घरेलू उपाय

पेट और कमर की चर्बी कम करने के घरेलू उपाय – Home Remedies To Reduce Belly Fat In Hindi

पेट और कमर की चर्बी कम करने के घरेलू उपाय - Pet Aur Kamar Ki Charbi Kam Karne Ke Gharelu Upay in Hindi

कमर और पेट के आसपास जरूरत से ज्यादा चर्बी का जमना लोगों के लिए चिंता का विषय बनता जा रहा है, पेट की चर्बी दूसरों को ना सिर्फ देखने में खराब लगती है बल्कि यदि यह जरूरत से ज्यादा बढ़ जाए तो इससे कई तरह की बीमारियां होने का खतरा भी अधिक हो जाता है। पेट के चारों ओर जमा हो रही चर्बी के कारण ब्लड प्रेशर, हृदय रोग और शुगर जैसी बीमारियां हो सकती हैं। यदि आप भी अपने पेट और कमर के चारों ओर बढ़ रही चर्बी से परेशान हैं तो आज हम हेल्थअनबॉक्स के इस लेख में जानेंगे कि कैसे आप पेट और कमर की चर्बी कम करने के घरेलू उपाय और तरीकों को अपनाकर अपने पेट और कमर की चर्बी को कम कर सकते हैं और पेट और कमर कम करने के तरीके अपनाकर उसे बढ़ने से भी रोक सकते हैं।

पेट पर जमे अतिरिक्त फैट को कम करना थोड़ा मुश्किल जरूर है लेकिन नामुमकिन नहीं है। सही समय पर संतुलित आहार और व्यायाम कर आसानी से घर पर ही पेट और कमर की चर्बी को कम किया जा सकता है। क्या आप जानते हैं? मोटापे के भी दो प्रकार होते हैं, जी हां… कुछ लोग सिर से लेकर पांव तक मोटे होते हैं, कहने का मतलब उनका पूरा शरीर ही वजनदार और मोटापा से ग्रस्त होता हैं। लेकिन कुछ लोग केवल अपने मोटापे का कारण अपने टमी फैट को मानतें हैं मतलब इनका मोटापा केवल इनके पेट पर दिखता है। जिसका मुख्य कारण उनका खानपान और लाइफस्टाइल होती है जिसे वह चाहकर भी छोड़ नहीं पाते हैं।

बेल्ली फैट कम करने के उपाय अनेक हैं आपने टीवी पर पेट और कमर की चर्बी घटाने और मोटापा कम करने के एड जरूर देखें होगें। जिसमें खाने पीने से लेकर कई तरह की एक्सरसाइज (Exercise) या स्वेट स्लिम बेल्ट (Sweat Belt) के बारे में दिखाया जाता है। लेकिन पेट और कमर की चर्बी कम करने के ये सारे उपाय काफी मंहगे होते हैं और कुछ सही से काम नहीं करते या किसी के साइड इफेक्ट्स होते हैं। ऐसे में अगर आप बिना पैसे खर्च किये पेट और कमर कम करने के तरीके खोज रहें हैं तो हम आपको घर में ही कुछ आसान उपायों से पेट की चर्बी घटाने (Tips to Reduce Belly Fat in Hindi), मोटापा कम करने और कमर की चर्बी कम करने के घरेलू उपाय (Pet Aur Kamar Ki Charbi Kam Karne Ke Gharelu Upay) बता रहे हैं।

जब भी बात पेट और कमर पर जमा चर्बी को कम करने की आती है तो लोग इसके लिए इंटरनेट पर घरेलू उपाय ढूंढने लगते हैं, लेकिन कमर और पेट कम कैसे करें में केवल घरेलू उपाय ही कारगर नहीं हैं इसके लिए आपको कुछ कारगर पेट और कमर कम करने के तरीके अपनाने होंगे जिनमें योग व्यायाम और सही डाइट शामिल है। आज हम आपको इन्हीं चीजों के बारे में बताएंगे यदि आप सच में अपने बड़े हुए पेट को कम करना चाहते हैं और अपनी कमर का साइज घटाना चाहते हैं तो इन्हें नियमित रूप से करें, केवल एक-दो दिन इन्हें कर लेने से आपको मनचाहे परिणाम प्राप्त नहीं होंगे।

यह तो आपको पता है कि मोटापा दिन-ब-दिन बढ़ती एक समस्या बनती जा रही है। कमर और पेट कम कैसे करें इसे जानने से पहले हमें यह जानना होगा की आखिर पेट और कमर के आसपास चर्बी का जमाव क्यों होता है। इसलिए हम कमर और पेट कम करने के उपायों को जानने से पहले यह जान लेते हैं कि आखिर यह समस्या होती क्यों है और इसके मुख्य कारण क्या है।

पेट और कमर पर चर्बी जमा होने के कारण – Causes of Belly Fat in Hindi

पेट और कमर पर चर्बी जमा होने के कारण - Causes of Belly Fat in Hindi

यदि कमर और पेट के आसपास थोड़ी मात्रा में चर्बी एकत्रित हो जाती है तो इससे कोई घाटा नहीं है, क्योंकि एक निश्चित मात्रा में जमा हुई चर्बी (वसा) हमारे शरीर के लिए कुशन की तरह कार्य करती है। जिससे हमारी हड्डियां सुरक्षित रहती हैं, साथ ही यह हमारे शरीर के अंदरूनी अंगों को भी सुरक्षा प्रदान करती है। लेकिन जब यही चर्बी जरूरत से ज्यादा बढ़ने लगती है तो कई बीमारियां हमें होने लगती हैं। इसलिए हम सबसे पहले इसी बात पर चर्चा करने वाले हैं कि आखिर हमारे शरीर में अतिरिक्त चर्बी के जमने के मुख्य कारण कौन से हैं।

अनुवांशिकता

कई वैज्ञानिक शोधों से यह जानकारी प्राप्त हुई है कि शरीर में कुछ फेट सेल का डेवलपमेंट अनुवांशिक तौर पर होता है, कहने का मतलब यह है कि यदि आपके परिवार में किसी को मोटापे की परेशानी है या कोई शरीर में अधिक चर्बी जमने की समस्या का शिकार है, तो अधिक चांस है कि आपको भी इस तरह की समस्या का सामना करना पड़े (1)। लेकिन यह हर जगह लागू नहीं होता एक अच्छी लाइफ स्टाइल और डाइट के साथ आप इसे बदल भी सकते हैं।

खराब पाचन तंत्र

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती जाती है हमारा पाचन तंत्र धीरे-धीरे कमजोर होता जाता है, इससे हमारे शरीर में गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम भी प्रभावित होने लगता है जिसके कारण पेट और कमर के आसपास चर्बी बढ़ने लगती है (2)।

हार्मोनल असंतुलन

पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में हार्मोनल बदलाव अधिक देखे जाते हैं। महिलाओं के जीवन में ऐसी कई स्थितियां आती हैं जब उन्हें अपने शरीर में हार्मोन में बदलाव देखने को मिलते हैं। इस तरह के बदलाव मुख्यतः प्रेग्नेंसी के समय और किसी महिला के जीवनकाल के मध्य पड़ाव लगभग 40 साल के आसपास पहुंच चुकी महिलाओं में देखे जाते हैं। इस समय उनके शरीर का वजन तेजी से बढ़ने लगता है और कमर और पेट के आसपास की चर्बी भी उतनी ही तेजी से जमा होने लगती है (3)। यह स्थिति रजोनिवृत्ति के दौरान देखने को मिलती है जिसका कारण एस्ट्रोजन हार्मोन के स्तर में कमी या बढ़ोतरी मानी जाती है। यही कारण है कि महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन के कारण कमर और पेट के आस-पास अतिरिक्त चर्बी जमा हो जाती है।

अधिक तनाव

आज के समय में तनाव होना बड़ी ही आम बात है तनावग्रस्त व्यक्ति एक के बाद एक बहुत सारी बीमारियों से घिरता चला जाता है और उन्हें बीमारियों में से एक है चर्बी का बढ़ना जिसके कारण ही उसे और कई बीमारियां घेर लेती है। अधिक तनाव के कारण हमारे ब्लड में कॉर्टिसोल नामक हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। कोर्टिसोल हार्मोन शरीर में अतिरिक्त वसा को जमा करने का भी कारण हो सकता है, क्योंकि यह शरीर में बसा के स्तर को बढ़ा देता है, जिससे वसा कोशिकाएं बड़ी हो जाती है। इसलिए अधिक तनाव लेने के कारण व्यक्तियों में धीरे-धीरे पेट के आसपास और अन्य जगहों पर चर्बी एकत्रित होने लगती है (4)। अगर आपके खानपान की आदतें सही नहीं हैं तो तनाव और भी बुरा परिणाम दे सकता है। क्योंकि आमतौर पर लोग तनाव में होने पर कुछ न कुछ खाते रहते हैं। जिससे उनके पेट पर चर्बी जमा होने लगती है।

मांसपेशियों में कमजोरी

जब हमारे पेट के आसपास की मांसपेशियां ढीली और कमजोर होने लगती हैं तो इस जगह चर्बी बढ़ना शुरू हो जाती है।

अधिक समय तक बैठकर काम करने की आदत

आज के आधुनिक दौर में हर चीज को बैठे-बैठे किया जा सकता है, इससे हमारा जीवन तो आसान हो गया है लेकिन हमारी शारीरिक गतिविधियां बहुत ही कम हो गई है, जिसका परिणाम हम अपने शरीर पर चर्बी को एकत्रित होता देख सकते हैं। आप चाहे घर में हो या फिर ऑफिस में हो अधिक देर तक एक ही जगह बैठे रहना और काम करते रहना कहीं ना कहीं पेट और कमर पर जम रही अतिरिक्त चर्बी का कारण हो सकता है। कंप्यूटर पर बैठकर अधिक देर काम करना भी शरीर में चर्बी बढ़ने का एक कारण हो सकता है। पेट की चर्बी बढ़ने के कारण में हमारे बैठने का तरीका भी बहुत असर डालता है। हमेशा कमर झुकाकर या पेट बाहर निकाल कर बैठना पेट और कमर पर चर्बी (फैट) के जमा होने का कारण बन सकता है।

अन्य बीमारियां

कुछ ऐसी बीमारियां होती हैं जिनके कारण मोटापा बढ़ने लगता है यदि व्यक्ति इन बीमारियों की चपेट में आता है तो उसके शरीर में चर्बी का स्तर बढ़ने लगता है महिलाओं में इस प्रकार की समस्या ज्यादा होती है इन बीमारियों में मुख्यतः शुगर, ब्रेस्ट कैंसर या ह्रदय से जुड़ी बीमारियां होती हैं। थायराइड और उच्च रक्तचाप भी कभी-कभी पेट के आसपास चर्बी बढ़ने की आशंका बढ़ा सकता है।

कम प्रोटीन और ज्यादा कार्बोहाइड्रेट लेना

हर व्यक्ति दिन भर कुछ ना कुछ खाता रहता है लेकिन हम अपने खाने के बारे में ज्यादा सोचते नहीं हैं। कभी-कभी हम काम के प्रेशर में या फिर किसी स्ट्रेस में जरूरत से ज्यादा खा लेते हैं या फिर किसी पार्टी या खास समय में बाहर खाने जाने पर हम बिना सोचे समझे कुछ भी खा लेते हैं। जब हम खाने में मौजूद पोषक तत्वों पर ध्यान नहीं देते तो कहीं ना कहीं यह चीजें हमें नुकसान पहुंचाती हैं यदि हमारे खाने में प्रोटीन कम होगा और कार्बोहाइड्रेट और फैट की मात्रा अधिक होगी तो यह आगे चलकर कमर व पेट के आसपास चर्बी बढ़ाने का काम करेगा।

कम नींद लेना

मोटापा बढ़ें का एक कारण नींद में कमी हो सकती है। पर्याप्त नींद (7-8 घंटे) न लेने से भूख बढ़ाने वाले हार्मोन (ghrelin) का उत्पादन बढ़ जाता है। जो शरीर में शर्करा और फैट बढ़ाने वाले भोजन का संरक्षण करता है। रात में पूरी नींद न लेने से कॉर्टिसोल हार्मोन का स्तर भी बढ़ जाता है जो पेट और कमर की चर्बी बढ़ने का कारण हो सकता है।

यह तो थी कुछ बातें जो आपको जानना जरूरी था। इनके आलावा भी पेट के आसपास चर्बी जमा होने के और कई कारण हो सकते हैं जैसे कि हमने ऊपर बात की उससे आपको यह अंदाजा लग गया होगा कि आप किस कारण अपने पेट के आसपास चर्बी को जमता देख रहे हैं। आइए अब जानते हैं कमर और पेट के आसपास की चर्बी को कम कैसे करें।

कमर और पेट की चर्बी कम करने के लिए एक्सरसाइज – Exercises to Reduce Belly Fat in Hindi

कमर और पेट की चर्बी कम करने के लिए एक्सरसाइज - Exercises to Reduce Belly Fat in Hindi

अब आप सोच रहे होंगे कि कमर और पेट के की चर्बी को कम करने के लिए कौन से ऐसे तरीकों को अपनाया जाए जिससे आसानी से इससे निजात पाई जाए। इसके लिए बहुत जरूरी है कि एक अच्छी लाइफ स्टाइल को अपनाना जिसमें एक्सरसाइज की भूमिका बहुत अधिक है। पेट और कमर में जमी चर्बी को बहुत जल्दी खत्म करने के लिए व्यायाम को बहुत ही कारगर माना जाता है (5)। चर्बी सबसे पहले पेट और कमर के हिस्से में जमा होना शुरू होती है। इसलिए अधिकतर लोग मोटे नहीं होते मगर उनकी तोंद निकली होती है।

कुछ लोगों का पेट इतना बड़ा हो जाता है कि वह चाह कर भी अपने पसंद के कपड़े नहीं पहन पाते और जब वह दूसरों के सामने उठते बैठते हैं तो उन्हें हीन भावना का शिकार होना पड़ता है कमर के और पेट के आसपास चर्बी एकत्रित हो जाने से उनका शरीर दूर से ही वेडोल नजर आने लगता है। ऐसे में जरूरी हो जाता है कि आप डेली कमर और पेट की चर्बी कम करने वाली एक्सरसाइज को करना शुरू कर दें। यहां हमने कुछ ऐसे ही व्यायाम की जानकारी दी है जिन्हें आपको रोज करना चाहिए अगर आप इन्हें रोज करते हैं तो आपको पेट और कमर के हिस्से में जमा अतिरिक्त चर्बी को कम करने में जरूर लाभ होगा।

दौड़ना

पेट की चर्बी कम करने के उपाय दौड़ना

हमारे शरीर को फिट रखने के लिए रनिंग करना बहुत ही बेहतर एक्सरसाइज मानी जाती है दौड़ लगाने से पेट की चर्बी कम करने के साथ-साथ शरीर को भी चुस्त-दुरुस्त रखा जा सकता है। इससे हमारा हृदय अच्छे से काम करता है और दौड़ लगाने पर हम जो कैलोरी बर्न करते हैं उससे हमारे शरीर में जमा चर्बी धीरे-धीरे कम होना शुरू होने लगती है। लेकिन आपको ध्यान रखना है की वजन घटाने या मोटपा कम करने के लिए पहले दिन से ही तेज गति में दौड़ने की कोशिश ना करें, शुरुआत में धीमी गति से दौड़ना शुरू करें और कुछ ही मीटर तक दौड़ लगाएं। धीरे-धीरे जब आप इसमें माहिर होते जाएंगे तो अपनी दौड़ने की गति और दूरी दोनों बढ़ाते चलें ऐसा कुछ दिन लगातार करने पर आप अपने शरीर में एक हल्कापन महसूस करेंगे और कमर और पेट की चर्बी को कम होता देखेगें।

तैराकी यानि स्विमिंग

बेल्ली फैट कम करने के उपाय तैराकी यानि स्विमिंग

अगर आप पेट की चर्बी को मजेदार तरीके से कम करना चाहते हैं तो स्विमिंग करना एक अच्छा ऑप्शन है। तैराकी यानि स्विमिंग करना वैसे तो सभी को पसंद होता है इससे आपके शरीर पर जमी अतिरिक्त चर्बी कम होती है। स्विमिंग करने पर हमारे शरीर की सभी मांसपेशियां एक साथ कार्य करती हैं, इससे हमारे हृदय की गति भी तेज होती है, जिससे हमारा हृदय स्वास्थ्य अच्छा होता है। जिससे तेजी से फैट कम होती है।

स्विमिंग करने से केवल वजन कम नहीं होता बल्कि शरीर को भी एक बेहतर शेप मिलता है आप शरीर पर जमी अतिरिक्त चर्बी को कम करने के लिए हफ्ते में दो या तीन दिन तैराकी कर सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें अगर आपने पहले कभी स्विमिंग नहीं की है तो किसी ट्रेनर के देखरेख में ही इसकी शुरुआत करें।

पैदल चलना

पेट और कमर कम करने के तरीके पैदल चलना

यदि आप स्विमिंग नहीं करना चाहते दौड़ नहीं लगाना चाहते तो फिर सबसे आसान तरीका है जो आपकी कमर और पेट की चर्बी को कम कर सकता है वह है पैदल चलना। रोज सुबह और शाम लगभग 30 मिनट तक पैदल चलने की कोशिश करें, ऐसा करने पर शरीर में जमा अतिरिक्त चर्बी धीरे-धीरे कम होने लगेगी। हर दिन कम से कम 30 मिनट पैदल चलें, वजन कम करने के लिए आहार और व्यायाम का संयोजन संभवतः सबसे प्रभावी तरीका है। जब आप पैदल चलें तो कोशिश करें कि थोड़ी देर तेज कदमों से चलना शुरू करें और फिर कुछ दूरी धीमे कदमों से चलें। ऐसा करने पर हृदय की गति बढ़ेगी शरीर में खून का संचार अच्छा होगा और आपके शरीर में जो चर्बी जमा हुई है वह भी धीरे-धीरे कम होने लगेगी। प्रतिदिन 30 मिनट तक चलना आपकी कमर को पतला कर सकता है और पेट की चर्बी को जमने से भी रोक सकता है।

रस्सी कूदें

बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय रस्सी कूदें

पेट की चर्बी कम करने का आसान नुस्खा है रस्सी कूदना। अगर आपका बढ़ा हुआ बेली फैट दूसरों के सामने आपको शार्मिंदा करता हैं, तो इसे कम करने के लिए रोजाना 15-20 मिनट के लिए रस्सी कूदें। रस्सी कूदना वजन कम करने और मोटापा घटाने का आसान और सुसुरक्षित तरीका है। रस्सी कूदने से पेट के साथ–साथ शरीर की अन्य मांसपेशियों पर भी खिंचाव महसूस होता है। जिससे तेजी से कैलोरी बर्न होती है और आपका बैली फैट भी धीरे-धीरे कम होने लगता है।

साइकिल चलाना

कमर और पेट कम कैसे करें में साइकिल चलाना

बचपन में हर कोई साइकिल चलाना सीखता है लेकिन बड़े होते ही लोग इसे चलाना छोड़ देते हैं। साइकिलिंग बहुत ही अच्छी कार्डियो एक्सरसाइज की कैटेगरी में आती है। साईक्लिंग करना भी तेजी से पेट की चर्बी को घटाने में मदद करता है। अध्ययनों से इस बात का पता चला है कि, जो लोग रोज कार्डियो करते हैं वे लगभग 20 प्रतिशत तक पेट की चर्बी कम कर सकते हैं। साइकिल चलाना हृदय की गति के लिए अच्छा माना गया है। इससे एक ओर जहां हमारे पैरों की एक्सरसाइज हो जाती है वही कमर और पेट के आसपास जमा अतिरिक्त चर्बी भी बाहर निकल जाती है। साइक्लिंग करने से पेट, कमर और पैरों की मांसपेशियों पर दबाव पड़ता है, इससे आप अधिक मात्रा में कैलोरी भी जला पाते हैं। इससे आंगें चलकर फिर से पेट पर चर्बी बढ़ने का खतरा भी कम होता है।

वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज

बेल्ली फैट कम करने के लिए वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज

यदि आप वजन कम करने के लिए जिम जाते हैं तो आप वहां वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज कर सकते हैं यह एक प्रकार का व्यायाम होता है जिसमें वजन को उठाया जाता है। ऐसा करने पर ना केवल शरीर को एक आकर्षक बॉडी मिलती है बल्कि पाचन क्रिया भी मजबूत होती है, लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना है कि जिम में वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज करने के लिए किसी पेशेवर ट्रेनर की सलाह अवश्य लें और उसी के देखरेख में इस तरह की एक्सरसाइज करें। इससे आपको बहुत ही जल्द लाभ प्राप्त होगा और आप अपने पेट और कमर के चारों ओर जमी अतिरिक्त वसा को बड़े ही आसानी से खो देंगे।

अभी तक आपने जाना कि किस तरह आप आसान व्यायाम कर पेट और कमर के चारों ओर जमी अतिरिक्त चर्बी को घटा सकते हैं। लेकिन, इसके साथ ही कुछ योगासन भी हैं जो पेट कम करने के लिए बड़े ही कारगर साबित होते हैं (6) योगासन की मदद से पेट और कमर की चर्बी को कम किया जा सकता है। आइए जानते हैं वह कौन से योग हैं जिन्हें आप पेट की चर्बी को कम करने के लिए कर सकते हैं।

सेतुबंध योगासन

पेट और कमर की चर्बी घटाने के लिए सेतुबंध योगासन

यह एक ऐसा योगासन है जिसे करने पर पेट व कमर के आसपास जमा चर्बी को कम करने में मदद मिलती है। सेतुबंध आसन पेट और जांघ की मांसपेशियों को मजबूत करता है इसके अलावा यदि किसी व्यक्ति को गर्दन में दर्द या खिंचाव महसूस हो रहा है तो वह भी इस आसन को करके आराम प्राप्त कर सकता है। सेतुबंध योगासन रीड की हड्डी को सीधा करने के लिए भी कारगर माना जाता है आइए जानते हैं इसे कैसे किया जाता है।

करने का तरीका

  1. सेतुबंध आसन करने के लिए किसी समतल जगह पर योगा मैट बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं।
  2. अपने दोनों घुटनों को मोड़ ले और अपने पैर की एड़ियों को कूल्हों के साथ जितना हो सके सटा ले।
  3. ऐसा करने के बाद अपने दोनों हाथों से एड़ियों को पकड़ ले।
  4. अब धीरे-धीरे सांस लेते हुए अपने कमर के हिस्से को ऊपर उठाएं और अपने पैर के पंजों और हाथों को वैसे ही स्थिति में रहने दें।
  5. इस स्थिति में कुछ देर लगभग 30 सेकंड के आसपास रहें और सामान्य गति से सांस लेते रहें।
  6. पुनः अपनी स्थिति में वापस आने के लिए धीरे-धीरे सांस छोड़ें और अपनी सामान्य अवस्था में आ जाएं।
  7. अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए इस आसन को प्रतिदिन चार से पांच बार दोहराएं।

सावधानी : यदि आप उच्च रक्तचाप की बीमारी से ग्रस्त हैं तो आपको यह आसन नहीं करना चाहिए।

कपालभाती

पेट की चर्बी कम करने के लिए कपालभाती

पेट की चर्बी कम करने के उपाय में यह योगासन बहुत ही फायदेमंद माना जाता है ऐसा भी कहा जाता है कि इस योग को करने पर आपको बड़े जल्दी ही परिणाम देखने को मिलने लगते हैं। कपालभाती को नियमित रूप से करने पर वजन और चर्बी कम होने के साथ-साथ पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे कब्ज गैस और एसिडिटी भी दूर हो जाती हैं। इसे करने से पेट की नसें मजबूत होती हैं और हमारा पाचन तंत्र अच्छे से कार्य करने लगता है जिससे हमें अतिरिक्त चर्बी को कम करने में मदद मिलती है।

करने का तरीका

  1. कपालभाति करने के लिए समतल जमीन पर योगा मैट बिछाकर सुखासन योग मुद्रा में बैठ जाएं और अपनी आंखें बंद कर ले।
  2. इसके बाद एक लंबी गहरी सांस लें ।
  3. अब अपनी सास को धीरे-धीरे नाक से बाहर छोड़ें ध्यान रखें कि जब आप सांस को बाहर छोड़ेंगे तो आपका पेट अंदर की तरफ जाना चाहिए।
  4. आप अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए प्रतिदिन इस योगासन को चार से पांच बार सुबह शाम कभी भी खाली पेट कर सकते हैं।

सावधानी : सुबह के समय खाली पेट कपालभाति करना अधिक फायदेमंद होता है क्योंकि इस समय आपने किसी भी तरह का खाना नहीं खाया होता है अगर आप इसे शाम को कर रहे हैं तो इस बात का विशेष ध्यान रखें कि खाना खाने के 4 से 5 घंटे बाद ही इसे करें। इसे गर्भवती महिलाओं को नहीं करना चाहिए।

अनुलोम विलोम प्राणायाम

पेट कि चर्बी कम करने के लिए अनुलोम विलोम प्राणायाम

यह योग आसन करने में बहुत आसान है लेकिन जितना यह आसान होता है उतना ही अधिक मोटापा कम करने में कारगर भी होता है अनुलोम विलोम प्राणायाम को नाड़ी शोधन प्राणायाम भी कहते हैं। इससे आपको सांस लेने की गति और प्रक्रिया पर ध्यान देना होता है इस योग आसन को करने से शरीर में रक्त प्रवाह ठीक होता है। आइए जानते हैं ऐसे कैसे किया जाता है।

करने का तरीका

  1. अनुलोम विलोम प्राणायाम करने के लिए योगा मेट पर सुखासन योग मुद्रा में बैठ जाएं और अपनी आंखें बंद कर ले।
  2. अपने दाएं हाथ के अंगूठे से दाहिने तरफ की नाक के छिद्र को बंद कर दें और बाएं और के छिद्र से सांस को अंदर ले।
  3. इसके बाद दाहिने हाथ की सबसे छोटी उंगली और उसके साथ की उंगली से अपने बाएं तरफ की नाक के छिद्र को बंद करें और दाएं तरफ से सांस को धीरे धीरे छोड़ें।
  4. अब ऐसी स्थिति में रहते हुए फिर से सांस को अंदर खींचें और दाएं तरफ की नाक को बंद कर बाएं तरफ से सांस को छोड़ें।
  5. अच्छे परिणाम के लिए अपनी क्षमता अनुसार इसे आप चार से पांच बार दोहरा सकते हैं।

सावधानी : उच्च रक्तचाप व ह्रदय के रोग से ग्रस्त व्यक्ति को किसी योग गुरु की सलाह लेकर व उनकी देखरेख में अनुलोम विलोम प्राणायाम करना चाहिए।

नौकासन

पेट कम करने के लिए नौकासन

बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपायों में यह आसन फायदेमंद है। नावासन एक संस्कृत का शब्द हैं इसे नौकासन के नाम से भी जानना जाता हैं। नियमित नौकासन योग करने से छोटी आंत, बड़ी आंत के साथ ही सम्पूर्ण पाचन तंत्र बेहतर होता है।

करने का तरीका

  1. नवासना करने के लिए योगा मेट पर दोनों पैरों को अपने सामने सीधा कर के बैठ जाएं बैठे। और एड़ियों व पंजों को आपस में मिला लें।
  2. रीढ़ की हड्डी को सीधा और दोनों हाथों को सीधा जमीन पर रखें।
  3. अब अपने दोनों पैरों को सीधा रखते हुए ऊपर उठायें।
  4. संतुलन बनाने के लिए आप थोड़ा सा पीछे की ओर झुके, हाथों को अपने आगे की ओर सीधा रखें।
  5. इसमें आपके पैरो और शरीर के ऊपरी हिस्से के बीच कमर पर 45 डिग्री का कोण बनेगा।
  6. नावासन में 10 से 20 सेकंड तक रुकें फिर पैरों को नीचे करके अपनी प्रारंभिक स्थिति में आयें।

सावधानी : गर्भवती महिलाएं इस आसन को ना करें। साथ ही जिन्हें कमर व पेट संबंधी कोई गंभीर बीमारी है तो, उन्हें भी यह आसन नहीं करना चाहिए।

बालासन

पेट की चर्बी कैसे घटाएं में बालासन योग

पेट की चर्बी कैसे घटाएं में बालासन योग भी शामिल है। बालासन योग करने से पेट की मासपेशियां मजबूत होती हैं। इसे रोज करीब 10 मिनट तक करने से पेट अंदर किया जा सकता है। आइये जानते हैं बालासन करने का सही तरीका क्या है।

करने का तरीका

  1. सबसे पहले योगा मेट या चटाई पर वज्रासन यानी आप घुटनों के बल बैठ जाएं अपनी एड़ी ऊंची रखें और सांस लें।
  2. इसके बाद धीरे से आगे की ओर इस तरह से झुकें जिससे कि आपका माथा जमीन को छू जाए। इस दौरान धीरे-धीरे सांस छोड़ें।
  3. इसके बाद अपने हाथों को जमीन पर आगे की ओर बढ़ाएं और हथेलियों को जमीन पर फैला कर छोड़ दें।
  4. इस मुद्रा में आने के बाद धीरे-धीरे अपने सीने को जांघों की ओर दबाव देकर लाएं।
  5. आपका सीना दोनों जांघों को छूना चाहिए और हथेलियां शरीर के बिल्कुल आगे जमीन पर फैली होनी चाहिए।
  6. इस मुद्रा में 45 सेकेंड से 1 मिनट तक बने रहें और धीरे-धीरे लगातार सांस लेते रहें।
  7. इस दौरान कम से कम 4 से 12 बार सांस लेने और छोड़ने का अभ्यास करते रहें और मन में विचार लाएं कि आपके मस्तिष्क एवं शरीर से विकार बाहर निकल रहे हैं।
  8. इसके बाद अपनी हथेलियों को कंधे के नीचे लाएं और धीरे-धीरे अपने शरीर के ऊपरी हिस्से (upper body) को उठाएं और पहले की पोजिशन में वापस लौट आएं और एड़ियों के बल बैठकर सांस लें।

सावधानी : अगर आपकी पीठ में दर्द रहता है या फिर जिनके घुटनों का ऑपरेशन हुआ है उन्हें यह आसान नहीं करना चाहिए।

धनुरासन

पेट की चर्बी कम करने के लिए धनुरासन

बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय में धनुरासन का नाम भी शामिल है। इस आसन में रीड की हड्डी में लचीलापन आता हैं। यह पेट और वजन को कम करने के लिए एक अच्छा आसन हैं।

करने का तरीका

  1. इस आसन को करने के लिए योगा मेट पर पेट के बल लेट जाएं।
  2. अब अपने अपने दोनों हाथों शरीर के समान्तर रखें, अब अपने दोनों पैरों को पीछे की घुटनों के यहाँ से मोड़े।
  3. अपने हाथों को पीछे की ओर ले जाएं और दोनों पैरों को दोनों हाथों से पकड़ लें।
  4. इस आसन में कम से कम 20 से 30 सेकंड तक रुकने का प्रयास करें।
  5. अंत में दोनों हाथों को खोल के अपनी प्रारंभिक स्थिति में आयें।

सावधानी : उच्च रक्तचाप और हृदय रोग से पीड़ित मरीजों को यह आसन करने से बचना चाहिए। हृदय पर तनाव पड़ने के कारण आपको परेशानी हो सकती है।

पेट की चर्बी कम करने के लिए योगासन अच्छा विकल्प है। हर सुबह नियमित रुप से ऊपर बताये गए योग करने से पेट पर जमा चर्बी को कम किया जा सकता है। ध्यान रहें योगासनों का चुनाव करते समय पेट की चर्बी घटाने वाले योग को ही चुनें।

अब आप जान चुके हैं कि किस तरह के सही तरीके से व्यायाम कर वजन को नियंत्रित किया जा सकता है। अब हम यह जानेगें कि खान-पान में क्या शामिल करें जिससे पेट पर चर्बी न जम पाए।

पेट की चर्बी कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं – Diet Tips to Get Flat Tummy in Hindi

पेट की चर्बी कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं – Diet Tips to Get Flat Tummy in Hindi

यदि अपने खान-पान को संतुलित न रखा जाए, तो फिर आप कितनी भी तरह की एक्सरसाइज व योग कर लें, इनसे आपके पेट की चर्बी कम नहीं होगी। इसलिए, व्यायाम और योग के बाद जानतें हैं कि पेट और कमर की चर्बी कम करने के क्या खाना चाहिए और क्या नहीं।

पेट और कमर कम करने के तरीके खाने में कैलोरी कम करें

अपने खाने में कैलोरी की मात्रा कम करें, लेकिन बहुत ज्यादा कम नहीं। यह एक सर्वविदित तथ्य है कि आपको वजन घटाने के लिए कैलोरी में कटौती करने की आवश्यकता है। इसी से आपके पेट के चारों ओर जमी चर्बी कम होगी।

आप अपने दिन भर के खाने में 500-1,000 कैलोरी कम करें, ऐसा करने पर प्रति सप्ताह लगभग 1-2 पाउंड (0.5-1 किलोग्राम) वजन कम होने की उम्मीद की जा सकती है (7)।

बेल्ली फैट कम करने के उपाय अधिक फाइबर खाएं

घुलनशील फाइबर खाने से, आपके पेट और कमर के आसपास वसा जमा होने की संभावना कम होती है, जिससे आपकी कमर पतली हो जाती है और कई बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है । घुलनशील फाइबर पानी की बड़ी मात्रा को अवशोषित करते हैं और पाचन तंत्र के माध्यम से भोजन के अवशोषित होने की गति को धीमा कर देते हैं। यह लंबे समय तक पेट को भरा रखतें हैं जिससे आपको बार-बार भूख नहीं लगती है (8)। फाइबर खाने से पेट की चर्बी बढ़ने के जोखिम को कम किया जा सकता है।

बेल्ली फैट कम करने का उपाय प्रोबायोटिक्स लें

पेट और कमर कम करने के तरीके में प्रोबायोटिक्स जैसे दही बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। सामान्य वजन वाले लोगों की तुलना में अधिक वजन वाले और मोटे लोगों में आंत के बैक्टीरिया की एक अलग संरचना देखी गई है, जो वजन बढ़ाने और वसा को प्रभावित कर सकती है।

प्रोबायोटिक्स का नियमित सेवन वजन बढ़ाने और वसा के संचय के जोखिम को कम कर सकता है। प्रोबायोटिक्स को पेट की चर्बी कम करने में विशेष रूप से प्रभावी पाया गया है (9)(10)।

पेट की चर्बी कम करने के लिए प्रोटीन शेक पिएं

पेट की चर्बी कम करने के उपाय में प्रोटीन शेक आपके आहार में अतिरिक्त प्रोटीन जोड़ने का एक आसान तरीका है। अपने आहार में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन शामिल करना आपके चयापचय को बढ़ा सकता है, आपकी भूख को कम कर सकता है और वसा को कम करने में सहायता कर सकता है, विशेष रूप से आपके पेट और कमर से (11) (12) (13) (14)।

एप्पल साइडर सिरका को अपने आहार में शामिल करें

एप्पल साइडर विनेगर पेट की चर्बी कम करने की दवा के रूप में जाना जाता है साथ ही यह कई प्रभावशाली स्वास्थ्य लाभों से भी जुड़ा हुआ है, जिनमें से अधिकांश लाभ इसमें मौजूद एसिटिक एसिड के कारण होते हैं। ऐप्पल साइडर सिरका मुख्य रूप से एसिटिक एसिड से बना होता है, जो शरीर में वसा के संचय को कम कर सकता है (15) (16)। कई अध्ययन से यह पता चला है कि एसिटिक एसिड शरीर में वसा के संचय को कम कर सकता है। मोटे लोगों में किये गये एक अध्ययन से पता चला है कि 12 सप्ताह के लिए प्रत्येक दिन एक चम्मच सेब साइडर सिरका लेने से उनकी कमर औसतन 0.5 इंच (1.4 सेमी) कम हो गई।

कमर और पेट कम कैसे करें में जूस या एनर्जी ड्रिंक पीने से बचें

सोडा, फलों के रस और एनर्जी ड्रिंक आमतौर पर चीनी और कैलोरी में अधिक होते हैं। इसकी जगह पर हर दिन अधिक मात्रा में पीना पीना लाभदायक है, जिसके परिणामस्वरूप बिना अतिरिक्त कैलोरी के पेट भरा रहता है। पेट और कमर कम करने के तरीके में हर दिन 2 लीटर पानी पीने कि कोशिश करें।

पेट और कमर कम करने के तरीके खाने से पहले पानी पीना

पानी पीना आपके चयापचय दर को बढ़ा सकता है, जिससे आप पेट को भरा हुआ महसूस कर सकते हैं यह कब्ज को दूर करने में मदद करता है, ये सभी पेट की चर्बी कम करने के उपाय आपको सपाट पेट के अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं। प्रत्येक भोजन से पहले एक बड़ा गिलास पानी पीने की कोशिश करें। यह आपको अपना लक्ष्य प्राप्त करने में मदद कर सकता है।

बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय अधिक प्रोटीन खाएं

उच्च-प्रोटीन आहार आपके चयापचय दर को बढ़ा सकते हैं, आपकी भूख को कम कर सकते हैं (17) और वजन घटाने के दौरान मांसपेशियों को फिट बनाए रखने में आपकी सहायता कर सकते हैं (18)। पेट की चर्बी कम करने के उपाय में प्रोटीन का सेवन निचले पेट के मोटापे को कम करने के तरीकों से भी जुड़ा हुआ है।

पेट की चर्बी कम करने का नुस्खा अंडा खाएं

अंडे स्वस्थ और प्रोटीन में उच्च होते हैं और इनमे वजन घटाने के गुण होते हैं। एक अंडे में लगभग 77 कैलोरी होती हैं (19)। अध्ययनों से पता चला है कि अन्य प्रकार के नाश्ते में खाए जाने वाले खाद्य पदार्थों की तुलना में एक कैलोरी-प्रतिबंधित आहार के रूप में नाश्ते में अंडे खाने से वजन कम हो सकता है। इसके अलावा, एक ही कैलोरी सामग्री के साथ अन्य खाद्य पदार्थों की तुलना में अंडे को कमर के आकार को कम करने में अधिक प्रभावी दिखाया गया है।

पेट की चर्बी कम करने का नुस्खा इंटरमिटेंट फास्टिंग

आंतरायिक उपवास (इंटरमिटेंट फास्टिंग) खाने की ऐसी विधि है जिसमें आप दो बार खाने के बीच में विशिष्ट समय के लिए उपवास करते हैं।

सबसे लोकप्रिय इंटरमिटेंट फास्टिंग 24-घंटे का उपवास प्रति सप्ताह दो बार या 16: 8 घंटे का उपवास कर सकते हैं, जहां आप अपने खाने के समय को हर दिन आठ घंटे तक के लिए सीमित कर सकते हैं, और सोलह घंटें उपवास रखते हैं (20) (21)।

इंटरमिटेंट फास्टिंग को पेट की चर्बी को कम करने के लिए नियमित रूप से, दैनिक कैलोरी प्रतिबंध के रूप में प्रभावी दिखाया गया है, बहुत से लोग रुक-रुक कर उपवास को पारंपरिक वजन घटाने वाली डाइट से अधिक उपयोगी मानतें हैं।

जैसा कि आप देख सकते हैं, कई रणनीतियाँ हैं जो आपको सपाट पेट के अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद कर सकती हैं। लेकिन इसके साथ ही आपको चर्बी बढ़ाने वाली चीजों से दूरी बनाना चाहिए।

पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए इनसे बनाएं दूरी

  • कोल्ड ड्रिंक्स, शक्कर युक्त व डिब्बाबंद खाद्य पदार्थों को खाने से बचें।
  • स्टार्च युक्त खाद्य पदार्थ जैसे:- नूडल्स, पास्ता और चावल।
  • कमर की चर्बी कम करने के लिए शराब, तंबाकु व सिगरेट से भी परहेज करना चाहिए।

पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए ऊपर बताए गए खाने के टिप्स को अपनी डेली लाइफ में शामिल करने से आपको जल्द ही अपने सिक्स पैक भी देखने को मिल सकते हैं। आगें के लेख में हम कुछ और जरूरी टिप्स बता रहे हैं, जिनकी मदद से आसानी से पेट की चर्बी को कम किया जा सकता है।

पेट और कमर की चर्बी के लिए टिप्स – Tips to Reduce Belly Fat in Hindi

पेट और कमर की चर्बी के लिए टिप्स – Tips to Reduce Belly Fat in Hindi

पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए योग, व्यायाम और डाइट को जान लेने के बाद आइए, अब बात करते हैं कुछ अन्य पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए टिप्स के बारे में, जिन्हें अपनी डेली लाइफ में अपनाने से आपके शरीर की अतिरिक्त चर्बी कुछ ही दिनों में छूमंतर हो सकती है।

पेट और कमर कम करने के तरीके संतुलित मात्रा में खाएं

दिनभर में केवन तीन बार खाने से हमारा पाचन तंत्र ठीक तरह से से काम नहीं कर पाता है। इसलिए, पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए पूरे दिन भर में 5 से 6 बार में थोड़ा-थोड़ा खाते रहें।

पेट और कमर की चर्बी के लिए टिप्स नाश्ता करना न भूलें

दिनभर एनर्जी बनाये रखने के लिए हेल्दी नाश्ता जरूरी है। पेट की चर्बी को कम करने के लिए नाश्ता करना न भूलें। कुछ लोग मानते हैं कि नाश्ता नहीं करने से वजन कम होता है, जबकि ऐसा नहीं है। होता इससे उल्टा है, नाश्ता न करने से हमारी भूख बढ़ती है और हम लंच में ज्यादा खा लेते हैं, जिससे इसे पचाने में दिक्कत होती है और वजन बढ़ने की समस्या होने लगती है।

पेट और कमर कम करने के तरीके में अधिक पानी पिएं

दिनभर में 8 से 10 गिलास पानी पीना सेहत के लिए जरूरी है। यदि आप पेट और कमर की चर्बी कम करना चाहते हैं तो 2-3 लीटर पानी पीना शुरू कर दें। दिनभर में तय समय पर थोड़ा-थोड़ा पानी पीते रहें। पानी पीने से ज्यादा खाने की आदत कम हो सकती है।

पेट की चर्बी कम करने के लिए उपाय अधिक फल व सब्जियां खाएं

दिनभर में थोड़ी-थोड़ी मात्रा में फल व सब्जियों का सेवन करते रहना चाहिए। इससे भूख कम लगेगी और पेट और कमर की चर्बी कम करने में मदद मिलेगी।

कमर और पेट कम कैसे करें में नींबू पानी से करें दिन की शुरुआत

पेट की चर्बी कम करने के लिए सुबह खाली पेट एक ग्लास गुनगुने पानी में आधा नींबू निचोड़कर पिएं। इसमें शहद मिलाकर पीने से अधिक फायदा होगा। ऐसा करने से मेटाबॉलिजम तेज होता है और फैट्स जल्दी बर्न होता है।

कमर और पेट की चर्बी कम करने के लिए उपाय पूरी नींद लें

पेट और कमर की चर्बी को कम करने के लिए पूरी नींद सोना भी जरूरी है। हर किसी को चाहे वह वजन कम करना चाहता हो या फिट रहना सभी को सात से आठ घंटे की नींद लेनी ही चाहिए। कम नींद के साथ ही ज्यादा सोना भी वजन बढ़ने का अहम कारण हैं। जब आप पूरी नींद सोते हैं, तो आपका पाचन तंत्र ठीक से काम करता है और भोजन सही से पचाता है।

कमर और पेट पर जमा चर्बी, ऐसी समस्या नहीं है कि उसे दूर न किया जा सके। इस लेख को पढ़ने के बाद आप समझ गए होगें की कमर और पेट कम कैसे करें। ध्यान रखें कि इसमें कुछ समय और मेहनत लग सकती है, लेकिन अगर ऊपर बताये गये पेट की चर्बी कम करने के उपाय को सही तरीके से किया जाए तो बढ़ा हुआ पेट जल्दी ही कम हो जाएगा।अगर किसी का वजन जरूरत से ज्यादा है, तो इस लेख में बताए गए उपायों को आजमाने से पहले डॉक्टर से चेकअप करवाना ना भूलें।

और पढ़े:

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration