आनंद बालासन योग करने की विधि और लाभ - Ananda Balasana (Happy Baby pose) steps and benefits in Hindi
योग

आनंद बालासन योग करने की विधि और लाभ – Ananda Balasana (Happy Baby Pose) Steps And Benefits In Hindi

आनंद बालासन योग करने की विधि और लाभ - Ananda Balasana (Happy Baby pose) steps and benefits in Hindi

Ananda Balasana In Hindi आनंद बालासन योग विभिन्न सिद्धांतों का इस्तेमाल हमारे भीतर मौजूद ऊर्जाओं को सक्रिय, जागृत और नियंत्रित करने के लिए करता है। यह आसान मन को भी जागृत करता है और उसे उच्च जागरूकता और चेतना के स्तर पर लाता है। यह शरीर को ध्यान की स्थिति में जाने के लिए तैयार करता है। आनंद बालासन करने वाला व्यक्ति उस प्रकार दिखाई देता है जिस तरह बच्चे अपने पैरों के साथ खेलते हैं। हैप्पी बेबी पोज़ सबसे आसान और सबसे जादुई आसनों में से एक है जो निचले मांसपेशी समूह को आराम देता है, हैमस्ट्रिंग को बढ़ाता है और शरीर में पोषक तत्वों के प्रवाह को नियंत्रित करता है। आइये आनंद बालासन योग करने की विधि और उसके लाभ को विस्तार से जानते हैं।

विषय सूची

1. आनंद बालासन क्या है – What is Ananda Balasana (Happy Baby pose) in Hindi
2. आनंद बालासन करने से पहले करें यह आसन – Ananda Balasana (Happy Baby pose) karne se pahle ke yoga in Hindi
3. आनंद बालासन करने का तरीका – Steps to do Happy Baby pose in Hindi
4. शुरुआती लोगों के लिए आनंद बालासन करने के टिप – Beginner’s Tip to do Ananda Balasana in Hindi
5. आनंद बालासन (हैप्पी बेबी पोज़) के फायदे –  Benefits Of The Happy Baby pose in Hindi

6. आनंद बालासन करने से पहले रखें यह सावधानी – Precautions to do Ananda Balasana in Hindi

आनंद बालासन क्या है – What is Ananda Balasana (Happy Baby pose) in Hindi

आनंद बालासन क्या है - What is Ananda Balasana (Happy Baby pose) in Hindi

आनंद बालासन एक खुश बच्चें के समान दिखने वाली मुद्रा है इस आसन को करने वाले की स्थिति एक बच्चे के जैसे दिखाई देती है जब बच्चा दोनों पैर को ऊपर करके उनसे खेलता है। इस आसन को हैप्पी बेबी पोज़ (Happy baby pose) के नाम से भी जाना जाता है। आनंद बालासन दो शब्दों से मिलके बना है जिसमे पहले शब्द का अर्थ “आनंदित” है और दूसरे शब्द का अर्थ “शिशु” है। यह आसन मन को शांत करने और शरीर को तनाव मुक्त करने की अपनी क्षमता के लिए जाना जाता है। आइये इस आसन को करने का तरीका विस्तार से जानते हैं।

(और पढ़े – बालासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां…)

आनंद बालासन करने से पहले करें यह आसन – Ananda Balasana (Happy Baby pose) karne se pahle ke yoga in Hindi

आनंद बालासन करने से पहले करें यह आसन - Ananda Balasana (Happy Baby pose) karne se pahle ke yoga in Hindi

आनंद बालासन या हैप्पी बेबी पोज़ करने से पहले आप इन आसन करें इससे आपको आनंद बालासन योग करने में आसानी होगी।

(और पढ़े – अधोमुख श्वानासन के फायदे और करने का तरीका…)

आनंद बालासन करने का तरीका – Steps to do Happy Baby pose in Hindi

हैप्पी बेबी पोज़ एक सरल आसन है इसे आसानी से किया जा सकता है। आनंद बालासन आसन को करने के लिए किसी विशेष प्रकार की सावधानी रखनी की आवश्यकता नहीं होती है। आइये आनंद बालासन को करने की विधि को विस्तार से जानते हैं।

  • आनंद बालासन करने के लिए आप एक योगा मैट को फर्श पर बिछा के उस पर पीठ के बल लेट जाएं।
  • अपने दोनों हाथों और पैरों को सीधा फर्श पर ही रखें।
  • अब अपने दोनों पैरों को ऊपर की ओर सीधा उठायें।
  • पैरों की उँगलियों को नीचे अपने मुँह की ओर झुकाएं।
  • अब दोनों हाथों को भी ऊपर की ओर उठायें और दोनों पैरों के अंगूठे को पकड़ लें।
  • अपनी ठुड्डी को अपनी छाती से लगायें और सुनिश्चित करें कि आपका सिर फर्श पर ही रहें।
  • फिर अपने दोनों पैरों को घुटनों के यहाँ से मोड़ें और दोनों पैरों को एक दूसरे से दूर करके फैला लें।
  • इस स्थिति में आप एक हैप्पी बेबी की मुद्रा में दिखाई देंगे।
  • सामान्य रूप से सांस लें और इस आसन में आप 30 सेकंड से 1 मिनिट तक रुकने का प्रयास करें।
  • आसन से बाहर आने के लिए आपने पैरों को सीधा करें और पैर के अंगूठे को छोड़े और पैर को नीचे लाएं।

(और पढ़े – योग मुद्रा क्या है प्रकार और फायदे…)

शुरुआती लोगों के लिए आनंद बालासन करने के टिप – Beginner’s Tip to do Ananda Balasana in Hindi

यदि आप एक बिगिनर है और योग अभ्यास की शुरुआत कर रहे है तो आपको अपने पैरों के अंगूठों को हाथों से पकड़ में कठिनाई हो सकती हैं, तो आप प्रत्येक पैर को मध्य आर्च (middle arch) के चारों ओर लटके हुए योग पट्टा को पकड़ने के साथ इस आसन को करने की कोशिश करें।

(और पढ़े – योग की शुरुआत करने के लिए कुछ सरल आसन…)

आनंद बालासन (हैप्पी बेबी पोज़) के फायदे –  Benefits Of The Happy Baby pose in Hindi

आनंद बालासन देखने और करने में जितना सरल है इसके फायदे उतने ही आश्चर्यजनक हैं। आनंद बालासन हमारे शरीर के लिए अनेक प्रकार से लाभदायक है। आइये हैप्पी आनंद बालासन के फायदों को विस्तार से जानते हैं।

आनंद बालासन के फायदे हिप्स को बढ़ा करने में – Ananda Balasana benefits for Hip Opener in Hindi

आनंद बालासन के फायदे हिप्स को बढ़ा करने में - Ananda Balasana benefits for Hip Opener in Hindi

हैप्पी बेबी पोज़ आपके हिप्स को फैलने के लिए बहुत ही लाभदायक आसन है। यह एक महान हिप्स ओपनर है। इस आसन को करने से आपके कूल्हों की मांसपेशियों पर खिंचाव लगता है जो उनको उत्तेजित करके हिप्स को बड़ा करने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – हिप्स को मोटा करने के टिप्स…)

हैप्पी बेबी पोज़ फ़ॉर मूड बूस्टर – Happy Baby pose for Mood Booster in Hindi

हैप्पी बेबी पोज़ फ़ॉर मूड बूस्टर - Happy Baby pose for Mood Booster in Hindi

आनंद बालासन तनाव से राहत देता है और एक सकारात्मक तंत्रिका ऊर्जा को सक्रिय करता है। इसमें युवा के व्यस्त दिमाग को एक बेफ़िक्र शिशु में बदलने की क्षमता है। हैप्पी बेबी पोज़ मुद्रा चिंता को शांत करती है और मन को स्वस्थ रखती है।

(और पढ़े – दिमाग तेज करने के लिए योग…)

आनंद बालासन के लाभ पीठ दर्द में Ananda Balasana ke labh for Back Pain in Hindi

आनंद बालासन के लाभ पीठ दर्द में Ananda Balasana ke labh for Back Pain in Hindi

हैप्पी बेबी पोज़ के साथ अपनी पीठ के निचले हिस्से को सहारा देता है और उसे मजबूत करता है। आनंद बालासन के लाभ पीठ के निचले हिस्से में दर्द और अन्य समस्याओं की शुरुआत को कम करता है। हैप्पी बेबी पोज़ पीठ और रीढ़ को फैलाता है, और कमर, आंतरिक जांघों और हैमस्ट्रिंग के अंदरूनी हिस्से को आराम देता है।

(और पढ़े – पीठ दर्द के लिए योगासन…)

आनंद बालासन के फायदे पेट की मालिश में – Ananda Balasana ke fadye for Stomach massage in Hindi

आनंद बालासन के फायदे पेट की मालिश में - Ananda Balasana ke fadye for Stomach massage in Hindi

हैप्पी बेबी पोज़ पेट को एक अच्छी मालिश देता है और पाचन तंत्र को उत्तेजित करने में मदद करता है। यह आसान कब्ज, ब्लोटिंग आदि की समस्याओं को दूर रखता है। इसके अलावा आनंद बालासन के फायदे पुरानी पेट की समस्याएं गंभीर स्वास्थ्य मुद्दों जैसे कि बवासीर, चिड़चिड़ा आंत्र प्रणाली(irritated bowel system), आदि को भी ठीक करता हैं।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

तनाव को कम करने में आनंद बालासन के लाभ – Tanav ko kam karne me laabhdayak Ananda Balasana in Hindi

तनाव को कम करने में आनंद बालासन के लाभ – Tanav ko kam karne me laabhdayak Ananda Balasana in Hindi

नियमित रूप से हैप्पी बेबी पोज़ का अभ्यास करना हृदय गति को कम करने में मदद करता है जो मन को शांत करता है। यह तनाव को गहरे खिंचाव के कारण छोड़ने में भी मदद करता है। यह आसन सेक्रम (sacrum) को आराम देने में भी मदद करता है।

(और पढ़े – मानसिक तनाव दूर करने के घरेलू उपाय…)

आनंद बालासन करने से पहले रखें यह सावधानी – Precautions to do Ananda Balasana in Hindi

आनंद बालासन करने से पहले रखें यह सावधानी - Precautions to do Ananda Balasana in Hindi

आनंद बालासन या हैप्पी बेबी पोज़ एक आसान मुद्रा हैं इसके करने के लिए अधिक सावधानियों की आवश्यकता नहीं होती हैं। यह योगासन बिगिनर के लिए अच्छा है। पर इस आसन को करने से पहले निम्न बातों को अपने ध्यान में रखें-

  • उच्च रक्तचाप और घुटने की चोट से पीड़ित लोगों को इस आसन से बचना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं और मासिक धर्म वाली महिलाओं को इस आसन का अभ्यास नहीं करना चाहिए।
  • आनंद बालासन का अभ्यास करते समय अपनी रीढ़ की हड्डी को बिलकुल सीधा रखें।
  • यदि आप गर्दन की चोट से पीड़ित हैं तो सिर को सहारा देने के लिए एक कंबल को मोड़ के अपने गर्दन के नीचे रखें इससे आपकी गर्दन को सहारा मिलेगा।

(और पढ़े – प्रेगनेंसी में किये जाने वाले योग…)

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration