माँ के स्तनों का दूध कैसे सुखाएं घरेलू उपाय और तरीके – How To Dry Up Breast Milk In Hindi

माँ के स्तनों का दूध कैसे सुखाएं घरेलू उपाय और तरीके - How To Dry Up Breast Milk In Hindi
Written by Deepti

अगर आपको स्तनपान कराते हुए समय हो गया है और आप चाहती हैं, कि स्तनों का दूध सूख जाए, तो इसके लिए कई तरीके अपना सकती हैं। वैसे तो कई महिलाओं का दूध प्राकृतिक रूप से खुद सूख जाता है, लेकिन कुछ के दूध को पूरी तरह सूखने में कई सप्ताह लग जाते हैं। मां के दूध को सुखाने के लिए अगर घरेलू उपायों को आजमाया जाए, तो ये असरदार साबित होंगे। इस लेख में आप जानेगीं माँ के स्तनों का दूध कैसे सुखाएं।

महिलाएं कई कारणों से स्तन दूध की आपूर्ति को जल्दी रोकना चाहती हैं। स्तन के दूध को सुखाने की इस प्रक्रिया को लैक्टेशन सप्रेशन कहा जाता है। दरअसल, बच्चे को दूध पिलाने की प्रक्रिया के दौरान स्तन दूध से भर जाते हैं। ऐसे में यदि मां बच्चे को दूध न पिलाने का निर्णय लेती हैं, तो उन्हें कई बार स्तनों में दर्द और सूजन का अनुभव हो सकता है। इस अवधि को खत्म करने और दूध को प्राकृतिक रूप से सुखाने में दो सप्ताह का समय लग सकता है। कई महिलाओं को स्तनों के दूध सुखाने में इससे भी ज्यादा समय लग सकता है। लेकिन किसी कारण से आप स्तनों के दूध को सुखाने की प्रक्रिया में तेजी लाना चाहते हैं, तो आज का हमारा यह आर्टिकल जरूर पढ़ें। इसमें हम आपको मां का दूध सुखाने के कई उपायों के बारे में बताएंगे।

1. स्तन के दूध को सुखाने के कारण – Causes of drying breast milk in Hindi
2. स्तनों के दूध को रोकने के संभावित जोखिम – Risks of stopping breast milk in Hindi
3. स्तनों के दूध को सुखाने के लिए डॉक्टर की मदद कब लें – When to call doctor for dry up breast milk in Hindi
4. स्तनों का दूध सुखाने के दौरान क्या करें, क्या न करें – What to do and what not to do while drying breast milk in Hindi
5. स्तनों का दूध सुखाने के घरेलू नुस्खे – How to dry up breast milk naturally in Hindi
6. स्तनों का दूध सुखाने के लिए सलाह – Tips for Drying Breast Milk in Hindi
7. स्तनों का दूध को सूखने में कितना समय लगता है – How long does it take for the breast milk to dry in Hindi

स्तन के दूध को सुखाने के कारण – Causes of drying breast milk in Hindi

स्तन के दूध को सुखाने के कारण - Causes of drying breast milk in Hindi

मां का दूध सुखाने का कारण मल्टीप्रेग्नेंसी या फिर प्रीटर्म डिलीवरी होता है। जिन महिलाओं की समय से पहले डिलीवरी होती है या फिर मल्टीपल प्रेग्नेंसी हुई हों, तो स्तनों में दर्द का अनुभव हो सकता है। इसलिए कई महिलाएं जल्दी से जल्दी दूध सुखाना चाहती हैं।

  • कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी के कारण कई बार मां के दूध को सुखाने के लिए कहा जाता है।
  • अगर बच्चे को अब दूध की जरूरत नहीं होती, तो इस वजह से भी स्तनों का दूध सुखाया जाता है।
  • मां के स्तन में दूध की कमी भी दूध को सुखाने का मुख्य कारण होती है। हालांकि, कई बार महिलाओं के स्तनों में बच्चे की आपूर्ति  करने लायक दूध नहीं बनता और वे तनाव में आ जाती हैं। इससे बच्चे और मां के बीच रिश्ता कमजोर हो जाता है।

(और पढ़े – स्तनपान के दौरान होने वाली समस्याएं व समाधान…)

स्तनों के दूध को रोकने के संभावित जोखिम – Risks of stopping breast milk in Hindi

स्तनों के दूध को रोकने के संभावित जोखिम - Risks of stopping breast milk in Hindi

स्तनपान को अचानक रोकना एन्जाइटी के जोखिम और अवरूद्ध दूध नलिकाओं या संक्रमण की संभावना को बढ़ाता है। आपको उबकाई भी आ सकती है, इस समस्या से राहत पाने के लिए आपको कुछ दूध निकालने की जरूरत पड़ सकती है। हालांकि, जितना ज्यादा दूध आप निकालेंगे, उतनी ही देर दूध सूखने में लगेगी।

(और पढ़े – बच्चे को स्तनपान कराने से होते हैं ये बड़े फायदे…)

स्तनों के दूध को सुखाने के लिए डॉक्टर की मदद कब लें – When to call doctor for dry up breast milk in Hindi

स्तनों के दूध को सुखाने के लिए डॉक्टर की मदद कब लें - When to call doctor for dry up breast milk in Hindi

लेक्टेशन सप्रेशन कभी-कभी असुविधाजनक हो सकता है। लेकिन अगर आप दर्द और अन्य चिंताजनक लक्षणों का अनुभव करें, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। यदि 12 घंटे के बाद भी लगातार आपको बुखार बना रहता है, तो यह ब्रेस्ट इंफेक्शन का संकेत है। ब्रेस्ट इंफेक्शन के अन्य लक्षणों में गर्मी, स्तनों में सूजन शामिल है। ओरल एंटीबायोटिक्स अधिक गंभीर होने से पहले इस स्थिति का इलाज करने में मदद कर सकते हैं।

(और पढ़े – ब्रेस्ट में सूजन के लक्षण, कारण, जांच, इलाज और बचाव…)

स्तनों का दूध सुखाने के दौरान क्या करें, क्या न करें – What to do and what not to do while drying breast milk in Hindi

स्तनों का दूध सुखाने के दौरान क्या करें, क्या न करें - What to do and what not to do while drying breast milk in Hindi

बच्चे को दूध पिलाने के दौरान और स्तन के दूध को सुखाते समय आपको किन-किन चीजों पर ध्यान देना है और किन चीजों से बचना है, इस बारे में हम यहां बता रहे हैं।

क्या करें-

  • धीरे-धीरे पंपिंग या स्तनपान को टेंपर करें।
  • शरीर को हाइड्रेट रखें।
  • एक्स्ट्रा फ्लूड रिटेंशन से बचने के लिए नमक का सेवन कम करें।
  • कभी-कभी राहत पाने के लिए दूध की थोड़ी मात्रा व्यक्त करें।
  • अपने आहार में हर्बल ऋषि चाय को शामिल करें।
  • सपोर्टिव लेकिन कम टाइट ब्रा पहनने की कोशिश करें। वरना मास्टटिस होने का खतरा बढ़ सकता है।

क्या न करें-

  • दूध के दबाव को कम करने के लिए पंपिंग अच्छा तरीका हो सकता है, लेकिन जितना हो सके, इससे बचने का प्रयास करें। पंप करने से स्तनों के ज्यादा दूध उत्पादन करने के संकेत मिलते हैं।
  • बच्चे को दूध पिलाने के दौरान आपके स्तन भरे हुए रहते हैं। स्तन के दूध की आपूर्ति को कम करने के लिए अपने स्तनों पर हाथ रखें। लेकिन स्तनों की मसाज करने से बचें। क्योंकि यह दूध के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करती है।
  • लंबे समय तक हॉट शॉवर लेने से बचें। क्योंकि गर्माहट आपके स्तनों के दूध के प्रवाह को प्रोत्साहित कर सकती है। इससे दूध सुखाने में काफी समय लग सकता है।
  • मां का दूध सुखाने के लिए महिलाओं को दूध वाली चाय का सेवन न करने की सलाह दी जाती है।
  • जितना हो सके, स्तनों को गर्म पानी के संपर्क से बचांए।

(और पढ़े – बच्चे को दूध पिलाने (स्तनपान कराने) के तरीके और टिप्स…)

स्तनों का दूध सुखाने के घरेलू नुस्खे – How to dry up breast milk naturally in Hindi

स्तनों का दूध सुखाने के घरेलू नुस्खे - How to dry up breast milk naturally in Hindi

स्तन का दूध सुखाने के बहुत ज्यादा घरेलू नुस्खे तो नहीं हैं। फिर भी हम आपको कुछ ऐसे असरदार नुस्खे बता रहे हैं, जिन्हें आजमाकर आप दूध के उत्पादन को रोक सकते हैं। स्तनों के दूध को सुखाने की प्रकिया में तेजी लाने के घरेलू नुस्खे सीखने के लिए आगे पढ़ें।

स्तनों के दूध सुखाए गोभी के पत्ते – Breast ka doodh sukhae gobhi ke patte in Hindi

स्तनों के दूध सुखाए गोभी के पत्ते - Breast ka doodh sukhae gobhi ke patte in Hindi

बंद गोभी आपके स्तनों के दूध को सुखाने का बेहद अच्छा घरेलू उपाय है। बंद गोभी की पत्तियों में दूध को सुखाने वाले प्राकृतिक तत्व भी होते हैं। गोभी के पत्तों को एक कंटेनर में रखकर फ्रिज में ठंडा होने के लिए रख दें। इन पत्तों को अपने पूरे स्तन पर लगाएं और दो घंटे बाद बदल लें। लंबे समय तक उपयोग किए जाने पर गोभी के पत्ते दूध को सुखा सकते हैं। पत्तियां सूजन को कम करने में आपकी बहुत मदद करेंगी, जिससे दूध की आूपर्ति भी कम हो जाएगी। (और पढ़े – पत्ता गोभी के फायदे और नुकसान…)

स्तनों का दूध सुखाने के लिए सपोर्टिव ब्रा पहनें – Stano ka doodh sukhane ke liye supportive bra pehne in Hindi

स्तनों का दूध सुखाने के लिए सपोर्टिव ब्रा पहनें - Stano ka doodh sukhane ke liye supportive bra pehne in Hindi

स्तनों के दूध सुखाने के लिए सपोर्टिव ब्रा पहनें। यह आपको रात में अधिक आरामदायक महसूस कराएगी। निप्पलों की उत्तेजना से बचें, क्योंकि यह दूध के उत्पादन को गति देता है। इसके आलावा एक्सपर्ट्स के अनुसार टाइट ब्रा स्तनों में सूजन का कारण बन सकती है, जिससे ब्रेस्ट इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है।

(और पढ़े – ब्रा के प्रकार से चुनिए अपनी जरूरत के अनुसार उपयुक्त ब्रा…)

धीरे-धीरे स्तनपान छुड़ाने से सूखेगा मां का दूध – Dheere breastfeeding chudane se sookhega maa ka doodh in Hindi

धीरे-धीरे स्तनपान छुड़ाने से सूखेगा मां का दूध - Dheere breastfeeding chudane se sookhega maa ka doodh in Hindi

बच्चे का स्तनपान छुड़ाना आसान काम नहीं है, लेकिन इसे धीरे-धीरे छुड़ाएं। इसके लिए बेहतर है, कि आप स्तनपान को किसी आहार से रिप्लेस कर दें। यह स्तनपान छुड़ाने का सबसे सुरक्षित और दर्द रहित तरीका है। अगर आप बच्चे को स्तनपान नहीं कराएंगे, तो स्तनों में दूध का उत्पादन बंद हो जाएगा और दूध सूख जाएगा। (और पढ़े – बच्चे को माँ का दूध (स्तनपान) छुड़ाने के उपाय…)

मां का दूध सुखाने का घरेलू नुस्खा विटामिन बी-6 – Maa ka doodh sukhane ka gharelu nuskha vitamin B-6 in Hindi

मां का दूध सुखाने का घरेलू नुस्खा विटामिन बी-6 - Maa ka doodh sukhane ka gharelu nuskha vitamin B-6 in Hindi

विटामिन बी-1, बी-6 और विटामिन बी-12 की अच्छी खुराक स्तन के दूध को दबाने के लिए बहुत उपयुक्त मानी जाती है। इनमें से विटामिन बी-6 प्रोलेक्टीन को रोकने के लिए सक्षम है। बता दें कि, प्रोलेक्टीन मां के दूध के उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। (और पढ़े – विटामिन बी12 के फायदे स्रोत और स्वास्थ्य लाभ…)

स्तनों का दूध सुखाने का तरीका है आइस पैक – Ice pack for dry breast milk in Hindi

आइस पैक की मदद से भी मां के दूध को सुखाया जा सकता है। ये घरेलू तरीका कारगार साबित होता है। बर्फ के टुकड़ों को एक साफ नैपकिन में लपेटें और स्तनों पर रखें। इस प्रक्रिया को नहाने के बाद करना असरदार होता है। आप चाहें तो इबुप्रोफेन और पेरासिटामोल का भी सेवन कर सकते हैं। इससे आपकी सुजन और तकलीफ को कम करने में मदद मिलेगी। (और पढ़े – चेहरे पर बर्फ लगाने के फायदे…)

मां का दूध सुखाने का तरीका जैसमीन की पत्तियां – Maa ka doodh sukhane ka tarika jaismine leaves in Hindi

मां का दूध सुखाने का तरीका जैसमीन की पत्तियां - Maa ka doodh sukhane ka tarika jaismine leaves in Hindi

जैसमीन की पत्तियां भी मां का दूध सुखाने में मददगार साबित हो सकती हैं। इसके लिए चमेली के पत्तों को ब्रा के कप में फिट करके रखें। लगातार ऐसा करने से, दूध का उत्पादन रूक जाएगा और स्तनों में भरा दूध सूख जाएगा। (और पढ़े – हरसिंगार के फायदे और नुकसान…)

स्तनों का दूध सुखाने के लिए लें बर्थ कंट्रोल – Stano ka doodh sukhaye birth control in Hindi

स्तनों का दूध सुखाने के लिए लें बर्थ कंट्रोल - Stano ka doodh sukhaye birth control in Hindi

गर्भनिरोधक गोलियां जिसमें हार्मोन एस्ट्रोजन होता है, लैक्टेशन को दबाने में मदद करती हैं। डिलीवरी के बाद एस्ट्रोजन युक्त गोली शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। एफडीए द्वारा इस उपयोग के लिए बर्थ कंट्रोल को मंजूरी नहीं दी गई है, लेकिन इसे कुछ परीस्थितियों में निर्धारित किया जा सकता है। इसे ऑफ लेबल ड्रग के रूप में भी जाना जाता है। (और पढ़े – गर्भनिरोधक दवाओं के नाम और उनसे शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव…)

मां का दूध रोकने का प्राकृतिक उपचार ऋषि चाय – Natural remedy to stop breast milk Sage Tea in Hindi

मां का दूध रोकने का प्राकृतिक उपचार ऋषि चाय - Natural remedy to stop breast milk Sage Tea in Hindi

दूध सुखाने के लिए ऋषि चाय काफी प्रचलित है। इस हर्बल चाय में नेचुरल एस्ट्रोजन होता है। यह चाय दो रूपों में उपलब्ध है। किसी भी नजदीकी हर्बल स्टोर पर ऋषि चाय खरीदें और इसे दूध और शहद के साथ उबालकर पीएं। दूसरा, इसका ऋषि मिश्रण भी मिलता है, जिसमें अल्कोहल मिली रहती है। यह मिश्रण मां का दूध सुखाने के लिए काफी लोकप्रिय है।

(और पढ़े – हर्बल टी लिस्ट, बनाने की विधी, फायदे और नुकसान…)

स्तनों का दूध सुखाने के लिए सलाह – Tips for Drying Breast Milk in Hindi

स्तनों का दूध सुखाने के लिए सलाह - Tips for Drying Breast Milk in Hindi

नीचे दिए जा रहे कुछ टिप्स की मदद से जल्द से जल्द स्तनों का दूध सुखाने में आपको मदद मिल सकती है।

  • अगर बच्चा अब भी स्तनपान नहीं छोड़ रहा है और रूचि दिखा रहा है, तो बच्चे को स्तनों से दूर रखें। जब आप दूध सुखाने का प्रयास कर रही हैं, तो इस स्थिति में बच्चे को मां की गोद से दूर रखें। क्योंकि दूध की सुगंध बच्चे को आकर्षित कर सकती हैं।
  • दूध को सुखाने के लिए गर्म स्नान करने के दौरान थोड़ी मात्रा में दूध निकालें। जब भी आप स्तनों को भरा हुआ महसूस करें, तो यह प्रक्रिया करें। लगातार ऐसा करने से स्तनों का दूध सूखने लग जाएगा। अगर फिर भी दूध का आना न रूके, तो अगले दस दिनों तक आपको यह प्रक्रिया करनी पड़ सकती है।
  • दूध का बहाव अगर लगातार हो, तो मैक्सी पैड का उपयोग करें। इससे आपके कपड़े गीले नहीं होंगे। इन मैक्सी पैड को आधे हिस्से में काटकर अपनी ब्रा के भीतर सटाकर रख लें।
  • कई महिलाओं को रात में दूध का रिसाव ज्यादा होता है, इसके लिए स्तनों पर एक तौलिया लगा लें और ऊपर से टाइट शर्ट या टॉप पहन लें। तौलिया पूरा दूध सोख लेगी और कपड़े भी गंदे होने से बच जाएंगे।
  • डॉक्टरों की सलाह के अनुसार स्तनों के दूध को रोकने के लिए इन पर एक पट्टी बांधें। लेकिन ध्यान रखें, कि ये ज्यादा टाइट न हो, कि आपके स्तन दबें। लगभग 7 से 10 दिनों तक ऐसा करना है। दूध कम होने की स्थिति में इस प्रक्रिया को कुछ दिनों के लिए ही किया जाना चाहिए।

विशेषज्ञों के अनुसार, प्यास के अनुसार पानी पीना चाहिए। शरीर के निर्जलीकरण होने पर दूध का उतपादन ज्यादा होना शुरू हो जाता है। जिससे तकलीफ कम होने के बजाए और बढ़ जाती है। पानी की जगह ज्यादा से ज्यादा मात्रा में नींबू पानी, इलेक्ट्रोलाइट पीएं। लेकिन शुगर स्पोट्र्स ड्रिंक का सेवन न करें।

(और पढ़े – डिलीवरी के बाद ब्रेस्‍ट से दूध लीक हो रहा है तो करें ये उपाय…)

स्तनों का दूध को सूखने में कितना समय लगता है – How long does it take for the breast milk to dry in Hindi

स्तनों का दूध को सूखने में कितना समय लगता है - How long does it take for the breast milk to dry in Hindi

स्तनों का दूध सूखने में कितना समय लगता है, यह आपके द्वारा आजमाए गए तरीकों और आप कितने समय से स्तनपान करा रहीं हैं, इस पर निर्भर करता है। स्तनपान की विधि और आपकी वर्तमान दूध की आपूर्ति के आधार पर कुछ दिन, कुछ सप्ताह या कई महीने तक का भी समय लग सकता है।

  • अधिकांश दूध निकल जाने के बाद भी आप कुछ महीनों तक दूध का उत्पादन कर सकते हैं। यदि आपके स्तनों का दूध बिना किसी वजह से फिर से आता है, तो अपने डॉक्टर से बात करें।
  • स्तनों के दूध को सुखाना एक व्यक्तिगत निर्णय है और कभी-कभी कई कारणों से जरूरी हो जाता है। यदि आप किसी चिकित्सीय स्थिति के कारण दूध को सुखा रहीं हैं, लेकिन अब भी बच्चे के लिए ब्रेस्टफीडिंग जरूरी है, तो इसके लिए ब्रैस्ट मिल्क बैंक हैं।

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration