हर महिला को पता होनी चाहिए हेल्दी सेक्स से जुड़ी ये बातें – Healthy Sex Tips For Women In Hindi




हर महिला को पता होनी चाहिए हेल्दी सेक्स से जुड़ी ये बातें - Healthy Sex Tips For Women In Hindi
Written by Daivansh

Healthy Sex Tips For Women In Hindi अगर आप सेक्सुअली एक्टिव महिला है तो आपको हेल्दी सेक्स से जुड़ी ये बातें जरूर पता होनी चाहिए। औरतों के यौन स्वास्थ्य के कई पहलू होते हैं, जिसमें जन्म नियंत्रण और परिवार नियोजन, यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) सेक्स ड्राइव और यौन संबंधों का अच्छा होना शामिल है। महिलाओं के लिए, उनका यौन स्वास्थ्य, उनके सम्पूर्ण स्वास्थ्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालता है।

महिलाओं का सुरक्षित सेक्स (safe sex) अपनाना, गर्भनिरोधक का ठीक तरह से उपयोग करना, और एसटीआई के लिए नियमित रूप से जांच करवाना उनके यौन स्वास्थ्य को अच्छा रख सकता है। इस लेख में हम ऐसी ही कुछ खास महिला सेक्स से जुड़ी बातों को बताने वाले हैं जिन्हें हर महिला को पता होना चाहिए।

  1. हेल्दी सेक्स के लिए यौन संचारित रोगों और संक्रमणों को समझें महिलाएं – Women Understanding Infections And STI For Healthy Sex In Hindi
  2. महिला के लिए स्वस्थ्य सेक्स करने के उपाय – Sexually Active Women Practice Safe Sex In Hindi
  3. इस तरह के सेक्स के करने से यौन संचारित संक्रमण फैलते हैं – How Infection Spreads In Sex In Hindi
  4. नीचे हम आपको एसटीआई के टाइप्स के बारे में बता रहें हैं – STI Types In Hindi
  5. महिलाओं के लिए सेफ और हेल्थी सेक्स के लिए टीके – Preventive Vaccines For Safe And Healthy Sex In Women In Hindi
  6. तीन एचपीवी टीके मौजूद हैं – Approved HPV Vaccines In Hindi
  7. हेपेटाइटिस बी का टीका महिला के स्वस्थ्य संभोग के लिए – Hepatitis b For Healthy Sex By Woman In Hindi
  8. महिला के हेल्दी सेक्स के लिए हेपेटाइटिस ए का टीका –  Hepatitis A For Healthy Sex By Woman In Hindi
  9. महिला हेल्दी सेक्स के लिए एसटीआई की जांच कराएं – Get Screened For STI To Detect Sexual Problems In Women In Hindi
  10. हेल्दी सेक्स के लिए नियमित पैप स्मीयर कराएं – Get Regular Pap Smears For Healthy Sex For Women In Hindi
  11. मासिक धर्म और प्रजनन स्वास्थ्य से महिला पाए हेल्थी सेक्स – Woman Can Have A Healthy Sex With Menstruation And Reproductive Health In Hindi
  12. एंडोमेट्रियोसिस के कारण महिलाओं को सेक्स करने में परेशानी – Female Problem Endometriosis Causing Unhealthy Sex In Hindi
  13. महिला के स्वस्थ्य सेक्स लाइफ के लिए एंडोमेट्रियोसिस का उपचार – Treatment Of Endometriosis For Heathy Female Sex In Hindi
  14. फाइब्रॉएड के कारण अस्वस्थ्य सेक्स का होना – Fibroids Causing Unhealthy Sex In Women In Hindi
  15. फाइब्रॉएड के कारण निम्न समस्याएं हो सकती हैं – Fibroids Can Affect Your Sex Life If They Cause In Hindi
  16. सेक्सुअली एक्टिव महिला के लिए सेफ सेक्स करने के उपाय जन्म नियंत्रण – Birth Control For Females To Have Healthy Sex In Hindi
  17. हेल्दी सेक्स के लिए गर्भनिरोधक के विकल्पों में शामिल हैं – Contraceptive Options For Healthy Sex in hindi
  18. महिलाओं में यौन संबंध और कामेच्छा की कमी से अनहेल्थी सेक्स – Sexual Relationships And Low Libido Causing Unhealthy Sex In Hindi
  19. महिलाओं में सेक्स में रुचि की कमी – Lack Of Interest In Sex Female Problems In Hindi
  20. दर्दनाक सेक्स के कारण महिलाओं में परेशानी – Painful Sex Disadvantage Of Sexual Problems In Women In Hindi
  21. महिला पुरुष के साथ कैसे स्वस्थ्य सेक्स करे अगर हो ऑर्गेज्म की समस्या – Problems With Orgasm Causing Female Problems In Sex In Hindi

हेल्दी सेक्स के लिए यौन संचारित रोगों और संक्रमणों को समझें महिलाएं – Women Understanding Infections And STI For Healthy Sex In Hindi

हेल्दी सेक्स के लिए यौन संचारित रोगों और संक्रमणों को समझें महिलाएं - Women Understanding Infections And STI For Healthy Sex In Hindi

यदि आप यौन रूप से सक्रिय महिला हैं, तो आपको एसटीडी होने का खतरा हो सकता है, जिसे एसटीआई के रूप में जाना जाता है। अगर आप कई मेल पार्टनर्स के साथ यौन सम्बन्ध बनातीं हैं तो इसका और भी ज्यादा जोखिम होता है। हालांकि, पहली बार सेक्स करने में भी एसटीआई का रिस्क होता है। और यह किसी को भी, किसी भी उम्र में हो सकता है। योनि, गुदा और ओरल सेक्स ये सभी आपको यौन संचारित संक्रमणों के जोखिम में डालते हैं, इसलिए यह जानना महत्वपूर्ण है कि हेल्दी सेक्स के लिए यौन संचारित संक्रमणों से अपनी सुरक्षा कैसे करें।

(और पढ़े – सबसे कॉमन योन संचारित रोग एसटीडी के लक्षण – पुरुषों और महिलाओं में…)

महिला के लिए स्वस्थ्य सेक्स करने के उपाय – Sexually Active Women Practice Safe Sex In Hindi

महिला के लिए स्वस्थ्य सेक्स करने के उपाय - Sexually Active Women Practice Safe Sex In Hindi

सुरक्षित सेक्स एसटीआई को रोकने में बहुत प्रभावी है जिसमें कंडोम या डेंटल डैम का उपयोग करके आप एचआईवी, गोनोरिया, क्लैमाइडिया और हेपेटाइटिस जैसे संक्रमण से बच सकतीं हैं। यह एसटीआई जो त्वचा से त्वचा के संपर्क के माध्यम से फैलता है, उसको रोकने में ऊपर दिए उपाय कम प्रभावी है। सिफलिस, एचपीवी (ह्यूमन पेपिलोमा वायरस), और एचएसवी (हर्पीज) इन इन्फेक्शन में शामिल हैं। लेकिन फिर भी सेक्स करते समय प्रोटेक्शन यूज करना आपके जोखिम को हमेशा कम कर सकता है।

जब भी आप किसी भी तरह की सेक्सुअल एक्टिविटी करती हैं, तो लेटेक्स या पॉलीयूरेथेन कंडोम डेंटल डेम्स का उपयोग करने का प्रयास करें। इन प्रोटेक्शन मेथड के लगातार उपयोग से आप एसटीआई के खतरे को कम कर सकतीं हैं।

(और पढ़े – यौन संचारित रोग एसटीडी को रोकने के तरीके…)

इस तरह के सेक्स के करने से यौन संचारित संक्रमण फैलते हैं – How Infection Spreads In Sex In Hindi

इस तरह के सेक्स के करने से यौन संचारित संक्रमण फैलते हैं – How Infection Spreads In Sex In Hindi

  • मुख मैथुन या ओरल सेक्स (Oral Sex)
  • योनि सेक्स (Vaginal Sex)
  • गुदा मैथुन (Anal Sex)

(और पढ़े – एनल सेक्स (गुदामैथुन) के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले बुरे प्रभाव…)

नीचे हम आपको एसटीआई के टाइप्स के बारे में बता रहें हैं – STI Types In Hindi

नीचे हम आपको एसटीआई के टाइप्स के बारे में बता रहें हैं – STI Types In Hindi

  • सिफलिस या उपदंश  (Syphilis)
  • एचपीवी (HPV)
  • हर्पीस (Herpes)
  • गोनोरिया (Gonorrhoea)
  • क्लैमाइडिया (Chlamydia)
  • ज्यादातर मुंह और गले के कैंसर एचपीवी के कारण होते हैं, और ये आमतौर पर असुरक्षित यौन संबंधों से फैलते हैं।

(और पढ़े – गोनोरिया (सूजाक) के कारण, लक्षण, इलाज और बचाव…)

महिलाओं के लिए सेफ और हेल्थी सेक्स के लिए टीके – Preventive Vaccines For Safe And Healthy Sex In Women In Hindi

महिलाओं के लिए सेफ और हेल्थी सेक्स के लिए टीके - Preventive Vaccines For Safe And Healthy Sex In Women In Hindi

वर्तमान में तीन एसटीआई के लिए टीके मौजूद हैं – ह्यूमन पेपिलोमावायरस (एचपीवी), हेपेटाइटिस बी और हेपेटाइटिस ए। (Human Papillomavirus (HPV), Hepatitis B, And Hepatitis A)

तीन एचपीवी टीके मौजूद हैं – Approved HPV Vaccines In Hindi

  • गर्भाशय ग्रीवा प्रोतेक्ट्स (Cervarix protects) एचपीवी के दो स्ट्रेंस से बचाता है जो सर्वाइकल कैंसर के अधिकांश मामलों का कारण बनते हैं।
  • गार्डासिल (Gardasil) उन दो स्ट्रेंस के साथ-साथ जननांग म्स्सा (Genital Warts) के होने से बचाता है।
  • गार्डासिल 9 (Gardasil 9) में गार्डासिल के तरह ही स्ट्रेंस हैं लेकिन इसमें अतिरिक्त पांच “उच्च-जोखिम” स्ट्रेन शामिल हैं।

ये टीके सबसे प्रभावी तब होते हैं जब आप यौन संबंध बनाने से पहले इनको लेते हैं। आमतौर पर 11 साल की उम्र की युवा महिलाएं और पुरुष दोनों ये टीकाकरण ले सकते हैं और लगभग 20 वर्ष से अधिक उम्र होने पर भी आप टीकाकरण करवा सकतीं हैं।

हेपेटाइटिस बी का टीका महिला के स्वस्थ्य संभोग के लिए – Hepatitis b For Healthy Sex By Woman In Hindi

हेपेटाइटिस बी के लिए एक टीका भी उपलब्ध है। यह सामान्य रूप से बचपन में दिया जाता है। हेपेटाइटिस बी लिवर की बीमारी का कारण बनता है। यह सेक्सुअल एक्टिविटी के साथ-साथ संक्रमित रक्त या रक्त उत्पादों के माध्यम से शरीर में प्रवेश कर सकता है।

(और पढ़े – हेपेटाइटिस बी के लक्षण, कारण, जांच, उपचार और रोकथाम…)

महिला के हेल्दी सेक्स के लिए हेपेटाइटिस ए का टीका –  Hepatitis A For Healthy Sex By Woman In Hindi

हेपेटाइटिस ए के लिए भी एक टीका उपलब्ध है। हेपेटाइटिस ए आमतौर पर सेक्स के दौरान नहीं फैलता है, लेकिन मौखिक-गुदा (oral, anal) के संपर्क के दौरान इसका संक्रमण हो सकता है। 1 वर्ष से कम उम्र के सभी बच्चों के लिए इस वैक्सीन की सिफारिश की जाती है।

महिलाएं हेल्दी सेक्स के लिए एसटीआई की जांच कराएं – Get Screened For STI To Detect Sexual Problems In Women In Hindi

अगर आप सेक्सुअली एक्टिव हैं तो नियमित रूप से एसटीआई परीक्षण किसी भी संक्रमण के दीर्घकालिक परिणामों को कम कर सकता है। और इसके विपरीत अगर आप जांच नहीं करवातीं हैं तो बैक्टीरियल डिजीज जैसे गोनोरिया और क्लैमाइडिया के आपके स्वाथ्य पर गंभीर परिणाम डाल सकते हैं, जिनमें बांझपन भी शामिल है। नियमित रूप से एसटीआई परीक्षण ऐसी जटिलताओं को रोकने में मदद कर सकती है।

स्क्रीनिंग से भी एसटीआई के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है। एक नए साथी के साथ यौन संबंध शुरू करने से पहले स्क्रीनिंग कराएं। इस तरह, आप और आपके पार्टनर को पता चल जाएगा कि क्या आप दूसरे को जोखिम में तो नहीं डाल रहे हैं, और यदि उचित हो तो आपको उपचार दिया जा सकता है।

एसटीआई किसी भी उम्र या रिश्ते की स्थिति के व्यक्तियों को प्रभावित कर सकते हैं इसलिए STI स्क्रीनिंग किसी के लिए भी एक अच्छा विचार है जो यौन रूप से सक्रिय है।

हेल्दी सेक्स के लिए नियमित पैप स्मीयर कराएं – Get Regular Pap Smears For Healthy Sex For Women In Hindi

महिला हेल्दी सेक्स के लिए नियमित पैप स्मीयर कराएं - Get Regular Pap Smears For Healthy Sex For Women In Hindi

पैप स्मीयर महिलाओं की हेल्थ केयर का एक रेगुलर हिस्सा हैं और यह 21 वर्ष की आयु में शुरू होते हैं। यह परीक्षण गर्भाशय ग्रीवा के परिवर्तनों के उन शुरुआती संकेतों का पता लगाता है जो इलाज न होने पर ग्रीवा के कैंसर का कारण बन सकते हैं। इससे पहले कि वे गंभीर हो जाएं इसकी जांच और उपचार किया जा सकता है।

महिलाओं में सर्वाइकल कैंसर के लगभग सभी मामले एचपीवी के कारण होते हैं। इसलिए सेफ सेक्स करने से सर्वाइकल कैंसर का खतरा कम हो सकता है। एचपीवी के टीकाकरण आपके एचपीवी के जोखिम को कम कर सकता है। एचपीवी के कई स्ट्रेंस कैंसर पैदा करने वाले होते हैं। टीकाकरण, सुरक्षित सेक्स और नियमित पैप स्मीयर संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक हैं।

इनवेसिव सर्वाइकल कैंसर, और इसके उपचार, आपके यौन जीवन और प्रजनन क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं। इसलिए हर महिला को प्रतीक्षा की तुलना में ग्रीवा संबंधी परिवर्तनों को जल्दी समझना बेहतर है।

(और पढ़े – पैप स्मीयर टेस्ट क्या होता है, प्रक्रिया, कीमत…)

मासिक धर्म और प्रजनन स्वास्थ्य से महिला पाए हेल्थी सेक्स – Woman Can Have A Healthy Sex With Menstruation And Reproductive Health In Hindi

मासिक धर्म और प्रजनन स्वास्थ्य से महिला पाए हेल्थी सेक्स - Woman Can Have A Healthy Sex With Menstruation And Reproductive Health In Hindi

महिलाएं अक्सर मानती हैं कि पैल्विक दर्द शरीर में ऐंठन की तरह सामान्य है। मासिक धर्म के दौरान गंभीर दर्द एक स्वास्थ्य समस्या का लक्षण है। इसलिए, अपने चिकित्सक के साथ अपनी असुविधा पर चर्चा करें।

महिलाओं को गंभीर पेल्विक दर्द या पेट में ऐंठन सहते नहीं रहना चाहिए। यह सेक्स के दौरान प्रजनन क्षमता या दर्द से संबंधित हो सकता है।

(और पढ़े – पीरियड्स में पेट दर्द का घरेलू उपाय…)

एंडोमेट्रियोसिस के कारण महिलाओं को सेक्स करने में परेशानी – Female Problem Endometriosis Causing Unhealthy Sex In Hindi

एंडोमेट्रियोसिस के कारण महिलाओं को सेक्स करने में परेशानी – Female Problem Endometriosis Causing Unhealthy Sex In Hindi

 

एंडोमेट्रियोसिस गर्भाशय के बाहर, गर्भाशय के अस्तर (Lining Of The Uterus) की वृद्धि है। इस अस्तर या लाइनिंग को एंडोमेट्रियम कहा जाता है। यह मासिक धर्म के दौरान रक्त और ऊतक का स्रोत है। यह बढ़ते भ्रूण को पोषण देने के लिए भी आवश्यक है।

जब एक महिला को एंडोमेट्रियोसिस होता है, तो एंडोमेट्रियम पेट और श्रोणि (Pelvis) में अंगों और ऊतकों पर जमा होता है। यह बेहद दर्दनाक हो सकता है। एंडोमेट्रियोसिस के लक्षणों में निम्न शामिल हैं:

  • गंभीर मासिक धर्म दर्द
  • सेक्स के दौरान दर्द
  • मल त्याग के दौरान दर्द
  • भारी रक्तस्राव
  • पीरियड्स के बीच खून आना
  • एंडोमेट्रियोसिस से दर्द का अक्सर इलाज किया जा सकता है। इसका उपचार इस बात पर निर्भर करता है कि आप बच्चे पैदा करना चाहते हैं या नहीं।

(और पढ़े – क्यों होता है सेक्स के दौरान योनि में दर्द और डिसपेरुनिया क्या है…)

महिला के स्वस्थ्य सेक्स लाइफ के लिए एंडोमेट्रियोसिस का उपचार – Treatment Of Endometriosis For Heathy Female Sex In Hindi

महिला के स्वस्थ्य सेक्स लाइफ के लिए एंडोमेट्रियोसिस का उपचार – Treatment Of Endometriosis For Heathy Female Sex In Hindi

  • एंटी- इन्फ्लामेट्री मेडिसिन – (Anti-Inflammatory Medications)
  • हार्मोन थेरेपी
  • अतिरिक्त ऊतक को हटाने के लिए सर्जरी
  • हिस्टेरेक्टॉमी (गर्भाशय को हटाना) Hysterectomy (Removal Of The Uterus)

(और पढ़े – हिस्टेरेक्टॉमी (गर्भाशय को निकालना) प्रक्रिया, कैसे की जाती है…)

फाइब्रॉएड के कारण अस्वस्थ्य सेक्स का होना – Fibroids Causing Unhealthy Sex In Women In Hindi

फाइब्रॉएड के कारण अस्वस्थ्य सेक्स का होना – Fibroids Causing Unhealthy Sex In Women In Hindi

महिलाओं में फाइब्रॉएड गर्भाशय का नॉन कैंसरस ट्यूमर हैं। शोध से पता चलता है कि 77 प्रतिशत महिलाओं में फाइब्रॉएड होता है। हालांकि, अधिकांश महिलाओं को उपचार की आवश्यकता नहीं होगी। फाइब्रॉएड में दर्द या समस्या नहीं होती है। वे आपके कैंसर के खतरे को नहीं बढ़ाते हैं। लेकिन बड़े फाइब्रॉएड बच्चे पैदा करने की आपकी क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं।

फाइब्रॉएड के कारण निम्न समस्याएं हो सकती हैं – Fibroids Can Affect Your Sex Life If They Cause In Hindi

  • पेडू में दर्द (Pelvic Pain)
  • सेक्स के दौरान दर्द
  • भारी या दर्दनाक मासिक धर्म के साथ समस्याएं।
  • यदि उपचार आवश्यक है, तो आपके पास कई विकल्प उपलब्ध हैं। आपका डॉक्टर यह तय करने में आपकी मदद कर सकता है कि कौन सा उपचार आपके लिए बेस्ट है।

(और पढ़े – फाइब्रॉएड (गर्भाशय में रसौली) क्या है, लक्षण, कारण, जांच और इलाज…)

सेक्सुअली एक्टिव महिला के लिए सेफ सेक्स करने के उपाय जन्म नियंत्रण – Birth Control For Females To Have Healthy Sex In Hindi

यदि आप एक महिला हैं जो सेक्सुअली एक्टिव है, तो आपके लिए जन्म नियंत्रण के विकल्पों के बारे में जानना महत्वपूर्ण है। गर्भवती होने की कोशिश करना या अवांछित गर्भावस्था के बारे में चिंता करना कई महिलाओं के यौन जीवन पर बुरा प्रभाव डाल सकता है।

जन्म नियंत्रण विकल्प कई तरह के होते हैं जैसे कि अंतर्गर्भाशयी डिवाइस (आईयूडी) (Intrauterine Device (IUD) जो 12 साल तक वेजाइना के अंदर लगाके रखी जा सकती हैं, कंडोम आदि।

(और पढ़े – गर्भनिरोधक के सभी उपाय और तरीके…)

हेल्दी सेक्स के लिए गर्भनिरोधक के विकल्पों में शामिल हैं – Contraceptive Options For Healthy Sex in hindi

हेल्दी सेक्स के लिए गर्भनिरोधक के विकल्पों में शामिल हैं - Contraceptive Options For Healthy Sex in hindi

  • पुरुष या महिला कंडोम (Male Or Female Condom)
  • आईयूडी (IUD)
  • गर्भनिरोधक गोलियाँ (Birth Control Pills)
  • गर्भनिरोधक स्पंज (Contraceptive Sponge)
  • ग्रीवा टोपी (Cervical Cap)
  • डायाफ्राम (Diaphragm)
  • हार्मोनल पैच या छल्ले (Hormonal Patches Or Rings)
  • जन्म नियंत्रण शॉट या गर्भनिरोधक इंजेक्शन (Birth Control Shot)
  • त्वचा के नीचे इम्प्लांट के तहत (Under The Skin Implant)
  • नसबंदी (Sterilization)
  • अपने डॉक्टर से बात करें कि आपके लिए कौन सा विकल्प सही है। महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए नसबंदी सबसे प्रभावी मानी जाती है, लेकिन यह स्थायी है।

(और पढ़े – गर्भनिरोधक दवाओं और उनके शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में जानें…)

महिलाओं में यौन संबंध और कामेच्छा की कमी से अनहेल्थी सेक्स – Sexual Relationships And Low Libido Causing Unhealthy Sex In Hindi

कुछ यौन स्वास्थ्य मुद्दे सेक्स और कामेच्छा को प्रभावित करते हैं। ऐसा होने पर अपने शरीर पर ध्यान जरुर दें।

महिलाओं में सेक्स में रुचि की कमी – Lack Of Interest In Sex Female Problems In Hindi

महिलाओं में सेक्स में रुचि की कमी - Lack Of Interest In Sex Female Problems In Hindi

महिला के सेक्स में रुचि कम होने के कई कारण हो सकते हैं। महिलाओं में कामेच्छा में कमी के संभावित कारणों में निम्न शामिल हैं:

यदि आपको सेक्स में अचानक कमी का अनुभव हो रहा है, तो अपने डॉक्टर से बात करें। यह एक पहचान योग्य कारण हो सकता है। आपका डॉक्टर कई स्थितियों का इलाज कर सकता है, साथ ही आपको परामर्श के लिए सेक्स चिकित्सक या अन्य चिकित्सक के पास भी भेज सकता है। महिलाओं में कामेच्छा में कमी के लिए कपल थेरेपी भी फायदेमंद हो सकती है। यदि आप लो सेक्स ड्राइव से परेशान हैं, तो कई तरह के तरीके और उपचार आपकी मदद कर सकते हैं।

(और पढ़े – महिलाओं में कामेच्छा बढ़ाने के घरेलू नुस्खे और उपाय…)

दर्दनाक सेक्स के कारण महिलाओं में परेशानी – Painful Sex Disadvantage Of Sexual Problems In Women In Hindi

दर्दनाक सेक्स के कारण महिलाओं में परेशानी - Painful Sex Disadvantage Of Sexual Problems In Women In Hindi

कभी भी महिला के लिए सेक्स दर्दनाक नहीं होना चाहिए। यदि आपको सेक्स के दौरान दर्द हो रहा है, तो अपने डॉक्टर से बात करें। सेक्स के दुरन दर्द के कई संभावित कारण हैं जो कि इस प्रकार हैं –

पेनफुल सेक्स के कारण के आधार पर विभिन्न तरीकों से इसका इलाज किया जा सकता है। जब आप अपनी समस्या के बारे में अपने डॉक्टर से बात करती हैं, तो दर्द के बारे में खुली चर्चा के लिए तैयार रहें:

  • और किसी भी निर्वहन या कोई भी योनि में लक्षण होना
  • पेनिस के अंदर जाते समय दर्द होना
  • जब आपके वल्वा के बाहर स्पर्श करती है तब उसमे दर्द होना
  • सेक्स के बाद दर्द होना
  • डीप पेनीट्रेशन के दौरान दर्द

इन सभी लक्षणों का विवरण महत्वपूर्ण हैं। ये आपके चिकित्सक को अंतर्निहित समस्याओं का निदान करने में मदद कर सकते हैं जो आपके दर्द का कारण हो सकता है।

(और पढ़े – सेक्स के बाद योनि में दर्द के कारण और बचने के उपाय…)

महिला पुरुष के साथ कैसे स्वस्थ्य सेक्स करे अगर हो ऑर्गेज्म की समस्या – Problems With Orgasm Causing Female Problems In Sex In Hindi

महिला पुरुष के साथ कैसे स्वस्थ्य सेक्स करे अगर हो ऑर्गेज्म की समस्या - Problems With Orgasm Causing Female Problems In Sex In Hindi

एक आम गलत धारणा है कि सभी महिलाओं को वेजाईनल सेक्स होने पर ऑर्गेज्म (चरम सुख) मिल जाता है। हालांकि, कई महिलाओं को ऑर्गेज्म के लिए सीधे क्लिटोरल उत्तेजना की आवश्यकता होती है।

यदि आपको ऑर्गेज्म (चरम संतुष्टि) तक पहुंचने में कठिनाई होती है, तो यह जानने के लिए अभ्यास करें कि आपके लिए क्या अच्छा है। स्नान के दौरान आत्म-अन्वेषण करने के लिए एक अच्छा समय है। आपके और आपके यौन साथी के बीच ओपन कम्युनिकेशन रखना भी महत्वपूर्ण है। अपने यौन स्वास्थ्य की बेहतर समझ के लिए, एक सेक्स चिकित्सक से परामर्श आपके लिए उपयोगी हो सकता है।

(और पढ़े – चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, पाने के तरीके और फायदे…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration