जानिये अपनी स्किन का टाइप और प्रकार – Apna Skin Type Kaise Jane aur Parkar In Hindi

जानिये अपनी स्किन का टाइप और प्रकार - Apna Skin Type Kaise Jane aur Parkar In Hindi
Written by Diksha

Skin Types in Hindi अपनी त्वचा को निखारने के लिए आपको यह जानना बहुत जरुरी है की आपकी त्वचा कैसी है? सामान्य तौर पर त्वचा पांच प्रकार की होती है- शुष्क त्वचा, तैलीय त्वचा, मिश्रित त्वचा, सामान्य त्वचा और संवेदनशील त्वचा। इन पांचो प्रकार की त्वचा की देखभाल अलग-अलग तरह से होती है इस लेख के माध्यम से आप जानेगे कि आपकी त्वचा कैसी है? आपकी त्वचा का प्रकार क्या है? और आप किस प्रकार के ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करके अपनी त्वचा को खुबसूरत बना सकते है। इस लेख में आप जानेंगे त्वचा कितने प्रकार की होती है और कैसे पता करें की आपकी त्वचा का प्रकार क्या है के बारे में।

त्वचा हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण और सबसे बड़ा भाग होता है। जो हमारे शरीर पर एक आवरण की भांति कार्य करता है,जिसकी बाहरी त्वचा को एपिडर्मिस भी कहते है इसके अन्य कार्य जैसे तापवरोधन (इंसुलेशन) तापमान विनियमन, सवेंदन और विटामिन बी और विटामिन डी का संरक्षण करती है। त्वचा की समस्या से बहुत लोग ग्रसित है त्वचा हमारे शरीर की उपरी परत होती है अगर आप स्वस्थ रहेंगे तो यह ज़वा दिखेगी त्वचा के प्रकार को जानकर उसकी सही तरीके से देखभाल करके त्वचा की गुणवत्ता को बढ़ाया जा सकता है।

1. त्वचा के प्रकार हिंदी में – The type of skin in Hindi

2. अपना स्किन टाइप कैसे जानें – Apna skin type kaise jane in hindi

3. त्वचा की देखभाल के तरीके – Protection of all skin type in Hindi

त्वचा के प्रकार हिंदी में – The type of skin in Hindi

  1. सामान्य त्वचा – Normal skin in Hindi
    सामान्य त्वचा को पहचानने के गुण – Character of normal skin in Hindi
  2. तैलीय त्वचा – Oily skin in Hindi
    तैलीय त्वचा को पहचानने के तरीके – Character of oily skin in Hindi
  3. मिश्रित त्वचा -Combination skin in Hindi
    मिश्रित त्वचा के गुण – Character of combination skin in Hindi
  4. रुखी त्वचा – Dry skin in Hindi
    रुखी त्वचा को पहचानने के गुण – Identify of dry skin in Hindi
  5. संवेदनशील त्वचा – Sensitive skin in Hindi
    संवेदनशील त्वचा के गुण – Character of sensitive skin in Hindi

क्या आप जानते है कि आपकी त्वचा किस प्रकार की है यदि नहीं तो हम आपको अपने लेख के माध्यम से आपकी त्वचा के बारे में कैसे पता करें के बारे में बताएगें क्योंकि ज्यादातर महिलाये और पुरुष अपने सौंदर्य प्रसाधनो (Beauty Product) को लेकर काफी जागरूक रहते है और अपनी खूबसूरती को बढ़ाने के लिए नए- नए ब्यूटी उत्पादों का प्रयोग करते है इसलिए यह जरुरी नहीं होता है की सभी प्रकार के ब्यूटी प्रोडक्ट लड़के व लड़कियों की त्वचा पर एक जैसा असर करें। सभी की त्वचा एक दुसरे से बहुत अलग होती है यदि आपको अपनी त्वचा के प्रकार की जानकारी हो जाये तो आप अपनी स्किन के लक्षणों के आधार पर अपनी त्वचा के प्रकार को जानकर उसके अनुसार ब्यूटी प्रोडक्ट या घरेलू उपाय को अपनाकर उसे सुंदर बना सकते है। सामान्य तौर पर त्वचा को पांच भागो में विभाजित किया गया है।

सामान्य त्वचा – Normal skin in Hindi

सामान्य त्वचा - Normal skin in Hindi

सामान्य त्वचा बहुत कम लोगो में देखने मिलती है इस त्वचा की विशेषता यह है की यह त्वचा चमकदार साफ व आकर्षक होती है कहने का अभिप्राय यह है कि इस त्वचा में हमे किसी भी प्रकार का तेल और रूखापन नहीं मिलता है, हालाकि वातावरण के अनुकूल इस त्वचा पर भी हमे कुछ असर देखने को मिलते है इस त्वचा पर हम फेशवाश, क्लींजर व फेसपैक का इस्तेमाल करके त्वचा की देखभाल की जा सकती है, इसके अलावा यदि सामान्य त्वचा सर्दियों में रुखी लगने लगे तो हम रुखी त्वचा के लिए फेसपैक इत्यादि का प्रयोग कर सकते है। त्वचा का प्रकार जानने के बाद त्वचा को खुबसूरत बनाना हमारे लिए और भी आसान हो जाता है।

सामान्य त्वचा को पहचानने के गुण – Character of normal skin in Hindi

नार्मल स्किन को पहचानने के लिए आपको उसके निम्न लक्षणों को जानना होगा

(और पढ़े – गोरी और चमकदार त्वचा पाने के लिए सौंदर्य टिप्स…)

तैलीय त्वचा – Oily skin in Hindi

तैलीय त्वचा - Oily skin in Hindi

ऑयली स्किन एक ऐसी त्वचा है। जिसमे वसामय ग्रंथि के स्त्राव के कारण ऑइल ज्यादा देखने को मिलता है। जिससे त्वचा में तेल की एक परत जम जाती है, इस वजह से त्वचा तैलीय नजर आती है। और त्वचा चिपचिपी हो जाती है इस प्रकार की त्वचा में धुल, मिट्टी ज्यादा जम जाती है। और दाग मुहासे भी होते है, तैलीय त्वचा की देखभाल ज्यादा करनी पड़ती है इससे महिला एवं पुरुष जल्दी बूढ़े नजर नहीं आते है यदि त्वचा की उचित देखभाल न की जाये। तो इस प्रकार की तैलीय त्वचा में अनेक बीमारियाँ जन्म ले सकती है। जैसे- मुहासे, रोमछिद्र, त्वचा का लाल होना और खुजली इत्यादि।

तैलीय त्वचा को पहचानने के तरीके – Character of oily skin in Hindi

  • वसामय ग्रंथि से सीबम अर्थात आयल का निकलना।
  • धूल मिट्टी का जमा होना।
  • त्वचा में नमी का होना।
  • त्वचा का चिपचिपा होना।

(और पढ़े – ऑयली स्किन होने के कारण और छुटकारा पाने के घरेलू उपाय…)

मिश्रित त्वचा -Combination skin in Hindi

मिश्रित त्वचा -Combination skin in Hindi

मिली-जुली त्‍वचा यानी कॉम्‍बिनेशन स्‍किन एक ऐसी त्वचा है जिसमे सभी त्वचा का प्रकार समाहित होता है। इस प्रकार की त्वचा में खिचाव एवं आयल का स्त्राव भी होता है।इसके लिए आपको दिन में 3-4 चार बार चेहरा धोना पड़ता है इस प्रकार की त्वचा में आपको वसामय ग्रंथि के अधिक स्त्राव के कारण कही- कहीं आपको आयल या रूखापन ज्यादा देखने को मिलता है इस प्रकार की त्वचा के लिए आपको अधिक देखभाल की जरुरत होती है।

मिश्रित त्वचा के गुण – Character of combination skin in Hindi

  • त्वचा में आयल और रूखापन का होना
  • त्वचा का चिपचिपा होना
  • चिकनाहट का महसूस होना।
  • त्वचा पर दाग, धब्बो का दिखाई पड़ना

(और पढ़े – चेहरे के दाग धब्बे हटाने के घरेलू उपाए…)

रुखी त्वचा – Dry skin in Hindi

रुखी त्वचा - Dry skin in Hindi

शुष्क या रुखी त्वचा एक ऐसी त्वचा होती है जिसमे आप रूखापन देख सकते है। इसमें आपको कोई चमक नजर नहीं आती है। इस प्रकार की त्वचा में आपको मुहासे और दाग ज्यादा देखने को मिलते है। और इसमें पानी की कमी से भी ज्यादा रूखापन आ जाता है। यह अपनी नमी जल्दी खो देती है रुखी त्वचा वालो को पाउडर लगाने से बचना चाहिए। इससे आपकी त्वचा में रूखापन अधिक दिखाई देता है। रुखी त्वचा में खिचाव अधिक होता है ड्राई स्किन होने पर आप पानी पर्याप्त मात्रा में ले, रुखी त्वचा की देखभाल के लिए आप रात में सोते समय कोल्ड क्रीम का प्रयोग कर सकते है। जिससे आपकी त्वचा पर नमी बनी रहेगी व त्वचा साफ और मुलायम रहेगी।

रुखी त्वचा को पहचानने के गुण – Identify of dry skin in Hindi

(और पढ़े – सर्दियों में रूखी त्वचा के घरेलू उपाय…)

संवेदनशील त्वचा – Sensitive skin in Hindi

संवेदनशील त्वचा - Sensitive skin in Hindi

सामान्य तौर पर अन्य त्वचा के अलावा संवेदनशील त्वचा पर ज्यादा ध्यान देने की जरुरत होती है। क्यूकि इसमें वसामय ग्रंथि का स्त्राव ज्यादा बढ़ जाता है और हमारी त्वचा की उपरी परत में जमा हो जाता है जिसकी वजह से आपकी त्वचा पर दाग और मुहासे होने की सम्भावना होती है सेंसिटिव स्किनको आपको ज्यादा साफ़ रखने की जरुरत होती है यदि आप अपनी त्वचा को साफ़ नहीं रखेंगे तो इससे आपकी त्वचा पर धुल, मिट्टी जमा होने लगती है सेंसिटिव स्किन में गन्दगी साफ़ दिखाई देती है। संवेदनशील त्वचा में आप किसी भी प्रकार का फेसिअल और ब्लीच नहीं कर सकते है। इस प्रकार की त्वचा में आपको ज्यादा सुरक्षा की जरुरत होती है।

संवेदनशील त्वचा के गुण – Character of sensitive skin in Hindi

(और पढ़े – मुहासे के दाग धब्बे हटाने के घरेलू उपाय…)

अपना स्किन टाइप कैसे जानें – Apna skin type kaise jane in hindi

  1. स्किन टाइप का पता लगाने के लिए टिश्यू टेस्ट पेपर – Tissue paper skin type test in Hindi
    टिश्यू पेपर टेस्ट से स्किन टाइप पता लगाने का दूसरा तरीका – Tissue paper test method in Hindi
    टिश्यू पेपर टेस्ट के परिणाम को ऐसे समझें – Tissue paper test result in Hindi
  2. स्किन टाइप जाननें के लिए मिरर टेस्ट – Mirror test in Hindi

आइये हम देखते है की आप अपनी स्किन का प्रकार कैसे जान सकते है इसके लिए हमें कुछ आसान से टेस्ट करने होते हैयह टेस्ट तीन प्रकार के होते है टिश्यू टेस्ट पेपर मिरर टेस्ट जिसकी मदद से आप घर पर ही अपनी स्किन का टाइप का पता लगा सकते हैं।

स्किन टाइप का पता लगाने के लिए टिश्यू टेस्ट पेपर – Tissue paper skin type test in Hindi

स्किन टाइप का पता लगाने के लिए टिश्यू टेस्ट पेपर - Tissue paper skin type test in Hindi

अपनी त्वचा का प्रकार जानने के लिए हम टिश्यू पेपर का ज्यादा इस्तेमाल करते है जिससे हमें त्वचा का प्रकार जानने में मदद मिलती है। जिसके अनुरूप आप अपनी त्वचा को खुबसूरत बना सकेंगे। सबसे पहले हम टिश्यू पेपर से अपना चेहरा साफ़ करते है इससे हमें पता चलता है। कि आपकी त्वचा ज्यादा रुखी है या ऑयली अगर टिश्यू पेपर में अधिक आयल आता है या आपको ज्यादा खिचाव महसूस होता है तो आप अपनी त्वचा का प्रकार समझ जाये इसके लिए आपको सुबह उठकर टिश्यू पेपर को गाल, नाक और माथे में लगाकर टेस्ट करना होता है। फिर आप टिश्यू पेपर का निरीक्षण कर सकते है।

यदि टिश्यू पेपर पर ज्यादा आयल नजर आये तो आपकी त्वचा ऑयली है। या ज्यादा रूखापन नजर आये तो आपकी त्वचा रुखी है। आपकी त्वचा के कुछ हिस्से से आपको आयल या रूखापन दोनों नजर आये। तो आपकी त्वचा मिश्रित है। यदि आपकी त्वचा पर आपको जलन महसूस हो तो यह सवेंदनशील त्वचा की केटेगरी में आती है।

(और पढ़े – दमकती और चमकती स्किन के लिए शहनाज हुसैन के ब्यूटी टिप्स…)

टिश्यू पेपर टेस्ट से स्किन टाइप पता लगाने का दूसरा तरीका – Tissue paper skin type test in Hindi

यह टिश्यू पेपर टेस्ट से अपनी त्वचा का प्रकार जानने की दूसरी विधि है जिससे आप आसानी से अपनी स्किन का प्रकार जान सकेंगे इसके लिए हम टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करते है इसके लिए आप सुबह उठकर अपना चेहरा धोले और 30 मिनट इंतजार करें। इसके बाद टिश्यू पेपर को अपने चेहरे पर रखकर प्रेस करें इसके अलावा आप टिश्यू पेपर को अपनी अपनी नाक, गाल और माथे पर लगाये फिर टिश्यू पेपर का निरीक्षण करे।

टिश्यू पेपर टेस्ट के परिणाम को ऐसे समझें – Tissue paper test result in Hindi

टिश्यू पेपर टेस्ट के परिणाम को ऐसे समझें - Tissue paper test result in Hindi

शुष्क या रुखी त्वचा (Dry skin in Hindi) रुखी त्वचा को पहचानने के लिए हम टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करते है इसमें टिश्यू पेपर में कोई पारदर्शिता नहीं दिखाई देती है इस प्रकार की त्वचा खीची-खीची सी महसूस होती है इसे शुष्क या रुखी त्वचा कहते है शुष्क या रुखी त्वचा में झुर्रिया और एजिंग का खतरा सबसे ज्यादा होता है।

ऑयली त्वचा (Oily skin)– टिश्यू पेपर से चेहरा पोछते ही टिश्यू पेपर में धब्बे नजर आये तो आपकी त्वचा तैलीय है इसमें वसामय ग्रंथि का स्त्राव अधिक बढ़ जाता है।

मिश्रित त्वचा (Combination skin) – चेहरे को टिश्यू पेपर से पोछने पर चेहरे के कुछ भाग में आयल या रूखापन नजर आता है तो यह मिश्रित त्वचा है।

सामान्य त्वचा (Normal Skin)–  अगर टिश्यू पेपर पर कोई दाग या धब्बा नजर नहीं आया हो और आपका चेहरा साफ़ व मुलायम हो तो इसे सामान्य त्वचा कहते है इस प्रकार की त्वचा में आयल और रूखापन नहीं होता है।

(और पढ़े – बढ़ती उम्र (एजिंग) के लक्षण कम करने के उपाय…)

स्किन टाइप जाननें के लिए मिरर टेस्ट – Mirror test for skin type in Hindi

आपने अक्सर लोगो को बात करते सुना होगा की किसी की स्किन ऑयली और ड्राई होती है लेकिन अभी भी कुछ लोग उलझन में होते है कि उनकी त्वचा का प्रकार क्या है? ऐसे में हम अपनी सही स्किन का प्रकार जानने के लिए मिरर टेस्ट (mirror test) करते है इसके लिए सबसे पहले मिरर से चेहरे को देखने की जरुरत होती है आपको अपने चेहरे पर डार्क स्पॉट या छोटी –छोटी लाइने दिखाई देती है तो यह शुष्क या रुखी त्वचा के लक्षण हो सकते है रुखी त्वचा पर मुहासे और दाग-धब्बे अधिक होते है।

अगर हम मिरर से नाक,और गाल पर नमी या आयल का स्त्राव अधिक देखते है तो यह तैलीय त्वचा होती है इसमें त्वचा चिपचिपी हो जाती है और मिरर से नाक और गालो में चिकनाई व नमी देखने पर त्वचा के कुछ भाग में आयल या रूखापन देखने को मिलता है तो यह मिश्रित त्वचा होती है।

त्वचा की देखभाल के तरीके – Protection of all skin type in Hindi

त्वचा की देखभाल के तरीके - Protection of all skin type in Hindi

  • चमकदार त्वचा पाने के लिए अपने खानपान को भी सही रखे। इससे आपकी त्वचा भी सुंदर बनी रहेगी इसके लिए आप हरी पत्तेदार सब्जी का ही प्रयोग करे।
  • अधिक मात्रा में फल व नारियल पानी का सेवन करे।
  • शरीर को पर्याप्त मात्रा में पानी की जरुरत होती है। आप दिनभर में 8-10 गिलास पानी पीकर अपने शरीर में पानी का संतुलन बना सकते है जिससे आपकी त्वचा एनर्जी से भरी रहेगी। और त्वचा में चमक बनी रहेगी।
  • अगर आप धूम्रपान करते है तो बिलकुल न करे इससे भी हमारी त्वचा पर बुरा असर पड़ता है।
  • यदि आप कही घुमने जा रहे है तो आप अपनी त्वचा पर सनस्क्रीन लोशन का प्रयोग कर सकते है जो आपकी त्वचा को धुप से बचाकर रखेगा।
  • बिस्तर पर जाने से पहले बाल लपेटें।
  • सप्ताह में कम से कम एक बार तकिए के कवर को बदलें।
  • आप रात में सोते समय गुलाबजल का प्रयोग भी कर सकते है। जो आपकी त्वचा को साफ रखने के साथ-साथ हाइड्रेटेड रखेगी।

(और पढ़े – नेचुरल आयुर्वेदिक चीजें जो बनाएंगी त्वचा को गोरा और चमकदार…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration