घर पर मैनीक्योर और पेडीक्योर कैसे करें – Homemade Manicure Pedicure In Hindi

घर पर मैनीक्योर और पेडीक्योर कैसे करें - Ghar mein manicure pedicure kaise kare in Hindi
Written by Deepti

Ghar par manicure pedicure खुद को सुंदर बनाने के लिए तो आप अपने चेहरे की देखभाल करते होंगे, लेकिन खूबसूरत दिखने के लिए केवल चेहरे की ही नहीं बल्कि हाथ और पैरों की देखभाल करने की भी जरूरत होती है। भले ही आप अपने हाथ , पैर और नाखूनों की सफाई रोज न कर पाते हों, लेकिन इन्हें स्वस्थ रखने और बीमारियों से बचाने के लिए मैनीक्योर और पेडीक्योर करा सकते हैं। आप सभी जानती हैं कि सैलून जाकर मैनीक्योर व पेडिक्योर कराने जैसी राहत कोई और नहीं दे सकता। लेकिन आप पूरी तरह से इसे घर पर भी कर सकती हैं। घर पर मैनीक्योर और पेडीक्योर कैसे करें, जानने के लिए परेशान हैं?

आपको बता दें कि हाथ पैरों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए मैनीक्योर, पेडीक्योर कराया जाता है। मैनीक्योर और पेडीक्योर आपके हाथ और पैरों का एक कॉस्मेटिक ब्यूटी ट्रीटमेंट है, जो नाखूनों को कमजोर होकर टूटने से बचाने के साथ हाथों व पैरों पर पड़ने वाली झुर्रियों को भी कम करता है। दोनों ही ट्रीटमेंट आपको जोड़ों के दर्द, साइनस, सर्दी और बलगम से राहत दिलाते हैं। इतना ही नहीं मैनीक्योर, पेडीक्योर को नियमित रूप से कराने पर नाखूनों में होने वाले फंगल इंफेक्शन से भी छुटकारा पाया जा सकता है। वैसे तो इन दोनों ट्रीटमेंट की सुविधा पार्लर पर उपलब्ध है, लेकिन आजकल ज्यादातर लोग पैसा और समय दोनों बचाने के लिए घर पर ही इसे करने का तरीका ढूंढने लगे हैं। थोड़ी सी जानकारी और समझदारी के साथ आप भी आसानी से घर पर मेनीक्योर और पेडीक्योर कर सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको घर पर मैनीक्योर और पेडीक्योर करने का सही तरीका बताएंगे। लेकिन पहले जानिए क्या होता है मैनीक्योर और पेडीक्योर।

1. मैनीक्योर क्या होता है – What is manicure in Hindi
2. घर पर मैनीक्योर कैसे करें – Ghar par manicure kaise kare in hindi
3. मैनीक्योर करने का तरीका – Manicure karne ka tarika in Hindi
4. मैनीक्योर करते समय बचें इन मिस्टेक्स से – Mistakes To Avoid When Doing Manicure At Home in Hindi
5. मैनीक्योर के फायदे – Benefits of manicure in Hindi

6. पेडीक्योर क्या है – What is pedicure in Hindi
7. घर पर पेडीक्योर कैसे करें – Ghar me pedicure kaise kare in hindi

8. पेडीक्योर के फायदे -Benefits of pedicure in Hindi

9. घर पर पेडीक्योर करते समय ध्यान रखने वाली बातें – Tips for pedicure at home in Hindi
10. मैनीक्योर और पेडीक्योर से जुड़े सवाल और जवाब- Question and answer related to manicure and pedicure in Hindi

मैनीक्योर क्या होता है – What is manicure in Hindi

मैनीक्योर क्या होता है - What is manicure in Hindi

मैनीक्योर नाखूनों और हाथों के लिए कॉस्मेटिक ब्यूटी ट्रीटमेंट है, जो घर पर या सैलून में किया जाता है। नाखूनों को फाइल करना, आकार देना, पुश करना और क्लिपिंग जैसे कई स्टेप्स के साथ मैनीक्योर किया जाता है। इससे आपके नाखून जवां और खूबसूरत दिखते हैं। अच्छी बात यह है कि मैनीक्योर महिला और पुरूष दोनों करा सकते हैं। आज समय की कमी के कारण कई लोग पार्लर जाने से बचते हैं, ऐसे में यह ट्रीटमेंट घर पर भी आसानी से किया जा सकता है, बस इसे करने का सही तरीका पता होना चाहिए। बता दें कि मैनीक्योर आपके हाथ और नाखूनों को लंबे समय तक हेल्दी बनाए रखता है।

(और पढ़े – नाखूनों को ऐसे रखें स्वस्थ और बनायें खूबसूरत…)

घर पर मैनीक्योर कैसे करें – Ghar par manicure kaise kare in hindi

घर पर मैनीक्योर कैसे करें - Ghar par manicure kaise kare in hindi

मैनीक्योर करने से पहले सभी मैनीक्योर टूल्स को एकत्रित कर लें। नीचे जानिए मैनीक्योर में इस्तेमाल होने वाली सभी जरूरी टूल्स के बारे में।

  • नेल पॉलिश रिमूवर
  • नेल कटर
  • कॉटन पैड्स
  • नेल बफर
  • क्यूटिकल पुशर एंड निपर
  • क्यूटिकल रिमूवर
  • हैंड मॉइस्चराइजर
  • नाखूनों के लिए बेस कोट
  • आपकी पसंदीदा नेल पॉलिश
  • एक टॉप क्लीयर कोट

(और पढ़े – नाखून बढ़ाने के उपाय…)

मैनीक्योर करने का तरीका – Manicure karne ka tarika in Hindi

मैनीक्योर करने का तरीका - Manicure karne ka tarika in Hindi

  • मैनीक्योर शुरू करने के लिए पहले नेल पॉलिश को हटा लें। पुरानी नेल पॉलिश को हटाने के लिए नॉन-एसीटोन नेल पॉलिश रिमूवर और कॉटन पैड का इस्तेमाल करना चाहिए। बता दें कि नॉन- एसीटोन नेल पॉलिश रिमूवर आपके नाखूनों के आसपास की त्वचा को सुखाता नहीं है। कहने को तो एसीटोन बेस्ड नेल रिमूवर बहुत तेजी से काम करता है, लेकिन ये आपके नाखूनों को नुकसान पहुंचा सकता है। यदि आप महीने में एक से ज्यादा बार नेल पॉलिश रिमूवर का इस्तेमाल करते हैं, तो आप इसके बजाए नॉन-एसीटोन नेल रिमूवर का उपयोग करें।
  • अब अपने नाखूनों को ट्रिम करने के लिए नेल क्लीपर्स का इस्तेमाल करें। कोशिश करें कि नाखून कम काटें और फिर इन्हें आकार देने के लिए नेल फाइलर यूज करें। यदि आप अपने नाखूनों को सिंपल रखना चाहते हैं तो गोल किनारों के साथ चौकोर आकार के नाखून या फिर साधारण गोल नाखून ही रखें। अब अपने नाखूनों के टॉप को चिकना करने के लिए नेल बफर का उपयोग करें। हालांकि इन्हें ज्यादा चिकना ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो नेल पॉलिश आपके नाखूनों पर टिकेगी नहीं।
  • अब मैनीक्योर का सबसे अहम हिस्सा अपने हाथों को पानी में डुबोएं। इसके लिए एक बड़ा कांच का कटोरा लें और इसमें गर्म पानी भरें। इसमें बेबी शैंपू या एक सौम्स क्लींजर मिला सकते हैं और अपने हाथों को कम से कम 3 मिनट के लिए भिगोकर रखें। क्यूटिकल्स को भिगोने से इन्हें मुलायम बनाने में मदद मिलती है। यह गंदगी हटाने के साथ और डेड स्किन सेल्स को लूज करता है। किसी भी तरह की गंदगी को हटाने के लिए नाखून और इसके आसपास की त्वचा को साफ करने के लिए एक नेल ब्रश का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा होता है। ध्यान रखें नाखून और हाथों को बहुत ज्यादा देर तक पानी में भिगोकर न रखें, यह नुकसान पहुंचा सकते हैं।
  • अब अपने हाथों और नाखूनों को पोंछ लें और नाखूनों की क्यूटिकल क्रीम से मालिश करें। एक बार जब क्यूटिकल्स साफ हो जाएंगे तो नाखूनों पर लगी एक्स्ट्रा क्रीम को हटा दें ।
  • अब अपने हाथों की मॉइस्चराइजर से मालिश करें। डीप मॉइस्चराइजिंग के लिए रिच क्रीम का यूज करें। अपनी उंगलियों और आसपास के क्षेत्र पर सफाई का खास ध्यान रखें। आप चाहें तो, मॉइस्चराइजर लगाने से पहले अपने हाथों को 30 सैकंड तक गर्म पानी में भिगोकर रखें।
  • इसके बाद ध्यान रखें कि अगर मॉइस्चराइजर बहुत ज्यादा लगा हुआ है, तो नेल पॉलिश नाखूनों पर टिेकगी नहीं इसलिए एक्स्ट्रा क्रीम को साफ कर लें। अब एक कॉटन पैड लेकर इसमें थोड़ा सा नेल पॉलिश रिमूवर लगाएं और इससे अपने नाखूनों को पोंछ लें।
  • अब बारी है नाखूनों पर नेल पॉलिश लगाने की, तो बेस कोट के रूप में एक अच्छी नेल पॉलिश का यूज करें। बेस कोट के रूप में आप ट्रांसपेरेंट या सफेद नेलपॉलिश का उपयोग कर सकते हैं। ऐसा करने से नाखूनों पर दाग दिखाई नहीं देते। इसके अलावा बेस कोट नेल पॉलिश को लंबे समय तक टिकाए रखने में मदद करता है।
  • बेस कोट सूख जाने के बाद अपने पसंद के किसी भी शेड की नेल पॉलिश का पतला कोट लगाएं। टिप की ओर से नाखून पर नेल पॉलिश लगाना शुरू करें। दूसरा कोट लगाने से पहले पिछले कोट को सूख जाने दें।
  • जब नेल पॉलिश सूख जाए तो इसके ऊपर नेल पॉलिश का एक और कोट लगाकर मैनीक्योर फिनिश करें। यह नेल पॉलिश को चिपकने से बचाता है। इसके अलावा अगर आप कोई नेल आर्ट करना चाहते हैं, तो क्लीयर टॉप कोट इसके लिए भी अच्छा है। मैनीक्योर को फाइनल टच देने के लिए हाथों और नाखूनों पर फिर से मॉइस्चराइजर लगाएं। बता दें कि नाखूनों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए उन्हें मॉइस्चराइज रखना बेहद जरूरी है। मैनक्योर करना बेहद आसान है, लेकिन कुछ ऐसी चीजें हैं, जिन्हें मैनीक्योर करने से दौरान आपको बचना चाहिए।

(और पढ़े – खूबसूरत नेल आर्ट्स की मदद से घर पर ही नाखूनों को सजाएं…)

मैनीक्योर करते समय बचें इन मिस्टेक्स से – Mistakes To Avoid When Doing Manicure At Home in Hindi

मैनीक्योर करते समय बचें इन मिस्टेक्स से - Mistakes To Avoid When Doing Manicure At Home in Hindi

मैनीक्योर करने से पहले ज्यादा नाखून काटने से बचें। अगर आपके नाखून पहले से छोटे हैं, तो इन्हें बस फाइल करने से काम बन जाएगा। लेकिन अगर आपके नाखून को बहुत लंबे हैं, तो फिर इन्हें आधा काटें और फिर इनकी लंबाई तय करें। ध्यान रखें नाखूनों को बहुत छोटा करने से इनका लुक खराब हो जाएगा।

नाखूनों को हमेशा एक ही दिशा में फाइल करें। एक कोने से शुरू करते हुए दूसरे कोने तक ले जाना है।

नाखूनों को पूरी तरह से साफ करें। नेल पॉलिश लगाने से पहले ध्यान रखें कि आपके नाखून मॉइस्चराइजर, पानी या गंदगी के निशान से मुक्त हो। इन्हें अच्छी तरह से साफ करने के लिए एक लिंट फ्री वाइप और नॉन-एसीटोन नेल रिमूवर का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा तरीका है।

(और पढ़े – नाखूनों की देखभाल के लिए टिप्स…)

मैनीक्योर के फायदे – Benefits of manicure in Hindi

  1. मैनीक्योर के फायदे ब्लड सकुर्लेशन बढ़ाने में – Manicure ke fayde Blood circulation baday in Hindi
  2. मैनीक्योर करने के फायदे नाखूनों के स्वास्थ्य में करे सुधार – Manicure for healthy nails in Hindi
  3. मैनीक्योर के लाभ तनाव से बचाए – Manicure reduces stress in Hindi
  4. हाथों को मुलायम और चिकना बनाए रखे मैनीक्योर – Manicure makes hand and nails soft and smooth in Hindi

अगर आपको लगता है कि मैनीक्योर सिर्फ एक मौके पर खदु को पैंपर करने का तरीका है, तो ऐसा नहीं है। मैनीक्योर जहां आपके हाथों की खूबसूरती बढ़ाता है, वहीं ये आपके स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। नियमित रूप से मैनीक्योर करने से आपके हाथ यंग और सुंदर दिखते हैं। तो चलिए नीचे जानते हैं मैनीक्येार करने से क्या फायदे होते हैं।

मैनीक्योर के फायदे ब्लड सकुर्लेशन बढ़ाने में – Manicure ke fayde Blood circulation baday in Hindi

मैनीक्योर करने से शरीर में ब्लड सकुर्लेशन बढ़ता है। मैनीक्योर करने से आपके हाथों और नाखूनों की मालिश होती है। यह ब्लड सकुर्लेशन में सुधार करने और जॉइंट्स की गतिशीलता को बढ़ाने में मदद करता है। इससे दर्द कम होता है और ठंड में मैनीक्योर करने से शरीर में गर्माहट पैदा होती है।

(और पढ़े – नाखून चबाने के नुकसान और रोकने के उपाय…)

मैनीक्योर करने के फायदे नाखूनों के स्वास्थ्य में करे सुधार – Manicure for healthy nails in Hindi

नियमित रूप से मैनीक्येार करने से नाखूनों पर जमने वाली फंगस और विकसित होने वाले अन्य इंफेक्शन का खतरा टल जाता है। हमारे हाथ हर दिन कई उत्पाद और तत्वों के संपर्क में आते हैं, जिससे नाखूनों में गंदगी जमा हो जाती है। रोज इनकी सफाई करने से हाथों पर डेड स्किन सेल्स को हटाने में मदद मिलती है। इतना ही नहीं मैनीक्योर नए सेल्स को बनाने के लिए प्रमोट करता है, जिससे आपके नाखून स्वस्थ और मजबूत बनते हैं।

मैनीक्योर के लाभ तनाव से बचाए – Manicure reduces stress in Hindi

मैनीक्योर के लाभ तनाव से बचाए - Manicure reduces stress in Hindi

शरीर के किसी भी अंग की मालिश आपको आराम देने और शरीर का कायाकल्प करने का शानदार तरीका है। ऐसे में मैनीक्योर आपके हाथों के रंग-रूप में सुधार करते हुए तनाव से मुक्ति दिलाता है। जिन लोगों के नाखून सूखे हुए या फटे हुए रहते हैं, ऐसे लोगों में तनाव रहता है, जबकि शानदार नाखूनों के साथ लोग हमेशा मुस्कुराते हैं, जिससे स्ट्रेस लेवल बहुत कम हो जाता है। इसलिए मैनिक्योर शारीरिक स्वास्थ्य के साथ मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी बेहद फायदेमंद है।

(और पढ़े – मानसिक तनाव दूर करने के घरेलू उपाय…)

हाथों को मुलायम और चिकना बनाए रखे मैनीक्योर – Manicure makes hand and nails soft and smooth in Hindi

मैनीक्योर करने से आपके हाथ बेहद कोमल और मुलायम बन जाएंगे। महीने में कम दो कम एकया दो बार मैनीक्योर करने से शरीर को रिलेक्स मिलता है वहीं हाथ और नाखून भी स्वस्थ रहते हैं

पेडीक्योर क्या है – What is pedicure in Hindi

पेडीक्योर क्या है - What is pedicure in Hindi

पेडीक्योर पैरों और नाखूनों का एक कॉस्मेटिक उपचार है, जो एकदम मैनीक्योर जैसा होता है। पेडिक्योर शब्द लेटिन शब्द से लिया गया है। जहां “पैड” का मतलब पैरों से और “क्योर” का अर्थ देखभाल से होता है। बता दें कि पेडीक्योर ज्यादातर कॉस्मेटिक और चिकित्सय प्रयोजनों के लिए किया जाता है। यह ट्रीटमेंट दुनियाभर के लोगों के बीच काफी फेमस है, खासतौर से महिलाओं के बीच। इससे पैरों और पैर के नाखूनों को साफ और सुंदर बनाया जाता है। पेडीक्योर में न केवल टो नेल्स की देखभाल बल्कि प्यूमिस पत्थर को पैरों के नीचे से रगड़ा जाता है। पेडीक्योर अक्सर घुटनों तक किया जाता है, जिसमें एक्सफोलिएशन, मॉइस्चराइजिंग और मालिश जैसे स्टेप्स शामिल हैं। समय और पैसा बचाने के लिए अब लोग पेडीक्योर को भी घर में करने लगे हैं। इसके लिए बाजार में कई स्क्रब आते हैं, आप अगर बाजार से स्क्रब नहीं लेना चाहते , तो कई घरेलू चीजों से भी पेडिक्योर के लिए स्क्रब तैयार किए जा सकते हैं।

(और पढ़े – घर पर पेडीक्योर करने के 5 आसान तरीके…)

घर पर पेडीक्योर कैसे करें – Ghar me pedicure kaise kare in hindi

  1. पेडीक्योर की सामग्री -Tools for pedicure in Hindi
  2. पेडीक्योर करने का तरीका – Pedicure karne ka tarika in Hindi

पेडीक्योर घर पर करें आसानी से, जानें पेडीक्योर कैसे करते हैं और पेडीक्योर की सामग्री के बारे में

पेडीक्योर की सामग्री -Tools for pedicure in Hindi

अगर आप घर में पेडीक्योर कर रहे हैं तो आपके पास कुछ जरूरी टूल्स होने चाहिए। नीचे हम आपको इन्ही जरूरी टूल्स के बारे में बता रहे हैं।

  • प्युमिस का पत्थर
  • गरम पानी
  • नेल फाइलर
  • कॉटन पैड्स
  • क्यूटिकल क्रीम
  • मॉइस्चराइजिंग क्रीम
  • फुट स्क्रब
  • साफ तौलिया
  • क्यूटिकल पुशर
  • सेंधा नमक
  • फुट फाइलर
  • नेल पेंट रिमूवर
  • नेल पेंट
  • नेल कटर

पेडीक्योर करने का तरीका – Pedicure karne ka tarika in Hindi

पेडीक्योर करने का तरीका - Pedicure karne ka tarika in Hindi

  • पेडीक्योर करने के लिए पहले पैरों के नाखूनों पर लगी पुरानी लगी नेल पेंट को हटा लें। इसके लिए कॉटन पैड को नेल रिमूवर में भिगोकर नेल पेंट पोंछ लें।
  • अब अपने नाखूनों को काटें और इन्हें फाइल करके इन्हें आकार दें। इसके अलावा फाइलर के उपयोग से मोटे किनारों को चिकना करें।
  • इसके बाद अपने नाखूनों पर क्यूटिकल क्रीम लगाएं। क्यूटिकल क्रीम आपके नाखूनों पर क्यूटिकल्स को मुलायम बनाती है। इससे पहले कि आप अपने पैरों को गर्म पानी में भिगोएँ, नाखूनों पर कुछ क्यूटिकल क्रीम लगाएँ। आप स्टोर से खरीदे गए क्यूटिकल क्रीम के बजाय जैतून का तेल और नारियल तेल का एक कॉम्बिनेशन भी लगा सकते हैं। नारियल का तेल क्यूटिकल्स को मुलायम बनाता है और सूखने से बचाता है। जैतून का तेल त्वचा और नाखूनों के भीतर जाकर स्वस्थ नाखूनों और क्यूटिकल्स को भी बढ़ाता है।
  • अब अपने पैरों को रिलेक्स फील कराने के लिए इन्हें गर्म पानी के टब में भिगो लें। यह पेडीक्योर का सबसे अच्छा और सबसे आरामदायक कदम है। पंद्रह मिनट के लिए अपने पैरों को भिगोएँ और आप इस पानी में कुछ ताज़ा एप्सम नमक और 2 चम्मच सिरका डाल सकते हैं। एप्सम नमक पैरों की थकी हुई और दर्द देने वाली मांसपेशियों को आराम देता है। बेकिंग सोडा और नींबू भी मृत त्वचा पर बहुत अच्छा काम करते हैं। एक स्पा जैसा अनुभव पाने के लिए, पानी के टब में कुछ गुलाब की पंखुड़ियों को डाल सकते हैं।
  • अब बारी है पैरों से डैड स्किन हटाने की। पानी से एक बार में एक पैर बाहर निकालें और एक तौलिया से सुखाएं। डेड स्किन हटाने के लिए एडिय़ों को घिसें। पैरों पर शेष मृत त्वचा कोशिकाओं को बाहर निकालने के लिए एक फुट फाइलर या प्यूमिस पत्थर का उपयोग करें।
  • अब आप अपने एड़ियों को स्क्रब करने के साथ इसकी मसाज कर सकते हैं। मृत त्वचा को हटाने के बाद, अपने पैरों को फिर से पानी में भिगोएँ ताकि सारी गंदगी निकल जाए और उन्हें एक तौलिया का उपयोग करके सुखा लें। अब, अपने पैरों पर टखनों तक एक अच्छा फुट स्क्रब लगाएं। आप स्थानीय स्टोर में उपलब्ध फुट स्क्रब खरीद सकते हैं, या प्राकृतिक अवयवों का उपयोग करके नेचुरल फुट स्क्रब तैयार कर सकते हैं।

(और पढ़े – गुलाब के फूल (पंखुड़ियों) के फायदे और नुकसान…)

नीचे जानिए नेचुरल फुट स्क्रब बनाने की सामग्री व विधि- सामग्री

  • 2 चम्मच नारियल तेल
  • 4 चम्मच चीनी
  • टी ट्री ऑयल की 2-3 बूंदें (वैकल्पिक)
  • 1 बड़ा चम्मच नींबू का रस
  • 1 बड़ा चम्मच शहद

नेचुरल फुट स्क्रब बनाने का तरीका-

  • नेचुरल फुट स्क्रब बनाने के लिए पहले ऊपर दी गई सामग्री को चीनी के साथ मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। आप चाहें तो इसमें ओटमील पाउडर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। स्क्रब का उपयोग करके अपनी एड़ियों, उंगलियों और पैरों के तलवों की अच्छे से मालिश करें और पैर की उंगलियों के बीच इससे मसाज जरूर करें।
  • मृत त्वचा को हटाने के बाद, अपने पैरों को धो लें और उन्हें सुखा लें। फिर एक मॉइस्चराइज़र लगाएं और धीरे से हाथों से पैरों की मालिश करें। अपनी एड़ी, तलवों और टखनों को मॉइस्चराइज़ करने के लिए एक डीप मॉइस्चराइज़र का उपयोग करें। आप नीचे दी गई सामग्री से अपने पैरों का मॉइस्चराइज़र भी बना सकते हैं:

फुट स्क्रब बनाने की सामग्री

नेचुरल फुट मॉइस्चराइज़र बनाने का तरीका –

  • प्राकृतिक फुट मॉइस्चराइजर बनाने के लिए माइक्रोवेव सेफ कंटेनर में कुछ शीया बटर पिघलाएं और बादाम का तेल और नारियल का तेल डालें। तेल मिश्रण को मिलाएं और इसे कमरे के तापमान तक ठंडा होने दें। ठंडा हो जाने पर, लैवेंडर एसेंशियल ऑयल की कुछ बूँदें तेल के मिश्रण में डालें और इसे 2 घंटे के लिए फ्रीज करें। एक एयरटाइट कंटेनर में स्टोर करें और आवश्यकता के अनुसार इसका उपयोग करें।
  • जब मॉइस्चराइजिंग का पार्ट पूरा हो जाए तो नाखूनों पर नेल पेंट अप्लाई करें। आप चाहें तो नाखून पर नेल आर्ट भी बना सकते हैं।
  • पेडीक्योर को फाइनल टच देने के लिए नाखूनों के आसपास लगी नेल पेंट को नेल पेंट रिमूवर से साफ कर लीजिए। नाखूनों को और शाईनी बनाने के लिए नाखूनों पर लास्ट ट्रांसपैरेंट शाइनर कोट लगाएं। आपका पेडीक्योर पूरा हो चुका है।

(और पढ़े – पैरों की देखभाल के लिए अपनाएं कुछ आसान टिप्स…)

पेडीक्योर के फायदे – Benefits of pedicure in Hindi

  1. पेडीक्योर के फायदे समस्याओं का जल्दी पता लगना- Pedicure detect problem early in Hindi
  2. पेडीक्योर करने के फायदे संक्रमण को कम करे – Pedicure ke fayde infection kam kare in hindi
  3. पेडीक्योर के फायदे त्वचा में नमी बनाए रखे – Pedicure moisturize your skin in Hindi
  4. पैरों को एक्सफोलिएट करता है पेडीक्योर – Pedicure exfoliate the feet in hindi
  5. पेडीक्योर के फायदे सकुर्लेशन को बढ़ावा देता है – Circulation badame me madad kare pedicure in Hindi
  6. शरीर को रिलेक्स करे पेडीक्योर – Body ko relax karta hai pedicure in hindi

पेडीक्योर आपके पैरों की बुनियादी देखभाल प्रदान करने का एक शानदार तरीका है। पेडीक्योर से न केवल आपके पैरों की बल्कि पैरों की उंगली और नाखूनों की सफाई होती है। यह आपके स्वास्थ्य के लिए भी उतना ही फायदेमंद है, जितना कि नाखूनों के लिए। पेडीक्योर को नियमित रूप से कराने के कुछ लाभ आपको नीचे बता रहे हैं।

पेडीक्योर के फायदे समस्याओं का जल्दी पता लगना- Pedicure detect problem early in Hindi

पेडीक्योर के फायदे समस्याओं का जल्दी पता लगना- Pedicure detect problem early in Hindi

नियमित रूप से पेडीक्योर कराने से कॉन्र्स, बुनियन और फंगल संक्रमण के शुरूआती लक्षणों को पता लगाने में मदद मिलती है। इन स्थितियों का जल्दी पता चलने से इलाज आसानी से किया जा सकता है।

(और पढ़े – फंगल इन्फेक्शन क्या है, कारण, लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार…)

पेडीक्योर करने के फायदे संक्रमण को कम करे – Pedicure ke fayde infection kam kare in hindi

पैर के नाखून की सफाई और कटाई इंफेक्शन को बढऩे से रोकती है। पेडीक्योर की मदद से पैरों की गंदगी साफ होती है, जिससे आप हमेश के लिए नेल डिसीज डिसऑर्डर और फुट ऑडर से बच सकते हैं। पेडीक्योर से आपके टो नेल्स भी स्वस्थ्य रहते हैं, क्योंकि यह आपके पैरों की उंगलियों को एक बड़े प्रकार के ट्रोमा से बचाने में मदद करता है।

पेडीक्योर के फायदे त्वचा में नमी बनाए रखे – Pedicure moisturize your skin in Hindi

पेडीक्योर के फायदे त्वचा में नमी बनाए रखे - Pedicure moisturize your skin in Hindi

त्वचा की नमी को बरकरार रखने के लिए पेडीक्योर कराना बहुत फायदेमंद है। गर्म पानी में साबुन और लोशन के साथ पैरों की मालिश करने से पैरों में नमी बनी रहती है। बता दें कि मॉइस्चराइज्ड पैरों में छाले या क्रैक्स की संभावना कम हो जाती है।

(और पढ़े – पैरों में जलन होने का कारण, निदान और उपचार…)

पैरों को एक्सफोलिएट करता है पेडीक्योर – Pedicure exfoliate the feet in hindi

एक्सफोलिएशन से स्किन डेड सेल्स बाहर निकलती है, जिससे बुनियन और कॉन्र्स जैसी समस्याएं पैदा नहीं हो पाती। अपने पैरों की मृत त्वचा को हटाने के लिए और नए सेल्स को डवलप करने के लिए पेडीक्योर करना बहुत फायदेमंद साबित होता है।

पेडीक्योर के फायदे सकुर्लेशन को बढ़ावा देता है – Circulation badame me madad kare pedicure in Hindi

पेडीक्योर के फायदे सकुर्लेशन को बढ़ावा देता है - Circulation badame me madad kare pedicure in Hindi

नियमित रूप से पेडीक्योर कराने से परिसंचरण को बढ़ावा देने में मदद मिलती है और पैरों का तनाव भी दूर होता है। बढ़ता ब्लड सकुर्लेशन एड़ी में होने वाले दर्द को कम करने के साथ शरीर में गर्मी पैदा करता है।

(और पढ़े – एड़ी में दर्द के घरेलू उपाय…)

शरीर को रिलेक्स करे पेडीक्योर – Body ko relax karta hai pedicure in hindi

पेडीक्योर आपको बहुत आराम देता है। सह आपको तनाव से मुक्ति दिलाने के अलावा पैरों की स्थिति को भी अच्छी बनाए रखता है। इसलिए विशेषज्ञ पैरों को हेल्दी और सुंदर बनाने के लिए महीने में एक बार पेडीक्योर कराने की सलाह देते हैं।

घर पर पेडीक्योर करते समय ध्यान रखने वाली बातें – Tips for pedicure at home in Hindi

घर पर पेडीक्योर करते समय ध्यान रखने वाली बातें - Tips for pedicure at home in Hindi

पैरों और नाखूनों की टैनिंग हटाने के लिए पेडीक्योर करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। हमारे द्वारा नीचे दिए गए सुझावों की मदद से घर पर पेडीक्योर करना बेहद आसान हो जाएगा।

  • यदि आपके पैरों की एड़ी में डेड सेल्स जमा हैं, तो नहाते समय सप्ताह में दो बार अपनी एडिय़ों को प्यूमिक स्टोन से रगड़कर साफ करें। यह मृत त्वचा के संचय को कम करने में मदद करता है साथ ही आपके पैरों को मुलायम और चमकदार बनाता है।
  • नाखूनों पर नेल पेट लगाना सभी को पसंद होता है, लेकिन चार बार में से एक बार अपने नाखूनों को बिना नेल पेंट के छोड़ दीजिए। दरअसल, नाखून पेंट के ओवर एप्लीकेशन के कारण टूटे-फूट और अस्वस्थ हो जाते हैं।
  • यदि आपके नाखूनों पर किसी तरह का इन्फेक्शन है या नाखूनों का रंग बदलता दिखाई दे रहा है तो अपने डॉक्टर से इस बारे में सलाह जरूर लें। इसलिए नाखून पर हर बार नेल पेंट लगाना जरूरी नहीं है।
  • पार्लर में किसी भी तरह की फिश स्पा लेने से बचना चाहिए। क्योंकि यह आपके पैरों के लिए असुरक्षित है इससे हेपेटाइटिस सीएचआईवी का खतरा बढ़ सकता है।

(और पढ़े – प्यूमिक स्टोन क्या है, फायदे और उपयोग कैसे करें…)

मैनीक्योर और पेडीक्योर से जुड़े सवाल और जवाब- Question and answer related to manicure and pedicure in Hindi

  1. नो चिप मैनीक्योर क्या है? – What is a No Chip Manicure in Hindi
  2. पैर को भिगोने के लिए सबसे अच्छी चीज क्या है? – What Is the Best Thing to Soak My Feet In Hindi
  3. क्या पेडिक्योर टैन को हटाता है? – Does Pedicure Remove Tan in Hindi
  4. क्या नेल फंगस होने पर पेडीक्योर करवा सकते हैं? – Can I Get a Pedicure If I Have Nail Fungus in Hindi

नो चिप मैनीक्योर क्या है? – What is a No Chip Manicure in Hindi

नो चिप मैनीक्योर क्या है? - What is a No Chip Manicure in Hindi

नो-चिप मैनीक्योर में जेल-आधारित नेल पॉलिश का उपयोग किया जाता है। जिसमें बेस कोट, पॉलिश के दो कोट और एक मुहर शामिल होता है और फिर अल्ट्रावायलेट किरणों के तहत नाखूनों को ठीक किया जाता है।

पैर को भिगोने के लिए सबसे अच्छी चीज क्या है? – What Is the Best Thing to Soak My Feet In Hindi

आजकल, स्टोर में स्पा सॉल्ट और स्पा उत्पादों की कई किस्में उपलब्ध हैं जिनका उपयोग आप थका देने वाले दिन के बाद अपने पैरों को भिगोने के लिए कर सकते हैं! हालाँकि, हम सलाह देते हैं कि अपने पैरों को 2 बड़े चम्मच एप्सोम नमक और 1 चम्मच सिरके में भिगोएँ। यह आपके दर्द वाले तलवों को भिगोता है और मृत त्वचा को हटाता है। माना जाता है कि एप्सम (सेंधा) नमक एंटी-फंगल और एंटी-माइक्रोबियल गुणों से भरपूर होता है। एप्सम नमक और गर्म पानी के घोल में अपने पैरों को भिगोने से दर्द और सूजन से राहत मिलती है, यह त्वचा के किसी भी संक्रमण, नाखून के फंगस और छोटे घावों को ठीक करता है। यह तनाव से भी छुटकारा दिलाता है।

(और पढ़े – पैरों की सूजन के घरेलू उपाय…)

क्या पेडिक्योर टैन को हटाता है? – Does Pedicure Remove Tan in Hindi

हां बिल्कुल, धूप में घूमने से आपके पैरों पर टैनिंग हो जाती है। यदि आप सही सामग्री का उपयोग करते हैं, तो एक पेडीक्योर आपके पैरों से टैन को हटा सकता है। इसके लिए आप नींबू के रस का घरेलू उपाय अपना सकते हैं। नींबू का रस एक नेचुरल ब्लीचिंग एजेंट है, आप इसे चीनी के साथ मिला सकते हैं और टैन हटाने के लिए सप्ताह में दो बार स्क्रब कर सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, आप डे-टैन पेडीक्योर को भी चुन सकते हैं।

क्या नेल फंगस होने पर पेडीक्योर करवा सकते हैं? – Can I Get a Pedicure If I Have Nail Fungus in Hindi

क्या नेल फंगस होने पर पेडीक्योर करवा सकते हैं? - Can I Get a Pedicure If I Have Nail Fungus in Hindi

भले ही आपको टोनेल फंगल संक्रमण हो, आप पेडीक्योर करवा सकते हैं। यदि आप अपने पेडीक्योर के लिए पार्लर जाते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप अपने खुद के पेडीक्योर उपकरण ले जाएं और पेडिक्योर करने वाले को संक्रमण के बारे में बता दें। सुनिश्चित करें कि उपयोग किए गए उत्पाद केमिकल फ्री और त्वचा के अनुकूल हों। अपने पैरों की देखभाल के लिए उन्हें नियमित रूप से धोएं और जूते पहनने से पहले सुखाएं।

मैनीक्योर पेडीक्योर क्या है, घर पर करने का तरीका और फायदे – Manicure pedicure kya hai, kaise kare aur fayde in hindi

(और पढ़े – स्किन के लिए गुलाब जल के फायदे और उपयोग…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration