रामफल के फायदे और नुकसान – Ramphal Benefits And Side Effects In Hindi

रामफल के फायदे और नुकसान - Ramphal Benefits And Side Effects In Hindi
Written by Ramkumar

Ramphal Fruit Benefits In Hindi रामफल जो कि लगभग सीताफल के सामान होता है। सीताफल आप मे से बहुत से लोगों का पसंदीदा फल हो सकता है। लेकिन रामफल के फायदे जानने के बाद आप भी इसे पसंद करने लगेगें। राम फल का वैज्ञानिक नाम एनोना रेटिकोलाटा (Annona Reticulata) है। इस फल में आपके दिल को स्‍वस्‍थ्‍य रखने की अदभुद् क्षमता होती है। अपने पौष्टिक और औषधीय गुणों के कारण इस फल को बहुत ही पसंद किया जाता है। आइए जानते हैं राम फल के फायदे और नुकसान के बारे में। जिन्‍हें जानकर आप भी रामफल के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

1. रामफल का पौधा – Ramphal Ka Podha In Hindi
2. रामफल के पोषक तत्‍व – Ramphal Ke Poshak Tatva In Hindi
3. रामफल के फायदे – Ramphal Fruit Benefits In Hindi

4. रामफल के नुकसान – Ramphal Ke Nuksan in Hindi

रामफल का पौधा – Ramphal Ka Podha In Hindi

रामफल का पौधा - Ramphal Ka Podha In Hindi

इस स्‍वादिष्‍ट और औषधीय फल का पौधा छोटा, सीधा, अर्ध-पर्णपाती या अर्ध सदाबहार पेड़ है जिसका तना 25 से 35 सेमी व्‍यास के साथ लगभग 3 से 5 मीटर ऊंचा होता है। इसकी पत्तियां डाली के दोनों ओर लंबी और अंडाकार होती हैं। इसकी पत्तियां 10 से 20 सेमी लंबी और 2.5 से 3.5 सेमी छोड़ी होती हैं। इस पेड़ की छाल हल्‍की भूरे रंग की और अंदर की तरफ हल्‍की पीले रंग की होती है। इसके फल चिकने और आकार मे सीताफल से थोड़े बड़े होते हैं। इनके अंदर का मांस सफेद क्रीम की तरह होता है जिसका स्‍वाद मीठा होता है।

(और पढ़े – सीताफल खाने के फायदे…)

रामफल के पोषक तत्‍व – Ramphal Ke Poshak Tatva In Hindi

पोषक तत्‍वों की बात की जाए तो इस फल में बहुत सारे खनिज और प्रोटीन होते हैं। 100 ग्राम रामफल के अनुसार पोषक तत्‍व इस प्रकार हैं :

  • कैलोरी -101
  • प्रोटीन -1.7 ग्राम
  • फैट – 0.6 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट – 25.2 ग्राम
  • फॉस्‍फोरस – 21 मिली ग्राम
  • लोहा – 0.71 मिली ग्राम
  • फाइबर – 2.4 ग्राम
  • कैल्शियम – 30 मिली ग्राम
  • थियामिन – 0.08 मिली ग्राम
  • रिबोफ्लेविन – 0.1 मिली ग्राम
  • नियासिन – 0.5 मिली ग्राम
  • एस्कॉर्बिक एसिड -19.2 मिली ग्राम
  • पैंटोथैनिक एसिड – 0.135 मिली ग्राम

(और पढ़े – कैल्शियम की कमी के लक्षण और इलाज…)

रामफल के फायदे – Ramphal Fruit Benefits In Hindi

प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune System) को बढ़ाने में रामफल बहुत ही फायदेमंद होता है। राम फल के गुण त्‍वचा को स्‍वस्‍थ्‍य रखने में मदद करते हैं। रामफल का उपयोग कर आप घावों का इलाज भी कर सकते हैं। रामफल के औषधीय गुण इसमें उपस्थित पोटेशियम के कारण होते हैं जो इलेक्‍ट्रोलाइट (Electrolyte) को संतुलित करने में मदद करते हैं और मांसपेशियों के विकास में मदद करते हैं। रामफल के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत अधिक होते हैं क्‍योंकि ये विटामिन सी और रिबोफ्लाविन (Riboflavin) में समृद्ध होते हैं। यदि रामफल का सेवन नियमित रूप से किया जाए तो यह आपके शरीर को मुक्‍त कणों (Free radicals) के प्रभाव से बचाता है साथ ही यह आपकी आंखों के स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखता है और आपकी द्रष्टि क्षमता (Visual capacity) को बढ़ाता है। आइए विस्‍‍तार से जाने रामफल के फायदों के बारे में।

(और पढ़े – आँखों को स्वस्थ रखने के लिए 10 सबसे अच्छे खाद्य पदार्थ…)

पाचन के लिए रामफल के फायदे – Ramphal Ke Fayde Pachan Ke Liye in Hindi

पाचन के लिए रामफल के फायदे - Ramphal Ke Fayde Pachan Ke Liye in Hindi

आपके पेट को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए फाइबर (Fiber) बहुत ही उपयोगी होता है जो कि रामफल में पर्याप्‍त मात्रा में उपस्थित रहता है। फाइबर पचने में आसान होने के कारण यह आपके पेट की पाचन शक्ति को बढ़ाने में सहायक होता है, जिससे आपको कब्‍ज और पाचन से संबंधित समस्‍याओं से छुटकारा मिल सकता है। यदि आपको पेट से संबंधित परेशानी जैसे अपचन, कब्‍ज, दस्‍त या पेचिस आदि की समस्‍या हो तो आप रामफल का फायदेमंद सेवन कर सकते हैं। यह आपके पेट और पाचन से जुड़ी समस्‍याओं का निदान कर सकता है।

(और पढ़े – मानव पाचन तंत्र कैसा होता है, और कैसे इसे मजबूत बनायें…)

रामफल के लाभ मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ्‍य रखे – Ramphal Ke Labh Mastishk Ko Swasth Rakhe In Hindi

रामफल के लाभ मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ्‍य रखे - Ramphal Ke Labh Mastishk Ko Swasth Rakhe In Hindi

अगर आप सोच रहे हैं कि रामफल का उपयोग मौसमी फल के रूप में केवल स्‍वाद के लिए किया जाता है तो आप गलत सोच रहे हैं। रामफल को खाने के बहुत से कारण और फायदे हैं। जिनमें एक प्रमुख लाभ मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य (Brain Health) से संबंधित है। रामफल में आयरन अच्‍छी मात्रा में होता है जो कि आपके मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए बहुत ही महत्‍वपूर्ण होता है। आपके शरीर में जितनी आक्‍सीजन का उपयोग किया जाता है उसका 20 प्रतिशत भाग केवल मस्तिष्‍क उपयोग करता है। इस कारण आयरन अपके शरीर में ऑक्‍सीजन की आपूर्ति को बढ़ाने में मदद करता है। यह मस्तिष्‍क में रक्‍त के उचित प्रवाह को बढ़ाता है जो संज्ञानात्‍मक कार्य को बढ़ावा देता है। रामफल का सेवन करने से आप अल्‍जाइमर (Alzheimer’s) रोग और डिमेंशिया जैसी संज्ञानात्‍मक बीमारियों को रोक सकते हैं।

(और पढ़े – मानसिक रोग के लक्षण, कारण, उपचार, इलाज, और बचाव…)

रामफल के उपयोग हीमोग्‍लोबिन बढ़ाए – Ramphal Ke Upyog Hemoglobin Ko Badhaye in Hindi

रामफल के उपयोग हीमोग्‍लोबिन बढ़ाए - Ramphal Ke Upyog Hemoglobin Ko Badhaye in Hindi

आयरन हीमोग्‍लोबिन (Hemoglobin) के उत्‍पादन मे सहायता करता है। आयरन शरीर मे खून बढ़ाने के साथ-साथ ऑक्‍सीजन परिवहन में भी मदद करता है। मानव शरीर में अतिरिक्‍त हीमोग्‍लोबिन आवश्‍यक है क्‍योंकि इंसान बाहरी या आंतरिक रूप से विभिन्‍न चोटों मे रक्‍त खो देता है। रामफल महिलाओं के लिए विशेष रूप से फायदेमंद होता है क्‍योंकि मासिक धर्म के दौरान महिलाएं अधिक मात्रा में रक्‍त स्राव करती हैं, इसलिए उन्‍हें खून की कमी या ए‍नीमिया (Anemia) का खतरा सबसे अधिक होता है। आप इन सभी खतरों को कम करने के लिए रामफल का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – पीरियड्स की जानकारी और अनियमित पीरियड्स के लिए योग और घरेलू उपचार…)

हृदय को स्‍वस्‍थ्‍य रखे रामफल के गुण – Ramphal Ke Gun Hriday Ko Swasth Rakhe in Hindi

हृदय को स्‍वस्‍थ्‍य रखे रामफल के गुण - Ramphal Ke Gun Hriday Ko Swasth Rakhe in Hindi

आपके शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य बनाए रखने के लिए हृदय (heart) को स्‍वस्‍थ्‍य रखना बहुत ही जरूरी है क्‍योंकि हृदय आपके शरीर अहम हिस्‍सा होता है। रामफल में औषधीय रूप से विटामिन बी6 उपस्थित रहता है जो कि हृदय पर जमा वसा को नियंत्रित करने में मदद करता है। आप नियमित रूप से रामफल का उपयोग कर अपने हृदय से संबंधित समस्‍याओं से छुटकारा पा सकते हैं। विटामिन बी6 आपके गुर्दे के लिए भी फायदेमंद होता है जो कि गुर्दे के पत्‍थरों के गठन को रोकता है।

(और पढ़े – हार्ट अटेक कारण और बचाव…)

रामफल के फायदे कैंसर से बचायें – Ramphal Fruit Benefits for Cancer In Hindi

रामफल के फायदे कैंसर से बचायें - Ramphal Fruit Benefits for Cancer In Hindi

आपको यह जानकर हैरानी हो सकती है कि रामफल का सेवन करके कैंसर का उपचार किया जा सकता है। आप यह तो मानते हैं कि हरी सब्जियों और ताजे फलों का सेवन करने से कैंसर की संभावनाओं को दूर किया जा सकता है। इसी तरह रामफल के औषधीय गुण कैंसर के प्रभाव को कम करने में सहायक होते हैं। अध्‍ययन बताते हैं कि रामफल में विटामिन सी की अच्‍छी मात्रा होने के कारण यह मुंह, फेफड़ों के कैंसर, गले का कैंसर, गुदाशय का कैंसर, कोलन कैंसर, अन्नप्रणाली (Esophagus) और पेट के कैंसर की संभावनाओं को कम करता है। आप इस मौसमी फल (seasonal fruit) का सेवन करके ऊपर बताए गए कैंसरों के होने की संभावनाओं को कम कर सकते हैं।

(और पढ़े – कोलोरेक्टल कैंसर (कोलन कैंसर) के कारण, लक्षण, इलाज और बचाव…)

रामफल के औषधीय गुण त्‍वचा के लिए – Ramphal Ke Ausdhya Gun Twacha Ke Liye in Hindi

रामफल के औषधीय गुण त्‍वचा के लिए - Ramphal Ke Ausdhya Gun Twacha Ke Liye in Hindi

आप अपनी त्‍वचा को स्‍वस्‍थ्‍य बनाने के लिए राफफल का उपयोग कर सकते हैं। यह आपकी त्‍वचा से संबंधित परेशानियों को दूर करने में आपकी मदद कर सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि रामफल में विटामिन ए और विट‍ामिन बी6 की अच्‍छी मात्रा मौजूद रहती है। इनकी उपस्थित के कारण यह विभिन्‍न त्‍वचा रोगों जैसे डैंड्रफ, एक्जिमा, बालों के झड़ने और सूखी त्‍वचा का इलाज कर सकते हैं। आपके चेहरे में मुँहासे बैक्‍टीरिया के कारण आते हैं। रामफल के एंटीबैक्‍टीरियल प्रभाव आपकी त्‍वचा के बैक्‍टीरिया को दूर करने में मदद करते हैं जिससे आपके सुंदर चेहरे पर मुँहासे (Acne) होने की संभावना कम हो जाती है।

(और पढ़े – त्‍वचा में निखार के लिए सल्‍फर युक्‍त भोजन…)

गर्भवती महिलाओ के लिए रामफल का इस्‍तेमाल – Ramphal Ka Istemal Garbhvati Mahilao Ke liye in Hindi

गर्भवती महिलाओ के लिए रामफल का इस्‍तेमाल - Ramphal Ka Istemal Garbhvati Mahilao Ke liye in Hindi

अपने पौष्टिक गुणों के कारण रामफल का उपयोग सामान्‍य लोगों के लिए फायदेमंद तो है ही साथ ही यह गर्भवती महिलाओं के लिए भी उपयोगी होता है। यदि गर्भवती महिलाएं रामफल का नियमित सेवन करती हैं तो उन्‍हें चक्‍कर आना, कमजोरी, सुबह की बीमारी जैसी समस्‍याओं से छुटकारा मिल सकता है। इस फल के फायदे उन महिलाओं के लिए भी होते हैं जिन्‍हें बार-बार गर्भापात होता है। रामफल स्‍तन के दूध को बढ़ाने में भी मदद करता है। रामफल केवल गर्भवती महिलाओं के लिए ही नहीं बल्कि उनके भ्रूण के समुचित विकास जैसे कि मस्तिष्‍क प्रतिरक्षा आदि में भी अहम योगदान देता है।

(और पढ़े – गर्भावस्था में आहार जो देगा माँ और बच्चे को पूरा पोषण…)

रामफल खाने के फायदे हार्मोन संतुलित करे – Ramphal Khane Ke Fayde Harmon Santulit Kare in Hindi

रामफल खाने के फायदे हार्मोन संतुलित करे - Ramphal Khane Ke Fayde Harmon Santulit Kare in Hindi

आपके शरीर में हार्मोन (Hormone) के असंतुलन के कारण बहुत सी समस्‍याएं उत्‍पन्‍न हो सकती हैं। ये समस्‍याएं शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार की होती हैं। रामफल में विटामिन बी6 अच्‍छी मात्रा में होता है जो कि हार्मोन के संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है। विटामिन बी6 की कमी के कारण विभिन्‍न भावनात्‍मक विकार हो सकते हैं। हार्मोन में असंतुलन और इसके गठन के परिणामस्‍वरूप भावनात्‍मक गड़बड़ी होती है। भावनात्‍मक विकारों और हार्मोन के इलाज के लिए विटामिन बी6 आवश्‍यक होता है। इसलिए रामफल का सेवन आपको ऐसी सभी प्रकार की समस्‍याओं से निजात दिलाने में सहायक होता है।

(और पढ़े – महिलाओं में हार्मोन असंतुलन के कारण, लक्षण और इलाज…)

घाव के लिए रामफल की पत्तियों के फायदे – Ramphal Ki Pattiyo Ke Fayde Ghav ke liye

घाव के लिए रामफल की पत्तियों के फायदे - Ramphal Ki Pattiyo Ke Fayde Ghav ke liye

इस आयुर्वेदिक फल के पेड़ की पत्तियां और छाल भी विभिन्‍न प्रकार के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने में हमारी मदद करते हैं। रामफल की पत्तियों का सेवन करने से यह आंतरिक कीड़ों से छुटकारा दिलाने में मदद करती हैं, साथ ही यह बाहरी रूप से फोड़े और फुंसीयों (Boils and pimples) का इलाज करने में भी मदद करती हैं। रामफल की पत्तियों या इस फल के गूदे को पेस्‍ट बनाकर फोड़े या घाव पर लगाया जा सकता है जो कि इनके उपचार में मदद करता है।

(और पढ़े – मुंहासे दूर करने का आयुर्वेदिक उपाय…)

रामफल की छाल दस्‍त के लिए – Ramphal Ki Chaal Dast Ke Liye in Hindi

रामफल की छाल दस्‍त के लिए - Ramphal Ki Chaal Dast Ke Liye in Hindi

टैनिन (tannin) की अच्‍छी मात्रा रामफल के कच्‍चे फलों और इसकी छाल में मौजूद रहते हैं जो कि दस्‍त और पेचिस के इलाज में मदद करते हैं। गंभीर मामलों में कच्‍चे फल, पत्तियां और छाल को 1 लीटर पानी में उबाल कर काढ़ा बनाएं। इस काढ़े को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में दिन में 2-3 बार सेवन करें। यह आपको दस्‍त और पेचिश से छुटकारा दिलाने में मदद करेगा।

(और पढ़े – दस्त ठीक करने के घरेलू उपाय…)

दांतों के दर्द के लिए रामफल फ्रूट के लाभ – Dant Dard Ke Liye Ramphal Ke Labh in Hindi

दांतों के दर्द के लिए रामफल फ्रूट के लाभ – Dant Dard Ke Liye Ramphal Ke Labh in Hindi

दांतों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए रामफल की जड़ की छाल को अच्‍छे से साफ करने के बाद इन तुकड़ों को दांतों से दबाएं। यह आपके दांतों के दर्द को कम करने में मदद करता है। रामफल की जड़ का रस एक ज्‍वरनाशी (febrifuge) का काम करता है।

(और पढ़े – दाँतों की देखभाल कैसे करे…)

रामफल के नुकसान – Ramphal Ke Nuksan in Hindi

रामफल के नुकसान – Ramphal Ke Nuksan in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के नजरिये से रामफल बहुत ही उपयोगी और फायदेमंद फल है लेकिन अधिक मात्रा में सेवन करने से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। किसी विशेष उद्देश्‍य के लिए रामफल का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से संपर्क करें।

  • अपनी ठंड़ी प्रकृति के कारण अधिक मात्रा मे रामफल का सेवन करने से यह सर्दी जुकाम (Cold and cough) आदि की समस्‍याएं पैदा कर सकता है।
  • रामफल के बीज जहरीले होते हैं, इसलिए इनका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • यह स्‍वाद में मीठा होता है, जो कि हमारे लिए लाभकारी भी होता है। लेकिन मधुमेह रोगीयों को नियंत्रित मात्रा में इसका सेवन करना चाहिए। नहीं तो यह मधुमेह के प्रभाव को और बढ़ा सकता है।
  • जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, वे रामफल का अधिक सेवन न करें, यह उनके वजन को बढ़ा सकता है।
  • रामफल गर्भवती महिलाओं के लिए अच्‍छा होता है, फिर भी इस स्थिति में रामफल का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लें, क्‍योंकि यह आपके होने वाले बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य को भी प्रभावित कर सकता है।
  • यदि आप किसी विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो रामफल का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लें।

(और पढ़े – शुगर ,मधुमेह लक्षण, कारण, निदान और बचाव के उपाय…)

स्वास्थ्य और सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए नीचे दिए गए टॉपिक पर क्लिक करें

हेल्थ टिप्स | घरेलू उपाय | फैशन और ब्यूटी टिप्स | रिलेशनशिप टिप्स | जड़ीबूटी | बीमारी | महिला स्वास्थ्य | सवस्थ आहार |

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration