क्‍या प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में संभोग करना उचित है? – Love making healthy in 8th month of pregnancy in Hindi




क्‍या प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में संभोग करना उचित है? - Love making healthy in 8th month of pregnancy in Hindi
Written by Daivansh

लगभग सभी प्रेग्नेंट महिलाओं के मन में यह प्रश्न रहता है कि क्या प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में संभोग करना उचित है? प्रेग्‍नेंसी के 8 वें महीने में पार्टनर के साथ रिलेशन बनाने चाहिए या नहीं। गर्भावस्था में सेक्स करने से जुड़ी कई प्रकार की भ्रांतियां फैली है। प्रेगनेंसी का समय महिलाओं के लिए बहुत ही कठिन होता हैं। हर माँ अपने बच्चे का ख्याल रखने और उसकी देखरेख करने के लिए हर संभव प्रयास करती हैं। गर्भवती महिलाएं अपनी गर्भावस्था के दौरान अपने बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए हर प्रकार के तरीके अपनाती है। कई महिलाओं का मानना है कि गर्भावस्था के दौरान अपने साथी के साथ संबंध बनाना आपके बच्चे के लिए अच्छा नहीं है। क्या यह बात सही है? आइये इसे विस्तार से जानते हैं।

गर्भावस्था के दौरान प्यार करना एक विवादास्पद मामला है यदि आप दस महिलाओं से पूछें तो आपको दस जवाब मिलेंगे। जब गर्भावस्था के दौरान प्यार करना अपने आप में एक बहस का विषय है, तो इस बात पर कोई आश्चर्य नहीं है कि गर्भावस्था के 8 वें महीने के दौरान संभोग पर चर्चा न की जाये।

  1. क्या प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में संभोग करना चाहिए – Is healthy to make Sex in the eighth month of pregnancy Hindi
  2. गर्भवती महिलाएं सेक्स करते समय निम्न बिंदुओं का ध्यान रखें – Pregnant women: Keep the following points in mind while having sex in Hindi

क्या प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में संभोग करना चाहिए – Is healthy to make Sex in the eighth month of pregnancy Hindi

क्या प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में संभोग करना चाहिए - Is healthy to make Sex in the eighth month of pregnancy Hindi

गर्भवती महिलाओं के लिए 8 वां महीना बहुत ही कठिन होता हैं। इस महीने में महिलाओं को कई प्रकार की शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। लेकिन क्या गर्भावस्था के 8 वें महीने में सेक्स करना होने वाले बच्चे के लिए सुरक्षित हैं। उन सभी प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए अच्छी खबर यह है कि कई परीक्षणों के बाद यह पाया गया है कि गर्भावस्था के 8 वें महीने के दौरान किसी भी तरह से सेक्स करने से आपके बच्चे पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है, लेकिन इस समय केवल पुरुष को ही इस स्थिति को सावधानीपूर्वक और शांति से संभालना होता है। यदि आप ब्लीडिंग, प्लेसेंटा प्रिविआ (Placenta previa), सरवाइकल कमज़ोरी या योनि में संक्रमण आदि से परेशान है तो आप इस स्थिति में सेक्स ना करें। क्योंकि इससे आपको बाद में बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

कुछ लोगों को प्लेसेंटा प्रीविया (Placenta previa) नामक एक स्थिति होती है, जहां प्लेसेंटा वास्तव में गर्भाशय ग्रीवा को कवर करता है। उस स्थिति में, पूरे गर्भावस्था के दौरान संभोग नहीं होना चाहिए। इस स्थिति के साथ संभोग से नाल का खून बह सकता है, जो माँ और बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता है।

तीसरी तिमाही में संभोग करना (sexual intercourse) आम तौर पर सुरक्षित होता है। यदि आपको किसी प्रकार की स्पॉटिंग, ब्लीडिंग या एम्नियोटिक द्रव का लीक होना शुरू हो जाता है, तो आपको अपने प्रसूति विशेषज्ञ द्वारा मूल्यांकन किए जाने तक संभोग करने की प्रतीक्षा करनी चाहिए।

जाहिर है, सेक्स करने की कुछ पोजीशन दूसरों की तुलना में अधिक आरामदायक होती हैं, और आपको ऐसी पोजीशन का चयन करना चाहिए जो उचित रक्त प्रवाह की अनुमति दें और आपकी पीठ पर बहुत अधिक दबाव न डालें। आमतौर पर पीछे से योनि प्रवेश के साथ स्पूनिंग सेक्स पोजीशन (spooning sex position) (पुरुष का महिला के पीछे लेटकर सेक्स करना) आपकी बाईं ओर करवट लेकर सेक्स करना एक अच्छा विकल्प है। याद रखें कि आठवें और नौवें महीने के दौरान, एक गर्भवती महिला को अपनी पीठ पर या उसके दाहिनी तरफ फ्लैट के बजाय उसकी बाईं ओर अधिक आराम करना चाहिए ताकि उसके मुख्य रक्त वाहिकाओं पर दबाव न पड़े।

(और पढ़े – गर्भावस्था के दौरान सेक्स करना, सही या गलत…)

गर्भवती महिलाएं सेक्स करते समय निम्न बिंदुओं का ध्यान रखें – Pregnant women: Keep the following points in mind while having sex in Hindi

यदि आपने एक स्वस्थ गर्भावस्था पूरी कर ली है, तो कोई कारण नहीं है कि आप और आपके साथी के पास पूर्ण और संतुष्ट यौन जीवन नहीं हो सकता है। आपके बच्चे को एमनियोटिक थैली और आपके गर्भ (गर्भाशय) की मजबूत मांसपेशियों द्वारा सुरक्षित रूप से संरक्षित किया जाता है, जबकि आपके गर्भाशय ग्रीवा को सील करने वाला मोटा बलगम प्लग संक्रमण से बचाने में मदद करता है। यहां 8 वें महीने में संभोग को सुरक्षित बनाने के कुछ प्‍वाइंट बताएं जा रहे है ताकि आप आज रात अपने पार्टनर के साथ लव मेकिंग का मजा ले सकें-

बच्चे का समय से पहले जन्म होना – No premature birth in Hindi

बच्चे का समय से पहले जन्म होना - No premature birth in Hindi

कई महिलाएं गर्भावस्था के दौरान 8 वें महीने में अपने पति के साथ सेक्स करना चाहती हैं, लेकिन वह ऐसा करने से पीछे हट जाती हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि वह मानती हैं कि उनका बच्चा समय से पहले पैदा होगा। अर्थात गर्भवती महिलाओं को ऐसा लगने लगता है कि उनका बच्चा 8 वें महीने में ही जन्म ले सकता है, इसलिए उनको प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में सेक्स नहीं करना चाहिए। लेकिन चिकित्सा क्षेत्र इससे इनकार करता है। चिकित्सकों के अनुसार गर्भावस्था के 8 वें महीने के दौरान सेक्स का बच्चे के साथ कोई संबंध नहीं है। इसलिए, गर्भावस्था में जब तक आप किसी भी चिकित्सा जटिलताओं से मुक्त हैं, समय से पहले प्रसव के बारे में चिंता करने का कोई मतलब नहीं है।

निश्चित रूप से अधिकांश गर्भधारण के लिए। यदि आपका चिकित्सक आपको पहले ही बता चुका है कि आप एक उच्च जोखिम वाली गर्भावस्था में हैं या आपके डॉक्टर ने आपको संभोग न करने के लिए कहा है, तो यह आपके लिए सुरक्षित नहीं हो सकता है। लेकिन, गर्भावस्था के अंतिम भाग के दौरान सेक्स आमतौर पर बहुत सुरक्षित होता है। बच्चे को एमनियोटिक द्रव और गर्भाशय ग्रीवा द्वारा कुशन किया जाता है, जो योनि और बच्चे के बीच स्थित हैं।

(और पढ़े – समय से पहले प्रसव (प्रीमैच्योर डिलीवरी))

बच्चे पर कोई प्रभाव नहीं – No harm to baby in Hindi

बच्चे पर कोई प्रभाव नहीं - No harm to baby in Hindi

प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में सेक्स करने से बच्चे पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता हैं। यह एक मिथक है कि महिलाओं को गर्भावस्था के 8 वें महीने में सेक्स बच्चे को प्रभावित करता है, लेकिन यह सच नहीं है। अगर पार्टनर आपको सावधानी से और सही स्थिति में सेक्स करता है तो इससे आपके बच्चे को कोई खतरा नहीं है।

यद्यपि संभोग बच्चे को चोट नहीं पहुँचाता है, एक महिला को लंबे समय तक अपनी पीठ पर फ्लैट नहीं लेटना चाहिए, क्योंकि यह स्थिति वास्तव में आपके गर्भाशय के पीछे जाने वाली बड़ी रक्त वाहिकाओं को संकुचित कर सकती है। लंबे समय तक उस स्थिति में रहने से आप थोड़ा हल्का हो सकते हैं, या अपने बच्चे को जाने वाले रक्त की मात्रा को कम कर सकते हैं।

(और पढ़े – गर्भ में शिशु का विकास महीने दर महीने…)

भावनात्मक स्वास्थ्य का निर्माण – Emotional health build-up in Hindi

भावनात्मक स्वास्थ्य का निर्माण - Emotional health build-up in Hindi

गर्भावस्था के 8 वें महीने के दौरान के शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ भावनात्मक स्वास्थ्य निर्माण भी बहुत ही आवश्यक है। प्रेगनेंसी में महिला आपको खुश रखने के लिए संबंध बनाने के लिए तैयार हो जाती हैं तो उनकी भावनाओं को समझना आवश्यक होता है। भावनात्मक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में सेक्स मदद करता है, इससे आप अपने साथी के अधिक करीब महसूस करते हैं।

(और पढ़े – क्या गर्भावस्था के दौरान मौखिक सेक्स सुरक्षित होता है…)

प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में सेक्स बॉन्डिंग में सुधार करे – 8th month of pregnancy Sex Increase bonding with partner in Hindi

प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में सेक्स बॉन्डिंग में सुधार करे - 8th month of pregnancy Sex Increase bonding with partner in Hindi

गर्भावस्था के 8 वें महीने के दौरान कुछ समय तक सेक्स न करने पर पार्टनर के साथ दूरियां और गलतफहमी हो सकती है। यदि आप इस समय भी अपने साथी के साथ सेक्स करते है तो यह आपके रिश्ते को बेहतर बनाता है और आपके साथी के साथ आपकी बॉन्डिंग को फिर से जीवंत करता है।

(और पढ़े – गर्भावस्था के दौरान सेक्स करने से जुड़े सबसे बड़े सवाल और उनके जवाब?)

सेक्स में हैप्पी एंडिंग और सेफ एंडिंग – Happy Ending And Safe Ending In Sex in Hindi

सेक्स में हैप्पी एंडिंग और सेफ एंडिंग - Happy Ending And Safe Ending In Sex in Hindi

प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में प्यार करने के दौरान, चरमोत्कर्ष आनंद प्राप्त करने से आपके बच्चे को किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं होती है। क्योंकि गर्भावस्था के दौरान आपका बच्चा भारी और मजबूत मांसपेशियों के भीतर सुरक्षित है।

(और पढ़े – गर्भावस्‍था के दौरान सबसे बेस्‍ट सेक्‍स पोजीशन…)

प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में सेक्स करते समय सुरक्षित रहें – Be safe for sex in 8th month of pregnancy in Hindi

प्रेगनेंसी के 8 वें महीने में सेक्स करते समय सुरक्षित रहें - Be safe for sex in 8th month of pregnancy in Hindi

गर्भावस्था के 8 वें महीने के दौरान सेक्स करते समय सुरक्षा को ध्यान में रखना बहुत ही आवश्यक होता है। इस बारे में अपने साथी से खुलकर बात करें और उसके बारे में चिंतित रहें। उन्हें बताएं कि आपके पेट पर कोई दबाव डाले बिना सही स्थिति में सेक्स करें। याद रखें कि प्रेम केवल भौतिक सुख तक सीमित नहीं है। आप उसके गले आदि पर चुंबन कर सकते है।

यदि आपकी गर्भावस्था सेक्स करने के लिए सुरक्षित नहीं है। तो अपनी चिंताओं के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें। यदि आपको गर्भावस्था के दौरान संभोग करने के लिए कोई भी विरोधाभास है, तो बेहतर है कि रिस्क न लें। लेकिन यदि आपके पास एक स्वस्थ गर्भावस्था है, तो अपने अंतरंग क्षणों का आनंद लें और नए उत्साह का अनुभव करें।

(और पढ़े – प्रेगनेंसी के आठवें महीने की जानकारी और केयर टिप्स…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration