इमली के पत्ते के फायदे और नुकसान – Tamarind Leaves Benefits And Side Effects In Hindi

इमली के पत्ते के फायदे और नुकसान - Tamarind Leaves Benefits And Side Effects In Hindi
Written by Jaideep

Imli Ke Patte Ke Fayde In Hindi इमली का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। लेकिन क्‍या आप इमली के पत्ते के फायदे जानते हैं। इमली का पेड़ औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इस कारण ही इमली के पत्‍तों में भी पर्याप्‍त मात्रा में औषधीय गुण होते हैं। इमली की पत्तियों का उपयोग विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। इस लेख में आप इमली के पत्ते के फायदे और नुकसान जानेंगे।

1. इमली के पत्ते के फायदे – Imli Ke Patte Ke Fayde In Hindi

2. इमली के पत्ते के नुकसान – Imli Ke Patte Ke Nuksan in Hindi

इमली के पत्ते के फायदे – Imli Ke Patte Ke Fayde In Hindi

  1. इमली के पत्ते का फायदा मलेरिया में – Imli Ke Patte Ke Fayde Malaria Ke Liye in Hindi
  2. इमली के पत्ते का उपयोग मधुमेह के लिए – Tamarind leaves benefits for diabetes in Hindi
  3. इमली की पत्ती के फायदे स्‍कर्वी के लिए – Tamarind leaves Benefits for Scurvy in Hindi
  4. इमली की पत्ती के फायदे जननांग संक्रमण में – Tamarind leaves for Genital Infections in Hindi
  5. इमली के पत्ते के औषधीय गुण सूजन का इलाज – Imli ke patte sujan ka ilaj in Hindi
  6. इमली पत्‍तों का सेवन मौखिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Tamarind leaves Good For Oral Health in Hindi
  7. इमली के पत्तों से करें अल्‍सर का इलाज – Imli ke patte ke fayde for treat ulcer in Hindi
  8. इमली के पत्ते के लाभ करें रक्‍तचाप को कम – Tamarind Leaves For Blood Pressure in Hindi
  9. इमली की पत्ती का उपयोग मासिक धर्म में – Tamarind Leaves Benefits For Menstrual Cramps in Hindi
  10. इमली के पत्तों का सेवन स्‍तनपान में मदद करे – Tamarind Leaves Improves Lactation in Hindi
  11. इमली के पत्ते का उपयोग घाव ठीक करे – Tamarind Leaves To Heal Wounds in Hindi

इमली के पत्ते के फायदे मधुमेह को रोकने, मासिक धर्म के लिए, मलेरिया का उपचार करने, सूजन को कम करने, प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करने, स्‍कर्वी का इलाज करने आदि के लिए होते हैं। आइए विस्‍तार से जाने इमली के पत्ते किस प्रकार हमें लाभ पहुंचाते हैं।

इमली के पत्ते का फायदा मलेरिया में – Imli Ke Patte Ke Fayde Malaria Ke Liye in Hindi

इमली के पत्ते का फायदा मलेरिया में - Imli Ke Patte Ke Fayde Malaria Ke Liye in Hindi

हम सभी जानते हैं कि मलेरिया मच्‍छरों के काटने और हमारे आसपास फैली गंदगी के कारण होता है। मलेरिया का समय पर इलाज न किया जाए तो यह गंभीर स्थिति पैदा कर सकता है। लेकिन आप मलेरिया के घरेलू उपाय के रूप में इमली के पत्‍तों का उपयोग कर सकते हैं। इमली के पत्‍तों के अर्क में ऐसे गुण होते हैं जो प्‍लास्‍मोडियम फाल्‍सीपेरम (plasmodium falciparum) के विकास को रोकता है। जिससे मलेरिया रोगी को राहत मिलती है। यदि आप या आपके परिचित मलेरिया से ग्रसित हैं तो आप उपचार के लिए इमली के पत्‍तों के अर्क का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़े – मलेरिया के कारण, लक्षण और बचने के घरेलू उपाय…)

इमली के पत्ते का उपयोग मधुमेह के लिए – Tamarind leaves benefits for diabetes in Hindi

इमली के पत्ते का उपयोग मधुमेह के लिए - Tamarind leaves benefits for diabetes in Hindi

उच्‍च रक्‍त शर्करा की समस्‍या आज लगभग आधे से अधिक लोगों को है। मधुमेह दो प्रकार का होता है डायबिटीज प्रकार 1 और डायबिटीज प्रकार 2। मधुमेह प्रकार 1 त‍ब होता है जब शरीर में इंसुलिन उत्‍पादन की क्षमता कम हो जाती है। जबकि मधुमेह प्रकार 2 तब होता है जब शरीर आवश्‍यकता के अनुसार इंसुलिन का उत्‍पादन नहीं करता है। लेकिन आप दोनो प्रकार के मधुमेह के लक्षणों को कम करने के लिए इमली के पत्‍तों का उपयोग कर सकते हैं। यह न केवल शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को कम करता है बल्कि इंसुलिन के उत्‍पादन को भी बढ़ाता है। इमली के पत्ते का उपयोग मधुमेह निय‍ंत्रण के लिए किया जा सकता है।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार…)

इमली की पत्ती के फायदे स्‍कर्वी के लिए – Tamarind leaves Benefits for Scurvy in Hindi

इमली की पत्ती के फायदे स्‍कर्वी के लिए - Tamarind leaves Benefits for Scurvy in Hindi

विटामिन सी की कमी के कारण स्‍कर्वी रोग होता है। अक्‍सर इसे नाविक की बीमारी के नाम से जाना जाता है। स्‍कर्वी मुख्‍य रूप से संक्रमित मसूड़ों से संबंधित समस्‍या है जो नाखुनों को भी प्रभावित करती है। इस प्रकार की समस्‍या से छुटकारा पाने के लिए इमली की पत्तियों का उपयोग फायदेमंद होता है। क्‍योंकि इमली के पत्‍तों में एस्‍कॉर्बिक एसिड (ascorbic acid) होता है। यह एंटी-स्‍कर्वी विटामिन का काम करता है। यदि आप स्‍कर्वी रोग के लक्षणों को कम करना चाहते हैं तो इमली के पत्‍तों का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – स्कर्वी रोग क्या है, लक्षण, कारण, उपचार और रोकथाम…)

इमली की पत्ती के फायदे जननांग संक्रमण में – Tamarind leaves for Genital Infections in Hindi

इमली की पत्ती के फायदे जननांग संक्रमण में - Tamarind leaves for Genital Infections in Hindi

अधिकांश लोग गुप्‍तागों की खुजली और संक्रमण से परेशान रहते हैं। इस प्रकार की समस्‍या का इलाज इमली के पत्ते से किया जा सकता है। इसके लिए इमली के पत्‍तों का अर्क बनाकर प्रभावित क्षेत्र में लगाएं। यह अर्क जननांग क्षेत्र के संक्रमण को रोकने में मदद करता है। जिन लोगों को इस प्रकार की समस्‍या है वे इमली के पत्ते के लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

(और पढ़े – योनी में खुजली, जलन और इन्फेक्शन के कारण और घरेलू इलाज…)

इमली के पत्ते के औषधीय गुण सूजन का इलाज – Imli ke patte sujan ka ilaj in Hindi

इमली के पत्ते के औषधीय गुण सूजन का इलाज - Imli ke patte sujan ka ilaj in Hindi

प्राचीन समय से ही आयुर्वेद में सूजन संबंधी समस्‍याओं का इलाज करने के लिए इमली के पत्ते उपयोग किये जा रहे हैं। इमली के पत्‍तों में एंटीइंफ्लामेटरी गुण होते हैं। इन गुणों के कारण इमली के पत्ते सूजन का इलाज करने में मदद करते हैं। यदि आप भी गठिया या अन्‍य चोट की सूजन से परेशान हैं तो इमली के पत्‍तों का इलाज के रूप में उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – सूजन के कारण, लक्षण और कम करने के घरेलू उपाय…)

इमली पत्‍तों का सेवन मौखिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Tamarind leaves Good For Oral Health in Hindi

इमली पत्‍तों का सेवन मौखिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए - Tamarind leaves Good For Oral Health in Hindi

दांतों के दर्द और अन्‍य मुंह संबंधी समस्‍याओं के लिए इमली के पत्ते फायदेमंद होते हैं। इस प्रकार की समस्याओं से बचने के लिए मुंह की अच्‍छी सफाई आवश्‍यक है। मुंह में होने वाले संक्रमण और अन्‍य समस्‍याओं से मुंह की दुर्गंध आ सकती है। इन सभी समस्‍याओं के उपचार के लिए इमली के पत्ते लाभकारी होते हैं। आप भी अपने दांतों को स्‍वस्‍थ्‍य रखने और मौखिक स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के लिए इमली के पत्‍तों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़े – दाँतों की देखभाल कैसे करे…)

इमली के पत्तों से करें अल्‍सर का इलाज – Imli ke patte ke fayde for treat ulcer in Hindi

इमली के पत्तों से करें अल्‍सर का इलाज - Imli ke patte ke fayde for treat ulcer in Hindi

अपने औषधीय गुणों के कारण अल्‍सर के इलाज के लिए इमली के पत्ते उपयोग किये जाते हैं। अल्‍सर एक बहुत ही कष्‍टदायक समस्‍या है। क्‍योंकि इसके दौरान असहनीय दर्द होता है। इमली के पत्‍तों से निकाले गए रस का उपयोग अल्‍सर उपचार के लिए किया जा सकता है। आप भी अल्‍सर के लक्षणों को कम करने के लिए इमली के पत्‍तों का उपभोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – पेप्टिक अल्सर या पेट में अल्सर (छाले) क्या है, कारण, लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार…)

इमली के पत्ते के लाभ करें रक्‍तचाप को कम – Tamarind Leaves For Blood Pressure in Hindi

इमली के पत्ते के लाभ करें रक्‍तचाप को कम - Tamarind Leaves For Blood Pressure in Hindi

आज की इस व्‍यस्‍त जीवन शैली में उच्‍च रक्‍तचाप की समस्‍या बहुत ही आम हो चुकी है। जिसके परिणाम बहुत ही गंभीर हो सकते हैं। इमली की पत्तियों का उपयोग कर आप रक्‍तचाप को नियंत्रित कर सकते हैं। सामान्‍य या निम्‍न रक्‍तचाप होने से आप स्‍ट्रोक और हृदय संबंधी समस्‍याओं से बच सकते हैं। इस तरह से हृदय को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए आप इमली के पत्‍तों का उपभोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – हाइ ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करगे ये आयुर्वेदिक हर्ब्‍…)

इमली की पत्ती का उपयोग मासिक धर्म में – Tamarind Leaves Benefits For Menstrual Cramps in Hindi

इमली की पत्ती का उपयोग मासिक धर्म में - Tamarind Leaves Benefits For Menstrual Cramps in Hindi

महिलाओं के लिए मासिक धर्म बहुत ही कष्‍टदायक होता है। इस दौरान महिलाओं को गंभीर दर्द और ऐंठन का सामना करना पड़ता है। लेकिन इस समस्‍या का समाधान करने के लिए इमली के पत्ते लाभदायक होते हैं। दर्द को कम करने और म‍ासिक धर्म को नियमित करने के लिए इमली की पत्‍तीयों और इसकी छाल का अर्क तैयार कर सकते हैं। इस अर्क का सेवन महिलाओं को इस प्रकार की समस्‍या से राहत दिला सकता है। क्‍योंकि इमली के पत्‍तों में दर्द निवारक गुण (analgesic) होते हैं। इस तरह से इमली के पत्ते महिला स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – पीरियड्स में दर्द का इलाज…)

इमली के पत्तों का सेवन स्‍तनपान में मदद करे – Tamarind Leaves Improves Lactation in Hindi

इमली के पत्तों का सेवन स्‍तनपान में मदद करे - Tamarind Leaves Improves Lactation in Hindi

महिला स्‍वास्‍थ्‍य के लिए इमली के पत्ते बहुत ही फायदेमंद होते हैं। ये न केवल महिला स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देते हैं बल्कि स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं में दूध उत्‍पादन को भी उत्‍तेजित करते हैं। जिससे शिशुओं को पर्याप्‍त और पौष्टिक आहार मिलता है। इस तरह से इमली के पत्ते महिलाओं और बच्‍चों के लिए फायदेमंद होते हैं।

(और पढ़े – बच्चे को दूध पिलाने (स्तनपान कराने) के तरीके और टिप्स…)

इमली के पत्ते का उपयोग घाव ठीक करे – Tamarind Leaves To Heal Wounds in Hindi

इमली के पत्ते का उपयोग घाव ठीक करे - Tamarind Leaves To Heal Wounds in Hindi

चोट और अन्‍य प्रकार के घावों का इलाज करने के लिए इमली के पत्ते फायदेमंद होते हैं। इन पत्तियों से निकाले गए रस का उपयोग घावों को ठीक करने के लिए किया जा सकता है। इमली की पत्तियों में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो घावों को जल्‍दी और प्रभावी रूप से ठीक करने में मदद करते हैं। इसके अलावा इमली के पत्‍तों का उपयोग अन्‍य प्रकार के त्‍वचा संक्रमण को भी ठीक करने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – एक्जिमा क्या है, कारण, लक्षण, बचाव और घरेलू उपचार…)

इमली के पत्ते के नुकसान – Imli Ke Patte Ke Nuksan in Hindi

इमली के पत्ते के नुकसान - Imli Ke Patte Ke Nuksan in Hindi

सामान्‍य रूप से इमली के पत्‍तों का उपयोग स्‍वास्थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। इमली के पत्‍तों के अब तक कोई ज्ञात दुष्‍प्रभाव ज्ञात नहीं हैं। लेकिन फिर भी आपको सलाह दी जाती है कि इमली के पत्‍तों का उपयोग बहुत ही कम मात्रा में करें।

यदि आप किसी विशेष उद्देश्‍य के लिए दवाओं का सेवन कर र‍हे हैं तो इमली के पत्‍तों का सेवन करने से पहले अपने चिकित्‍सक से सलाह जरूर लें।

(और पढ़े – इमली के फायदे और नुकसान…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration