योग

हार्ट अटैक से बचने के लिए योग – Best Yoga To Prevent Heart Attack In Hindi

हार्ट अटैक से बचने के लिए योग - Heart Attack Se Bachne Ke Liye Yoga In Hindi

Yoga for heart health in Hindi हार्ट अटैक से बचने के लिए बहुत जरूरी है कि योग करने के साथ अपनी सभी गलत आदतों को सुधाकर हैल्दी लाइफस्टाइल चुनें। हार्ट अटैक यानि हृदय आघात एक बहुत ही गंभीर समस्या है इससे व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। दिल हमारे शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है इसलिए इसे स्वस्थ रखना बहुत ही आवश्यक है। यह हमारे शरीर के सबसे व्यस्त हिस्से में से एक है। आप साँस भले ही एक-दो मिनट के लिए रोक सकते हैं पर दिल अपना काम करना नहीं छोड़ सकता। हमारे दिल को स्वस्थ्य रखने के लिए और इसे हार्ट अटैक से बचने के लिए योग बहुत ही लाभदायक है। तनाव, चिंता, ख़राब आहार भी आपके हृदय से संबंधित समस्या का कारण बन सकता है। कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि योग करने का समग्र हृदय स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

हार्ट अटैक के मुख्य कारण उच्च रक्तचाप, उच्च कोलेस्ट्रोल और धुम्रपान आदि हो सकते है और इन सभी समस्याओं को योग के द्वारा ठीक किया जा सकता है। आइये हार्ट अटैक से बचने के लिए योग को विस्तार से जानते हैं।

  1. हार्ट अटैक से बचने के लिए योग उत्तानासन – Uttanasana Yoga for heart attack in Hindi
  2. हृदय आघात से बचने के लिए योग ताड़ासन – Tadasana yoga for heart patients in Hindi
  3. हार्ट स्ट्रोक के लिए योग सेतुबंध आसन – Bridge Yoga for heart disease in hindi
  4. हृदय आघात से बचने के लिए योग वीरभद्रासन – Heart attack se bachne ke liye yoga Virabhadrasana in Hindi
  5. हार्ट अटैक से बचाए त्रिकोणासन योग – Triangle yoga for heart blockage in Hindi
  6. हार्ट अटैक से बचने के लिए योग वृक्षासन – Heart attack se bachne ke liye yoga Vrikshasana in Hindi
  7. सुखासन योग फॉर हार्ट पेशेंट्स – Sukhasana Yoga for Heart Patients in Hindi
  8. हार्ट अटैक रोगी करें जानुशीर्षासन योग – Janu Sirsasana yoga for heart problems in Hindi
  9. स्वस्थ हृदय के लिए योग भुजंगासन – Bhujangasana yoga for Healthy heart in Hindi
  10. हार्ट अटैक से बचने के लिए उत्कटासन योग – Utkatasana yoga for heart attack in Hindi

हार्ट अटैक के लिए योग – Yoga for heart attack in Hindi

हार्ट अटैक के लिए योग - Yoga for heart attack in Hindi

अपने दिल को स्वस्थ रखने और हार्ट अटैक से बचने के लिए आप निम्न योग को करें-

हार्ट अटैक से बचने के लिए योग उत्तानासन – Uttanasana Yoga for heart attack in Hindi

हार्ट अटैक से बचने के लिए योग उत्तानासन – Uttanasana Yoga for heart attack in Hindi

उत्तानासन योग हार्ट अटैक से बचने के लिए बहुत ही अच्छा है। इस आसन को करने में आपके हाथ, पैर को छूते हैं। यह आसन आपके दिल के लिए बहुत ही फायदेमंद है। उत्तानासन हृदय में होने होने वाले अनेक प्रकार के रोगों से हमें बचाता हैं। पेट के वजन को कम करने के लिए उत्तानासन एक अच्छा आसन हैं।

  • इस आसन को करने के लिए आप सबसे पहले एक योगा मैट पर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अपने दोनों पैरों को पास-पास रखें और दोनों हाथों को ऊपर सीधा कर लें, अब धीरे-धीरे कमर से नीचे झुकते जाएं और अपने दोनों हाथों से पैर के पंजों को पकड़े।
  • इस मुद्रा में आप 60 से 90 सेकंड के लिए रहें।

(और पढ़े – उत्तानासन (हस्तपादासन) करने का तरीका और फायदे…)

हृदय आघात से बचने के लिए योग ताड़ासन – Tadasana yoga for heart patients in Hindi

हृदय आघात से बचने के लिए योग ताड़ासन – Tadasana yoga for heart patients in Hindi

न‍ियमित योग को अपना कर हार्ट अटैक का सामना किया जा सकता है। हृदय आघात यानि हार्ट अटैक से बचने के लिए ताड़ासन योग बहुत ही फायदेमंद होता है। यह मुद्रा आपको एक पहाड़ के सामान स्थिर रहना सिखाती हैं। यह योग हृदय रोगियों के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है।

  • ताड़ासन योग करने के लिए आप सबसे पहले किसी योगा मैट को बिछा के उस पर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अपने दोनों पैरों के बीच आधा से एक फुट की दूरी बना के रखें।
  • अब अपने दोनों हाथों को ऊपर करें और उंगलियों को आपस में फसा लें।
  • इसके बाद अपनों दोनों हथेलियों को घुमाकर उल्टा कर लें, जिससे हाथ की हथेलियां आसमान की ओर हो जाएं।
  • अब दोनों हाथों और पैरों को ऊपर की ओर खींचे और एड़ियों को ऊपर उठा के पंजों के बल खड़े हो जाएं।
  • ताड़ासन में आप 20-30 सेकंड के लिए रहें।

यह आसन आपके पूरे शरीर को एक अच्छा खिंचाव देता है। ताड़ासन योग दिल के स्वास्थ के लिए बहुत ही अच्छा है।

(और पढ़े – ताड़ासन करने के फायदे, सावधानियां और करने का तरीका…)

हार्ट स्ट्रोक के लिए योग सेतुबंध आसन – Bridge Yoga for heart disease in hindi

हार्ट स्ट्रोक के लिए योग सेतुबंध आसन – Bridge Yoga for heart disease in hindi

हृदय संबंधी सभी प्रकार की समस्याओं के लिए जैसे हार्ट अटैक या हार्ट स्ट्रोक के लिए सेतुबंध योग आसन बहुत ही लाभदायक होता है। सेतुबंध आसन में आपका शरीर एक ब्रिज के समान दिखाई देता हैं। यह आसन आपको हृदय से संबंधित रोगों से बचाता हैं। इसके अलावा यह पेट की चर्बी को भी कम करने में मदद करता हैं।

  • सेतुबंध आसन को करने के लिए आप एक योगा मैट को बिछा के पीठ के बल यानि सीधे लेट जाएं।
  • इसके बाद अपने पैरों को घुटनों के यहाँ से मोड़े और दोनों पैरों पर वजन डालते हुए अपने कूल्हों को फर्श से ऊपर उठायें।
  • अपने दोनों हाथों को पीठ के नीचे ले आयें और उंगली को उंगली में फंसा के दोनों को आपस में जोड़ लें।
  • इस स्थिति में रहते हुए 20 बार साँस लें और आसन को छोड़े।

(और पढ़े – सेतुबंधासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां…)

हृदय आघात से बचने के लिए योग वीरभद्रासन – Heart attack se bachne ke liye yoga Virabhadrasana in Hindi

हृदय आघात से बचने के लिए योग वीरभद्रासन – Heart attack se bachne ke liye yoga Virabhadrasana in Hindi

वीरभद्रासन योग हमारे दिल की धमनियों में रक्त के थक्का को नहीं जमने देता है जो कि हार्ट अटैक यानि हृदय आघात का मुख्य कारण है। वीरभद्रासन योग आपके शरीर के लिए एक अच्छे व्यायाम के रूप में जाना जाता हैं।

  • वीरभद्रासन योग करने के लिए आप एक साफ स्थान पर योगा मैट को बिछा के उस पर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अपने दोनों पैरों को 3 से 5 फिट फैला लें। अपने दोनों हाथों की हथेलियों को अपने सिर के ऊपर जोड़ लें।
  • इसके बाद अपने दाएं पैर के पंजे को 90 डिग्री के कोण पर घुमाएं और बाएं पैर के पंजे को 45 डिग्री घुमाएं।
  • अब अपने सिर को भी अपने दाएं पैर की दिशा में घुमाएं और फिर अपने दाएं पैर को 90 डिग्री मोड़ के अपने सिर को पीछे की ओर झुका कर ऊपर की ओर देखें।
  • इस स्थिति में आप 30 से 60 सेकंड तक रहें। फिर से यही पूरी प्रक्रिया दूसरे वाले पैर से करें।

(और पढ़े – वीरभद्रासन 1 करने का तरीका और लाभ…)

हार्ट अटैक से बचाए त्रिकोणासन योग – Triangle yoga for heart blockage in Hindi

हार्ट अटैक से बचाए त्रिकोणासन योग - Triangle yoga for heart blockage in Hindi

जो व्यक्ति त्रिकोणासन योग करते है उन लोगों को हार्ट अटैक की संभावना कम होती है। त्रिकोणासन योग करने से हमारे हृदय में पर्याप्त मात्रा में रक्त और ऑक्सीजन को ले जाने में मदद करता है। त्रिकोणासन को करने वाले व्यक्ति की स्थिति एक त्रिकोण के समान दिखाई देती हैं। यह आसन दिल से संबंधित सभी प्रकार की समस्या को दूर करने में मदद करता है। यह आसन पैरों को मजबूत करने और पूरे शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता हैं।

  • इस आसन को करने के लिए आप एक स्थान पर योगा मैट को बिछा के दोनों पैरों को दूर-दूर करके सीधे खड़े हो जाएं, अपने दाएं पैर की तरफ झुकें और अपने हाथ को फर्श पर रखें।
  • दूसरे हाथ को ऊपर सीधा करें जिससे दोनों हाथ एक सीधी रेखा में हो जाएं।
  • इस आसन में आप कुछ सेकंड से एक मिनट के लिए रहें।

(और पढ़े – त्रिकोणासन के फायदे और करने का तरीका…)

हार्ट अटैक से बचने के लिए योग वृक्षासन – Heart attack se bachne ke liye yoga Vrikshasana in Hindi

हार्ट अटैक से बचने के लिए योग वृक्षासन - Heart attack se bachne ke liye yoga Vrikshasana in Hindi

दिल का दौरा पड़ने से बचाने में वृक्षासन योग आपकी मदद कर सकता है। हार्ट अटैक से बचने के लिए ट्री पोज बहुत ही अच्छा माना जाता है। वृक्षासन में व्यक्ति की स्थिति एक वृक्ष के सामान दिखाई देती है।

  • वृक्षासन को करने लिए आप एक योगा मैट को बिछा के उस पर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अब अपने दोनों हाथों को अपने सिर के ऊपर जोड़ लें।
  • फिर अपने बाएं पैर को फर्श से उठा कर दाएं पैर की जांघ पर रखें।
  • अब संतुलन बनाये और इस आसन में अपनी क्षमता के अनुसार रहें और फिर पैर को नीचे करके प्रारंभिक अवस्था में आयें।
  • वृक्षासन योग आपके पैरों की मांसपेशियों को मजबूत करता हैं, साथ ही यह आपके दिल को मजबूत रखने में मदद करता है।

(और पढ़े – वृक्षासन के फायदे और करने का तरीका…)

सुखासन योग फॉर हार्ट पेशेंट्स – Sukhasana Yoga for Heart Patients in Hindi

सुखासन योग फॉर हार्ट पेशेंट्स - Sukhasana Yoga for Heart Patients in Hindi

हार्ट अटैक का एक कारण मानसिक तनाव भी हो सकता है। सुखासन योग मानसिक तनाव को कम करता है। यदि आप एक हार्ट पेशेंट्स तो आपके लिए सुखासन योग करना फ़ायदेमंद हो सकता है।

  • इस आसन को करने के लिए आप एक योगा मैट को जमीन पर बिछा के बैठ जाएं, अपने पैरों को घुटने के यहाँ से मोड़ लें, इसमें एक पैर बाहर की ओर तथा दूसरा पैर अन्दर के ओर रहता हैं।
  • अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें और दोनों हाथों को सीधा करके अपने घुटनों पर रख लें।
  • अब आँखों को बंद करके ध्यान करें। इस आसन में आप अपनी इच्छा के अनुसार रह सकते हैं।

(और पढ़े – सुखासन करने का तरीका और फायदे…)

हार्ट अटैक रोगी करें जानुशीर्षासन योग – Janu Sirsasana yoga for heart problems in Hindi

हार्ट अटैक रोगी करें जानुशीर्षासन योग - Janu Sirsasana yoga for heart problems in Hindi

जानुशीर्षासन योग करना हार्ट अटैक रोगियों के लिए अच्छा माना जाता है। इसके अलावा जानुशीर्षासन मुद्रा मस्तिष्क को शांत करती है और हल्के अवसाद की चिंता, थकान, सिरदर्द, मासिक धर्म की परेशानी और अनिद्रा से राहत दिलाने में मदद करती है।

  • जानुशीर्षासन करने के लिए आप किसी साफ स्थान पर योगा मैट को बिछा के दोनों पैरों को सामने की ओर सीधा करके बैठ जाएं।
  • अब अपने दाएं पैर को मोड़ के बाएं पैर की जांघ पर रखें।
  • अपने दोनों हाथों को ऊपर की ओर करें सीधा खड़ा करें।
  • अब अपने ऊपर के शरीर को बाएं पैर की ओर नीचे झुकाएं और बाएं पैर के पंजें को पकड़ लें।
  • अपने सिर को बाएं पैर के घुटने पर रख लें। इस मुद्रा में रहते हुये 5 से 10 बार साँस लें।

(और पढ़े – जानुशीर्षासन करने का तरीका और फायदे…)

स्वस्थ हृदय के लिए योग भुजंगासन – Bhujangasana yoga for Healthy heart in Hindi

स्वस्थ हृदय के लिए योग भुजंगासन - Bhujangasana yoga for Healthy heart in Hindi

अपने दिल को स्वस्थ रखने के लिए और इसे बीमारियों से बचने के लिए भुजंगासन बहुत ही लाभदायक योग आसन है।

  • भुजंगासन योग को करने लिए आप एक योगा मैट को बिछा के उस पर पेट के बल लेट जाएं जिसमे आपकी पीट ऊपर की ओर रहे।
  • अपने दोनों हाथों को जमीन पर रखें। अब अपने दोनों हाथों पर वजन डालते हुये धीरे-धीरे अपने सिर को पीछे के ओर करें और ठुड्डी को ऊपर की ओर करने का प्रयास करें।
  • आप इस भुजंगासन योग में 20 से 30 सेकंड तक रुकने का प्रयास करें।

(और पढ़े – भुजंगासन के फायदे और करने का तरीका…)

हार्ट अटैक से बचने के लिए उत्कटासन योग – Utkatasana yoga for heart attack in Hindi

हार्ट अटैक से बचने के लिए उत्कटासन योग - Utkatasana yoga for heart attack in Hindi

उत्कटासन को चेयर पोज के नाम से भी जाना जाता हैं इस आसन को करने वाले की स्थिति एक कुर्सी के सामान दिखाई देती हैं। यह आसन हमारे ह्रदय को मजबूत करने में मदद करता है।

  • इस आसन को करने के लिए आप सबसे पहले किसी योगा मैट को फर्श पर बिछा के उस पर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अपने दोनों हाथों को सिर के ऊपर लेकर जोड़ लें।
  • अब धीरे-धीरे अपने घुटनों को मोड़े और कूल्हों को नीचे लाएं।
  • इस स्थिति में आप एक कुर्सी के समान दिखाई देगें।
  • इस आसन को आप 30 से 60 सेकंड के लिए करें।

(और पढ़े – उत्कटासन करने का तरीका और फायदे…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration