वीर्यपान कितना सही, क्या हैं वीर्य के फायदे और नुकसान – Sprem Benefits and side effects in Hindi




वीर्यपान कितना सही, क्या हैं वीर्य के फायदे और नुकसान – Sprem Benefits and side effects in Hindi
Written by Daivansh

वीर्यपान शब्द सुनने में थोड़ा अजीब लगता है, वीर्य के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए क्‍या हैं, क्या स्पर्म निगलना ठीक है? स्पर्म पीने से प्रेगनेंसी होती है और क्या अपना स्पर्म पीने के फायदे भी होते है यह जानने के लिए पूरा लेख पढ़े। वीर्य या सीमन तरल पदार्थ है जो शुक्राणु रखता है। शुक्राणु एक कोशिका है जो द्रव में चारों ओर तैरती है और मादा के अंडे तक पहुंच जाती है। सीमन काफी पौष्टिक है और इसमें दिलचस्प गुणों का खजाना है वीर्य के फायदे और नुकसान जानना आपको अजीब लग सकता है, लेकिन यकीन मानिये वीर्य के फायदे जानकर आप हैरान रह जाएगें। वीर्य एक तरल पदार्थ या आवरण है जो शुक्राणुओं को सुरक्षित रखता है।

शुक्राणु एक कोशिका है जो तरल पदार्थ (वीर्य) में चारो ओर तैरता है। वीर्य बहुत ही पौष्टिक होता है और इसमें बहुत से फायदेमंद गुण भी होते हैं। अंडाशय में शुक्राणुओं को पहुंचाने और सुरक्षा प्रदान करने के लिए वीर्य में एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाये जाते हैं।

1. वीर्य क्‍या है – Viraya Kya Hai in Hindi
2. वीर्य के फायदे – Virya Ke Fayde in Hindi

3. क्या वीर्यपान किया जा सकता है – kya virya piya ja sakta hai
4. स्पर्म पीने से प्रेगनेंसी होने के चांस होते है – kya girl virya pine se pregnet ho sakti hai
5. स्‍पर्म पीने के नुकसान – Sperm Peene Ke Nuksan, virya pine ke side effect in Hindi

वीर्य क्‍या है – Viraya Kya Hai in Hindi

वीर्य क्‍या है – Viraya Kya Hai in Hindi

अक्‍सर हम वीर्य और शुक्राणुओं में कोई अंतर नहीं समझते हैं, लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वीर्य में शुक्राणु होते हैं न की शुक्राणु, वीर्य है। वीर्य में शुक्राणुओं की मात्रा लगभग 2 से 5 प्रतिशत तक ही होती है बाकी 98 से 95 प्रतिशत भाग पुरुष प्रजनन अंगों से स्रावित होने वाले पदार्थ होते हैं। यह एक सफेद या भूरे रंग का तरल पदार्थ होता है वीर्य में पाये जाने वाले पदार्थों में अधिकतर हार्मोन होते हैं जिनमें एंडोर्फिन (endorphins), न्‍यूरोट्रांसमीटर और इम्‍यूनोस्‍प्रप्रेसेंट्स, डीएनए, प्रक्‍टोज, साइट्रिक एसिड, फ्री एमिनो एसिड, एंजाइम, फॉस्‍फोरीक्‍कोलाइन (phosphorylcholine), प्रोस्‍टाग्‍लैंडिन (prostaglandin), पोटेशियम, एस्‍कॉर्बिक एसिड, कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, विटामिन बी12, सोडियम, यूरिक एसिड, लैक्टिक एसिड, नाइट्रोजन, विटामिन सी, जिंक और प्रोटीन की अच्‍छी किस्‍में मौजूद रहती हैं जो कि वायरस और कवक आदि के खिलाफ एंटी माइक्रोवियल (antimicrobial) प्रभाव रखते हैं।

(और पढ़े – शुक्राणु क्या है, कैसे बनते है, कार्य और संचरना…)

वीर्य के फायदे – Virya Ke Fayde in Hindi

वीर्य के फायदे – Virya Ke Fayde in Hindi

आप जानते हैं कि वीर्य प्रजनन प्रक्रिया को आगे बढ़ाने का एक मात्र विकल्‍प होता है। इसलिए यह मानव समाज के लिए बहुत ही आवश्यक होता है। लेकिन क्या वीर्य का सेवन आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी फायदेमंद होता है। इसमें कुछ विरोधाभास भी है लेकिन इसमें उपस्थिति हार्मोन और पोषक तत्‍वों के कारण यह मानव स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद माना जाता है। आइए जानते हैं वीर्य के फायदे क्‍या हैं।

वीर्य आपकी मनोदशा को बढ़ाए – Sperm Peene Ke Fayde Elevates your mood in Hindi

वीर्य आपकी मनोदशा को बढ़ाए - Sperm Peene Ke Fayde Elevates your mood in Hindi

जानकारों का कहना है कि जब महिलाओं को कामोत्तेजना (orgasm) होती है तो लव हार्मोन ऑक्‍सीटॉसिन का स्राव करते है जिससे महिलाओं के मूड को ऊपर उठाने में मदद मिलती है। कुछ सेक्‍सोलॉजिस्‍ट कहते हैं कि पुरुषों के लिए तृप्ति अवसाद को कम कर सकती है क्‍योंकि जिस समय व्‍यक्ति स्‍खलित होता है उसे जबरदस्‍त खुशी मिलती है जो सभी चिंताओं और समस्‍याओं से छुटाकारा दिलाने में मदद करती है। ओरल सेक्स के दौरान वीर्य दोनों के लिए फायदेमंद होता है।

(और पढ़े – ओरल सेक्स क्या होता है करने के तरीके, फायदे और नुकसान…)

वीर्य के फायदे अनिद्रा को दूर करे – Virya Ke Fayde Anidra Ko Door Kare in Hindi

वीर्य के फायदे अनिद्रा को दूर करे - Virya Ke Fayde Anidra Ko Door Kare in Hindi

अध्‍ययनों से पता चलता है कि जब कोई महिला वीर्यपान करती है या सेक्‍स के दौरान वीर्य उनकी योनि से होता हुआ रक्‍त प्रवाह में मिलता है तो इससे बेहतर नींद प्राप्‍त करने में मदद मिलती है क्‍योंकि इसमें रासायनिक मेलाटोनिन (chemical melatonin) होता है। शरीर में मेलाटोनिन की उपस्थिति के कारण यह व्‍यक्ति को आराम दिलाने और अच्‍छी नींद लाने में मदद करता हैं। कुछ जानकारों का कहना है कि वीर्य निगलने से अच्‍छी नींद प्राप्‍त नहीं होती है बल्कि संभोग के दौरान सिर्फ संतुष्टि ही प्राप्‍त होती है और कुछ नहीं। लेकिन जब संभोग संतुष्टि प्राप्‍त होती है तो इस दौरान शरीर में ऑक्‍सीटॉसिन हार्मोन उत्‍पन्‍न होता है जिससे शरीर में दर्द उत्‍तेजना कम होती है और शरीर को आराम मिलता है। इस कारण आपको अच्‍छी नींद प्राप्‍त होती है।

(और पढ़े – अनिद्रा के कारण, लक्षण और उपचार…)

वीर्यपान के फायदे अवसाद को दूर करे – Viryapan Ke Fayde Avsad Ko Door Kare in Hindi

वीर्यपान के फायदे अवसाद को दूर करे - Viryapan Ke Fayde Avsad Ko Door Kare in Hindi

न्‍यूयॉर्क विश्‍वविद्यालय के शोधकर्ता और मनोवैज्ञानिकों के द्वारा किये गए अध्‍ययन से पता चलता है कि जो महिलाएं वीर्यपान करती हैं उनमें अन्‍य महिलाओं की अपेक्षा तनाव और अवसाद की कमी देखी गई है। क्‍योंकि वीर्य में शक्तिशाली एंटीड्रिप्रेसेंट और संज्ञानात्‍मक क्षमता को बढ़ाने वाले प्रभाव होते हैं। इसके अलावा वीर्य में ऑक्‍सीटोसिन (oxytocin), प्रोजेस्‍टेरोन, एंडोर्फिन (endorphins), प्रोलैक्टिन, टीआरएच और सेरोटोनिन (serotonin) जैसे मूड बढ़ाने वाले घटक मौजूद रहते हैं। जो महिलाएं वीर्यपान करती हैं उनका मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा होता है। जो यह दर्शाता है कि वीर्य के फायदे महिलाओं के मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छा है।

(और पढ़े – अवसाद (डिप्रेशन) क्या है, कारण, लक्षण, निदान, और उपचार…)

वीर्य का उपयोग बालों को झड़ने से रोके – Virya Ke Upyog Balo Ko Jhadne Se Roke in Hindi

वीर्य का उपयोग बालों को झड़ने से रोके - Virya Ke Upyog Balo Ko Jhadne Se Roke in Hindi

आपको यह जानकर हैरानी हो सकती है कि वीर्य का उपयोग आपके बालों को झड़ने से बचा सकता है। अगर अब तक आपको इसकी जानकारी नहीं थी तो जान लें। बालों के विकास के लिए वीर्य पर परिक्षण किये गए जिसमें पाया गया कि स्‍पर्मिडाइन बालों की लंबाई को प्रोत्‍साहित करने और बालों के विकास को बढ़ाने में मदद करता है। स्‍पर्मिडाइन स्‍टेम कोशिकाओं को भी बढ़ाता है जो आपके बालों के विकास में मदद करते हैं।

आप इसे सचमुच उपयोग कर सकते हैं। विदेशों में सेलिब्रिटी क्‍लाइंट को चमकदार और सुंदर बालों के लिए सैलूनों में कई तरह के वीर्य का उपयोग किया जाता है।

(और पढ़े – बालों का असमय झड़ने का कारण और उपचार…)

स्पर्म को चेहरे पर लगाने के फायदे – Sperm Ko Chehre Par Lagane Ke Fayde in Hindi

स्पर्म को चेहरे पर लगाने के फायदे - Sperm Ko Chehre Par Lagane Ke Fayde in Hindi

जानकारों के अनुसार चेहरे पर वीर्य लगाने से यह किसी एंटी-एजिंग (Anti-aging) उत्‍पाद की तरह काम करता है। परिक्षण के दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि वीर्य में एंटीऑक्‍सीडेंट गुण मौजूद रहते हैं जो त्‍वचा की झुर्री और त्‍वचा के लचीनेपन जैसे विकारों को दूर करने में मदद करता है। चेहरे के लिए स्‍पर्म फायदेमंद होता है इसलिए इसे आजकल प्रयोगशालाओं में संश्‍लेषित (Synthesized) किया जाता है और अंतरराष्‍ट्रीय कंपनियों द्वारा बेचा जा रहा है।

(और पढ़े – चेहरे की झुर्रियों के कारण और झुर्रियां कम करने के घरेलू उपाय…)

स्‍पर्म पीने के फायदे सेक्‍स ड्राइव बढ़ाता है – virya ka sevan Sex Drive Badhaye in Hindi

स्‍पर्म पीने के फायदे सेक्‍स ड्राइव बढ़ाता है - virya ka sevan Sex Drive Badhaye in Hindi

वीर्य का सेवन करने से यह आपकी सेक्‍स ड्राइव को बढ़ा सकता है। क्‍योंकि वीर्य में टेस्‍टोस्‍टेरोन होता है। टेस्‍टोस्‍टेरोन पुरुषों और महिलाओं दोनों में कामेच्‍छा बढ़ाता है। यौन संबंध बनाने के दौरान महिला की योनि दीवारों के माध्‍यम से और यहां तक की वीर्य निगलने के माध्‍यम से टेस्‍टोस्‍टेरान (Testosterone) को अवशोषित किया जा सकता है। जो कि सेक्‍स ड्राइव को बढ़ाने में मदद करता है। इसके परिणाम अलग-अलग लोगों में भिन्न हो सकते हैं।

(और पढ़े – पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने के आसान घरेलू उपाय…)

महिलाओं के लिए पुरुष शुक्राणु के लाभ एंटीइंफ्लामेटरी गुण – virya sevan ke fayde Anti-inflammatory in Hindi

वीर्य में एंटी-इंफैमेटोरेटरीज और इम्‍यूनोस्‍पेप्रेसेंट्स (inflammatories/immunosuppressants) गुण होते हैं जो महिला के शरीर में प्रवेश करने पर किसी प्रकार की हानि नहीं पहुंचाते हैं। वीर्य का सेवन करने से तंत्रिका विकास फैक्‍टर, ऑक्‍सीटोसिन, प्रोजेस्‍टेरोन, टेस्‍टोस्‍टेरोन, कोर्टिसोल और कुछ प्रोस्‍टाग्‍लैंडिन (prostaglandins) जैसे इंफ्लेमेटरी गुण प्राप्‍त होते हैं। वीर्य आपके शरीर में मौजूद टीजीएफ-बीटा प्रोटीन की सहनशीलता को बढ़ाने में मदद करता है।

(और पढ़े – महिलाओं के लिए सेक्‍स करने के फायदे…)

अपना स्पर्म पीने के फायदे चिंता को दूर करे – apna virya pine ke fayde Chinta Ko Door Rakhe in Hindi

अपना स्पर्म पीने के फायदे चिंता को दूर करे - apna virya pine ke fayde Chinta Ko Door Rakhe in Hindi

कुछ लोगों का मानना है कि चिंता का प्रमुख कारण ऑक्‍सीडेएटिव तनाव होता है जो कि ब्रेन फॉग (brain fog) और थकान आदि का कारण बनता है। लेकिन ऑक्‍सीडेटिव तनाव को कम करने के लिए वीर्य में बहुत से एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) मौजूद होते हैं जो आसानी से चिंता और तनाव को दूर करने में मदद कर सकते हैं।

(और पढ़े – चिंता दूर करने के उपाय, तरीके और घरेलू नुस्खे…)

क्या वीर्यपान किया जा सकता है – kya virya piya ja sakta hai

अक्सर लोगों के मन में यह सवाल होता है की क्या वीर्य को निगला जा सकता है? या वीर्यपान किया जा सकता है तो इसका जवाब है जी हां। क्योकि यह प्रोटीन और विटामिन से भरपूर होता है। यह आप पर निर्भर करता है की अब आप इसे पीने के लिए तैयार हैं या नहीं इसका निर्णय आपको या आपकी साथी को खुद लेना है।

लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपका स्पर्म स्वादिष्ट हो जाए तो यह भी संभव है। क्योकि वीर्य का मीठा या खट्टा होना इस बात पर निर्भर करता है की आपने आज क्या खाया है ।

(और पढ़े – शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने का घरेलू उपाय…)

स्पर्म पीने से प्रेगनेंसी होने के चांस होते है – kya girl virya pine se pregnet ho sakti hai

स्पर्म पीने से प्रेगनेंसी होने के चांस होते है - kya girl virya pine se pregnet ho sakti hai

आपको बता दें की वीर्य पीने से लड़की प्रेग्नेंट नहीं होती लेकिन अगर वीर्य योनि में छोड़ा गया हो तो लड़की प्रेग्नेंट हो सकती है योनी में वीर्य छोड़ने से ही प्रेगनेंसी कि संभावना होती है ओरल सेक्स करते समय वीर्य पीने से गर्भधारण के चांस नहीं हो सकते हैं।

(और पढ़े – असुरक्षित यौन संबंध के बाद गर्भधारण से बचने के लिए क्या करना चाहिए…)

स्‍पर्म पीने के नुकसान – Sperm Peene Ke Nuksan, virya pine ke side effect in Hindi

जब वीर्य सेवन की बात आती है तो विशेष सावधानी रखने की आवश्‍यकता होती है। क्‍योंकि वीर्य में वायरस हो सकते हैं जिसका सेवन करने पर यह वीर्य सेवन करने वाले को प्रभावित कर सकता हैं। सेक्‍सोलॉजिस्‍ट बताते हैं कि मुंह की समस्‍याओं जैसे कि मसूड़ों की सूजन और उनसे खून आने की स्थिति में मौखिक सेक्‍स करने पर एसआइटी संक्रमण जैसे हेपेटाइटिस बी और सी (Hepatitis B and C), हर्पीस और क्‍लैमिडिया (Chlamydia) हो सकता है।

  • वीर्य का सेवन करने पर किसी प्रकार का नुकसान नहीं होता है लेकिन कुछ लोगों का मानना है की इससे किसी प्रकार का फायदा भी नहीं होता है।
  • वीर्य को यदि पुरुषों के द्वारा बाहर नहीं निकाला जाता है या रोका जाता है तो इसके भी किसी प्रकार के फायदे नहीं होते हैं क्‍योंकि वीर्य की अपनी निश्चित उम्र होती है और वह स्‍वयं ही निष्क्रिय हो जाता है।
  • यौन साथी को लाभ या जीवन शक्ति (vitality) दिलाने के लिए वीर्य की मात्रा बहुत ही कम होती है जो कि पर्याप्‍त नहीं है।
  • नैदानिक पोषण विशेषज्ञों का कहना है कि इस बात के कोई सबूत नहीं है कि वीर्य में मल्‍टीविटामिन और एंटी अवसाद गुण होते हैं जो कि आपके लिए फायदेमंद होते हैं।

नोट – वीर्यपान मे कोई खतरा नहीं है। वीर्य पीने के फायदे का हम दावा नहीं करते हैं अगर आप इसे अपनी इच्छा से करते है तो पुरुषों और महिलाओं दोनों को वीर्य पीने में कोई नुकसान नहीं है लेकिन ऐसा करते समय पुरूष और महिला पूर्णतः स्वस्थ हो उन्हें किसी तरह के यौन-रोग न हो। यदि उसे कोई यौन-रोग है, जिसका आप वीर्य पी रहें है तो वह रोग आपको भी हो सकता हैं। जिसके परिणाम गंभीर हो सकते हैं। कृपया अपने विवेक से काम लें।

(और पढ़े – स्खलन के बाद शुक्राणु कितनी देर तक जीवित रह सकता है…)

और पढ़े –

Leave a Comment

5 Comments

Subscribe for daily wellness inspiration