कच्चे अंडे पीने के फायदे और नुकसान - Kachche Ande Pine Ke Fayde Aur Nuksan - Healthunbox
हेल्थ टिप्स

कच्चे अंडे पीने के फायदे और नुकसान – Kachche Ande Pine Ke Fayde Aur Nuksan

Kachche Ande Pine Ke Fayde Aur Nuksan

Kachche Ande Pine Ke Fayde Aur Nuksan: स्वादिष्ट होने के कारण अधिकांश लोगों को अंडा खाना पसंद होता है। अंडा एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसमें सभी विटामिन और पोषक तत्व पाए जाते है। सभी लोग अंडे को उबाल कर या अंडे की सब्जी बना कर ही इसका सेवन करते है। लेकिन क्या आपको कच्चे अंडे खाने के फायदे पता है। कच्चे अंडे में प्रोटीन, ओमेगा 3, विटामिन डी, बायोटिन, जिंक, कोलेस्‍ट्रॉल और अन्‍य पोषक तत्‍व होते है। लेकिन जब आप अंडे को पका लेते है, तब ये सभी पोषक तत्व कम हो जाते है।

कच्चा अंडा पीने का तरीका – Kachcha Anda pine Ka Tarika

कच्चा अंडा पीने का तरीका – Kachcha Anda pine Ka Tarika

यदि आप कच्चे अंडे को सीधे नहीं खा सकते है तो इसे किसी भी स्मूदी में या दूध मिलाकर इसका सेवन करें। ध्यान रखें की कच्चे अंडे की ऊपरी परत पर साल्मोनेला नाम का बैक्‍टीरिया (Salmonella bacteria) होता है। जब हम कच्चा अंडा खाते है तो यह हमारे पेट में चला जाता है। जो हमारे शरीर के कई प्रकार की समस्यों को उत्पन्न कर सकता है। इसलिए सबसे पहले आप कच्चे अंडे को साबुन से अच्छी तरह से धो लें।

(यह भी पढ़ें – कच्चा अंडा खाना सही है या नहीं? जानें कच्चा अंडा खाने के नुकसान)

अंडे में पोषक तत्व – Nutritional Value of Eggs in Hindi

अंडे में पोषक तत्व – Nutritional Value of Eggs in Hindi

अंडा सबसे अच्छी गुणवत्ता वाले प्रोटीन का प्रमुख स्रोत होने के साथ-साथ अत्यंत आवश्यक विटामिन को भी प्रदान करता है। अंडे में तांबाजस्ता, आयरन, कैल्शियम और सेलेनियम जैसे आवश्यक खनिज पाए जाते हैं। इसके अलावा प्रोटीन, कोलेस्ट्रॉल, वसा, फैटी एसिड और विटामिन डीविटामिन बी-12विटामिन ई, कोलीन और फोलेट भी उच्च मात्रा में होते हैं। ये सभी पोषक तत्व बच्चों की वृद्धि और स्वास्थ्य के लिए आवश्यक होते हैं। 1 पूरे अंडे में लगभग 70 कैलोरी और 6 ग्राम प्रोटीन उपस्थित होता है।

कच्चे अंडे पीने के फायदे – Kachche Ande Khane Ke fayde

कच्चे अंडे पीने के फायदे - Kachche Ande Khane Ke fayde

यदि आप सावधानी के साथ सीमित मात्रा में कच्चे अंडे का सेवन करते है तो इससे आपको कई प्रकार के लाभ होते है। आइये कच्चे अंडे पीने के फायदे जानते है।



(यह भी पढ़ें – उबले अंडे खाने के फायदे और नुकसान)

एलर्जी के खतरे को कम करे

कच्चे अंडे में विटामिन की प्रचुर मात्रा होती है

हम जानते है कि अंडे में भरपूर मात्रा में फैट और प्रोटीन मौजूदा होता है। लेकिन जब आप अंडे को पका लेते है तो पकाने के दौरान अंडे में मौजूद प्रोटीन की मूल संरचना बदल जाती है। इसके कारण से पकाए हुए अंडे में एलर्जी होने का खतरा होता है। लेकिन कच्चे अंडे पीने से एलर्जी होने का खतरा नहीं होता है।

(यह भी पढ़ें – एलर्जी के घरेलू उपाय और उपचार)

कच्चे अंडे पोषक तत्वों को बरकरार रखते है

कच्चे अंडे पोषक तत्वों को बरकरार रखते है

जब अंडे पकाए जाते हैं, तो वह पोषक तत्वों को खो देते हैं। पकाए गए अंडे में पोषक तत्वों की कमी, इस बात पर निर्भर करती है कि अंडे को खोल के पकाया गया था या बिना खोल के। अमेरिकी कृषि विभाग के पोषण डेटाबेस के आंकड़ों के अनुसार, कच्चे उबले अंडे की तुलना में कच्चे अंडों में आपको 36% अधिक विटामिन डी, 33% अधिक ओमेगा 3 एस, 33% अधिक डीएचए और 19% अधिक जस्ता मिलता है।

(यह भी पढ़ें – आपके बढ़ते बच्चे के लिए जरूरी हैं ये पोषक तत्व)

कच्चे अंडे में विटामिन की प्रचुर मात्रा होती है

कच्चे अंडे में विटामिन की प्रचुर मात्रा होती है

एक कच्चे अंडे में लगभग 0.3 मिलीग्राम राइबोफ्लेविन मौजूद होता है जो शरीर द्वारा वसा, कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन को तोड़ने के साथ-साथ रक्त और तंत्रिका कोशिकाओं को अच्छे से कार्य करने के लिए आवश्यक होता है। फोलेट विशेष रूप से अंडे की जर्दी में होता है जो नई कोशिकाओं को बनाए रखता है। इसके अलावा यह विटामिन A, D, E, K का अच्‍छा सोर्स है।

कच्चे अंडे में एंटीऑक्‍सीडेंट होता है

कच्चे अंडे में एंटीऑक्‍सीडेंट होता है

कच्चे अंडे में एंटीऑक्‍सीडेंट की भरपूर मात्रा होती है। जब आप कच्चा अंडा पीते है तो इससे शरीर में अमीनो एसिड की कमी पूरी होती है। दो कच्‍चे अंडे में एक सेब के बराबर एंटीऑक्‍सीडेंट होता है। कच्चे अंडे पीने से हमारे शरीर की मांसपेशियां मजबूत होती है और यह बुजुर्ग के लिए भी लाभदायक होता है।

कच्चे अंडे में कोलेस्‍ट्रॉल होता है

कच्चे अंडे में कोलेस्‍ट्रॉल होता है

हमारे शरीर के लिए दो प्रकार के कोलेस्‍ट्रॉल होते है एक अच्छा कोलेस्‍ट्रॉल (Good cholesterol) और दूसरा बुरा कोलेस्‍ट्रॉल (Bad cholesterol)। कच्चे अंडे को पीने से हमें गुड कोलेस्‍ट्रॉल प्राप्त होता है जो को‍शिकाओं और हॉर्मोन के निर्माण के लिए आवश्यक होता है। यह बाइल जूस (Bile juice) का भी निर्माण करता है, जो वसा के पाचन में सहायक होता है।

(यह भी पढ़ें – जानें कि क्या होता है अच्छा (HDL) एवं बुरा (LDL) कोलेस्ट्रॉल)

विटामिन B12 और फोलेट होता है

विटामिन B12 और फोलेट होता है

हमारे शरीर के लिए विटामिन B12 और फोलेट दोनों की आवश्कता होती है, इन दोनों को आप कच्चा अंडा पीकर भी प्राप्त कर सकते हैं। एक कच्चे अंडे में 0.2 मिलीग्राम राइबोफ्लेविन प्राप्‍त होता है। यह शरीर द्वारा वसा, कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन को तोड़ने के काम आता है। कच्चे अंडे का सेवन एनीमिया की समस्या दूर करता है और दिमाग भी तेज होता है।

प्रोटीन और मिनरल प्रचुर मात्रा में होता है

प्रोटीन और मिनरल प्रचुर मात्रा में होता है

कच्चा अंडा का प्रोटीन का उच्च स्त्रोत है यह कम कैलोरी और वसा रहित खाद्य पदार्थ है। एक अंडे में लगभग 6 ग्राम प्रोटीन, 55 मिलीग्राम सोडियम और केवल 17 कैलोरी उपस्थित होती है। इसके अलावा एक कच्चे अंडे से व्यक्ति के शरीर को 66 मिलीग्राम पोटेशियम, 3.6 मिलीग्राम मैग्नीशियम, 2.3 मिलीग्राम कैल्शियम और 4.9 मिलीग्राम फास्फोरस प्रदान करता है। शरीर की सभी कोशिकाओं को अच्छे से कार्य करने लिए फॉस्‍फोरस की जरुरत होती है।

(यह भी पढ़ें – उबले अंडे खाने के फायदे और नुकसान)

कच्चे अंडे की जर्दी में बायोटिन होता है

कच्चे अंडे की जर्दी में बायोटिन होता है

अंडे की जर्दी यानि अंडे के पीले भाग को पीने से हमें बायोटिन प्राप्त होता है। बायोटिन हमारे बाल, त्वचा, नाखून को मजबूत करने के साथ-साथ मधुमेह और अवसाद आदि की बीमारी से बचाता है। बायोटिन शाकाहारी पदार्थो में बहुत कम मात्रा में पाया जाता है।

(यह भी पढ़ें – अंडे की जर्दी खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ)

कच्चे अंडे पीने के नुकसान – Disadvantages of eating raw egg in Hindi

कच्चे अंडे पीने के नुकसान – Disadvantages of eating raw egg in Hindi

  • यदि आप कच्चा अंडा खाते है और इसके साथ साल्मोनेला बैक्टीरिया आपके पेट में चला जाता है तो इससे उल्टी, दस्त, बुखार और सिर दर्द जैसी गंभीर बीमारियां होने की संभावना होती हैं।
  • कच्चा अंडा खाने से अंडे में मौजूद आवश्यकप्रोटीन को अवशोषित करने की आपकी क्षमता भी कम हो सकती है, क्योंकि पकाए गए अंडे से प्रोटीन बेहतर अवशोषित होता है।
  • कच्चे अंडे का सेवन भी बायोटिन को अवशोषित करने की आपकी क्षमता को प्रभावित कर सकता है। बायोटिन एक पानी में घुलनशीलबी-विटामिन है, जो शरीर में ग्लूकोज और फैटी एसिड के उत्पादन में शामिल है।
  • कच्चे अंडे की सफेदी में एविडिन नामक एक प्रोटीन होता है, जो छोटी आंत में बायोटिन को बांधता है और इसके अवशोषण को रोकता है। अंडे को पकाने पर गर्मी की वजह से एविडिन नष्ट हो जाता है।

कच्चे अंडे पीने के फायदे और नुकसान (Kachche Ande Pine Ke Fayde Aur Nuksan) का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration