प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे प्रकार और नुकसान – Protinex Powder Benefits And Side Effects in Hindi

प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे प्रकार और नुकसान – Protinex Powder Benefits and side effects in hindi
Written by Deepanshu

Protinex Powder Benefits in hindi यूं तो कई खाद्य पदार्थ के जरिए प्रोटीन हमारे शरीर में पहुंचता है। लेकिन जिम जाने वाले युवा या फिर दुबली मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए हमें अलग से प्रोटीन सप्लीमेंट की जरूरत होती है। ऐसे में काफी लंबे समय से चले आए रहे प्रोटिनेक्स हमारी इस जरूरत को पूरा कर सकता है। आपको बता दें कि प्रोटिनेक्स पाउडर में 85 प्रतिशत प्रोटीन व 15 प्रतिशत वसा, कार्बोहाइड्रेट होता है। लेकिन खाने में प्रोटीन पाउडर को शामिल करने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। मसलन की इसकी कितनी मात्रा में लेना है, किस समय इसका सेवन करना ठीक होगा, इसके नुकसान आदि। इस आर्टिकल के जरिए हम आपको प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे और प्रोटिनेक्स के नुकसान के बारे में बताने जा रहे है। (प्रोटिनेक्स के फायदे – Protinex ke fayde in hindi)

आज मार्केट में हर वर्ग के लोगों के लिए प्रोटिनेक्स  पाउडर मौजूद है। बच्चों के लिए, माताओं के लिए , डायबीटिक पेशेंट के लिए आदि। सबसे पहले जानते है कि मार्केट में कितने प्रकार के प्रोटिनेक्स मिलते है।

प्रोटीनक्स पाउडर के प्रकार – Types of Protinex Powder in Hindi

प्रोटीनक्स पाउडर के प्रकार - Types of Protinex Powder in hindi

अक्‍सर हम सभी लोग अच्‍छी सेहत और मजबूत शरीर प्राप्‍त करने के लिए सप्‍लीमेंट के रूप में प्रोटीन का सेवन करते हैं। आइए जाने उन प्रोटीनेक्‍स पाउडर के बारे में जिन्‍हें हम उपयोग करते हैं।

1) प्रोटिनेक्स ओरिजनल – Protinex Original in Hindi

इसे प्रोटिनेक्स के नाम से भी जाना जाता है। शुरूआत में बिना किसी फ्लेवर के प्रोटिनेक्स को मार्केट में लाया गया था। प्रोटिनेक्सके 100 ग्राम पाउडर में 32 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। प्रोटिनेक्स  मिल्क और सोया प्रोटीन के मिश्रण से बनाया गया है।

प्रोटिनेक्स ओरिजनल की विशेषता

  • प्रोटीन सप्लीमेंट
  • लो फैट
  • 100 प्रतिशत वेजिटेरियन
  • 100 ग्राम प्रोटीन पाउडर में 32 ग्राम प्रोटीन

(और पढ़ें – प्रोटीन क्या है, कार्य, कमी के कारण, लक्षण, जाँच, इलाज और आहार)

2) बच्चों के सही शारीरिक विकास के लिए प्रोटिनेक्स ग्रो Protinex Grow For Growth in Hindi

बच्चों की सेहत का ध्यान रखते हुए प्रोटिनेक्स ग्रो का इस्तेमाल कर सकते है। प्रोटिनेक्स ग्रो 8 से 15 साल के बच्चों के लिए है। इसके उपयोग से शारीरिक विकास के साथ ही बच्चों की हाइट में वृद्दी होती है। इसमें 27 महत्वपूर्ण न्यूट्रियंट होते हैं। इसमें कैल्शियम की मात्रा होने के कारण हड्डियों को स्ट्रॉग बनाता है ।

प्रोटिनेक्स ग्रो की विशेषता

  • 8-15 साल के बच्चों के लिए
  • अधिक कैल्शियम के साथ आता है
  • अन्य स्वास्थ्य पेय से 50% अधिक प्रोटीन

3) प्रोटिनेक्स जूनियर  – Protinex Junior in Hindi

मुख्‍य प्रोटिनेक्स जूनियर दो स्वादों में आता है: वेनिला और चॉकलेट

प्रोटिनेक्स जूनियर दो साल से लेकर 8 साल तक के बच्चों के लिए है। इसे बच्चों के अनुरूप बनाया गया है। इसमें 25 ग्राम प्रोटीन होता है। इसका मुख्य उद्देश्य बच्चे के शारीरिक और मानसिक दोनों के लिए है। ये दो फ्लेवर में मिलता है। आप चाहे तो वेनिला या फिर चॉकलेट प्लेवर में से किसी एक को ट्राय कर सकते है।

प्रोटिनेक्स जूनियर  की विशेषता

  • वेनिला व चॉकलेट फ्लेवर में मौजूद
  • इसमें विटामिन डी, जिंक, सेलेनियम, एफओएस और डीएचए शामिल होता है
  •  2-8 वर्षों के बीच के बच्चों के लिए

(और पढ़ें – प्रोटीन पाउडर पीने का सबसे अच्छा समय)

4) डायबीटीज के लिए प्रोटिनेक्स – Protinex Diabetes Care in Hindi

लगभग सभी प्रोटिनेक्स पाउडर में चीनी होती है।  लेकिन प्रोटिनेक्स डायबीटिज केयर मधुमेह के पेशेंट के लिए खासतौर पर बनाया गया है।  इस प्रोडक्ट का  ग्लाइसेमिक इंडेक्स 17  के बराबर है, इसलिए हाल ही में मधुमेह का निदान करने वाले लोगों के लिए उपयोग करना सुरक्षित है। इसमें फाइबर का भी मात्रा पाया जाता है जोकि डाइजेशन में मदद करता है।

प्रोटिनेक्स डायबिटीज की विशेषता

  • अतिरिक्त चीनी नहीं होती है
  • बेहतर पाचन के लिए उच्च फाइबर सामग्री
  • लो फेट के साथ आता है

(और पढ़ें – मधुमेह को कम करने वाले आहार)

5) प्रोटिनेक्स ममा – Protinex Mama in Hindi

एक गर्भवती महिलाओं को आमतौर पर किसी दूसरे के तुलना में अधिक पोषण तत्व की आवश्यकता होती है। यह उत्पाद विशेष रूप से गर्भवती महिलाओं के लिए तैयार किया गया है जो उनकी दैनिक पोषण संबंधी आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद करता है। उत्पाद में उच्च मात्रा में प्रोटीन, कई विटामिन और खनिज, डीएचए होते हैं और शरीर में आयरन अवशोषण में सुधार होता है, जिससे शरीर में रक्त प्रवाह को सुधारने में मदद मिलती है।

प्रोटिनेक्स ममा की विशेषता

  • इसमें डीएचए होता है जो भ्रूण के मस्तिष्क के विकास में मदद करता है
  • 100 ग्राम में 30 ग्राम प्रोटीन
  • आयरन अवशोषण में सुधार करता है

(और पढ़े – व्हे प्रोटीन के फायदे और नुकसान)

प्रोटिनेक्स पाउडर को कब लेना चाहिए – When To Take Protinex Powder in Hindi

 इस पाउडर के उपयोग के लिए दो सर्वोत्तम समय हैं:

  • सुबह के समय में, कसरत के बाद खाली पेट
  • शाम में, फिर से रनिंग या थोड़ी एक्सरसाइज करने के बाद

(और पढ़ें – प्रोटीन पाउडर पीने का सबसे अच्छा समय)

प्रोटिनेक्स पाउडर का उपयोग कैसे करें – How to Use Protinex Powder in Hindi

किसी भी प्रोटीन पाउडर का उपयोग करने के बारे में बहुत से लोग संदेह में रहते हैं। हालांकि, कंपनी अपने बॉक्स पर बहुत स्पष्ट शब्दों में उपयोग का तरीका लिखती है। अपनी खुराक प्रक्रिया का और भी अधिक सरल बनाने के लिए नीचे लिखी खुराक ली जा सकती है आपको दिन में दो बार protinex का उपयोग करने की आवश्यकता है।

  • प्रत्येक बार, 2 चम्मच पाउडर लें और इसे 200 मिलीलीटर दूध से मिलाएं और तुरन्त पीएं।
  • आप इसे दूध और पानी किसी के भी साथ ले सकते हैं
  • यदि आप वर्कआउट्स भी करते हैं तो सुनिश्चित करें कि आप अपने दैनिक व्यायाम के 1 घंटे पूर्व इसे लें।

(और पढ़े – क्या हैं प्रोटीन पाउडर के फायदे)

प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे – Protinex Powder Benefits in Hindi

आइए जाने प्रोटिनेक्‍स पाउडर के फायदे क्‍या हैं जो शरीर को मजबूत करने में मदद करते हैं।

1) हाइड्रोलाइज्ड प्रोटीन होता है प्रोटिनेक्स पाउडर में – Protinex Powder Benefits For Hydrolyzed Proteins in Hindi

प्रोटिनेक्स में सामान्य प्रोटीन फार्मूला शामिल नहीं होता है जिसे आप कहीं और पा सकते हैं, बल्कि इसमें हाइड्रोलाइज्ड प्रोटीन होते हैं जो आपके पाचन तंत्र द्वारा पचाने में आसान होते हैं। और आपका शरीर प्रोटीन को अधिक आसानी से और कारगर ढंग से अवशोषित करता है।

2) प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे डेली हैल्थ सप्लीमेंट के रूप में – Protinex Powder Benefits for Daily Health Supplement in Hindi

ये एक पूर्ण प्रोटीन है जिसे लेने से किसी भी प्रकार का नुकसान नही होता है। ये प्रोटीन सप्लीमेंट कई दूसरे महंगे फूड  या जूस का सब्टीट्यूट है। जैसा कि कंपनी की वेबसाइट पर उल्लिखित है, वे आपको अतिरिक्त 50% प्रोटीन प्रदान करने का प्रयास करते हैं, जो आपको किसी अन्य पूरक में नहीं मिलेगा। अधिक प्रोटीन आपको कम समय में अधिक स्वास्थ्य लाभ देगा।

(और पढ़े – क्यों नहीं होनी चाहिए प्रोटीन की कमी)

3) प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे डाइजेशन में लाते है सुधार – Protinex Powder Benefits For Improves Digestion in Hindi

सामान्‍य रूप से प्रोटिनेक्स में मौजूद हाइड्रोलाइज्ड प्रोटीन की वजह से इसे आसानी से पचाया जा सकता है। अक्‍सर देखा गया है कि ज्यादा प्रोटीन की वजह से कॉन्टीपेशन की चिंता हो सकती है। लेकिन इसे लेने से ऐसा कोई नुकसान नहीं होता है। बल्कि इसे डेली लेने के बाद भी डायजेशन आसानी से हो सकता है।

4) प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे मजबूत बॉडी के लिए – Protinex Powder Benefits For Stronger Muscles And Better Growth in Hindi

युवाओं के लिए ये प्रोटीन का एक अच्छा स्त्रोत है। बढ़ती उम्र में प्रोटिनेक्स का सेवन करना आपके शरीर के लिए काफी फायदेमंद है। प्रोटिनेक्स आपके शरीर में प्रोटीन की कमी को दूर करता है।

(और पढ़ें – प्रोटीन वाटर क्या है जानें इसे पीने के फायदे और नुकसान)

5) प्रोटिनेक्स पाउडर के फायदे बढ़ाएं स्टेमिना और इम्यूनिटी को – Protinex Powder Benefits For Improves Immunity And Stamina in Hindi

सप्‍लीमेंट के रूप में प्रोटिनेक्स शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। हाई प्रोटीन क्वालिटी के कारण शरीर में रेड ब्लड सेल  का निर्माण होता है साथ ही  वाइट ब्लड सेल को बढ़ाता है। जिसके कारण हमारा इम्यून सिस्टम स्ट्रॉग बनता है।

(और पढ़ें – प्रोटीन पाउडर के बिना प्रोटीन शेक बनाने का तरीका)

प्रोटिनेक्स के नुकसान – Protinex Powder Side Effects in Hindi

  • कई लोगों को प्रोटीन से एलर्जी हो सकती है। ऐसा इसलिए होता है कि वे इसे पचा नहीं पाते है। औऱ कई बार गैस की भी परेशानी हो सकती है।
  • सलाह से अधिक प्रोटीन पाउडर का सेवन करने से शरीर में अधिक वसा बढ़ सकता है।
  • चूंकि, प्रोटिनेक्स में पर्याप्त कैलोरी है जिसमें आपको व्यायाम करने की ज़रूरत होती है।
  • अगर आप पाउडर सेवन की मात्रा में वृद्धि करते हैं, और आवश्यक अभ्यास नहीं करते हैं तो आपको शरीर पर वसा जमा हो सकता है।
  • कुछ केस में देखा गया है कि लंबे समय तक प्रोटिनेक्स का इस्तेमाल करने से किडनी फेल होने का खतरा रहता है।

(और पढ़ें – प्रोटीन पाउडर के नुकसान जो आपको जरूर जानने चाहिए)

Leave a Comment

1 Comment

Subscribe for daily wellness inspiration