रस्सी कूदने के फायदे और नुकसान – Rassi Kudne Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi

रस्सी कूदने के फायदे और नुकसान इन हिंदी - Rassi Kudne Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi
Written by Shivam

Rassi Kudne Ke Kya Fayde Hai रस्सी कूदना एक अच्छा व्यायाम हैं इसके हमारे शरीर के लिए अनेक फयदे हैं। हम बचपन में रस्सी कूदना खेलते थे वास्तव में वह खेल हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद होता था। दुर्भाग्य से जैसे-जैसे हम बड़े होते गए रस्सी हमारे स्टोर रूम में कहीं खो गई। रस्सी कूदना (स्किपिंग रोप) कोई नया या आज के दौर का व्यायाम नहीं है बल्कि यह वर्षों से चला आ रहा है। पिछले कुछ वर्षों में जंप रोप ट्रेनिंग की लोकप्रियता में अचानक वृद्धि हुई है। रस्सी कूदना सबसे पुराने प्रशिक्षण अभ्यासउपकरणों में से एक है, यह सभी फिटनेस के तरीके और क्षमता स्तरों (ability levels) के लिए बहुत अच्छा है।

रस्सी कूदने के अनेक लाभ है यह शरीर से वसा कम करने, वजन कम करने, सहन-शक्ति बढ़ाने, मज़बूती लाने और शरीर के अच्छे प्रदर्शन में मदद करता है। आइये रस्सी कूदने के फायदे को विस्तार से जानते है।

1. रस्सी कूदने का तरीका – Rassi Kudne Ka Tarika In Hindi

2. रस्सी कूदने का सही समय – Rassi kudne ka sahi samay in Hindi
3. रस्सी कूदने के फायदे इन हिंदी- Rassi Kudne Ke Fayde In Hindi

4. रस्सी कूदने के नुकसान इन हिंदी- Rassi Kudne Ke Nuksan In Hindi

रस्सी कूदने का तरीका – Rassi Kudne Ka Tarika In Hindi

  1. रस्सी कूदने का आसान तरीका दोहरी कूद – Rassi Kudne Ka Tarika Double Jump in Hindi
  2. रस्सी कूदने का तरीका क्रॉस-कूद  – Rassi Kudne Ka Tarika Cross-Jump in Hindi
  3. रस्सी कूदने का तरीका एकल-पैर कूद – Rassi Kudne Ka Tarika Single-Leg Jumps in Hindi

रस्सी कूदने के तरीके अनेक है आइये रस्सी कूदने का सही तरीका और विधि को विस्तार से जानते हैं-

रस्सी कूदने का आसान तरीका दोहरी कूद – Rassi Kudne Ka Tarika Double Jump in Hindi

रस्सी कूदने का आसान तरीका दोहरी कूद - Rassi Kudne Ka Tarika Double Jump in Hindi

रस्सी कूदने की सबसे आम शैली दोहरी कूद है। इसलिए यह रस्सी कूदने का आसान तरीका माना जाता है इस तकनीक को अक्सर उच्च गति में अभ्यास किया जाता हैजो अधिकांश कैलोरी जलाता है। यह मांसपेशियों की टोनिंग (muscle toning) के लिए अच्छा है। इस करने के लिए आप अपने दोनों हाथों में एक-एक हैंडल को पकड़े और हाथ को कोहनी से मोड़ के जमीन के समानांतर आगे की ओर रखें।अपने कंधों को पीछे की ओर घुमाएं और छाती को बाहर करें। अपनी कलाई घुमाकर रस्सी को आगे लाएं जब रस्सी को अपने पैरों के नीचे से गुजरने लगे तो जमीन से 2-3 इंच ऊपर की ओर दोनों पैरों से कूदें। इस क्रिया को दोहराहएं।

(और पढ़े – रस्सी कूदना है जल्दी वजन घटाने का आसन तरीका…)

रस्सी कूदने का तरीका क्रॉस-कूद  – Rassi Kudne Ka Tarika Cross-Jump in Hindi

क्रॉस-कूद शैली को अक्सर उच्च-तीव्रता वाले वर्कआउट में शामिल किया जाता हैजब किसी को उच्च-एरोबिक व्यायाम से ब्रेक की आवश्यकता होती है। क्रॉस-जंप के लिए आपको डबल-कूद की स्थिति के समान ही खड़ा होना होता है। क्रॉस-कूद के लिए आपको एक बार डबल-कूद करना पड़ता है और एक बार अपने दोनों हाथों को क्रॉस करके रस्सी को घुमाना पड़ता है। यह रस्सी कूद थोड़ा कठिन हो सकता है इसलिए इसे थोड़े ध्यान से करें।

रस्सी कूदने का तरीका एकल-पैर कूद – Rassi Kudne Ka Tarika Single-Leg Jumps in Hindi

सिंगल-लेग जंप स्किपिंग स्टाइल का एक उन्नत स्तर है जिसमें अच्छे संतुलन की आवश्यकता होती है। इस रस्सी कूद में एक पैर पर अधिक भार पड़ता हैइसलिए इसे एक डबल-जंप और क्रॉस-जंप को करने के बाद ही करना चाहिए। इस करने के लिए आप अपने दोनों हाथों में एक-एक हैंडल को पकड़े और हाथ को कोहनी से मोड़ के जमीन के समानांतर आगे की ओर रखें। एक पर को उठा के जमीन से थोड़ा ऊपर कर लें और एक पर से कूदते हुए रस्सी को पैर के नीचे से निकालें। सिंगल-लेग जंप को धीरे-धीरे और अभ्यास के साथ करने का प्रयास करना चाहिए। बहुत तेजी से कूदने से पैर में चोट लग सकती है या आप गिर सकते है।

रस्सी कूदने का सही समय – Rassi kudne ka sahi samay in Hindi

हम सभी जानते हैं कि किसी भी व्यायाम को करने का एक सही समय होता है। वैसे तो रस्सी कूदना एक ऐसा व्यायाम है जिससे कही भी और कभी भी किया जा सकता हैं पर इसका अधिकतम लाभ लेने के लिए रस्सी को कूदने का सही समय सुबह सूर्योदय के वक्त होता हैं इसके अलावा आप शाम के समय भी रस्सी कूदने का अभ्यास कर सकते हैं। आप एक सप्ताह में कम से कम 4 दिन रस्सी कूद का व्यायाम अवश्य करें। एक दिन में इस अभ्यास को 20 से 30 मिनिट तक कर सकते हैं। रस्सी कूद का समय आपको धीरे-धीरे बढ़ाना चाहिए और इसे अपनी क्षमता से अधिक नहीं करना चाहिए।

(और पढ़े – वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज करने का सही समय…)

रस्सी कूदने के फायदे इन हिंदी- Rassi Kudne Ke Fayde In Hindi

  1. रस्सी कूदने के फायदे वजन को कम करने में – Rassi kudna for weight loss in Hindi
  2. रस्सी कूदना लाभ पेट की चर्बी कम करने के लिए – Rassi Kudne Se Pet Kam Hota Hai in Hindi
  3. लम्बाई बढ़ाने का आसान तरीका है रस्सी कूदना – Height badhane ke Liye Rassi Kudna in Hindi
  4. रस्सी कूदना पैर और टखने की चोटों में लाभदायक – Rope jumping for Decreases Foot and Ankle Injuries in Hindi
  5. हर रोज रस्सी कूद का लाभ बेहतर श्वास क्षमता के लिए -Rassi Kudne Ke Fayde for Improved Breathing Efficiency in Hindi
  6. रस्सी कूदने के फायदे संतुलन बनाने में – Rassi kudne ke fayde santulan banana me in Hindi
  7. रस्सी कूदने के लाभ हड्डी के घनत्व में सुधार करे – Rope jump to improve bone density in Hindi
  8. ह्रदय स्वस्थ रखने में लाभदायक रस्सी कूदना – Rassi Kudne Ke Fayde Heart ko swasth rakhne ke liye in Hindi
  9. रस्सी कूदने के लाभ मन को शांत रखने में – Rassi kudne ke laabh man ko shant rakhne me in Hindi

रस्सी कूदने के अनेक लाभ आइये इसको विस्तार से जानते हैं-

रस्सी कूदने के फायदे वजन को कम करने में – Rassi kudna for weight loss in Hindi

रस्सी कूदने के फायदे वजन को कम करने में - Rassi kudna for weight loss in Hindi

रस्सी कूदने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह आपके वजन को कम करने में बहुत ही मदद करता है। यह रस्सी कूदने से पूरे शरीर को कसरत मिलती है। यह जांघों, पिंडलियों की मांसपेशियों को टोन करने और उनको विकसित करने के लिए विशेष रूप से अच्छा अभ्यास है। इसके साथ ही यह एब्स और बाजुओं पर भी काम करता है।

(और पढ़े – शरीर को स्लिम बनाने के आसान तरीके…)

रस्सी कूदना लाभ पेट की चर्बी कम करने के लिए – Rassi Kudne Se Pet Kam Hota Hai in Hindi

रस्सी कूदना लाभ पेट की चर्बी कम करने के लिए – Rassi Kudne Se Pet Kam Hota Hai in Hindi

रस्सी कूद व्यायाम आपके भारी पेट और तोंद को कम करने में बहुत ही लाभदायक हैं। रस्सी कूदने से अधिक मात्रा में शरीर की कैलोरी बर्न होती है जो कि पेट में जमी चर्बी को कम करने में सहायता करती हैं। रस्सी कूदना लगभग 1300 कैलोरी / घंटा जलाने के लिए जाना जाता है। अपने शरीर के वसा को जला के चर्बी को कम करने का यह एक प्रभावी तरीका है।

(और पढ़े – पेट की चर्बी को कम करने के घरेलू उपाय…)

लम्बाई बढ़ाने का आसान तरीका है रस्सी कूदना – Height badhane ke Liye Rassi Kudna in Hindi

लम्बाई बढ़ाने का आसान तरीका है रस्सी कूदना – Height badhane ke Liye Rassi Kudna in Hindi

अगर आप अपनी कम हाइट से परेशान हैं और अपनी हाइट बढ़ाने के लिए कोई अभ्यास की तलाश कर रहे हैं तो रस्सी कूदना आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकता है। रस्सी कूदने से आपकी हाइट जल्दी बढ़ेगी। यह आपकी हड्डी और मांशपेशियों के विकास में मदद करता है।

(और पढ़े – लंबाई बढ़ाने के आसान तरीके…)

रस्सी कूदना पैर और टखने की चोटों में लाभदायक – Rope jumping for Decreases Foot and Ankle Injuries in Hindi

रस्सी कूदना पैर और टखने की चोटों में लाभदायक - Rope jumping for Decreases Foot and Ankle Injuries in Hindi

रस्सी कूदने से पैर और टखनों में दर्द की समस्या दूर हो जाती है। रस्सी कूदना अन्य खेलों में सक्रिय लोगों के लिए बहुत ही फायदेमंद है। पैर और टखने की चोटों की समस्या अधिकांस बास्केटबॉल, टेनिस, फ़ुटबॉल और अन्य एथलीट खेलों में अक्सर दौड़ने और मुड़ने से हो जाती है। यह आपके टखने के जोड़ के आसपास की मांसपेशियों में ताकत बढ़ती है जिससे आपके पैरों में उन क्षेत्रों में चोट लगने की संभावना कम हो जाती है।

(और पढ़े – इस टिप्स से कुछ ही सप्ताह में बनेंगी ज़बरदस्त मसल्स…)

हर रोज रस्सी कूद का लाभ बेहतर श्वास क्षमता के लिए -Rassi Kudne Ke Fayde for Improved Breathing Efficiency in Hindi

हर रोज रस्सी कूद का लाभ बेहतर श्वास क्षमता के लिए -Rassi Kudne Ke Fayde for Improved Breathing Efficiency in Hindi

रस्सी कूदना आपकी साँस लेने की क्षमता को बेहतर करती है। स्वस्थ ह्रदय और सहनशक्ति में सुधार करती है अलावा रस्सी कूदने से यह भी पता चलता है कि आप कितनी अच्छी सांस लेते हैं। रस्सी कूद का अभ्यास करने से आप अधिक समय तक दौड़ना और पूल में लम्बी तैराकी आसानी से कर सकते है।

(और पढ़े – सांस फूलने के कारण, लक्षण, जांच, उपचार, और रोकथाम…)

रस्सी कूदने के फायदे संतुलन बनाने में – Rassi kudne ke fayde santulan banana me in Hindi

रस्सी कूदने के फायदे संतुलन बनाने में – Rassi kudne ke fayde santulan banana me in Hindi

रस्सी कूदना वास्तव में आपके पैरों पर पूरी तरह से केंद्रित है। यह आपके संतुलन को बेहतर बनाता है। यह अभ्यास करने के लिए आपको बार-बार पैर को ऊपर उठाना पड़ता है जो आपको पैरों को “हल्का” बनाता है। जो लोग दौड़ प्रतियोगिता में भाग लेते है उनके लिए रस्सी कूदना बहुत ही फायदेमंद हो सकता है।

(और पढ़े – पैदल चलने के फायदे हिंदी में…)

रस्सी कूदने के लाभ हड्डी के घनत्व में सुधार करे – Rope jump to improve bone density in Hindi

रस्सी कूदने के लाभ हड्डी के घनत्व में सुधार करे - Rope jump to improve bone density in Hindi

एक अध्यन में बुजुर्गों और एथलीटों की हड्डियों का अध्ययन किया तो पाया गया है कि रस्सी कूदना हड्डियों के घनत्व में सुधार करने के लिए सबसे अच्छा व्यायाम है। अगर आप आपको अपनी हड्डियों को मजबूत करना है तो शायद बहुत कुछ करने की ज़रूरत नहीं है बस आपको ऊपर नीचे कूदना है अर्थात स्किपिंग करना है।

(और पढ़े – ऑस्टियोपोरोसिस होने के कारण, लक्षण और बचाव…)

ह्रदय स्वस्थ रखने में लाभदायक रस्सी कूदना – Rassi Kudne Ke Fayde Heart ko swasth rakhne ke liye in Hindi

ह्रदय स्वस्थ रखने में लाभदायक रस्सी कूदना – Rassi Kudne Ke Fayde Heart ko swasth rakhne ke liye in Hindi

रस्सी कूदना हमारे ह्रदय और शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक है। अपने दिल और फेफड़ों के स्वास्थ्य को बढ़ाने के लिए आपको प्रति सप्ताह तीन से पांच बार रस्सी कूदना चाहिए जिसमे एक बार में 12 से 20 मिनट तक करना चाहिए।

(और पढ़े – दिल मजबूत करने के उपाय…)

रस्सी कूदने के लाभ मन को शांत रखने में – Rassi kudne ke laabh man ko shant rakhne me in Hindi

रस्सी कूदने के लाभ मन को शांत रखने में – Rassi kudne ke laabh man ko shant rakhne me in Hindi

रस्सी कूदना हमारे मन और मस्तिष्क दोनों को शांत रखने के लिए बहुत ही लाभदायक है। इसलिए रिंग में मुक्केबाज जो वास्तव में रस्सी कूदते हैं वे उन लोगों की तुलना में अधिक शांत होते हैं जो रस्सी कूद को नहीं करते हैं। स्किपिंगरोप एक्सरसाइज शुरूआती व्यक्ति या अनुभवी कोई भी व्यक्ति कर सकता है।

(और पढ़े – गुस्से को कंट्रोल और मन शांत करने के आसान उपाय…)

रस्सी कूदने के नुकसान इन हिंदी- Rassi Kudne Ke Nuksan In Hindi

रस्सी कूदने के नुकसान इन हिंदी- Rassi Kudne Ke Nuksan In Hindi

हम जानते है कि रस्सी कूदने के अनेक लाभ है पर इससे करने से पहले आपको कुछ सावधानियाँ रखना बहुत ही आवश्यक हैं। अन्यथा आपको रस्सी कूदने के नुकसान भी झेलने पड़ सकते हैं आइये इसकी सावधानियाँको विस्तार से जानते हैं-

  • अच्छी गुणवत्ता वाली रस्सी का प्रयोग करें क्योंकि अभ्यास के दौरान अगर रस्सी टूट गई तो आपको चोट भी लग सकती है।
  • रस्सी कूद को खुले क्षेत्र में करें क्योंकि अभ्यास के दौरान रस्सी किसी वस्तु में फंस गई तो आपको चोट भी लग सकती है।
  • रस्सी कूदने के लिए आप एक उच्च प्रभाव वाली स्पोर्ट्स ब्रा पहनें क्योंकि स्किपिंग से स्तन ऊपर नीचे अधिक हिलते है। इससे स्तन की मांसपेशियों में अधिक खिंचाव आ सकता है और हो सकता है आपके स्तन शिथिल भी हो जाएंगे।
  • रस्सी कूदना एक उच्च तीव्रता वाला व्यायाम है इसलिए व्यायाम शुरू करने से पहले व्यक्ति को उचित वार्म-अप करना चाहिए। स्किपिंग से पहले स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज बहुत जरूरी है।
  • कई अध्ययनों का दावा है कि नंगे पैर यानि बिना जूते चप्पल के रस्सी कूदना बेहतर है क्योंकि यह आपके पैरों को मजबूत बनाता है। यह पैरों से संबंधित कई समस्याओं को ठीक करने में भी मदद करता है।
  • रस्सी कूदना समय के साथ धीरे-धीरे अपने शरीर के धीरज स्तर और स्थिति के साथ अभ्यास करें। ध्यान रखें स्किपिंग रोप का उपयोग केवल कैलोरी जलाने के लिए ना करें।

(और पढ़े – मांसपेशियों में खिंचाव (दर्द) के कारण और उपचार…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration