मयूरासन करने की विधि और फायदे – Mayurasana (Peacock Pose) steps and benefits in Hindi

मयूरासन करने की विधि और फायदे - Mayurasana (Peacock Pose) steps and benefits in Hindi
Written by Pratistha

Mayurasana steps and benefits in hindi मयूरासन जिसे मोर की आकृति का आसन भी कहा जाता है जानिये मयूरासन करने का तरीका, विधि और लाभ के बारे में। योग बहुत प्राचीन समय से चला आ रहा शरीर को स्वस्थ रखने का एक उपचार हैं, योग आंतरिक रूप से ऊर्जा प्रदान करता हैं, योग से हम लम्बे समय तक बिमारियों से बच सकते हैं, यह हमारे शरीर, मन और भावना में संतुलन बनायें रखता हैं। योग की अनेक मुद्रा होती हैं उनमें से मयूरासन एक प्रमुख मुद्रा हैं। यह आपके शरीर की बहुत सारी बिमारियों से रक्षा कर सकता हैं। यह आपको पेट सम्बन्धी समस्या में मदद करता हैं। आइये विस्तार से जानते है मयूरासन करने के तरीका और उसके लाभ।

1. मयूरासन योग क्या है –  What Is Mayurasana in Hindi
2. मयूरासन करने का तरीका – Mayurasana (Peacock Pose) karne ka tarika in Hindi
3. मयूरासन के फायदे – Mayurasana (Peacock Pose) ke fayde in Hindi

4. मयूरासन करने में क्या सावधानी बरती जाए – Mayurasana (Peacock Pose) Precautions in Hindi

मयूरासन योग क्या है –  What Is Mayurasana in Hindi

मयूरासन संस्कृत भाषा से लिया गया शब्द हैं जो की दो शब्दों से मिलके बना हैं जिसमे पहले शब्द “मयूर” का अर्थ “मोर” हैं और दूसरा शब्द “आसन” का अर्थ “मुद्रा” होता हैं। इस आसन में आपकी स्थिति मोर के जैसे दिखाई देती हैं येसा लगता हैं मानो मोर अपने पंख फैला के बैठा हो। हिन्दू ग्रंथो के अनुसार मोर प्यार और अमरत्व का प्रतीक होता हैं। मयूरासन के बहुत से लाभ होते हैं पर यह मुद्रा कठिन हैं इसे करने के लिए अभ्यास की आवश्यकता होती हैं, अभ्यास के बाद आप इसे आसानी से कर सकते हैं। इस मुद्रा में आपके शरीर का सम्पूर्ण भर आपके दोनों हाथों पर होता हैं। आइये विस्तार से जानते हैं मयूरासन करने के तरीके।

(और पढ़े – योग क्‍या है योग के प्रकार और फायदे हिंदी में…)

मयूरासन करने का तरीका – Mayurasana (Peacock Pose) karne ka tarika in Hindi

मयूरासन करने का तरीका - Mayurasana (Peacock Pose) karne ka tarika in Hindi

मयूरासन के लाभ को देखकर हर व्यक्ति इस मुद्रा को करना चाहता हैं, पर इस आसन की सम्पूर्ण जानकारी ना होने के कारण इसे करना मुश्किल लगता हैं, हम यहाँ आपको मयूरासन करने की विधि को विस्तार से बताने जा रहें हैं जिससे आप उसे आसानी से कर सकते हैं-

  • मयूरासन करने के लिए सबसे पहले आप किसी स्वच्छ स्थान पर चटाई बिछा के घुटनों बल बैठ जाएं।
  • अपने हाथों को जमीन पर रखें, जिसमे आपको अपनी हाथ की उंगली को अपने पैरों की ओर रखना हैं।
  • अपने पैरों को पास पास और दोनों घुटनों को दूर दूर रखें।
  • दोनों घुटनों के बीच में अपने दोनों हाथ होने चाहियें।
  • इसके बाद अपने हाथ की कोहिनी को अपने पेट पर अच्छे सेट करें, इसमें दोनों कोहिनी आपकी नाभि के दाएं-बाएं होगी।
  • इसके बाद अपने दोनों पैरों को पीछे की ओर फैला के सीधा कर लें।
  • अब अपने शरीर को आगे की ओर झुकाएं और अपने दोनों हाथों पर शरीर का पूरा वजन लाने का धीरे धीरे प्रयास करें।
  • दोनों हाथों पर संतुलन बना के अपने शरीर को ऊपर रखें, इसमें सिर्फ आपके हाथ जमीन से जुड़े रहेगे और आपका पूरा शरीर हवा में रहेगा।
  • अपनी क्षमता के अनुसार इस मुद्रा में आप अधिक समय तक रह सकते हैं।
  • पुनः अपनी प्रारंभिक स्थिति में आने के लिए अपने पैरों को नीचे जमीन पर लें आयें।

(और पढ़े – योग मुद्रा क्या है प्रकार और फायदे…)

मयूरासन के फायदे – Mayurasana (Peacock Pose) ke fayde in Hindi

  1. मयूर मुद्रा के फायदे स्वस्थ शरीर के लिए – Mayurasana Benefits for healthy body in Hindi
  2. मयूरासन योग के लाभ पाचन को स्वस्थ रखे – Mayurasan Ke Labh for Digestion in Hindi
  3. मयूरासन से लाभ मधुमेह को रोके – Mayurasana Ke Fayde for diabetes in Hindi
  4. मयूरासन के लाभ यौन स्‍वास्‍थ्‍य में – Mayurasana Ke Fayde for Sexual health in Hindi
  5. मयूरासन के फायदे हड्डियों को मजबूत करे – Benefit Of Mayurasana for Strong bone in Hindi
  6. मयूरासन योग के लाभ शरीर के आंतरिक अंगों को सक्रिय करे – Mayurasan Ke Labh Antrik Angon Ke Liye in hindi

मयूरासन से आपके शरीर को विभिन्न प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं यह बीमारियों से हमें बचाने में मदद करता हैं आइये इसके लाभ को विस्तार से जानते हैं-

मयूर मुद्रा के फायदे स्वस्थ शरीर के लिए – Mayurasana Benefits for healthy body in Hindi

मयूर मुद्रा के फायदे स्वस्थ शरीर के लिए – Mayurasana Benefits for healthy body in Hindi

प्राचीन समय से ही योग हमारी संस्‍कृति की पहचान माना जाता है। योग के माध्‍यम से कई प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्याओं को दूर किया जा सकता है। इस बात के प्रमाण कई साहित्‍यक ग्रथों में भी मिलते हैं। इसी तरह से मयूरासन के भी स्वास्थ लाभ बहुत अधिक हैं। नियिमत रूप से मयूरासन का उपयोग करने से यह शरीर को डिटॉक्सिफाई करता है। जिससे शरीर को ट्यूमर और बुखार जैसी समस्‍याओं से बचाया जा सकता है। यदि आप भी अपने जीवन को स्वस्थ्य और सुरक्षित रखना चाहते हैं तो मयूरासन को अपने दैनिक जीवन में शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – बॉडी को डिटॉक्स (विषैले पदार्थ को बाहर) कैसे करें…)

मयूरासन योग के लाभ पाचन को स्वस्थ रखे – Mayurasan Ke Labh for Digestion in Hindi

मयूरासन योग के लाभ पाचन को स्वस्थ रखे - Mayurasan Ke Labh for Digestion in Hindi

यह एक ऐसा योग है जो कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने में मदद करता है। मयूर आसन के स्‍वास्‍थ्‍य लाभों में पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ्‍य रखना भी शामिल है। अध्‍ययनो से पता चलता है कि मयूर आसन करने वाले लोगों में यह पाचन अंगों को स्‍वस्‍थ्‍य बनाता है। इसके अलावा मयूर आसन करने से पेट क्षेत्र में रक्‍तपरिसंचरण को बढ़ावा मिलता है। जिससे पेट और इसके अंदरूनी तंत्र को मजबूत करने में शरीर को मदद मिलती है। यदि आपका पाचन तंत्र कमजोर है तो आप इसे मयूरासन की सहायता से मजबूत कर सकते हैं।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

मयूरासन से लाभ मधुमेह को रोके – Mayurasana Ke Fayde for diabetes in Hindi

मयूरासन से लाभ मधुमेह को रोके - Mayurasana Ke Fayde for diabetes in Hindi

जिन लोगों को मधुमेह की समस्‍यसा होती है, उनके लिए मयूरासन किसी उपचार से कम नहीं है। ऐसा माना जाता है कि नियमित रूप से मयूरासन करने पर यह शरीर में रक्‍तशर्करा के स्‍तर को नियंत्रित कर सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि मयूरासन करने के दौरान हमारा शरीर अतिरिक्‍त ऊर्जा को खर्च करता है। जिसके परिणामस्‍वरूप शरीर में मौजूद वसा और रक्‍त ग्‍लूकोज का उपयोग किया जाता है। इस प्रकार शरीर अतिरिक्‍त ऊर्जा उत्‍पादन के लिए शरीर में मौजूद अतिरिक्‍त शर्करा का उपभोग करता है। जिससे रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसके अलावा मयूरासन के फायदे बवासीर के लक्षणों को भी कम करने के लिए जाने जाते हैं।

(और पढ़े – शुगर ,मधुमेह लक्षण, कारण, निदान और बचाव के उपाय…)

मयूरासन के लाभ यौन स्‍वास्‍थ्‍य में – Mayurasana Ke Fayde for Sexual health in Hindi

मयूरासन के लाभ यौन स्‍वास्‍थ्‍य में - Mayurasana Ke Fayde for Sexual health in Hindi

प्रजनन क्षमता की कमी वाले पुरुषों के लिए यह योग बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा मयूरासन के फायदे के महिलाओं के लिए भी फायदेमंद होता है। नियिमत रूप से महिलाओं द्वारा मयूरासन करने पर यह मासिक धर्म और रजोनिवृत्ति के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा यह यौन गतिविधि में सुधार कर सकता है। जिससे आप अपने यौन जीवन का लाभ उठा सकते हैं।

(और पढ़े – पुरुषों में सेक्सुअल स्टेमिना (सेक्स पावर) बढ़ाने के आसान तरीके…)

मयूरासन के फायदे हड्डियों को मजबूत करे – Benefit Of Mayurasana for Strong bone in Hindi

मयूरासन के फायदे हड्डियों को मजबूत करे - Benefit Of Mayurasana for Strong bone in Hindi

आप अपनी हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए मयूरासन के लाभ प्राप्त कर सकते हैं। ऐसा माना जाता है कि मयूरासन करने से कंधे, कोहिनी, कलाई और रीढ़ की हड्डी को मजबूत करने में मदद मिलती है। यदि आप भी अपनी हड्डियों को मजबूत करना चाहते हैं नियमित रूप से मयूरासन को नियमित व्‍यायाम के रूप में शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – कैल्शियम की कमी के लक्षण और इलाज…)

मयूरासन योग के लाभ शरीर के आंतरिक अंगों को सक्रिय करे – Mayurasan Ke Labh Antrik Angon Ke Liye in hindi

मयूरासन योग के लाभ शरीर के आंतरिक अंगों को सक्रिय करे - Mayurasan Ke Labh Antrik Angon Ke Liye in hindi

नियमित रूप से मयूरासन करने पर यह आपके शरीर को बाहरी रूप से तो स्‍वस्‍थ्‍य रखता है। इसके अलावा यह आपके आंतरिक अंगों को भी सक्रिय और उत्तेजित कर सकता है। नियमित रूप से मयूरासन करने पर यह आपके पैनक्रिया, पेट, यकृत, प्‍लीहा, गुर्दों और आंतों को सक्रिय करता है। जिससे आपका शरीर स्‍वसथ्‍य और मजबूत बन सकता है।

(और पढ़े – लीवर की कमजोरी कारण लक्षण और दूर करने के उपाय…)

मयूरासन करने में क्या सावधानी बरती जाए – Mayurasana (Peacock Pose) Precautions in Hindi

मयूरासन करने में क्या सावधानी बरती जाए - Mayurasana (Peacock Pose) Precautions in Hindi

किसी भी योग को करने से पहले उसकी सावधानियों को जानना बहुत ही आवश्यक होता हैं, आइये मयूरासन करने की सावधानियों को जानते हैं-

  • इस आसन को खाली पेट करना चाहियें, इसके लिए अपने पेट और आंतों को कम से कम 4 से 6 घंटे खाली रखने के बाद आप इसे करें।
  • इस आसाम को सुबह के समय करना अधिक लाभदायक होता हैं, अगर आप सुबह के समय इस आसन को नहीं कर पाते हैं तो आप इसे शाम के समय भी कर सकते हैं।
  • गर्भवती महिलाए मयूरासन को ना करें।
  • अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर, ह्रदय रोगहर्नियापेप्टिक अल्सर आदि की समस्या हैं तो आप इस आसन को ना करें।
  • अगर आपको इस मुद्रा में किसी भी प्रकार का दर्द का अनुभव होता हैं तो किसी योग ट्रेनर से सलाह अवश्य लें।

(और पढ़े – प्रेगनेंसी में करें प्री नेटल योग जो है मां और बच्चों के लिए फ़ायदेमंद…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration