महिलाओं को जरूर पता होने चाहिए मास्टरबेशन के ये टिप्स – Masturbation Tips That Women Should Be Aware In Hindi




महिलाओं को जरूर पता होने चाहिए मास्टरबेशन के ये टिप्स - Mahilaon Ke Liye Hastmaithun Karne Ke Upay In Hindi
Written by Daivansh

महिला हस्‍तमैथुन : पुरुषों की तरह महिलायें भी यौन सुख के लिए मास्टरबेशन यानी हस्‍तमैथुन का सहारा लेती हैं। यदि आप अभी भी इस धारणा से पीछे नहीं हट पा रहीं हिं कि हस्तमैथुन गंदा और अश्लील है – लेकिन सेक्स एक्सपर्ट्स और डॉक्टरों ने इसके ढेरों फायदे गिनाए हैं। मास्टरबेशन करने के पहले ये जान लें की “आपका शरीर केवल आपका है। खास बात तो यह है कि मास्टरबेशन महिलाओं के लिए भी बेहद फायदेमंद माना गया है।  किसी और को आपकी कामुकता को नियंत्रित नहीं करना चाहिए। अपने आप को बताएं कि यह आपके लिए स्वस्थ है, और आपके शरीर की सुंदरता की चीज है, शर्म की बात नहीं है।

अगर आपको मास्टरबेशन करना है तो धीरे-धीरे शुरू करें

आपको एक बार में सब कुछ करने की ज़रूरत नहीं है। यदि आप शर्मीले हैं, तो अपने आप को एक कंबल के साथ ढक सकतीं हैं। आराम से बस अपने आप को हल्के से स्पर्श करें और एक सेक्सी फैंटसी का पालन करें। या ऑर्गेज्म के दौरान अपनी टांगों को एक-दूसरे सटाकर रखें। अपने आप को यह पता लगाने का मौका दें कि आपके लिए क्या काम करता है। आपकी मास्टरबेशन की शुरुआत के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं तो चलिए मास्टरबेशन से संबंधित कुछ टिप्स के बारे में जानते हैं जो महिलाओं के काम आएंगे:

बेहतर ऑर्गेज्म देंगे मास्टरबेशन से जुड़े ये टिप्स

अपने भगशेफ क्लाइटोरिस और जी-स्पॉट को उंगली या सेक्स टॉय का उपयोग करके धीरे से उत्तेजित करें।

अपनी उंगलियों या सेक्स टॉय को अपनी योनि में डालें।

अपनी मास्टरबेशन यानी हस्तमैथुन करने की कल्पनाओं को स्वीकार करें। वे आपके हैं; आपको किसी को नहीं बताना है।

मास्टरबेशन के दौरान टांगों को करीब रखें

मास्टरबेशन के दौरान ऑर्गेज्म के लिए अपनी टांगों को एक-दूसरे सटाकर रखें। ऐसा करने से मास्टरबेशन के दौरान अधिक आनंद मिलता है। इस अवस्था में क्लाइटोरिस के पास उत्तेजना बढ़ जाती है जिससे मास्टरबेशन के दौरान अधिक उत्तेजना पैदा होती है।

हस्तमैथुन के लिए इन बॉडी पार्ट्स पर फोकस करें

मास्टरबेशन के दौरान यौन आनद के लिए भले ही क्लाइटोरिस और जी-स्पॉट को मुख्य माना जाता हो, लेकिन इनके अलावा पूरी बॉडी पर फोकस करें। महिला के शरीर में कई ऐसे क्षेत्र हैं जहाँ अधिक उत्तेजना महसूस होती बूब्स, कुल्हे, गर्दन जैसे शरीर के उन हिस्सों पर ध्यान केन्द्रित करें जहां अधिक उत्तेजना महसूस होती हो।

मास्टरबेशन के दौरान सेक्शुअल फैंटसी पर फोकस

मास्टरबेशन यानी हस्तमैथुन के लिए वक्त न हो तो सेक्शुअल फैंटसी पर फोकस करें। जो भी एरोटिक तरीका आपके लिए काम करता है, उसके लिए जाएं। क्योंकि आपका सबसे बड़ा यौन अंग आपका मस्तिष्क है, इसलिए इसे मास्टरबेशन में शामिल करें। सेक्शुअल ऐक्ट के दौरान उस खास पल पर फोकस करना चाहिए। इससे हस्तमैथुन में ज्यादा प्लेजर मिलता है।

सेक्स के छोटे सहायकों में से कुछ प्राप्त करें

एक वाइब्रेटर, स्नेहक, डीडो, जो भी आपके पास है और वह आपको मास्टरबेशन यानी हस्तमैथुन करने में अधिक यौन आनंद देता है।

बेहतर ऑर्गेज्म के लिए वॉटर मास्टरबेशन का फंडा

शॉवर लें। प्लेजर के साथ-साथ अगर रिलैक्सेशन भी चाहिए तो वॉटर मास्टरबेशन ट्राई करें। यानी पानी में मास्टरबेट करें। “यह वह जगह है जहाँ ज्यादातर लोगों को यह पता चलता है कि उन्हें क्या पसंद है। वे अकेले हैं, नग्न हैं, और उनके शरीर को छू रहे हैं। सेक्स एक्सपर्ट के अनुसार, इस तकनीक से बॉडी के साथ-साथ माइंड भी रिलैक्स हो जाता है। महिलाओं के लिए, यह एकमात्र ऐसी जगह होती है जहां वे बिना रुकावट के अकेले मास्टरबेशन यानी हस्तमैथुन कर सकतीं हैं।

मास्टरबेशन के दौरान मूत्र पथ के संक्रमण होने से बचें

मास्टरबेशन यानी हस्तमैथुन करते समय मूत्र पथ के संक्रमण होने से बचें। कभी भी जब आप अपने जननांगों के लिए कुछ भी कर रहे हैं, तो पहले और बाद में अपने हाथ धो लें। मास्टरबेशन यानी हस्तमैथुन करने के लिए उनका उपयोग करने के बाद सेक्स खिलौने को साफ करें, और यह एक समय है जब आपको अपने खिलौने को कभी भी साझा नहीं करना चाहिए। जब भी आप किसी छेज को गुदा में डालतीं हैं तो इसे बिना साफ किये योनि में नहीं डालना चाहिए इससे आपको मूत्र पथ के संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है।

और पढ़े –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration