निर्गुण्डी के फायदे और नुकसान – Nirgundi Ke Fayde Aur Nuksan in Hindi

निर्गुण्डी के फायदे और नुकसान – Nirgundi Ke Fayde Aur Nuksan in Hindi
Written by Jaideep

निर्गुण्‍डी एक औषधीय जड़ी बूटी है जिसके बारे में अधिकतर लोगों को पता नहीं है। निर्गुण्‍डी के फायदे मानव स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद खास माने जाते हैं। इस पौधे में मौजूद पोषक तत्‍वों के कारण निर्गुण्‍डी का उपयोग विभिन्‍न प्रकार की औषधीयों के निर्माण में किया जाता है। यह एक ऐसी औषधी है जिसका उपयोग कई बीमारियों के इलाज के लिए आयुर्वेद, यूनानी, होम्योपैथी और एलोपैथी में लोकप्रिय रूप से उपयोग किया जाता है। निर्गुण्‍डी के फायदे सिरदर्द, सिफलिस, संधिशोथ, मस्तिष्‍क, बुखार, खांसी, मूत्र रोग, फोड़े और अन्‍य बीमारियों के इलाज में होते हैं। निर्गुण्‍डी एक प्रभावी दर्दनिवारक, एंटी-इंफ्लामेटरी, एंटी-कैटररल (anti-catarrhal) और भूख बढ़ाने वाला (appetiser) होता है। आइये निर्गुण्‍डी से संबंधित अन्‍य जानकारीयों को जाने।

1. निर्गुण्‍डी क्‍या है – What Is Nirgundi in Hindi
2. निर्गुण्‍डी का पेड़ – Nirgundi Tree In Hindi
3. निर्गुण्‍डी के पोषक तत्‍व – Nirgundi Nutrition in Hindi
4. निर्गुण्डी के फायदे हिंदी में – Nirgundi Ke Fayde Hindi Me

5. निर्गुण्डी के अन्‍य उपयोग – Nirgundi Other Use in Hindi
6. निर्गुण्‍डी के नुकसान – Nirgundi Ke Nuksan in Hindi

निर्गुण्‍डी क्‍या है – What Is Nirgundi in Hindi

चिकित्‍सा विज्ञान में विशेष घटक के रूप में निर्गुण्‍डी का उपयोग किया जाता है। यह एक सदाबहार पेड़ है जो भारत के अलावा बांग्‍लादेश, चीन और जापान जैसे अन्‍य देशों में भी पाया जाता है। इस पेड़ के लगभग सभी हिस्‍सों का उपयोग विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं के लिए प्राकृतिक इलाज के रूप में किया जाता है। आइए जाने निर्गुण्‍डी के पेड़ के बारे में।

निर्गुण्‍डी का पेड़ – Nirgundi Tree In Hindi

एक विशेष स्‍वाद के लिए जाना जाने वाला निर्गुण्‍डी का पेड़ लगभग 5 मीटर लंबा होता है। इसके अलावा यह कभी-कभी एक छोटा और पतला और भूरे रंग की छाल के साथ भी देखने को मिलता है। इस पेड़ में बहुत सी पतली शाखाएं होती हैं जो इसे झाड़ीनुमा पेड़ बनाती हैं। इसकी पत्तियां लगभग 3.8 सेमी लंबी होती है जो कि देखने में तिकोनी लगती है। इस पेड़ की जड़े बहुत ही फैली हुई होती हैं जो कि बेलनाकार होती हैं। इसके फूल भूरे बैंगनी रंग के होते हैं। इन फूलों पर गोलाकार फल लगते हैं जिनका व्‍यास लगभग 1 से 3 मिमी होता है। इन फलों का रंग हल्का भूरा और काला होता है। इसके फल में दो बीज होते हैं।

निर्गुण्‍डी के पोषक तत्‍व – Nirgundi Nutrition in Hindi

इस औषधीय पौधे के लगभग सभी हिस्‍सों में पर्याप्‍त मात्रा में पोषक तत्‍व होते हैं जो हमें स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने में मदद करते हैं। इस पेड़ में फाइटोकेमिकल माध्‍यमिक मेटाबोलाइड्स होते हैं जो पौधे को अद्वतीय औषधीय बनाते हैं। इसकी पत्तियों में ऑकुबिन एगिनुसाइड (Aucubin aginuside), एल्‍कालोइड्स निशिंडिन (Alkaloids: Nishindine), हाइड्रोकोटिलीन (Hydrocotylene), ग्‍लाइफोलावोनोइड्स (Glyoflavonoids), ओरिएंटिन (Orientin), इसोरिएंटिन 5-हाइड्रॉक्‍सी (Isoorientin, 5-Hydroxy) आदि होते हैं। इसी तरह इस पौधे के बीजों और फूलों में भी कई प्रकार के पोषक तत्‍व होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। आइए जाने निर्गुण्‍डी जड़ी बूटी से प्राप्‍त होने वाले स्‍वास्‍थ्‍य लाभ क्या हैं।

निर्गुण्डी के फायदे हिंदी में – Nirgundi Ke Fayde Hindi Me

  1. निर्गुण्‍डी चूर्ण के फायदे पाचन में – Nirgundi Ke Fayde Digestion Me in Hindi
  2. निर्गुन्‍डी औषधि श्वसन प्रणाली के लिए – Nirgundi Benefits For Respiratory System in Hindi
  3. निर्गुंडी के फायदे सूजन को दूर करे – Nirgundi Benefits For Inflammatory Health in Hindi
  4. निर्गुण्डी के गुण सिर दर्द का इलाज करे – Nirgundi Ke Fayde For Headaches in Hindi
  5. निर्गुन्डी औषधि रजोनिवृत्ति के लक्षणों को कम करे – Nirgundi Tree Benefits For Menopausal Symptoms in Hindi
  6. निर्गुण्डी का उपयोग मासिक धर्म में – Nirgundi Ke Upyog For Menstrual in Hindi
  7. निर्गुण्डी रसायन के फायदे महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ाए – Nirgundi Benefits For Women Fertility in Hindi
  8. निर्गुण्डी स्वरस के फायदे मुंहासों का उपचार करे – Nirgundi Ras Ke Fayde For Acne in Hindi
  9. निर्गुन्डी तेल के फायदे घावों को ठीक करे – Nirgundi Tel Ke Fayde For Wounds Heals in Hindi
  10. निर्गुण्‍डी के फायदे बालों के लिए – Nirgundi Benefits For Hair in Hindi

विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त करने के लिए निर्गुण्‍डी का उपयोग सदियों से किया जा रहा है। यह ऐसी औषधी है जो स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने के साथ ही हमारी सुंदरता को बढ़ाने में मदद करती है। आप अपनी त्वचा समस्‍याओं को दूर करने के लिए निर्गुण्‍डी का उपयोग कर सकते हैं। लेकिन यह हो सकता है कि यह आपकी सुंदरता को बढ़ाने में कुछ लंबा समय ले लेकिन इससे प्रभावी उपचार संभव है। आइए विस्‍तार से जाने निर्गुण्‍डी के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य और सुंदरता के लिए क्‍या हैं।

निर्गुण्‍डी चूर्ण के फायदे पाचन में – Nirgundi Ke Fayde Digestion Me in Hindi

निर्गुण्‍डी चूर्ण के फायदे पाचन में - Nirgundi Ke Fayde Digestion Me in Hindi

यदि आप पाचन विकारों से परेशान हैं तो निर्गुण्‍डी आपकी मदद कर सकती है। ऐसा माना जाता है कि निर्गुण्‍डी पाचन विकारों को दूर करने के लिए एक उत्‍कृष्‍ठ विकल्‍प है। यह पाचन तंत्र के कामकाज को सुधारने और इसे मजबूत करने में मदद करती है। इसका उपभोग करने पर यह भूख को भी बढ़ाने में सहायक होता है। इसके अलावा निर्गुण्‍डी के औषधीय गुण पेट के दर्द, पेट की गैस, ऐंठन और पेट की सूजन जैसी अन्‍य समस्‍याओं को दूर करने में भी प्रभावी होती है। निर्गुण्‍डी की पत्तियों से निकाले गए रस का सेवन करने से यह पाचन तंत्र को साफ करती है। इस तरह से पाचन लाभ प्राप्‍त करने के लिए आप भी निर्गुण्‍डी चूर्ण का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

निर्गुन्‍डी औषधि श्वसन प्रणाली के लिए – Nirgundi Benefits For Respiratory System in Hindi

निर्गुन्‍डी औषधि श्वसन प्रणाली के लिए - Nirgundi Benefits For Respiratory System in Hindi

एक हर्बल चाय के रूप में निर्गुण्‍डी का उपयोग आपके अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। इस औषधी से बनी चाय का सेवन कर आप श्वसन प्रणाली से संबंधित समस्‍याओं का उपचार कर सकते हैं। यह आपके वायुजीवन में सुधार करने और श्वसन को सामान्‍य करने के लिए वायु मार्गों को खोलने में मदद करती है। निर्गुण्‍डी के इस गुण के कारण ही विभिन्‍न श्वसन संबंधी दवाओं में इसे व्‍यापक रूप से मुख्‍य घटक के रूप में उपयोग किया जाता है। सामान्‍य रूप से निर्गुण्‍डी के फायदे ब्रोंकाइटिस, अस्‍थमा और निमोनिया जैसी श्वसन रोगों को ठीक करने में मदद करती है। आप इस जड़ी बूटी का लाभ प्राप्‍त करने के लिए आप इस पौधे के पत्‍तों से बनी चाय का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – सांस फूलने के कारण, लक्षण, जांच, उपचार, और रोकथाम…)

निर्गुंडी के फायदे सूजन को दूर करे – Nirgundi Benefits For Inflammatory Health in Hindi

निर्गुंडी के फायदे सूजन को दूर करे - Nirgundi Benefits For Inflammatory Health in Hindi

विटामिन सी की अच्‍छी मात्रा निर्गुण्‍डी के पौधे में पाई जाती है। विटामिन सी एक एंटीऑक्‍सीडेंट की तरह कार्य करता है। इसके अलावा यह प्रकृति में एंटीबायोटिक और एंटी-इंफ्लामेटरी होता है। इस तरह से निर्गुण्‍डी का सेवन करने पर यह हमारी प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ा सकता है। जिससे आप बार-बार बुखार, ऑर्किटिस (orchitis), टोनिलिटिस और फेरींगिटिस (tonsillitis, and pharyngitis) की पुनरावृत्ति से बच सकते हैं। आप अपनी प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने के लिए इस पौधे की पत्तियों से एक काढ़ा तैयार कर सकते हैं। इस काढ़े का दिन में तीन बार सेवन करने से टोनिलिटिस और फरींगिटिस से राहत मिल सकती है। निर्गुंडी के फायदे आपके लिए एक चमत्‍कारिक औषधी की तरह हो सकते है।

(और पढ़े – सूजन के कारण, लक्षण और कम करने के घरेलू उपाय…)

निर्गुण्डी के गुण सिर दर्द का इलाज करे – Nirgundi Ke Fayde For Headaches in Hindi

निर्गुण्डी के गुण सिर दर्द का इलाज करे - Nirgundi Ke Fayde For Headaches in Hindi

क्‍या आप माइग्रेन या सामान्‍य सर्दी से परेशान हैं। ये समस्‍याएं आपके लिए गंभीर हो सकती हैं यदि समय पर इसका इलाज नहीं किया जाता है तो। लेकिन इन समस्‍याओं के दौरान कुछ सामान्‍य शारीरिक परेशानियां भी हो सकती हैं जिनमें सिर का दर्द आम है। यदि आपको इन समस्‍याओं या अन्‍य किसी कारण से सिर दर्द होता है तो इसके लिए निर्गु‍ण्‍डी प्रभावी उपचार हो सकता है। सिरदर्द का उपचार करने के लिए आप निर्गुण्‍डी की कुछ सूखी पत्तियां लें और इनका धुंआ भाप की तरह लें। यह आपको सिरदर्द से तत्‍काल राहत दिला सकता है।

(और पढ़े – सिर दर्द दूर करने के घरेलू उपाय…)

निर्गुन्डी औषधि रजोनिवृत्ति के लक्षणों को कम करे – Nirgundi Tree Benefits For Menopausal Symptoms in Hindi

निर्गुन्डी औषधि रजोनिवृत्ति के लक्षणों को कम करे - Nirgundi Tree Benefits For Menopausal Symptoms in Hindi

कुछ अध्‍ययनों से पता चलता है कि निर्गुण्‍डी पौधे का औषधीय उपभोग करने पर यह प्रोजेस्‍टेरोन के स्‍तर को बढ़ा सकते हैं। जिससे महिलाओं की मनोदशा को सुधारने में मदद मिल सकती है। रजोनिवृत्ति महिलाओं में लगभग 50 वर्ष से अधिक उम्र में होने वाली एक सामान्‍य अवस्‍था है। निर्गुण्‍डी का उपभोग करने पर इस दौरान होने वाली समस्‍याओं को नियंत्रित किया जा सकता है। इस दौरान महिलाओं में होने वाली समस्‍याओं में मूड स्विंग्‍स, योनि सूखापन, और हाट फ्लैश आदि शामिल हैं। हालांकि आपको इन समस्‍याओं से छुटकारा पाने में लगभग 8 से 10 सप्‍ताह का समय लग सकता है। लेकिन निर्गुन्डी औषधि इनका प्रभावी और प्राकृतिक इलाज हो सकती है।

(और पढ़े – रजोनिवृत्ति के कारण, लक्षण और दूर करने के उपाय…)

निर्गुण्डी का उपयोग मासिक धर्म में – Nirgundi Ke Upyog For Menstrual in Hindi

निर्गुण्डी का उपयोग मासिक धर्म में - Nirgundi Ke Upyog For Menstrual in Hindi

एक अध्‍ययन से पता चलता है कि निर्गुण्‍डी महिलओं के लिए बेहद फायदमंद होती है। ऐसा माना जाता है कि जो महिलाएं मासिक धर्म के पहले निर्गुण्‍डी का सेवन करती हैं वे बेहतर तरीके से चिंता, रक्‍तस्राव और अवसाद जैसे लक्षणों का प्रबंधन करने में सक्षम होती हैं। जबकि लगभग 3 मासिक चक्रों के लिए नियमित उपभोग करने पर मासिक धर्म के दौरान होने वाली समस्‍याएं जैसे पेट दर्द, ऐंठन और अन्‍य लक्षणों में कमी आती है। इस तरह महिलाएं इस जड़ी बूटी से लाभ प्राप्‍त कर सकती हैं।

(और पढ़े – पीरियड्स के दिनों में दर्द क्यों होता है जानें मुख्य कारण…)

निर्गुण्डी रसायन के फायदे महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ाए – Nirgundi Benefits For Women Fertility in Hindi

निर्गुण्डी रसायन के फायदे महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ाए - Nirgundi Benefits For Women Fertility in Hindi

कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने वाली निर्गुण्‍डी औषधी महिला स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के साथ ही प्रजनन क्षमता को भी बढ़ाने में मदद करती है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि बांझपन से पीड़ित महिलाओं को निर्गुण्‍डी के रस की 200 मिलीग्राम मात्रा का सेवन किया जाना चाहिए। नियमित रूप से 6 माह तक निर्गुण्‍डी की चाय का सेवन किये जाने पर यह बहुत ही लाभप्रद होती है। क्‍योंकि यह महिलाओं को पर्याप्‍त मात्रा में विटामिन और खनिज पदार्थ उपलब्‍ध करा सकती है। इस तरह से महिला बांझपन का प्राकृतिक उपचार करने के लिए निर्गुण्‍डी औषधी और इससे बनी चाय का उपभोग कर सकती हैं।

(और पढ़े – महिलाओं में कामेच्छा बढ़ाने के घरेलू नुस्खे और उपाय…)

निर्गुण्डी स्वरस के फायदे मुंहासों का उपचार करे – Nirgundi Ras Ke Fayde For Acne in Hindi

निर्गुण्डी स्वरस के फायदे मुंहासों का उपचार करे - Nirgundi Ras Ke Fayde For Acne in Hindi

बहुत से युवा महिला और पुरुष मुंहासों की समस्‍या से परेशान रहते हैं। यह उनकी सुंदरता को कम करने और गंभीर चिंता का कारण बन सकते हैं। लेकिन इन मुंहासों का उपचार करने के लिए निर्गुण्‍डी बहुत ही प्रभावी औषधी की तरह कार्य करती है। ये मुंहासे त्‍वचा में कभी भी आ सकते हैं जो कि बदसूरत होने के साथ ही दर्दनाक भी होते हैं। मासिक धर्म भी महिलाओं में मुंहासों का कारण बन सकता है। निर्गुण्‍डी का उपभोग करने पर यह हार्मोनल परिवर्तनों के कारण होने वाले मुंहासों के उत्‍पादन को कम कर सकता है। साथ ही इसके एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण मुंहासों का उपचार करने में सहायक होते हैं। यदि आप मुंहासों से छुअकारा चाहते हैं तो निर्गुण्‍डी का उपयोग प्रारंभ कर सकते हैं।

(और पढ़े – मुहांसों के प्रकार और उनका इलाज…)

निर्गुन्डी तेल के फायदे घावों को ठीक करे – Nirgundi Tel Ke Fayde For Wounds Heals in Hindi

निर्गुन्डी तेल के फायदे घावों को ठीक करे - Nirgundi Tel Ke Fayde For Wounds Heals in Hindi

एंटी-बैक्‍टीरिया, पीड़ाहारी (analgesic) और एंटी-इंफ्लामेटरी गुणों से भरपूर निर्गुन्डी तेल घावों का उपचार करने में मदद कर सकता है। यह घावों को ठीक करने का प्राकृतिक तरीका हो सकता है। यह घावों में होने वाले संक्रमण को रोक कर उपचार गति को तेज कर सकता है। इसके साथ ही संक्रमण के कारण घावों से आने वाली बदबू को भी कम करने में निर्गुण्‍डी प्रभावी होती है। निर्गुण्‍डी का उपयोग करने पर यह प्रभावी क्षेत्र में दर्द, और सूजन से भी आराम दिला सकती है। इस तरह से आप घावों को ठीक करने के लिए निर्गुन्डी तेल का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – फंगल इन्फेक्शन क्या है, कारण, लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार…)

निर्गुण्‍डी के फायदे बालों के लिए – Nirgundi Benefits For Hair in Hindi

निर्गुण्‍डी के फायदे बालों के लिए – Nirgundi Benefits For Hair in Hindi

आप जानते हैं कि निर्गुण्‍डी आपकी त्‍वचा के लिए फायदेमंद होती है। इसी तरह से यह आपके बालों के लिए भी उपयोगी होती है। इसका उपयोग कर आप सुंदर, चमकदार बालों को प्राप्त कर सकते हैं। जो लगभग सभी महिला और पुरुषों का सपना होता है। इस पेड़ की पत्तियों से बने तेल का उपयोग बालों के टॉनिक के रूप में किया जाता है। नियमित रूप से सिर में उपयोग करने पर यह बालों को झड़ने से रोक सकता है साथ ही बालों के विकास को बढ़ावा दे सकता है। इसके अलावा यह डैंड्रफ का भी उपचार कर सकता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि निर्गुण्‍डी के तेल का उपयोग करने पर जूँ, डैंड्रफ और सिर के अन्‍य संक्रमणों से छुटकारा पाया जा सकता है। इस तरह से निर्गुण्‍डी स्‍वास्‍थ्‍य के साथ-साथ त्‍वचा और बालों के लिए भी फायदेमंद होती है।

(और पढ़े – बालों को लंबा और घना करने के घरेलू उपाय…)

निर्गुण्डी के अन्‍य उपयोग – Nirgundi Other Use in Hindi

यह एक बेहद फायदेमंद औषधीय पौधा है। यह न केवल स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाता है बल्कि यह कीट पतंगों को भी दूर रखने में सहायक होता है। बहुत से लोग इसकी पत्तियों को कपड़ों के बीच में दबाकर रखते हैं, जिससे कीड़े उन्‍हें नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं। इस पौधे की पत्तियों का धुआ एक प्रभावी मच्‍छर प्रतिरोधी के रूप में कार्य करता है। निर्गुण्‍डी की पत्तियों को जैव कीटनाशकों के रूप में भी उपयोग किया जाता है। इस तरह से निर्गुण्‍डी का पौधा हमारे लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है।

निर्गुण्‍डी के नुकसान – Nirgundi Ke Nuksan in Hindi

यदि सही मात्रा में इसका सेवन किया जाए तो यह बहुत ही फायदेमंद होती है। लेकिन यदि इस जड़ी बूटी का अनियंत्रित या अधिक मात्रा में सेवन किया जाता है तो इसके कुछ दुष्‍प्रभाव हो सकते हैं। आइये जानतें है निर्गुण्‍डी के नुकसान क्या हैं।

  • गर्भवती महिलाओं को इस औषधी की अधिक मात्रा का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • क्‍योंकि यह उनमें हार्मोनल परिवर्तनों को उत्‍तेजित कर सकती है जो उनके लिए हानिकारक हो सकती है।
  • मौखिक रूप से इसका सेवन करने पर यह गर्भनिरोधों के प्रभाव को कम कर सकती है।
  • अधिक मात्रा में इसका सेवन करने पर यह हृदय की कार्य प्रणाली को प्रभावित कर सकती है। इसलिए हृदय रोग से ग्रसित व्‍यक्ति को इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लेना चाहिए।
  • अधिक मात्रा में सेवन करने से स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं की दूध उत्‍पादन क्षमता प्रभावित हो सकती है। इसलिए उन्‍हें इसका सेवन अधिक मात्रा में करने से बचना चाहिए।
  • सामान्‍य रूप से निुर्गुण्‍डी के दुष्‍प्रभावों में सिरदर्द, मुंह का सूखापन, मतली, पेट दर्द आदि शामिल हैं।

(और पढ़े – गर्भावस्था के दौरान खाये जाने वाले आहार और उनके फायदे…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration