इन घरेलू उपायों से अपने-आप निकल जाएगी किडनी की पथरी - Home Remedies For Kidney Stone In Hindi
घरेलू उपाय

इन घरेलू उपायों से अपने-आप निकल जाएगी किडनी की पथरी – Home Remedies For Kidney Stone In Hindi

इन घरेलू उपायों से अपने-आप निकल जाएगी किडनी की पथरी - Home Remedies For Kidney Stone In Hindi

किडनी स्टोन या किडनी में पथरी होना एक आम समस्या है। गुर्दे की पथरी से बहुत से लोग पीड़ित होते हैं। किडनी की पथरी की समस्या किसी भी उम्र के लोगों को प्रभावित कर सकती है। यह महिला और पुरुष दोनों पर समान प्रभाव डालती है। किडनी की पथरी अगर छोटी हो तो यह अपने आप बाहर निकल आती है लेकिन मध्यम या बड़ी आकार की पथरी होने पर इलाज की जरुरत पड़ती है। पथरी के दर्द को कम करने के लिए कई घरेलू उपचार मौजूद है। इसके साथ ही किडनी की पथरी को कई घरेलू नुस्खे की मदद से भी तोड़ा भी जा सकता है। अगर गुर्दे की पथरी शुरूआती स्टेज में है तो पथरी के घरेलू उपायों से इसके लक्षणों को दूर किया जा सकता है। आइये जानते हैं किन घरेलू उपायों से अपने आप निकल जाएगी किडनी की पथरी।

किडनी स्टोन क्या है? – What are kidney stones in Hindi

किडनी स्टोन क्या है? - What are kidney stones in Hindi

गुर्दे की पथरी या किडनी स्टोन क्रिस्टलयुक्त खनिज और लवण होते हैं जो डिहाइड्रेशन (पानी की कमी) के कारण बनते हैं। गुर्दे में पथरी तब बनती है जब मिनरल और साल्ट जैसे कैल्सियम ऑक्जलैट किडनी में क्रिस्टलीकृत होकर जमने लगते हैं और कठोर होकर जमा हो जाते हैं। हालांकि पथरी किडनी में ही बनती है लेकिन यह यूरिनरी ट्रैक्ट को भी प्रभावित करती है। किडनी स्टोन को कैल्कुली (calculi) या यूरोलिथियासिस भी कहते हैं।

किडनी की पथरी के कारण – Causes of kidney stones in Hindi

किडनी की पथरी के कारण - Causes of kidney stones in Hindi

गुर्दे में पथरी या किडनी स्टोन आमतौर पर एक नहीं बल्कि कई कारणों से होती है। गुर्दे की पथरी तब होती है जब यूरिन में कैल्शियम, ऑक्जलेट और यूरिक एसिड जैसे पदार्थ जमा होकर  अधिक मात्रा में क्रिस्टल का निर्माण करते हैं और यूरिन के फ्लुइड को पतला कर देते हैं। इस दौरान यूरिन में क्रिस्टल को एक दूसरे से जोड़ने से रोकने वाले पदार्थों की कमी हो जाती है जिससे किडनी में पथरी बन जाती है। इसके अलावा यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन, रिनल ट्यूबुलर एसिडोसिस, हाइपरथायरॉयडिज्म सहित कई बीमारियों के कारण किडनी की पथरी हो सकती है।

(और पढ़े – किडनी रोग क्या है कारण, लक्षण, जांच, इलाज और रोकथाम…)

किडनी की पथरी के लक्षण – Symptoms of kidney stones in Hindi

किडनी की पथरी के लक्षण - Symptoms of kidney stones in Hindi

आमतौर पर किडनी स्टोन के लक्षण तब तक पता नहीं चल पाते हैं जब तक पथरी किडनी के चारों ओर घूमने नहीं लगती या किडनी और ब्लैडर के बीच स्थित मूत्रवाहिनी में नहीं आ जाती है। उसके बाद किडनी की पथरी के ये लक्षण सामने आते हैं:

  • पसलियों के नीचे और पीठ में तेज दर्द
  • पेशाब के दौरान दर्द
  • गुलाबी, लाल या भूरे रंग की यूरिन
  • पेशाब से तीक्ष्ण दुर्गंध आना
  • मितली और उल्टी होना
  • बार-बार पेशाब लगना
  • सामान्य से अधिक पेशाब होना
  • इंफेक्शन
  • ठंड लगना और बुखार
  • कम मात्रा में पेशाब होना
  • इसके साथ ही किडनी स्टोन के कारण शरीर के विभिन्न हिस्सों में हल्का और गंभीर दर्द भी होता रहता है।

(और पढ़े – यूरिन का कलर कैसा होना चाहिए और जाने पेशाब का रंग बदलने का कारण…)

किडनी स्टोन के लिए घरेलू इलाज – Home remedies for kidney stone in Hindi

किडनी स्टोन के लिए घरेलू इलाज - Home remedies for kidney stone in Hindi

गुर्दे की पथरी एक आम समस्या है जिसे घरेलू उपचार से भी काफी हद तक ठीक किया जा सकता है। घर में ऐसी कई चीजें मौजूद होती हैं जिनमें भरपूर मात्रा में औषधीय गुण पाये जाते हैं और ये वस्तुएं किडनी की पथरी को बढ़ने से रोकने के साथ ही दर्द में भी राहत देती हैं। आइये जाने किडनी की पथरी को ठीक करने के 10 घरेलू नुस्खे।

किडनी की पथरी का घरेलू इलाज पानी

किडनी की पथरी का सबसे आसान घरेलू उपचार है पानी। किडनी स्टोन होने पर रोजाना सामान्य रुप से 8 गिलास पानी पीने की बजाय 12 गिलास पानी पीने से पथरी का ग्रोथ रुक जाता है। वास्तव में गुर्दे की पथरी का एक बड़ा कारण डिहाइड्रेशन (पानी की कमी) है। शरीर में पानी की कमी होने पर यह बीमारी उत्पन्न होती है।

पानी किसी भी बीमारी को दूर करने में कितना मददगार साबित हो सकता है, इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं की केवल पानी पीने से ही पथरी को बाहर किया जा सकता है। इसलिए अधिक से अधिक पानी पीने के साथ ही यूरिन के रंग पर भी ध्यान देना चाहिए। आपके यूरिन का रंग लाइट और कम पीला होना चाहिए। यदि आपका यूरिन का रंग गहरा पीला है तो इसका मतलब यह है कि आपके शरीर में पानी की कमी हो गई है। अगर गुर्दे की पथरी का आकर छोटा है तो इसे अधिक मात्रा में पानी पीकर बाहर निकाला जा सकता है।

(और पढ़े – स्वस्थ रहने के लिए इन 6 समय पर जरूर पीएं एक गिलास पानी, बीमारियों से रहेंगे हमेशा दूर…)

गुर्दे की पथरी का देसी इलाज नींबू पानी

गुर्दे की पथरी का देसी इलाज नींबू पानी

नींबू से पथरी का इलाज किया जा सकता है। नींबू से पथरी का इलाज भी बहुत आसान है और इस घरेलू उपाय को बहुत से लोग आजमाते हैं। नींबू में साइट्रेट नामक रसायन पाया जाता है जो गुर्दे में कैल्शियम स्टोन बनने से रोकता है। इसके साथ ही साइट्रेट किडनी की पथरी को छोटी-छोटी पथरी में ब्रेक करता है और उन्हें बढ़ने से रोकता है। किडनी स्टोन के घरेलू इलाज के रुप में सबसे पहले एक बार सुबह खाली पेट नींबू पानी और रात के खाने के कुछ घंटे पहले नींबू पानी का सेवन करना चाहिए। यह घरेलू उपाय करने से कई बार किडनी स्टोन को निकालने के लिए ऑपरेशन की जरुरत भी नहीं पड़ती है। अगर आप बिना सर्जरी के किडनी स्टोन को ठीक करना चाहते हैं (Remove Kidney Stones Without Surgery), तो आपको यह नुस्खा रोज करना होगा।

(और पढ़े – नींबू पानी कब और कैसे पिये…)

किडनी की पथरी निकालने का घरेलू नुस्खा तुलसी का रस

किडनी की पथरी निकालने का घरेलू नुस्खा तुलसी का रस

पथरी तोड़ने की दवा के रुप में तुलसी के रस का इस्तेमाल भी किया जाता है। यह किडनी की पथरी निकालने का घरेलू नुस्खा माना जाता है। जिससे किडनी स्टोन से राहत पाने में मदद मिलती है। तुलसी में एसिटिक एसिड पाया जाता है जो गुर्दे की पथरी को तोड़ता है और दर्द कम करने में मदद करता है। इसके साथ ही तुलसी पोषक तत्वों से भरपूर है।

आमतौर पर तुलसी को पाचन और सूजन की समस्याओं को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होने के कारण तुलसी का रस किडनी की पथरी के घरेलू उपचार में मदद करता है। किडनी की पथरी निकालने के लिए तुलसी की ताजी पत्तियों की चाय दिन में कई बार सेवन करें। इसके साथ ही तुलसी की पत्तियों का जूस पीने से भी गुर्दे की पथरी ठीक हो जाती है। हालांकि छह सप्ताह से ज्यादा तुलसी के रस का सेवन नहीं करना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

गुर्दे की पथरी के दर्द के लिए सेब का सिरका

गुर्दे की पथरी के दर्द के लिए सेब का सिरका

किडनी की पथरी का देसी इलाज है सेब का सिरका। इसमें पर्याप्त मात्रा में एसिटिक एसिड पाया जाता है जो गुर्दे की पथरी को गलाने में मदद करता है। इसके साथ ही यह पथरी के कारण होने वाले दर्द को भी कम करता है। किडनी स्टोन को गलाने के लिए एक गिलास पानी में एक चम्मच एपल साइडर विनेगर मिलाकर दिन में कई बार सेवन करें। सेब के सिरके का इस्तेमाल सलाद में भी किया जा सकता है। हालांकि यदि आपको डायबिटीज है या आप इंसुलिन, डिगॉक्सिन या कोई डाइयूरेटिक दवा ले रहे हों तो आपको सेब के सिरके का सेवन नहीं करना चाहिए।

(और पढ़े – सेब के जूस के फायदे, उपयोग और नुकसान…)

किडनी स्टोन को बढ़ने से रोकने के लिए अजवाइन का पानी

किडनी स्टोन को बढ़ने से रोकने के लिए अजवाइन का पानी

किडनी की पथरी के लिए अजवाइन का रस बेहद फायदेमंद है। यह विषाक्त पदार्थों को दूर करके किडनी स्टोन बनने से रोकने में मदद करती है। अजवाइन में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो पेशाब की मात्रा को बढ़ाता है और किडनी स्टोन को पेशाब के माध्यम से बाहर निकालने में प्रभावी तरीके से कार्य करता है। अजवाइन के रस को पानी में मिलाएं और पूरे दिन में कई पानी सेवन करें। लेकिन यदि आपको किसी तरह की ब्लीडिंग होती हो  या लो ब्लड प्रेशर से पीड़ित हों एवं दवाओं का सेवन कर रहे हों तो डॉक्टर से परामर्श लेकर ही अजवाइन के रस का सेवन करना चाहिए।

पथरी के घरेलू उपचार है अनार का जूस

पथरी के घरेलू उपचार है अनार का जूस

किडनी स्टोन के असहनीय दर्द के इलाज के लिए अनार का रस उपयोगी होता है। किडनी से जुड़ी सभी समस्याओं के लिए अनार के रस का इस्तेमाल सदियों से होता आ रहा है। यह सिस्टम से पथरी और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। अनार के रस में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो यूरिन के एसिडिक लेवल को कम करता है और गुर्दे की पथरी को बढ़ने से रोकता है। दिन में कई बार अनार का जूस पीने से किडनी स्टोन के असहनीय दर्द से राहत पाया जा सकता है।

(और पढ़े – अनार खाने के फायदे और नुकसान…)

किडनी स्टोन का इलाज व्हीटग्रास जूस

किडनी स्टोन का इलाज व्हीटग्रास जूस

व्हीटग्रास जूस पथरी के घरेलू इलाज के काम आता है। व्हीटग्रास जूस में कई तरह के पोषक तत्व पाये जाते हैं जो यूरिन को बढ़ाते हैं और पेशाब के माध्यम से किडनी स्टोन को बाहर निकालने में मदद करते हैं। किडनी स्टोन को निकालने के लिए रोजाना दिन में कई बार व्हीटग्रास जूस का सेवन करना चाहिए। इससे गुर्दे की पथरी बढ़ती भी नहीं है और उससे होने वाले दर्द में भी आराम मिलता है।

किडनी की पथरी निकालने का आयुर्वेदिक उपाय डेंडेलियन रूट जूस

किडनी की पथरी निकालने का आयुर्वेदिक उपाय डेंडेलियन रूट जूस

पथरी के इलाज के लिए डेंडेलियॉन की जड़ आयुर्वेदिक टॉनिक मानी जाती है जो पित्त के उत्पादन को स्टीमूलेट करती है। यह विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालती है और यूरिन की मात्रा को बढ़ाती है और पाचन को बेहतर बनाने में भी मदद करती है। डेंडेलियॉन में विटामिन ए, बी, सी और डी सहित पोटैशियम, आयरन और जिंक जैसे खनिज पाये जाते हैं। पथरी को बढ़ने से रोकने और दर्द से राहत पाने के लिए रोजाना डेंडेलियॉन की चाय दिनभर में चार से पांच बार सेवन करने से पथरी अपने आप टूट जाती है।

गुर्दे की पथरी निकालने के लिए वर्जिन ऑलिव ऑयल

गुर्दे की पथरी निकालने के लिए वर्जिन ऑलिव ऑयल

एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल किडनी स्टोन का घरेलू इलाज है। यह ऑयल काभी गाढ़ा और पोषक तत्वों से समृद्ध होता है जो मूत्रमार्ग को चिकना करके किडनी स्टोन को बाहर निकालने में मदद करता है। एक गिलास पानी में वर्जिन ऑलिव ऑयल की कुछ बूंदे मिलाकर सुबह दोपहर और शाम को सेवन करने से किडनी स्टोन टूट जाता है और दर्द एवं बेचैनी भी कम हो जाती है।

किडनी की पथरी तोड़ने की आयुर्वेदिक दवा राजमा का पानी

पथरी तोड़ने की आयुर्वेदिक दवा राजमा का पानी

राजमा से बने पानी का उपयोग पथरी तोड़ने की आयुर्वेदिक दवा के रूप में और गुर्दे के स्वास्थ्य में सुधार के लिए किया जा सकता है। यह किडनी में बन रहे पत्थरों को घोलने और बाहर निकालने में भी मदद करता है। बस राजमा को पानी पकाएं और दिन भर में इसके कुछ गिलास पीना का सेवन करें।

(और पढ़े – किडनी को साफ करने के उपाय…)

आपको चिकित्सक को कब दिखाना है – When to see your doctor in Hindi

आपको चिकित्सक को कब दिखाना है - When to see your doctor in Hindi

अपने चिकित्सक से मिलें यदि आप छह सप्ताह के भीतर किडनी स्टोन को मूत्र के माध्यम से बाहर करने में असमर्थ हैं या आपको कोई गंभीर लक्षणों का अनुभव होता है जिनमें शामिल हैं:

आपका डॉक्टर यह निर्धारित करेगा कि आपको किडनी स्टोन को बाहर करने में मदद करने के लिए दवा या किसी अन्य चिकित्सा की आवश्यकता है या नहीं।

किडनी स्टोन का होना आपकी सेहत पर बुरा असर डाल सकता हैं। इसलिए यह जरूरी हो जाता है कि आप गुर्दे की पथरी के लक्षण को पहचान कर समय रहते ही इसके लिए इलाज तलाश लें। अक्सर लोग किडनी स्टोन के घरेलू उपाय (Kidney Stone Home Remedies in Hindi) आजमाते हैं, जो इस्तेमाल में आसान और किडनी स्टोन को घोलकर पेशाब के माध्यम से बाहर निकालने में मददगार होते हैं। यदि आप भी किडनी स्टोन की बीमारी से जूझ रहें है तो इस लेख में बताये गए किडनी स्टोन को निकालने के लिए घरेलू इलाज को आजमा सकते हैं। हालांकि यह थोड़ा असुविधाजनक हो सकता है, लेकिन अपने दम पर गुर्दे की पथरी को बाहर करना संभव है।

पथरी ठीक होने तक उपचार जारी रखना सुनिश्चित करें, और शराब न पियें

आप इन उपायों को अपने सामान्य आहार में शामिल कर सकते हैं और पथरी की बीमारी ठीक होने के बाद भी इनका उपयोग जारी रख सकते हैं। यह फिर से पथरी बनने से रोकने में मदद कर सकते है। लेकिन किसी भी प्रकार की दवाओं या जड़ी-बूटियों को लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करना सुनिश्चित करें।

और पढ़े –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration