मुल्तानी मिट्टी को फेस पर कैसे लगाये - How To Use Multani Mitti On Face In Hindi
सौंदर्य उपचार

मुल्तानी मिट्टी को फेस पर कैसे लगाये? – How To Use Multani Mitti On Face In Hindi

मुल्तानी मिट्टी को फेस पर कैसे लगाये? - How To Use Multani Mitti On Face In Hindi

How To Use Multani Mitti On Face In Hindi: मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल सदियों से त्वचा की सुंदरता के लिए किया जा रहा है। प्राकृतिक सुंदरता पाने के लिए मुल्तानी मिट्टी फेस पैक के रूप में उपयोग हो रही है। मुल्तानी मिट्टी की सबसे अच्छी बात यह कि ये बहुत ही आसानी से मिल जाती है और इसका उपयोग भी बहुत आसान होता है, लेकिन फिर लोगों को मुल्तानी मिट्टी को फेस पर कैसे लगाये? इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी नहीं है। आज आप इस आर्टिकल में मुल्तानी मिट्टी को फेस पर कैसे लगाये के बारें में जानेंगे।

मुल्तानी मिट्टी के क्या क्या फायदे है? – What are the benefits of multani mitti in Hindi?

मुल्तानी मिट्टी के क्या क्या फायदे है? - What are the benefits of multani mitti in Hindi?

फेस पर मुल्तानी मिट्टी कब और कैसे लगाएं? इसके बारे में जानने से पहले आपको यह जान लेना बहुत जरूरी है कि चेहरे के लिए इसके क्या-क्या फायदे होते है। आइये फेस के लिए मुल्तानी मिट्टी के लाभों को विस्तार से जानते हैं।

(यह भी पढ़ें – मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान)

मुल्तानी मिट्टी के फायदे चेहरा साफ करे – Multani Mitti For Cleanses Your face in Hindi

मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग एक सौम्य क्लीन्ज़र के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है जो न केवल गंदगी को हटाता है, बल्कि आपके फेस की त्वचा को एक्सफोलिएट करता है और आपको एक समान रंग देने में मदद करता है।

(यह भी पढ़ें – मुल्तानी मिट्टी फेस पैक के फायदे)

मुल्तानी मिट्टी के फायदे मुहांसों के लिए – Multani Mitti Lagane Ke Fayde For Acne in Hindi

मुल्तानी मिट्टी के फायदे मुहांसों के लिए – Multani Mitti Lagane Ke Fayde For Acne in Hindi

मुल्तानी मिट्टी अपने तेल अवशोषित गुणों के लिए बेहद लोकप्रिय है। यह आपके चेहरे से आयली स्किन को दूर करता हैं। यह आयली स्किन आपके चेहरे में होने वाले मुंहासों का मुख्य कारण होता हैं। यह आपकी त्वचा से तेल और अशुद्धियों को बाहर निकालने में मदद करती है। मुल्तानी मिट्टी आपकी त्वचा को खनिजों तत्वों के साथ पोषण देता है और पिम्पल को होने से रोकता है। मुल्तानी मिट्टी के साथ अपने मुँहासे को नियंत्रित करने के लिए इसका फेस पैक बना कर उपयोग करें।

ऑयली स्किन के लिए मुल्तानी मिट्टी फेस पैक – Multani Mitti Face Pack For Oily Skin In Hindi

ऑयली स्किन के लिए मुल्तानी मिट्टी फेस पैक – Multani Mitti Face Pack For Oily Skin In Hindi

किशोरावस्था में तैलीय ग्रंथियां (oil gland) ज्यादा सक्रिय होने के कारण अधिक मात्रा में चेहरे पर तेल उभर आता है। जिसके कारण से कील, मुहांसे चेहरे पर निकलने लगते हैं। इस दौरान आप मुल्तानी मिट्टी का उपयोग चेहरे पर बड़ी आसानी से कर सकते हैं।

(और पढ़े – ऑयली स्किन होने के कारण और छुटकारा पाने के घरेलू उपाय)

मुल्तानी मिट्टी को फेस पर लगाने के फायदे एक्सफोलिएशन में – Multani Mitti Ke Fayde For Exfoliation in Hindi

डेड स्किन या मृत त्वचा को हटाने के लिए मुल्तानी मिट्टी से एक्सफोलिएशन एक अच्छा तरीका है। इसकी मदद से चेहरे साफ और चमकदार हो जाता है। मुल्तानी मिट्टी की सहायता से इसे आप घर पर भी आसानी से कर सकते हैं।

(और पढ़े – फेशियल करने का तरीका…)

मुल्तानी मिट्टी के फायदे चेहरा ग्लो करे – Multani Mitti Ke Fayde Face Glow kare

मुल्तानी मिट्टी के फायदे चेहरा ग्लो करे – Multani Mitti Ke Fayde Face Glow kare

मुल्तानी मिट्टी मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाकर आपके चेहरे पर तुरंत चमक भी प्रदान करती है। यह आपकी त्वचा से सभी अशुद्धियों से छुटकारा पाने और आपके छिद्रों को बंद करने में मदद करती है। मुल्तानी मिटटी का इस्तेमाल चेहरे पर चमकती त्वचा के लिए फेस पैक के रूप में करें।

(यह भी पढ़ें – मुल्तानी मिट्टी फेस पैक फॉर ड्राई स्किन)

मुल्तानी मिट्टी को फेस पर लगाने के लाभ कालापन दूर करे – Multani Mitti Ko face par lagane ke laabh Kalapan Dur Kare

मुल्तानी मिट्टी आपके चेहरे से दागों और पिगमेंटेशन को दूर करने के साथ यह प्राकृतिक तत्व खराब सन टैन से छुटकारा पाने में भी मदद करता है। सन टैन से छुटकारा पाने के लिए और इसका फेस पैक बनाकर मुल्तानी मिट्टी का उपयोग करें।

(यह भी पढ़ें – सन टैन दूर करने के घरेलू उपाय)

चेहरे पर मुल्तानी मिट्टी लगाने के फायदे ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को दूर करे  – Chehare par Multani Mitti lagane ke fadye Blackheads aur Whiteheads dur kare

चेहरे पर मुल्तानी मिट्टी लगाने के फायदे ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को दूर करे  – Chehare par Multani Mitti lagane ke fadye Blackheads aur Whiteheads dur kare

मुल्तानी मिट्टी एक स्क्रब के रूप में ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स से छुटकारा पाने में मदद करता है। मुल्तानी मिट्टी की मदद से ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को हटाने के लिए इसका फेस पैक बहुत ही फायदेमंद है।

(और पढ़े – नाक पर से ब्लैकहेड्स साफ करने के घरेलू उपाय…)

मुल्तानी मिट्टी फेस पैक दाग धब्बों के लिए – Multani Mitti For Dark Spots On Face in Hindi

दाग धब्बे त्वचा पर कई कारणों से आ जाते हैं जैसे कि मुहांसों के दाग,  किसी चोट के दाग या फिर ज्यादा धूप में रहने पर भी चट्टे पड़ जाते हैं।  इन दागों को एक बार में नहीं हटाया जा सकता हां परंतु अगर multani mitti का इस्तेमाल कई बार करते हैं तो यह  दाग कुछ समय बाद हल्के हो जाते हैं और पूरी तरह चले भी जाते हैं।

(और पढ़ें – चेहरे के दाग धब्बे हटाने के घरेलू उपाए)

मुल्तानी मिट्टी में क्या मिलाकर फेस पर लगाएं? – What should be mixed with multani mitti in Hindi?

मुल्तानी मिट्टी में क्या मिलाकर फेस पर लगाएं? - What should be mixed with multani mitti in Hindi?

ऊपर दिए गए सभी लाभों को प्राप्त करने के लिए आप मुल्तानी के साथ कुछ अन्य सामग्री को भी मिला सकते है, जो हमारे फेस की स्किन के लिए और भी अधिक फायदेमंद होता हैं।

मुल्तानी मिट्टी में शहद मिलाकर लगाएं

शहद में मॉइस्चराइजिंग और जीवाणुरोधी गुण होते हैं। यह एक प्रकार का लोशन है जो आपकी त्वचा में नमी को बंद कर देता है और छिद्रों को सिकोड़ने (shrinking) में मदद करते हैं। सूखी त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी में शहद मिलाकर लगाएं है।

मुल्तानी मिट्टी में एलोवेरा मिलाकर लगाएं

मुल्तानी मिट्टी में एलोवेरा मिलाकर लगाएं

एलोवेरा अपने मजबूत एंटी इन्फ्लामेट्री गुणों के लिए जाना जाता है जो लालिमा और सूजन को कम करने में मदद करता है। यह आपके चेहरे के छिद्रों को बंद किए बिना आपकी त्वचा को मॉइस्चराइज करने में भी मदद करता है। मुल्तानी मिट्टी फेस पैक में एलोवेरा के उपयोग से आपकी त्वचा कोमल और चिकनी महसूस होगी।

मुल्तानी मिट्टी में हल्दी मिलाकर लगाएं

हल्दी में उत्कृष्ट एंटीसेप्टिक, रोगाणुरोधी और एंटी इन्फ्लामेट्री गुण होते हैं जो मुँहासे को रोकने में मदद करते हैं। मुल्तानी मिट्टी में हल्दी मिलाकर लगाने से फेस को गोरा करने के साथ मुंहासे के निशान को कम करने में मदद मिलती है।

मुल्तानी मिट्टी में दही मिलाकर लगाएं

मुल्तानी मिट्टी में दही मिलाकर लगाएं

दही में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। मुल्तानी मिट्टी के साथ मिलकर दही जलन और खुजली को शांत करता है और आपकी त्वचा को चिकना और चमकदार बनाता है।

मुल्तानी मिट्टी में चंदन मिलाकर लगाएं

चंदन पाउडर उम्र के धब्बे, दाग और पिगमेंट (pigments) को हल्का करता है। यह फेस पैक मुंहासों जैसी अन्य त्वचा की बीमारियों के इलाज के लिए भी फायदेमंद है। ऐसा इसलिए है क्योंकि चंदन और मुल्तानी मिट्टी दोनों ही मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने के लिए बेहतरीन हैं।

मुल्तानी मिट्टी में नींबू मिलाकर लगाएं

मुल्तानी मिट्टी में नींबू मिलाकर लगाएं

नींबू का रस आपकी त्वचा को अच्छी तरह से साफ़ करता हैं, जबकि मुल्तानी मिट्टी आपकी त्वचा के प्राकृतिक तेलों को बरकरार रखती है और इसे चमकदार बनाती है। इसलिए मुल्तानी मिट्टी में नींबू मिलाकर फेस पर लगाएं।

मुल्तानी मिट्टी में गुलाब जल मिलाकर लगाएं

गुलाब जल एक हल्का टोनर है जो आपकी त्वचा को शुष्क किये बिना आपके चेहरे के छिद्रों को कसने में मदद करता है। यह मुल्तानी मिट्टी से मिलकर मुंहासों को दूर करने के लिए प्रभावी रूप से काम भी करता है।

मुल्तानी मिट्टी में नीम मिलाकर लगाएं

मुल्तानी मिट्टी और नीम का फेस पैक बैक्टीरिया और संक्रमण को चेहरे से दूर करता है। नीम के मजबूत रोगाणुरोधी गुण तेल निकलना रोकने में मदद करते है। अपने मुंहासे को ठीक करने के लिए आप मुल्तानी मिट्टी में नीम मिलाकर लगाएं।

फेस के लिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग कैसे करें?How to use multani mitti for face in Hindi?

फेस के लिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग कैसे करें? - How to use multani mitti for face in Hindi?

यदि आप अपने चेहरे के लिए मुल्तानी मिट्टी का उपयोग करना चाहते है तो इसके लिए आप मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक बना सकते हैं। इस फेस पैक का अधिक लाभ लेने के लिए आप ऊपर दी गई सामग्री में से किसी भी एक को अपने पैक में मिक्स कर सकते हैं।

(यह भी पढ़ें – इन 10 आसान घरेलू फेस पैक से पाएं चमकती-दमकती त्वचा)

मुल्तानी मिट्टी फेस पर कब और कैसे लगाएं? – Multani mitti face par kab aur kaise lagaye

ऊपर दी गई सामग्री को मुल्तानी मिट्टी के साथ एक कटोरी में ले और अच्छे से मिलाकर एक चिकना पेस्ट बना लें। फिर अपने चेहरे को क्लींजर से धोएं और इस पेस्ट को अपने चेहरे पर अच्छे से लगायें। मुल्तानी मिट्टी के इस फेस पैक को आप दिन में कभी भी उपयोग कर सकती हैं। किसी पार्टी या प्रोग्राम में जाने से पहले आप सुंदर दिखने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकती हैं।

(यह भी पढ़ें – मुंहासों के लिए मुल्तानी मिट्टी का उपयोग कैसे करें)

सर्दियों में मुल्तानी मिट्टी कैसे लगाएं?How to apply Multani mitti in winter in Hindi?

सर्दियों में मुल्तानी मिट्टी कैसे लगाएं? - How to apply Multani mitti in winter in Hindi?

सर्दियों में ड्राई स्किन से छुटकारा पानें के लिए मुल्तानी मिट्टी फेस पैक का उपयोग कर सकती हैं। इसके लिए मुल्तानी मिट्टी में आप नींबू और टमाटर के रस को मिला कर अपने चेहरे पर लगा सकती हैं। इस फेस पैक को बनाने के लिए आप एक बड़ी चम्मच मुल्तानी मिट्टी, आधा चम्मच नींबू का रस और आधा चम्मच टमाटर का रस लें। एक चिकनी पेस्ट बनाने के लिए सबको एक कटोरी में अच्छी तरह से मिलाएं। फिर इस मिश्रण को अपने चेहरे पर अच्छी तरह से लगायें और सूखने दें। थोड़ी देर बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें।

(यह भी पढ़ें – ऑयली स्किन के लिए मुल्तानी मिट्टी फेस पैक)

मुल्तानी मिट्टी फेस पर कितनी देर लगानी चाहिए?Multani mitti face par kitni der tak lagani chahiye

ग्लोइंग फेस के लिए आप मुल्तानी मिट्टी के फेस पैक को 15 से 20 मिनिट तक लगा के रख सकती हैं। फिर नार्मल पानी के साथ एक मॉइस्चराइजर से अपने चेहरे को धो लें।

मुल्तानी मिट्टी को हफ्ते में कितनी बार लगाना चाहिए?How many times a week should Multani soil be applied in Hindi?

मुल्तानी मिट्टी को हफ्ते में कितनी बार लगाना चाहिए? - How many times a week should Multani soil be applied in Hindi?

चमकती त्वचा और तैलीय त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक हफ्ते में एक बार लगाना चाहिए। यह ब्लैक हेड्स और व्हाइटहेड्स को हटाने में मदद करता हैं।

मुल्तानी मिट्टी के नुकसान – Multani Mitti Ke Nuksan in Hindi

मुल्तानी मिट्टी के नुकसान क्या है? इसके बारें में अधिकतर लोग जानना चाहते हैं। चूँकि मुल्तानी मिट्टी एक प्राकृतिक मिट्टी है जो एक औषधि की तरह कार्य करती है, इसलिए मुल्तानी मिट्टी के नुकसान और कोई दुष्प्रभाव भी नहीं हैं। परंतु इसका इस्तेमाल करने से पहले आपको कुछ जरूरी बातें पता होनी चाहिए जो आपको मुल्तानी मिट्टी के नुकसान और इसके इस्तेमाल में होने वाली गलितियों से बचाएगा, जो निम्नलिखित हैं:-

  • मुल्तानी मिट्टी का उपयोग केवल त्वचा के ऊपर ही किया जाना चाहिए यह आतंरिक खपत योग्य नही है।
  • Multani mitti सूखी या सेंसिटिव त्वचा के लिए अच्छी नहीं मानी जाती है। इससे आपकी त्वचा सूखी व बेजान बन सकती है। इस दुष्प्रभाव को कम करने के लिए आप इसके इस दुष्प्रभाव से बचने के लिए मुल्तानी मिट्टी में बादाम का दूध और गुलाब जल को मिला सकती हैं।
  • मुल्तानी मिट्टी की प्रवृति ठंडी होती है, इसलिए जब आपको सर्दी-खाँसी आदि हो, तो इसके इस्तेमाल करने से बचना आपके लिए सही होगा।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration