ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए 9 स्किनकेयर हैक्स - Skincare Hacks for Oily Skin in Hindi - Healthunbox
स्किन केयर

ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए 9 स्किनकेयर हैक्स – Skincare Hacks for Oily Skin in Hindi

ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए नौ स्किनकेयर हैक्स - Skincare Hacks for Oily Skin in Hindi

Skincare Hacks for Oily Skin in Hindi: ऑयली स्किन वाली महिलाओं को अक्सर मुँहासे, भरा हुए रोम छिद्र, अंतर्वर्धित बाल, और चिपचिपी स्किन जैसी परेशानियों से जूझना पड़ता है। ऑयली स्‍किन वाली लड़कियां अक्‍सर परेशान रहती हैं और वह जानना चाहती हैं कि वह स्‍किन पर क्‍या लगाएं और क्‍या नहीं…

तैलीय त्वचा तब होती है जब त्वचा में वसामय ग्रंथियां (sebaceous glands) बहुत अधिक सीबम बनाती हैं। गर्म मौसम ऑयली स्किन को और बुरा बना सकता है, और इस प्रकार की त्वचा के लिए स्किनकेयर उत्पाद अक्सर बहुत महगें होते हैं।

कई लड़कियां अपने ऑयली फेस पर कुछ भी लगाने से डरती हैं क्‍योंकि बाद में ऑयली स्किन से छुटकारा दिलाने का दावा करने वाला वह प्रोडक्‍ट उन्‍हें धोखा दे देता है। ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए स्किनकेयर हैक्स में आपको अपनी जेब खाली नहीं करनी पड़ेगी।

यदि आप बजट फ्रेंडली चीजों पर भरोसा करतीं हैं या उन प्रोडक्‍ट पर पैसे खर्च करते-करते थक गयीं हैं जो वे देने का वादा को करते हैं लेकिन असल में वैसा रिजल्ट दे नहीं पाते हैं, तो ऑयली स्किन के लिए ब्यूटी हैक (beauty hacks for oily skin) बस आपको कुछ आसान सी चीजों की ज़रूरत है।

कुछ सामग्री, जो आप अपनी किचन में से ले सकतीं हैं, जिसका उपयोग आप अपनी ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के स्किनकेयर हैक्स के लिए कर सकती हैं, वो है दलिया, नींबू, शहद, और भी बहुत कुछ।

तैलीय त्वचा के लिए ये स्किनकेयर हैक्स आजमायें ताकि आप अपने समय, और पैसा दोनों को बचा सकें।

तैलीय त्वचा के लिए शहद को एक humectant के रूप में उपयोग करने से अच्छे परिणाम मिलते हैं

तैलीय त्वचा के लिए शहद को एक humectant के रूप में उपयोग करने से अच्छे परिणाम मिलते हैं

शहद जैसे humectant हवा से पानी खींचते हैं, शहद को आपकी स्किन पर पतली परत में लगाकर आप आपनी स्किन को तैलीय होने से रोक सकतीं हैं। आप तैलीय त्वचा के खिलाफ अपनी डेली रूटीन में शहद जैसे humectants को शामिल कर सकती हैं।

जब कहीं भी आपकी स्किन ऑयली महसूस करे, तब स्किन पर शहद की एक पतली परत अप्लाई करें, इसे 10 मिनट तक सूखने दें, फिर गर्म पानी से धीरे से चेहरा धो लें।

(यह भी पढ़ें – शहद के फायदे चेहरे और त्वचा के लिए)

ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए स्टीम लें, और इसे अक्सर करें

ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए स्टीम लें, और इसे अक्सर करें

स्टीम गंदगी को ढीला करती है, आपके रोम छिद्रों को खोलती है, और तीव्र जलन वाले स्क्रबिंग की आवश्यकता को समाप्त करती है। फुल-बॉडी स्टीम के लिए, एक शॉवर काफी उपयोगी है, लेकिन अगर आप केवल चेहरे को स्टीम देना चाहतीं हैं, तो आप एक धीमी उबाल में एक कटोरी पानी को गर्म करें, अपने सिर को एक तौलिया से ढकें, और भाप की ओर झुक जाएं।

आप पानी में कुछ अरोमाथेरेपी तेल या फूल डालकर अपने मूड को भी अच्छा बना सकतीं हैं।

(यह भी पढ़ें – मुंहासे दूर करने के लिए चेहरे पर भाप लेने के फायदे)

दलिया सिर्फ नाश्ते के लिए नहीं है, यह एक बहिर्मुखी है

दलिया सिर्फ नाश्ते के लिए नहीं है, यह एक बहिर्मुखी है

दलिया हार्ड केमिकल के बिना मृत त्वचा कोशिकाओं को धीरे से बाहर निकालने और स्किन से एक्स्ट्रा आयल को हटाने में मदद करता है। एक पेस्ट बनाने के लिए दलिया में थोड़ा शहद और गर्म पानी मिलाएं, तीन मिनट के लिए अपनी त्वचा में मालिश करें, फिर दो लें।

इस दलिया के एक्स्फोलियेशन का उपयोग करके मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने से आपकी स्किन केयर रूटीन के अन्य भागों को बेहतर काम करने में मदद मिलती है।

(यह भी पढ़ें – दलिया खाने के फायदे स्वास्थ्य लाभ और नुकसान)

मानो या न मानो, टमाटर अतिरिक्त तेलों को अवशोषित करते हैं

मानो या न मानो, टमाटर अतिरिक्त तेलों को अवशोषित करते हैं

टमाटर सैलिसिलिक एसिड का एक स्रोत है जो रोम छिद्रों को खोलने, मुंहासों को कम करने और अतिरिक्त सीबम को अवशोषित करने के लिए जाना जाता है। एक टमाटर कुचल लें और उसमे एक चम्मच चीनी मिलाएं, सर्कुलर मोशन में स्किन पर लगायें, 5 मिनट के लिए छोड़ दें, फिर गर्म पानी से चेहरा साफ कर लें। सैलिसिलिक एसिड को बढ़ावा देने के लिए अपनी त्वचा पर सीधे कटा हुआ टमाटर का टुकड़ा आज़माएं।

(यह भी पढ़ें – टमाटर जूस के फायदे स्किन के लिए)

नींबू और अंडे की सफेदी आपकी स्किनकेयर रूटीन के लिए भी बेहतर हैं

नींबू और अंडे की सफेदी आपकी स्किनकेयर रूटीन के लिए भी बेहतर हैं

अंडे की सफेदी और नींबू दोनों ही पोर्स को टाइट करने के लिए जाने जाते हैं। नींबू में साइट्रिक एसिड होता है, जो स्किन से अतिरिक्त तेलों को अवशोषित करने में मदद करता है और इसमें जीवाणुरोधी गुण भी होता है।

नींबू के रस के एक चम्मच के साथ एक अंडे को मिलाएं, मिश्रण करें, एक पतली परत में चेहरे पर लागू करें, सूखने दें, फिर गर्म पानी से धो लें। ब्लैकहेड्स दूर करने में मदद करने और अपनी त्वचा को गोरा करने के लिए फेस पर सीधे नींबू का उपयोग करें।

(यह भी पढ़ें – नींबू और शहद के फायदे स्किन के लिए)

बादाम टेस्ट में स्वादिष्ट होते हैं और आपके चेहरे पर अद्भुत काम करते हैं

बादाम टेस्ट में स्वादिष्ट होते हैं और आपके चेहरे पर अद्भुत काम करते हैं

बादाम को तेलों को अवशोषित करने और एक्सफ़ोलिएंट के रूप में अच्छी तरह से काम करने के लिए जाना जाता है। कुचले बादाम के तीन चम्मच, शहद के दो चम्मच लें, एक सर्कुलर मोशन में लागू करें और गर्म पानी से धो लें।

(यह भी पढ़ें – बादाम वाला दूध पीने के फायदे और नुकसान)

अपना खुद का टोनर बनाकर टोनर में मोजूद गुप्त रसायनों से बचें!

अपना खुद का टोनर बनाकर टोनर में मोजूद गुप्त रसायनों से बचें!

टोनर कठोर सामग्री से भरे होते हैं और आपकी स्किन केयर रूटीन का एक और महंगा हिस्सा होते हैं। टोनर रोम छिद्रों से तेल को हटाते हैं, पीएच को बेलेंस करते हैं, और स्किन की टोन को बेलेंस करने में मदद करते हैं।

पानी, विच हेज़ेल और सेब का सिरका के बराबर भागों को मिलाएं। आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली मात्रा आपके इच्छित आकार की बोतल पर निर्भर करती है।

(यह भी पढ़ें – घर पर टोनर कैसे बनाएं)

रेज़र केवल पुरुषों के स्किनकेयर रूटीन का हिस्सा नहीं हैं

रेज़र केवल पुरुषों के स्किनकेयर रूटीन का हिस्सा नहीं हैं

सभी महिलाएं अपने चेहरे की स्किनकेयर रूटीन में एक रेजर शामिल कर रही हैं। इसे माइक्रो-प्लेनिंग (micro-plaining) कहा जाता है। नियमित रूप से नए रेजर का उपयोग करना त्वचा को एक्सफोलिएट करने और गंदगी को हटाने के लिए भी काम करता है।

(यह भी पढ़ें – क्या लड़कियों को करवानी चाहिए फेशियल शेविंग? जानें इसके फायदे और नुकसान)

इस आर्टिकल में बताये गए ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के सभी DIY हैक सभी के लिए काम नहीं करते हैं। एकमात्र रियल टेस्ट वह है जो आप स्वयं करती हैं। ऊपर बताए गए इन हैक्स का उपयोग करके एक स्किनकेयर रूटीन बनायें और उन्हें आज़माएं। आपको यह पसंद आएगा कि आपके द्वारा उपयोग की जा रही सामग्री सभी-प्राकृतिक हैं। याद रखें, अगर तेल ग्रंथियां एक विस्तारित अवधि के लिए अत्यधिक मात्रा में सीबम का उत्पादन कर रही हैं, तो त्वचा की गंभीर समस्याएं पैदा हो सकती हैं, अगर ऐसा होता है तो आपको त्वचा विशेषज्ञ से मिलना चाहिए।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration