घर पर पौधों की देखभाल कैसे करें – How To Care Plants At Home In Hindi

घर पर पौधों की देखभाल कैसे करें - How To Care Plants At Home In Hindi
Written by Anvita

How To Care Plants At Home In Hindi आप अपने घर को सजाने के लिए अक्‍सर हरे और छोटे पौधों का उपयोग करते हैं। लेकिन क्‍या आप घर पर पौधों की देखभाल कैसे करें यह जानते हैं। हरियाली सभी को अपनी तरफ आकर्षित करती है। छोटे – छोटे हरे पौधों से घर को सजाना आज एक फैशन के रूप में लोकप्रिय हो रहा है। घर पर इन पौधों को लगाना हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छा होता है। घर पर पौधे लगाना उन लोगों के लिए भी बहुत अच्‍छा हो सकता है जिनके घरों के आसपास बगीचा या गार्डन नहीं हैं। वे अपने घर के छोटे से हिस्‍से में इस तरह की बागवानी लगा सकते हैं। यदि आप भी ऐसा सोच रहे हैं तो पहले इन पौधों की देखभाल के तरीके जान लें। इस आर्टिकल में आप घर पर पौधों की देखभाल कैसे करें यह जान सकते हैं।

  1. इंडोर प्‍लांट क्‍या है – What Is Indoor Plant In Hindi
  2. घर के अंदर छोटे सजावटी पौधे कैसे लगाते हैं – How Do You Plant Decorative Indoor Plants In Hindi
  3. इंडोर प्‍लांट के गुण क्‍या होना चाहिए – What Should Be The Quality Of Indoor Plant In Hindi
  4. इंडोर प्लांट को ग्रो करने के लिए कितनी रोशनी चाहिए – How Much Light Needed By Indoor Plant To Grow In Hindi
  5. किन पौधों को इंडोर पौधा माना जाता है – Which Plants Are Considered As Indoor Plant In Hindi
  6. सबसे अच्‍छा इंडोर प्‍लांट कौन सा है – Which Is The Best Indoor Plant In Hindi
  7. घर में लगे पौधों के गमले कैसे बदलते हैं – How To Change Indoor Plant Pot In Hindi
  8. इंडोर प्‍लांट की सुरक्षा कैसे करें – How To Protect Indoor Plants In Hindi
  9. इंडोर पौधों की छटाई कैसे करें – How To Prune Indoor Plants In Hindi
  10. इंडोर प्‍लांट के नष्‍ट होने के कारण – What Are The Reasons Of Indoor Plants Die In Hindi
  11. क्‍या घर में लगाने वाले पौधे महंगे होते हैं – Are Indoor Plants Expensive In Hindi
  12. इंडोर प्‍लांट के लिए सबसे अच्‍छा उर्वरक – The Best Fertilizer For Indoor Plant In Hindi
  13. इंडोर प्‍लांट के कीड़ों से कैसे छुटकारा पाएं – How To Get Rid Of Indoor Plant Insects In Hindi
  14. इंडोर प्‍लांट को पानी कब देना चाहिए – When Should The Indoor Plant Water In Hindi

इंडोर प्‍लांट क्‍या है – What Is Indoor Plant In Hindi

इंडोर प्‍लांट क्‍या है - What Is Indoor Plant In Hindi

घरेलू पौधे वे पौधे होते हैं जिन्‍हें आप अपने घर के अंदर लगा सकते हैं। आप अपने घर की सुंदरता को बढ़ाने के लिए कई प्रकार के उष्णकटिबंधीय (Tropical) पौधों को अपने घर पर लगा सकते हैं। इस प्रकार के पौधे न केवल आपके घर की सुंदरता को बढ़ाते हैं बल्कि आपके आस-पास के माहौल को भी खुशनुमा बनाए रखने में स‍हायक होते हैं।

(और पढ़े – घर की हवा को शुद्ध करने वाले 20 पौधे…)

घर के अंदर छोटे सजावटी पौधे कैसे लगाते हैं – How Do You Plant Decorative Indoor Plants In Hindi

अधिकतर घर मे लगाए जाने वाले इंडोर प्‍लांट पहले से ही किसी गमले में या कंटेनरों में मिलते हैं। इसलिए उन्‍हें अलग से लगाने की आवश्‍यकता नहीं होती है। आमतौर पर घर पर अलग से पौधों के लगाने के दो ही कारण होते हैं। यदि आपके द्वारा लगाया गया पौधा बहुत बड़ा हो गया है तो इसे दूसरे बड़े कंटेनर में लगाने की आवश्‍यकता होती है। या फिर आप इस पौधे की जड़ को अलग से उगाने के लिए किसी दूसरे कंटेनर में लगा सकते हैं।

अधिकांश पौधों को ऐसी जगह पर रखना चाहिए जहां उन्‍हें सूर्य की पर्याप्‍त रोशनी मिल सके। क्‍योंकि इन पौधों को भी सब्जियों और अन्‍य अनाजों के पौधों की तरह ही भोजन प्राप्त करने के लिए सूर्य के प्रकाश की आवश्‍यकता होती है। इसलिए इन पौधों को कम से कम 8 घंटे की धूप मिलना आवश्‍यक है।

इंडोर प्‍लांट के गुण क्‍या होना चाहिए – What Should Be The Quality Of Indoor Plant In Hindi

आप अपने घर के लिए इंडोर प्‍लांट चुनते समय पौधे के गुणों के आधार पर चयन कर सकते हैं। इसके लिए आप उन पौधों के आकार, प्रकृति और अन्‍य गुणों को सावधानी से परखें।

पौधों की जड़ों की जांच – आपके लिए यह बहुत ही आवश्‍यक है कि इंडोर प्‍लांट चुनते समय आप इनकी जड़ों की अच्‍छी तरह से जांच कर लें। इसके लिए आपको इस पौधे को उखाड़ने की आवश्‍यकता नहीं है। लेकिन यदि पौधा बहुत ही छोटा हो तो ऐसा भी किया जा सकता है। किसी भी स्‍वस्‍थ्‍य पौधे की जड़ें मोटी होती हैं जिनका रंग हल्‍का होता है।

इसके अलावा पौधों के पत्‍तों को भी देखकर और छू कर इनके स्‍वास्‍थ्‍य का पता लगाया जा सकता है। अक्‍सर आप हल्‍के मोटे पत्‍ते वाले पौधों का चुनाव करें।

रोग की जांच करना – आप अपने द्वारा चुने जाने वाले पौधों की जांच कर सकते हैं। यदि उनमें किसी प्रकार का कीट लगा हो या वे किसी प्रकार से बीमार हों तो ऐसे पौधों को घर न लें जाएं। इसकी जांच करने के लिए आप देख सकते हैं कि पौधे के पत्‍तों में सफेद दाग तो नहीं हैं। इसके अलावा इसकी पत्तियों में चिपचिपा तरल अवशेष या खराब गंध आ रही हो तो ऐसी स्थिति में भी इन पौधों का चुनाव न करें।

(और पढ़े – लाजवंती या छुईमुई के फायदे और नुकसान…)

इंडोर प्लांट को ग्रो करने के लिए कितनी रोशनी चाहिए – How Much Light Needed By Indoor Plant To Grow In Hindi

इंडोर प्लांट को ग्रो करने के लिए कितनी रोशनी चाहिए - How Much Light Needed By Indoor Plant To Grow In Hindi

आपके द्वारा घर की सजावट के लिए लगाए जाने वाले पौधों को रोशनी की बहुत ही कम मात्रा की आवश्‍यकता होती है। इसलिए जहां तक संभव हो इन पौधों को ऐसी जगह पर लगाएं जहां सूर्य की बहुत ही धीमी रोशनी आती है। इस तरह से आप अपने पौधों की सुरक्षा के लिए उपयुक्‍त स्‍थान का चुनाव कर सकते हैं।

आप फिलॉडेंड्रॉन (Philodendron) पौधे का चुनाव कर सकते हैं। क्‍योंकि इस पौधे में शायद ही कभी कीटों का प्रभाव पड़ता है। इसके साथ ही यह सभी प्रकार के वातावरण के अनुकूल माना जाता है।

पोथोस या डेविल्स आइवी (Photos or Devil’s Ivy) एक प्रकार के रंगीन पौधे हैं जिनकी पत्तियां जीवंत होती हैं। यह पौधे कई प्रकार के वातावरण और जलवायु में भी ग्रोथ कर सकता है। यह रोशनी पड़ने पर चमकता हुआ दिखाई देता है।

ड्रैकेना (Dracaena) यह घर के अंदर लगाए जाने वाले पौधों में से एक और लोकप्रिय इंडोर प्लांट है। इसकी पत्तियां लंबी और हरी होती हैं। आप इस पौधे को अपने घर पर लगा कर अपने घर की सुंदरता को और अधिक बढ़ा सकते हैं।

शांति लिली (Peace Lily) रेतीली मिट्टी के लिए इस प्रकार के पौधे बहुत ही अच्‍छे होते हैं। लेकिन यदि आप इस पौधे के सुंदर फूल चाहते हैं तो इस पौधे को अंधेरे वाली जगह पर लगाएं।

(और पढ़े – सूरज की धूप लेने के फायदे और नुकसान…)

किन पौधों को इंडोर पौधा माना जाता है – Which Plants Are Considered As Indoor Plant In Hindi

अक्‍सर लोग यह समझ नहीं पाते हैं कि घर पर लगाने वाले पौधे किन्‍हें कहते हैं। उनकी यह जिज्ञासा इसलिए भी होती है क्‍योंकि हम अक्‍सर कई फलदार पेड़ों को भी अपने घर में या घर के आस-पास लगाते हैं। लेकिन इंडोर प्‍लांट ऐसे पौधे होते हैं जिन्‍हें सूर्य प्रकाश और पानी की बहुत ही कम मात्रा की आवश्‍यकता होती है। ऐसे पौधों को आमतौर पर इंडोर प्‍लांट के रूप में माना जाता है।

सबसे अच्‍छा इंडोर प्‍लांट कौन सा है – Which Is The Best Indoor Plant In Hindi

घर पर लगाए जाने वाले पौधों को उनकी वृद्धि और उनकी प्रकृति के आधार पर बहुत अच्‍छे या अच्‍छे पौधों के रूप में निर्धारित किया जाता है। सबसे अच्‍छे इंडोर पौधे वे होते हैं जो कम रोशनी और बहुत ही कम पानी के बावजूद स्‍वस्‍थ्‍य रहते हैं। इसके अलावा जिन पौधों में कीटों का अधिक प्रभाव नहीं पड़ता है वे भी अच्‍छे पौधों में शामिल किये जाते हैं। सामान्‍य रूप से घर में लगाए जाने वाले पौधों को तेज गति से वृद्धि नहीं करना चाहिए। कुछ सबसे अच्‍छे इंडोर प्‍लांट इस प्रकार हैं-

अग्लाओनेमा (Aglaonema) – यह एक बहुत ही सुंदर और आकर्षक पौधा है जो कम रोशनी में होता है। इसके अलावा इस पौधे की वृद्धि बहुत ही धीमी गति से होती है। इस कारण घर के अंदर लगाए जाने वाले पौधों के रूप में यह बहुत ही लोकप्रिय है।

अस्पिडिसट्रा (Aspidistra) – इस पौधे को बहुत अधिक पानी देने की आवश्‍यकता नहीं होती है। यदि आप घर में लगाए जाने वाले पौधों पर अधिक समय नहीं देना चाहते हैं तो अस्पिडिसट्रा पौधा आपके लिए बहुत ही उपयोगी हो सकता है।

(और पढ़े – इन तरीकों से सजाएं स्टडी टेबल तो पढ़ने में लगेगा मन…)

घर में लगे पौधों के गमले कैसे बदलते हैं – How To Change Indoor Plant Pot In Hindi

घर में लगे पौधों के गमले कैसे बदलते हैं - How To Change Indoor Plant Pot In Hindi

क्‍या आप अपने द्वारा लगाए गए पौधों के गमलों को बदला चाहते हैं। अगर ऐसा है तो इस बात का ध्‍यान रखें कि जब तक आपका पौधा गमले के अनुसार बड़ा न हो जाए तब तक इसे बदलने की आवश्‍यकता नहीं है। फिर भी बड़ी सावधानी के साथ किसी बड़े गमले को चुने और इसमें अच्‍छी तरह से मिट्टी और खाद का उपयोग कर अपने पौधे को प्रतिसथापित करें।

इंडोर प्‍लांट की सुरक्षा कैसे करें – How To Protect Indoor Plants In Hindi

आपको अपने घर की सुंदरता बढ़ाने वाले इंडोर प्‍लांट की सुरक्षा का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए। यहां पर कुछ ऐसी विधियां बताई गई हैं जिनकी मदद से आप अपने घर में लगे पौधों की सुरक्षा कर सकते हैं।

  • आप अपने घर में लगाए गए इंडोर प्‍लांट की मिट्टी को भुरभुरी बनाए रखें। यह भी सुनिश्चित करें कि गमले में आवश्‍यकता से अधिक पानी न हो। इसके अलावा पॉट की मिट्टी न ही अधिक गीली हो और न ही अधिक सूखी हो।
  • जिस गमले में पौधा लगा है उसके नीचे जल निकासी का छेद होना आवश्‍यक है।
  • आपके पौधों को पर्याप्‍त मात्रा में प्रकाश मिलना चाहिए। चाहे यह प्रकाश प्राकृतिक हो या कृत्रिम।

(और पढ़े – एलोवेरा के फायदे और नुकसान…)

इंडोर पौधों की छटाई कैसे करें – How To Prune Indoor Plants In Hindi

वैसे तो आपको अपने घर में लगे हुए पौधों को छांटने की आवश्‍यकता नहीं होती है। लेकिन यदि आपके पौधे गमले के आकार के अनुसार बढ़ जाते हैं या इनकी शाखाएं अपेक्षाकृत लंबी हो जाती हैं तो आप इन्‍हें थोड़ा – थोड़ा छांट सकते हैं।

इंडोर प्‍लांट के नष्‍ट होने के कारण – What Are The Reasons Of Indoor Plants Die In Hindi

इंडोर प्‍लांट के नष्‍ट होने के कारण - What Are The Reasons Of Indoor Plants Die In Hindi

सामान्‍य रूप से घर पर लगाए जाने वाले पौधों की सुरक्षा करने पर ये पौधे स्‍वस्‍थ्‍य और सुरक्षित रहते हैं। लेकिन फिर भी इनके नष्‍ट होने या सूखने के कुछ कारण भी हो सकते हैं जो इस प्रकार हैं :

  • पौधों को आवश्‍यकता से अधिक पानी देना।
  • पौधों को पर्याप्‍त मात्रा में पानी न मिलना।
  • सूर्य का पर्याप्‍त या आवश्‍यकता के अनुसार प्रकाश न मिलना।

(और पढ़े – गिलोय के फायदे, स्वास्थ्य लाभ और औषधीय गुण…)

क्‍या घर में लगाने वाले पौधे महंगे होते हैं – Are Indoor Plants Expensive In Hindi

अक्‍सर लोगों द्वारा यह माना जाता है कि घर में लगाए जाने वाले पौधे बहुत महंगे होते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है, ये पौधे बहुत ही सस्ते होते हैं। इन पौधों का उपयोग कर आप न केवल अपने घर की सुंदरता को बढ़ा सकते हैं बल्कि अपने घर के माहौल और वातावरण को भी प्रदुषण मुक्त बना सकते हैं।

इंडोर प्‍लांट के लिए सबसे अच्‍छा उर्वरक – The Best Fertilizer For Indoor Plant In Hindi

आप अपने पौधों को पर्याप्‍त पोषण दिलाने के लिए खाद और उर्वकों का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप बागवानी में अनुभवी व्‍यक्ति की सलाह ले सकते हैं। पौधों के लिए बाजार में बहुत सी रासायनिक खाद उपलब्‍ध हैं। लेकिन आपको सलाह दी जाती है कि जहां तक संभव हो आप अपने पौधों के लिए प्राकृतिक या कम्पोस्ट खाद का उपयोग करें।

(और पढ़े – तुलसी के फायदे और नुकसान…)

इंडोर प्‍लांट के कीड़ों से कैसे छुटकारा पाएं – How To Get Rid Of Indoor Plant Insects In Hindi

इंडोर प्‍लांट के कीड़ों से कैसे छुटकारा पाएं - How To Get Rid Of Indoor Plant Insects In Hindi

यदि आपके पौधों में किसी प्रकार के कीटों का प्रभाव पड़ रहा है तो यह गंभीर विषय हो सकता है। यदि आप कीट को नष्‍ट करना चाहते हैं तो कीटनाशक साबुन या पाउडर का उपयोग करें। आप इन्‍हें पानी में घोल कर पौधों के ऊपर छिड़काव कर सकते हैं। आप इस प्रकार के कीटनाशकों को पौधों की पत्तियों और तनों में छिड़कें और लगभग 2 सप्‍ताह तक इंतेजार करें और फिर इसका छिड़काव करें।

आम तौर पर आपको इस तरह से कम से कम 3 बार छिड़काव करना चाहिए। क्‍योंकि इस प्रकार के कीटनाशक कीटों के अंडों को नष्‍ट नहीं कर पाते हैं। इसलिए इन अंडों से कीटों के निकलने के बाद ही इन्‍हें नष्‍ट किया जा सकता है।

इंडोर प्‍लांट को पानी कब देना चाहिए – When Should The Indoor Plant Water In Hindi

आप अपने पौधों को समय समय पर पानी देना चाहिए। लेकिन आवश्‍यकता से अधिक पानी देना पौधों के लिए नुकसान दायक हो सकता है। फिर भी पौधों को पानी देने के कुछ तरीके इस प्रकार हैं:

  • पौधे के गमले की मिट्टी को हल्‍का खोद कर देख सकते हैं कि गमले की मिट्टी में कितनी नमी है।
  • आप इसके लिए नमी मापक यंत्र का भी उपयोग कर सकते हैं जो मिट्टी में मौजूद नमी की मात्रा बताता है।
  • पौधे का भारीपन यह बताता है कि पौधे में पर्याप्‍त पानी है। लेकिन पौधे का हल्‍का पन पौधे में पानी की कमी को बताता है।
  • यदि पत्‍तों के किनारे धीरे-धीरे पीले हो रहे हैं या सूख रहे हैं तो इसका यह मतलब यह है कि पौधों में पानी की कमी हो रही है।
  • यदि गमले में लगे पौधों की पत्तियां झड़ रही हैं तो संभव है कि पौधे में पानी की कमी है।

(और पढ़े – डिहाइड्रेशन से बचने के घरेलू उपाय, जानलेंगें तो कभी नहीं होगी पानी की कमी…)                                                                   

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration