स्टीम बॉथ के इन बड़े फायदों को जानते हैं आप – Steam bath benefits and side effects in Hindi

स्टीम बॉथ के इन बड़े फायदों को जानते हैं आप - Steam bath benefits and side effects in Hindi
Written by Anamika

Steam bath benefits in Hindi स्टीम रूम गर्म वाष्प या स्टीम से भरा एक कमरा होता है। जगह के अनुसार इसका तापमान अलग-अलग रखा जाता है लेकिन आमतौर पर इसका तापमान 110°F रखा जाता है। अमूनन लोग जिम जाने से पहले स्टीम बॉथ लेते हैं या स्पा के साथ स्टीम बॉथ लेते हैं। स्टीम बॉथ लेने से कई बड़े फायदे होते हैं और स्टीम बॉथ के लाभ काफी लोकप्रिय भी हैं। हम आज आपको स्टीम बॉथ के फायदे और स्टीम बॉथ के नुकसान के विषय में बताएंगे।

सैकड़ों वर्षों से स्टीम बॉथ का इस्तेमाल ब्लड सर्कुलेशन ठीक रखने, नासूर को दूर करने और त्वचा को जवान रखने के साथ ही जोड़ों और मांसपेशियों के तनाव को कम करने के लिए किया जाता है। स्टीम बॉथ के अनंत फायदे हैं। बिजी रूटीन से लोग फुर्सत निकाल कर जैसे मेडिटेशन या योगा के सहारे अपने को खुशहाल रखते हैं, ठीक उसी तरह स्टीम बॉथ का भी लोग प्रयोग शरीर और मन को ठीक रखने के लिए करते हैं। (Steam ke fayde in hindi)

1. स्टीम बॉथ लेने के फायदे – Health benefits of steam bath in Hindi
2. स्टीम बॉथ लेने के नुकसान – Side effects of steam bath in Hindi

स्टीम बॉथ के फायदे – Health benefits of steam bath in Hindi

स्टीम बॉथ के फायदे - Health benefits of steam bath in Hindi

इसके फायदों के बारे में जानना बेहद जरूरी है क्योंकि यह एक ऐसी तकनीक या थेरेपी या जो आपके दिलो दिमाग के साथ आपके शरीर को भी स्वस्थ रखने में फायदेमंद है। तो आइये जानें स्टीम बॉथ के फायदे (Steam bath ke fayde)

ब्लड सर्कुलेशन बेहतर बनाने में स्टीम बॉथ के फायदे – Steam bath benefits Improves circulation in Hindi

ब्लड सर्कुलेशन बेहतर बनाने में स्टीम बॉथ के फायदे - Steam bath benefits Improves circulation in Hindi

स्टीम बॉथ लेने से हृदय और रक्त वाहिकाएं स्वस्थ रहती हैं। एक स्टडी से पता चला है कि स्टीम बॉथ से गर्माहट के साथ शरीर को नमी मिलती है जो सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में मदद करता है। सर्कुलेशन बेहतर होने से रक्तचाप नियंत्रित होता है और हृदय स्वस्थ रहता है एवं हृदय से जुड़ी बीमारियों से व्यक्ति ग्रसित नहीं होता है। इसके अलावा स्टीम बॉथ त्वचा की टूटी हुई कोशिकाओं को भी जोड़ने में मदद करता है।

(और पढ़ें – ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने के घरेलू उपाय)

जोड़ों को लचीला बनाने में स्टीम बॉथ के फायदे – Steam bath benefits for Loosens stiff joints in Hindi

जोड़ों को लचीला बनाने में स्टीम बॉथ के फायदे - Steam bath benefits for Loosens stiff joints in Hindi

वर्कआउट से पहले स्टीम बॉथ लेना शरीर के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि इससे किसी भी तरह की चोट से शरीर की सुरक्षा होती है। स्टीम बॉथ लेने से यह आपके शरीर दौड़ने, टहलने या एक्सरसाइज के लिए अधिक सक्रिय बनाता है। स्टीम बॉथ का प्रभाव जानने के लिए एक शोध किया गया जिसमें यह पाया गया कि स्टीम बॉथ लेने से इसके गर्माहट से घुटनों के जोड़े अधिक लचीले होते हैं जिससे कि यह किसी तरह की चोट लगने के खतरे को कम करते हैं और हम अधिक सक्रिय होकर काम करते हैं। स्टीम बॉथ लेने से विशेषरूप से महिलाओं को जोड़ों का दर्द नहीं होता और ना ही उन्हें किसी तरह की चोट लगती है।

(और पढ़ें – जोड़ों में दर्द का घरेलू उपचार)

स्टीम बॉथ के फायदे वजन घटाने में – Steam bath benefits weight loss in Hindi

स्टीम बॉथ के फायदे वजन घटाने में - Steam bath benefits weight loss in Hindi

आमतौर पर किसी व्यक्ति को वजन घटाने के लिए गर्म पानी पीने की सलाह दी जाती है। ठीक उसी तरह स्टीम बॉथ लेने से भी शरीर की अतिरिक्त कैलोरी कम होती है और वजन भी घट जाता है। नियमित स्टीम बॉथ लेना शरीर की कैलोरी को कम करने में उतना ही सहायक होता है जितना कि आप वजन घटाने के लिए जिम जाते हैं, डाइट पर रहते हैं या रेगुलर एक्सरसाइज करते हैं। इसलिए ज्यादातर लोग कैलोरी घटाने के लिए स्टीम बॉथ लेते हैं।

(और पढ़ें – वजन घटाने के लिए रोज कितनी कैलोरी की जरूरत होती है)

स्ट्रेस को कम करने में स्टीम बॉथ के फायदे – Steam bath benefits Reduces stress in Hindi

स्ट्रेस को कम करने में स्टीम बॉथ के फायदे - Steam bath benefits Reduces stress in Hindi

हमारे शरीर में कॉर्टिसोल नामक हार्मोन उत्पन्न होने के कारण ही हमें ज्यादा तनाव होता है। स्टीम बॉथ लेने से शरीर में कॉर्टिसोल नामक हार्मोन कम होता है जिससे व्यक्ति को स्ट्रेस नहीं होता है। कॉर्टिसोल एक ऐसा हार्मोन है जो तनाव के स्तर को रेगुलेट करता है जिससे हम अधिक परेशान हो जाता हैं। लेकिन जब कॉर्टिसोल का स्तर कम होता है तो मन ठीक रहता है। स्टीम बॉथ लेने से यह हमारे मस्तिष्क को शांत रखता है और आत्मकेंद्रित होने में मदद करता है।

(और पढ़ें – मानसिक तनाव के कारण, लक्षण एवं बचने के उपाय)

रक्तचाप कम करने में स्टीम बॉथ के फायदे – Steam bath Benefits Lowers blood pressure in Hindi

रक्तचाप कम करने में स्टीम बॉथ के फायदे - Steam bath Benefits Lowers blood pressure in Hindi

स्टीम बॉथ लेने से शरीर में कुछ ऐसे हार्मोन स्रावित होते हैं जो हृदय की गति को परिवर्तित कर देते हैं। एल्डोस्टेरॉन इनमें से एक ऐसा ही हार्मोन है जो ब्लड प्रेशर को रेगुलेट करता है। स्टीम बॉथ लेते समय जब एल्डोस्टेरॉन स्रावित होता है तो यह उच्च रक्त चाप की समस्या को कम करता है। जिससे कि स्टीम बॉथ के बाद आपका शरीर बहुत राहत महसूस करता है।

(और पढ़ें – निम्न रक्तचाप के कारण, लक्षण और इलाज)

स्टीम बॉथ के फायदे अच्छी त्वचा के लिए – Steam bath benefits for face in Hindi

स्टीम बॉथ के फायदे अच्छी त्वचा के लिए - Steam bath benefits for face in Hindi

प्रदूषित वातावरण के कारण चेहरे पर बहुत तरह के हानिकारक विषाक्त पदार्थ जमा हो जाता हैं जिससे कि त्वचा के रोमछिद्र बंद हो जाते हैं और चेहरे पर मुंहासे, ब्लैक हेड्स जैसी तमाम समस्याएं होने लगती हैं। स्टीम बॉथ लेने से त्वचा के रोमछिद्रों में भरे विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और चेहरे पर जमी गंदगी भी दूर हो जाती है जिसकी वजह से त्वचा साफ और टोन्ड दिखती है।

(और पढ़ें – ब्लैकहेड्स को हटाने वाले घरेलू फेस स्क्रब और फेस मास्क)

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के लिए स्टीम बॉथ के फायदे – Steam bath Benefits Boosts the immune system in Hindi

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के लिए स्टीम बॉथ के फायदे - Steam bath Benefits Boosts the immune system in Hindi

प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर करने के लिए कई तरह की हाइड्रोथेरेपी मौजूद है लेकिन स्टीम बॉथ उनमें से एक है। गर्म पानी शरीर पर पड़ने से यह शरीर में ल्यूकोसाइट को स्टीमूलेट करता है। ल्यूकोसाइट एक कोशिका है जो संक्रमण से लड़ने में मदद करती है जिससे कि शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ती है। महज एक दिन स्टीम बॉथ लेने से शरीर का इम्यून सिस्टम बेहतर नहीं होता है बल्कि इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए रेगुलर स्टीम बॉथ लेने की जरूरत पड़ती है।

(और पढ़ें – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय)

स्टीम बॉथ के नुकसान – Steam bath ke nuksan in Hindi

कठोर जल में क्लोरीन और अन्य रसायनों की अशुद्धियां मिली होती हैं। ऐसे पानी में स्टीम बॉथ लेने पर त्वचा इन अशुद्धियों को अवशोषित कर लेती है, जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।

स्टीम बॉथ के दौरान वाष्प शरीर पर पड़ता है, अगर आपको अस्थमा या हृदय रोग हो तो उसे स्टीम बॉथ लेने से नुकसान हो सकता है।

अमूनन स्टीम बॉथ सेहत के लिए अच्छा होता है लेकिन यदि काफी देर तक या यूं कहें कि पंद्रह मिनट से ज्यादा समय तक यदि स्टीम बॉथ लिया जाए तो इससे डिहाइड्रेशन हो सकता है।

(और पढ़े – डिहाइड्रेशन से बचने के घरेलू उपाय, जान लेंगें तो कभी नहीं होगी पानी की कमी)

स्टीम बॉथ रूम में कई तरह के बैक्टीरिया और जर्म मौजूद होते हैं। स्टीम वाटर इन बैक्टीरिया को मारने में कारगर नहीं होता है। इसलिए बैक्टीरिया की चपेट में आने से आपको संक्रमण या अन्य बीमारियां हो सकती हैं।

कुछ लोग ज्यादातर बीमारियों को ठीक करने के उद्देश्य से ही स्टीम बॉथ लेते हैं। लेकिन हम आपको बता दें कि सिर्फ स्टीम बॉथ ही बीमारियों को दूर करने में सहायक नहीं होता है, साथ में आपको एक्सरसाइज और वर्कआउट करने की भी जरूरत पड़ेगी। यदि आप प्रेगनेंट हैं या किसी तरह की सर्जरी करायी हैं तो स्टीम बॉथ लेने से परहेज करें या डॉक्टर से सलाह लेकर स्टीम बॉथ लें।

अधिक देर तक स्टीम बॉथ लेने से पुरूषों में नपुंसकता हो सकती है। इसके अलावा यदि आप मधुमेह रोगी हैं तो आपको स्टीम बॉथ लेने से नुकसान पहुंच सकता है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration