योनि (वेजाइना) की मालिश कैसे करें - Yoni Massage Kaise kare in Hindi
सेक्स एजुकेशन

योनि (वेजाइना) की मालिश कैसे करें – Yoni Massage Kaise kare in Hindi

योनि (वेजाइनल) की मालिश कैसे करें - Yoni Massage Kaise kare in Hindi

Yoni Ki Malish Karne Ka Tarika योनि की मालिश कैसे करे? वेजाइनल मसाज या योनि की मसाज योनि को और हमारे शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य रखने का एक तरीका है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि योनि मसाज थेरेपी कैसे करें। हमारे शरीर के महत्‍वपूर्ण अंगों में योनि भी शामिल है। यह न केवल यौन सुख प्राप्‍त करने का माध्‍यम है बल्‍की प्रजनन के लिए एक मात्र अंग है। इसलिए योनि को स्‍वस्‍थ रखने के लिए मसाज थेरेपी का उपयोग किया जा सकता है। यदि आपको योनि मसाज थेरेपी के बारे में पता नहीं है तो इस लेख को पूरा पढ़ें। आपको यहां योनि मसाज कैसे करें और इससे क्‍या लाभ हो सकते हैं जैसी जानकारी प्राप्‍त होगी।

विषय सूची

1. योनि मसाज थेरेपी क्‍या है – Yoni Massage Therapy Kya Hai in Hindi
2. योनि मसाज थेरेपी के लाभ क्‍या हैं – Yoni Massage Therapy Ke Labh Kya Hai in Hindi
3. योनि मसाज थेरेपी के दौरान उत्‍तेजना और स्‍खलन – Yoni Massage Therapy Ke Douran uttejna aur shklan in Hindi
4. योनि मसाज थेरेपी कैसे शुरू करें – Yoni Massage Therapy kaise shuru kare in Hindi

5. योनि मसाज थेरेपी की तकनीक क्‍या है – Yoni Massage Therapy Ki Techniques Kya Hai in Hindi
6. योनि मसाज थेरेपी के लिए पोजिशन – Yoni Massage Therapy ke liye Positions in Hindi

7. जैसे-जैसे आप अपने योनि मसाज के अभ्‍यास में आगे बढ़ते हैं – As you move along in your practice in Hindi

योनि मसाज थेरेपी क्‍या है – Yoni Massage Therapy Kya Hai in Hindi

योनि मसाज थेरेपी क्‍या है – Yoni Massage Therapy Kya Hai in Hindi

जिन लोगों को इसके बारे में पता नहीं है उनका यह स्‍वाभाविक प्रश्‍न होता है कि योनि मसाज थेरेपी क्‍या है। यह एक प्रकार की कामुक मालिश है लेकिन आप इसे फोरप्‍ले या यौन गतिविध नहीं कह सकते हैं। योनि मसाज का उद्देशय आपके शरीर अधिक सहज महसूस करने में मदद करना है। वेजाइना का संस्‍कृत नाम योनी है जिसे महिला शरीर में एक पवित्र या प्रमुख स्‍थान माना जाता है। योनि किसी महिला के शरीर में बहुत ही नाजुक और संवेदनशील अंग होता है। योनि मसाज थेरेपी का उपयोग स्‍वयं अकेले या अपने साथी के साथ किया जा सकता है। आगे हम जानेगें योनि मसाज थेरेपी कैसे करें और योनि मसाज करने के फायदे क्‍या हैं।

(और पढ़े – योनि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी…)

योनि मसाज थेरेपी के लाभ क्‍या हैं – Yoni Massage Therapy Ke Labh Kya Hai in Hindi

योनि की मसाज करना आपको अपने शरीर की थकावट दूर करने का अच्‍छा तरीका है। योनि की मसाज करने से आपको अपने शरीर को एक धीमे, व्‍यवस्थित और कामुक तरीके से पहचानने और आनंद प्राप्‍त करने की अनुमति देता है। योनि मसाज थेरेपी लेने के लिए आपको किसी साथी की आवश्‍यकता नहीं है। आप अकेले ही योनि की मसाज कर सकते हैं। लेकिन यदि आपका साथी आपके इस काम में सहयोग करता है तो यह आपको और अधिक सुखद अनुभव करा सकता है। इस थेरेपी का उद्देश्‍य आपकी त्‍वचा को सहज महसूस कराना है। यदि आपकी योनि सेक्‍स के दौरान चोटिल (sexual trauma) हो गई है तब भी योनि मसाज थेरेपी आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकती है।

(और पढ़े – जानें क्या होता है लड़कियों की बॉडी मसाज करने का सही तरीका…)

योनि मसाज थेरेपी के दौरान उत्‍तेजना और स्‍खलन – Yoni Massage Therapy Ke Douran uttejna aur shklan in Hindi

योनि मसाज थेरेपी के दौरान उत्‍तेजना और स्‍खलन – Yoni Massage Therapy Ke Douran uttejna aur shklan in Hindi

किसी भी महिला के लिए योनि बहुत ही संवेदनशील अंग होता है। योनि में हल्‍का सा स्‍पर्श भी महिला को उत्‍तेजित कर सकता है। लेकिन योनि मसाज लेने के दौरान इसकी संभावना और अधिक बढ़ जाती है। क्‍योंकि इस दौरान मसाज योनि के बहुत से संवेदनशील क्षेत्रों पर केंद्रित होती है। संभव है कि मसाज के दौरान महिलाएं चरम सुख प्राप्‍त करें लेकिन यह मसाज का लक्ष्य नहीं है। मसाज के दौरान महिलाओं को चरम सुख प्राप्‍त हो सकता है और वे कई बार स्खलित भी हो सकती हैं। लेकिन मसाज करने से योनि की मांसपेशियों को स्‍वस्‍थ रखा जा सकता है। इसलिए योनि मसाज थेरेपी लेना महिलाओं के लिए अच्‍छा होता है।

(और पढ़े – महिला स्खलन क्या होता है और कैसे होता है…)

योनि मसाज थेरेपी कैसे शुरू करें – Yoni Massage Therapy kaise shuru kare in Hindi

शारीरिक और मानसिक लाभ प्राप्‍त करने के लिए योनि मसाज थेरेपी बहुत ही उपयोगी है। लेकिन योनि मसाज थेरेपी कैसे शुरू करें यह एक महत्‍वपूर्ण प्रश्‍न है। आप अपने मन को शांत करने के लिए इस विधि का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा आपके प्रजनन अंगों की मांसपेशियों के लिए भी योनि मसाज थेरेपी प्रभावी होती है। आइए जाने शारीरिक और मानसिक लाभ प्राप्‍त करने के लिए मसाज थेरेपी कैसे की जाती है।

योनि मसाज थेरेपी के लिए अपने दिमाग को तैयार करें – Prepare your mind for Yoni Massage Therapy  in Hindi

किसी भी प्रकार की शारीरिक या मानसिक लाभ प्राप्‍त करने के लिए आपको दिमागी रूप से तैयार होने की आवश्‍यकता है। इसका मतलब यह है कि योनि थेरेपी मसाज थेरेपी के लिए आप अपने दिमाग को पहले से तैयार रखें। यदि आपने कभी किसी तांत्रिक साधना (tantric practices) को नहीं आजमाया है तो आपको शुरुआत में अधिक मेहनत करने की आवश्‍यकता होती है। इस थेरेपी को लेने के दौरान महत्‍वपूर्ण है कि आप खुले दिल और दिमाग का उपयोग कर रहे हैं।

मसाज थेरेपी शुरु करने के लिए कुछ देर तक श्वास अभ्‍यास के साथ वार्म-अप करें। गहरी और धीमी स्‍वाश लें। आप जोर लगाकर पेट में हवा को भरें और खाली करें।

(और पढ़े – तांत्रिक सेक्स क्या है कैसे करें और फायदे…)

योनि मसाज थेरेपी के लिए अपना स्‍थान तैयार करें – Yoni Massage Therapy ke Liye apna Sthan taiyar kare in Hindi

योनि मसाज थेरेपी के लिए अपना स्‍थान तैयार करें – Yoni Massage Therapy ke Liye apna Sthan taiyar kare in Hindi

किसी भी काम को करने के पहले पूरी व्‍यवस्‍था करना आवश्‍यक है। इसी तरह से योनि मसाज थेरेपी के लिए आप अपने स्‍थान को तैयार करें। योनि मसाज थेरेपी लेने के लिए आप बिस्‍तर, फर्श या टेबल, कुर्सी का उपयोग कर सकती हैं। आप अपनी आवश्‍यकता और सुविधा के अनुसार इन चीजों का चुनाव कर सकते हैं। आप अधिक आरामदायक बनाने के लिए तकिया, गद्दे या कंबल आदि का भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इस प्रकार की थेरेपी अक्‍सर कामुक वातावरण में की जाती हैं इसलिए योनि मसाज थेरेपी लेने के दौरान आप कम लाइट या मोमबत्‍तीयों का सहारा लें सकते हैं। इस तरह से आप अपने लिए प्रभावी योनि मसाज थेरेपी लेने से पहले इस प्रकार की व्‍यवस्‍थाएं कर सकते हैं।

(और पढ़े – बॉडी मसाज के लिए बेस्ट तेल और इनके फायदे…)

योनि की मालिश के लिए अपने शरीर को तैयार करें – Yoni Massage Therapy ke Liye apne Sareer ko taiyar kare in Hindi

योनि की मसाज लेने के लिए आपको शारीरिक और मानसिक दोनों ही प्रकार से तैयार रहने की आवश्‍यकता होती है। जब आप थेरेपी लेने के लिए तैयार हों तब आपको इस प्रकार अपने शरीर को व्‍यवस्थित करना चाहिए।

  • अपनी पीठ और सिर के नीचे एक तकिया रखें।
  • अपने पैरों के घुटनों को मोड़ें और पैरों को जमीन में रखें।
  • अपनी योनि को खोलने के लिए आप अपने पैरों को फैलाएं।

इसके बाद आप अपनी योनि को हल्‍के हाथों से सहलाएं जिससे आपका शरीर उत्‍तेजित होता है।

  • आप अपने पेट की मालिश करें।
  • ऊपर बढ़ते हुए अपने स्‍तनों और इसके आसपास मालिश करें।
  • आप अपनी निप्‍पल्‍स को भी सहलाएं।
  • इसी तरह से आप अब नीचे अपनी योनि की तरफ आयें।
  • आप अपनी योनि के आसपास और आंतरिक जांघों की मालिश करें।

(और पढ़े – स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए ब्रेस्ट मसाज कैसे करें…)

योनि मसाज थेरेपी की तकनीक क्‍या है – Yoni Massage Therapy Ki Techniques Kya Hai in Hindi

योनि मसाज थेरेपी की तकनीक क्‍या है – Yoni Massage Therapy Ki Techniques Kya Hai in Hindi

योनि मसाज करने से महिलाओं को अद्भुद आनंद की प्राप्ति होती है। लेकिन जिन लोगों को योनि मसाज थेरेपी पता नहीं है उनके लिए योनि मसाज थेरेपी की तकनीक क्‍या है यह जानना आवश्‍यक है। यदि आप योनि की मालिश करना सीख रहे हैं तो आपको निम्‍न तकनीकें अपनानी चाहिए।

कपिंग (Cupping) – योनि की प्रभावी मालिश के लिए आप कपिंग तकनीक का उपयोग कर सकते हैं। आइए जाने कैसे।

इस तकनीक को अपनाने के लिए आप अपने हाथों से कप जैसी आकृति बनायें और इसे योनि के ऊपर रखें।

  • अपने हाथों को धीरे-धीरे गतिशील करें और योनि के ऊपर हाथों को घुमाएं।
  • अपने हाथों को रगड़ते हुए योनि को खोलने का प्रयास करें।
  • इस तरह से आप अपनी योनि की मालिश कर सकते हैं।

ऐसा करने पर योनि की मसाज के साथ ही आपको चरम सुख भी प्राप्‍त हो सकता है।

(और पढ़े – चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, पाने के तरीके और फायदे…)

चक्‍कर (Circling) इस तकनीक का उपयोग करने के लिए आपको अपनी उंगलियों का इस्‍तेमाल करना होता है।

  • आप अपनी एक उंगली को योनि में सीधा डालें।
  • उंग‍ली की नोक से क्लिटोरिस (clitoris) को क्‍लॉक वाइज और वामावर्त गतियों में गोल-गोल घुमाएं।
  • आपकी उंगलियों द्वारा लगाये जाने वाले चक्‍कर छोटे और तेज होने चाहिए।
  • विकल्‍प के रूप में आप अपनी उंगलियों को बदल-बदल कर योनि में चक्‍कर लगा सकते हैं।

ऐसा करने से क्लिटोरिस को उत्‍तेजित करने में मदद मिलती है साथ ही योनि की मांसपेशियों को भी स्‍वस्‍थ रखता है।

धक्‍का देना और खींचना (Pushing and pulling) आपकी योनि मसाज के लिए धक्‍का देना और खींचना एक प्रभावी तकनीक है। आइए जाने किस प्रकार इसे उपयोग किया जा सकता है।

  • अपने हाथों से योनि की क्लिटोरिस को धीरे-धीरे नीचे की तरफ धक्का लगाएं।
  • इसके बाद आप अपने भगशेफ (clitoris) पर दबाव बनाते हुए उंगली को शाफ्ट के नीचे तक खींचें।
  • इस तरह से क्लिटोरिस को नीचे की तरफ धक्‍का लगाएं और नीचे की तरफ खीचने की विधि को दोहरायें।

(और पढ़े – क्लिटोरिस क्या है और चरम सुख में इसकी क्या भूमिका है…)

टंगिंग (Tugging) – यह विधि भी योनि मसाज थेरेपी का एक हिस्‍सा है। जिसका उपयोग कर आप मसाज थेरेपी का आनंद ले सकते हैं।

  • आप अपने अंगूठे और तर्जनी के बीच क्लिटोरिस को धीरे से पकड़ें।
  • फिर धीरे-धीरे भगशेफ को शरीर से दूर खींचें और फिर छोड़ दें।
  • इसी तरह से योनि के होठों को शरीर से दूर खींचें और फिर छोड़ दें।
  • इस तरह से आप अपने गुप्‍तांगों में तनाव देने से आनंद प्राप्‍त कर सकते हैं।

रोलिंग (Rolling) इस विधि को योनि मसाज थेरेपी के लिए प्रमुख रूप से उपयोग किया जाता है।

  • आप अपने अंगूठे और तर्जनी के बीच भगशेफ को पकड़ें।
  • धीरे-धीरे अपने भगशेफ को उंगली और अंगूठे के बीच रगड़ें या मसलें।
  • इस तरह से आप अपनी योनि की मालिश कर सकते हैं।

ऐसा करने पर आपको उत्‍तेजना के साथ ही योनि मसाज भी मिल सकती है।

(और पढ़े – क्या होती है योनि में फिंगरिंग, इसके फायदे और नुकसान…)

योनि मसाज थेरेपी के लिए पोजिशन – Yoni Massage Therapy ke liye Positions in Hindi

अद्वितीय योनि मालिश की तकनीकों के अलावा आप और आपके साथी इस थेरेपी के लिए कई पोजिशनों का उपयोग कर सकते हैं। इन पोजिशनों का उपयोग करने पर आपको उत्‍तेजना बढ़ाने, चरम सुख प्राप्‍त करने और विशेष रूप से योनि की मालिश करने में आसानी हो सकती है। आइए जाने योनि मसाज थेरेपी के लिए पोजिशन या स्थितियों के बारे में।

यदि आप अकेले योनि मसाज थेरेपी ले रहे हैं – Yadi Aap Akele Yoni Massage Therapy le rahe hai in Hindi

यदि आप अकेले योनि मसाज थेरेपी ले रहे हैं – Yadi Aap Akele Yoni Massage Therapy le rahe hai in Hindi

सोलो योनि मसाज (Solo yoni massage) एक अद्भुद अभ्‍यास है। यह एक ऐसी स्थिति है जहां आपको अधिक आराम मिलता है। आइए जाने सोलो वेजाइनल मसाज की पोजिशन क्‍या हो सकती हैं।

वेजाइनल मसाज की कमल की स्थिति (Lotus positions) इस स्थिति में आपको योनि मसाज लेना बहुत ही सरल और आनंदित कर सकता है।

  • पीठ को सीधा रखते हुए अपने पैरों पर (पालथी मारकर) बैठें।
  • अपनी हथेलियों को अपने पैरों के घुटनों के उपर रखें।
  • अपने पेट से धीरे-धीरे सांस लें और फिर छोड़ें।

वेजाइनल मसाज के लिए दिल पर हाथ (Heand on Heart) – योनि मसाज करने से पहले आपको इस स्थिति को भी आजमाना चाहिए।

  • आप अपने पैरों पर बैंठें और पीठ को सीधा रखें।
  • अपने दाहिने हाथ को अपने दिल के ऊपर रखें।
  • अपनी आंखें बंद कर लें और अपने दिल की लय को महसूस करें।
  • गहरी सांस लें और फिर छोड़ें।

(और पढ़े – जानिए महिलाओं की योनि (वजाइना) कितने प्रकार की होती है…)

यदि आपके साथ योनि की मालिश के लिए एक साथी है – If you’re with a partner in Hindi

योनि मसाज लेते समय यदि आपके साथ आपका साथी है तो आपके आनंद को और अधिक बढ़ाया जा सकता है। आपके साथ के साथ होने पर योनि मसाज के लिए किन स्थितियों का अपनाया जा सकता है आइए जानें।

वेजाइनल मसाज के लिए कमल पोजीशन (Lotus)

  • आप अपने साथी को सीधा बैठने (पालथी मारकर) के लिए कहें।
  • अपने पैरों को साथी से लपेटते हुए पुरुष साथी की तरफ मुंह करके उसकी जांघों में आराम से बैठें।
  • आपकी एडियां पुरुष साथी की पीठ को स्‍पर्श करनी चाहिए।
  • इस स्थिति में कुछ देर बैठें और आंखें बंद करके गहरी सांस लें।
  • अब आप योनि मसाज थेरेपी के लिए तैयार हैं।

योनि मसाज के लिए स्‍पूनिंग पोजीशन (Spooning)

  • आपको अपने साथी के साथ बिस्‍तर में या गद्देदार फर्श पर लेटकर शुरुआत करनी चाहिए।
  • मसाज प्राप्‍त करने वाले व्‍यक्ति को अपने पैरों को थोड़ा मोड़ना चाहिए।
  • इस स्थिति में कुछ देर रहें और आंखें बंद करके गहरी सांस लें।
  • अब आप योनि मसाज थेरेपी के लिए तैयार हैं।

(और पढ़े – सेक्स के लिए अपनी महिला साथी को ऐसे करें उत्तेजित…)

जैसे-जैसे आप अपने योनि मसाज के अभ्‍यास में आगे बढ़ते हैं – As you move along in your practice in Hindi

धीरे-धीरे अभ्‍यास करने पर आप योनि की मसाज करने या लेने में सफलता प्राप्‍त कर सकते हैं। जैसा कि आप तंत्र या योनि मालिश के साथ अधिक कुशल हो जाते हैं। आप नई तकनीकों की कोशिश कर सकते हैं। जो आपके लिए अधिक सुखद हो सकते हैं।

वेजाइनल मसाज में जी-स्‍पॉट की मालिश – G-Spot Massage in Hindi

वेजाइनल मसाज में जी-स्‍पॉट की मालिश – G-Spot Massage in Hindi

जैसा कि हम सभी जानते हैं योनि महिलाओं में बहुत ही संवेदनशील अंग होता है। जी-स्‍पॉट को पवित्र स्‍थान के रूप में जाना जाता है। इसकी मालिश करने से तीव्र आनंद की अनुभूति प्राप्‍त हो सकती है।

योनि मसाज लेने के लिए यह करें :

  • सबसे पहले आप अपनी पहली या दूरी उंगली को C के आकार में मोड़ें।
  • धीरे से उंगली को अपनी योनि के अंदर डालें। योनि के अंदर प्रवेश करते समय उंगली में चिकनाई का उपयोग कर सकते हैं।
  • जब उंगली पूरी तरह से योनि में प्रवेश कर जाये तो योनि के अंदर धीरे से मालिश करें।
  • सुखद अनुभव करने के लिए आपको अपनी भगशेफ पर ध्‍यान केंद्रित करना चाहिए। जब यह उंलियों तक पहुंच जाये तो धीरे-धीरे इसकी भी मालिश करें।
  • आप अपनी योनि के अंदर उंगली फैलाने और सिकोड़ने का काम भी कर सकते हैं।
  • आप अपनी उंगली से योनि में तेज और हल्‍के धक्‍के भी लगा सकते हैं।
  • अतिरिक्‍त सनसनी के लिए आप अपने दूसरे हाथ का उपयोग भी भगशेफ को सहलाने के लिए कर सकते हैं।

(और पढ़े – जी स्पॉट क्या है, कहां होता है और जी स्पॉट कैसे उत्तेजित करें…)

योनि मसाज थेरेपी के दौरान संभोग नियंत्रण – Yoni Massage Therapy Ke Douran Orgasm Control in Hindi

योनि मसाज थेरेपी के दौरान संभोग नियंत्रण – Yoni Massage Therapy Ke Douran Orgasm Control in Hindi

एजिंग (Edging) चरमोत्‍कर्ष को रोकने के लिए कामोन्‍माद तक पहुंचने और पीछे हटने का अभ्‍यास है। जब आप संभोग करते हैं तो यह बढ़ी हुई सनसनी और अधिक चरमोत्‍कर्ष को जन्‍म दे सकता है।

  • जब आप महसूस करते हैं कि आपका शरीर चरमोत्‍कर्ष पर पहुंच रहा है तो अपनी गतिविधियों को धीमा करें।
  • धीरे से अपना और अपने साथी के हाथ को योनि से दूर करें।
  • अपने आप को शांत करें। अपने दिल पर हाथ रखें और गहरी सांसें और धीरे-धीरे सांस लें।
  • जब आप पूरी तरह से शांत हो जाये तब आप हस्‍तमैथुन फिर से शुरु करें या अपने साथी को फिर से योनि मसाज के लिए कहें।
  • आप अपने चरमोत्‍कर्ष को फिर से रोक सकते हैं या प्राप्‍त कर सकते हैं। लेकिन आप जितनी बार चरमोत्‍कर्ष को रोकेगें आपको उतना ही अधिक सुख प्राप्‍त होगा।

हालांकि योनि मसाज थेरेपी के लिए किसी पेशेवर व्‍यक्ति की आवश्‍यकता नहीं होती है। फिर भी आप चाहें तो एक विशेषज्ञ की मदद ले सकते हैं। ये अपने अनुभव के आधार पर आपको योनि मसाज देने के तरीके बता सकते हैं।

(और पढ़े – महिलाएं कैसे करती है हस्तमैथुन जाने सोलो प्ले के लिए टिप्स और ट्रिक्स…)

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Reference

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration