मेरुदंडासन योग करने की विधि और लाभ – Merudandasana Steps and Benefits in Hindi

मेरुदंडासन योग करने की विधि और लाभ - Merudandasana Steps and Benefits in Hindi
Written by Hemant

Merudandasana in hindi मेरुदंडासन योग एक सरल योग आसन है। जैसे कि इस योग आसन के नाम से ही पता चलता है कि यह योग आपकी मेरुदंड अर्थात आपकी रीढ़ की हड्डी के लिए योग हैं, जो रीढ़ के हड्डी को सीधा रख कर किया जाता हैं। इस आसन को करने से आपकी रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है, साथ में यह कूल्हों और हैमस्ट्रिंग को फैलाता है। मेरुदंडासन एक चंचल मुद्रा है जो एक बच्चे के समान पैर की उंगलियों को अपने मुंह में डालते हुए दिखाई देती है। मेरुदंडासन योग आपके मन को शांत रखता है और तनाव को दूर करता हैं। आइये मेरुदंडासन योग को करने की विधि और उससे होने वाले लाभों को विस्तार जानते हैं।

  1. मेरुदंडासन क्या हैं – What is Merudandasana in Hindi
  2. मेरुदंडासन योग करने से पहले करें यह आसन –  Merudandasana yoga karne se pehle Kare ye aasan in Hindi
  3. मेरुदंडासन योग करने का तरीका – Steps to do Merudandasana yoga in Hindi
  4. मेरुदंडासन योग करने के फायदे – Benefits Of The Merudandasana yoga in Hindi
  5. दंडासन करने में क्या सावधानी रखें  – Precautions to do Merudandasana yoga in Hindi

मेरुदंडासन क्या हैं – What is Merudandasana in Hindi

मेरुदंडासन क्या हैं – What is Merudandasana in Hindi

मेरुदंडासन शब्द संस्कृत भाषा से लिए गया है जो दो शब्दों से मिलकर बना है, जिसमें पहला “मेरुदंड” है जिसका अर्थ “रीढ़ की हड्डी” होता है और दूसरा शब्द “आसन” है जिसका अर्थ “पोज़ या मुद्रा” होता हैं। मेरूदंडासन को आमतौर पर अंग्रेजी में “बैलेंसिंग बियर पोज़” (balancing bear pose) और “स्पाइनल कॉलम पोज” (Spinal Column Pose) कहा जाता है। मेरूदंडासन एक मध्यवर्ती आसन है जिसमें संतुलन और लचीलेपन की आवश्यकता होती है। इस आसन को करने वाला व्यक्ति एक बच्चे के सामान दिखाई देता है जैसे कि कोई बच्चा अपने पैर की उंगलियों को अपने मुंह में डालते हुए, अपने कंधे और सिर को उठाता है। आइये मेरुदंडासन योग को करने का तरीका जानते हैं।

(और पढ़े – बच्चों के लिए योग और ध्यान…)

मेरुदंडासन योग करने से पहले करें यह आसन –  Merudandasana yoga karne se pehle Kare ye aasan in Hindi

मेरुदंडासन योग करने से पहले करें यह आसन –  Merudandasana yoga karne se pehle Kare ye aasan in Hindi

मेरुदंडासन योग करने पहले आप नीचे दिए आसन को करें, जिससे आपको मेरुदंडासन योग करने में आसानी होगी-

(और पढ़े – योग की शुरुआत करने के लिए कुछ सरल आसन…)

मेरुदंडासन योग करने का तरीका – Steps to do Merudandasana yoga in Hindi

मेरुदंडासन योग करने का तरीका - Steps to do Merudandasana yoga in Hindi

मेरुदंडासन योग के अनके स्वस्थ लाभ हैं, इसके स्वस्थ लाभ को जानने के बाद प्रत्येक व्यक्ति इस आसन को करना चाहता हैं। नीचे मेरुदंडासन को सही से करने के लिए कुछ स्टेप दी जा रही हैं जिसका पालन करके आप आसानी से इस योग को कर सकते है-

  • मेरुदंडासन योग करने के लिए आप सबसे पहले एक योगा मैट को बिछा कर उस पर दोनों पैरों को सामने की ओर सीधा करके बैठ जाएं।
  • आप इस आसन को करने के लिए सीधे दंडासन योग की मुद्रा में भी बैठ सकते हैं।
  • अपनी रीढ़ की हड्डी को पूरी तरह से सीधा रखें और दोनों हाथों को दोनों पैरों की जांघों पर रखें।
  • अब अपने दोनों पैरों को एक-दुसरे से दूर करके फैला लें।
  • फिर थोड़ा सा आगे की ओर झुकें और अपने दोनों हाथों से दोनों पैरों के अंगूठे को पकड़ लें।
  • अब अपनी रीढ़ की हड्डी को पूरी तरह से सीधा करें और दोनों पैरों को ऊपर की और उठा लें।
  • अपने पैरों के अंगूठों को पकड़ें हुए अपने दोनों हाथों को फर्श के समान्तर लें आयें।
  • यह मेरुदंडासन योग है इस स्थिति में रहते हुए आप गहरी साँस लें।
  • इस योग को आप कम से कम 10 से 12 सेकंड तक करने का प्रयास करें।

(और पढ़े – योग मुद्रा क्या है प्रकार और फायदे…)

मेरुदंडासन योग करने के फायदे – Benefits Of The Merudandasana yoga in Hindi

मेरुदंडासन योग किस प्रकार से हमारे शरीर के लिए लाभदायक हैं और इससे कौन-कौन सी बीमारियों को ठीक किया जा सकता हैं, आइये इसे विस्तार से जानते हैं-

मेरुदंडासन योग के फायदे रीढ़ की हड्डी के लिए – Merudandasana benefits Spine flexibility and strength in Hindi

मेरुदंडासन योग के फायदे रीढ़ की हड्डी के लिए – Merudandasana benefits Spine flexibility and strength in Hindi

इस योग के नाम से भी पता चलता है कि यह मेरुदंडासन योग आपको मेरुदंड अर्थात आपकी रीढ़ की हड्डी के लिए है। रीढ़ की हड्डी हमारी शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा हैं, इसके बिना ना कोई व्यक्ति बैठ सकता हैं ना चल सकता हैं। रीढ़ की हड्डी हमारी पीठ को मजबूत संरचना देने में मदद करती हैं। मेरुदंडासन योग हमारी रीढ़ की हड्डी को मजबूत और लचीला बनता हैं। यह लचीलापन आपको लगने वाली चोट को कम करने में मदद करता हैं।

(और पढ़े – साइटिका के लिए योग…)

मेरुदंडासन योग के लाभ मांसपेशियों को मजबूत करे – Merudandasana yoga for Strengthens Muscles in Hindi

मेरुदंडासन योग के लाभ मांसपेशियों को मजबूत करे – Merudandasana yoga for Strengthens Muscles in Hindi

हमारे शरीर की सभी मांसपेशियों को मजबूत करने में मेरुदंडासन योग बहुत लाभदायक होता है। यह योग कंधे, पीठ, और पैर की मांसपेशियों को मजबूत करता हैं। अधिक समय तक झुक कर कार्य करने से और कुर्सी पर अधिक समय तक बैठ के कार्य करने से पीठ की मांसपेशियों में दर्द लम्बे समय तक बना रहता हैं जिससे वो कमजोर हो जाती हैं, उनको मजबूत करने के लिए मेरुदंडासन अच्छा आसन हैं।

(और पढ़े – फिट रहने के लिए सबसे अच्छे योग…)

मेरुदंडासन करने के फायदे पेट के लिए – Merudandasana yoga benefits for abdomen in Hindi

मेरुदंडासन करने के फायदे पेट के लिए - Merudandasana yoga benefits for abdomen in Hindi

मेरुदंडासन योग पेट को टोन करता है, यह विशेष रूप से यकृत पर काम करता है और पेट की मांसपेशियों को मजबूत करता है। यह आंतों के पेरिस्टलसिस (peristalsis) को उत्तेजित करने में मदद करता है। यह योग कब्ज, एसिड रिफ्लेक्स, और ब्लोटिंग आदि पाचन सम्बन्धी समस्या जो अत्यधिक असहज और अस्वास्थ्यकर होती हैं, इन सभी प्रकार की समस्या को मेरुदंडासन योग के माध्यम से हटाया जा सकता है।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के योग…)

पीठ दर्द के लिए मेरुदंडासन योग – Peeth dard ke liye Merudandasana yoga in Hindi

पीठ दर्द के लिए मेरुदंडासन योग – Peeth dard ke liye Merudandasana yoga in Hindi

मेरुदंडासन योग पीठ के निचले हिस्से को मजबूत करता है। इस योग से पीठ के निचले हिस्से को संतुलित किया जाता है और कूल्हों को स्थिर किया जाता है। मेरुदंडासन योग के लगातार अभ्यास से पीठ के निचले हिस्से को मजबूती मिलती है। आप हमेशा याद रखें कि एक मजबूत कोर होने के लिए, एक मजबूत लोअर बैक बहुत जरूरी है।

(और पढ़े – पीठ दर्द के लिए योगासन…)

मेरुदंडासन योग के फायदे लचीलेपन में –  Merudandasana yoga for Flexibility in Hindi

मेरुदंडासन योग के फायदे लचीलेपन में -  Merudandasana yoga for Flexibility in Hindi

अपने शरीर के लचीलेपन को बढ़ाने के लिए मेरुदंडासन योग बहुत ही अच्छा माना जाता हैं। यह योग कूल्हों और हैमस्ट्रिंग को अच्छा खिंचाव देता है। मेरुदंडासन योग पैर, पिंडली और ग्लूट्स को फैलाता है। यह कूल्हों को खोलने में मदद करता है और जांघ की मांसपेशियों को लंबा करता है। इसके अलावा यह योग संतुलन, फोकस और लचीलेपन में सुधार करता है।

(और पढ़े – मांसपेशियों में खिंचाव (दर्द) के कारण और उपचार…)

दंडासन करने में क्या सावधानी रखें  – Precautions to do Merudandasana yoga in Hindi

दंडासन करने में क्या सावधानी रखें  - Precautions to do Merudandasana yoga in Hindi

मेरुदंडासन योग करने में आपको क्या-क्या सावधानी रखना आवश्यक हैं, इसे हम नीचे दिए कुछ बिंदुओं से समझते हैं-

  • यदि आपकी पीठ के निचले हिस्से में और कलाई में दर्द हैं तो आप इस आसन को ना करें।
  • इस योग आसन को अपनी क्षमता से अधिक करने का प्रयास ना करें, उतना ही करें जितना सहन हो सकता हैं।
  • यदि आप उच्च रक्तचाप के रोगी है तो आप इस आसन को ना करें।
  • मेरुदंडासन योग को ह्रदय रोग वाले व्यक्तियों को नहीं करना चाहिए।
  • वैसे तो यह काफी सरल मुद्रा हैं पर योग प्रशिक्षक की देखरेख में करना सर्वोत्तम है।
  • मेरुदंडासन योग या किसी भी योग को खाना खा कर नहीं करना चाहिए।
  • अगर आप किसी बीमारी से परेशान है तो आप इस योग को करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।

(और पढ़े – दिल को मजबूत बनाने के लिए योगासन…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration