पंचामृत के फायदे और बनाने की विधि – Panchamrit Ke Fayde Aur Banane Ki Vidhi In Hindi

पंचामृत के फायदे और बनाने की विधि - Panchamrit Ke Fayde Aur Banane Ki Vidhi In Hindi
Written by Anamika

Panchamrit or panchamrut in hindi पंचामृत के बारे में जानकारी। आमतौर पर पंचामृत को आम बोलचाल की भाषा में चरणामृत भी कहा जाता है। पूजा के दौरान पंचामृत भगवान को चढ़ाने के बाद इसे भक्तों के बीच प्रसाद के रूप में वितरित किया जाता है। अधिकांश हिंदू धार्मिक क्रियाओं में पंचामृत एक महत्वपूर्ण घटक है और इसे पवित्र (Holy ) माना जाता है। पंचामृत दो शब्दों पंच (Pancha) और अमृत (Amrita) से मिलकर बना है जहां पंच का अर्थ पांच, और अमृत का अर्थ अमरत्व का पौराणिक पेय (beverage of immortality) या देवताओं का अमृत है। प्राचीन काल से ही हर तरह की हिंदू धार्मिक क्रियाओं में पंचामृत को शामिल किया जाता रहा है, जिसका चलन आज भी है। इस आर्टिकल में हम आपको पंचामृत बनाने की विधि और पंचामृत के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं।

1. पंचामृत क्या है? – What is Panchamrit in Hindi
2. पंचामृत बनाने के लिए आवश्यक सामग्री – Ingredients of Panchamrit in Hindi
3. पंचामृत बनाने की विधि – Panchamrit kaise banaya jata hai in Hindi
4. पंचामृत के फायदे और बनाने की विधि वीडियो – Panchamrit Ke Fayde Aur Banane Ki Vidhi video In Hindi
5. पंचामृत के फायदे – Panchamrut ke fayde in Hindi

6. पंचामृत बनाते समय इन बातों का रखें ध्यान – Panchamrit banate samay ye baatein dhyan rakhe in Hindi

पंचामृत क्या है? – What is Panchamrit in Hindi

पंचामृत क्या है? - What is Panchamrit in Hindi

जानें पंचामृत के पांच तत्व कौन कौन से है, पंचामृत पांच सामग्रियों ((ingredients) दूध, दही, शहद, शक्कर, और घी का एक मिश्रण है, जो आमतौर पर हिंदू धर्म में पूजा के दौरान उपयोग किया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार पंचामृत में इस्तेमाल किए जाने वाले 5 अवयवों (ingredients) में बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ छिपे होते हैं और जब ये तत्व सही मात्रा में संयुक्त होते हैं तो हमें एक अत्यंत पौष्टिक पंचामृत मिलता है। पंचामृत में सप्त धातु, सात शारीरिक ऊतकों को पोषण देने की क्षमता है, जो मुख्य रूप से हमारी प्रतिरक्षा और जीवन शक्ति के लिए आवश्यक होते हैं।

पंचामृत बनाने के लिए आवश्यक सामग्री – Ingredients of Panchamrit in Hindi

  • चार चम्मच दही
  • दो चम्मच घी
  • एक कप दूध
  • एक चम्मच चीनी
  • एक चम्मच शहद

(और पढ़े – दही खाने से सेहत को होते हैं ये बड़े फायदे…)

पंचामृत बनाने की विधि – Panchamrit kaise banaya jata hai in Hindi

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पंचामृत बनाना बेहद आसान है। पंचामृत बनाने में अधिक समय या अधिक मेहनत नहीं लगती है और आवश्यकता पड़ने पर इसे तुरंत तैयार किया जा सकता है। बस इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि पंचामृत बनाने के लिए आपके पास सभी सामग्री उपलब्ध होनी चाहिए। तो आइये जानते हैं पंचामृत बनाने की विधि के बारे में।

  • मिट्टी, स्टील या कांच (glass) का एक साफ बर्तन लें।
  • इसके बाद इसमें चार चम्मच दही, दो चम्मच घी, एक कप दूध, एक चम्मच चीनी और एक चम्मच शहद मिलाएं।
  • सभी सामग्री को अच्छी तरह से मिलाकर एक चम्मच से इनकों अच्छी तरह से मिक्स कर लें।
  • इसके बाद इसमें तुलसी का पत्ता डालें।
  • आप चाहें तो पंचामृत में सूखे मेवे भी मिला सकते हैं।
  • अब आपका पंचामृत तैयार है।

(और पढ़े – शहद के फायदे उपयोग स्वास्थ्य लाभ और नुकसान…)

पंचामृत के फायदे और बनाने की विधि वीडियो – Panchamrit Ke Fayde Aur Banane Ki Vidhi video In Hindi

पंचामृत के फायदे – Panchamrut ke fayde in Hindi

  1. पंचामृत के फायदे स्वस्थ बालों के लिए – Panchamrut ke fayde for Healthy Hair in Hindi
  2. पुरुषों में यौन क्षमता सुधारने में पंचामृत के फायदे –  Panchamrut benefits for Sexual power In Males in Hindi
  3. पंचामृत के फायदे मस्तिष्क के लिए – Panchamrit ke fayde Brain ke liye in Hindi
  4. पंचामृत खाने के फायदे स्वस्थ त्वचा के लिए – Panchamrit Benefits for Healthy Skin in Hindi
  5. पंचामृत के उपयोग पित्त को संतुलित करने में – Panchamrut Benefits for Balances Pitta in Hindi
  6. पंचामृत के फायदे इम्युनिटी सुधारने में – Panchamrit ke fayde immunity sudharne mein in Hindi
  7. पंचामृत के लाभ अच्छे पाचन के लिए – Panchamrit Benefits for good digestion in Hindi
  8. त्वचा की रंगत के लिए पंचामृत के फायदे – Panchamrut ke fayde improves skin complexion in Hindi

आयुर्वेद के अनुसार पंचामृत प्रत्येक व्यक्ति के सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। आइये जानते हैं पंचामृत के प्रमुख फायदों के बारे में।

पंचामृत के फायदे स्वस्थ बालों के लिए – Panchamrut ke fayde for Healthy Hair in Hindi

पंचामृत के फायदे स्वस्थ बालों के लिए - Panchamrut ke fayde for Healthy Hair in Hindi

पंचामृत हमारे शरीर में सप्त धातु (Sapta Dhatu) को पोषण प्रदान करता है। सात धातुओं में से एक अस्ति धातु (Asti Dhatu) हमारे शरीर में हड्डी और दांत के निर्माण में सहायक होता है। इस चयापचय प्रक्रिया यानि हड्डियों और दांतों के निर्माण के दौरान अपशिष्ट उत्पाद के रुप में वास्तव में हमारे बाल और नाखून बनते हैं। पंचामृत के फायदे से जब अस्ति धातु को अच्छी तरह से पोषण मिलता है तो बाल स्वस्थ और चमकदार बनते हैं तथा तेजी से बढ़ते भी हैं।

(और पढ़े – बालों को मोटा और घना बनाने के घरेलू उपाय…)

पुरुषों में यौन क्षमता सुधारने में पंचामृत के फायदे –  Panchamrut benefits for Sexual power In Males in Hindi

पुरुषों में यौन क्षमता सुधारने में पंचामृत के फायदे -  Panchamrut benefits for Sexual power In Males in Hindi

पंचामृत शुक्र धातु (Shukra Dhatu) यानि प्रजनन ऊतकों को पोषण प्रदान करता है जिससे कि पुरुषों में यौन शक्ति में सुधार करता है। पंचामृत महिलाओं की प्रजनन प्रणाली को भी मजबूत करता है। यही कारण है कि यौन रुप से कमजोर महिलाओं और पुरुषों के लिए पंचामृत का सेवन करना फायदेमंद होता है। यह न सिर्फ यौन इच्छा बढ़ाता है बल्कि पंचामृत का लगातार सेवन करने से यौन जीवन भी बेहतर होता है।

(और पढ़े – काम शक्ति बढ़ाने के उपाय और घरेलू नुस्खे…)

पंचामृत के फायदे मस्तिष्क के लिए – Panchamrit ke fayde Brain ke liye in Hindi

पंचामृत के फायदे मस्तिष्क के लिए - Panchamrit ke fayde Brain ke liye in Hindi

पंचामृत के नियमित सेवन से बुद्धि, याददाश्त, याद करने की शक्ति, रचनात्मक क्षमता (creative abilities) आदि बढ़ती है। यह मस्तिष्क के लिए एक अच्छा टॉनिक माना जाता है। यदि गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन किया जाए तो यह बच्चे के मस्तिष्क के विकास को बढ़ावा देता है। इसके अलावा यह गर्भवती महिलाओं के शरीर में ऊर्जा बढ़ाने का काम करता है। प्रेगनेंट मां को तड़के सुबह (early morning) उठकर चार से पांच चम्मच पंचामृत का सेवन करना चाहिए, यह मां और बच्चे दोनों की सेहत के लिए फायदेमंद होता है।

(और पढ़े – दिमाग तेज करने के लिए क्या खाये और घरेलू उपाय…)

पंचामृत खाने के फायदे स्वस्थ त्वचा के लिए – Panchamrit Benefits for Healthy Skin in Hindi

पंचामृत खाने के फायदे स्वस्थ त्वचा के लिए - Panchamrit Benefits for Healthy Skin in Hindi

पंचामृत एक प्राकृतिक स्किन क्लीन्जर (skin cleanser) का कार्य करता है। पंचामृत खाने के फायदे त्वचा को स्वस्थ रखते है और कोशिकाओं (skin cells) को विकसित करने में मदद करता है।  इसके अलावा पंचामृत त्वचा की कोशिकाओं को आवश्यक पोषण प्रदान करता है और आपको अंदर से स्वस्थ रखता है एवं चेहरे पर निखार (glow) लाता है।

(और पढ़े – चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए दूध की मलाई का इस तरह करें इस्तेमाल…)

पंचामृत के उपयोग पित्त को संतुलित करने में – Panchamrut Benefits for Balances Pitta in Hindi

पंचामृत के उपयोग पित्त को संतुलित करने में - Panchamrut Benefits for Balances Pitta in Hindi

पंचामृत हमारे शरीर में पित्त को संतुलन रखने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। पंचामृत के नियमित सेवन से हाइपर एसिडिटी और पित्त असंतुलन के अन्य दुष्प्रभावों से राहत मिलती है। जब पित्त संतुलित अवस्था में नहीं होता है तो शरीर में कई तरह की बीमारियां उत्पन्न होती हैं। आयुर्वेद में पहले पित्त को संतुलित करने के उपाय बताए जाते हैं और फिर रोगों का इलाज शुरु किया जाता है। इसलिए नियमित रुप (regularly) से पंचामृत का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है।

(और पढ़े – एसिडिटी (अम्लता) (पेट में जलन) क्या है, लक्षण, कारण, इलाज, और आहार…)

पंचामृत के फायदे इम्युनिटी सुधारने में – Panchamrit ke fayde immunity sudharne mein in Hindi

पंचामृत के फायदे इम्युनिटी सुधारने में - Panchamrit ke fayde immunity sudharne mein in Hindi

पारंपरिक रूप से गाय के दूध का उपयोग पंचामृत बनाने के लिए किया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार, गाय के दूध का शरीर और दिमाग पर शीतलन प्रभाव (cooling effect) पड़ता है। यह ओजस (Ojas) यानि हमारी प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाता है और इसमें सुधार करता है। पंचामृत के रोजाना सेवन से शरीर के ऊतकों को पोषण मिलता है जिससे शरीर अंदर से तरोताजा (choris) बनता है। यह शरीर को ताकत देता है और समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने में भी मदद करता है।

(और पढ़े – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय…)

पंचामृत के लाभ अच्छे पाचन के लिए – Panchamrit Benefits for good digestion in Hindi

पंचामृत के लाभ अच्छे पाचन के लिए - Panchamrit Benefits for good digestion in Hindi

पंचामृत में दही मिलाया जाता है जिसका सेवन करने से पाचन क्रिया बेहतर होती है। वास्तव में पंचामृत में मिलाये जाने वाला दही किण्वित (fermented) होता है जिसे आयुर्वेद द्वारा सात्विक माना जाता है। सात्विक भोजन (simple food) करने से व्यक्ति निरोगी रहता है। यही कारण है कि जिन लोगों का पाचन ठीक नहीं होता है वे इसे सुधारने के लिए पंचामृत का सेवन करते हैं।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

त्वचा की रंगत के लिए पंचामृत के फायदे – Panchamrut ke fayde improves skin complexion in Hindi

त्वचा की रंगत के लिए पंचामृत के फायदे - Panchamrut ke fayde improves skin complexion in Hindi

आयुर्वेद के ग्रंथों के अनुसार पंचामृत में शहद होता है जो चेहरे पर निखार (glow) लाने में मदद करता है। नियमित रुप से पंचामृत का सेवन करने से यह त्वचा की रंगत और उसकी कोमलता में सुधार करता है। इसके अलावा पंचामृत कमजोर पाचन वालों के लिए शहद फायदेमंद है। इसमें मौजूद आवश्यक एंजाइमों शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं और यह शरीर से विषाक्त पदार्थों (toxins) को बाहर निकालने में भी मदद करते हैं।

(और पढ़े – चेहरे पर ग्लो लाने के घरेलू उपाय…)

पंचामृत बनाते समय इन बातों का रखें ध्यान – Panchamrit banate samay ye baatein dhyan rakhe in Hindi

  • हमेशा ताजा बना पंचामृत ही पिएं, क्योंकि यह सिर्फ कुछ घंटों के लिए ही टिकाऊ होता है।
  • पंचामृत में दही (curd) मिला होता है इसलिए कुछ देर के बाद यह खट्टा होना लगता है और इसके स्वाद एवं महक में भी परिवर्तन आ जाता है। इसलिए अधिक देर तक पंचामृत ना रखें।
  • आयुर्वेद के अनुसार पंचामृत बनाते समय इसमें घी और शहद का उपयोग बराबर मात्रा में नहीं करना चाहिए। इसलिए उचित माप लेकर ही पंचामृत बनाएं।
  • पंचामृत तैयार करने के लिए हमेशा स्टेनलेस स्टील, सिरेमिक (ceramic) या कांच के कटोरे का उपयोग करें। यह अन्य प्रतिक्रियाशील और हानिकारक धातुओं के साथ किसी भी रासायनिक प्रतिक्रिया से बचने में मदद करता है। पहले के समय में चांदी के धातु के अतिरिक्त फायदों के लिए पारंपरिक रूप से चांदी के कटोरे को पंचामृत में मिलाया जाता था।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration