सोने का सही तरीका और उनके फायदे – Sone ka sahi tarika aur unke fayde in hindi

सोने का सही तरीका और उनके फायदे - Sone ka sahi tarika aur unke fayde in hindi
Written by Anamika

sone ki sahi position in hindi कहा जाता है कि हमारे सोने की पोजीशन का भी हमारी सेहत पर प्रभाव पड़ता है। वास्तव में यह सच भी है। हर व्यक्ति के सोने का तरीका अलग होता है। लेकिन आमतौर पर ज्यादातर लोगों को सोने का सही तरीका कभी मालूम ही नहीं चल पाता है, जिसके कारण वह अपने सोने के गलत तरीके को सुधार नहीं पाते हैं। इस लेख में हम आपको सोने के सही तरीके उनके फायदे और नुकसान के बारे में बताएंगे।

1. सोने का सही तरीका क्या है – Sone ka sahi tarika in hindi
2. सोने के तरीके और उनके फायदे और नुकसान – Sone ke tarike aur unke fayde in hindi

1. सोने का सही तरीका क्या है – Sone ka sahi tarika in hindi

सोने का सही तरीका क्या है - Sone ka sahi tarika in hindi

सोने के इन सही तरीकों को अपनाकर शरीर के विकारों को दूर किया जा सकता है। जानें कि सोने का सही तरीका क्या है।

1. सोने की सही पोजीशन बायीं ओर सोना

डॉक्टरों और सेहत विशेषज्ञों का मानना है कि बायीं ओर या बायीं करवट सोना, सोने की अच्छी पोजीशन है। सामान्य इंसान के लिए तो यह फायदेमंद होता ही है साथ में गर्भवती महिलाओं के लिए भी सोने की यह पोजीशन सबसे सही मानी जाती है। इस पोजीशन में सोने से हर व्यक्ति के शरीर को आराम मिलता है।

2. सोने का सही तरीका स्टारफिश पोजीशन

यह पोजीशन भी सोने की सबसे सर्वोत्तम पोजीशन है। स्टारफिश पोजीशन में सोने के लिए बिस्तर पर पीठ के बल लेट जाएं और दोनों पैरों को इस तरह से फैलाएं कि पैरों की बीच की दूरी कम हो और हाथों को ऊपर उठाकर सिर के पास रखें। यह एक आरामदायक सोने की पोजीशन है।

3. पीठ के बल सोना या सीधा सोना

आमतौर ज्यादातर लोग इसी पोजीशन में सोते हैं क्योंकि यह सोने की सबसे सामान्य पोजीशन मानी जाती है। यह एक ऐसी आरामदायक पोजीशन है जिसमें शरीर को राहत तो मिलती ही है साथ में यह पोजीशन शरीर के विकारों को भी दूर करने में उपयोगी है।

4. सोने का सही ढंग भ्रूण पोजीशन

सोने के सही तरीके के अंतर्गत भ्रूण पोजीशन को भी सर्वोत्म माना जाता है। इस पोजीशन में घुटने को हल्का सा मोड़कर सीने की तरफ लाया जाता है। इस पोजीशन में सोना इसलिए भी आसान होता है कि व्यक्ति बहुत आराम से करवट ले सकता है और हड्डियों में अधिक तनाव भी नहीं होता है।

(और पढ़े – ज्यादा सोने के नुकसान और स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभाव…)

2. सोने के तरीके और उनके फायदे और नुकसान – Sone ke tarike aur unke fayde in hindi

आइये जानते हैं सोने के तरीके और उनके फायदे और नुकसान के बारे में ।

1. बायीं तरफ सोने के फायदे – Left side sleeping benefits in Hindi

बायीं तरफ सोने के फायदे - Left side sleeping benefits in Hindi

left side sone ke fayde यह सोने का एक ऐसा तरीका है जो डॉक्टर भी लोगों को सुझाते हैं। आइये जानते हैं इनके फायदे।

बायीं करवट सोने के फायदे से पाचन बेहतर होता है

चूंकि हमारे शरीर में अग्न्याशय (pancreas) बांयी तरह ही होता है इसलिए बाएं तरफ सोने से यह प्राकृतिक रूप से बेहतर तरीके से काम करता है और भोजन पेट में बहुत आसानी से पहुंच जाता है और आवश्यकता पड़ने पर यह आसानी से ही अग्नाशयी एंजाइमों का भी स्राव करता है जिससे पाचन क्रिया बेहतर होती है। बायीं तरफ सोने से आपके भोजन में पाचक एंजाइम सही तरीके से मिल पाते है क्योंकि हमारे पेट में अमाशय बायीं तरफ होता हैं जिसमे भोजन के पाचन के लिए आवश्यक पाचक एंजाइम (गैस्ट्रिक जूस ) पाया जाता है जो भोजन से मिलकर पाचन को आसान बनाता है इसलिए पाचन बायीं तरफ करवट लेकर सोने पर सही तरीके से होता है।

(और पढ़े – पैनक्रियाज (अग्नाशय) क्या है, कार्य, रोग और ठीक रखने के उपाय…)

बायीं करवट सोना हृदय को स्वस्थ रखने में फायदेमंद

हमारे शरीर में हृदय भी बायीं तरफ ही स्थित होता है जिसके कारण बाएं तरफ से सोने से हृदय में रक्त का प्रवाह बहुत आसानी से होता है और हृदय मजबूत होता है जिससे हृदय रोग नहीं होते हैं।

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद

आमतौर पर गर्भवती महिलाओं को यह सलाह दी जाती है कि जितनी देर तक संभव हो उन्हें बांयी करवट ही सोना चाहिए ताकि पीठ पर अधिक दबाव न बनें और गर्भाशय तथा भ्रूण में खून का प्रवाह होता रहै। बायीं करवट सोने से गर्भनाल में पोषक तत्व भी बहुत आसानी से पहुंच जाते हैं जिससे शिशु का भी स्वास्थ्य ठीक रहता है।

बाई करवट सोने के फायदे खर्राटे नहीं आते

आमतौर पर खर्राटे से निजात पाने के लिए लोग कई तरह के उपाय करते हैं लेकिन यह जानकर हैरानी हो सकती है कि बांयी करवट सोने से खर्राटे नहीं आते हैं। इसका कारण यह है कि इस पोजीशन में सोने से जीभ और गला तटस्थ स्थिति में रहते हैं जिसके कारण वायुमार्गों से सांस लेने में आसानी होती है और खर्राटे नहीं आते हैं।

(और पढ़े – ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया (खराटे) बन सकता है मोटापे और मधुमेह का कारण…)

बायीं ओर सोने के नुकसान – Left side sone ke nuksan in Hindi

  • बायीं करवट सोने से पेट और फेफड़ों पर अधिक दबाव पड़ता है जिसके कारण आपको परेशानी हो सकती है।
  • बायीं तरफ सोने से कंधे और हाथ सुन्न हो सकते हैं जिसके कारण आपको अनिद्रा की समस्या हो सकती है।
  • बायीं तरफ से सोने वालों को कंधों में दर्द शुरू हो सकता है जो जल्दी ठीक नहीं होता है।
  • बायीं तरफ सोने से कुछ मामलों में व्यक्ति की जीभ दांतों से कट सकती है और उन्हें सांस लेने में भी तकलीफ हो सकती है।
  • बायें तरह सोने से गर्दन में अकड़न आ सकती है।

(और पढ़े – सांस फूलने के कारण, लक्षण, जांच, उपचार, और रोकथाम…)

2. दायीं ओर सोने के फायदे – Right side sleeping benefits in Hindi

दायीं ओर सोने के फायदे - Right side sleeping benefits in Hindi

दायीं ओर सोने के फायदे नि्म्न हैं।

अनिद्रा की बीमारी दूर करने में

दाएं तरफ सोना उन लोगों के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है जो अनिद्रा के शिकार होते हैं। ऐसी स्थिति में दाएं करवट सोने से व्यक्ति के शरीर को अधिक राहत मिलती है और शरीर की यांत्रिक क्रियाएं भी सुचारू रूप से काम करती हैं।

दायीं करवट सोने के फायदे बढ़ती उम्र को रोकने में

स्टडी में पाया गया है कि दाएं करवट सोने के दौरान चेहरे के नीचे तकिया लगाने से व्यक्ति की उम्र नहीं बढ़ती है और वह हमेशा जवान दिखता है। इसके अलावा व्यक्ति के चेहरे पर मुंहासे नहीं होते हैं।

शरीर के विषाक्त पदार्थों को दूर करने में

दायें करवट सोने पर लिम्फ नोड अधिक सक्रिय होते हैं जिससे शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते हैं। इसके अलावा ब्लड का सर्कुलेशन भी बेहतर होता है और सीने में जलन की समस्या नहीं होती है।

(और पढ़े – अनिद्रा के कारण, लक्षण और उपचार…)

दायीं ओर सोने के नुकसान – Right side sone ke nuksan  in Hindi

  • दायीं करवट सोने से रीढ़ की हड्डी में दर्द हो सकता है।
  • कुछ विशेष मामलों में सोते समय दायीं तरफ का कान दबने के कारण इसमें दर्द उत्पन्न हो सकता है।
  • इस पोजीशन में सोने से कंधे में अधिक तनाव पैदा हो सकता है।
  • अगर सोते समय रात में पसीना हो रहा हो तो दायीं करवट सोने पर पसीना कान में जा सकता है।

(और पढ़े – स्लिप डिस्क क्या है इसके लक्षण, कारण, जांच, उपचार, और बचाव…)

3. उल्टा सोने के फायदे – Ulta sone ke fayde in hindi

उल्टा सोने के फायदे - Ulta sone ke fayde in hindi

उल्टा सोने के फायदे जानने के लिए नीचे पढ़ें।

पेट के बल सोने से फायदा पेट की चर्बी दूर करने में

पुरानी धारणा है कि उल्टा सोने से पेट की चर्बी कम होती है और यदि आपका पेट बाहर निकला है तो अंदर चला जाता है।

(और पढ़े – पेट की चर्बी को कम करने के घरेलू उपाय…)

पेट के बल सोने के फायदे माहवारी के दर्द को कम करता है

महिलाओं को हर महीने मासिक धर्म आने पर पेट में अधिक दर्द होता है। माना जाता है कि इस दौरान पेट के बल सोने से मासिक धर्म के दर्द से राहत मिलती है।

सेक्स की इच्छा को नियंत्रित करने में

यदि आप ऐसा आहार खाते हैं कि आपके सेक्स करने की क्षमता अधिक बढ़ रही हो तो उत्तेजना को कम करने में उल्टा सोना फायदेमंद होता है। यदि इस स्थिति में आप उल्टा सोते हैं तो आप सेक्स की इच्छा को नियंत्रित कर सकते हैं।

उल्टा सोने के फायदे बुरे स्वप्न नहीं आते

पुरानी मान्यता है कि उल्टा सोने पर व्यक्ति के दिमाग में नकारात्मक विचार नहीं आते हैं और ना ही उन्हें बुरे स्वप्न आते हैं।

(और पढ़े – नकारात्‍मक विचारों से मुक्ति पाने के उपाय…)

पेट के बल (उल्टा) सोने के नुकसान – Ulta sone ke nuksan in hindi

  • उल्टा सोने से शरीर में हार्मोन का संतुलन खराब हो सकता है जिसके कारण तनाव, डिप्रेशन होने के साथ ही मूड भी खराब हो सकता है।
  • उल्टा सोने से चेहरा दब जाता है और चेहरे पर निशान पड़ जाता है। कभी-कभी चेहरा लाल भी पड़ जाता है जो कई मिनटों तक वैसे ही बना रहता है।
  • यदि आपको उल्टा सोने की आदत है तो आपमें हृदय रोगों के चपेट में आने की संभावना अधिक बढ़ सकती है।
  • उल्टा सोने पर सांस लेने में तकलीफ और अस्थमा सहित श्वसन रोग हो सकते हैं।
  • उल्टा सोने से नाक और मुंह की मांसपेशियों में अधिक दबाव के कारण मुंह से झाग और नाक से खून आ सकता है।
  • यदि आप महिला हैं और आपको उल्टा सोने की आदत है तो आपके स्तनों का आकार खराब हो सकता है।

(और पढ़े – अवसाद (डिप्रेशन) क्या है, कारण, लक्षण, निदान, और उपचार…)

4. सीधा सोने के फायदे – Sidha sone ke fayde in hindi

सीधा सोने के फायदे - Sidha sone ke fayde in hindi

सीधा सोने के फायदे निम्न हैं।

गर्दन में अकड़न नहीं होती है

आमतौर पर सोने के दौरान ही कई सारी समस्याएं पकड़ लेती हैं, जैसे कंधों और हाथों का सुन्न होना, पीठ में दर्द आदि। लेकिन यदि आप सीधा सोने की आदत डालते हैं तो आपके गर्दन में अकड़न नहीं होगी और न ही आपको अन्य समस्याओं का सामना करना पड़ेगा।

कमर दर्द नहीं होता

सीधा सोने से पीठ, कमर और रीढ़ की हड्डियों में झुकाव नहीं आता है जिसके कारण इनकी मांसपेशियों में दर्द नहीं होता है। माना जाता है कि कमर शरीर का आधार होता है और यदि आप सीधे सोते हैं तो कमर में दर्द नहीं पकड़ता है।

(और पढ़े – कमर के दर्द को दूर करने के उपाय…)

सीधा सोने के नुकसान – sidha sone ke nuksan in hindi

  • लंबे समय तक सीधा सोने से पीठ की हड्डियां अकड़ सकती हैं।
  • दोनों पैरों को एक दूसरे के ऊपर रखकर सीधा सोने से पैर सुन्न हो सकता है।

(और पढ़े – अच्छी नींद के लिए सोने से पहले खाए जाने वाले खाद्य पदार्थ…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration