein बालों में मेंहदी लगाने के फायदे - Mehndi Benefits For Hair in Hindi

मेंहदी में कई ऐसे प्राकृतिक तत्व पाये जाते हैं जो सेहत के साथ ही बालों के लिए भी फायदेमंद होते हैं। आइये जानते हैं बालों में मेंहदी लगाने के क्या फायदे हैं।

बालों को टूटने से रोकने में मेंहदी के फायदे

बालों में मेंहदी लगाने का बड़ा फायदा यह होता है कि यह स्कॉल्प के हेल्थ को बेहतर बनाता है, बंद रोमछिद्रों को खोलता है और पीएच लेवल को बैलेंस करता है जिससे बाल हेल्दी और मजबूत होते हैं। इसके अलावा मेंहदी लगाने से बालों का टूटना और झड़ना बंद हो जाता है। इससे बाल न सिर्फ जल्दी बढ़ते हैं बल्कि बालों का टेक्सचर भी इंप्रूव होता है।

मेंहदी के फायदे बालों को मजबूत बनाने में

मेंहदी में पाये जाने वाले पोषक तत्व बालों को पोषण देने में मदद करते हैं और डैमेज बालों को रिपेयर करते हैं। यह पीएच लेवल को बैलेंस करने के साथ ही हेयर क्लूटिकल को भी सील करने में सहायक होती है जिससे बालों का लचीलापन बेहतर होता है और बाल चमकदार और मजबूत बनते हैं।

स्कैल्प हेल्थ को बनाए रखने में मेंहदी के फायदे

मेंहदी स्कैल्प (खोपड़ी) को ठंडक प्रदान करती है। इसमें पाया जाने वाला एंटीमाइक्रोबियल गुण स्कैल्प के हेल्थ के लिए अच्छा होता है और बालों में रुसी की समस्या से निजात दिलाने में मदद करता है।

बालों के लिए मेंहदी के फायदे पीएच लेवल को बैलेंस करने में

बालों में मेंहदी लगाने से ना सिर्फ रूसी की समस्या से छुटकारा मिलता है बल्कि इसमें मौजूद सामग्री ऑयल स्कैल्प के ऑयल प्रोडक्शन और पीएच को बैलेंस करने में मदद करती हैं। यह बालों में मौजूद अधिक ऑयल को हटाने के साथ ही बंद फॉलिकल को खोलने का काम करती है जिससे सिबेसियस ग्लैंड बेहतर तरीके से कार्य करता है और बाल लंबे, घने एवं मुलायम होते हैं।

(और पढ़े – आयुर्वेदिक तरीकों से रुकेगा हेयर लॉस और होगा हेयर रिग्रोथ…)

बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान – Side effects Of Mehndi For Hair in Hindi

बालों में मेंहदी लगाने के नुकसान - Side effects Of Mehndi For Hair in Hindi

आप जिस मेंहदी का इस्तेमाल करने जा रहे हैं, पहले यह सुनिश्चित कर लें कि वह 100 प्रतिशत ऑर्गेनिक हो। इसका कारण यह है कि मार्केट में कई प्रकार की मेंहदी उपलब्ध है जिनमें पीपीडी नामक केमिकल मिला होता है जो बालों में कलर लाता है। इस केमिकल के कारण कई तरह के नुकसान हो सकते हैं।

  • मेंहदी में कई तरह के हानिकारक रसायन होते हैं जो हेयर शाफ्ट को डैमेज कर देते हैं और बाल रुखे हो जाते हैं। इसके अलावा हेयर कलर करने वाली मेंहदी को लगाने से सिर में खुजली हो सकती है और फोड़े होने की संभावना रहती है।
  • बालों में मेंहदी लगाते समय जब यह आंखों के संपर्क में आती है तो आंखें लाल पड़ सकती हैं और आंखों से पानी गिरने की समस्या हो सकती है। इसके अलावा मेंहदी की गंध से हाइपर सेंसिटिविटी हो सकती है।
  • मेंहदी में पैराफेनिलेनेडिएमिन नामक एलर्जेंस मौजूद होता है जो त्वचा पर विपरीत प्रभाव डालता है। शरीर का जितना हिस्सा इस केमिकल के संपर्क में आता है उतना ज्यादा यह एलर्जिक रिएक्शन उत्पन्न करता है।

(और पढ़े – खुजली दूर करने के लिए 10 घरेलू उपाय…)

मेंहदी के साइड इफेक्ट से बचने के उपाय – Tips to avoid side-effects of henna in Hindi

  • बालों में मेंहदी लगाने से पहले पैच टेस्ट जरूर करें।
  • मेंहदी में मौजूद केमिकल के संपर्क में आने से बाल रुखे हो जाते हैं। इससे बचने के लिए मेंहदी लगाने से पहले हेयर शाफ्ट में ऑयल लगाना चाहिए।
  • बालों पर मेंहदी के निगेटिव प्रभाव से बचने के लिए हर्बल शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • यदि बालों में मेंहदी लगाने के बाद खुलजी होती है या लालिमा दिखायी देती है तो बालों को तुरंत पानी से धोएं और एलेग्रा (Allegra) या एविल (Avil) जैसी दवाओं का सेवन करें।
  • मेंहदी लगाने के बाद यदि गंभीर एलर्जिक रिएक्शन होता है तो घरेलू उपाय आजमाने की बजाय त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श लें।

(और पढ़े – इन तरीको से चुने बालों के लिए सही शैंपू…)

बालों में मेंहदी लगाने से पहले ऐसे करें पैच टेस्ट – Do patch test before applying henna in hair in Hindi

किसी भी मेंहदी को टेस्ट किए बिना सीधे बालों में लगाने से आपको एलर्जी की समस्या हो सकती है और आपकी त्वचा भी सूज सकती है। इसलिए मेंहदी को पैच टेस्ट करने के बाद ही बालों में लगाना चाहिए।

आप अपनी मेंहदी या डाई का छोटा सा सैंपल लें और इसे अपनी कलाई या बांह की त्वचा पर लगाएं और आधे घंटे तक लगा रहने दें। अगर इस दौरान आपकी त्वचा लाल नहीं पड़ती, त्वचा पर खुजली नहीं होती या फिर किसी तरह का एलर्जिक रिएक्शन महसूस नहीं होता तो आप बेशक इसे बालों में लगा सकते हैं।

बालों में मेंहदी लगाने के कितने घंटे पहले भिगोना चाहिए

आमतौर पर कुछ लोग अपने बालों में मेंहदी का कलर पाने के लिए मेंहदी लगाते हैं जबकि कुछ लोग हेयर ग्रोथ और हेयर से जुड़ी अन्य समस्याओं को दूर करने के लिए मेंहदी लगाते हैं। अगर आप अपने बालों में मेंहदी का रंग पाना चाहते हैं तो मेंहदी को बालों में लगाने से कम से कम 12 घंटे पहले पानी में मिलाकर पेस्ट बनाकर रखना चाहिए। लेकिन अगर आप यह नहीं चाहते कि आपके बालों में मेंहदी का गहरा रंग दिखे तो आप बालों में लगाने से 2 या 3 घंटे पहले मेंहदी पाउडर में पानी मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें और कुछ देर बाद लगा लें।

नूपूर मेंहदी में कौन सी सामग्री मिली होती है

वैसे तो मार्केट में कई तरह की मेंहदी उपलब्ध है जिन्हें बालों में लगाया जाता है। लोग अपनी जरुरत के अनुसार मेंहदी को प्रिफरेंस देते हैं। कुछ तरह की मेंहदी में रंग ज्यादा होता है और लोग अपने बालों पर मेंहदी का गहरा रंग पाने के लिए उसे लगाते हैं। लेकिन मेंहदी में रसायन भी काफी मात्रा में मिले होते हैं। इनमें से नूपूर मेंहदी नैचुरल मानी जाती है जो हर तरह के बालों के लिए फायदेमंद होती है। इस मेंहदी की लोकप्रियता इसलिए ज्यादा है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इसे बालों में लगाने से इसका दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है। आइये जानते हैं नूपूर मेंहदी में क्या क्या मिला होता है।

इसके अलावा बालों में लगायी जाने वाली अन्य प्रकार की मेंहदी में जो भी चीजें मिली होती हैं उनके बारे में पैकेट के पीछे जानकारी दी गयी होती है। आपको नूपूर या कोई भी मेंहदी इस्तेमाल करने से पहले यह जरूर देख लेना चाहिए कि उसमें कौन सी सामग्री मिलायी गई है और वह आपके बालों के लिए फायदेमंद है या नहीं। नूपूर मेंहदी में मिली सभी सामग्री बालों के हेल्थ के लिए अच्छी होती है और इसका साइड इफेक्स नहीं होता। हालांकि यह व्यक्ति व्यक्ति पर निर्भर करता है।

(और पढ़े – बालों को खूबसूरत बनाने के लिए आंवला रीठा और शिकाकाई…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration