पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए - Pachan Shakti Badhane Ke Liye Kya Karna Chahiye - Healthunbox
हेल्थ टिप्स

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए – Pachan Shakti Badhane Ke Liye Kya Karna Chahiye

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए - Pachan Shakti Badhane Ke Liye Kya Karna Chahiye

Pachan Shakti Badhane Ke Liye Kya Karna Chahiye: पाचन हमारे शरीर की सबसे महत्वपूर्ण क्रिया है जो पेट में भोजन को पचाने का काम करती है। जब आपके शरीर की पाचन शक्ति अच्छी रहती है तो आपके द्वारा खाया गया भोजन आसानी से पच जाता है। इसलिए आज हम आपको पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए के बारे में बताएंगे।

भोजन के पाचन से ही हमारे शरीर को कार्य करने के लिए ऊर्जा मिलती है। जब शरीर शरीर पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है तो इसकी वजह से कई प्रकार की शरीर समस्याएं और बीमारियां होने लगती है।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए। पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए क्या करना चाहिए, आइये इसे विस्तार से जानते है।

विषय सूची

पाचन शक्ति बढ़ाने के तरीके – Pachan Shakti Badhane Ke Tarike

पाचन शक्ति बढ़ाने के तरीके - Pachan Shakti Badhane Ke Tarike

पाचन शक्ति को बढ़ाने के लिए आप निम्न टिप्स को फॉलो करें। इस प्रकार की दिनचर्या को नियमित रखने से आप आसानी से डाइजेशन सिस्टम को हेल्दी रख सकते है।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए असली खाना खाएं

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए असली खाना खाएं

असली खाना मतलब उन खाद्य पदार्थों से है जो आपके लिए शरीर के लिए हेल्दी होते है। परिष्कृत कार्ब्स और संतृप्त वसा आदि पाचन विकार को बढ़ाते है। इसके अलावा ग्लूकोज, नमक और अन्य रसायनों वाले खाद्य पदार्थ आंतों की सूजन को बढ़ाने में योगदान करते है, जिससे लीकी ग्रेन नामक स्थिति पैदा होती है। ट्रांस वसा कई प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं। यह हमारे दिल के स्वास्थ्य पर अपने नकारात्मक प्रभाव डालते है जो अल्सरेटिव कोलाइटिस, एक आंत्र  सूजन रोग के विकास के खतरे को बढ़ाते है। इसलिए आपको इस प्रकार के खाना से बचाने की कोशिश करना चाहिए।

अध्ययन से यह पता चलता है कि कृत्रिम मिठास आपके हानिकारक बैक्टीरिया की संख्या बढ़ा सकती है। इसलिए आपको पूरे खाद्य (whole foods) पदार्थों पर आधारित आहार खाने और प्रसंस्कृत खाद्य (processed foods) पदार्थों के सेवन को सीमित करना पाचन के लिए सबसे अच्छा हो सकता है।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए फाइबर से भरपूर भोजन करे

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए फाइबर से भरपूर भोजन करे

घुलनशील फाइबर पानी को अवशोषित करता है और आपके मल में जोड़ने में मदद करता है। अघुलनशील फाइबर एक टूथब्रश की तरह काम करता है, जिससे आपके पाचन तंत्र को सब कुछ ठीक रखने में मदद मिलती है। घुलनशील फाइबर दलिया, फलियों, नट और बीज में पाया जाता है, जबकि सब्जियां, साबुत अनाज और गेहूं का चोकर (wheat bran) अघुलनशील फाइबर का अच्छा स्रोत हैं।

एक उच्च फाइबर वाला आहार पाचन की स्थिति को ठीक करने में मदद करता है, जिसमें अल्सर, रिफ्लक्स (reflux), बवासीर, डायवर्टीकुलिटिस (diverticulitis) और आईबीएस भी शामिल हैं। प्रीबायोटिक्स एक अन्य प्रकार के फाइबर हैं जो आपके स्वस्थ आंत बैक्टीरिया को बढ़ाता हैं। इस फाइबर में उच्च आहार को आंत्र सूजन को कम करने के लिए दिखाया गया है। प्रीबायोटिक्स कई फलों, सब्जियों और अनाजों में पाए जाते हैं।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए आहार में स्वस्थ वसा जोड़ें

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए आहार में स्वस्थ वसा जोड़ें

अच्छे पाचन के लिए पर्याप्त वसा खाने की आवश्यकता हो सकती है। वसा आपको भोजन के बाद संतुष्ट महसूस करने में मदद करता है और अक्सर उचित पोषक तत्व अवशोषण के लिए वसा की आवश्यकता होती है। अध्ययनों से पता चला है कि ओमेगा -3 फैटी एसिड अल्सरेटिव कोलाइटिस (ulcerative colitis) में सूजन आंत्र रोगों के विकास के जोखिम को कम कर सकता है। ओमेगा -3 फैटी एसिड के लिए आप फ्लैक्ससीड्स, चिया सीड्स, नट्स (विशेष रूप से अखरोट), वसायुक्त मछली जैसे सैल्मन, मैकेरल और सार्डिन आदि का सेवन कर सकते है।

डाइजेशन सिस्टम को हेल्दी रखने के लिए हाइड्रेटेड रहें

डाइजेशन सिस्टम को हेल्दी रखने के लिए हाइड्रेटेड रहें

पानी पाचन क्रिया का एक आवश्यक भाग हैं, अधिक पानी पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए लाभदायक होता है। हमारे शरीर को भोजन को पचाने के लिए पानी कि आवश्कता होती हैं, बिना पानी के पाचन संभव नहीं हैं। पानी कि कमी के कारण पाचन होना कठिन हो जाता हैं। भोजन में से पोषक तत्व को अवशोषित करने के लिए पानी कि पर्याप्त मात्रा आवश्यक होती हैं। पानी कि कमी के कारण उल्टी और दस्त जैसी समस्या हो सकती हैं।

सामान्यतः किसी स्वस्थ मनुष्य को पानी कि आवश्यकता प्रति दिन पुरुषों में  4 से 5 लीटर होती हैं और महिलाओं में 3से 4 लीटर होती हैं।  इसलिए हमें अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए।

पाचन तंत्र को मजबूत रखने के लिए तनाव कम करें

पाचन तंत्र को मजबूत रखने के लिए तनाव कम करें

अधिक तनाव लेना भी आपकी पाचन क्रिया को कमजोर कर सकता है। तनाव हार्मोन सीधे आपके पाचन को प्रभावित करते हैं। जब आपका शरीर लड़ाई-या-उड़ान मोड (fight-or-flight mode) में होता है, तो आपको लगता है कि आपके पास आराम करने और पचाने का समय नहीं है। तनाव के दौरान रक्त और ऊर्जा आपके पाचन तंत्र से दूर हो जाते हैं। आपकी आंत और मस्तिष्क जटिल रूप से जुड़ा हुआ है जो आपके मस्तिष्क को प्रभावित करता है और पाचन को भी प्रभावित कर सकता है। आप योग, मेडिटेशन आदि को करके तनाव मुक्त हो सकते है।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए मन लगाकर खाएं

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए मन लगाकर खाएं

मन लगाकर खाना भी पाचन शक्ति को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है। जब आप ध्यान नहीं दे रहे होते हैं, तो बहुत अधिक जल्दी खाना खाते है जिससे ब्लोटिंग, गैस और अपच हो सकती है। माइंडफुल ईटिंग आपके डाइजेशन सिस्टम को हेल्दी रखने में मदद करता है। अध्ययनों से पता चला है कि माइंडफुलनेस अल्सरेटिव कोलाइटिस और IBS वाले लोगों में पाचन संबंधी लक्षणों को कम कर सकता है।

ध्यान से खाने के लिए:

  • धीरे – धीरे खाएं।
  • टीवी को बंद करके खाएं।
  • फोन को दूर करके अपने भोजन पर ध्यान दें।
  • ध्यान दें कि आपका भोजन आपकी प्लेट पर कैसा दिखता है और इसकी गंध कैसी है।
  • भोजन की बनावट, तापमान और स्वाद पर ध्यान दें।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए खाना चबाकर खाएं

पाचन आपके मुंह में शुरू हो जाता है। आपके दांत भोजन को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ देते हैं, ताकि आपके पाचन तंत्र में मौजूद एंजाइम को इसे तोड़ने में आसानी हों। अच्छी तरह से चबाकर खाना ना खाने से पोषक तत्वों के अवशोषण में कठिनाई होती है।

जब आप अपने भोजन को अच्छी तरह से चबाते हैं, तो आपके पेट को ठोस भोजन को तरल मिश्रण में बदलने के लिए कम काम करना पड़ता है जो आपकी छोटी आंत में प्रवेश करता है। प्रकार पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए भोजन को चबाकर खाएं।

चबाने से लार का उत्पादन होता है, और जितनी देर आप चबाते हैं, उतनी अधिक लार बनती है। लार आपके भोजन में कुछ कार्ब्स और वसा को तोड़कर आपके मुंह में पाचन प्रक्रिया शुरू करने में मदद करती है।

पाचन को मजबूत बनाने के लिए एक्सरसाइज करें

पाचन को मजबूत बनाने के लिए एक्सरसाइज करें

नियमित व्यायाम पाचन शक्ति को बढ़ाने में मदद करता है। भोजन को आसानी से पचाने के लिए आप तेज चलना जैसे सरल व्यायाम कर सकते है। तेज चलना भी एक एक्सरसाइज जो कि हमारे शरीर के लिए अनेक प्रकार से लाभदायक है। तेज चलना सबसे सरल व्यायाम माना जाता है जिसे प्रत्येक व्यक्ति आसानी से कर सकता है। रोजाना लगभग 30 से 40 मिनट तक तेज चलना आपको पाचन संबंधी समस्याओं से और अन्य शारीरिक बीमारियों से दूर रखता है। यह आंतों की सिकुड़न को उत्तेजित करता है, और बड़ी आंत के माध्यम से मल को निकने में मदद करता है।

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए ओवरईटिंग से बचें

अधिक खाना आपकी पाचन शक्ति को कमजोर कर सकता है। इसलिए आपके शरीर के भूख के संकेतों पर ध्यान दें और भूख लगने पर ही खाना खाएं। आमतौर यह पर माना जाता है कि आपके मस्तिष्क को यह महसूस करने में 20 मिनट लगते हैं कि आपका पेट भरा हुआ है। हालांकि इस दावे का समर्थन करने के लिए बहुत स्ट्रोंग अध्ययन नहीं है। इसलिए धीरे-धीरे खाने के लिए समय निकालें और ध्यान दें कि आप क्या और कितना खा रहे हैं। यह आम पाचन समस्याओं को रोकने का एक आसान तरीका है।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए बुरी आदतें छोड़ें

धूम्रपान और शराब आपकी पाचन क्रिया को ख़राब कर सकता है।

धूम्रपान

धूम्रपान

धूम्रपान करने से एसिड रिफ्लक्स के विकास का जोखिम दोगुना हो जाता है। यह बुरी आदत पेट के अल्सर, अल्सरेटिव कोलाइटिस और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर से भी जुड़ी है। यदि सिगरेट पीते हैं, तो ध्यान रखें कि इसे छोड़ना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

शराब

शराब

शराब आपके पेट में एसिड का उत्पादन बढ़ा सकती है और हार्टबर्न, एसिड रिफ्लक्स और पेट के अल्सर का कारण बन सकती है। अत्यधिक शराब का सेवन जठरांत्र संबंधी मार्ग में रक्तस्राव का कारण होता है। शराब भी आंत्र सूजन रोगों और आंत बैक्टीरिया में हानिकारक परिवर्तन के साथ जुड़ा हुआ है। शराब का सेवन कम करने से आपके पाचन में मदद मिल सकती है।

पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए देर रात भोजन न करे

देर रात भोजन करना

रात को देर से भोजन करना और फिर सोने के लिए लेटना हार्टबर्न और अपच का कारण बन सकता है। आपके शरीर को पचाने के लिए समय चाहिए, और गुरुत्वाकर्षण आपके द्वारा खाए जा रहे भोजन को सही दिशा में रखने में मदद करता है।

जब आप खाना खा कर लेटते हैं, तो आपके पेट की सामग्री ऊपर उठ सकती है और सीने में जलन पैदा कर सकती है।  यदि आप सोते समय पाचन संबंधी समस्याओं का अनुभव करते हैं, तो खाना खाने के  तीन से चार घंटे बाद बिस्तर पर जाएं।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए पोषक तत्वों को शामिल करें

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए पोषक तत्वों को शामिल करें

कुछ पोषक तत्व आपके पाचन तंत्र को सहारा देने में मदद कर सकते हैं। प्रोबायोटिक्स, ग्लूटामाइन और जिंक में उच्च खाद्य पदार्थों का सेवन करें। प्रोबायोटिक्स फायदेमंद बैक्टीरिया होते हैं जो सप्लीमेंट के रूप में लेने पर पाचन स्वास्थ्य में सुधार कर सकते हैं।

ग्लूटामाइन एक एमिनो एसिड है जो आंत के स्वास्थ्य का समर्थन करता है। जस्ता एक खनिज है जो एक स्वस्थ आंत के लिए महत्वपूर्ण है और जिंक की कमी से विभिन्न जठरांत्र संबंधी विकार हो सकते हैं।

(और पढ़ें – मानव पाचन तंत्र कैसा होता है, और कैसे इसे मजबूत बनायें)

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए (Pachan Shakti Badhane Ke Liye Kya Karna Chahiye) का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration