बच्चों की छाती में जमा कफ निकालने के घरेलू उपाय – Home remedies for baby chest congestion in Hindi

बच्चों की छाती में जमा कफ निकालने के घरेलू उपाय - Home remedies for baby chest congestion in Hindi
Written by Deepti

मौसम के बदलने पर अक्सर छोटे बच्चे ठंड की चपेट में आ जाते हैं। इससे उनके छाती में कफ जमा हो जाता है। हालांकि, यह एक आम समस्या है, इसलिए इससे ज्यादा डरने की जरूरत नहीं है। लेकिन वक्त रहते इसका इलाज करना जरूरी है। बच्चों की छाती में जमे कफ को बाहर निकालने के लिए घरेलू उपाय बहुत असरदार साबित होते हैं।

विशेषज्ञ के अनुसार, शिशुओं में चेस्ट कंजेशन एक वायरल और बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण होता है। इसमें कोल्ड वायरस सबसे आम है। दरअसल, श्वसन प्रणाली की आंतरिक परत में झिल्ली होती है, जो एक गाढ़ा और चिपचिपा पदार्थ पैदा करती है, जिसे बलगम कहा जाता है। धूल के कण और धुएं के शरीर में प्रवेश करने के कारण अस्तर बलगम का स्त्राव करने लगता है। बच्चों को जुकाम होने पर भी ऐसा ही महसूस होता है। अगर आप नए माता-पिता बने हैं और आपका शिशु छाती में कफ जमा होने की समस्या से परेशान है, तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको बच्चों की छाती में जमा कफ को बाहर निकालने के लिए घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं। इनकी मदद से बच्चे के सीने में जमा कफ आसानी से साफ हो जाएगा।

1. शिशु की छाती में कफ जमने के कारण – Causes of baby chest congestion in Hindi
2. शिशुओं की छाती में जमा कफ के लक्षण – Symptoms of baby chest congestion in Hindi
3. बच्चों की छाती में जमा कफ को साफ करने के घरेलू उपचार – Bachcho ke cough ko saaf karne ke gharelu upay in Hindi

शिशु की छाती में कफ जमने के कारण – Causes of baby chest congestion in Hindi

शिशु की छाती में कफ जमने के कारण - Causes of baby chest congestion in Hindi

सीने में जमे हुए कफ के कारणों को जानना बेहद जरूरी है। इससे कफ का इलाज करना आसान हो जाता है। नीचे हम आपको बच्चों की छाती में कफ जमा होने के कारणों के बारे में बता रहे हैं।

कॉमन कोल्ड- कॉमन कोल्ड के कारण शिशु की छाती में कफ जमा हो सकता है।

कम प्रतिरक्षा प्रणाली- शिशुओं में प्रतिरक्षा प्रणाली व्यस्कों की तुलना में कमजोर होती है, जिससे उन्हें सर्दी लगने और छाती में कफ का जमाव होने की संभावना अधिक होती है।

जलन- सिगरेट के धुएं या वाहन के धुएं के कारण होने वाली जलन बच्चों के श्वसन तंत्र को प्रभावित कर सकती है और सीने में कफ के जमाव का कारण बन सकती है।

अस्थमा- यदि आपका बच्चा अस्थमा से पीड़ित है, तो उसकी छाती में कफ जमा होने की संभावना बनती है।

प्रीमेच्योर बर्थ- समय से पहले जन्म लेने वालों की प्रतिरक्षा प्रणाली बहुत कमजोर होती है। इससे वे छाती में कफ जमा होने वाले संक्रमण की चपेट में जल्दी आ जाते हैं।

(और पढ़े – बच्चों में कफ के लक्षण, कारण और इलाज के घरेलू उपाय…)

शिशुओं की छाती में जमा कफ के लक्षण – Symptoms of baby chest congestion in Hindi

शिशुओं की छाती में जमा कफ के लक्षण - Symptoms of baby chest congestion in Hindi

यहां हम आपको कुछ ऐसे लक्षण बता रहे हैं, जो बच्चों की छाती में कफ जमाव के संकेत हो सकते हैं।

  • यदि आपके बच्चे के सीने में कफ जमा हुआ है, तो शिशु के सांस लेने का तरीका बदल जाएगा। वह सांस लेने में विचलित हो सकता है।
  • यदि आपके बच्चे को खांसी है, तो संभावना है कि उसके सीने में बहुत अधिक बलगम जमा है।
  • छाती में कफ जमा हो, तो बच्चे को असुविधा हो सकती है, जिससे उनका मूड चिड़चिड़ा हो सकता है।
  • अगर बच्चे की नाक भरी हुई है और उसे सोने में तकलीफ हो, तो यह छाती में जमा कफ का लक्षण है।
  • अगर बच्चा ठीक से भोजन न करे, तो वह छाती में जमाव से पीड़ित हो सकता है।

(और पढ़े – छाती (सीने) में कफ जमने के लक्षण, कारण, इलाज और उपचार…)

बच्चों की छाती में जमा कफ को साफ करने के घरेलू उपचार – Bachcho ke cough ko saaf karne ke gharelu upay in Hindi

बच्चों में जमा कफ को साफ करने के घरेलू उपचार - Bachcho ke cough ko saaf karne ke gharelu upay in Hindi

शिशु के सीने में कफ जमा होने के लिए कई प्रभावी घरेलू उपचार हैं। इनके बारे में आप नीचे जान सकते हैं।

नवजात शिशु में जमा कफ को बाहर निकालने का घरेलू उपाय भाप – Navjat shishu me kaf bahar nikalne ka gharelu  nuskha steam in Hindi

नवजात शिशु में जमा कफ को बाहर निकालने का घरेलू उपाय भाप - Navjat shishu me kaf bahar nikalne ka gharelu nuskha steam in Hindi

भाप नवजात शिशु में जमा कफ को बाहर निकालने का प्रभावी तरीका है। भाप लेना छाती के अंदर बलगम को ढीला करने में मदद करता है। इसके अलावा यह नाक गुहा को नमी प्रदान करता है और बलगम को सूखने से रोकता है, जो वायुमार्ग को अवरूद्ध करता है। अपने बच्चे के कमरे में एक वेपोराइजर या ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें। यह उपकरण हवा में नमी को जोड़कर राहत प्रदान करता है। वैक्लिपक रूप से आप अपने बच्चे को भाप से भरे बाथरूम में ले जा सकते हैं।

(और पढ़े – कफ (बलगम) निकालने के घरेलू उपाय…)

बच्चों में जमा कफ को बाहर निकालने का घरेलू नुस्खा अजवाइन-लहसुन – Shishu me cough bahar nikalne ka gharelu nuskha ajwain-lehsun in Hindi

बच्चों में जमा कफ को बाहर निकालने का घरेलू नुस्खा अजवाइन-लहसुन - Shishu me cough bahar nikalne ka gharelu nuskha ajwain-lehsun in Hindi

लहसुनअजवाइन छाती में जमा कफ में राहत प्रदान करता है। इसके लिए एक तवे पर लहसुन और अजवाइन को गर्म करें। जब तक ये थोड़ा गर्म न हो जाएं और इसे कपड़े के टुकड़े में लपेट लें। छाती में जमा कफ से राहत पाने के लिए अपने शिशु के सीने पर इससे सिकाई करें। मिश्रण को बहुत गर्म करने से बचें, क्योंकि यह आपके बच्चे की त्वचा को जला सकता है।

(और पढ़े – अजवाइन के घरेलू नुस्खे…)

शिशु में जमा कफ बाहर निकालने का घरेलू नुस्खा स्तनपान – Shishu me jama cough bahar nikalne ke lie karaye breastfeeding in Hindi

शिशु में जमा कफ बाहर निकालने का घरेलू नुस्खा स्तनपान - Shishu me jama cough bahar nikalne ke lie karaye breastfeeding in Hindi

यदि आपका शिशु छह महीने से कम उम्र का है, तो स्तनपान कराने से छाती में जमा कफ बाहर निकल जाता है। यह आपके शिशु को हाइड्रेट करता है और उसकी पोषण संबंधी जरूरतों का ख्याल रखता है। इतना ही नहीं, इसमें संक्रमण से लडऩे के लिए एंटी बॉडीज होते हैं, जो छाती में जमा कफ को बाहर निकालने का काम करते हैं।

(और पढ़े – बच्चे को स्तनपान कराने से होते हैं ये बड़े फायदे…)

शिशु में कफ निकालने के लिए सिर उठाकर सुलाएं – shishu me kaf kam karne ka tarika sir uthakar sulaye in hindi

शिशु में कफ निकालने के लिए सिर उठाकर सुलाएं - shishu me kaf kam karne ka tarika sir uthakar sulaye in hindi

बच्चे को स्तनपान कराते समय उसका सिर हमेशा ऊंचा रखें। यह नाक के माध्यम से बलगम को बाहर निकालने और छाती को साफ करने में मदद करता है।

(और पढ़े – बच्चे को दूध पिलाने (स्तनपान कराने) के तरीके और टिप्स…)

शिशु में कफ दूर करने का तरीका सरसों के तेल की मालिश – Shishu me cough door karne ke liye sarso ke tel ki malish in Hindi

शिशु में कफ दूर करने का तरीका सरसों के तेल की मालिश - Shishu me cough door karne ke liye sarso ke tel ki malish in Hindi

शिशु की छाती में अगर कफ जम जाए, तो सरसों के तेल से मालिश करना बहुत अच्छा उपाय है। इसके लिए अजवाइन और लहसुन के साथ सरसों के तेल का उपयोग कर सकते हैं। गर्म तेल लगाते समय थोड़ी सावधानी बरतें, क्योंकि इससे आपकी बच्चे की त्वचा जल सकती है।

(और पढ़े – शिशु की मालिश कैसे करें, स्टेप और फायदे…)

बच्चों की छाती में जमा कफ को दूर करने का घरेलू तरीका विक्स – Vicks to remove chest congestion in infant in Hindi

बच्चों की छाती में जमा कफ को दूर करने का घरेलू तरीका विक्स - Vicks to remove chest congestion in infant in Hindi

विक्स छाती में जमा कफ को बाहर निकालने में मदद करती है। इसके लिए विक्स वेपोरब को शिशु के तलवों पर लगाएं और मोजे पहना दें। ऐसा करने का सबसे अच्छा समय रात में है। ध्यान रखें, कि विक्स लगाने के बाद बच्चे को चलने न दें।

(और पढ़े – विक्स वेपोरब के हैरान करने वाले फायदे बजन कम करने और स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए…)

शिशु की छाती पर जमा कफ निकालने का प्राकृतिक उपाय हल्दी – Turmeric Home remedies for infant chest congestion in Hindi

शिशु की छाती पर जमा कफ निकालने का प्राकृतिक उपाय हल्दी – Turmeric Home remedies for infant chest congestion in Hindi

शिशु की छाती में जमे हुए कफ को दूर करने के लिए हल्दी प्राकृतिक उपचार है। हल्दी में करक्यूमिन होता है, जो शरीर के अंदर जमे बलगम को निकालने में मदद करता है। कफ जमने पर थोड़े से गर्म पानी में हल्दी और चुटकीभर काली मिर्च मिलाकर बच्चे को पिलाएं। शिशु को बहुत अधिक हल्दी देने से बचें।

(और पढ़े – हल्दी के फायदे गुण लाभ और नुकसान…)

शिशु के कफ को कम करने का उपाय सौंफ के बीज – Bachcho ke cough ko kam kare sauf ke beej in Hindi

शिशु के कफ को कम करने का उपाय सौंफ के बीज - Bachcho ke cough ko kam kare sauf ke beej in Hindi

सौंफ के बीज छाती में दबे हुए कफ से राहत दिलाने में बेहद मददगार हैं। इसे आप चाहें, तो बच्चे को कच्चा भी दे सकते हैं, या पानी में भिगोकर भी दे सकते हैं। इसके अलावा सौंफ को तवे पर भूनकर भी बच्चे को खिला सकते हैं। छाती में जमे कफ में बहुत आराम मिलेगा।

(और पढ़े – सौंफ खाने के फायदे और नुकसान…

बच्चों की छाती में जमे कफ का इलाज नींबू और शहद – Baby ki chaati me jame cough ko nikale lemon-honey in Hindi

बच्चों की छाती में जमे कफ का इलाज नींबू और शहद - Baby ki chaati me jame cough ko nikale lemon-honey in Hindi

नींबू और शहद शरीर के अंदर मौजूद कफ को ढीला करने में मदद करते हैं। नींबू विटामिन से समृद्ध होता है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करता है। इसके लिए बच्चे को नींबू के साथ शहद मिलाकर दें। अगर आपका बच्चा एक वर्ष से कम उम्र का है, तो उसे ये न दें। ये उनकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

(और पढ़े – नींबू और शहद के साथ गर्म पानी के फायदे…)

शिशु की छाती में जमे कफ को बाहर निकाले प्याज का रस – Onion juice is best to reduce baby chest congestion in Hindi

शिशु की छाती में जमे कफ को बाहर निकाले प्याज का रस - Onion juice is best to reduce baby chest congestion in Hindi

प्याज में सल्फर और क्वेरसेटिन होते हैं, जो बलगम निर्माण को कम करने में मदद करते हैं। इसमें एंटी माइक्रोबियल गुण भी होते हैं, जो संक्रमण से लड़ते हुए कफ से राहत दिलाते हैं। इसके लिए एक प्याज को पीसकर इसका रस निकालें और गुनगुने पानी में मिलाकर बच्चे को पिला दें। कफ से बहुत राहत मिलेगी।

(और पढ़े – प्याज के फायदे और नुकसान…)

कफ को बाहर निकालने का बेहतरीन तरीका मूली – Navjat shishu ke cough ko bahar karne ka tarika raddish in Hindi

कफ को बाहर निकालने का बेहतरीन तरीका मूली - Navjat shishu ke cough ko bahar karne ka tarika raddish in Hindi

बच्चों की छाती में जमा कफ को बाहर निकालने के लिए मूली बहुत अच्छा तरीका है। दरअसल, मूली में ऐसे यौगिक होते हैं, जो छाती में जमे कफ को कम करते हैं। इसका सेवन या तो सीधे बच्चों को कराएं या फिर मूली के तेल को बच्चों की छाती पर लगा सकते हैं।

(और पढ़े – मूली खाने के फायदे और नुकसान…)

शिशु की छाती से कफ बाहर निकालने वाला उपाय अदरक – Shishu ki chati se cough bahar niklane wala upay ginger in hindi

शिशु की छाती से कफ बाहर निकालने वाला उपाय अदरक - Shishu ki chati se cough bahar niklane wala upay ginger in hindi

अदरक में एंटी इंफ्लेमेट्री गुण और पॉलीफेनोल होते हैं, जो आपके शिशु को छाती में जमा होने वाले कफ से राहत दिलाते हैं। इसके लिए आप अपने बच्चे को चूसने के लिए अदरक का एक टुकड़ा दे सकते हैं। यदि बच्चा एक वर्ष से ज्यादा उम्र का है, तो अदरक को शहद के साथ मिलाकर खिलाएं।

(और पढ़े – अदरक के फायदे, औषधीय गुण, उपयोग और नुकसान…)

बेबी की छाती में कफ से राहत दिलाएगा गर्म जूस – Hot juice give relief for infant chest congestion in Hindi

बेबी की छाती में कफ से राहत दिलाएगा गर्म जूस - Hot juice give relief for infant chest congestion in Hindi

छाती में कफ जमने की स्थिति में छह या उससे अधिक उम्र के बच्चों को थोड़ा गर्म बिना पका हुआ सेब का रस पिलाएं। ध्यान रखें, कि ये ज्यादा गर्म न हो। ये बलगम को नरम करते हुए गले को साफ करता है।

(और पढ़े – सेब के जूस के फायदे, उपयोग और नुकसान…)

तुलसी से बच्चों की छाती में जमें कफ से मिलेगी राहत – Tulsi se bachcho ke chati me jamav se milegi rahat in Hindi

तुलसी से बच्चों की छाती में जमें कफ से मिलेगी राहत - Tulsi se bachcho ke chati me jamav se milegi rahat in Hindi

तुलसी एक बेहतरीन औषधि है, जो शिशु की छाती में जमे हुए कफ को बाहर निकालती है। इसके लिए धीमी आंच पर एक लोहे की कड़ाही में तुलसी की कुछ पत्तियां, मोटी छिली हुई लैवेंडर को गर्म करें। रस निकालने के लिए पत्तियों को कुचलें और जो रस निकले, उसका एक चौथाई चम्मच दिन में तीन बार बच्चे को पिलाएं। इससे कुछ ही दिनों में कफ बाहर निकल जाएगा।

(और पढ़े – तुलसी के फायदे और नुकसान…)

बच्चे की छाती में कफ जम जाए, तो खिलाएं खट्टे फल – Citrus fruits for baby chest congestion in Hindi

बच्चे की छाती में कफ जम जाए, तो खिलाएं खट्टे फल - Citrus fruits for baby chest congestion in Hindi

छाती में जमाव होने की स्थिति में बच्चे को खट्टे फलों और जूस का सेवन कराएं। ये छाती में जमाव के कारण पैदा होने वाली खांसी और सर्दी को कम करने में मदद करते हैं। खट्टे फल का उपाय कफ निकालने में बहुत उपयोगी साबित होता है।

(और पढ़े – सर्दियों में खाये जाने वाले 18 फल और उनके लाभ…)

शिशु के सीने में जमाव का घरेलू उपाय मुलैठी – Shishu ke sine se jamav ka gharelu upay mulethi in Hindi

शिशु के सीने में जमाव का घरेलू उपाय मुलैठी - Shishu ke sine se jamav ka gharelu upay mulethi in Hindi

सदियों से मुलैठी की मदद से सीने में जमाव का घरेलू उपचार किया जाता रहा है। यह गले को कोट करता है और इसमें मौजूद विटामिन सी छाती के जमाव और गले की खराश को ठीक करता है।

(और पढ़े – मुलेठी के फायदे और नुकसान…)

नीलगिरी के तेल से दूर होगा छाती में जमा कफ – Nilgiri oil se door hoga chati me jama cough in Hindi

नीलगिरी के तेल से दूर होगा छाती में जमा कफ - Nilgiri oil se door hoga chati me jama cough in Hindi

इस तेल की खुशबू बहुत अच्छी होती है और अगर शिशु को सर्दी और खांसी हो, तो यह बहुत अच्छा काम करता है। इसके लिए एक रूमाल पर निलगिरी के तेल की कुछ बूंद डालें और इसे उस जगह पर रखें, जहां पर आपका शिशु सोता है, ताकि सोते वक्त बच्चा इसकी खुशबू को भीतर ले सके। इससे कफ आसानी से निकल जाएगा।

(और पढ़े – नीलगिरी तेल के फायदे और नुकसान…)

कफ निकालने के लिए बच्चे को कराएं गर्म स्नान – Cough niklane ke liye hot bath in Hindi

कफ निकालने के लिए बच्चे को कराएं गर्म स्नान - Cough niklane ke liye hot bath in Hindi

कफ जमने पर शिशु को गर्म पानी से नहलाना चाहिए। इससे बच्चे का ध्यान कफ से हट जाएगा और इससे नाक और छाती में जमा कफ भी आसानी से निकल जाएगा।

(और पढ़े – गर्म पानी से नहाने के फायदे और नुकसान…)

बच्चों के सीने में जमाव दूर करने का तरीका नेजल ड्रॉप – Shishu ke kaf ko kam karne ka upay nazel drop in hindi

बच्चों के सीने में जमाव दूर करने का तरीका नेजल ड्रॉप - Shishu ke kaf ko kam karne ka upay nazel drop in hindi

बच्चों के सीने में जमाव को दूर करने के लिए नेजल ड्रॉप भी अच्छा तरीका है। इसे शिशु की नाक में दिन में कई बार डालने से नाक बंद होने की समस्या खत्म हो जाती है और कफ में भी आराम मिलता है।

(और पढ़े – बंद नाक खोलने के घरेलू उपाय और नुस्खे…)

नवजात की छाती में जमा कफ से राहत दिलाए केसर – Navjat shishu ki chati me jama cough se rahat dilaye kesar in Hindi

नवजात की छाती में जमा कफ से राहत दिलाए केसर - Navjat shishu ki chati me jama cough se rahat dilaye kesar in Hindi

केसर भी बच्चों की छाती में जमे हुए कफ को आसानी से बाहर निकालता है। इसके लिए एक चुटकी केसर को गुनगुने पानी में डालकर बेबी छाती, पीठ और सिर पर लगाएं , इससे बेबी को बलगम में बहुत आराम मिलता है।

बच्चों की छाती जमा कफ एक असुविधाजनक स्थिति है। हमने इस आर्टिकल में कई ऐसे घरेलू उपचार बताए हैं, जिनका उपयोग आपके बच्चे को ठीक करने के लिए किया जा सकता है। इनका लगातार उपयोग शिशु की छाती में जमा कफ आसानी से साफ हो जाता है। लेकिन अगर घरेलू उपाय प्रभावी साबित न हों, तो समय बर्बाद न करते हुए बच्चे को बाल रोग विशेषज्ञ (Pediatrician) के पास ले जाएं।

(और पढ़े – केसर के फायदे और नुकसान…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration