सुपारी खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान - Supari (Betel Nut) khane ke fayde aur nuksan in Hindi
हेल्थ टिप्स

सुपारी खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान – Supari (Betel Nut) khane ke fayde aur nuksan in Hindi

सुपारी खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान - Supari (Betel Nut) khane ke fayde aur nuksan in Hindi

Betel Nut Benefits in Hindi सुपारी (Areca) एक पौधा है जिसके फलों का उपयोग दवा बनाने के लिए किया जाता है। सुपारी को ऐसे ही या किसी प्रकार के तम्‍बाकू उत्‍पादों के साथ चबाने के लिए उपयोग किया जाता है। सुपारी (betel nut) सीधे तौर पर पान की तरफ इशारा करते हैं। सुपारी एक अखरोट होता है जो मुंह में कैविटिज का इलाज करता है। मुंह में बैक्‍टीरिया (Bacteria) के कारण दांतों की बाहरी परत को नुकसान हो सकता है जो दांत दर्द को बढ़ाता है। मसूढ़ों में सूजन, मवाद और दर्द आदि का इलाज करने में मदद करती है।

इसके अलावा मासिक धर्म (Menstrual) के समय होने वाली ऐंठन को कम करने के लिए भी सुपारी लाभकारी होती है। सुपारी खाने के फायदे उन लोगों के लिए भी हैं जो समय से पहले स्‍खलन से पीड़ित हैं वे नियमित रूप से सुपारी का सेवन कर अपनी स्थिति में सुधार कर सकते हैं। सुपारी का सेवन कर अपच संबंधी परेशानियों को दूर कर सकते हैं। सुपारी का उपयोग कर आप कब्‍ज और दस्‍त (Constipation and diarrhea) को भी ठीक कर सकते हैं।

विषय सूची

1. सुपारी क्‍या है – What is Betel Nut in Hindi
2. सुपारी का इतिहास – History of a habit in Hindi
3. सुपारी में पाए जाने वाले पोषक तत्‍व – Betel nut Nutritional Value in Hindi
4. सुपारी खाने के फायदे – Supari khane ke fayde in Hindi

5. सुपारी खाने के नुकसान – Supari khane ke nuksan in Hindi

सुपारी क्‍या है – What is Betel Nut in Hindi

बीटल नट एशिया के बहुत से देशों में उगाया जाने वाला फल है जिसे दुनिया भर के लाखों लोगों द्वारा चबाया (chewed) जाता है। इसका उपयोग पान के पत्‍तों के साथ किया जाता है। इसके साथ ही यह कई तम्‍बाकू युक्‍त पदार्थों के साथ भी उपयोग किया जाता है। यदि कम मात्रा में सुपाड़ी का सेवन किया जाये तो इसके फायदे होते हैं साथ ही यह कुछ नुकसानों को भी दिखाता है। सुपारी का स्‍वाद गर्म और अम्‍लीय (warm and acidic) होता है।

सुपारी का इतिहास – History of a habit in Hindi

सुपारी का इतिहास – History of a habit in Hindi

लगभग 2000 वर्ष पहले से सुपारी का उपयोग किया जा रहा है। यह पीढ़ीयों से चबाने के लिए उपयोग किया जाने वाला फल है। दुनिया में निकोटीन, अल्‍कोहल और कैफीन (Caffeine) के बाद चौथा स्‍थान सुपारी का है। यह दुनिया के सबसे लोकप्रिय मनोचिकित्‍सक पदार्थों में से एक है। आइए जाने सुपारी से प्राप्‍त होने वाले लाभ क्‍या हैं।

सुपारी में पाए जाने वाले पोषक तत्‍व – Betel nut Nutritional Value in Hindi

बीटल नट बहुत से पोषक तत्वों में समृद्ध होते हैं विशेष रूप से एल्‍कोलोइड (alkaloids) जैसे कि इकोलीन, अरेकाइन, कोलाइन, गुवासाइन, गुवाकोलाइन, गैलिक फैटी एसिड और टैनिन आदि ।

सुपारी खाने के फायदे – Supari khane ke fayde in Hindi

बीटल नट के पोषक तत्वों के कारण इसके खाने से बहुत से फायदे होते हैं जो हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी होते हैं। आइए जाने सुपारी खाने से होने वाले लाभों के बारे में ।

स्‍ट्रोक से बचाने में सुपारी खाने के फायदे – Betel nut for Stroke recovery in Hindi

इंटेलिहेल्‍थ के अनुसार सुपारी का उपयोग स्‍ट्रोक रिकवरी के लिए फायदेमंद हो सकता है। सुपारी का सेवन मरीजों में मूत्राशय नियंत्रण और मांसपेशियों की ताकत में सुधार करता है।

(और पढ़े – स्ट्रोक के कारण लक्षण और बचाव…)

सुपारी के फायदे स्किज़ोफ्रेनिया को दूर करे – Betel Nuts for Schizophrenia in Hindi

एनआईएच के प्रारंभिक शोध के अनुसार सुपारी का सेवन करने से स्किजोफ्रेनिया (schizophrenia) रोगियों के लक्षणों में सुधार होता है। स्किजोफ्रेनिया के लिए उपयोग की जाने वाली दवाओं के कुछ दुष्‍प्रभाव होते है, इस लिए इसके नए उपचारों को ढूढ़नें की आवश्‍यक्‍ता है। एनएचआई के अनुसार सुपारी का सेवन करने से स्किजोफ्रेनिया रोगी को कपकपी और कठोरता (tremors and stiffness) जैसे दुष्‍प्रभावों का सामना करना पड़ सकता है।

बीटल नट खाने के फायदे कैविटी को रोके – Betel nuts for Cavity Prevention in Hindi

सुपारी में जीवाणु रोधी (Antibacterial) प्रभाव होते हैं इस कारण इसका उपयोग कैविटी दूर करने के लिए टूथपेस्‍टों में इसका उपयोग किया जाता है। लेकिन इसके हानिकारक प्रभावों के कारण दांतों के लिए उपयोग किये जाने वाले अन्‍य उत्‍पादों की अपेक्षा सुपारी (betel nuts) को बहुत ही कम मात्रा में उपयोग किया जाता है।

(और पढ़े – दांतों का पीलापन दूर करने के लिए एक्टिव चारकोल टूथपेस्ट का उपयोग)

सुपारी के फायदे मुंह को सूखने से बचाए – Betel nuts for Dry Mouth Relief in Hindi

अध्ययन अनुसार जो लोग ज्‍यादा सुपारी का सेवन करते हैं उनके मुंह में लार (saliva) का ज्‍यादा उत्‍पादन होता है। जो कि उनके पाचन में बहुत ही सहायक होता है। यह मधुमेह और स्‍जोग्रेन सिंड्रोम (diabetes and Sjogren’s syndrome) जैसे स्‍वास्‍थ्‍य परिस्थितियों के कारण शुष्‍क मुंह बाले लोगों की मदद कर सकता है।

सुपारी के लाभ होंठ के दर्द के लिए – Supari ke fayde for Sore lips Hindi

होठों को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए सुपारी के पौधे की जड़ का काढ़ा बनाकर उपयोग किया जाता है। यह  फटे हुए होंठ और गले का उपचार करने में आपकी मदद करता है। सुपारी का उपयोग शीतलन और बांधने (astringent) वाले प्रभाव तुरंत उपचार में मदद करते हैं।

(और पढ़े – होठों को गुलाबी बनाने के घरेलू नुस्खे…)

पीठ दर्द के लिए सुपारी खाने के फायदे – Supari chabane ke fayde for Back Pain in Hindi

पीठ दर्द से राहत पाने के लिए सुपारी पौधे की नरम पत्तियों का रस निकाल कर उसमें आवश्‍यक तेल (Essential oil) के मिश्रण बनाकर कपड़े की सहायता से पीठ पर इस तेल का उपयोग करें और 20 मिनिट के लिए छोड़ दें यह आपकी पीठ दर्द (back pain) को ठीक करने में मदद करेगा।

(और पढ़े – पीठ दर्द से छुटकारा पाना है तो अपनाएं ये घरेलू उपाय…)

सुपारी चबाने के फायदे पेट के क्रमी से बचाए – Betel nut for Worm infestation in Hindi

जो लोग पेट के कीड़ों से पीड़ित हैं उनका उपचार करने के लिए सुपारी का उपयोग फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए सुपारी को बारीक पीस कर दही के साथ सेवन करना चाहिए। इस मिश्रण का सेवन करने से पेट में उपस्थित कीड़ों को नष्‍ट किया जा सकता है विशेष रूप से टैपवार्म (tapeworm) प्रकार के परजीवी को ।

(और पढ़े – खराब पेट को ठीक करने के घरेलू उपाय)

सुपारी के फायदे पाचन के लिए – Betel nuts for Improve Digestion in Hindi

बाजार में उपलब्‍ध सुपारी पाउडर को पाचन के लिए उपयोगी बनाने के लिए माउथ फ्रैशनर्स (mouth fresheners), खाद्य कपूर, इलायची और खसखस के बीज जैसे पाचक सामग्री के साथ मिलाया जाता है। आमतौर पर भोजन के बाद इस मिश्रण का सेवन किया जाता है। यह मुंह और पेट (Mouth and stomach) को साफ करने में मदद करते हैं साथ ही यह संतुष्टि की भावना को बढ़ाता है। यह मिश्रण हमारे द्वारा किये गए भारी भोजन को पचाने (Digest) में मदद करता है।

(और पढ़े – मानव पाचन तंत्र कैसा होता है, और कैसे इसे मजबूत बनायें…)

दांतों के लिए सुपारी के फायदे – Supari chabane ke fayde for Tooth in Hindi

दांतों की सड़न को रोकने के लिए आप उबले हुए सुपरी का उपयोग कर सकते हैं। सुपारी को उबाल कर चबाने से आपकी लार की गुणवत्‍ता में भी सुधार होता है। इसका नियमित सेवन करने से आप अपने दांतों की कैविटी (Cavity) और दांतों की सड़न को रोक सकते हैं।

सुपारी के पाउडर का उपयोग दांतों को साफ करने और उन्‍हें मजबूत बनाने के लिए दांत पाउडर के रूप बहुत ही प्र‍चलित हैं।

(और पढ़े – दाँतों की देखभाल कैसे करे…)

सुपारी के गुण कब्ज को ठीक करने में – Supari Ke Gun for Constipation in Hindi

कब्‍ज (constipation) से छुटकारा पाने के‍ लिए सुपारी पौधे के नरम पत्‍तों का रस बहुत ही लाभकारी होता है। यह रस प्रकृति में लैक्सेटिव (Laxative) होता है और हल्‍के कब्‍ज को दूर करने में मदद करता है। इस रस का सेवन रात में सोने के समय (bedtime) लिया जाना चाहिए.

(और पढ़े – कब्ज के कारण और इलाज…)

सुपारी के उपयोग पेशाब की समस्‍या को दूर करने में – Betel nuts for Difficult urination in Hindi

बेटल नट के पत्‍तों का रस निकाल कर इसे दूध और शक्‍कर के मिश्रण के साथ मिलाएं। नियमित रूप से इस पेय का सेवन करने से यह आपके मूत्र प्रवाह को बढ़ावा देने में मदद करेगा। यदि आपको पेशाब (urine) के समय किसी प्रकार की समस्‍या हो रही हो तो आप इस उपचार को अजमा सकते हैं यह आपके लिए फायदेमंद होगा।

(और पढ़े – मूत्र पथ संक्रमण (यूटीआई) के कारण, लक्षण और उपचार…)

उंगली पर सूजन के लिए सुपारी के लाभ – Betel nuts for Whitlow in Hindi

इसे उंगली पर सूजन (Whitlow) को ठीक करने के लिए अनबुझा चूना और सुपारी का पेस्‍ट बनाएं और इसे उंगली में लगा कर इसे कपड़े से बांध लें। इस तरह इस मिश्रण को प्रतिदिन बदलें और उंगली में नमी बनाए रखें। इस उपचार को लगभग 4-5 दिन तक करने की आवश्यकता होती है।

(और पढ़े – मोच को ठीक करने के घरेलू उपाय)

सुपारी खाने के फायदे मसूड़ों के संक्रमण को दूर करे – Betel nuts for Gum infection in Hindi

आप मसूड़ों के संक्रमण को दूर करने के लिए आप सुपारी का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए सुपारी की राख की आवश्‍यकता होती है। सुपारी को जला कर इससे प्राप्‍त होने वाली राख में 2 चम्‍मच लौंग पाउडर और  ¼ कप कत्‍था मिलाएं। इस मिश्रण को पानी में मिलाएं और मुंह धोने के लिए उपयोग करें।

पानी में सुपारी को उबालें और इस पानी का उपयोग गरारा (gargling) करने के लिए उपयोग करें।

सुपारी का उपयोग दांतों का पीला पन दूर करे – Betel nuts for Teeth yellowing in Hindi

दांतों का पीला पन दूर करने के लिए आप सुपारी का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप सुपारी को बारीक पीस (pulverise) लें और इस पाउडर से दांतों की सफाई करें। यह पाउडर आपके दांतों से पीलापन (teeth yellowing) हटाकर दांतों को सफेद और मजबूत करने में मदद करता है।

(और पढ़े – दांतों का पीलापन दूर करने के लिए एक्टिव चारकोल टूथपेस्ट का उपयोग…)

चिकनी सुपारी के फायदे मांसपेशीय शक्ति बढ़ाने के लिए – Betel nuts for improves muscles strength in Hindi

जो लोग दिल का दौरा जैसी परेशानियों से ग्रसित होते हैं उनकी मांसपेशियां (muscles) कमजोर होती हैं और उनके आवाज की तीव्रता कम होती जाती है। नियमित रूप से सुपारी का सेवन करने से मांसपेशियों की शक्ति को पुन: प्राप्‍त किया जा सकता है और आपकी वाणी में भी सुधार हो सकता है।  

सुपारी के फायदे महिलाओं के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Betel nuts Maintains women’s Health in Hindi

महिलाएं पीले और सफेद रंग के स्राव से पीड़ित हो सकती हैं जिसे ल्‍यूकोरेरिया (Leucorrhea) कहा जाता है। आमतौर पर शरीर में एस्ट्रोजन असंतुलन होने के कारण ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है। सुपारी के पोषक तत्व हार्मोन संतुलन को बनाए रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा मासिक धर्म चक्र (Menstrual) शुरू होने से पहले सुपारी का सेवन कर योनि की ऐंठन और पेट के दर्द को कम किया जा सकता है।  

(और पढ़े – योनि में दर्द के कारण और उपचार…)

मन की एकाग्रता बढ़ाने में सुपारी के लाभ – Supari khane ke fayde for concentration in Hindi

शोधों से जानकारी मिलती है कि कम मात्रा में सुपारी का सेवन करने से यह आपकी एकाग्रता (concentration) को बढ़ाने में मदद करता है और उत्‍तेजना को कम करता है। रात के समय यात्रा करने वाले ड्राईवर सुपारी का सेवन कर सतर्क रह सकते हैं और दुर्घटनाओं को रोक सकते हैं।

सुपारी के उपाय मसूड़ों की सूजन के लिए – Supari khane ke fayde for Gum swelling in Hindi

यदि आपके मसूड़ों सूजन है तो आप सुपारी के औषधीय गुणों का लाभ ले सकते हैं। इसके लिए आपको सुपारी के पाउडर को 2 चम्‍मच घी में फ्राई करने की आवश्‍यकता होती है। इसे भूनने के बाद आप इसमें बराबर मात्रा में अजवाइन, कत्‍था और सेंधा नमक मिलाएं। इन सभी को अच्‍छी तरह से मिलाने के बाद इस मिश्रण को सूजन वाले भाग (inflammed areas) में लगाएं। यह आपके मसूड़ों की सूजन को कम करने में मदद करेगा।

सुपारी खाने के फायदे दस्त के लिए – Supari khane ke fayde for Diarrhea in Hindi

दस्‍त एक ऐसी स्थिति है जब पेट और आंत (stomach and intestines) तरल पदार्थों और भोजन को पचाने में असफल होते हैं जिससे शरीर से बड़ी मात्रा में तरल पदार्थ बाहर निकाल दिये जाते हैं। यदि समय पर इसका इलाज नहीं किया जाता है तो यह स्थिति व्‍यक्ति के लिए घातक हो सकती है। सुपारी का कम मात्रा में सेवन कर दस्‍त और पाचन से संबंधित परेशानियों को कम किया जा सकता है।

(और पढ़े – दस्त ठीक करने के घरेलू उपाय…)

पुरुषों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए सुपारी के फायदे – Betel nuts for Maintains men’s health in Hindi

समय से पहले स्‍खलन के इलाज के लिए सुपारी बहुत ही उपयोगी होती है। यह एक ऐसी स्थिति है जो पुरुषों में बांझपन का कारण बनती है। जिन लोगों को इस प्रकार की समस्‍या होती हैं उनके लिए सुपारी का सेवन करना फायदेमंद होता है।

(और पढ़े – शीघ्रपतन कारण,उपचार और शीघ्रपतन रोकने के घरेलु उपाय…)

सुपारी के उपयोग एनीमिया को दूर करे – Betel nuts for anemia in Hindi

शरीर में लोहे की कमी के कारण एनीमिया हो सकता है। इसके अलावा रक्‍त प्रवाह में भोजन के खराब संश्‍लेषण से रक्‍त में शर्करा का स्‍तर कम हो सकता है। सुपारी का नियमित सेवन करने से दोनो प्रकार की समस्‍या को दूर किया जा सकता है।

(और पढ़े – क्या है एनीमिया? कारण, लक्षण और आहार…)

सुपारी खाने के नुकसान – Supari khane ke nuksan in Hindi

  1. अधिक मात्रा में सुपारी का सेवन करना हानिकारक होता है। इसका औषधीय उद्देश्य के लिए कम मात्रा में सेवन किया जाना चाहिए।
  2. सुपारी को अधिक मात्रा में सेवन करने से यह दांतों को नुकसान (harmful for teeth) पहुंचा सकता है।
  3. अस्थमा रोगी को सुपारी के एल्कलॉइड के ब्रोंको कोनस्‍ट्रक्टिव (Broncho constrictive) प्रभाव के कारण सेवन नहीं करना चाहिए।
  4. गर्भावस्‍था के दौरान महिलाओं को सुपारी खाने से बचना चाहिए।
  5. सुपारी का अधिक मात्रा में सेवन करने से मुंह का कैंसर (oral cancer) हो सकता है।

(और पढ़े – पान के फायदे औधषीय गुण और उसके नुकसान…)

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration