रोजमेरी तेल के फायदे गुण लाभ और नुकसान – Rosemary Oil Benefits and side effects in hindi

रोजमेरी तेल के फायदे गुण लाभ और नुकसान – Rosemary Oil Benefits and side effects in hindi
Written by Deepanshu

Rosemary Oil Benefits in hindi रोजमेरी को हम कई अन्य नामों से भी जानते है जैसे की गुलमेंहदी , केशवास आदि।  प्राकृतिक औषधि होने के कारण रोजमेरी तेल के फायदे कई बीमारियों से लड़ने और उसे दूर करने में सहायक साबित होता है। इसमें पाया जाने वाला कार्बोहाइड्रेट, पोटेशियम, आयरन, कैल्शियम, विटामिन्स हमारे शरीर को कई बीमारियों से राहत  पहुंचाता है। रोजमेरी तेल इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है साथ ही कैंसर, सूजन,दर्द आदि से भी राहत देता है। आइए जानते है रोजमेरी तेल के फायदे और रोजमेरी तेल के नुकसान के बारे में। (Rosemary tel ke fayde aur nuksan in hindi)

रोज़मिरी एसेंशियल आयल में कई बड़े घटकों जैसे रोस्मारिनिक एसिड, कैफीक एसिड, बीटीलिनिक एसिड, कार्नोसिक एसिड, उर्सोलिक एसिड, कार्नोसोल और कपूर शामिल होते हैं। इसमें पाए जाने वाले एंटी इंफ्लेमेटरी, जीवाणुरोधी, एंटिफंगल और एनाल्जेसिक गुणो के कारण हैं यह बेहतर पाचन और श्वास सम्बंधित समस्याओं को दूर करने में सहायता करते हैं।

रोजमेरी तेल के फायदे और लाभ – Rosemary tel ke fayde in hindi

रोजमेरी तेल के फायदे इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने के लिए – Rosemary oil for Immune System in hindi

जब आपके शरीर को बीमारियों से बचाने की बात आती है तो एंटीऑक्सिडेंट आपके सबसे बड़े हथियार होता है। रोज़मेरी तेल में कार्नोसोल और मार्ससीन होते हैं जो एंट्रीऑक्सीडेंट की तरह काम करते है। शरीर में होने वाली कई तरह के इंफेक्शन और बीमारियों से ये आपकी रक्षा करता है। रोजमेरी तेल को रोजाना सुंघने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।

(और पढ़े – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय)

रोजमेरी तेल के फायदे दर्द और सूजन को करें कम – Rosemary oil for Pain and Swelliing in hindi

 दर्द कैसा भी हो इससे राहत पाना हर कोई चाहता है। ऐसे में रोजमेरी तेल के इस्तेमाल से दर्द को दूर किया जा सकता है। शरीर के जिस जगह पर दर्द हो रहा है उस जगह पर इस तेल के मालिश से दर्द दूर किया जा सकता है।. ये तेल एंट्री इंफ्लेमेटरी की तरह काम करता है। इस तेल में कैफिक एसिड, रोस्मारिनिक एसिड, और α-पिनीन होता है जो सूजन और दर्द को कम करने के लिए काम करता है ।

रोजमेरी तेल के लाभ बढ़ाए पाचन शक्ति को – Rosemary oil for Digestion in hindi

शायद आपको पढ़ कर ये थोड़ा अजीब लगे लेकिन अध्ययन में पाया गया है कि इसके तेल को पेट और पैरों के नीचे लगाने से आपके पाचन क्रिया में आसानी होती है । इसके मुख्य वजह यह है कि इस तेल के इस्तेमाल से पेट में गेस्ट्रीक एसिड का बनना आसान हो जाता है । इस प्रकार, यह कब्ज, पेट में ऐंठन, सूजन, पेट फूलना और अपच  के लक्षणों को राहत देने में मदद कर सकते हैं।

रोजमेरी तेल के फायदे ज्वाइंट पेन से दें राहत – Rosemary oil for Joint pain in hindi

Rosemary/रोजमेरी तेल में कार्नासोल और कपूर का मात्रा होने के कारण यह दर्द को जल्दी दूर करने में मदद करता है। ये दर्द निवारक, एंट्री इंफ्लेमेटरी आदि की तरह काम करता है। इसलिए इसे  मांसपेशियों में दर्द, जोड़ों के दर्द, मोच, और गठिया के लक्षणों को कम करने के लिए उपयोग किया जाता है।

रोजमेरी तेल बढ़ाए ब्लड सर्कुलेशन को – Rosemary oil Good for blood circulation in hindi

स्वस्थ रहने के लिए ब्लड का प्रॉपर सर्कुलेशन होना बहुत जरूरी है। इसके इस्तेमाल से शरीर में रक्त का सही संचार होता है। अगर शरीर के हर हिस्से में खून सामान्य रूप से प्रवाहित हो रहा है तो दर्द से राहत मिलता है साथ ही ब्लड को जमने की प्रक्रिया नहीं होती है।

रोजमेरी तेल के फायदे सिर दर्द में है रामबाण – Rosemary oil for headache in hindi

सिर में लगातार दर्द रहता हो या फिर माइग्रेन की शिकायत हो तो आप रोजमेरी की तेल का उपयोग कर सकते है। आप अपने हथेलियों के बीच तेल के कुछ बूंद को रगड़ कर अपने नाक और मुंह के पास ले जाइए। ऐसा करने से आपके सिरदर्द से राहत मिल सकता है।

(और पढ़े – सिरदर्द दूर करने के घरेलू उपाय)

(और पढ़े – माइग्रेन और सिर दर्द में अंतर क्या होता है)

रोजमेरी तेल का प्रयोग दिलाएं सर्दी खांसी से राहत – Rosemary oil for cold and cough in hindi

Rosemary/रोजमेरी तेल  बैक्टेरियल और  वायरल  इंफेशन को दूर करने में मदद करता है। कफ, कोल्ड और फ्लू से राहत प्रदान करता है। रोजमेरी तेल को सुंघने पर ये एक शक्तिशाली एंटीबायोटिक एजेंट के रूप में कार्य करता है और इन संक्रमणों से लड़ता है।

(और पढ़े – खांसी का घरेलू उपचार, ड्राई कफ हो या वेट कफ)

रोजमेरी आयल के फायदे सांस लेने की परेशानी करे दूर – Rosemary oil for Respiratory system in hindi

अगर आपको भी सांस लेने में परेशानी का सामना करना पड़ता है तो आप एक बार रोजमेरी तेल का इस्तेमाल करके देखें। रोजमेरी तेल में मौजूद यूकेलीप्टल और कपूर आपके फेफड़ों में ब्रांकाई को फैलाने में मदद करते हैं और हवा के बेहतर प्रवाह की सहायता करते हैं। खाँसी, सर्दी और गले में खराबी को कम करने और श्वसन एलर्जी और साइनसिसिस के लक्षणों का इलाज करने जैसे कई श्वसन समस्याओं से राहत में मदद करता है।

(और पढ़े – ब्रॉन्काइटिस कारण लक्षण और बचने के उपाय)

रोजमेरी तेल के फायदे बालों के लिए – Rosemary oil for hair in hindi

बालों की ग्रोथ को बढ़ना हो या उन्हें सुन्दर बनाना हो रोजमेरी तेल के फायदे बालों के लिए किसी वरदान से कम नहीं इसके कवक विरोधी गुणों के कारण इसका उपयोग रूसी के उपचार में किया जा सकता है। इसके लिए रोजमेरी तेल की कुछ बूंदों को अपने शैम्पू में डाले और इससे अपने सिर और बालों को अच्छे से मसाज करें।

(और पढ़े – रूसी दूर करने के घरेलू उपाय)

एक अध्ययन में पाया गया कि जो लोग सात महीनों के लिए प्रतिदिन रोज़मरी और अन्य आवश्यक तेलों के साथ अपने सिर के बालों की मालिश कर रहे थे, उनके बाल दूसरे लोग जो इस तेल का इस्तेमाल नहीं कर रहे थे  के मुकाबले कम झड़ रहे थे।

रोजमेरी का तेल दिलाएं कैंसर से सुरक्षा – Rosemary Oil prevent for cancer in hindi

इस तेल पर कई शोध चल रहे है जिससे ये पता लगाया जा सके कि की इसके इस्तेमाल से कैंसर जैसे बीमारियों को ठीक किया जा सकता है। रोजमेरी तेल में पाया जाना वाला कैरोसोल कैंसर से लड़ने में मदद करता है। जानवरों पर किए गए अनुसंधान से पता चला है कि रोजमेरी तेल के उपयोग से  अग्न्याशय, स्तन, प्रोस्टेट, ग्रीवा, मूत्राशय, डिम्बग्रंथि के कैंसर, और रक्त कैंसर में असरदार साबित हुआ है।

रोजमेरी तेल के फायदे सेक्सुअल डिजीज से करता है बचाव – Rosemary oil for Sexual Disease in hindi

रोज़मेरी  तेल में दो बहुत ही महत्वपूर्ण कम्पाउंड होते है। इसमें पाए जाने वाले बीटा-पिनन और लिमोनेन में एंटीवायरल गुण होते है। इनकी मदद से हर्पीस वायरस की संक्रामकता को कम किया जा सकता है। हालांकि अभी तक एसटीडी पर अभी भी शोध जारी है। जिससे ये पता लगाया जा सके कि रोजमेरी तेल के इस्तेमाल से इसे ठीक किया जा सकता है।

(और पढ़े – सबसे सामान्य योन संचारित रोग की जानकारी)

रोजमेरी तेल के नुकसान – Rosemary Tel ke Nuksan in hindi

  • रोजमेरी के अधिक उपयोग से मानसिक विकार होने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
  • Rosemary/रोजमेरी में कई तरह के केमिकल होते है ऐसे में इससे एलर्जी होने का खतरा बना रहता है।
  • रोजमेरी तेल का सेवन कभी भी खाने में नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि यह तेल कई केमिकल्स के साथ पाया जाता है जिससे यह जहरीला भी हो सकता है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration