फटी उंगलियों के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for Painful And Cracked Fingertips In Hindi - Healthunbox
घरेलू उपाय

फटी उंगलियों के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for Painful And Cracked Fingertips In Hindi

फटी उंगलियों के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for Painful And Cracked Fingertips In Hindi

Home Remedies for Painful And Cracked Fingertips In Hindi: फटी उंगलियों का प्रमुख कारण हथेली में प्राकृतिक नमी का ना होना है। फटी हुई उंगलियां न केवल आपके लिए असुविधाजनक होती हैं बल्कि यह आपके आत्‍मविश्‍वास को भी कम कर सकती हैं। स्‍वाभाविक रूप से फटी उंगलियों को छुपा पाना मुश्किल होता है। साथ ही यह आपके दैनिक कार्यो को भी प्रभावित करती है। अधिकांश मामलो में फटी उंगलियां दर्द का कारण बनती है। हथेली की त्‍वचा फटना एक आम समस्‍या है जो कि अधिकांश लोगों की प्रमुख समस्‍या है। हाथों की त्‍वचा फटना रोकने के उपाय भी होते हैं। उंगलियों के फटने जैसी समस्‍या को रोकने के लिए आप कुछ आसान से घरेलू उपाय भी आजमा सकते हैं। आज इस लेख में आप जानेगें फटी उंगलियों के लिए घरेलू उपाय क्‍या हैं।

विषय सूची

उंगलियों का फटना क्‍या है – Ungliyo ka fatna kya hai in Hindi

उंगलियों का फटना ऐसी स्थिति है जिसमें हाथों की त्‍वचा शुष्‍क होकर कड़ी हो जाती है। जिसके परिणाम स्‍वरूप उनमें दरार आने लगती है। कई बार यह स्थिति इतनी गंभीर हो जाती है कि उंगलियों की इन दरारों में बेहद दर्द और रक्‍तस्राव भी हो सकत है। मुख्‍य रूप से इस प्रकार की समस्‍या प्रभावित क्षेत्र की उचित सफाई न होना और शुष्‍क त्‍वचा के कारण होती है। आइए जाने उंगलियां फटने के कारण क्‍या हैं।

उंगलियां फटने के कारण – Ungliya fatne ke karan in Hindi

उंगलियां फटने के कारण – Ungliya fatne ke karan in Hindi

उंगलियों की त्‍वचा फटने के बहुत से कारण होते हैं। उंगलीयों का फटना या त्‍वचा का छिलना एक आम समस्‍या है जो कि विशेष गंभीर नहीं होती है। हालांकि कभी कभी यह दर्द का कारण बन सकती है। आइए जाने किन कारणों से हथेली की त्‍वचा और उंगलियां फटती या छिलती हैं।

  • शुष्‍क त्‍वचा – यह स्थिति विशेष रूप से सर्दियों के मौसम में होती है।
  • रासायनिक उत्‍पाद – कठोर रसायनों वाले साबुन और डिटर्जेंट आदि का उपयोग करने से हाथ की त्‍वचा शुष्‍क हो सकती है जिससे उंगलियां फट सकती हैं।
  • सनबर्न – जब त्‍वचा सूर्य की तेज किरणों से क्षतिग्रस्‍त होती है तब कुछ दिनों के बाद त्वचा का छिलना और फटने जैसी स्थिति बन सकती है।
  • बुरी आदतें – कुछ लोगों को अंगूठा चूसने, मुंह से उंगलियों की मोटी चमड़ी काटने आदि की आदत होती है।
  • पर्यावरण – कुछ लोगों को सर्दी, गर्मी और बरसात आदि मौसम के प्रभाव के कारण भी उंगलियां फटने की समस्‍या हो सकती है।

त्‍वचा का छिलना या परत निकलना कुछ चिकित्‍सीय कारणों पर भी निर्भर करता है। जैसे कि :

  • एलर्जी –यदि आपकी त्‍वचा किसी विशेष वस्‍तु या उत्‍पाद के प्रति संवेदनशील होती है। ऐसी स्थिति में उन उत्पादों के संपर्क में आने से हाथ की स्किन फट सकती है।
  • नियासिन या विटामिन बी3 की कमी के कारण।
  • विटामिन ए विषाक्‍तता – विटामिन ए की अधिक मात्रा में सेवन करने के दौरान भी आप इस प्रकार की समस्‍या का सामना कर सकते हैं।
  • हैंड एक्जिमा – यह समस्‍या अनुवांशिक होने के साथ ही कुछ रसायनों के संपर्क में आने से होती है। जिसके परिणामस्‍वरूप आपको हाथ की उंगलियां फटने की संभावना बढ़ जाती है।
  • सोसायसिस – यह एक त्‍वचा विकार है जो आपकी त्‍वचा पर चकते, दानेदार त्‍वचा और परतदार त्‍वचा जैसी समस्‍याएं उत्‍पन्‍न करती है।
  • कावासाकी रोग – इस प्रकार के रोग संबंधी मामले बहुत ही कम देखने मिलते हैं। यह विशेष रूप से 5 वर्ष से कम आयु के शिशुओं को होती है।

फटी उंगलियों के उपाय – Fati ungliyo ke upay in Hindi

फटी उंगलियों के उपाय – fatiungliyo ke upay in Hindi

हाथों की फटी उंगलियों का उपचार करने के लिए बहुत घरेलू उपाय होते हैं। लेकिन इन्हें उपयोग करने से पहले इनकी जांच कर लें। क्‍योंकि कुछ घरेलू उपाय आपको लाभ तो दिलाते हैं लेकिन ये अन्‍य प्रकार से आपको नकसान पहुंचा सकते हैं। इन उपायों को अपनाते समय आपको इस बात का ध्‍यान रखना चाहिए कि ये आपकी त्वचा को किसी भी प्रकार से प्रभावित न करें। यहां हाथ और पैर की फटी उंगलियों के घरेलू उपाय बताये गए हैं। जिनका उपयोग कर आप उंगलियां फटने संबंधी समस्‍याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

फटी उंगलियों के लिए घरेलू उपाय मलाई – Fati ungliyo ke gharelu upay milk Cream in Hindi

फटी उंगलियों के लिए घरेलू उपाय मलाई – Fati ungliyo ke gharelu upay milk Cream in Hindi

दूध की मलाई में त्‍वचा को प्राकृतिक नमी प्रदान करने वाले गुण होते हैं। यह आपकी त्‍वचा को नरम और मुलायम बनाता है। इसलिए स्‍वाभाविक रूप से फटी उंगलियों का इलाज करने के लिए दूध की मलाई का उपयोग किया जा सकता है। आप अपनी फटी हुई उंगलियों में ताजा दूध की मलाई लगा सकते हैं। इसे कुछ समय तक अपनी उंगलियों में लगा कर रखें और फिर सामान्‍य पानी से धो लें। ऐसा करने आपको त्‍वचा की दरारों और शुष्‍कता दोनों को कम करने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें – चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए दूध की मलाई का इस तरह करें इस्तेमाल)

फटी उंगलियों का घरेलू उपचार चीनी – Fati Ungliyo ka gharelu Upchar Sugar in Hindi

फटी उंगलियों का घरेलू उपचार चीनी – Fati Ungliyo ka gharelu Upchar Sugar in Hindi

शक्‍कर या चीनी आपकी त्वचा के एक्‍सफोलिएशन (exfoliation) के लिए सबसे अच्‍छा प्राकृतिक उपाय होता है। यह मृत त्‍वचा और शुष्‍क त्‍वचा कोशिकाओं को आसानी से दूर करने में सहायक होता है। यदि आप भी अपनी फटी उंगलियों का उपचार करना चाहते हैं तो चीनी का उपयोग करें। इसके लिए आप 1 छोटा चम्‍मच चीनी लें और थोड़े से पानी के साथ मिलाकर एक गाढ़ा पेस्‍ट बनाएं। इस पेस्‍ट को अपनी उंगलियों में लगाएं और हल्की मालिश करें। नियमित रूप से कुछ दिनों तक इस उपाय को करना  आपको फटी उंगलियों से छुटकारा दिला सकता है।

फटी उंगलियों के उपाय चावल का आटा –Fati ungliyo ka upay Rice Flour in Hindi

फटी उंगलियों के उपाय चावल का आटा –Fati ungliyo ka upay Rice Flour in Hindi

आप अपनी फटी हुई उंगलियों का उपचार करने के लिए चावल के आटे का उपयोग कर सकते हैं। यह हाथ की फटी हुई त्‍वचा के लिए सबसे अच्‍छा घरेलू उपचार होता है। इसके लिए आप साबुत चावल को लें और इसे पीसकर पाउडर बना लें। चावल के इस आटे में थोड़ा सा पानी मिलाएं और एक पेस्‍ट तैयार करें। इस पेस्‍ट को अपनी हथेली और उंगलियों में अच्‍छी तरह से लगाएं। लगभग 15 से 20 मिनिट के बाद आप अपने हाथ को सामान्‍य पानी से धो लें। नियमित रूप से कुछ दिनों तक इस उपाय को करने से आप फटी हुई उंगलियों से राहत पा सकते हैं।

(और पढ़ें – चावल के आटे के फेस पैक से करें चेहरे को गोरा)

उंगलियां फटने से रोके सेंधा नमक – Ungliya fatne se roke Epsom Salt in Hindi

उंगलियां फटने से रोके सेंधा नमक – Ungliya fatne se roke Epsom Salt in Hindi

फटी उंगलियों को ठीक करने के लिए सेंधा नमक (Epsom salt) का भी घरेलू उपचार के रूप में उपयोग किया जा सकता है। आप अपने हाथ की स्किन को छिलने से बचाने के लिए सेंधा नमक और पानी के मिश्रण का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप 1 छोटा चम्‍मच सेंधा नमक लें और आधे गिलास पानी में इसे अच्‍छी तरह से घोलें। इस पानी में आप अपनी उंगलियों को 15 से 20 मिनिट तक डुबो कर रखें। यह उपाय मृत कोशिकाओं को दूर करने और नई त्वचा को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होता है।

(और पढ़ें – नमक के फायदे, उपयोग और नुकसान)

गुलाब जल से करें फटी उंगलियों का इलाज  – Fati ungliyo ka ilaj rose water in Hindi

गुलाब जल से करें फटी उंगलियों का इलाज  – Fati ungliyo ka ilaj rose water in Hindi

फटी उंगलियों का प्राकृतिक इलाज करने के लिए गुलाब जब सबसे अच्‍छा उपाय है। यह आपके हाथों में त्‍वचा के कायाकल्‍प (skin rejuvenation) में भी सहायक होता है। इसके लिए आप एक कटोरी में गलाब जल लें और इसमें कपास की रूई को भिगोएं। इस भीगी हुई रूई को आप अपनी फटी हुई उंगलियों में लगाएं और हल्‍की मालिश करें। ऐसा करने से आपके हाथ की त्वचा को प्राकृतिक लाभ मिलने के साथ ही गुलाब जल के औषधीय गुण प्राप्‍त होते हैं। जिससे त्‍वचा के फटने जैसी समस्‍या को दूर किया जा सकता है।

(और पढ़ें – खूबसूरती में चार चाँद लगा देता है गुलाब जल, जानिए कैसे)

फटी उंगलियों के लिए घरेलू नुस्‍खा एलोवेरा – Fati Ungliyo ke liye gharelu nuskha Aloe Vera in Hindi

फटी उंगलियों के लिए घरेलू नुस्‍खा एलोवेरा – Fati Ungliyo ke liye gharelu nuskha Aloe Vera in Hindi

एलोवेरा त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं को दूर करने का सबसे अच्‍छा प्राकृतिक तरीका है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि एलोवेरा में एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। आप अपनी फटी हुई उंगलियों का इलाज करने के लिए एलोवेरा की कुछ ताजा की पत्तियां लें और इसका जेल निकालें। इस जेल को आप अपनी हाथ की फटी त्‍वचा का इलाज कर सकते हैं।

(और पढ़ें – एलोवेरा जूस के फायदे और नुकसान)

उंगलियों को फटने से रोके नारियल तेल – Ungliyo ko fatne se roke nariyal tel in Hindi

उंगलियों को फटने से रोके नारियल तेल – Ungliyo ko fatne se roke nariyal tel in Hindi

यदि आप उंगलियों के फटने और हाथ की त्वचा छिलने जैसी समस्‍या का सामना कर रहे हैं तो नारियल के तेल का उपयोग करें। नारियल का तेल फटी उंगलियों का प्रभावी रूप से उपचार करने में सहायक होता है। यह आपके हाथों की त्‍वचा को प्राकृतिक रूप से मॉइस्‍चराइज रखता है। इसके लिए आप नारियल के तेल को हल्‍के गुनगुने तक गर्म करें और इसे अपने हाथों में अच्‍छी तरह से लगाएं। ऐसा करने से आप उंगलियों को फटने से रोक सकते हैं।

(और पढ़ें – नारियल तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान)

उंगलियों के फटने से बचाये सरसों का तेल – Ungliyo ko fatne se bachaye Mustrad Oil in Hindi

उंगलियों के फटने से बचाये सरसों का तेल –Ungliyo ko fatne se bachaye Mustrad Oil in Hindi

सरसों का तेल आपकी फटी उंगलियों का उपचार करने में सहायक होता है। यह आपके हाथों को प्राकृतिक नमी दिलाने में सहायक होता है। फटी उंगलियों का उपचार करने के लिए आप अपने हाथों में सरसों का शुद्ध तेल लगाएं। तेल लगाने के बाद आप हल्‍की मालिश करें। जिससे तेल आपकी त्‍वचा की दरारों में अवशोषित हो जाए। आप इस उपाय को विशेष रूप से इस समय दोहराएं जब आप साबुन से अपने हाथों को धुलते हैं।

(और पढ़ें – सरसों के तेल के फायदे स्वास्थ्यवर्धक लाभ और नुकसान)

फटी उंगलियों का इलाज जैतून का तेल – Fati Ungliyo ka ilaj Olive Oil in Hindi

फटी उंगलियों का इलाज जैतून का तेल – Fati Ungliyo ka ilaj Olive Oil in Hindi

आप अपनी त्वचा को स्‍वस्‍थ और दरार मुक्‍त रखने के लिए जैतून के तेल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। यह फटी उंगुलियों का घरेलू उपचार करने का सबसे अच्‍छा तरीका है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि जैतून के तेल में बहुत से औषधीय गुण होते हैं जो त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होते हैं। आप अपनी उंगलियों के प्रभावित क्षेत्र में जैतून का तेल लगाएं और हल्‍की मालिश करें। कुछ दिनों तक नियमित रूप से जैतून के तेल का इसतेमाल करने से आपको आपको उंगलियों के फटने या दरार आने जैसी समस्‍या से छुटकारा मिल सकता है।

(और पढ़ें – जैतून तेल की मालिश के फायदे)

फटी उंगलियों को ठीक करने का तरीका ग्लिसरीन – Fati Ungli ko thik karne ka tarika Glycerin in Hindi

फटी उंगलियों को ठीक करने का तरीका ग्लिसरीन – Fati Ungli ko thik karne ka tarika Glycerin in Hindi

ग्लिसरीन का उपयोग फटी उंगलियों के उपचार के लिए किया जाता है। यह आपके हाथ की त्‍वचा में नमी को बनाए रखने और त्‍वचा को छिलने से रोकती है। नियमित रूप से हाथों में ग्लिसरीन का उपयोग करने से यह त्‍वचा को कोमल भी रखती है जिससे त्‍वचा में दरार आने या फटने जैसी समस्‍या को रोका जा सकता है। इसके लिए आप 1 चम्‍मच ग्लिसरीन लें और रूई को इसमें भिगोएं। इस रूई को आप अपने हाथों में लगाएं। आप ग्लिसीन को सीधे ही अपने हाथों में लेकर भी लगा सकते हैं। यह आपको फटी हुई उंगलियों से जल्‍दी ही राहत दिला सकता है।

(और पढ़ें – बालों के लिए ग्लिसरीन के फायदे और लगाने का तरीका)

फटी उंगलियों के घर का उपचार नीम – Fati Ungliyo ke gharka Upchar Neem in Hindi

फटी उंगलियों के घर का उपचार नीम – Fati Ungliyo ke gharka Upchar Neem in Hindi

आप अपने हाथों और विशेष रूप से उंगली की त्‍वचा फटने संबंधी समस्‍या का इलाज करने के लिए नींम का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप नीम की पत्तियों का पेस्‍ट बनाएं और अपनी उंगलियों में लगाएं। विकल्‍प के रूप में आप नीम के तेल का भी उपयोग कर सकते हैं। यह न केवल त्‍वचा को फटने से बचाता है बल्कि यह उन दरारों में मौजूद बैक्‍टीरिया और संक्रमण को भी दूर कर सकता है।

(और पढ़ें – नीम के पत्ते के फायदे, उपयोग और नुकसान)

फटी उंगलियों के अन्‍य घरेलू उपाय – Fati Unglio ke Anya Gharelu upay in Hindi

ऊपर बताए गए सभी घरेलू उपाय फटी हुई उंगलियों का इलाज कर सकते हैं। इन उपायों को अपनाने के साथ ही आप कुछ अन्‍य उपाय भी अमल में ला सकते हैं। जिससे उंगलियों के फटने संबंधी समस्‍या को फिर से आने से रोका जा सकता है।

(और पढ़ें – डेड स्किन (मृत त्वचा) हटाने के घरेलू उपाय)

अपने हाथों की त्‍वचा को सुरक्षा दें – Protect Your Hands Skin in Hindi

आप उंगलियों फटने और हाथ की त्‍वचा को अन्‍य नुकसान से बचाने के लिए सूरज की तेज धूप से बचें। सूरज की तेज और सीधी धूपआपकी त्‍वचा को शुष्‍क कर सकती है। जिससे अन्‍य समस्‍याएं भी हो सकती हैं। आप अपने शरीर की त्‍वचा को अन्य समस्‍याओं से बचाने के लिए धूप में अधिक समय तक न रहें। इसके अलावा आप अपने हाथों को कवर करने के लिए दस्‍ताने आदि का भी उपयोग कर सकते हैं।

फटी उंगलियों के लिए मॉइस्‍चराइजर का उपयोग करें – Fati Ungliyo ke liye Moisturize ka Upyog kare in Hindi

फटी उंगलियों के लिए मॉइस्‍चराइजर का उपयोग करें – Fati Ungliyo ke liye Moisturize ka Upyog kare in Hindi

आप अपनी फटी उंगलियों का इलाज करने के लिए मॉइस्‍चराइजिंग क्रीम का उपयोग करें। बेहतर होगा कि आप इन मॉइस्‍चराइजिंग क्रीम को रात में सोने से पहले अपने हाथों में लगाएं और पूरी रात इसे हाथों में लगे रहने दें। ऐसा करने से आपकी फटी हुई उंगलियों का तेजी से उपचार करने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें – सर्दियों में घर पर कोल्ड क्रीम बनाने की विधि)

बार-बार साबुन से हाथ न धुलें – Avoid Soap in Hindi

बार-बार साबुन से हाथ न धुलें – Avoid Soap in Hindi

हाथ और उंगलियों की त्‍वचा को शुष्‍क होने और छिलने से बचाने के लिए बार-बार शैम्‍पू और साबुनों का उपयोग करने से बचना चाहिए। ऐसा करने से इन साबुनों में मौजूद रासायनिक घटक त्‍वचा की नमी को दूर कर सकते हैं। इसलिए आप हाथ धोने के लिए आवश्‍यक होने पर ही साबुन का उपयोग करें।

(और पढ़ें – हाथ धोने का सही तरीका और फायदे)

दस्‍तानों का उपयोग करें – Wear gloves in Hindi

दस्‍तानों का उपयोग करें – Wear gloves in Hindi

हाथ की त्‍वचा को शुष्‍क होने से बचाने के लिए आप दस्‍तानों का उपयोग करें। ऐसा करने से हाथों को मॉइस्‍चराइज रखने में मदद मिलेगी। इसके अलावा बर्तन धोने के दौरान भी आप रबर वाले दस्‍तानों का उपयोग कर सकते हैं जिससे आप साबुन और पानी दोनों के संपर्क से बच सकते हैं। लंबे समय तक पानी के संपर्क में रहने से भी हाथ की त्‍वचा शुष्‍क होती है।

फटी उंगलियों का उपचार करने के लिए टिप्‍स – Tips to Prevent Cracked Fingertips in Hindi

फटी उंगलियों का उपचार करने के लिए टिप्‍स – Tips to Prevent Cracked Fingertips in Hindi

इन उपायों को अपनाने के साथ ही आपको कुछ विशेष सावधानियों का ध्‍यान रखना चाहिए। जिससे आप अपनी उंगलियों को फटने और हाथ की स्किन को स्‍वस्‍थ रख सकते हैं।

  • सर्दी के मौसम में जब भी आप बाहर जाएं तो अपने हाथों को ढकने का प्रयास करें।
  • पर्याप्‍त मात्रा में पानी पिएं
  • अपने हाथों और पैरों को नमी युक्‍त रखने का प्रयास करें।
  • अधिक मात्रा में शैम्‍पू और कठोर साबुनों का उपयोग न करें
  • हल्‍के मॉइस्चराइजिंग विकल्‍पों को चुनें।
  • सैनिटाइजर का उपयोग न करने की कोशिश करें क्‍योंकि ये आपकी त्‍वचा को शुष्‍क बना सकते हैं।
  • घर के अंदर ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें।

ऊपर बताए गए घरेलू उपायों को अपनाकर आप उंगलियों को फटने से बचा सकते हैं। लेकिन इन उपायों को अपनाने के बाद भी आपको आराम न मिले या लक्षण बहुत ही गंभीर हों तो आपको डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए।

(और पढ़ें – हैंड सैनिटाइजर और हैंडवाशिंग में से कौन बेहतर हैं? आइये पता लगते हैं)

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration