ब्लैकबेरी के फायदे और नुकसान – Blackberry Benefits and Side Effects in Hindi

ब्लैकबेरी के फायदे और नुकसान - Blackberry Benefits and Side Effects in Hindi
Written by Jaideep

Blackberry Benefits in hindi ब्लैकबेरी एक स्‍वादिष्‍ट फल है, और ब्लैकबेरी खाने के फायदे आपको कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिला सकते हैं। ब्लैकबेरी में औषधीय गुण होने के कारण आम लोगों में यह बहुत ही लोकप्रिय फल माना जाता है। ब्लैकबेरी फल का उपयोग कर आप आप कई गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को नियंत्रित कर सकते हैं। ब्लैकबेरी के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ में पाचन स्‍वास्‍थ्‍य, मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली, हृदय स्‍वास्‍थ्‍य, कैंसर से बचाव, वजन घटाना आदि शामिल हैं। ब्लैकबेरी खाने के लाभ आपके देखने की क्षमता को भी बढ़ा सकते हैं। ब्लैकबेरी का फायदा इसमें मौजूद पोषक तत्‍वों के कारण होता है। आज इस लेख में आप ब्लैकबेरी के खाने फायदे और नुकसान संबंधी जानकारी प्राप्‍त करेगें।

1. ब्लैकबेरी क्‍या है – Blackberry Kya hai in Hindi
2. ब्लैकबेरी का पौधा – Blackberry plant in Hindi
3. ब्लैकबेरी के अन्‍य नाम – Blackberry Other Common Names in Hindi
4. ब्लैकबेरी के प्रकार – Types Of Blackberry in Hindi
5. ब्लैकबेरी के पोषक तत्‍व – Blackberry ke Poshak Tatva in Hindi
6. ब्लैकबेरी के खाने के फायदे – Blackberry khane ke fayde in Hindi
7. ब्लैकबेरी के नुकसान – Blackberry ke Nuksan in Hindi

ब्लैकबेरी क्‍या है – Blackberry Kya hai in Hindi

ब्लैकबेरी एक बहुमुखी गुणों वाला स्‍वादिष्‍ट फल है जो रूबस (Rubus) प्रजाति का फल है। ब्लैकबेरी फल लाल या बैंगनी रंग का होता है। प्राचीन समय में इस फल को खरपतवार माना जाता था। लेकिन औषधीय उपयोग में आने के कारण अब इस फल का व्‍यवसायिक रूप से उत्‍पादन किया जाने लगा है। ब्लैकबेरी पौधे के फल, पत्‍ते, छाल और जड़ों आदि का औषधीय उपयोग किया जाता है।

ब्लैकबेरी का पौधा – Blackberry plant in Hindi

ब्लैकबेरी का पौधा झाड़ीनुमा होता है जिसकी लंबाई लगभग 3 मीटर तक होती है। इसकी घुमावदार शाखाएं मिट्टी के संपर्क में आने पर स्‍वयं ही जड़ विकसित कर सकती हैं। इस झाड़ी के तने खुरदुरे और कटीले होते हैं जो शुरुआत में नरम होते हैं लेकिन समय बीतने के साथ कठोर हो जाते हैं। ब्लैकबेरी प्‍लांट की पत्तियां सामान्‍य रूप से 5 सा 7 के समूह में होती हैं। ब्लैकबेरी के पौधे में जून से अगस्‍त के बीच में सफेद या गुलाबी रंग के फूल आते हैं। ब्लैकबेरी के फल अगस्‍त से सितंबर के बीच पक जाते हैं जिनका स्‍वाद मीठा होता है।

ब्लैकबेरी के अन्‍य नाम – Blackberry Other Common Names in Hindi

ब्लैकबेरी का वैज्ञानिक नाम रूबस (Rubs) है। लेकिन अलग अलग जगहों पर ब्लैकबेरी को कई नामों से जाना जाता है। जैसे ब्रंबल, डेबरी, गाउट बेरी, व्‍योर्नबर्ड, रॉनसीज़, ब्रोम्‍बेरे, ज़र्जा, ब्रूम्‍बर आदि।

ब्लैकबेरी के प्रकार – Types Of Blackberry in Hindi

जलवायु, उपयोग और औषधीय गुणों के आधार पर ब्लैकबेरी कई प्रकार की होती है। ब्लैकबेरी फल के कुछ प्रकार निम्‍न हैं :

बॉयसेनबेरी (Boysenberries) – इस प्रकार की ब्लैकबेरी का आकार बड़ा और रंग लाल-बैंगनी होता हे।

लोगनबेरी (Loganberries) इस प्रकार की ब्लैकबेरी का आकार मध्‍यम बड़ा और रंग गहरा लाल होता है। इन ब्लैकबेरी का स्‍वाद तीखा होता है।

मरीनोबेरी (Marionberries) – ब्लैकबेरी का यह प्रकार स्‍वादिष्‍ट है। इसका आकार गोल और बड़ा होता है।

यंगबेरी (Youngberries) – ये एक अन्‍य प्रकार की ब्लैकबेरी हैं जो लॉगानबेरी (loganberries) से काफी मिलती-जुलती है। लेकिन इसका अपना विशेष स्‍वाद होता है।

ब्लैकबेरी के पोषक तत्‍व – Blackberry ke Poshak Tatva in Hindi

स्‍वाद और पोषक तत्‍वों में ब्लैकबेरी फल भरपूर होता है। ब्लैकबेरी में कई तरह के खनिज और विटामिनों की भरपूर मात्रा होती है। ब्लैकबेरी में विटामिन ए, विटामिन बी1, विटामिन बी2, विटामिन बी6, फोलेट, विटामिन सी, विटामिन ई आदि शामिल हैं। यदि खनिज पदार्थों की बात की जाये तो ब्लैकबेरी में कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्‍फोरस, पोटेशियम, और जस्‍ता आदि भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं। अमीनो एसिड और फाइबर की अच्‍छी मात्रा भी होती है जो स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होते हैं।

ब्लैकबेरी के खाने के फायदे – Blackberry khane ke fayde in Hindi

ब्लैकबेरी कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के एक अद्भुद घटक है। नियमित रूप से ब्लैकबेरी का सेवन करना आपके शरीर के अच्छे स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखने में सहायक होता है। ब्लैकबेरी खाने के फायदे जानकर आप हैरान हो जाएगें। यहां ब्लैकबेरी के कुछ स्‍वास्‍थ्‍य लाभ बताए गए हैं। आइए जाने ब्लैकबेरी फल किस तरह से स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी होता है।

ब्लैकबेरी के फायदे मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Blackberry ke fayde Brain Health ke liye in Hindi

स्‍वादिष्‍ट और पौष्टिक ब्लैकबेरी फल में एंटीऑक्सीडेंट की उच्‍च मात्रा होती है। जिसके कारण यह मस्तिष्‍क की कार्यप्रणाली को आवश्‍यक स्थिरता और मजबूती प्रदान करता है। सूखे हुए ब्लैकबेरी फल (blackberry dry fruit) में पॉलीफेनोल्‍स जैसे एंटीऑक्‍सीडेंट की उच्‍च मात्रा होती है। जो युवा और वयस्‍कों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य बढ़ाने के लिए आप अपने नाश्‍ते में या दिन के किसी भी समय में ब्लैकबेरी का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए आप केवल ब्लैकबेरी का सेवन कर सकते हैं या फिर इसे अन्‍य ड्राई फ्रूट्स आदि के साथ मिलकार भी खा सकते हैं। नियमित रूप से ब्लैकबेरी खाने के लाभ याद रखने की क्षमता और मस्तिष्‍क सक्रियता को बढ़ाता है।

(और पढ़ें – दिमाग तेज करने के लिए क्या खाये और घरेलू उपाय )

ब्लैकबेरी खाने के लाभ स्‍वस्‍थ दिल के लिए – Blackberry khane ke labh Healthy Heart ke liye in Hindi

ब्लैकबेरी के फायदे और नुकसान दोनों ही आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित करते हैं। ब्लैकबेरी फल में एंथासायनिन (anthocyanin) का अच्‍छा स्रोत होता है। यह घटक धमनियों में आने वाली रूकावट को दूर करने में सहायक होता हे। इसलिए हृदय के स्‍वस्‍थ कामकाज के लिए आप दैनिक आधार पर ब्लैकबेरी का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा ब्लैकबेरी के लाभ इसमें मौजूद फाइबर की उच्‍च मात्रा भी है। जो शरीर में रक्‍त परिसंचरण को उत्‍तेजित करती है और दिल के दौरे की संभावना को कम करती है।

ब्लैकबेरी का अधिकतम लाभ पाने के लिए नियमित रूप से प्रतिदिन ताजे या सूखे हुए 2-3 ब्लैकबेरी का सेवन करना चाहिए। लेकिन इस बात का विशेष ध्‍यान रखें कि अधिक मात्रा में इस फल का सेवन करना आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक हो सकता है।

(और पढ़ें – दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए सर्वश्रेष्‍ठ आहार)

ब्लैकबेरी के गुण मधुमेह को रोके – Blackberry ke gun Madhumeh ko roke in Hindi

शरीर में उच्‍च रक्‍त शर्करा मधुमेह का कारण बनता है। इसके अलावा यह भी कहा जाता है कि मधुमेह का उपचार करने से बेहतर है इसे नियंत्रित किया जाए। क्‍योंकि मधुमेह के लक्षणों को केवल नियंत्रित किया जा सकता है। मधुमेह के उपचार के लिए रोगी को अपने शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने की आवश्‍यकता होती है। ऐसी स्थिति में ब्लैकबेरी आपकी मदद कर सकती है। ऐसा इसलिए है कयोंकि ब्लैकबेरी में पोटेशियम की उच्‍च मात्रा होती है। पोटेशियम शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को प्रबंधित करने में मदद करता है।

मधुमेह रोगियों को अधिकांश लोग ब्लैकबेरी का नियमित सेवन करने की सलाह देते हैं। आप भी मधुमेह के लक्षणों को कम करने के लिए नियमित रूप से कुछ ब्लैकबेरी के साथ 1 चम्‍मच शहद का सेवन करें। आप इसे साप्‍ताहिक रूप में भी ले सकते हैं।

(और पढ़ें – मधुमेह रोगियों के खाने के लिए फल की सूची)

ब्लैकबेरी बेनिफिट्स फॉर वेट मेंनेजमेंट – Blackberry Benefits for weight Management in Hindi

यदि आप वजन घटाने के उपाय ढूंढ रहे हैं तो ब्लैकबेरी सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय हो सकता है। जो लोग अपना वजन घटाने के लिए कई प्रयास करने के बाद भी सफल नहीं हुए उन्‍हें ब्लैकबेरी से उचित परिणाम मिल सकता है। इसके लिए उन्‍हें केवल अपने दैनिक आ‍हार में ब्लैकबेरी को शामिल करने की आवश्‍यकता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि नियमित व्‍यायाम, संतुलित आहार और ब्लैकबेरी का नियमित सेवन शरीर के अतिरिक्‍त वजन को कम करने और उचित वजन प्राप्‍त करने में सहायक है। ब्लैकबेरी में फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है जो आपके चयापचय को बढ़ाता है। जिसके परिणामस्‍वरूप शरीर में जमा फैट को कम करने में मदद मिलती है।

नियमित रूप से ब्लैकबेरी का सेवन करना आपकी भूख को भी नियंत्रित करता है। आप अपने आहार के साथ सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा आप भोजन पकाने के लिए ब्लैकबेरी तेल का भी उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें – वजन घटाने और मोटापा कम करने वाले फल)

ब्लैकबेरी खाने के फायदे प्रतिरक्षा के लिए – Blackberry khane ke fayde immunity ke liye in Hindi

इस औषधीय फल में विभिन्‍न प्रकार के विटामिन और खनिज पदार्थों की उच्‍च मात्रा होती है। ये सभी घटक शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को उत्‍तेजित करने में सहायक होते हैं। ब्लैकबेरी फाइटोएस्‍ट्रोजेन का भी अच्‍छा स्रोत माना जाता है। यह घटक भी शरीर को विभिन्‍न प्रकार के संक्रमणों से बचाने में सहायक होता है।

यदि आप भी अपनी प्रतिरक्षा शक्ति में कमी का अनुभव कर रहे हैं तो अपने आहार में ब्लैकबेरी फ्रूट्स को शामिल कर सकते हैं। आप नियमित रूप से प्रतिदिन 5 से 6 ब्लैकबेरी का सेवन कर अपनी इमयूनिटी पॉवर को बढ़ा सकते हैं।

(और पढ़ें – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय)

ब्लैकबेरी के लाभ स्‍वस्‍थ पाचन के लिए – Blackberry ke Labh swasth Pachan ke liye in Hindi

आप अपनी पाचन संबंधी समस्‍याओं को दूर करने के लिए ब्लैकबेरी का उपयोग कर सकते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि केवल 1 कप ब्लैकबेरी में लगभग 7.6 ग्राम फाइबर होता है जो आपके पाचन के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इन फल के माध्‍यम से प्राप्‍त फाइबर आपके पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखने और मल त्‍याग को आसान बनाने में सहायक होता है। इसके अलावा फाइबर की उच्‍च मात्रा आपको अधिक समय तक भूख का एहसास नहीं होने देती है। जिससे आप बार-बार भूख लगने की समस्‍या के कारण मोटापे का शिकार होने से बच सकते हैं।

यदि आप कब्‍ज या अन्‍य किसी पाचन संबंधी समस्‍या से परेशान हैं तो रोजाना 5 से 6 ब्लैकबेरी का नियमित सेवन करें। आपको कुछ ही दिनों में स्‍वस्‍थ पाचन महसूस करेगें।

(और पढ़ें – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय)

ब्लैकबेरी का उपयोग हड्डियां मजबूत करे – Blackberry for Healthy Bones in Hindi

शरीर को स्‍वस्‍थ और फिट रखने के लिए आप ब्लैकबेरी का उपयोग कर सकते हैं। अपने नियमित आहार में ब्लैकबेरी को शामिल कर आप अपनी हड्डियों को मजबूत बना सकते हैं। क्‍योंकि ब्लैकबेरी फल में कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, और फॉस्‍फोरस जैसे प्रमुख घटक होते हैं। इन घटकों की मौजूदगी हड्डी के घनत्‍व और स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ाने में मदद करती है।

शरीर में कैल्शियम और मैग्नीशियम की पर्याप्‍त मात्रा हड्डियों को अतिरिक्‍त ताकत दिलाने में सहायक होती है। जबकि फॉस्‍फोरस कोशिकाओं के कार्य को विनियमित करने में सहायक होती है। इस तरह से आप अपने दैनिक आहार में 5 से 6 ब्लैकबेरी का नियमित सेवन कर अपनी हड्डियों को स्‍वस्‍थ रख सकते हैं।

(और पढ़ें – हड्डियों को मजबूत बनाने के घरेलू उपाय)

ब्लैकबेरी के औषधीय गुण कैंसर को रोके – Blackberry for Prevent Cancer in Hindi

कैंसर और कैंसर संबंधी लक्षणों को कम करने में ब्लैकबेरी फल प्रभावी होता है। नियमित रूप से उपभोग करने के दौरान यह कैंसर कोशिकाओं के उत्पादन और विकास दोनों को नियंत्रित करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद उपचार गुण कैंसर कोशिकाओं का इलाज करने में भी सहायक होती हैं। ब्लैकबेरी फल और इसके पत्‍तों में एंटी-कैंसर गुण और एंटीऑक्‍सीडेंट होते हैं। जिसके कारण यह कोलन कैंसर, फेफड़ों के कैंसर ओर ओसोफेगल कैंसर के लक्षणों को कम करता है। अध्‍ययनों से यह भी पता चलता है कि ब्लैकबेरी में सूक्ष्‍म पोषक तत्व भी होते हैं जो शरीर में कैंसर कोशिकाओं के प्रसार को रोकते हैं।

नियमित रूप से प्रतिदिन 3 से 4 ब्लैकबेरी का सेवन कैंसर से आपकी रक्षा कर सकता है।

(और पढ़ें – क्या खाने से कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है)

ब्लैकबेरी खाने का फायदा मासिक धर्म के लिए – Blackberry khane ka fayda Menstrual Health ke liye in Hindi

ब्लैकबेरी में पाए जाने वाले विभिन्‍न खनिज और विटामिन मासिक धर्म स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखने में सहायक होते हैं। महिलाएं मासिक धर्म चक्र के दौरान होने वाली समस्‍याओं से बचने के लिए ब्लैकबेरी का सेवन कर सकती हैं। पीरियड्स के दौरान ब्लैकबेरी का सेवन गर्भाशय टॉनिक का काम करती है जो माहवारी के दौरान रक्‍तस्राव को स्थिर करने में मदद करता है।

ब्लैकबेरी में मौजूद विटामिन K पीरियड्स के समय रक्‍त को थक्‍का बनने से रोकता है। अधिकतम लाभ प्राप्‍त करने के लिए महिलाएं ब्लैकबेरी की चाय का भी सेवन कर सकती हैं। जिससे उन्‍हें मासिक धर्म की समस्‍याओं से छुटकारा मिल सकता है।

(और पढ़ें – मासिक धर्म (पीरियड्स) के देर से आने के कारण और उपाय)

ब्लैकबेरी का इस्‍तेमाल आंखों को स्‍वस्‍थ्‍य रखे – Blackberry Fruits for Improve Vision in Hindi

ब्लैकबेरी में विटामिन ए की अच्‍छी मात्रा होती है जो आंखों की रोशनी में सुधार करता है। इसके अलावा ब्लैकबेरी में एंटीऑक्‍सीडेंट भी होते हैं जो फ्री रेडिकल्‍स से आंखों की रक्षा करने में सहायक होते हैं। इसके अलावा आंखों को स्‍वस्‍थ रखने वाले लगभग सभी घटक ब्‍लूबेरी में मौजूद रहते हैं।

आंखों को स्‍वस्‍थ रखने के लिए आपको सप्‍ताह में कम से कम 3 बार ब्लैकबेरी का सेवन करना चाहिए। यह आंखों को स्‍वस्‍थ रखने और देखने की क्षमता को बढ़ाने का सबसे अच्‍छा तरीका है।

(और पढ़ें – आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय)

ब्लैकबेरी का इस्‍तेमाल सूजन कम करे – Blackberry ka Istemal sujan kam kare in Hindi

ब्लैकबेरी के लाभों में इसके एंटी-इंफ्लामेटरी गुणों का विशेष योगदान होता है। एंटीऑक्‍सीडेंट और सूजन रोधी गुणों के कारण यह शरीर के सभी हिस्‍सों की सूजन को कम करने में प्रभावी खाद्य पदार्थ है। कुछ लोगों का मनना है कि सूजन की समस्‍या के दौरान ब्लैकबेरी फल को कुचलकर सेवन करना चाहिए। या फिर आप इसे धूप में सुखाकर पाउडर बना सकते हैं। इस पाउडर को पानी के साथ मिलाकर एक पेस्‍ट बनाएं और सूजन प्रभावित क्षेत्र में इसका लेप लगाएं। नियमित रूप से दिन में दो बार इस विधि का उपयोग करने से आपको सूजन से जल्‍दी ही राहत मिल सकती है।

(और पढ़ें – सूजन के कारण, लक्षण और कम करने के घरेलू उपाय)

ब्लैकबेरी के फायदे त्वचा के लिए – Blackberry benefits for skin in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य लाभ के साथ ही ब्लैकबेरी के फायदे त्वचा के लिए भी होते हैं। आप अपने चेहरे की त्‍वचा को चमकदार और गोरा बनाने के लिए ब्लैकबेरी का उपयोग कर सकते हैं। आपके द्वारा उपयोग किये जाने वाले सौंदर्य उत्‍पादों से बेहतर परिणाम ब्लैकबेरी दिला सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि ब्लैकबेरी में सभी आवश्‍यक खनिजों और विटामिनों की अच्‍छी मात्रा होती है। आइए जाने त्वचा के लिए ब्लैकबेरी के फायदे क्‍या हैं।

(और पढ़ें – गोरा होने के घरेलू उपाय और नुस्खे)

ब्लैकबेरी के लाभ एंटी-एजिंग के लिए – Blackberry Fruits for Anti-Ageing in Hindi

ब्‍लैकबरी में ऐसे घटक होते हैं जो आपकी त्‍वचा को लाभ दिला सकते हैं। ब्लैकबेरी में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट त्‍वचा को फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव से बचाते हैं। इसके अलावा ब्लैकबेरी के औषधीय गुण त्‍वचा को चिकना और मुलायम बनाने में भी सहायक होते हैं। ब्लैकबेरी फल में विटामिन ए और विटामिन सी भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं जो त्‍वचा को हानिकारक यूवी किरणों से बचाते हैं। इस तरह से आप उम्र बढ़ने संबंधी लक्षणों को कम करने के लिए ब्लैकबेरी फल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। नियमित रूप से ब्लैकबेरी का इस्‍तेमाल त्‍वचा की गहराई से सफाई करने में मदद करता है।

एंटी-एजिंग लक्षणों को कम करने के लिए आप ब्लैकबेरी के साथ शहद और आवश्‍यक तेलों के मिश्रण का उपयोग कर सकते हैं। इस मिश्रण को त्वचा में लगाने से त्‍वचा स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा मिलता है।

(और पढ़ें – शहद के फायदे चेहरे और त्वचा के लिए)

ब्लैकबेरी का प्रयोग ऑयली स्किन के लिए – Blackberry benefits For Clean Oily Skin in Hindi

ब्लैकबेरी में मौजूद पोषक तत्‍व प्राकृतिक क्‍लींजर के रूप में भी काम करते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि यह त्‍वचा में मौजूद प्राकृतिक तेल की अतिरिक्‍त मात्रा को अच्‍छी तरह से साफ कर सकता है। ब्लैकबेरी त्वचा की सफाई के साथ ही त्‍वचा के डिटॉक्‍सीफिकेशन के लिए भी काम करता है।

आप अपनी त्‍वचा को स्‍वस्‍थ और ऑयल फ्री बनाने के लिए मुलतानी मिट्टी के साथ ब्लैकबेरी रस को मिलाएं और एक गाढ़ा पेस्‍ट बनाएं। इस पेस्‍ट को अपने चेहरे पर अच्‍छी तरह से लगाएं और कुछ देर के बाद सामान्‍य पानी से अपने चेहरे को धो लें। ऐसा करने से आपके चेहरे की त्वचा में मौजूद अतिरिक्‍त तेल को आसानी से दूर किया जा सकता है।

(और पढ़ें – ऑयली स्किन होने के कारण और छुटकारा पाने के घरेलू उपाय)

ब्लैकबेरी का इस्‍तेमाल त्‍वचा को हाइड्रेट रखे – Blackberry ka Istemal Skin ko Hydrate rakhe in Hindi

ब्लैकबेरी फल का लगभग 85 प्रतिशत हिस्‍सा पानी से बना है। इसलिए नियमित रूप से उपयोग करने के दौरान यह त्‍वचा को हाइड्रेट रखने में सहायक होता है। नियमित उपभोग करने के दौरान ब्लैकबेरी फल प्राकृतिक रूप से शरीर में पानी के स्‍तर को बढ़ाता है। इसके साथ ही फाइबर की अच्‍छी मात्रा त्‍वचा को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करती है।

त्‍वचा को प्राकृतिक नमी दिलाने के लिए आप ब्लैकबेरी फल के रस में शहद मिलाएं। इस मिश्रण आप अपने चेहरे, गर्दन आदि पर लगाएं और सूखने दें। जब फेस पैक पूरी तरह से सूख जाए तब आप इस मिश्रण को सामान्‍य पानी से धो लें। ऐसा करने से आप ताजा और चमकदार त्‍वचा का अनुभव कर सकते हैं।

(और पढ़ें – स्किन को हाइड्रेट करने वाले घरेलू हाइड्रेटिंग फेस मास्क और फेस पैक)

ब्लैकबेरी के फायदे बालों के लिए – Blackberry Use for Hair in Hindi

त्‍वचा स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के साथ ही ब्लैकबेरी का उपयोग बालों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी किया जा सकता है। आइए जाने ब्लैकबेरी का इस्‍तेमाल बालों में किस प्रकार किया जा सकता है।

 बालों को बढ़ने में मदद करे – Blackberry For Promotes Hair Growth in Hindi

ब्लैकबेरी फल का बालों के लिए प्रमुख लाभ यह है कि यह स्‍वस्‍थ बालों के निर्माण में मदद करता है। इसके साथ ही नियमित आधार पर उपयोग करने से यह बालों को झड़ने से भी रोकता है। ब्लैकबेरी में मौजूद विटामिन सी कोलेजन (collagen) के निमार्ण में मदद करता है जो बालों को स्‍वसथ रखने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट बालों पर पर्यावरणीय हानिकारक प्रभाव को कम करने में सहायक होते हैं।

ब्लैकबेरी पौधे से प्राप्‍त अर्क का बालों में उपयोग करने पर यह बालों की चमक बढ़ाने और बालों को चमकदार बनाने में सहायक होता है।

(और पढ़ें – बालों को तेजी से बढ़ाने के घरेलू उपाय)

ब्लैकबेरी के नुकसान – Blackberry ke Nuksan in Hindi

सामान्‍य रूप से ब्लैकबेरी का सेवन करना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन कुछ विशेष परिस्थितियों में और कुछ विशेष लोगों को इस फल का सेवन करने के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं।

  • अधिक मात्रा में ब्लैकबेरी का सेवन करने से उल्‍टी, मतली और दस्‍त जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं।
  • कुछ लोगों को ब्लैकबेरी का अधिक सेवन करने पर फूड पॉइजनिंग की समस्‍या भी हो सकती है।
  • मधुमेह के रोगियों को बहुत ही कम मात्रा में ब्लैकबेरी का सेवन करना चाहिए।
  • यदि आप किसी विशेष प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं संबंधी दवाओं का सेवन कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में ब्‍लैबेरी का सेवन करने से पहले आपको अपने चिकित्‍सक से अनुमति लेना चाहिए।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration