बच्चों का वजन बढ़ाने और मोटा करने के उपाय और आहार – Child Weight Gain Tips And Foods In Hindi

बच्चों का वजन बढ़ाने और मोटा करने के उपाय और आहार - Child weight gain tips and foods in Hindi
Written by Jaideep

क्‍या आप अपने बच्‍चे के दुबलेपन और कम वजन से परेशान हैं। यदि ऐसा है तो घबराएं नहीं क्‍योंकि बच्‍चों के वजन को बढ़ाने और उन्‍हें मोटा करने के घरेलू उपाय भी होते हैं। जिनका का उपयोग कर आप अपने बच्‍चों को अन्‍य बच्‍चों की तरह स्‍वस्‍थ वजन दिला सकते हैं। बच्‍चों का कम वजन उनके कुपोषण या शारीरिक कमजोरी को दर्शाता है। हालांकि अधिकतर ऐसा होता है कि उचित खानपान होने के बाद भी आपके बच्‍चे का वजन नहीं बढ़ता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं आपके बच्‍चों के वजन को बढ़ाने के लिए स्‍वस्‍थ खाद्य पदार्थ क्‍या हैं। आज इस आर्टिकल में आप अपने बच्‍चों के वजन को बढ़ाने और उन्‍हें मोटा करने के उपाय जानेगें।

1. बच्‍चों का वजन बढ़ाने वाले आहार – Bachon ka vajan badhane bale aahar in Hindi

2. बच्‍चों का वजन बढ़ाने के लिए टिप्‍स – Bacho Ka Vajan Badhane Ke Liye Tips in Hindi

बच्‍चों का वजन बढ़ाने वाले आहार – Bachon ka vajan badhane bale aahar in Hindi

  1. बच्चे के वजन बढ़ाने के उपाय मक्‍खन – Bacho ka vajan badhane ke upay Butter in Hindi
  2. बच्चों के वजन बढ़ाने के तरीके दूध और मलाई – baby weight badhane ke tarike milk and cream in Hindi
  3. बच्‍चों को मोटा करने का तरीका है अंडे – Bachon ko mota karne ka tarika eggs in Hindi
  4. बच्चों का वजन कैसे बढ़ेगा में खिलाएं केला – Bachon Ka Vajan Kaise Badhega Me Khelaye Kela in Hindi
  5. छोटे बच्चों का वजन कैसे बढ़ाएं अवोकेडो से – Chote bacho ka vajan kaise Avocados se in Hindi
  6. बच्‍चों को मोटा कैसे किया जाए में खिलाएं चिकन – Bachon ko mota kaise kiya jaye me khilaye chicken in Hindi
  7. छोटे बच्‍चों का वजन बढ़ाने का तरीका आलू – Chote bacho ka vajan badhane ka tarika Potatoes in Hindi
  8. बच्चों का वजन बढ़ाने की विधि संतुलित आहार – Bacho ka vajan badhane ki vidhi santulit aahar in Hindi
  9. बच्‍चों का वजन बढ़ाने का तरीका है नियमित नाश्‍ता – Bacho ko mota karne ka tarika hai niymit nasta in Hindi
  10. बच्चों का वजन बढ़ाना है तो हर 2 घंटे में खिलाएं – Bacho Ka Vajan Badhana Hai To Har 2 Ghante Me Khilaye in Hindi
  11. कमजोर बच्‍चों को मोटा करने के लिए टिप्‍स पूरी नींद – kamjor bacho ko mota karne ke liye tips puri neend in Hindi
  12. बच्‍चे को मोटा करने वाले अन्‍य आहार – Bache ko mota karne bale anya aahar in Hindi

बच्‍चों का वजन कैसे बढ़ाये यह चुनौती अक्‍सर हर माता पिता के सामने होती है। क्‍योंकि हर माता पिता अपने बच्चों में सर्वांगीण विकास देखना चाहते हैं। एक अच्‍छा वजन न केवल बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छा होता है बल्कि यह उनकी सुंदरता को भी बढ़ाता है। यहां नीचे कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों की जानकारी दी जा रही है जो बच्‍चों के स्‍वस्थ वजन को बढ़ाने में मदद करते हैं। आइए इन्‍हें जाने जो बच्‍चों के लिए स्‍वादिष्‍ट होने के साथ ही उचित वजन और स्‍वस्‍थ विकास में मदद करते हैं।

बच्चे के वजन बढ़ाने के उपाय मक्‍खन – Bacho ka vajan badhane ke upay Butter in Hindi

बच्चे के वजन बढ़ाने के उपाय मक्‍खन - Bacho ka vajan badhane ke upay Butter in Hindi

कुछ लोगों का मानना है कि मक्‍खन शरीर के लिए नुकसानदायक होता है। जबकि ऐसा नहीं है मक्‍खन हमेशा शरीर के लिए खराब नहीं होता है। विशेष रूप से यदि आप शुद्ध और प्रतिष्ठित ब्रांड का मक्‍खन उपभोग कर रहे हैं। यह संभवत: वसा का सबसे अच्‍छा स्रोत माना जाता है जो दुबले बच्‍चों के लिए बहुत ही अच्‍छा होता है। बस आपको अपने बच्‍चों के नियमित आहार में मक्‍खन को शामिल करना है। कुछ बच्‍चों को यह बहुत ही पसंद आता है। इस तरह से आप अपने बच्‍चे को मोटा करने के लिए मक्‍खन का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – बच्चे को ठोस आहार कब देना शुरू करें, क्या दें और किन बातों का रखें ध्यान…)

बच्चों के वजन बढ़ाने के तरीके दूध और मलाई – baby weight badhane ke tarike milk and cream in Hindi

बच्चों के वजन बढ़ाने के तरीके दूध और मलाई - baby weight badhane ke tarike milk and cream in Hindi

यदि आप अपने बच्‍चे के वजन को बढ़ाने के उपाय खोज रहे हैं तो दूध और मलाई का उपयोग करें। दूध प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट का अच्‍छा स्रोत होता है। आपके बच्‍चे के सर्वांगीण विकास के लिए आप उन्‍हें नियमित रूप से प्रतिदिन कम से कम 2 गिलास दूध का सेवन करा सकते हैं। इसके अलावा आप कई प्रकार से बच्‍चों के आहार में दूध को शामिल कर सकते हैं। उदाहरण के लिए मिल्‍कशेक, दलिया के साथ दूध आदि। इसके अलावा आप कई प्रकार के फलों के साथ भी दूध को मिला कर दे सकते हैं। इन खाद्य पदार्थों के साथ दूध का सेवन आपके बच्‍चों को मोटा करने का अच्‍छा उपाय हो सकता है।

(और पढ़े – अगर आप दूध पीते है तो इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो फायदे की जगह होगा नुकसान…)

बच्‍चों को मोटा करने का तरीका है अंडे – Bachon ko mota karne ka tarika eggs in Hindi

बच्‍चों को मोटा करने का तरीका है अंडे - Bachon ko mota karne ka tarika eggs in Hindi

नियिमत रूप से बच्‍चों को अंडे का सेवन कराने से प्रोटीन की प्राप्‍ती हो सकती है। अंडे प्रोटीन का एक बड़ा स्रोत होता है। यदि लगभग 100 ग्राम अंडे का सेवन किया जाए तो इससे 13 ग्राम प्रोटीन प्राप्‍त किया जा सकता है। प्रोटीन बच्‍चों के वजन को बढ़ाने में अहम योगदान देता है। ऐसे बहुत से तरीके हैं जिनसे आप बच्‍चों को रोज भोजन में अंडे दे सकते हैं। अंडे में विटामिन ए के साथ ही विटामिन बी12 भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं। ये घटक किसी बच्‍चे की सामान्‍य वृद्धि और विकास में सहायक होते हैं। नियमित रूप से प्रतिदिन 1 अंडे का सेवन करने पर विटामिन डी की आवश्‍यक मात्रा प्राप्‍त की जा सकती है। आप भी अपने बच्‍चों को मोटा करने के लिए उनके आहार में अंडों को शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – एक दिन में कितने अंडे खाने चाहिए…)

बच्चों का वजन कैसे बढ़ेगा में खिलाएं केला – Bachon Ka Vajan Kaise Badhega Me Khelaye Kela in Hindi

बच्चों का वजन कैसे बढ़ेगा में खिलाएं केला - Bachon Ka Vajan Kaise Badhega Me Khelaye Kela in Hindi

केला को ऊर्जा का एक अच्‍छा स्रोत माना जाता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि 1 केला में लगभग 105 कैलोरी होती है। इसके अलावा केला का सेवन करने से कार्बोहाइड्रेट भी प्राप्‍त होता है। यदि आप अपने बच्‍चे के वजन को बढ़ाना चाहते हैं तो उन्हें केला का नियमित सेवन कराएं। क्‍योंकि केला का सेवन करने से बच्‍चों को पर्याप्‍त वसा भी प्राप्‍त होता है। बच्‍चों को केला बहुत ही पसंद होता है लेकिन फिर भी आप केला को कई अन्‍य प्रकार से बच्‍चों को खिला सकते हैं। आप इसे डार्क चॉकलेट और क्रीम के साथ मिल्‍कशेक आदि में भी मिला सकते हैं। इस तरह से बच्‍चों का वजन बढ़ाने के घरेलू उपाय में आप केला का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – केला खाने के फायदे और नुकसान…)

छोटे बच्चों का वजन कैसे बढ़ाएं अवोकेडो से – Chote bacho ka vajan kaise Avocados se in Hindi

छोटे बच्चों का वजन कैसे बढ़ाएं अवोकेडो से - Chote bacho ka vajan kaise Avocados se in Hindi

जिन बच्‍चों का वजन सामान्‍य से कम है उनके लिए एवोकैडो एक अच्‍छा उपाय है। क्‍योंकि एवोकैडो में वसा और कैलोरी उच्‍च मात्रा में होती है। ये दोनों ही घटक बच्‍चे के लिए बहुत ही आवश्‍यक होते हैं। एवोकैडो अन्‍य खनिज पदार्थ और पोषक तत्‍वों से भी भरपूर होते हैं। इस कारण ही इन्‍हें बच्‍चों के नियमित आहार में शामिल करना फायदेमंद होता है। यदि आपके बच्‍चें का वजन भी कम है तो आपके लिए एवोकैडो एक अच्‍छा विकल्‍प है। आप इसे बच्‍चे का वजन बढ़ाने के लिए उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – एवोकाडो खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ…)

बच्‍चों को मोटा कैसे किया जाए में खिलाएं चिकन – Bachon ko mota kaise kiya jaye me khilaye chicken in Hindi

बच्‍चों को मोटा कैसे किया जाए में खिलाएं चिकन - Bachon ko mota kaise kiya jaye me khilaye chicken in Hindi

जब बच्‍चों के समुचित विकास की बात आती है तो प्रोटीन का जिक्र किया जाता है। प्रोटीन मांसपेशियों के निर्माण और विकास के लिए बहुत ही उपयोगी होता है। इसलिए जिन बच्‍चों का वजन कम होता है उनके लिए चिकन एक अच्‍छा आहार हो सकता है। यह अन्‍य पौष्टिक उत्‍पादों की तुलना में सस्‍ता और आसानी से उपलब्‍ध होने वाला आहार है। जिसका नियमित सेवन करने से कम वजन वाले बच्‍चों को मोटा किया जा सकता है। आप अपने बच्‍चों को इसे चावल, सूप, स्‍टॉज आदि के साथ दे सकते हैं। इस तरह से आप अपने बच्‍चों का वजन बढ़ाने और मोटा करने के उपाय में चिकन को शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – चिकन के फायदे और नुकसान…)

छोटे बच्‍चों का वजन बढ़ाने का तरीका आलू – Chote bacho ka vajan badhane ka tarika Potatoes in Hindi

छोटे बच्‍चों का वजन बढ़ाने का तरीका आलू - Chote bacho ka vajan badhane ka tarika Potatoes in Hindi

यदि आप आपने बच्‍चों का वजन बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं तो उनके आहार में कार्बोहाइड्रेट को जोड़ें। अध्‍ययनों से पता चलता है कि बच्‍चों के आहार में कम से कम 40 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट होना आवश्‍यक है। कार्बोहाइड्रेट की इस मात्रा को प्राप्‍त करने के लिए आलू से बेहतर उपाय और कुछ नहीं है। आलू में आर्जिनिन और ग्‍लूटामाइन जैसे अमीनो एसिड की अच्‍छी मात्रा होती है। जिनका सेवन करने से बच्‍चों को स्‍वस्‍थ्‍य वजन प्राप्‍त करने में मदद मिलती है। बच्‍चों का वजन बढ़ाने और उन्हें मोटा करने के लिए आलू को उनके आहार में कई प्रकार से श‍ामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – आलू के फायदे और नुकसान…)

बच्चों का वजन बढ़ाने की विधि संतुलित आहार – Bacho ka vajan badhane ki vidhi santulit aahar in Hindi

बच्चों का वजन बढ़ाने की विधि संतुलित आहार - Bacho ka vajan badhane ki vidhi santulit aahar in Hindi

कई बार बच्‍चों के गलत खानपान का नतीजा होता है उनका कम वजन। क्‍योंकि बहुत से माता पिता अपने बच्‍चों को वजन बढ़ाने के लिए गलत रणनीतियां जैसे कि केवल कैलोरी की खपत के लिए शुगर डेसर्ट का उपयोग करते हैं। जबकि वजन बढ़ाने के लिए संतुलित आहार की आवश्‍यकता होती है। इसके अलावा यह भी ध्‍यान रखें कि आहार बच्‍चों के लिए रूचिपूर्ण हो। इसलिए बच्‍चों को खिलाएं जाने वाले आहार को चक्रिय क्रम में उपयोग किया जाना चाहिए। इसका मतलब यह है कि एक ही प्रकार का भोजन करने से बच्‍चों में रूचि कम हो सकती है साथ ही एक ही प्रकार के पोषक तत्‍वों की अधिक मात्रा हो सकती है। इसलिए बच्‍चों को नियमित रूप से बदल-बदल कर आहार दिया जाना चाहिए।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

बच्‍चों का वजन बढ़ाने का तरीका है नियमित नाश्‍ता – Bacho ko mota karne ka tarika hai niymit nasta in Hindi

बच्‍चों का वजन बढ़ाने का तरीका है नियमित नाश्‍ता - Bacho ko mota karne ka tarika hai niymit nasta in Hindi

यदि आप अपने बच्‍चे के वजन को बढ़ाना चाहते हैं तो उनके सुबह के नाश्‍ते पर विशेष ध्‍यान दें। क्‍योंकि अक्‍सर बच्‍चे सुबह के नाश्‍ते को पूरा किये बिना ही छोड़ देते हैं। ऐसा करना उनके शारीरिक विकास को कम कर सकता है। क्‍योंकि बच्‍चों के द्वारा नाश्‍ते में स्‍वस्‍थ खाद्य पदार्थ लेने से भूख को बढ़ाने में मदद मिलती है। रात के भोजन के बाद सुबह बच्‍चों के शरीर को अधिक ऊर्जा की आवश्‍कता होती है इसलिए इन्‍हें नियमित रूप से संतुलित नाश्‍ता दिया जाना चाहिए। नियमित रूप से पूरा नाश्‍ता करना बच्‍चों के वजन को बढ़ाने और उन्‍हें मोटा करने में सहायक होता है।

(और पढ़े – वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट और तरीके…)

बच्चों का वजन बढ़ाना है तो हर 2 घंटे में खिलाएं – Bacho Ka Vajan Badhana Hai To Har 2 Ghante Me Khilaye in Hindi

बच्चों का वजन बढ़ाना है तो हर 2 घंटे में खिलाएं - Bacho Ka Vajan Badhana Hai To Har 2 Ghante Me Khilaye in Hindi

सामान्‍य रूप से बच्‍चे और बड़े सभी दिन में अधिकतम तीन बार भोजन करते हैं। जबकि बच्‍चों को दिन में थोड़ा थोड़ा करके कम से कम 5 से 6 बार भोजन करना चाहिए। क्‍योंकि ऐसा करने से उनकी पाचन शक्ति में तेजी आती है। जिससे उनका वजन सही मात्रा में बढ़ सकता है। एक बार में ही भोजन करने के कारण पाचन में समस्‍याएं आ सकती हैं। इसके अलावा एक बार में ही भोजन करने के कारण पेट संबंधी अन्‍य समस्‍याएं हो सकती हैं। इसलिए चाहिए कि बच्‍चों को थोड़ा-थोड़ा भोजन कराया जाए। ऐसा करने पर आप उनके वजन को बढ़ा सकते हैं।

(और पढ़े – 4-6 साल के बच्चे के लिए डाइट प्लान और चार्ट…)

कमजोर बच्‍चों को मोटा करने के लिए टिप्‍स पूरी नींद – kamjor bacho ko mota karne ke liye tips puri neend in Hindi

कमजोर बच्‍चों को मोटा करने के लिए टिप्‍स पूरी नींद – kamjor bacho ko mota karne ke liye tips puri neend in Hindi

बच्‍चों को मोटा बनाने के उपाय में पौष्टिक आहार के साथ ही पर्याप्‍त और पूरी नींद भी जरूरी है। क्‍योंकि ये कुछ ऐसी आदतें हैं जो सीधे ही बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित करती हैं। जिन बच्‍चों के शरीर का वजन कम है उन्‍हें पोषण युक्‍त खाद्य पदार्थ के साथ पर्याप्‍त नींद भी मिलना चाहिए। सामान्‍य लोगों की तुलना में बच्‍चों को कम से कम 10 घंटे की पर्याप्‍त नींद मिलना चाहिए। ऐसा करने से बच्‍चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है जो संक्रमण और बीमारियों से लड़ने में मदद करता है।

(और पढ़े – हमें सोना क्यों जरूरी है और आपको कितने घंटों की नींद चाहिए…)

बच्‍चे को मोटा करने वाले अन्‍य आहार – Bache ko mota karne bale anya aahar in Hindi

बच्‍चे को मोटा करने वाले अन्‍य आहार - Bache ko mota karne bale anya aahar in Hindi

ऊपर बताए गए खाद्य पदार्थों के अलावा भी कुछ अन्‍य उत्पाद हैं जो आपके बच्‍चे के वजन को बढ़ाने में सहायक होते हैं। ये खाद्य पदार्थ इस प्रकार हैं।

शकरकंद (Sweet potato) – बहुत से बच्‍चे शकरकंद को पसंद करते हैं और कुछ को यह पसंद नहीं होता है। लेकिन यदि आप अपने बच्‍चे के वजन को बढ़ाना चाहते हैं शकरकंद को उनके आहार में शामिल करें। यह बच्‍चों के वजन को बढ़ाने के उपाय में सबसे प्रभावी माना जाता है।

दालें (Pulses) – विभिन्‍न प्रकार की दालों में पोषक तत्‍वों और खनिज पदार्थों की उच्‍च मात्रा होती है। आप अपने बच्‍चों को दालों से बनी हुई खिचड़ी भी खिला सकते हैं। यह स्‍वादिष्‍ट खाद्य पदार्थ बच्‍चों के शरीर में प्रोटीन, मैग्नीशियम, कैल्शियम, आयरन, फाइबर और पोटेशियम आदि की कमी को दूर कर सकता है। इसके अलावा दाल पचाने में भी सुविधाजनक होती है। यदि आपका बच्‍चा बहुत छोटा है तो आप शुरुआत में उसे दाल का पानी दे सकते हैं। इसके बाद आप उसे अन्‍य आहार भी खिला सकते हैं।

ताजे फल (Fresh fruit) – वैसे तो बच्‍चों को सभी प्रकार के फल पसंद आते हैं। लेकिन इन्‍हें उनके नियमित आहार में शामिल करना उनके वजन को बढ़ाने में सहायक हो सकता है। पपीता, आम और अनानास आदि फलों में प्राकृतिक शर्करा की अच्‍छी मात्रा होती है। प्राकृतिक शर्करा शरीर को पर्याप्‍त ऊर्जा दिलाने में सहायक होती है जिससे बच्‍चों को वजन और पर्याप्‍त शक्ति प्राप्‍त होती है।

घी – बच्‍चों के वजन को बढ़ाने में बहुत ही प्रभावी घटक माना जाता है। क्‍योंकि इसमें स्‍वस्‍थ वसा की अच्‍छी मात्रा होती है। लेकिन बच्‍चों को घी का सेवन कराते समय इसकी शुद्धता का ध्‍यान रखें। क्‍योंकि मिलावटी घी का सेवन करने से कोई फायदा नहीं होता है बल्कि इसके कुछ दुष्‍प्रभाव भी हो सकते हैं। इस समस्‍या से बचने के लिए आप अपने घर पर ही घी तैयार कर सकते हैं। इसके अलावा बच्‍चों को संतुलित मात्रा में ही घी का सेवन कराना चाहिए। अधिक मात्रा में घी का सेवन कराने से पेट संबंधी समस्‍याएं हो सकती हैं।

(और पढ़े – तेजी से वजन बढ़ाने के लिए खाइये ये आहार…)

बच्‍चों का वजन बढ़ाने के लिए टिप्‍स – Bacho Ka Vajan Badhane Ke Liye Tips in Hindi

बच्‍चों का वजन बढ़ाने के लिए टिप्‍स - Bacho Ka Vajan Badhane Ke Liye Tips in Hindi

आपके बच्‍चों का स्‍वास्‍थ्‍य उनके बड़े होने तक आपकी देख रेख पर निर्भर करता है। आपके बच्‍चों के वजन को बढ़ाने के लिए यहां कुछ आसान से टिप्‍स दिये गए हैं जिनका उपयोग आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। आइए इन्‍हें जाने।

  • आप अपने बच्‍चों को हर रंग के खाद्य पदार्थों का उपयोग करें। इसके अलावा आप अपने बच्‍चों की पार्टीयों में उपयोग किये जाने वाले खाद्य पदार्थों में भी इसी तरह के प्रयोग कर सकते हैं। जिससे भोजन के प्रति बच्‍चों की रूचि बढ़ सकती है।
  • अपने बच्‍चों को खाना खिलाने में जल्‍दबाजी न करें। धैर्य रखें और यदि आवश्‍यक हो तो उन्‍हें परिवार के अन्‍य सदस्‍यों के साथ खेलने दें। और खेल खेल में ही उन्‍हें भोजन कराएं।
  • कभी-कभी बच्‍चे खाना खाने में आनाकानी करते हैं, लेकिन ऐसी स्थिति में उनके साथ जबरदस्‍ती न करें। इसके लिए आप उन्‍हें कुछ देर बहलाएं या उनकी पसंद को कुछ नया भोजन कराएं। जिससे के वे उस भोजन को आसानी से खा लें।
  • कभी कभी कुछ नट्स और अन्‍य खाद्य पदार्थ बच्‍चों में एलर्जी का कारण बन सकते हैं। इसलिए इन खाद्य पदार्थों की अच्‍छी तरह से पहचान कर लें जो बच्‍चों में एलर्जी पैदा करते हैं। क्‍योंकि कुछ बच्‍चे नट्स, मछली या लैक्‍टोज के प्रति संवेदनशील होते हैं। इसलिए बहुत ही सावधानी के साथ इन खाद्य पदार्थों का सेवन कराया जाना चाहिए।
  • अपने बच्‍चों के भोजन का समय निर्धारित करें ताकि बच्‍चे का शरीर चक्र उसके अनुसार निर्धारित हो। बच्‍चों को आवश्‍यकता से अधिक भोजन कराने से बचना चाहिए।
  • यात्रा के दौरान या बाहर जाने पर यह सुनिश्चित करें कि बच्‍चे को घर का बना भोजन ही कराएं। क्‍योंकि बाहार का या डिब्‍बा बंद भोजन बच्‍चों के लिए अस्‍वस्‍थ्‍यकर हो सकता है।
  • बच्‍चों को उनकी पसंद के भोजन के साथ ही संतुलित और चक्रिय भोजन पर ध्‍यान दिया जाना चाहिए। क्‍योंकि ऐसा करने पर उन्‍हें सभी प्रकार के पोषक तत्‍व प्राप्‍त करने में मदद मिलती है।

(और पढ़े – जल्दी वजन बढ़ाने के घरेलू उपाय और मोटा होने के तरीके…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration