लड़कियों या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन हानिकारक है या लाभप्रद - Healthunbox
सेक्स एजुकेशन

महिलाओं या लड़कियों के लिए हस्तमैथुन हानिकारक है या लाभप्रद – Masturbation For Women Good Or Bad In Hindi

महिलाओं के लिए हस्तमैथुन हानिकारक है या लाभप्रद - Masturbation For Women Good Or Bad In Hindi

Masturbation For Women Good Or Bad In Hindi आपने मास्टरबेशन के बारे में जरूर सुना होगा जिसे हिंदी में इसे हस्तमैथुन कहा जाता हैं। लड़कियों या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करना असामान्य माना जाता है। लेकिन सच्चाई यह नहीं है। महिलाओं के यौन व्यवहार को लेकर कई तरह की भ्रांतियां हैं, हस्तमैथुन भी उनमें एक है। हस्‍तमैथुन यौन क्रिया का एक हिस्‍सा है जो अधिकांश पुरुषों और महिलाओं द्वारा यौन आनंद प्राप्‍त करने के लिए किया जाता है। लेकिन महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन हानिकारक है या लाभप्रद यह प्रश्‍न अधिकांश महिलाओं के मन में होता है। क्‍योंकि यौन संतुष्टि प्राप्‍त करने का यह तरीका महिलाओं द्वारा भी उपयोग किया जा सकता है। फिल्म वीरे दी वेडिंग में स्वरा पर एक मास्टरबेशन सीन फिल्माया गया था। जैसा कि हम जानते हैं सेक्‍स मानव जीवन का अभिन्‍न अंग है जिससे कोई भी अछूता नहीं है। लेकिन कुछ लोगों का मानना होता है कि हस्‍तमैथुन शारीरिक कमजोरी का कारण बन सकता है।

आज इस आर्टिकल में आप जानेगें कि लड़कियों या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन हानिकारक है या लाभप्रद। आइए इस तथ्‍य को विस्‍तार से समझें।

विषय सूची

1. क्‍या हस्‍तमैथुन महिला के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है – Kya Hastmaithun Mahila Ke Swasth Ke Liye Hanikarak Hai In Hindi
2. क्‍या महिलाओं द्वारा हस्‍तमैथुन करना गलत है – Kya Mahilao Dwara Hastmaithun Karna Galat Hai In Hindi
3. क्‍या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन एक सामान्‍य व्‍यवहार है – Kya Mahilao Ke Liye Hastmaithun Ek Samanya Vyavhar Hai
4. क्‍या हस्‍तमैथुन महिलाओं के लिए हानिकारक है – Kya Hastmaithun Mahilao Ke Liye Hanikarak Hai In Hindi
5. क्‍या महिलाओं के लिए रोजाना हस्‍तमैथुन सही है – Kya Mahilao Ke Liye Rojana Hastmaithun Sahi Hai In Hindi
6. महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने के फायदे – Mahilao Ke Liye Hastmaithun Karne Ke Fayde In Hindi

7. महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने के नुकसान – Mahilao Ke Liye Hastmaithun Karne Ke Nuksan In Hindi

क्‍या हस्‍तमैथुन महिला के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है – Kya Hastmaithun Mahila Ke Swasth Ke Liye Hanikarak Hai In Hindi

क्‍या हस्‍तमैथुन महिला के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है – Kya Hastmaithun Mahila Ke Swasth Ke Liye Hanikarak Hai In Hindi

किसी भी महिला या पुरुष के लिए यौन सुख प्राप्‍त करने या चरम सुख तक पहुंचने का एक प्राकृतिक तरीका हस्‍तमैथुन है। इस दौरान महिला या पुरुष स्‍वयं अपने जननांगों को उत्‍तेजित‍ करते हैं और यौन आनंद प्राप्‍त करते हैं। अब प्रश्‍न यह उठता है कि क्‍या हस्‍तमैथुन महिला स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है। तो जान लें कि हस्‍तमैथुन महिला या पुरुषों के लिए बहुत ही सामान्‍य क्रिया है जो उम्र बढ़ने के साथ उपयोग की जाती है। हस्‍तमैथुन सही या गलत नहीं होता है यह केवल अपने जननांगों को उत्‍तेजित करने और आनंद प्राप्‍त करने में सहायक होता है।

साफ शब्‍दों में कहा जाए तो हस्‍तमैथुन महिलाओं के स्वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक नहीं होता है। यदि इसे अधिक मात्रा में न किया जाए तो। क्‍योंकि यह यौन सुख प्राप्त करने का एक सामान्‍य तरीका है। हलाकि महिलाओं को हस्तमैथुन करते समय कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। और लड़कियों द्वारा हस्‍तमैथुन करते समय  इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए कि क्लाइटोरिस (Clitoris) या जनांग क्षेत्र को बहुत अधिक जोर से रगड़ना नहीं चाहिए जिससे कि उन्हें हस्‍तमैथुन करने से कोई शारीरिक हानि न पहुंचे।

(और पढ़े – हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान जो आपको जानना है जरूरी…)

क्‍या महिलाओं द्वारा हस्‍तमैथुन करना गलत है – Kya Mahilao Dwara Hastmaithun Karna Galat Hai In Hindi

क्‍या महिलाओं द्वारा हस्‍तमैथुन करना गलत है – Kya Mahilao Dwara Hastmaithun Karna Galat Hai In Hindi

अक्‍सर यह देखा जाता है कि महिलाओं के ऊपर यौन संबंध थोपे जाते हैं। या उनकी इच्‍छाओं को दबाया जाता है। पुरुष साथी केवल अपनी मनमर्जी के अनुसार ही उनके साथ यौन संबंध बनाते हैं। महिलाओं यौन इच्‍छाओं को विशेष महत्‍व नहीं दिया जाता है। क्‍या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करना गलत है इस तरह के प्रश्‍न आश्‍चर्य युक्‍त होते हैं। महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करना कहीं से भी गलत नहीं है। क्‍योंकि जब महिलाओं को पर्याप्‍त यौन सुख नहीं मिल पाता है तो हस्‍तमैथुन ही एक माध्‍यम बचता है जो उन्‍हें मानसिक संतुष्टि दिला सकता है। हस्‍तमैथुन वास्‍तव में महिलाओं को उनके शरीर की पहचानने में मदद कर सकता है। इसके साथ ही महिलाएं बिना किसी शर्म या परेशानी के हस्‍तमैथुन कर यौन सुख प्राप्‍त कर सकती हैं।

असुरक्षित यौन संबंध बनाने से महिलाओं को यौन संक्रमण होने का खतरा रहता है। लेकिन यदि महिलाएं सावधानी के साथ हस्‍तमैथुन करती हैं तो यौन संक्रमण की संभावना बिल्कुल भी नहीं होती है।

(और पढ़े – हस्तमैथुन करना सही या गलत जानें पूरा सच…)

क्‍या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन एक सामान्‍य व्‍यवहार है – Kya Mahilao Ke Liye Hastmaithun Ek Samanya Vyavhar Hai

क्‍या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन एक सामान्‍य व्‍यवहार है – Kya Mahilao Ke Liye Hastmaithun Ek Samanya Vyavhar Hai

बहुत से लोग हस्‍तमैथुन को गलत मानते हैं जबकि बहुत से लोग इसे सुरक्षित और स्‍वस्‍थ क्रिया कहते हैं। वास्‍तव में क्‍या महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन एक सामान्‍य व्‍यवहार है। सेक्‍सोलॉजिस्‍ट और शोधकर्ताओं का मानना है कि हस्‍तमैथुन महिलाओं के लिए के लिए पूरी तरह से सामान्‍य प्रक्रिया है और स्‍वस्‍थ यौन व्‍यवहार है। लेकिन लोगों के बीच हस्‍तमैथुन के प्रति धारणा व्‍याप्‍त है क्‍योंकि यह एक गहन निजी और यौन व्‍यवहार है। इस विषय को लेकर पुरुष और महिलाएं आपस में खुल कर बात नहीं करते हैं।

(और पढ़े – महिलाएं कैसे करती है हस्तमैथुन जाने सोलो प्ले के लिए टिप्स और ट्रिक्स…)

क्‍या हस्‍तमैथुन महिलाओं के लिए हानिकारक है – Kya Hastmaithun Mahilao Ke Liye Hanikarak Hai In Hindi

क्‍या हस्‍तमैथुन महिलाओं के लिए हानिकारक है – Kya Hastmaithun Mahilao Ke Liye Hanikarak Hai In Hindi

जिन लोगों के मन में यह प्रश्‍न उठता है कि क्‍या हस्‍तमैथुन महिलाओं के हानिकारक है। उन्‍हें शायद हस्‍तमैथुन से जुड़ी पूरी जानकारी नहीं है। स्‍वास्‍थ्‍य और वैज्ञानिक दृष्टिकोण से हस्‍तमैथुन महिलाओं के लिए हानिकारक नहीं होता है। इसके अलावा कुछ लोगों का मानना होता है कि हस्‍तमैथुन नैतिक कारणों से बुरा है। लेकिन यह भी सही नहीं है क्योंकि हस्‍तमैथुन एक व्‍यक्तिगत पसंद है।

(और पढ़े – क्या हस्तमैथुन करने से बाल झड़ने लगते हैं और मास्टरबेशन से जुड़े अन्य सवाल…)

क्‍या महिलाओं के लिए रोजाना हस्‍तमैथुन सही है – Kya Mahilao Ke Liye Rojana Hastmaithun Sahi Hai In Hindi

क्‍या महिलाओं के लिए रोजाना हस्‍तमैथुन सही है – Kya Mahilao Ke Liye Rojana Hastmaithun Sahi Hai In Hindi

जैसा कि हम जान चुके हैं कि हस्‍तमैथुन एक सामान्‍य प्रक्रिया है। लेकिन क्‍या महिलाओं के लिए रोजाना हस्‍तमैथुन है। रोजाना हस्‍तमैथुन करना कुछ महिलाओं के लिए सामान्‍य हो सकता है जो उनकी उम्र और सेक्स ड्राइव पर निर्भर करता है। जबकि कुछ महिलाओं के लिए यह अत्‍याधिक हो सकता है। हस्‍तमैथुन करना तब तक सही है जब तक की यह आपके समग्र स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित नहीं करता है। हालांकि कुछ सेक्‍स विशेषज्ञों का मानना है कि महिलाओं के लिए रोज हस्‍तमैथुन करना अत्‍याधिक हो सकता है। रोजाना हस्‍तमैथुन करने से महिलाओं को थकान, चक्‍कर आना, कमजोरी, शीघ्रस्‍खलन आदि की समस्‍या हो सकती है। यह आपको सेक्‍स के दौरान पूर्ण सुख प्राप्‍त करने से रोक सकता है। पूर्ण यौन सुख प्राप्‍त न होने के कारण आप और आपके साथी में तनाव का स्‍तर बढ़ सकता है। हालांकि तनाव से राहत दिलाने में महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन प्रभावी माना जाता है।

(और पढ़े – यदि हाथ अभ्यास (मास्टरबेशन या हस्तमैथुन) अधिक से अधिक किया जाता है तो दुष्प्रभाव क्या होते हैं?)

महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने के फायदे – Mahilao Ke Liye Hastmaithun Karne Ke Fayde In Hindi

मास्टरबेशन करना पुरुषों और महिलाओं के लिए सामान्‍य यौन क्रिया होती है। इसके अलावा हस्‍तमैथुन करने के फायदे महिलाओं के लिए स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी होते हैं। हस्‍तमैथुन करने से यौन सुख की प्राप्ति तो होती ही है साथ ही यह आपके शारीरिक समस्‍याओं, मानसिक स्थिति आदि को भी स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होता है। आइए जाने महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने के फायदे क्‍या हैं।

हस्‍तमैथुन महिलाओं की सेक्‍स ड्राइव बढ़ाये – Hastmaithun Mahilao Ki Sex Drive Badhaye In Hindi

हस्‍तमैथुन महिलाओं की सेक्‍स ड्राइव बढ़ाये - Hastmaithun Mahilao Ki Sex Drive Badhaye In Hindi

मास्टरबेशन करने से महिलाएं अपनी यौन प्रतिक्रियाओं के बारे में जान सकती हैं। हस्‍तमैथुन महिलाओं को यौन विश्वास दिलाता है और उन्‍हें उनके शरीर को पहचानने, समझने का मौका देता है। हस्‍तमैथुन करने से महिलाएं यह जान सकती हैं कि वे किस चीज के प्रति अति उत्‍तेजित और उत्‍साहित हैं। जिससे वे अपने साथी के साथ यौन संबंध बनाने के दौरान कर सकती हैं। यह महिलाओं को चरमोत्‍कर्ष तक पहुंचने का आसान और प्रभावी तरीका होता है।

(और पढ़े – महिलाओं में कामेच्छा बढ़ाने के घरेलू नुस्खे और उपाय…)

महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन मासिक धर्म की समस्‍याएं कम करे – Hastmaithun Masik Dharm Ki Samasya Kam Kare In Hindi

महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन मासिक धर्म की समस्‍याएं कम करे - Hastmaithun Masik Dharm Ki Samasya Kam Kare In Hindi

अधिकांश महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान पेट दर्द या ऐंठन जैसी समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन ऐसी महिलाओं द्वारा हस्‍तमैथुन करने पर यह मासिक धर्म के ऐसे लक्षणों को कम किया जा सकता है। क्‍योंकि कामोन्‍माद होने से महिलाओं के शरीर को आराम और तनाव से छुटकारा मिलता है। जिससे दर्द और ऐंठन जैसी समस्‍याएं कम की जा सकती हैं। जो महिलाएं अवधि के दौरान इन समस्‍याओं का समना कर रही हैं वे हस्‍तमैथुन कर लाभ प्राप्‍त कर सकती हैं।

(और पढ़े – पीरियड्स में हस्तमैथुन करना कितना सही कितना गलत…)

मास्टरबेशन करने से महिलाओं को खुशी मिलती है – Hastmaithun Karne Se Mahilao Ko Khusi Milti Hai In Hindi

हस्‍तमैथुन करने से महिलाओं को खुशी मिलती है - Hastmaithun Karne Se Mahilao Ko Khusi Milti Hai In Hindi

अध्‍ययनों से स्‍पष्‍ट होता है कि जो महिलाएं हस्‍तमैथुन करती हैं उनके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य में वृद्धि होती है। क्‍योंकि हस्‍तमैथुन करने से महिलाओं को खुशी मिलती है। आपका मस्तिष्‍क हस्‍तमैथुन करते समय एंडोर्फिन नामक फील-गुड हार्मोन रिलीज करता है। जिससे आपके मूड को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। यह हार्मोन आपके पूरे शरीर में रक्‍त परिसंचरण को बढ़ाता है। इस तरह से हस्‍तमैथुन भी तनाव को कम करने का एक बेहतरीन तरीका हो सकता है। इस तरह से महिलाएं भी हस्‍तमैथुन कर खुशी प्राप्‍त कर सकती हैं और अपने तनाव को कम कर सकती हैं।

(और पढ़े – क्या होता है जब एक औरत संतुष्ट नहीं होती है…)

हस्‍तमैथुन महिलाओं को गर्भावस्‍था से बचाए – Hastmaithun Mahilao Ko Garbhavastha Se Bachaye In Hindi

हस्‍तमैथुन महिलाओं को गर्भावस्‍था से बचाए - Hastmaithun Mahilao Ko Garbhavastha Se Bachaye In Hindi

महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने के फायदे में गर्भावस्‍था से बचाव भी शामिल है। क्‍योंकि इस दौरान यौन सुख प्राप्‍त करने के लिए महिलाओं को पुरुष साथी या उसके साथ संभोग करने की आवश्‍यकता नहीं होती हैं। वे अकेले ही हस्‍तमैथुन के माध्‍यम से यौन सुख प्राप्‍त कर सकती हैं। वे इसे और अधिक आनंदित बनाने के लिए सेक्‍स खिलौनों का भी उपयोग कर सकती हैं। इस तरह से उन्‍हें गर्भावस्‍था की किसी प्रकार की चिंता नहीं होती है।

(और पढ़े – हस्तमैथुन या सेक्स में से कौन बेहतर है…)

मास्टरबेशन महिलाओं को यौन संक्रमण से बचाए – Hastmaithun Mahilao Ko Youn Sankraman Se Bachaye In Hindi

हस्‍तमैथुन महिलाओं को यौन संक्रमण से बचाए - Hastmaithun Mahilao Ko Youn Sankraman Se Bachaye In Hindi

पुरुष साथी के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाने से न सिर्फ गर्भावस्‍था की संभावना होती है बल्कि यह यौन संक्रमण का कारण भी हो सकता है। लेकिन यदि महिलाओं द्वारा सावधानी से हस्‍तमैथुन किया जाए तो यौन संक्रमण फैलने की संभावना कम हो जाती है। यहां सावधानी से मतलब यौन खिलौंनों का उपयोग और उनके संक्रमित होने से है। इसलिए महिलाओं को हस्‍तमैथुन के दौरान उपयोग किये जाने वाले सेक्‍स टॉय किसी अन्‍य महिला या पुरुष के साथ साझा नहीं करना चाहिए। यदि महिलाएं सेक्‍स टॉय का इस्‍तेमाल नहीं कर रही हैं तो हस्‍तमैथुन उनके यौन संक्रमण के लिए लगभग सुरक्षित होता है।

(और पढ़े – यौन संचारित रोग एसटीडी को रोकने के तरीके…)

हस्‍तमैथुन महिलाओं को कई बार ओर्गाम्‍स दिलाता है – Hastmaithun Mahilao Ko Multiple Orgasms Dilata Hai In Hindi

हस्‍तमैथुन महिलाओं को कई बार ओर्गाम्‍स दिलाता है - Hastmaithun Mahilao Ko Multiple Orgasms Dilata Hai In Hindi

जो महिलाएं हस्‍तमैथुन करती हैं वे कई बार इसके माध्‍यम से संभोग सुख प्राप्‍त कर सकती हैं। चरम सुख पुरुषों के लिए सेक्‍स का अंत है लेकिन महिलाओं के लिए यह शुरुआत होती है। हस्‍तमैथुन आपको अपने शरीर को समझने में मदद करता है और ओर्गाम्‍स का आनंद उठाने में भी सहायक होता है।

(और पढ़े – चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, पाने के तरीके और फायदे…)

महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने के नुकसान – Mahilao Ke Liye Hastmaithun Karne Ke Nuksan In Hindi

महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने के नुकसान - Mahilao Ke Liye Hastmaithun Karne Ke Nuksan In Hindi

महिलाओं द्वारा हस्‍तमैथुन करने के किसी भी प्रकार के नुकसान नहीं होते हैं। बल्कि कुछ हद तक यह महिलाओं के फायदेमंद ही होता है। लेकिन महिलाओं को सलाह दी जाती है वे इसे अधिक मात्रा में न करें। क्‍योंकि अधिक मात्रा में हस्‍तमैथुन करने से आपको शारीरिक कमजोरी का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि हस्‍तमैथुन करने की मात्रा या अधिकतम सीमा महिलाओं के शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य और क्षमता पर निर्भर करती है।

(और पढ़े – हस्तमैथुन से आई कमजोरी को दूर करने के उपाय…)

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Reference

  1. Regnerus M, et al. (2017). Masturbation and partnered sex: Substitutes or complements? DOI:
    10.1007/s10508-017-0975-8
  2. Rider JR, et al. (2016). Ejaculation frequency and risk of prostate cancer: Updated results with an additional decade of follow-up. DOI:
    10.1016/j.eururo.2016.03.027
  3. Sexual dysfunction in females. (2017).
    my.clevelandclinic.org/health/articles/sexual-dysfunction-in-females
  4. Aboul-Enein BH, et. al. (2016). Evidence for masturbation and prostate cancer risk: do we have a verdict? DOI:
    10.1016/j.sxmr.2016.02.006
  5. Argiolas A, et al. (2003). The neurophysiology of sexual cycle.
    ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/12834016
  6. Benefits of masturbation. (n.d.).
    pamf.org/teen/sex/masturbation/
  7. Melis MR, et al. (2009). Oxytocin injected into the ventral subiculum or the posteromedial cortical nucleus of the amygdala induces penile erection and increases extracellular dopamine levels in the nucleus accumbens of male rats. DOI:
    10.1111/j.1460-9568.2009.06912.x
  8. Morality of masturbation. (2014).
    goaskalice.columbia.edu/answered-questions/morality-masturbation
  9. Reece M, et al. (2009). Prevalence and characteristics of vibrator use by men in the United States. DOI:
    10.1111/j.1743-6109.2009.01290.x
  10. Giles GG, et al. (2003). Sexual factors and prostate cancer. DOI:
    10.1046/j.1464-410X.2003.04319.x
  11. Herbenick D, et al. (2009). Prevalence and characteristics of vibrator use by women in the United States: Results from a nationally representative study. DOI:
    10.1111/j.1743-6109.2009.01318.x
  12. Indiana University. (2009). IU researchers find vibrator use to be common, linked to sexual health [Press release].
    newsinfo.iu.edu/news-archive/10877.html
  13. Jern P. (2014). Evaluation of a behavioral treatment intervention for premature ejaculation using a handheld stimulating device. DOI:
    10.1080/0092623X.2013.857376
  14. Masturbation. (2017).
    youngmenshealthsite.org/guides/masturbation/
  15. Masturbation death grip syndrome (DGS). (2015).
    soc.ucsb.edu/sexinfo/article/masturbation-death-grip-syndrome-dgs

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration