मटर प्रोटीन पाउडर: पोषण, लाभ और नुकसान – Matar (Pea) Protein Powder: Nutrition, Benefits and Side Effects in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर: पोषण, लाभ और नुकसान – Matar (Pea) Protein Powder: Nutrition, Benefits and Side Effects in Hindi
Written by Shivam

Matar Protein Powder In Hindi मटर प्रोटीन पाउडर हाल ही में फिटनेस के लिए काफी उपयोग में लाये जाने वाला लोकप्रिय सप्लीमेंट है। इसका उपयोग आहर में प्रोटीन का सेवन बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन उपयोग में लाने से पहले यह जानना अति आवश्यक है, कि मटर प्रोटीन पाउडर स्वास्थ्य के लिए अच्छा है या खराब। प्रोटीन शरीर के लिए काफी महत्वपूर्ण पोषक तत्व हैं। मानव शरीर में प्रोटीन की कमी अनेक प्रकार की समस्याओं को उत्पन्न करती हैं। अतः इस स्थिति में प्रोटीन के सेवन में वृद्धि करने के लिए मटर प्रोटीन पाउडर अत्यंत ही स्वादिष्ट और अत्यधिक फायदेमंद प्रोटीन सप्लीमेंट है।

मटर प्रोटीन पाउडर सभी आवश्यक अमीनो एसिड में समृद्ध होता है और मांसपेशियों के निर्माण के लिए भी सहायक होता है। लेकिन मटर प्रोटीन पाउडर का अधिक मात्रा में प्रयोग अनेक प्रकार की समस्याओं का भी कारण बन सकता है। अतः प्रत्येक व्यक्ति को किसी भी प्रकार के प्रोटीन सप्लीमेंट का सेवन करने से पहले इसके स्वास्थ्य लाभ और नुकसानों की जानकारी प्राप्त करना आवश्यक होता है।

इस लेख में आप जानेंगे कि मटर प्रोटीन पाउडर क्या है, इसमें कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं तथा इसके स्वास्थ्य लाभ और नुकसान क्या हैं।

1. मटर प्रोटीन पाउडर क्या है – What is Pea Protein Powder in hindi
2. मटर प्रोटीन पाउडर में पोषक तत्व – Pea Protein Powder Nutrition in hindi
3. मटर प्रोटीन पाउडर के फायदे – Pea Protein Powder Benefits in hindi

4. मटर प्रोटीन पाउडर के नुकसान – Matar Protein Powder Side Effects in hindi

5. मटर प्रोटीन पाउडर की खुराक और इसका उपयोग कैसे करें – Pea Protein Powder Dosages and How to Use It in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर क्या है – What is Pea Protein Powder in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर क्या है – What is Pea Protein Powder in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर एक प्रकार का सप्लीमेंट (supplement) है, जिसे पीले मटर से प्रोटीन निकालकर बनाया जाता है। यह आम तौर पर दूध, दही या आइसक्रीम के साथ ताजे फल से निर्मित पेय और शेक  (smoothies and shakes) में उपस्थित प्रोटीन सामग्री को बढ़ाने के लिए उपयोग में लाया जाता है। यह प्राकृतिक रूप से शाकाहारी और हाइपोएलर्जेनिक (hypoallergenic) होने के कारण लगभग सभी प्रकार के आहार के लिए एक बहुत उपयुक्त है। मटर प्रोटीन पाउडर एक उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन और आयरन का उच्च स्रोत है। यह मांसपेशियों की वृद्धि, वजन घटाने और हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में सहायता कर सकता है।

(और पढ़े – मटर खाने के फायदे और नुकसान…)

मटर प्रोटीन पाउडर में पोषक तत्व – Pea Protein Powder Nutrition in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर विभिन्न प्रकार के पोषण संबंधी लाभ प्रदान करता है। मटर प्रोटीन पाउडर में उपस्थित पोषण संबंधी तत्व भिन्न-भिन्न ब्रांडों के अनुसार भिन्न-भिन्न मात्रा में उपस्थित हो सकते हैं। व्यावसायिक रूप से उपलब्ध शुद्ध मटर प्रोटीन पाउडर के लगभग 20 ग्राम से निम्नलिखित पोषण प्राप्त किया जा सकता है:

  • कैलोरी –  80
  • प्रोटीन – 15 ग्राम
  • कार्ब्स (कार्बोहाइड्रेट) – 1 ग्राम
  • फाइबर – 1 ग्राम
  • कुल वसा – 1.5 ग्राम
  • सोडियम – 230 मिलीग्राम
  • आयरन – 5 मिलीग्राम

कुछ ब्रांड, हालांकि सोडियम में उच्च होते हैं, इसलिए किसी भी ब्रांड के मटर प्रोटीन पाउडर का चुनाव करने से पहले पोषण से सम्बंधित लेबल पढ़ें और 120 मिलीग्राम या उससे कम सोडियम की मात्रा वाले ब्रांड का चयन करें।

(और पढ़े – घर पर प्रोटीन पाउडर बनाने की विधि…)

मटर प्रोटीन पाउडर के फायदे – Pea Protein Powder Benefits in Hindi

  1. उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन स्रोत – Matar protein powder ke fayde High-Quality Protein ke liye
  2. मटर प्रोटीन पाउडर के फायदे आयरन से भरपूर – Pea Protein Powder Benefits Rich in Iron in hindi
  3. मटर प्रोटीन पाउडर का लाभ मांसपेशियों के लिए – Matar Protein Powder Benefits for Muscles in hindi
  4. मटर प्रोटीन पाउडर पूर्णता के लिए अच्छा है – Pea protein powder good for Keeps You Full in hindi
  5. मटर प्रोटीन पाउडर के लाभ दिल स्वास्थ्य में – Pea protein powder Benefits for Heart Health
  6. मटर प्रोटीन पाउडर के फायदे वजन घटाने में – Matar Protein Powder Benefits for Weight Loss in hindi
  7. मटर प्रोटीन पाउडर रक्त शर्करा को नियंत्रित करता है – Pea protein powder good for regulates blood sugar in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर पौष्टिक रूप से फायदेमंद होने के साथ-साथ व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा होता है। मटर प्रोटीन पाउडर से प्राप्त होने वाले स्वास्थ्य लाभ निम्न हैं:

उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन स्रोत – Matar protein powder ke fayde High-Quality Protein ke liye

उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन स्रोत – Matar protein powder ke fayde High-Quality Protein ke liye

मटर प्रोटीन में सभी आवश्यक 9 अमीनो एसिड होते हैं, जिनका निर्माण शरीर नहीं कर सकता है। चूँकि भोजन के माध्यम से भी सभी अमीनो एसिड को प्राप्त करना कठिन होता है। अतः सभी प्रकार के स्वास्थ अमीनो एसिड को प्राप्त करने के लिए मटर प्रोटीन का उपयोग किया जा सकता है। हालाँकि यह मेथिओनिन (methionine) में अपेक्षाकृत कम है। मटर प्रोटीन अन्य पौधे-आधारित प्रोटीन की तुलना में अधिक आसानी से पचता है और अवशोषित होता है।

(और पढ़े – शाकाहारियों के लिए प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ…)

मटर प्रोटीन पाउडर के फायदे आयरन से भरपूर – Pea Protein Powder Benefits Rich in Iron in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर में आयरन भी भरपूर मात्र में पाया जाता है। हालांकि, पौधों पर आधारित खाद्य पदार्थों में पाया जाने वाला आयरन, पशु उत्पादों में पाए जाने वाले आयरन की तुलना में शरीर द्वारा कम अवशोषित होता है। लेकिन विटामिन सी या खट्टे खाद्य पदार्थों के साथ मटर प्रोटीन पाउडर का सेवन आयरन के अवशोषण को बढ़ा देता है।

(और पढ़े – जानिए प्रोटीन पाउडर खाने के फायदे…)

मटर प्रोटीन पाउडर का लाभ मांसपेशियों के लिए – Matar Protein Powder Benefits for Muscles in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर का लाभ मांसपेशियों के लिए - Matar Protein Powder Benefits for Muscles in hindi

अध्ययन से पता चला है कि मटर प्रोटीन पाउडर मांसपेशियों के निर्माण में मदद कर सकता है। वजन उठाने (weight-lifting) वाले पुरुषों द्वारा प्रति दिन 50 ग्राम मटर प्रोटीन का सेवन लगातार 12-सप्ताह तक करने पर, व्हे प्रोटीन लेने वाले व्यक्तियों के समान ही मांसपेशियों को प्राप्त कर सकते हैं।

हालांकि, वर्कआउट के बिना मटर प्रोटीन पाउडर को आहार में शामिल करने से मांसपेशियों पर कोई विशेष प्रभाव देखने को नहीं मिलता है। अतः इसे व्यायाम करने से लगभग 2 घंटे पहले सेवन किया जाना चाहिए।

(और पढ़े – व्हे प्रोटीन के फायदे और नुकसान…)

मटर प्रोटीन पाउडर पूर्णता के लिए अच्छा है – Pea protein powder good for Keeps You Full in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर पूर्णता के लिए अच्छा है - Pea protein powder good for Keeps You Full in hindi

शोध में पाया गया है कि प्रोटीन लोगों को कार्ब्स या वसा की तुलना में अधिक देर तक पेट के भरे होने की भावना को महसूस कराने में मदद करता है। इसका मतलब है कि उच्च-प्रोटीन आहार शरीर में कैलोरी को कम कर सकते हैं और समय के साथ वजन कम करने में भी सहायक हो सकते हैं। मटर प्रोटीन पाउडर आहार में अतिरिक्त प्रोटीन जोड़ने और स्वास्थ्य लाभों को प्राप्त करने का एक आसान तरीका है। अतः प्रोटीन सेवन में व्रद्धि करने और परिपूर्णता की भावना को बढ़ाने के लिए मटर प्रोटीन पाउडर एक अच्छा विकल्प है।

(और पढ़े – वजन बढ़ाने के लिए सप्लीमेंट्स…)

मटर प्रोटीन पाउडर के लाभ दिल स्वास्थ्य में – Pea protein powder Benefits for Heart Health

मटर प्रोटीन पाउडर के लाभ दिल स्वास्थ्य में - Pea protein powder Benefits for Heart Health

मटर प्रोटीन पूर्ण दुबला प्रोटीन (lean protein) युक्त पोषण है। अतः यह मटर प्रोटीन पाउडर, हृदय रोग से संबन्धित जोखिम कारकों जैसे- उच्च कोलेस्ट्रॉल और उच्च रक्तचाप आदि को कम करने में व्यक्ति की मदद कर सकता है। मटर प्रोटीन में संतृप्त वसा के भी कम स्तर पाए जाते हैं। तीन सप्ताह के अध्ययन में पाया गया कि, किसी व्यक्ति द्वारा प्रति दिन 3 ग्राम मटर प्रोटीन हाइड्रोलाइज़ेट (pea protein hydrolysate) का सेवन करने पर, उसके सिस्टोलिक रक्तचाप (systolic blood pressure) में उचित कमी देखी गई। मटर प्रोटीन हाइड्रोलाइज़ेट (pea protein hydrolysate), आंशिक रूप से पचने वाला प्रोटीन पाउडर है, जिसमें छोटे प्रोटीन शामिल होते हैं।

(और पढ़े – दिल मजबूत करने के उपाय…)

मटर प्रोटीन पाउडर के फायदे वजन घटाने में – Matar Protein Powder Benefits for Weight Loss in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर के फायदे वजन घटाने में - Matar Protein Powder Benefits for Weight Loss in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर एक दुबला प्रोटीन स्रोत है, जो वजन कम करने में मदद करता है। मटर प्रोटीन घ्रेलिन (ghrelin) के स्तर को कम करके वजन कम करने में योगदान दे सकता है। घ्रेलिन (ghrelin) भूख को उत्तेजित करने या बढ़ाने वाला एक हार्मोन है।

इसके अलावा मटर प्रोटीन पाउडर के प्रमुख लाभों के अनतर्गत वजन घटाने के लिए , इसमें वसा और कार्ब्स के कम स्तर और स्टार्च और फाइबर में अपर्याप्त सामग्री सहित अनेक प्राकृतिक गुण पाए जाते हैं। यह सभी गुण वजन को कम करने में तथा शरीर को उचित आकर प्रदान करने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – वजन घटाने वाले उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ…)

मटर प्रोटीन पाउडर रक्त शर्करा को नियंत्रित करता है – Pea protein powder good for regulates blood sugar in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर रक्त शर्करा को नियंत्रित करता है - Pea protein powder good for regulates blood sugar in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर रक्त शर्करा के स्तर को भी नियंत्रित करता है, जो एक स्वस्थ चयापचय (metabolism) को बनाए रखने के लिए काफी महत्वपूर्ण है। अतः मटर प्रोटीन पाउडर इंसुलिन के स्तर को स्थिर करके एक अच्छे चयापचय के लिए और मांसपेशियों के ऊतकों या कोशिकाओं में रक्त प्रवाह के माध्यम चीनी के अवशोषण को संतुलित करने में मदद कर सकता है।

शर्करा के स्तर को नियंत्रित रखने के लिए शरीर में में इंसुलिन स्तर की सही मात्रा होना चाहिए। यहां तक ​​कि मस्तिष्क को सामान्य रूप से ध्यान केंद्रित करने के लिए ग्लूकोज के उचित स्तर की आवश्यकता होती है। अतः मटर प्रोटीन पाउडर का सेवन रक्त शर्करा या ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करने के लिए उचित और प्रभावी उपाय है।

(और पढ़े – चयापचय (मेटाबॉलिज्म) को बढ़ाने के तरीके…)

मटर प्रोटीन पाउडर के नुकसान – Matar Protein Powder Side Effects in hindi

  1. मटर प्रोटीन पाउडर साइड-इफ़ेक्ट किडनी समस्या – Pea Protein Powder Side Effects Kidney problem in hindi
  2. मटर प्रोटीन पाउडर से होता है जोड़ों का दर्द – Matar Protein Powder Side Effects Joint Pain in hindi
  3. मटर प्रोटीन पाउडर के नुकसान वजन में वृद्धि – Pea protein isolate bad for Gain Weight in hindi
  4. मटर प्रोटीन पाउडर लो ब्लड प्रेशर का कारण – Pea Protein Powder causes Low Blood Pressure in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर के बहुत कम दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं। इसके ज़्यादातर साइड-इफ़ेक्ट अधिक मात्रा में सेवन करने के दौरान उत्पन्न होते हैं। चूंकि मटर प्रोटीन पाउडर को मटर से प्रोटीन पृथक करके बनाया गया है, इसलिए इसमें फाइबर अपेक्षाकृत कम मात्रा में पाया जाता है और कुछ व्यक्तिओं में मटर की तरह सूजन भी पैदा नहीं करता है। फिर भी, मटर प्रोटीन पाउडर में सोडियम अपेक्षाकृत अधिक मात्र में उपस्थित हो सकता है, जिसके कारण सोडियम-प्रतिबंधित आहार वाले व्यक्तियों में इसके सेवन से साइड-इफ़ेक्ट देखने को मिल सकते हैं। अतः मटर प्रोटीन पाउडर के संभावित साइड-इफ़ेक्ट में निम्न को शामिल किया जा सकता है:

मटर प्रोटीन पाउडर साइड-इफ़ेक्ट किडनी समस्या – Pea Protein Powder Side Effects Kidney problem in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर साइड-इफ़ेक्ट किडनी समस्या - Pea Protein Powder Side Effects Kidney problem in hindi

कुछ व्यक्तियों जैसे कि एथलीटों को, अन्य व्यक्तियों की तुलना में अधिक प्रोटीन की आवश्यकता होती है। आहार में बहुत अधिक प्रोटीन को शामिल करने से स्वस्थ लोगों में किडनी से सम्बंधित समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं।

चूंकि शरीर द्वारा उपयोग किया गया प्रोटीन, उप-उत्पाद के रूप में अमोनिया का निर्माण करता है। फिर अमोनिया को यूरिया में बदलकर मूत्र के माध्यम से शरीर से बाहर निकाल दिया जाता है। यदि कोई व्यक्ति अधिक मात्रा में प्रोटीन का सेवन करता है तो उस व्यक्ति की किडनी अतिरिक्त प्रोटीन को संसाधित करने लिए अधिक तेजी से काम करती हैं, जिसके परिणामस्वरूप किडनी स्टोन, किडनी की क्षति और किडनी की विफलता से सम्बंधित समस्याएँ उत्पन्न हो सकती हैं। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि अतिरिक्त प्रोटीन वास्तव में गुर्दे की बीमारी का कारण बनता है या नहीं।

(और पढ़े – किडनी को साफ करने के उपाय…)

मटर प्रोटीन पाउडर से होता है जोड़ों का दर्द – Matar Protein Powder Side Effects Joint Pain in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर से होता है जोड़ों का दर्द - Matar Protein Powder Side Effects Joint Pain in hindi

जिस व्यक्ति के पास गाउट (Gout) का इतिहास है, उस व्यक्ति द्वारा आहार में मटर प्रोटीन पाउडर को शामिल करना हानिकारक होता है। मटर, प्यूरीन (purines) का एक अच्छा स्रोत है, जो रक्त में यूरिक एसिड की मात्रा को बढ़ा सकता है। चूँकि शरीर में यूरिक एसिड की अधिक मात्रा गाउट के जोखिम को बढ़ने और जोड़ों में दर्द का कारण बनती है। अतः गाउट (Gout) या जोड़ों से सम्बंधित समस्याओं से पीड़ित व्यक्तियों को मटर प्रोटीन पाउडर के सेवन से परहेज किया जाना चाहिए।

(और पढ़े – जोड़ों में दर्द का घरेलू उपचार…)

मटर प्रोटीन पाउडर के नुकसान वजन में वृद्धि – Pea protein isolate bad for Gain Weight in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर के नुकसान वजन में वृद्धि - Pea protein isolate bad for Gain Weight in hindi

यदि अधिक मात्रा में मटर प्रोटीन पाउडर की खुराक का उपयोग किया जाता है, तो यह वजन बढ़ने का कारण बन सकती है। अर्थात जब अधिक प्रोटीन के सेवन के साथ वर्कआउट में कमी की जाती है, तो अप्रयुक्त कैलोरी, वसा में परिवर्तित हो जाती है। अतः दिन-प्रतिदिन वसा में वृद्धि मोटापे का कारण बनने के साथ-साथ अनेक समस्याओं के जोखिमों का भी कारण बन सकती है।

(और पढ़े – वजन और मोटापा कम करने के लिए क्या खाएं क्या न खाए…)

मटर प्रोटीन पाउडर लो ब्लड प्रेशर का कारण – Pea Protein Powder causes Low Blood Pressure in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर लो ब्लड प्रेशर का कारण – Pea Protein Powder causes Low Blood Pressure in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर की उच्च खुराक विशेष रूप से रक्तचाप में कमी का कारण बन सकती है। जो लोग पहले से ही उच्च रक्तचाप से सम्बंधित दवाओं का सेवन करते हैं, उन्हें मटर प्रोटीन पाउडर के सेवन से सावधान रहना चाहिए।

(और पढ़े – लो ब्लड प्रेशर का घरेलू उपचार…)

मटर प्रोटीन पाउडर की खुराक और इसका उपयोग कैसे करें – Pea Protein Powder Dosages and How to Use It in Hindi

मटर प्रोटीन पाउडर की खुराक और इसका उपयोग कैसे करें - Pea Protein Powder Dosages and How to Use It in hindi

मटर प्रोटीन पाउडर व्यक्तिओं में प्रोटीन का सेवन बढ़ाने का सबसे आसान तरीका है। यह मांसपेशियों को बढ़ाने का प्रयत्न करने वाले व्यक्तियों के लिए प्रभावी हो सकता है। अनुसंधान से पता चलता है कि प्रति दिन शारीरिक वजन के प्रति किलोग्राम पर 1.6 ग्राम मटर प्रोटीन का सेवन मांसपेशियों के निर्माण के लिए सबसे अधिक प्रभावी है।

किसी व्यक्ति द्वारा प्रति दिन शरीर के वजन के आधार पर 5 ग्राम प्रति किलोग्राम से अधिक मटर प्रोटीन का सेवन हानिकारक हो सकता है। अत्यधिक उच्च खुराक का सेवन करने से शरीर में प्रोटीन को तेजी से संसाधित करने के लिए लीवर (liver) को अत्यधिक संघर्ष करन पड़ सकता है, जिससे रक्त में अमोनिया के उच्च स्तर, मतली, दस्त और यहां तक ​​कि मृत्यु जैसे दुष्प्रभाव देखे जा सकते हैं।

ज्यादातर मटर प्रोटीन पाउडर का उपयोग स्मूथी, जूस या पानी के साथ मिलकर, कसरत के बाद पेय के रूप में किया जाता है।

मटर प्रोटीन पाउडर का उपयोग निम्न तरीकों से भी किया जा सकता है:

  • दलिया, गेहूं का हलुआ या भूरे चावल की खिचड़ी मेंअच्छी तरह मिलाकर
  • पूर्ण प्रोटीन स्रोत बनाने के लिए पौधे आधारित दूध (plant-based milk) में मिलाकर
  • बर्फ या आइसक्रीम ज़माते समय मिश्रित कर
  • मफिन (muffins), ब्राउनी (brownies) या वेफल्स (waffles) जैसी पकी हुई सामग्री में जोड़कर

अधिकतम मांसपेशियों के निर्माण में प्रभावी रूप से सहायता करने के लिए, मटर प्रोटीन पाउडर का सेवन व्यायाम के बाद दो घंटे भीतर किया जाना चाहिए।

(और पढ़े – घर पर प्रोटीन शेक बनाने का तरीका और विधि…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration