शिकाकाई के फायदे और उपयोग – Shikakai Benefits and Uses in Hindi

शिकाकाई के फायदे और उपयोग – Shikakai Benefits and Uses in Hindi
Written by Jaideep

शिकाकाई जैसी प्राकृतिक जड़ी बूटियों (Natural herbs) का उपयोग बालों में इस्तेमाल करने के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। शिकाकाई का उपयोग बाल के लिए बेहद फायदेमंद परिणाम देता है। प्राचीन काल से त्वचा और बाल की देखभाल के लिए शिकाकाई का उपयोग किया जा रहा है और इसके लाभ आयुर्वेद में उल्लिखित हैं। असल में शिकाकाई फल की फलीयों (fruit pods) का उपयोग किया जाता है जिसमें छोटे-छोटे बीज होते हैं।

शिकाकाई में अन्य गुणों के साथ-साथ vitamins A, vitamins D, vitamin C, vitamins K और एंटीआक्‍सीडेंट गुण अच्छी मात्रा में होते हैं जो आपके बालों को उचित पोषण देने और स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। Shikakai आसानी से उपलब्ध होता है, खासकर पाउडर के रूप में। इस लेख में आप जानेंगे कि शिकाकाई कैसे आपके बालो को स्वस्थ रखने के साथ-साथ कुछ हद तक आपको स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी दिलाने में मदद करता हैं।

1. शिकाकाई का पेड़ – Shikakai Plant in Hindi
2. शिकाकाई के फायदे – Shikakai Ke Fayde in Hindi

3. शिकाकाई के अन्य लाभ – Shikakai Other Benefits in Hindi
4. शिकाकाई का उपयोग कैसे करें  – How To Use Shikakai in Hindi

शिकाकाई का पेड़ – Shikakai Plant in Hindi

Shikakai एक ऊंचा पेड़ (climbing) होता है जो अपने फल से प्राप्‍त प्राकृतिक शैम्‍पू के लिए सबसे प्रसिद्ध है। कांटेदार शाखाओं में ब्राउन चिकनी धारियां होती हैं। इसमें छोट छोटे कांटे व्‍यापक रूप से पाए जाते हैं। पत्‍ती के डंठल 1 से 1.5 सेमी. तक लंबे होते हैं पत्‍ती डबल-पिनाट (double- pinnate) होती हैं, जिसमें पत्तियों के 5-7 जोड़े होते हैं। इनकी शाखाओं के शुरूआत में जहां पत्तियां कम होती हैं वहां 2 या 3 डंठल वाले गोलाकार फूलों का समूह होता है। जिन डंठलों में ये फूल होते हैं उनकी लंबाई 1 से 2.5 सेमी लंबी और मखमली होती हैं। परिपक्‍य होने पर फूल का व्‍यास लगभग 1 सेमी. तक होता है। इसके फल की फली मोटी होती हैं।

शिकाकाई के फायदे – Shikakai Ke Fayde in Hindi

शिकाकाई के फायदे – Shikakai Ke Fayde in Hindi

आयुर्वेद में शिकाकाई बाल उपचार के लिए एक उत्‍कृष्‍ट घटक है और विभिन्‍न हर्बल शैम्‍पूओं में उपयोग किया जाता है। आइए जाने शिकाकाई हमें किस प्रकार के लाभ प्रदान करता है।

सिर के लिए शिकाकाई तेल के फायदे – Shikakai tel ke fayde For Soothes your Scalp in Hindi

सिर के लिए शिकाकाई तेल के फायदे – Shikakai tel ke fayde For Soothes your Scalp in Hindi

एक स्‍वस्‍थ सिर (scalp)समुचित स्‍वस्‍थ बाल विकास का आधार होता है। शिकाकाई अपने ठंडें एंटीसेप्टिक गुणों के साथ आपके सिर की सूजन को कम करने में मदद करता है। यह आपके सिर के pH स्‍तर को बनाए रखने में भी मदद करता है।

शिकाकाई के गुण बालों को मुलायम और चमकदार बनाए – Shikakai for Shiny and Soft Hair in Hindi

आप अपने बालों को मुलायम और चमकदार बनाने के लिए शिकाकाई का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए शिकाकाई में उपस्थित विटामिन ई आपकी मदद करता है। बालों को मॉइस्‍चराइज करने के लिए विटामिन ई आवश्‍यक है क्‍योंकि यह बाल कणों को बंद (hair cuticles closed) रखने के तरीकों में से एक है।

आप जानते हैं कि कई मॉइस्‍चराइजर केवल प्रयोगशाला में संश्लेषित (synthesized) विटामिन ई से बने होते हैं। लेकिन आपको पता होना चाहिए कि कृत्रिम रूप से बने विटामिन, प्राकृतिक विटामिनों से कम कुशल होते हैं।

(और पढ़े – बालों के विकास के लिए जरूरी विटामिन)

डेंड्रफ के इलाज में शिकाकाई शैम्पू के फायदे – Shikakai shampoo ke fayde for Treating Dandruff in Hindi

कई प्रकार के एंटीआक्‍सीडेंटों की अच्‍छी उपस्थिति के कारण शिकाकाई प्रकृति में रूसी-विरोधी (anti-dandruff) होता है। मुख्‍य रूप से विटामिन सी और विटामिन ई की उपस्थिति के कारण इसकी रासायनिक संरचना के कारण ऐसा संभव हो पाता है। शिकाकाई की पत्तियों का उपयोग डैंड्रफ स्‍केलप्‍स को हटाने के लिए भी किया जाता है। शिकाकाई पाउडर उन लोगों को भी फायदा पहुंचाता है जिनके बाल और सिर पर चिपचिपा डैंड्रफ (sticky dandruff) होता है।

(और पढ़े – रूसी दूर करने के घरेलू उपाय)

शिकाकाई के औषधीय गुण बालों को साफ करने के लिए – Shikakai For Cleansing your Hair in Hindi

प्राकृतिक हल्‍की सफाई (mild cleanser) करने के लिए शिकाकाई को जाना जाता है। इसका अर्थ यह है कि यह आपके बालों को प्राकृतिक तेलों को अलग किए बिना साफ करता है। न केवल यह आपके बालों को साफ रखने में मदद करता हे, बल्कि यह आपके बालों को स्वस्थ रखने में भी मदद करता है।

(और पढ़े –हेयर सीरम के फायदे बालों को सुन्दर और आकर्षक बनाने के लिए)

शिकाकाई का उपयोग बालों से जूँ हटाने के लिए – Shikakai ke upyog for Removes hair Lice in Hindi

बालों में जूँ शर्मनाक और छिपाने वाली समस्‍याओं में से एक है। न केवल वे अनियंत्रित खुजली और सिर की असुविधा का कारण बनते हैं, लेंकिन वे भद्देपन (clumsiness) को जन्‍म दे सकते हैं। बालों की जूँ बहुत तेजी से फैलते है, इसलिए वे आपके लिए बहुत बड़ी समस्‍या का रूप ले सकते हैं।

पर आपको डरने की जरूरत नहीं है। क्‍योंकि आप जूँ के विरूध शिकाकाई का उपयोग कर सकते हैं। इसके कम pH मूल्‍य, एंटीफंगल और जीवाणुरोधी (antibacterial) गुण बालों में जूँ की वृद्धि को रोकने में मदद करते हैं।

बालों के विकास के लिए शिकाकाई का इस्तेमाल – Shikakai for Hair Growth in Hindi

अच्छे pH स्तर और अस्थिर प्रकृति (astringent nature) को बनाए रखने के लिए अपनी क्षमता के कारण शिकाकाई बालों को स्वस्थ और स्वच्छ रखने के दौरान सिर के संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। इन सब के कारण शिकाकाई आपके लिए विशेष रूप से सर्वोत्तम गुणवत्ता के बालों के लिए उत्कृष्ट बाल विकास करने में मदद करता है।

(और पढ़े – बालों को खूबसूरत बनाने के लिए आंवला रीठा और शिकाकाई के फायदे)

शिकाकाई पाउडर के फायदे बालों को भूरा होने से रोके – Shikakai for Prevent Gray Hairs in Hindi

आपके बालों को भूरा होने से बचाने के लिए शिकाकाई का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। यह समय से पहले ग्रेंइग जैसे मुद्दों से प्रभावी ढंग से निपटता है। अपने बालों को शिकाकाई के साथ धोने से यह आपके बालों को बेहतर रंग को अवशोषित (absorb) करने में मदद करता है।

(और पढ़े – बालों के विकास के लिए जरूरी विटामिन)

शिकाकाई के गुण छोटे घावों को ठीक करें – Shikakai powder ke fayde Heals minor Wounds in Hindi

अपने औषधीय गुणों के कारण, शिकाकाई आपके सिर पर मामूली चोटों और घावों को ठीक कर सकता है। शैम्‍पू और अन्‍य लोशन आपके सिर की संवेदनशील त्‍वचा (sensitive skin) पर दर्द का कारण बन सकते हैं, लेकिन भुना हुआ शिकाकाई पाउडर का पेस्‍ट ऐसे मामलों में ज्‍यादा राहत प्रदान कर सकता है।

बालों को सुलझाने के लिए शिकाकाई तेल के फायदे – Shikakai oil for detangles hair in Hindi

आपके उलझे बालों को सुलझाने के लिए शिकाकाई बहुत ही उपयोगी होता है। शिकाकाई पेस्‍ट को लगाने के बाद आप अपनी उंगलीयों से अपने बालों की हल्‍की मालिश करें, यह आपके बालों को मुलायम बनाने के साथ उन्‍हें सुलझाने में भी मदद करता है।

(और पढ़े – गर्मियों में बालों को खूबसूरत बनाए रखने के टिप्स )

शिकाकाई के फायदे खरोंच को ठीक करे – Shikakai For Treating Scabies in Hindi

खरोंच को ठीक करने के लिए शिकाकाई का उपयोग एंटिसेप्टिक के रूप में किया जाता है। इसके लिए पहले गर्म पानी में हल्‍दी को भिंगों दें और इसका पेस्‍ट बनाएं। शिकाकाई का एक बड़ा तुकड़ा लें और इसे सीधे आग में जलाएं जब तक की यह काला (turns dark) न हो जाए। इसे ठंडा होने के बाद पाउडर बना लें। अब इस पाउडर को हल्‍दी के पेस्‍ट में मिलाएं और खरोंच पर लगा कर धोयें। शिकाकाई और हल्‍दी दोनों में एंटी-फंगल, एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-बैक्‍टीरियल गुण होते हैं जो इसे खरोंच (scabies) के लिए प्रभावी बनाते हैं। यदि घाव बहुत गंभीर है तो कृप्‍या डाक्‍टर से बात करें।

दाग, धब्बों को दूर करने में शिकाकाई का उपयोग – Shikakai Treat Spots in Hindi

दाग धब्‍बों (stain spots) का इलाज करने के लिए आप शिकाकाई पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप शिकाकाई पाउडर का आधा चम्‍मच लें और इसे क्रीम, बादाम पाउडर और हल्‍दी के एक एक चम्‍मच मात्रा के साथ मिलाए। इस मिश्रण में शहद के दो चम्‍मच को मिलाएं। अब इस का उपयोग अपने शरीर को साफ करने के लिए उपयोग करें। यह मिश्रण मृत कोशिकाओं (dead cells) को खत्‍म करने में मदद करता है और आपकी त्‍वचा को प्राकृतिक चमक देता है।

शिकाकाई के अन्य लाभ – Shikakai Other Benefits in Hindi

  • शिकाकाई की पत्तियों में अम्‍लीय स्‍वाद होता है चटनी बनाने में उपयोग किया जाता है।
  • इसकी की फलीयों (pods) को पानी में भिंगोया जा सकता है और फिर त्‍वचा को साफ करने के लिए इस्‍तेमाल किया जाता है। इस उपाय का नियमित उपयोग आपकी त्‍वचा को स्‍वस्‍थ और युवा बनाने में मदद करता है। यह झुर्रियों और काले धब्‍बों को दूर कर उम्र बढ़ने के लक्षणों से लड़ने में मदद करता है।
  • शिकाकाई की छाल में सैपोनिन होता है जिसमें शुक्राणुनाशक गतिविधि और हार्मोनल प्रभाव होते हैं, जो गर्भनिरोधक (contraceptive) उद्देश्‍यों के लिए उपयोगी बनाता है।
  • पानी में शिकाकाई और रीठा का काढ़ा नाजुक कपड़े (delicate clothes) जैसे रेशम, कश्‍मीरी और शुद्ध सूती को बिना नुकसान के धोने में उपयोगी होता है। यह कपड़े से दाग को हटाने में भी मदद करता है।
  • शिकाकाई की पत्तियों के रस को मलेरिया बुखार (malarial fever) के इलाज में उपयोग किया जाता है।
  • यह मुंह को ताजा बनाने में मद करता है क्‍योंकि इसका उपयोग खराब गंध को दूर करने के लिए किया जाता है। यह गले में दर्द, संक्रमण, अल्‍सर या फोड़े (ulcers or boils) जैसे गले की विभिन्‍न बीमारियों को भी ठीक करता है।
  • यह मधुमेह को रोकने में मदद करता है।
  • कब्‍ज जैसी कई पेट विकारों को ठीक करने में मदद करता है और मूत्र प्रवाह को सुधारता है। (और पढ़े – मूत्राशय में संक्रमण के कारण, लक्षण और बचाव)
  • यह कायाकल्‍प की अपनी विशेषता के लिए जाना जाता है। यह पसीना ग्रंथियों और तेल जैसे विभिन्‍न ग्रंथियों के विकास को नियंत्रित करने में भी मदद करता है जो हमारे सिर में या बालों में मौजूद वर्णक होते हैं।

शिकाकाई का उपयोग कैसे करें  – How To Use Shikakai in Hindi

हेयर तेल के रूप में शिकाकाई का उपयोग – Shikakai Hair Oil in Hindi

एक चम्‍मच शिकाकाई पाउडर और आधा कप तुलसी तेल मिलाएं। इस मिश्रण को एक कंटेनर में स्‍टोर करें। और मिश्रण कुछ हफ्तों तक रखे रहने दें। जब आप इस मिश्रण को अपने सिर पर लगाएं और दो घंटों तक लगे रहने दें। फिर एक हल्‍के शैम्‍पू से इसे धो लें। एक सप्‍ताह में तीन बार इस मिश्रण का उपयोग करें।

शिकाकाई का उपयोग शैम्‍पू के रूप में – Shikakai Shampoo in Hindi

इस घर के बने शैम्‍पू के लिए सामग्री शिकाकाई, रीठा (soap nuts) और सूखे आवला (gooseberries) की आवश्‍यकता होती है। इस हर्बल शैम्‍पू को बनाने के लिए रीठा के बीज निकाले और शिकाकाई, सूखे आवला को लेकर रात भर पानी में भीगने दें। अगले दिन उन्‍हें उबाल लें, जब तक कि वे नरम न हों और आप फैन को उपर बनाते देखेंगें। इस तरल पदार्थ को ठंडा करें, और अपने बालों को इस आयुर्वेदिक शैम्‍पू (herbal shampoo) से धो लें।

(और पढ़े – आमला, रीठा और शिकाकाई से बनाएं होमेमेड शैंपू)

हेयर मास्‍क के लिए शिकाकाई का उपयोग – how to use Shikakai powder in Hindi

इसके लिए शिकाकाई पाउडर को दहीं और नीम के पत्‍तों के पाउडर में मिलाएं। और इनका अच्‍छा गाढ़ा पेस्‍ट तैयार करें। अब इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं और 20 मिनिट के लिए छोड दें और साफ पानी से धो लें।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration