सफेद मूसली के फायदे महिलाओं के लिए – Safed Musli Benefits For Ladies in Hindi

सफेद मूसली के फायदे महिलाओं के लिए - Safed Musli Benefits For Ladies in Hindi
Written by Pratistha

सफेद मूसली के फायदे महिला स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद लाभकारी होते हैं। महिलाओं के लिए भी सफेद मूसली का उपयोग आयुर्वेदिक जड़ी बूटी के रूप में किया जाता है। सफेद मूसली के औषधीय गुणों के कारण इसका उपयोग विभिन्‍न प्रकार की दवाओं में किया जाता है साथ ही सफेद मूसली के कैप्‍सूल का व्‍यापक उपयोग किया जाता है। सफेद मूसली का इस्तेमाल विशेष रूप से यौन स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के लिए किया जाता है। आयुर्वेदिक में सफेद मूसली या क्लोरोफिटम बोरेवियायनम की जड़ के पाउडर का उपयोग किया जाता है। आज इस आर्टिकल में आप सफेद मूसली के फायदे महिलाओं के लिए क्‍या हैं के बारे में जानेंगे।

1. सफेद मूसली क्‍या है – Safed Musli Kya Hai in Hindi
2. महिलाओं के लिए सफेद मूसली के फायदे – Mahilao ke liye Safed Musli Ke Fayde in Hindi

3. महिलाओं के लिए सफेद मुस्ली के नुकसान – Mahilao ke liye Safed Musli Ke Nuksan in Hindi

सफेद मूसली क्‍या है – Safed Musli Kya Hai in Hindi

सफेद मूसली क्‍या है - Safed Musli Kya Hai in Hindi

यौन स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के लिए सफेद मूसली का उपयोग किया जाता है। सफेद मूसली को अन्‍य कई नामों जैसे व्‍हाइट मूसली, इंडियन स्‍पाइडर प्‍लांट, श्‍वेत मूसली आदि से भी जाना जाता है। यह एक कांटेदार पौधा है जिसका उपयोग औषधीय और चिकित्‍सीय उपयोग के लिए इस्‍तेमाल किया जाता है। इस पौधे का औषधीय उपयोग करने वाला हिस्‍सा इसकी जड़ होती है जो कि कामोद्दीपक का काम करता है। सफेद मूसली के गुण नपुंसकता, और यौन उत्‍तेजना आदि की कमी को दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है। यह वियाग्रा आदि रासायनिक उत्‍पादों के विकल्‍प के रूप में उपयोग किया जाता है।

(और पढ़ें – महिलाओं की यौन स्वास्थ्य समस्याएं और समाधान)

महिलाओं के लिए सफेद मूसली के फायदे – Mahilao ke liye Safed Musli Ke Fayde in Hindi

महिलाओं के लिए सफेद मूसली के फायदे – Mahilao ke liye Safed Musli Ke Fayde in Hindi

हमारे भारतीय आयुर्वेद में विभिन्‍न प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने के लिए जड़ी बूटीयों का व्‍यापक उपयोग किया जाता है। शारीरिक शक्ति, सहनशक्ति, यौन स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार और स्‍त्री रोगों को दूर करने के लिए सफेद मूसली का उपयोग किया जाता है। महिलाओं के लिए सफेद मूसली के फायदे जानकर आप हैरान रह जाएगें। क्‍योंकि यह जड़ी बूटी है ही इतनी प्रभावी। इस लेख को पढ़ने के बाद आप सफेद मूसली का उपयोग किये बिना नहीं रह पाएगें। आइए विस्‍तार के जाने सफेद मूसली क्‍या है और यह महिला स्‍वास्‍थ्‍य के लिए किस प्रकार लाभदायक है।

(और पढ़ें – रिश्ते में शारीरिक संबंध बनाना क्यों महत्वपूर्ण होता है)

सफेद मूसली महिलाओं की कामेच्‍छा बढ़ाएं – Safed Musli For Increase Women Libido in Hindi

सफेद मूसली महिलाओं की कामेच्‍छा बढ़ाएं - Safed Musli For Increase Women Libido in Hindi

जीवन के प्रत्‍येक चरण में महिलाओं को स्‍वास्‍थ्‍य का खतरा अधिक रहता है। मासिक धर्म, गर्भावस्‍था, स्‍तनपान, बच्‍चों की देखभाल और रोजनिवृत्ति आदि लक्षण उनके स्‍वास्‍थ्‍य और प्रजनन क्षमता को प्रभावित करते हैं। अधिकांश महिलाओं को उम्र के साथ ही संभोग करने की इच्‍छाएं कम होने लगती हैं जो उनके रिश्‍तों को खराब कर सकता है। जिससे उनमें मानसिक तनाव और व्‍यक्तिगत जीवन में परेशानीयों का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन महिलाओं की कामेच्‍छा को बढ़ाने के लिए प्राकृतिक उपाय के रूप में सफेद मूसली या इससे बने कैप्‍सूल का उपयोग किया जा सकता है। चूंकि ये महिला शरीर में कमजोरियों और दुर्बलताओं को दूर करने में सहायक होती है। सफेद मूसली का उपयोग ऊर्जा बढ़ाने और जीवन शक्ति में सुधार करता है। इस तरह से महिलाओं के यौन स्वास्‍थ्‍य और सामान्‍य स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देते हैं।

(और पढ़ें – महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए हार्मोन का महत्व)

महिलाओं के लिए सफेद मूसली के लाभ रजोनिवृत्ति के लिए – Safed Musli Ke Labh Rajonivritti Ke Liye in Hindi

महिलाओं के लिए सफेद मूसली के लाभ रजोनिवृत्ति के लिए - Safed Musli Ke Labh Rajonivritti Ke Liye in Hindi

सफेद मूसली एक ऐसी जड़ी बूटी है जिसमें बहुत से पोषक तत्‍वों की भरपूर मात्रा होती है। यह विशेष रूप से महिलाओं के शरीर में होने वाले कई प्रकार के असुविधाजनक लक्षणों को कम करने में मदद करते हैं। महिलाओं के लिए सफेद मूसली के लाभ होते हैं क्‍योंकि इसमें विटामिन, एंजाइम, खनिज पदार्थ, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट आदि होते हैं। ये पोषक तत्‍व शारीरिक कमियों को दूर करते हैं और ऊर्जा स्‍तर में वृद्धि करते हैं। महिलाओं में हार्मोन असंतुलन एक विशेष समस्‍या है। हर महीने महिलाओं में आने वाले पीरियड्स के कारण हार्मोन परिवर्तन होता है। गर्भावस्‍था के दौरान माहवारी रूक जाती है, लेकिन पूरे नौ महीने तक हार्मोन अधिक सक्रिय रहते हैं।

प्रसव के बाद हार्मोन के स्‍तर में भारी बदलाव होता है जो सामान्‍य होने में काफी समय ले लता है। जो कि धीरे धीरे रजोनिवृत्ति के लक्षणों को बढ़ा सकता है। लेकिन आप इस प्रकार की समस्‍या से बचने और हार्मोन संतुलन के लिए सफेद मूसली के औषधीय गुणों के लाभ ले सकतीं हैं।

(और पढ़ें – मासिक धर्म (पीरियड्स) के देर से आने के कारण और उपाय)

सफेद मूसली के औषधीय गुण महिलाओं में मासिक धर्म ठीक करे – Safed musli Benefits for Menstrual in Hindi

सफेद मूसली के औषधीय गुण महिलाओं में मासिक धर्म ठीक करे - Safed musli Benefits for Menstrual in Hindi

इस औषधी का उपयोग शरीर में हार्मोन संतुलित करने के लिए फायदेमंद होते हैं। साथ ही यह स्‍वस्‍थ ग्रंथियों में हार्मोनल उतार चढ़ाव को को रोकता है दुष्‍प्रभावों को कम करता है। सफेद मूसली का उपयोग महिलाओं में मासिक धर्म के लक्षणों को कम करने में मदद करता है जिससे गर्भाधान की अनुमति प्राप्‍त होती है। नियमित रूप से सफेद मूसली का सेवन मासिक धर्म को नियमित करने, भारी रक्‍त स्राव को रोकने, पीरियड्स के दौरान दर्द और ऐंठन को कम करने में मदद करता है। इसके साथ ही सफेद मूसली का इस्तेमाल करने से महिलाओं के गर्भाशय को भी स्‍वस्‍थ्‍य और मजबूत रखने में मदद मिलती है। इस तरह से सफेद मूसली के फायदे महिलाओं के लिए लाभकारी होते हैं।

(और पढ़ें – पीरियड्स जल्दी लाने और रोकने के घरेलू उपाय)

सफेद मूसली खाने के फायदे महिला स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Safed musli ke fayde mahila swasthya ke liye in Hindi

सफेद मूसली खाने के फायदे महिला स्‍वास्‍थ्‍य के लिए - Safed musli ke fayde mahila swasthya ke liye in Hindi

प्राचीन काल से ही बच्‍चे के जन्‍म के बाद से महिलाओं को विशेष खाद्य पदार्थों का सेवन कराया जाता है। सफेद मूसली भी एक ऐसा ही खाद्य पदार्थ है जो महिलाओं के स्‍वास्‍थ्‍य में वृद्धि करने में मदद करता है। यह जड़ी बूटी बहुत ही पौष्टिक और लाभकारी होती है। मासिक धर्म के दौरान हर महिने होने वाले रक्‍त स्राव से महिलाओं में खून की कमी हो जाती है जिसके कारण वे कमजोर हो जाती हैं। लेकिन सफेद मूसली में मौजूद खनिज पदार्थ रक्‍त उत्‍पादन की क्षमता को उत्‍तेजित करने में मदद करते हैं। सफेद मूसली में जिंक की पर्याप्‍त मात्रा होती है जो रक्‍त वाहिकाओं को स्‍वस्‍थ्‍य रखता है और उचित रक्‍त प्रवाह में मदद करता है।

सफेद मूसली में ऐसे खनिज पदार्थ होते हैं जिनकी कमी से किसी महिला को एनीमिया, ऑस्टियोपोरोसिस आदि समस्‍याएं हो सकती हैं। लेकिन सफेद मूसली इन सभी समस्‍याओं की संभावना को कम कर सकती है।

सफेद मूसली महिलाओं में चयापचय को बढ़ाए – Safed Musli metabolism ko badhaye in Hindi

सफेद मूसली महिलाओं में चयापचय को बढ़ाए - Safed Musli metabolism ko badhaye in Hindi

कमजोर चयापचय होने के कारण शरीर में महत्‍वपूर्ण पोषक तत्‍वों की कमी हो सकती है। महिलाएं आमतौर पर तनाव और नींद की कमी से प्रभावित होती हैं जो चयापचय के कमजोर होने के लक्षण होते हैं। महिलाओं में पीरीयड्स के दौरान या प्रारंभ होने के 1 सप्‍ताह पूर्व से ही हार्मोन परिवर्तन होने लगते हैं जिससे उनकी नींद की गुणवत्‍ता प्रभावित होती है। हार्मोनल उतार-चढ़ाव मेटाबॉलिज्‍म को धीमा करता है जो आहार के माध्‍यम से पोषक तत्‍तवों के अवशोषण को कम कर सकता है। लेकिन महिलाओं के लिए सफेद मूसली के फायदे विविध और विशाल होते हैं। सफेद मूसली के फायदे हार्मोनल संतुलन बनाए रखती है और विभिन्‍न समस्‍याओं को दूर कर सकती है।

(और पढ़ें – अच्छी नींद के लिए सोने से पहले खाए जाने वाले खाद्य पदार्थ)

महिलाओं के लिए सफेद मूसली के अन्‍य लाभ – Safed Musli Ke Other Benefits in Hindi

कई प्रकार के उत्‍पादों सफेद मूसली का उपयोग प्रमुख घटक के रूप में उपयोग किया जाता है। ऊपर बताए गए लाभों के अलावा भी सफेद मूसली के अन्‍य दूसरे फायदे भी होते हैं जो महिला स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देते हैं। सफेद मूसली के अन्‍य लाभ इस प्रकार हैं:

  • सफेद मूसली महिलाओं की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करती है।
  • कैंसर, गठिया और मधुमेह आदि लक्षणों को कम करती है।
  • महिलाओं के लिए सफेद मूसली योनि सूखापन से छुटकारा पाने में मदद कर सकती है।
  • सफेद मूसली का सेवन बच्‍चे के जन्‍म के पहले और जन्‍म के बाद महिला स्वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करता है।
  • स्‍तन पान कराने वाली महिलाओं में दूध उत्‍पादन की क्षमता में वृद्धि करती है।
  • महिलाओं के वजन को नियंत्रित करने में सफेद मूसली बहुत ही लाभकारी होती है।

(और पढ़ें – महिलाओं में योनि से सफेद पानी आने (ल्यूकोरिया या श्वेत प्रदर) का घरेलू इलाज)

महिलाओं के लिए सफेद मुस्ली के नुकसान – Mahilao ke liye Safed Musli Ke Nuksan in Hindi

महिलाओं के लिए सफेद मुस्ली के नुकसान - Mahilao ke liye Safed Musli Ke Nuksan in Hindi

हालांकि सफेद मूसली के अधिकांश नुकसान असामान्य होते हैं और ठीक हो सकते हैं, लेकिन कुछ ऐसे नुकसान हैं जिनपर कभी-कभी ध्यान देने की जरूरत हो सकती है। ऐसा होने पर तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें।

  1. सफेद मूसली का अत्यधिक सेवन सही नहीं है। इसमें मौजूद फाइबर, पेट में नमी को कम करके मल को टाइट करता है। जिससे आप कब्ज, ऐंठन और दर्द के साथ आंत में एक बाधा का अनुभव कर सकतीं हैं।
  2. 2 सफेद मूसली को लेने के बाद कई मामलों में एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं देखी गई हैं।
  3. जिसमे सबसे आम एलर्जी प्रतिक्रियाओं में शामिल हैं:
  4. आँख की सूजन
  5. जी मिचलाना
  6. चक्कर आना
  7. सिरदर्द
  8. नाक का बेहना
  9. बंद नाक का होना
  10. चिड़चिड़ापन और गले में खुजली
  11. त्वचा पर खुजली
  12. सांस लेने में कठिनाई

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration