मुरब्बा खाने के फायदे - Benefits Of Murabba in Hindi - Healthunbox
हेल्दी रेसपी

ये 5 मुरब्बे सेहत के लिए होते है बेहद फायदेमंद – Benefits Of Murabba in Hindi

मुरब्बा खाने के फायदे - Benefits Of Murabba in Hindi

Murabba Khane Ke Fayde: अधिकांश लोगों को मुरब्बा खाना पसंद होता है, लेकिन क्या आपको मुरब्बा खाने के फायदे पता है। आज हम आपको मुरब्बा कितने प्रकार के होते हैं और इसका सेवन करना हमारे स्वास्थ्य किस प्रकार से लाभदायक होता है इसे जानेंगे।

हम में से कुछ लोग केवल आंवले के मुरब्बा के बारे में बस जानते है। लेकिन मुरब्बा कई प्रकार का होता जिसे आंवला, सेब, गाजर और बेल आदि से बनाया जा सकता है। यह कब्ज, गैस, पेट दर्द के साथ-साथ हार्ट, स्किन और बालों के लिए रामबाण इलाज हैं।

मुरब्बा में फलों के सभी पोषक तत्व और विटामिन होते जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक होते है। इस आर्टिकल में हम आपको मुरब्बा खाने के फायदे (Benefits Of Murabba in Hindi), प्रकार और मुरब्बा बनाने के तरीके के बारे में विस्तार से जानेंगे।

आंवले का मुरब्बा खाने के फायदे – Aavle ka murabba khane ke fayde

आंवले का मुरब्बा खाने के फायदे - Aavle ka murabba khane ke fayde

आंवला में क्रोमियम, जिंक और कॉपर की अच्‍छी मात्रा मौजूद रहती है जो कि शरीर के आवश्‍यक घटक होते हैं। क्रोमियम विशेष रूप से रक्‍त के कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर और हृदय रोगों के खतरे को कम करने में मदद करता है।

इसमें विटामिन A, C और E की अच्‍छी मात्रा होती है जो झुर्रियों को दूर करने और कोलेजन पैदा करने में मदद करता है।

इसके साथ ही आंवले का मुरब्बा प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाने में, मुंहासे और दाग हटाने और पाचन की समस्याओं को दूर करने में मदद कर करता है।

आंवले का मुरब्बा बनाने की विधि

  • मुरब्बा बनाने के लिए सबसे पहले आप आंवले को पानी में धोकर साफ कर लें।
  • अब साफ किये हुए आंवलों को पानी में कम से कम 10 से 20 मिनिट तक उबाल लें।
  • चासनी तैयार करने के लिए 1 लीटर पानी में आधा किलो शक्‍कर को मिलाकर इस मिश्रण को उबालें, जब तक की यह हल्‍का गाढ़ा न हो जाए।
  • फिर शक्‍कर की चासनी में उबले हुए आंवलों को डालें और 1 से 2 दिन के लिए छोड़ दें।
  • स्वाद बढ़ाने के लिए आप इस चासनी में इलायची के बीजकेसर और हल्‍के उबले हुए बादाम (blanched almonds) मिलाएं।

गाजर का मुरब्बा के फायदे – Gajar ka murabba khane ke fayde

गाजर का मुरब्बा के फायदे - Gajar ka murabba khane ke fayde

गाजर में मौजूद विटामिन ए आपकी आँखों के लिए लाभदायक होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और आयरन जैसे पोषक तत्व होते है।

गाजर के मुरब्बे के फायदे मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने, प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने, कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने और त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं से छुटकारा दिलाने के लिए जाने जाते हैं। इसका सेवन करने से पेट में दर्द और जलन को दूर किया जा सकता है।

गाजर का मुरब्बा बनाने की विधि

  • मुरब्बा बनाने के लिए सबसे पहले आप गाजर को पानी में धोकर साफ कर लें।
  • अब साफ की हुई गाजर को पानी में कम से कम 15 से 20 मिनिट तक उबाल लें।
  • फिर चासनी तैयार करने के लिए आधा लीटर पानी में चीनी मिलकर इसे गर्म करें।
  • जब यह हल्‍का गाढ़ा हो जाए, तो इसमें उबली हुई गाजर को टुकड़ों में काटकर इसे शक्कर की चासनी में मिलाकर थोड़ी देर गर्म करें।
  • लंबे समय तक रखने के लिए चासनी को गाढ़ा होने तक पकाएं।

सेब का मुरब्बा खाने के फायदेSeb ka murabba khane ke fayde

सेब का मुरब्बा खाने के फायदे - Seb ka murabba khane ke fayde

सेब की तरह ही इसका मुरब्बा खाना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट, फ्लैनोनोड्स (flavanoids) और फाइबर बहुत अधिक मात्रा में होते है।

सेब का मुरब्बा खाने के फायदे कैंसर, मधुमेह, हृदय रोग, ब्लड प्रेशर जैसे रोगों के खतरे को कम करने में मदद करते है। इसके साथ-साथ यह पेट में दर्द, कब्ज और एसिडिटी से राहत दिलने में मदद करता है।

सेब का मुरब्बा बनाने की विधि

  • मुरब्बा बनाने के लिए सबसे पहले आप सेब को पानी में धोकर साफ कर लें।
  • धुले हुए सेब को अपनी आवश्यकता अनुसार छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • अब कटे हुए सेब के टुकड़ों को पानी में थोड़ी देर तक उबाल लें।
  • फिर चासनी तैयार करने के लिए आधा लीटर पानी में आधा किलो चीनी मिलकर इसे गर्म करें।
  • जब यह पानी थोड़ा गाढ़ा हो जाएँ तो इसमें उबले हुए सेब को अच्छी तरह से मिला लें।
  • फिर इसमें नींबू का रस मिलकर थोड़ी देर और पकाएं।

बेल का मुरब्बा के फायदे – Bel ka murabba ke fayde

बेल का मुरब्बा के फायदे - Bel ka murabba ke fayde

बेल के मुरब्बे के फायदे कैंसर, दस्‍त, सूजन, कोलेस्‍ट्रॉल और मोटापा जैसी बीमारियों को दूर करने में होते है। इसमें बहुत सारे पोषक तत्‍व व विटामिन अच्‍छी मात्रा में होते है। बेल के फल को आयुर्वेदिक दवाओं और स्‍वादिष्‍ट खाद्य पदार्थ के रूप में प्रयोग किया जाता है।

बेल का मुरब्बा पाचन में सुधार करके वजन घटाने में, कब्ज का इलाज करने में और दिल से जुड़ी बीमारियों जैसे हार्ट स्‍ट्रोक और अटैक को रोकने मदद करता है।

बेल का मुरब्बा बनाने की विधि

  • मुरब्बा बनाने के लिए सबसे पहले आप एक पके बेल को लेकर इसे पानी में धोकर साफ कर लें।
  • अब बेल को तोड़ कर इसमें से गूदा (बेल के अंदर का भाग) निकाल लें।
  • बेल के गूदा के छोटे छोटे टुकड़े कट लें।
  • फिर शक्कर चासनी तैयार करने के लिए आधा लीटर पानी में आधा किलो चीनी मिलकर इसे गर्म करें।
  • जब यह पानी थोड़ा गाढ़ा हो जाएँ तो इसमें बेल को अच्छी तरह से मिला लें।
  • आपका बेल का मुरब्बा खाने के लिए तैयार है।

आम का मुरब्बा खाने के फायदे – Aam ka murabba khane ke fayde

आम का मुरब्बा खाने के फायदे - Aam ka murabba khane ke fayde

आम का खट्टा मीठा मुरब्बा खान में बहुत ही टेस्टी होता है। आम में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स पर्याप्त मात्रा में होते हैं। आम का मुरब्बा कब्ज, स्कर्वी, आंखों के लिए, इम्यून सिस्टम बूस्ट करने में और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है।

आम का मुरब्बा बनाने की विधि

  • मुरब्बा बनाने के लिए सबसे पहले आप एक कच्चे आम को पानी में धोकर साफ कर लें।
  • अब इस आम को कद्दूकस कर ले या फिर उसे कट कर छोटे छोटे टुकडें कर लें।
  • अब कद्दूकस आम में अपनी आवश्यकता अनुसार शक्कर मिला लें।
  • फिर इस मिश्रण को एक बर्तन में लेकर इसमें दो कप पानी मिलाकर गर्म कर लें।
  • इसमें पिसी हुई इलायची और बादाम को भी डाल सकते हैं।
  • 10-15 मिनिट के बाद इसे गैस से उतार कर ठंडा कर लें।
  • आम का मुरब्बा खाने के लिए तैयार है।

(और पढ़ें – आंवला का मुरब्बा खाने के फायदे और नुकसान)

मुरब्बा खाने के फायदे (Benefits Of Murabba in Hindi) का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration