टी बैग के उपयोग और फायदे इन हिंदी – Tea Bag Use and Benefits in Hindi

टी बैग के उपयोग और फायदे इन हिंदी – Tea Bag Use and Benefits in Hindi
Written by Pratistha

दिन की शुरुआत करने और शरीर की थकान को दूर करने के लिए स्‍वाभाविक है कि आप चाय का उपयोग करते होगें। लेकिन उपयोग किये जाने के बाद आप उन टी बैग का क्‍या करते हैं क्‍या आप उन्‍हें फेंक देते हैं। यदि ऐसा है तो टी बैग के उपयोग और फायदे जानने के बाद आप ऐसा नहीं करेगें। टी बैग के फायदे स्‍वास्थ्‍य के साथ ही सौंदर्य लाभ प्राप्‍त करने के लिए जानें जाते है। आपको जानकर हैरानी होगी कि आपके द्वारा उपयोग किये जाने के बाद भी टी बैग के फायदे होते हैं। टी बैग के लाभों में घाव का उपचार, फोड़ों का इलाज, खुजली से राहत, त्‍वचा स्‍वास्‍थ्‍य आदि शामिल हैं। आइए टी बैग के इन लाभों को विस्‍तार से जाने।

  1. टी बैग के लाभ सनर्बन से बचाएं – Tea Bag for Sunburn in Hindi
  2. टी बैग करे मुंहासों का इलाज – Tea Bag kare muhase ka ilaj in Hindi
  3. टी बैग के फायदे कीट के काटने में – Tea Bag Benefits for Pest Cutting in Hindi
  4. टी बैग उपयोगी है गार्डन के लिए – Tea Bag Use For Garden in Hindi
  5. टी बैग करे त्‍वचा को टोन – Tea Bag For Tone your Skin in Hindi
  6. टी बैग है डार्क सर्कल्‍स का घरेलू उपाय – Tea Bag for Dark Circles in Hindi
  7. टी बैग बेनिफिट्स फॉर ऑयली स्किन – Tea Bag Benefits for Oily Skin in Hindi
  8. टी बैग्‍स करें फोड़ों का उपचार – Tea Bags for Boils treatment in Hindi
  9. टी बैग का इस्‍तेमाल बदबू दूर करे – Tea Bags Benefits for Neutralize Household Odours in Hindi
  10. टी बैग के औषधीय गुण बालों के लिए – Tea Bags Benefits for Hair in Hindi
  11. टी बैग का उपयोग बर्तनों को साफ करे – Tea Bag ka Upyog Cookware ko Saaf kare in Hindi

टी बैग के लाभ सनर्बन से बचाएं – Tea Bag for Sunburn in Hindi

टी बैग के लाभ सनर्बन से बचाएं – Tea Bag for Sunburn in Hindi

सूरज की यूवी किरणें (UV Rays) आपकी तवचा को नुकसान पहुंचा सकती हैं। जिसके कारण सूरज की तेज धूप के संपर्क में आने से त्‍वचा में लाल चक्कते, जलन और सनर्बन जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं। यदि आप भी ऐसी समस्‍या से परेशान हैं तो टी बैग का उपयोग कर सकते हैं। आप सनर्बन प्रभावित क्षेत्र में टी बैग को लगाएं, ऐसा करने से आपको तत्‍काल राहत मिलेगी। अध्‍ययनों से पता चलता है कि ग्रीन टी बैग में एपिगैलोकैटेचिन-3-गैलेट (ईजीसीजी) (epigallocatechin-3-gallate) (EGCG) नामक यौगिक होता है।

जो सनस्‍क्रीन के रूप में काम करता है। इसके अलावा यह यूवी विकिरण के कारण होने वाली डीएनए की क्षति को भी रोकने में सहायक होता है। आप भी गर्मीयों के दौरान सनर्बन का उपचार करने के लिए ग्रीन टी बैग का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़े – गर्मी में त्वचा की देखभाल कैसे करें…)

टी बैग करे मुंहासों का इलाज – Tea Bag kare muhase ka ilaj in Hindi

टी बैग करे मुंहासों का इलाज – Tea Bag kare muhase ka ilaj in Hindi

आप अपने चेहरे में मौजूद मुंहासों का इलाज करने के लिए टी बैग का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। मवाद से भरे फुंसी या मुंहासे न केवल आपकी सुंदरता को कम करते हैं बल्कि ये बहुत ही कष्‍टदायक भी होते हैं। लेकिन आपको चिंता करने की आवश्‍यकता नहीं है क्‍योंकि मुंहासों का इलाज करने के लिए टी बैग प्रभावी होते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि टी बैग में एंटीऑक्‍सीडेंट और रोगाणुरोधी गुण होते हैं। इन गुणों के कारण टी बैग का उपयोग करने से त्‍वचा और मुंहासों में मौजूद बैक्‍टीरिया को नष्‍ट करने में मदद मिलती है।

एक अध्‍ययन के मुताबिक हल्‍के मुंहासे वाले लोगों को 6 सप्‍ताह तक टी बैग का उपयोग लोशन के रूप में कराया गया। परिणाम स्‍वरूप उनके चेहरे में मौजूद पिम्‍पल्‍स की संख्‍या में लगभग 58 प्रतिशत तक की कमी देखी गई। इसलिए यदि आप भी मुंहासों से छुटकारा चाहते हैं तो ग्रीन टी बैग का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय…)

टी बैग के फायदे कीट के काटने में – Tea Bag Benefits for Pest Cutting in Hindi

टी बैग के फायदे कीट के काटने में – Tea Bag Benefits for Pest Cutting in Hindi

टी बैग में एंटीऑक्‍सीडेंट और रोगाणुरोधी गुण होने के साथ ही सूजन को कम करने वाले गुण भी होते हैं। जिसके कारण टी बैग के फायदे कीट काटने के प्रभाव को कम करने में सहायक होते हैं। टी बैग में कसैले गुण होते हैं जो त्‍वचा में कीट काटने से होने वाले दर्द या सूजन को कम कर सकते हैं। इसके लिए आप टी बैग को गीला करें और प्रभावित क्षेत्र में रखें जहां आपको किसी कीट ने काटा है। कुछ देर तक टी बैग को दर्द वाले क्षेत्र में दबाकर रखने से सूजन और दर्द दोनों से राहत मिलती है।

(और पढ़े – सूजन के कारण, लक्षण और कम करने के घरेलू उपाय…)

टी बैग उपयोगी है गार्डन के लिए – Tea Bag Use For Garden in Hindi

टी बैग उपयोगी है गार्डन के लिए – Tea Bag Use For Garden in Hindi

सभी लोगों को हरियाली और फूलों से प्‍यार होता है। इसलिए हम में से अधिकांश लोग जगह की कमी होने के बाद भी अपने घरों में गमलों या छोटे बगीचे बनाते हैं। लेकिन आपके द्वारा उपयोग किये जाने वाले टी बैग आपकी बागवानी या पौधों के लिए भी फायदेमंद हो सकते हैं। जिसके कारण आप अपने गार्डन में लगे पौधों को स्‍वस्‍थ रख स‍कते हैं। इसके लिए आपको अलग से ज्यादा मेहनत करने की आवश्‍यकता नहीं है। आप गमलों में या गार्डन में लगे पौधों के आसपास इस्‍तेमाल किये हुए टी बैग को फाड़ कर फैलाएं। ऐसा करने से आपके पौधों को अतिरिक्‍त मात्रा में पोषक तत्‍व और अन्‍य खनिज पदार्थ प्राप्‍त होते हैं। टी बैग आपके पौधों के लिए आवश्‍यक नाइट्रोजन को जारी करता है। जो कि पौधों के बेहतर विकास और स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही अच्‍छा होता है।

(और पढ़े – घर पर पौधों की देखभाल कैसे करें…)

टी बैग करे त्‍वचा को टोन – Tea Bag For Tone your Skin in Hindi

टी बैग करे त्‍वचा को टोन – Tea Bag For Tone your Skin in Hindi

आप अपने चेहरे की त्‍वचा को सुंदर बनाने और कसने के लिए टी बैग का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। टी बैग में टैनिन नामक घटक होता है जो आपकी त्‍वचा के छिद्रों को कसने के लिए प्रोटीन के साथ प्रतिक्रिया करता है। यदि आप भी अपनी त्वचा को टोन करने के उपाय ढूंढ रहे हैं तो टी बैग आपकी मदद कर सकते हैं। सबसे अच्‍छी बात यह है कि इसे उपयोग करने के लिए आपको किसी प्रकार का अतिरिक्‍त खर्च नहीं करना पड़ता है। बस आप अपने उपयोग किये हुए टी बैग का इस्‍तेमाल करें। आप अपनी त्‍वचा को टोन करने के लिए चाय की पत्ति के साथ पुदीने को भी शामिल कर सकते हैं।

आप इन दोनों घटकों आपस में मिलाएं और इन्‍हें गीला करने के बाद आपने चेहरे पर लगाएं। यह आपको ठंडा और सुखद अनुभव कराता है। इस तरह से आप अपने चेहरे की त्‍वचा को टोन करने के लिए टी बैग का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़े – स्किन टाइट करने के घरेलू उपाय…)

टी बैग है डार्क सर्कल्‍स का घरेलू उपाय – Tea Bag for Dark Circles in Hindi

टी बैग है डार्क सर्कल्‍स का घरेलू उपाय – Tea Bag for Dark Circles in Hindi

जो लोग देर रात तक जागते हैं या पूरी नींद नहीं लेते हैं ऐसे लोगों को अक्‍सर डार्क सर्कल्‍स और आंखों की थकान जैसी समस्‍याएं होती है। देर रात तक जागना लोगों के लिए तनाव का कारण भी हो सकता है। लेकिन आप इन सभी समस्‍याओं को दूर करने के लिए टी बैग का उपयोग कर सकते हैं इसलिए आप गर्म पानी में टी बैग को गीला करें और अतिरिक्‍त पानी को टी बैग से निचोड़कर अलग कर दें। इसके बाद अपनी आंखों को बंद करें और टी बैग्‍स को आंखों के ऊपर रखें। बंद आंखों  पर लगभग 20 मिनिट तक इन टी बैग्स को रखने से आपकी आंखों को आराम मिलेगा।

इसके साथ ही नियमित रूप से कुछ दिनों तक उपयोग करने पर यह डार्क सर्कल को भी कम करने में प्रभावी होता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि टी बैग में टैनिन नामक घटक अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहते हैं जो थकी हुई आंखों को तरोताजा करता है।

(और पढ़े – डार्क सर्कल हटाने के आसान तरीके…)

टी बैग बेनिफिट्स फॉर ऑयली स्किन – Tea Bag Benefits for Oily Skin in Hindi

टी बैग बेनिफिट्स फॉर ऑयली स्किन – Tea Bag Benefits for Oily Skin in Hindi

बहुत सी महिलाएं और पुरुष तेलीय त्‍वचा की समस्‍या से परेशान रहते हैं। कुछ लोगों का मानना है कि तेलीय त्‍वचा होने के कारण मुंहासे होने की संभावना अधिक होती है। आप अपनी त्‍वचा को तेल मुक्‍त बनाने के लिए टी बैग का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। एक अध्‍ययन के अनुसार नियमित रूप से 8 सप्‍ताह तक ऑयली स्किन प्रभावित लोगों के गालों में 3 प्रतिशत ग्रीन टी अर्क का उपयोग कराया गया। जिससे यह निष्कर्ष निकला कि उन लोगों की त्‍वचा में तेल उत्‍पादन की मात्रा में कमी आई।

ग्रीन टी में अल्‍फा-निलोलेनिक एसिड और एपिगलोकेटेशिन गलेट (α-linoleic acid and epigallocatechin gallate) जैसे कुछ यौगिक होते हैं जो आपके तेल ग्रंथियों में मौजूद एंजाइम जिसे 5α-रिडक्टेस (5α-reductase) के नाम से जाना जाता है इनकी गतिविधि को रोकने में मदद करते हैं। यह एंजाइम ही आपकी ऑयली स्किन का कारण होता है। जिसका उपचार करने के लिए आप ग्रीन टी बैग को गीला करें और अपने चेहरे पर इससे हल्‍की मालिश करें।

(और पढ़े – गर्मियों में इन आसान तरीकों करें ऑयली स्किन की देखभाल…)

टी बैग्‍स करें फोड़ों का उपचार – Tea Bags for Boils treatment in Hindi

टी बैग्‍स करें फोड़ों का उपचार – Tea Bags for Boils treatment in Hindi

घाव और कट आदि के उपचार के लिए टी बैग्स प्रभावी माने जाते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि इन टी बैग्स में जीवाणुरोधी और एंटीऑक्‍सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं। जिसके कारण गीले या नमी युक्‍त टी बैग्‍स का उपयोग घाव या कट के ऊपर करने से यह उन्‍हें जल्‍दी ठीक करने में मदद करता है। चाय में जीवाणुरोधी गुणों के लिए टैनिन जिम्‍मेदार होता है जो कि संक्रमण को रोकने में सहायक होता है। इसके अलावा घाव आदि पर टी बैग का उपयोग करने से प्रभावित क्षेत्र में सूजन और दर्द जैसे लक्षणों को भी कम करने में मदद मिलती है।

(और पढ़े – दाद खाज और खुजली के रामबाण इलाज…)

टी बैग का इस्‍तेमाल बदबू दूर करे – Tea Bags Benefits for Neutralize Household Odors in Hindi

टी बैग का इस्‍तेमाल बदबू दूर करे – Tea Bags Benefits for Neutralize Household Odours in Hindi

सामान्‍य रूप से घर के कोनों में, किचिन में नमी की अधिक मात्रा होने के कारण बदबू आने लगती है। यह समस्‍या विशेष रूप से बरसात के दिनों में होती है। लेकिन आप घर में से आने वाली इस प्रकार की बदबू को दूर करने के लिए टी बैग्स का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप टी बैग्‍स को मलमल के कपड़े में रखें और घर के कोनों और नमी वाली जगह पर इन्‍हें रखें। यह घर की बदबू को दूर करने के लिए डियोड्राइजिंग एजेंट की तरह काम करता है। आप इन टी बैग्‍स को फ्रिज में भी रख सकते हैं। जिससे खाद्य पदार्थों की कई प्रकार की गंध को कम किया जा सकता है।

(और पढ़े – किचन की सफाई करने का तरीका…)

टी बैग के औषधीय गुण बालों के लिए – Tea Bags Benefits for Hair in Hindi

टी बैग के औषधीय गुण बालों के लिए – Tea Bags Benefits for Hair in Hindi

त्‍वचा की तरह ही चाय की पत्‍ती या टी बैग के फायदे बालों के लिए होते हैं। आप अपने बालों के लिए टी बैग का उपयोग कंडीशनिंग के लिए भी कर सकते हैं। इसके लिए आप उपयोग किये हुए टी बैग से चाय की पत्ति निकालें और शैम्‍पू के बाद अपने बालों में लगाकर हल्‍की मालिश करें। ऐसा करने से आपके बालों और स्‍कैल्‍प को अतिरिक्‍त पोषण प्राप्‍त हो सकता है।

(और पढ़े – बालों को बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां…)

टी बैग का उपयोग बर्तनों को साफ करे – Tea Bag ka Upyog Cookware ko Saaf kare in Hindi

आप अपने द्वारा रसोई में उपयोग किये जाने वाले बर्तनों को साफ करने और लोहे के बर्तनों को जंग से बचाने के लिए भी टी बैग्‍स का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप उपयोग किये हुए नमीयुक्‍त टी बैग्‍स को बर्तन के हर क्षेत्र में रगड़ें। टी बैग में मौजूद टैनिन ऑक्‍सीकरण और जंग को रोकने में प्रभावी होता है।

(और पढ़े – फ्रिज की सफाई कैसे करें, तरीका और घरेलू उपाय…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration