स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय - Tips For Weak And Saggy Breast In Hindi - Healthunbox
घरेलू उपाय

स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय – Tips For Weak And Saggy Breast In Hindi

स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय - Tips For Weak And Saggy Breast In Hindi

Tips For Weak And Saggy Breast In Hindi: क्या आप ढीले स्तनों को टाइट करने के घरेलू उपाय खोज रहीं हैं तो इस लेख में हमने स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय के साथ ब्रैस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय के बारे में एकदम सटीक जानकारी दी है जिनका इस्तेमाल करने पर कुछ ही दिनों में आपके स्तनों का ढीलापन दूर होगा।

अक्सर कुछ औरतों या लड़कियों के ब्रैस्ट बड़े और भारी होने के कारण उनके स्तनों के ढीला और कमज़ोर होने की संभावना अधिक होती है। इसके आलावा कमजोर और ढीले स्तनों के पीछे का एक बड़ा कारण मेनोपॉज़ (Menopause) भी होता है। तेजी से वजन घटाने या पोषण की कमी, अनफिट ब्रा पहनने जैसे कुछ कारक होते है जो समय से पहले स्तनों में ढीलापन उत्‍पन्‍न कर सकते है।

आइए जानते हैं कि आप अपने स्तनों का ढीलापन दूर कर उन्हें प्राकृतिक रूप से कैसे टाईट रख सकतीं है वह भी बिना किसी दुष्‍प्रभावों कें। ब्रैस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय जानने से पहले हम स्तनों का ढीलापन कैसे दूर करें इस बारे में बात कर लेते हैं।

विषय सूची

स्तनों का ढीलापन कैसे दूर करें – Tips for weak and saggy breast in Hindi

स्तनों का ढीलापन कैसे दूर करें - Tips for weak and saggy breast in Hindi

ब्रैस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय खोजने से बेहतर है कि आप खुद को इतना फिट रखें कि आपको कभी स्तनों में ढीलापन होने की समस्या का सामना ही न करना पड़े! इसके लिए आपको स्तनों की थोड़ी से केयर और थोड़ी से सतर्कता बरतनी होगी।

स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए टिप्स निम्नलिखित हैं:

स्तनों का ढीलापन दूर करने के घरेलू नुस्खे – Stano Ka Dheelapan Door Karne Ke Gharelu Nuskhe

स्तनों का ढीलापन दूर करने के घरेलू नुस्खे - Stano Ka Dheelapan Door Karne Ke Gharelu Nuskhe

स्तनों का ढीलापन दूर करने के आसान घरेलू उपायों की मदद से ढीले ब्रेस्ट की समस्या को दूर किया जा सकता है। उम्र से पहले स्तनों में ढीलापन आना सामान्य नहीं है, ऐसा होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। हम आगे के लेख में स्तन ढीला होने के कारण पर चर्चा करेंगे!

हालांकि चिकित्सा जगत में कुछ सर्जरी और आधुनिक तकनीक ब्रैस्ट टाइट करने के उपचार के रूप में मौजूद हैं, लेकिन यह स्वाभाविक है कि हर महिला ब्रैस्ट टाइट करने के लिए इन आधुनिक तकनीकों का सहारा नहीं ले सकती है।

कई महिलाएं, ढीले स्तन की समस्या से परेशान होकर, डॉक्टर की सलाह के बिना स्तन फिट करने के लिए फिगर टाइटिंग मेडिसिन या ब्रेस्ट टाइट करने की आयुर्वेदिक दवा लेना शुरू कर देती हैं।

ध्यान रखें कि फिगर टाइट करने का यह तरीका बिल्कुल भी अच्छा नहीं है, बिना डॉक्टर के परामर्श और जानकारी के, चेस्ट टाइट करने वाली दवाएं लेना, आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकती हैं।

अगर थोड़ी देखभाल और स्तनों का ढीलापन दूर करने के सही नुस्खों का पालन किया जाए तो ढीले स्तन की समस्या के लिए दवाई लेने की कोई जरूरत नहीं होगी।

ऐसी स्थिति में, आपका सवाल यह हो सकता है कि इन उपायों के अलावा, ब्रैस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय क्या हैं? तो घबराइए मत … ब्रेस्ट टाइट करने के घरेलू उपाय आपकी मदद कर सकते हैं।

इस लेख में हमनें स्तन टाइट करने के उपाय, नुस्खे, आयुर्वेदिक तरीके की चर्चा की है, जिनकी मदद से आप घर पर ही ढीले और कमजोर ब्रेस्ट का उपचार कर सकती हैं। लेकिन उसके पहले यह जान लेतें हैं की ढीले ब्रेस्ट के कारण क्या हैं?

कमजोर व ढीले ब्रेस्ट के कारण क्या हैं?What are the causes of weak and saggy breasts in Hindi?

कमजोर व ढीले ब्रेस्ट के कारण क्या हैं? - What are the causes of weak and saggy breasts in Hindi?

आमतौर पर महिलाओं को उम्र बढ़ने के कारण कमजोर और ढीले स्तन की समस्या से गुजरना पड़ता है। लेकिन उम्र बढ़ने के आलावा ब्रेस्ट के लूज होने के कई कारण हो सकते हैं।

आइए इन कारणों पर एक नज़र डालें, उसके बाद अगले भाग में हम ब्रैस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय के बारे में बात करेंगे।

स्तनों का ढीलापन दूर करने के आसान घरेलू उपाय – Home Remedies to tighten breasts in Hindi

स्तनों का ढीलापन दूर करने के आसान घरेलू उपाय - Home Remedies to tighten breasts in Hindi

अच्‍छी तरह से टाइट स्‍तनों (toned breasts) को पाने के लिए आपको ज्‍यादा रिस्क लेने की जरूरत नहीं है, आपको बस कुछ पुरानी आदतों से छोड़ना होगा और अपने स्‍तनों की कुछ विशेष देखभाल करनी है। इस लेख में आप जानेगी कि आप प्राकृतिक तरीके से स्‍तनों को टाइट (firming) करने के लिए कौन से घरेलू उपाय कर सकती हैं।

स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय है बर्फ की मालिश – Breast Tight Karne Ke Gharelu Upay Ice Massage in Hindi

स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय है बर्फ की मालिश – Breast Tight Karne Ke Gharelu Upay Ice Massage in Hindi

ब्रेस्ट को टाइट करने के घरेलु नुस्खे के तौर पर स्तनों की बर्फ से मसाज करना एक बहुत ही प्रभावशाली उपाय है। जब बर्फ त्‍वचा के संपर्क में आता है, तो ऊतक (tissues) सिकुड़न महसूस करते हैं। एक शोध के अनुसार, ठंड़ा पानी मांसपेशियों को सिकोड़ता है और उन्‍हें अधिक कठोर बनाता है। स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए बर्फ की मालिश स्तनों की त्‍वचा को मजबूत करती है और मांसपेशियों में होने वाले किसी भी प्रकार के दर्द को भी कम करती है।

स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए बर्फ से मसाज करने का तरीका: बर्फ के तुकड़े लें और एक गोलाकार गति (circular motion) में अपने स्‍तनों पर मालिश करें, इसा तब तक करें जब तक बर्फ पिघल न जाए। अब, स्‍तन को सूखाने के लिए एक तौलिया का प्रयोग करें। इसके बाद यही प्रक्रिया दूसरे स्तन के लिए भी दोहराएं। स्‍तनों को सुखाने के तुरंत बाद टाइट ब्रा पहन लें और 30 मिनिट के लिए आराम करें। अब आप थोड़ी देर एक कुर्सी पर पीछे की ओर झुक कर बैठ भी सकतीं हैं। एक दिन में इस उपाय का एक बार अभ्‍यास करें।

ब्रेस्ट टाइट करने के घरेलू उपाय के तौर पर इस देसी नुस्खे को नियमित करने से कुछ ही दिनों में स्तनों का ढीलापन दूर होता है।

ब्रेस्ट को टाइट करने के उपाय में से एक है अंडे और खीरे का उपयोग – Egg and cucumber for weak and sagging breasts In Hindi

ब्रेस्ट को टाइट करने के उपाय में से एक है अंडे और खीरे का उपयोग – Egg and cucumber for weak and sagging breasts In Hindi

अंडे की जर्दी और ककड़ी मास्‍क का उपयोग ब्रेस्ट को टाइट करने के लिए बेहतरीन घरेलू उपाय है। इसकी त्‍वचा कसने की क्षमता के कारण ककड़ी का उपयोग कई फेस मास्‍क में बड़े पैमाने पर किया जाता है। ककड़ी में बीटा कैरोटीन (beta carotene) होता है, और अंडे की जर्दी प्रोटीन और विटामिन से भरी होती है जो त्‍वचा को टाइट रखता है और इसकी किसी भी प्रकार की क्षति की मरम्‍मत करता है। इसके साथ ही यह विटामिन A, D, B6, और B12 की अच्‍छी मात्रा रखता है।

ब्रेस्ट टाइट करने के घरेलू उपाय में अंडे और खीरे का उपयोग करने का तरीका: इस ब्रेस्ट को टाइट करने के उपाय के लिए एक कच्चा अंडा और एक खीरा लें। ककड़ी और अंडे की जर्दी (अंडे के पीले वाले भाग) का पेस्‍ट बनाएं इसमें आप एक चम्मच मक्खन भी मिला लें और अब इस मिक्सचर से अपने ब्रेस्ट की मालिश करीब आधे घंटे तक करें। फिर इसे 15 मिनिट के लिए अपने स्‍तन पर सूखने दें। फिर इसे ठंडे पानी से धो लें।

हफ्ते में कम से कम एक बार इस ब्रेस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय को करने से स्तनों में उभार आता है।

(और पढ़ें –स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए ब्रेस्ट मसाज कैसे करें )

स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय जैतून मसाज तेल – Brest Tight Karne Ka Oil Hai Olive Oil in Hindi

स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय जैतून मसाज तेल – Brest Tight Karne Ka Oil Hai Olive Oil in Hindi

स्तन को सुडौल और आकर्षक बनाने के लिए जैतून के तेल के साथ स्‍तन की मालिश करना बहुत ही फायदेमंद है। जैतून का तेल त्‍वचा को पोषण देता है जैतून का तेल (olive oil), एंटीऑक्सिडेंट (antioxidants) और फैटी एसिड (fatty acids) से भरपूर होता है और एक ही समय में उनकी बनावट में सुधार करता है। प्रभाव को बढ़ाने के लिए आप इसमें रोजमेरी के तेल को भी मिला सकते है। यह तेल स्तन की त्‍वचा में कोलेजन उत्‍पादन को बढ़ाता है जो स्तनों को टाइट करता है।

जैतून के तेल से स्तनों की मालिश करने से ब्रेस्ट सैगिंग (breast sagging) की समस्या कम होती है। जैतून के तेल से मालिश करने से ब्रैस्ट के आस-पास की स्किन और बनावट में सुधार आता है।

स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय जैतून तेल से मसाज करने का तरीका: ब्रेस्ट टाइट करने के उपाय के तौर पर जैतून के तेल की मालिश करने के लिए अपनी हथेली में थोड़ा जैतून का तेल लें और स्‍तनों को ऊपरी दिशा में मसाज करें। स्तनों में ब्लड सर्कुलेशन (boost circulation) बढ़ाने और नए सेल गठन के लिए स्तनों की 15 मिनिट तक मालिश की आवश्‍यकता होती है। इस उपाय को हफ्ते में 4-5 बार करें। इसके अतिरिक्त बादाम, जोजोबा और एवोकैडो तेल (avocado oil) की मालिश भी फायदेमंद होती हैं, क्‍योंकि वे शरीर को पोषक तत्‍वों की आपूर्ति भी करते हैं।

ब्रेस्ट टाइट करने के घरेलू उपाय के तौर पर जैतून के तेल से स्तनों की नियमित मालिश करने से आपको स्तनों के ढीलेपन को दूर करने में मदद मिल सकती है।

ब्रैस्ट टाइट करने की आयुर्वेदि‍क दवा मेंथी – Breast Tight Karne Ki Ayurvedic Dawa in Hindi

ब्रैस्ट टाइट करने की आयुर्वेदि‍क दवा मेंथी – Breast Tight Karne Ki Ayurvedic Dawa in Hindi

स्तन को सुडौल और आकर्षक बनाने के लिए फायदेमंद जड़ी बूटी के रूप में मेंथी को जाना जाता है। आयुर्वेद के अनुसार यह स्‍तनपान कराने से ढीले हुए स्‍तन (Sagging breast) के इलाज में प्रभावी मानी जाती है। मेंथी में पाए जाने वाले विटामिन (vitamin) और एंटीआक्सिडेंट (antioxidant) स्‍तन की कोशिकाओं को कई तरह के नुकसान से बचाते हैं और स्तनों के आस-पास की त्वचा में कसाव लाकर ब्रेस्ट को सुडौल और आकर्षक बनाती है।

ब्रैस्ट को ढीला होने से बचाने के लिए मेंथी का इस्तेमाल ऐसे करें: इसके लिए आपको एक चौथाई कप पानी में मेंथी पाउडर का पेस्‍ट बनाना है। इस पेस्‍ट से 15 मिनिट तक अपने स्‍तनों की मालिश करें, फिर इसे गर्म या गुनगुने पानी से धोएं। ब्रैस्ट को ढीला होने से बचाने के अच्‍छे परिणाम के आप इस प्रक्रिया को सप्‍ताह में दो बार दोहराएं।

सप्ताह में कम से कम एक बार इस ब्रेस्ट टाइट करने उपाय को करने से आपको खुद अपने स्तनों में फर्क नज़र आने लगेगा।

विटामिन ई और मेंथी के तेल की 10 बूंदों को मिला कर एक अन्‍य प्रभावी ब्रेस्ट टाइट करने वाला मास्‍क तैयार किया जा सकता है। इस पेस्‍ट को अच्छी तरह मिला कर अपने स्‍तन पर लगाएं और 30 मिनिट के बाद इसे ठंड़ें पानी से धोलें। इस ब्रेस्ट टाइट करने वाले मास्‍क (Breast tightening mask) का प्रयोग सप्‍ताह में एक बार किया जाना चाहिए।

आप स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए मेथी पाउडर के साथ दही का उपयोग भी कर सकते हैं। दही में लैक्टिक एसिड, कैल्शियम, जस्‍ता, और विटामिन बी की अच्‍छी मात्रा होती है। ये सभी चीजें कोशिका वृद्धि में सुधार करते समय त्‍वचा को हाइड्रेट रखती हैं।

ब्रेस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय में से एक है एलोवरा और शहद का उपयोग – Use of Aloe Vera and honey for weak and sagging breasts in Hindi

ब्रेस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय में से एक है एलोवरा और शहद का उपयोग - Use of Aloe Vera and honey for weak and sagging breasts in Hindi

स्तन को सुडौल और आकर्षक बनाने के लिए, एलोवेरा की पत्तियों से जेल को निकलकर उसमे बराबर मात्रा में शहद मिला लें। अब इस पेस्ट को एक बोतल में भरकर फ्रिज में रखें ताकि यह अच्छी तरह से जम जाए।

ब्रेस्ट को टाइट करने के लिए एलोवरा और शहद का उपयोग करने का तरीका: ब्रेस्ट को सुडौल और आकर्षक बनाने के लिए एलोवेरा और शहद के इस जमे हुए मिश्रण से अपने स्तनों की मालिश करें। इस ब्रेस्ट टाइट करने के घरेलू नुस्खे को अपनाने से आपको बहुत फायदा होगा।

ब्रेस्ट टाइट करने के घरेलू उपाय में से एक है नियमित व्यायाम – Regular exercise for weak and saggy breast in Hindi

ब्रेस्ट टाइट करने के घरेलू उपाय में से एक है नियमित व्यायाम - Regular exercise for weak and saggy breast in Hindi

अगर आप भी सोच रही हैं कि स्तनों को कैसे टाइट किया जाए या स्तनों का ढीलापन कैसे दूर करें, तो आपको यह जानना जरूरी है कि नियमित व्यायाम स्तनों को टाइट करने के प्रभावी तरीकों में से एक है।

रेगुलर एक्सरसाइज आपके शरीर में रक्त के प्रवाह को बनाए रखने के साथ-साथ शरीर के लचीलेपन को बनाए रखने में मदद करती है।

स्तन को टाइट करने के उपाय के रूप में, आप कुछ चुनिंदा एक्सरसाइज कर सकती हैं जो आपके स्तनों के टिशु को मजबूत करेगीं और आपके स्तनों को उभार देगी।

स्तनों को टाइट करने के लिए आप निम्न एक्सरसाइज कर सकतीं हैं :

स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए सही पोश्चर रखें – Right Posture To Avoid Breast Sagging In Hindi

स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए सही पोश्चर रखें – Right Posture To Avoid Breast Sagging In Hindi

टाइट स्‍तन पाने के लिए सही पोश्चर की जरूरत होती है। अधिकतर गलत पोश्चर के कारण यंग लड़कियों के ब्रेस्ट में ढीलापन आ जाता है। गलत पोश्चर के कारण जब आप बैठती हैं, चलती हैं या सोती है तो आपके स्‍तनों पर अधिक स्ट्रेस (excess stress) आता है, जो स्‍तनों के चारों ओर की मसल्स को ढीला कर सकता है जिससे स्तनों के टाइटनेस में कमी होती है। इसलिए, टाइट और सुंदर स्‍तन पाने के लिए आपका पहला स्टेप आपना पोश्चर सही रखना होना चाहिए।

यह सुनिश्चित करें कि चलते हुए, बैठते हुए और खड़े होते समय आपके कंधे और पीठ सीधे रहे। एक गोलाकार कंधे की मुद्रा अक्‍सर झुके हुए स्‍तनों (droopy breasts) का मुख्‍य कारण होती है। आपको यह भी सुनिश्चित करने की जरूरत है कि आप एक ऐसी मुद्रा में सो रही हैं जो सोने के दौरान अपने स्‍तनों पर अतिरिक्‍त तनाव नहीं डालता है। आपको सोते समय अपने स्‍तनों को अच्‍छी तरह से आराम दिलाने के लिए पीठ के वल सोने का प्रयास करना चाहिए।

(और पढ़ें – ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए बेस्ट हैं ये टिप्स, जरूर करें ट्राई)

ब्रैस्ट का ढीलापन दूर करने के लिए सही ब्रा पहने और और इसे बदलते रहें – Get the right bra and change it frequently for prevent sagging in Hindi

ब्रैस्ट का ढीलापन दूर करने के लिए सही ब्रा पहने और और इसे बदलते रहें – Get the right bra and change it frequently for prevent sagging in Hindi

स्‍तन के ढ़ीलेपन को रोकने के लिए अपनी जरूरतों के हिसाब से सही ब्रा का उपयोग जरूरी है। अक्‍सर गलत ब्रा का उपयोग ढीले स्‍तनों (saggy breasts) का एक कारण हो सकता है। इसलिए ब्रेस्ट टाइट करने उपाय के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक सही ब्रा का उपयोग है जो आपके स्‍तन के लिए फायदेमंद होगा।

(और पढ़े – सही साइज की ब्रा कैसे चुनें)

स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए यह भी सुनिश्चित करें कि ब्रा सही आकार को हो। ढीली या अधिक टाइट ब्रा पहनना अच्‍छा नहीं है। अपने ब्रैसियर (brassieres) को अक्‍सर बदलना भी महत्‍वपूर्ण है। आपकी ब्रा ठीक दिख सकता है, लेकिन वे नियमित रूप से उपयोग के कुछ महीनों के भीतर स्‍तनों को उचित लाभ प्रदान करने की क्षमता के साथ साथ अपनी लोच (elasticity) भी खो देते हैं। इसलिए हर 3 माह में अपनी ब्रा को बदलना स्‍तन के ढ़ीलेपन को रोकने के लिए लाभकारी होगा।

निष्कर्ष

स्तनों में शिथिलता, ढीलापन और कमजोरी का अनुभव करना बिल्कुल सामान्य है। आप कुछ घरेलू उपाय अपनाकर अपने स्तनों के ओरिजिनल साइज और शेप (breasts size and shape) में सुधार कर उन्हें बेहतर बना सकती हैं।

ब्रैस्ट को टाइट करने के घरेलू उपाय और नुस्खे ऊपर लेख में बताए गए हैं! यदि आप पौष्टिक आहार लेती हैं और नियमित व्यायाम करने के साथ ही इन स्तन को टाइट करने के घरेलू उपाय और नुस्खों को आजमाती हैं तो आपके लिए ढीले स्तनों की समस्या का सामना करने की संभावना बहुत कम हो जाती है।

आपको हमारा स्तनों का ढीलापन दूर करने के उपाय (Tips for weak and saggy breast in Hindi) का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration