अपराजिता के फायदे और नुकसान – Aparajita Ke Fayde aur Nuksan in Hindi
जड़ीबूटी

अपराजिता के फायदे और नुकसान – Aparajita (Clitoria ternatea) benefits and side effects in Hindi

अपराजिता के फायदे और नुकसान – Aparajita (Clitoria ternatea) benefits and side effects in Hindi

Clitoria ternatea benefits in Hindi अपारिजिता एक आयुर्वेदिक और बहुत ही आम बारहमासी बेल है जो उष्‍णकटिबंधीय क्षेत्रों में होती है। इस आयुर्वेदिक जड़ी बूटी का वैज्ञानिक नाम क्लिटोरिया टर्नेटे (Clitoria ternatea) है। इसे पौधे को हिंदी में कॉयाला (Koyala), अंग्रेजी में वटरफ्लाई पिया (Butterfly) और संस्‍कृत में गिरिकर्निका (Girikarnika) के नाम से भी जाना जाता है।

यह एक औषधीय गुणों वाली जड़ी बूटी है जो कि आम घरेलू पौधों की तरह घरों में उगाई जाती है। अपारिजिता पौधे को बहुत ही कम देखभाल की आवश्‍यकता होती है। अपारिजिता के फायदे इस पौधे के संपूर्ण भाग के औषधीय उपयोग के लिए हैं। विशेष रूप से इस पौधे की जड़ जो ल्यूकोडर्मा (leucoderma) के इलाज के लिए उपयोग की जाती है। अपारिजिता के फायदे विषहर के रूप में भी उपयोग के लिए जाने जाते हैं। आइये अपराजिता के फायदे और नुकसान को विस्तार से जानते है।

विषय सूची

1. अपराजिता पौधे – Aparajita Plant in Hindi
2. अपराजिता के पोषक तत्‍व – Aparajita Nutrition Value in Hindi
3. अपराजिता के फायदे – Aparajita ke fayde in Hindi

4. अपराजिता के अन्‍य फायदे – Aparajita Other Benefits in Hindi
5. अपराजिता के नुकसान – Aparajita ke Nuksan in Hindi

अपराजिता पौधे – Aparajita Plant in Hindi

अपराजिता पौधे – Aparajita Plant in Hindi

क्लिटोरिया प्‍लांट या अपारजिता जिसे हम जड़ी बूटी के रूप में जानते हैं यह पौधा एक बेल के रूप में अन्‍य पेड़ पौधों की सहायता से बढ़ता है। यह घरों की साज सजावट करने वाले पौधों में अपना विशेष स्‍थान रखता है इसके पत्‍ते हरे और चमकीले होते हैं, इनके फूल नीले या सफेद होते हैं। अपारजिता पौधे के सभी हिस्‍सों का उपयोग बाहरी और आंतरिक समस्‍याओं के उपचार के लिए औषधीय रूप में किया जाता है।

अपराजिता के पोषक तत्‍व – Aparajita Nutrition Value in Hindi

ब्‍लू वटरफ्लाई (Blue Butterfly) में पोषक तत्‍व बहुत अच्‍छी मात्रा में होते हैं जो इसे हमारे लिए बहुत ही उपयोगी बनाते हैं। अपराजिता के फूलों में कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, पोटेशियम, जस्‍ता, आयरन और मैंगनीज बहुत अच्‍छी मात्रा में उपलब्‍ध होते हैं। यह सोडियम में भी समृद्ध होते हैं। इस पौधे में बहुत से विटामिन और एंटीऑक्‍सीडेंट (antioxidants) होते है जो हमें बहुत से स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने में मदद करते हैं।

अपराजिता के फायदे – Aparajita ke fayde in Hindi

आयुर्वेद के पंचकर्म उपचार में अपराजिता का प्रयोग आमतौर पर किया जाता है। ये उपचार शरीर में दोषों को दूर करने में मदद करते हैं। अपराजिता के फायदे शरीर के आंतरिक और बाहरी डिटॉक्सिफिकेशन (detoxification) के लिए बहुत ही प्रभावी होते है। यह तंत्रिका तंत्र के लिए बहुत ही फायेदमंद होता है जिसके कारण वात विकारों का उपचार करने में मदद मिलती है। आइए जाने अपराजिता के फायदे जो अब तक आपने नहीं सुने।

द्रष्टि सुधार में अपराजिता के औषधीय प्रयोग – Clitoria ternatea for Improve eyesight in Hindi

द्रष्टि सुधार में अपराजिता के औषधीय प्रयोग - Clitoria ternatea for Improve eyesight in Hindi

प्रोथोस्यनिडिन (proanthocyanidin) नामक एंटीआक्‍सीडेंट की अच्‍छी मात्रा अपराजिता में होती है जो आंखों की कोशिकाओं में रक्‍त प्रवाह को बढ़ाती है जो कि ग्‍लूकोमा, धुंधली द्रष्टि, रेटिना क्षति या आंखों की थकान आदि को दूर करने के लिए बहुत ही महत्‍वपूर्ण होता है। यदि आपको आंखों से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्‍या हो तो आप अप‍राजिता का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – क्या आँखों की इन बीमारियों को जानते हैं आप…)

पाचन तंत्र के लिए अपराजिता की बेल – Aparajita Ki Bel For Digestive System in Hindi

पाचन तंत्र के लिए अपराजिता की बेल – Aparajita Ki Bel For Digestive System in Hindi

 

इस औषधीय पत्तियों का उपयोग पित्‍त को शुद्ध करने के लिए किया जाता है जो अपराजिता के फायदे को और अधिक बढ़ाते हैं। इस पौधे के पत्‍तों का उपयोग कर पेट दर्द का इलाज भी किया जा सकता है जो कि आपके पाचन तंत्र से संबंधित हो सकता है। पेट या इसी तरह के अन्‍य दर्द को ठीक करने के लिए आप अपराजिता के बीजों का भी उपयोग कर सकते हैं। आप इन बीजों का पाउडर बनाकर दिन में इसे दो बार सेवन करें। यह आपके पाचन को ठीक करने और पेट दर्द से राहत दिलाने में मदद करेगा।

(और पढ़े – मानव पाचन तंत्र कैसा होता है, और कैसे इसे मजबूत बनायें…)

अपराजिता के फायदे उल्‍टी रोकने में – Aparajita for Vomiting in Hindi

उबकाई को रोकने (antiemetic) के लिए अपराजिता के पौधे से निकाले जाने वाले अर्क का उपयोग किया जाता है। अपराजिता के फायदे रोगाणुरोधी विशेष रूप से पेचिश से संबंधित (anti-dysenteric) समस्‍याओं को रोकने में मदद करते हैं। इस पौधे के रस में एक हल्‍का रेचक (पेट को साफ करने वाला ) गुण होता है। अपराजिता का उपयोग गैस्ट्रिटिस (gastritis), दस्‍त और गुदा रक्‍तस्राव के इलाज में भी किया जाता है।

(और पढ़े – उल्टी और मतली को रोकने के उपाय…)

अपराजिता का फूल महिलाओं के लिए फायदेमंद – Aparajita Flower Good for Women in Hindi

महिलाओं को अपने लिए अपराजिता के फायदे पता होना चाहिए। यह उनके लिए एक विशेष प्रकार की दवा का काम करती है जो उन्‍हें अनियमित अवधि (irregular period) के मद्दों से निपटने में मदद करते हैं। इसके अलावा अपराजिता के फूल महिलाओं में प्रजनन ((reproductive) संबंधी समस्‍याओं को भी दूर करने में सहायक होते हैं।

(और पढ़े – महिला स्खलन क्या होता है और कैसे होता है…)

मधुमेह के लिए अपराजिता फ्लावर के फायदे – Aparajita flower for diabetes in Hindi

मधुमेह के लिए अपराजिता फ्लावर के फायदे – Aparajita flower for diabetes in Hindi

मधुमेह रोगीयों के लिए अपराजिता के फायदे आर्श्‍चजनक हैं क्‍योंकि यह रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। भोजन के बाद इसके फूलों की चाय का सेवन करने से यह रक्‍त शर्करा के स्‍तर को कम करने में मदद करती है साथ ही यह आपके शरीर में शुगर लेवल को स्थिर बनाए रखने में सहायक होती है।

(और पढ़े – शुगर ,मधुमेह लक्षण, कारण, निदान और बचाव के उपाय…)

अपराजिता की बेल के फायदे तंत्रिका तंत्र के लिए –  Clitoria ternatea Improves Nerves System in Hindi

शरीर में अच्‍छे चयापचय के लिए तंत्रिका तंत्र प्रमुख भूमिका निभाता है। अपराजिता में कुछ ऐसे यौगिक होते हैं जो तंत्रिका तंत्र के कार्य को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। दूसरे शब्‍दों में यह भी कहा जा सकता है कि अपराजिता के फायदे मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ्‍य और तेज बनाने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – चक्कर आने के कारण, लक्षण, निदान और इलाज…)

अपराजिता के फायदे बालों को झड़ने से रोके – Aparajita Ke Fayde for Hair Loss in Hindi

प्राचीन समय से ही अपराजिता जड़ी बूटी का उपयोग पुरुषों के गंजेपन और बालों के गिरने की समस्‍या के उपचार के लिए किया जा रहा है। अपराजिता में एक प्रमुख घटक एंथोसायनिन (Anthocyanin) होता है जो सिर मे रक्‍त प्रवाह मे वृद्धि करता है और बालों को पोषण उपलब्‍ध कराने के साथ साथ उन्‍हें गिरने से बचाए रखता है।

(और पढ़े – प्याज रस के ये उपाय गिरते बालों के लिए…)

अवसाद कम करने में अपराजिता का उपयोग – Aparajita for Depression in Hindi

अवसाद कम करने में अपराजिता का उपयोग – Aparajita for Depression in Hindi

 

क्लिटोरिया टर्नेटे में चिंता और अवसाद (Depression) को कम करने वाले गुण होते हैं। अपराजिता के फायदे तनाव को कम करने और मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए उपयोग किया जाता है। एक पशु अध्‍ययन में पाया गया कि अपराजिता का सेवन करने से यह उनके मानसिक तनाव को कम करता है। यदि आप भी चिंता या अवसाद से ग्रसित हैं तो अपराजिता के फायदे प्राप्‍त कर सकते हैं।

(और पढ़े – अवसाद (डिप्रेशन) क्या है, कारण, लक्षण, निदान, और उपचार…)

अपराजिता के बीज हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Aparajita Ke Beej for Heart Health in Hindi

अपराजिता के बीज हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए - Aparajita Ke Beej for Heart Health in Hindi

 

हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अपराजिता का उपयोग बहुत ही लाभकारी होता है। एक अध्‍ययन के अनुसार अपराजिता ट्राइग्लिसराइड्स (triglycerides) और कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं। अपराजिता के बीज और जड़ दोनों में ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने की क्षमता होती है, और अपराजिता की जड़ों को कोलेस्‍ट्रॉल कम करने के लिए जाना जाता है। इस कारण अपराजिता के फायदे कार्डियोवैस्‍कुलर स्‍वास्‍थ्‍य पर सकारात्‍मक प्रभाव ड़ालते हैं।

(और पढ़े – हार्ट अटेक कारण और बचाव…)

अपराजिता के गुण बुखार को कम करने में – Aparajita for Fever in Hindi

अपराजिता के गुण बुखार को कम करने में - Aparajita for Fever in Hindi

शरीर के बढ़े हुए तापमान को कम करने के लिए अपराजिता का उपयोग बहुत ही प्रभावी होता है। अपराजिता त्‍वचा के नीचे रक्‍तवाहिकाओं का विकास करके बुखार को कम (anti-pyretic)) करने में मदद करती है। यदि आप या आपके आसपास कोई भी व्‍यक्ति बुखार से ग्रसित हो तो उसके लिए अपराजिता का उपयोग करना फायदेमंद हो सकता है।

(और पढ़े – डेंगू का घरेलू इलाज और उपचार…)

अस्‍थमा के लिए अपराजिता के फायदे – Aparajita Ke Fayde for asthma in Hindi

अस्‍थमा के लिए अपराजिता के फायदे – Aparajita Ke Fayde for asthma in Hindi

अध्‍ययनों के अनुसार अपराजिता अस्‍थमा का उपचार में फायदेमंद होती है। अपराजिता में इथेलॉलिक (ethanolic) गुण होते हैं जो व्‍यक्ति पर एंटी-अस्‍थमात्‍मक (anti-asthmatic) प्रभाव ड़ालते हैं। यदि आपको ऐसा लगता है कि आपमें अस्‍थमा के लक्षण हैं तो आप अपराजिता का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – अस्थमा (दमा) के कारण, लक्षण, उपचार एवं बचाव…)

अपराजिता के अन्‍य फायदे – Aparajita Other Benefits in Hindi

अपराजिता के अन्‍य फायदे – Aparajita Other Benefits in Hindi

  • एंटी-कैंसर (Anti-cancer) : अपराजिता में उपस्थित साइक्‍लोटाइड (cyclotides) कोशिका झिल्‍ली को टूटने से रोकता है और कैंसर कोशिकाओं के विकास को कम कर कैंसर जीवाणूओं को नष्‍ट करने में मदद करता है।
  • एंटी-एचआईवी प्रभाव (Anti-HIV) : अध्‍ययनों से पता चलता है कि अपराजिता में उपस्थित साइक्‍लोटाइड ऐसा गुण है जो बहुत ही कम जड़ी बूटीयों में पाया जाता है। यह गुण एचआईवी विरोधी होता है। जिन लोगों को एचआईवी की संभावना होती है उनके लिए अपराजिता बहुत ही फायदेमंद होता है। (और पढ़े – HIV एड्स के शुरुआती लक्षण जो आपको पता होने चाहिए…)
  • एंटी-इन्फ्लामेट्री प्रकृति (Anti-inflammatory) : गहरे नीले अपराजिता के फूलों में फ्लेवोनॉयड्स (flavonoids) होते हैं जो लगभग सभी सब्‍जीयों और फलों में पाये जाते हैं, फ्लेवोनॉयड्स शक्तिशाली एंटीऑक्‍सीडेंट होते हैं जिनमें एंटी-इन्‍फ्लामेट्री और प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) से जुड़े लाभ होते हैं।
  • गर्भावस्‍था के लिए (Pregnancy) : नीले फूलों वाला यह औषधीय पौधा बहुत ही चमत्‍कारी प्रभाव वाला होता है। इसके फूल मादा जननांग की तरह ही दिखाई देते हैं। इन फूलों को गर्भाधारण में मदद करने के लिए जाना जाता है। इसे कैमोमाइल और ग्रीन चाय की तरह ही उपयोग किया जाता है, जो गर्भावस्‍था के दौरान कैफीन के लिए एक स्‍वस्‍थ्‍य और अच्‍छा विकल्‍प प्रदान करता है।

(और पढ़े – डिटॉक्स वाटर क्या होता है, फायदे और बनाने की विधि…)

अपराजिता के नुकसान – Aparajita ke Nuksan in Hindi

अपराजिता के नुकसान – Aparajita ke Nuksan in Hindi

कम मात्रा में अपराजिता का सेवन करने से किसी प्रकार के नुकसान नहीं होते हैं, फिर भी यह सलाह दी जाती है कि अपराजिता का सेवन लंबे समय तक अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए। यदि आप गर्भवती हैं या स्‍तनपान करा रहीं हैं तो अपराजिता का सेवन करने से पहले डॉक्‍टर से सलाह जरूर लें।

(और पढ़े – ब्रेस्ट मिल्क (मां का दूध) बढ़ाने के लिए क्या खाएं…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration