एंटी-पॉल्यूशन मास्क, रेटिंग, प्रकार, कार्य, विशेषता और कीमत – Anti Pollution Mask, Ratings, Types, work and price in Hindi

एंटी-पॉल्यूशन मास्क, रेटिंग, प्रकार, कार्य, विशेषता और कीमत - Anti Pollution Mask, Ratings, Types, work and price in Hindi
Written by Sourabh

Air Purifier Mask In Hindi वायु प्रदूषण की समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है, भारत की राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण इस हद तक बढ़ गया है कि वहा के व्यक्ति को हवा में साँस लेना भी मुश्किल हो रहा है। वायु प्रदूषण अनेक घातक रोगों को उत्पन्न कर सकता है। वायु प्रदूषण के बढ़ते जोखिम को देखते हुए व्यक्तियों को एयर प्यूरीफायर मास्क का उपयोग करने की सलाह दी जा रही है। हालांकि बाजार में अनेक प्रकार के एंटी-पॉल्यूशन मास्क उपलब्ध है, जिसके कारण व्यक्तियों को एक अच्छे और कम खर्च वाले मास्क का चुनाव करना मुश्किल हो गया है। यह लेख एयर प्यूरीफायर मास्क के बारे में ही है। इस लेख में आप जानेंगे कि एयर प्यूरीफायर मास्क क्या होता है, यह कैसे काम करता है, इसकी विशेषता क्या हैं, इसके प्रकार और इस्तेमाल करने के सही तरीके के बारे में।

1. वायु प्रदूषण मास्क क्या होते हैं – Air Pollution Mask in hindi
2. एयर प्यूरीफायर मास्क किसके बने होते हैं – What is an air purifier mask made of in Hindi
3. वायु प्रदूषण मास्क की रेटिंग – Ratings Of Air Pollution Masks in hindi
4. वायु प्रदूषण मास्क के प्रकार – Types Of Air Pollution Masks in hindi
5. एयर प्यूरीफायर मास्क कैसे काम करते हैं – How do Anti Pollution Mask work in hindi
6. वायु प्रदूषण से बचने के लिए एक अच्छा मास्क कैसे चुनें – Choose a correct Anti Pollution Mask in hindi
7. एयर पॉल्‍यूशन मास्क को पहनने का सही तरीका – how to correctly wear an air pollution mask in hindi
8. एक अच्छे मास्क की विशेषताएं – Characteristics of a good mask in Hindi
9. एयर प्यूरीफायर मास्क के जोखिम – Risks of Air Purifier Mask in Hindi
10. एयर प्यूरीफायर मास्क की कीमत – Air pollution mask price in hindi

वायु प्रदूषण मास्क क्या होते हैं – Air Pollution Mask in hindi

वायु प्रदूषण मास्क क्या होते हैं - Air Pollution Mask in hindi

एयर प्यूरीफायर मास्क या वायु प्रदूषण मास्क, साँस लेने वाली हवा को फिल्टर करने का कार्य करते हैं, इन्हें नाक और मुंह के ऊपर पहना जाता है। यह हवा में उपस्थित अशुद्धियों, गैसीय धुएं, संक्रामक प्रदूषकों को अवशोषित करते हैं और उन्हें शरीर में प्रवेश करने से रोकते हैं। प्रदूषित वायु में आसानी से साँस लेने में मदद करने के लिए और हानिकारक प्रदूषकों से शरीर की रक्षा करने के लिए एक आम व्यक्ति भी एयर प्यूरीफायर मास्क का उपयोग कर सकता है। वायु प्रदूषण मास्क सड़कों, बाजारों, कारखानों, औद्योगिक शहरों और अस्पतालों जैसे वायु प्रदूषण के उच्च स्तर वाले स्थानों में सुरक्षा कवच की तरह कार्य करता है।

(और पढ़े – वायु प्रदूषण से बचने के उपाय…)

एयर प्यूरीफायर मास्क किसके बने होते हैं – What is an air purifier mask made of in Hindi

एक एयर प्यूरीफायर मास्क फैब्रिक कपड़े, माइक्रोफाइबर या संसाधित कागज (processed paper) का बना हो सकता है। इसमें गैसीय दूषित पदार्थों को हटाने के लिए सक्रिय कार्बन की एक पतली परत भी हो सकती है। मास्क को आकार और मजबूती प्रदान करने के लिए स्टेनलेस स्टील या प्लास्टिक भी लगा हो सकता है।

साधारण कपड़े के मास्क, 2.5 माइक्रोमीटर या उससे कम व्यास के द्रव्य प्रदूषकों (PM 2.5) जैसे- बैक्टीरिया, वायरस और बीजाणु के खिलाफ अप्रभावी होते हैं। कपड़े से बने वायु प्रदूषण मास्क (cloth air pollution masks) वाहनों से निकलने वाले धुएं में मौजूद लगभग 15 से 57% प्रदूषक या अशुद्धियों को ही रोक सकता है। जबकि बेहतर रेस्पिरेटर (Superior respirators) जैसे- N95 मास्क और N100 मास्क, अधिक प्रभावी होते हैं। इन मास्क में फ़िल्टर की कई परतें होती हैं, जो इसके अंदर से कण पदार्थ (particulate matter) और कीटाणुओं को गुजरने से रोकती हैं।

वायु प्रदूषण मास्क की रेटिंग – Ratings Of Air Pollution Masks in hindi

वायु प्रदूषण मास्क की रेटिंग - Ratings Of Air Pollution Masks in hindi

वायु प्रदूषण मास्क (Air pollution masks) की पर्यावरण के आधार पर अलग-अलग रेटिंग होती है, जिन्हें प्रदूषकों के प्रकार और उनको फ़िल्टर करने की क्षमता के आधार पर बनाया गया है। प्रत्येक व्यक्ति को वायु प्रदूषण मास्क का चयन करने से पहले उनकी रेटिंग के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी होना आवश्यक है। इसी रेटिंग्स के आधार पर आवश्यकताओं के अनुसार सही और सबसे अच्छे मास्क का चुनाव किया जा सकता है।

मास्क रेटिंग (Mask ratings) को एक अल्फाबेट के बाद एक संख्या को लिखकर प्रदर्शित किया जाता है, जैसे- N95, P95 इत्यादि। अल्फाबेट, तेल के प्रति मास्क की सहिष्णुता को दर्शाता है और संख्या मास्क द्वारा फ़िल्टर किये जाने वाले दूषित पदार्थों के प्रतिशत को इंगित करती है।

रेस्पिरेटर रेटिंग लेटर क्लास (Respirator Rating Letter Class) इस प्रकार है:

  • N – तेल के लिए प्रतिरोधक नहीं है, या तेलीय कणों को फ़िल्टर नहीं करता है।
  • R – तेल के लिए प्रतिरोधी है (resistant to oil) या तेलीय कणों को भी फ़िल्टर करता है।
  • P – आयल प्रूफ (oilproof) या पूर्ण रूप से तेलीय कणों को फ़िल्टर करता है।

रेस्पिरेटर रेटिंग नंबर क्लास (Respirator Rating Number Class) इस प्रकार है:

  • 95 –3 माइक्रोन और उससे बड़े व्यास वाले सभी वायु प्रदूषकों को 95% तक दूर करना।
  • 99 –3 माइक्रोन और इससे बड़े व्यास के साथ सभी वायु प्रदूषकों को 99% तक दूर करना।
  • 100 –3 माइक्रोन और इससे बड़े के व्यास के साथ सभी वायु प्रदूषकों को 99.97% तक रोकना।

ये मास्क PM 2.5 और PM 10 को रोकने के लिए हाई-एफिशिएंसी पार्टिकुलेट अरेस्टेड (HEPA) तकनीक का उपयोग करते हैं। इसलिए यह मास्क, कण प्रदूषण या पार्टिकुलेट मैटर के खिलाफ सबसे अधिक प्रभावी होते हैं। PM 10 का मतलब, 10 माइक्रोमीटर या उससे कम व्यास के कण प्रदूषक (particulate matter) से है और इसी तरह PM 2.5 का मतलब, 2.5 माइक्रोमीटर या उससे कम व्यास के पार्टिकुलेट मैटर से है।

(और पढ़े – दीवाली के प्रदूषण से बचने के आयुर्वेदिक तरीके…)

वायु प्रदूषण मास्क के प्रकार – Types Of Air Pollution Masks in hindi

वायु प्रदूषण मास्क के प्रकार - Types Of Air Pollution Masks in hindi

वर्तमान में विभिन्न प्रकार के मास्क उपलब्ध है, जो वायु प्रदूषण की स्थिति में साँस लेने के लिए उपयोग किये जाते हैं। सर्व मान्यता प्राप्त एयर प्यूरीफायर मास्क के कुछ प्रकार इस प्रकार हैं, जैसे:

N95 मास्क – N95 mask in hindi

N95 मास्क सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला वायु प्रदूषण रोधी मास्क है। इस मास्क की मदद से वायु में उपस्थित 95% तक गैर-तैलीय (non-oily) एलर्जी पैदा करने वाले पदार्थ, जिनका आकर 0.3 माइक्रोन जितना छोटा होता है, को आसानी से हटाया जा सकता है। N95 मास्क बैक्टीरिया और सूक्ष्म निलंबित धूल कणों के खिलाफ प्रभावी हैं। इस प्रकार के मास्क को फ्लू, तपेदिक और इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारियों के प्रसार को रोकने के उपयोगी माना गया है। N95 मास्क का उपयोग आमतौर पर अस्पतालों, प्रयोगशालाओं और मुर्दाघर में किया जाता है। यह तैलीय वातावरण जैसे- पेंट स्प्रे, सीसा, कैडमियम, एस्बेस्टस और आर्सेनिक कणों के खिलाफ अप्रभावी होते हैं।

N95 मास्क धोने योग्य हैं और पुन: उपयोग में लाये जा सकते हैं। इन्हें लगातार 2 से 3 दिनों तक इस्तेमाल करने के बाद साफ करने की आवश्यकता होती है।

N99 और N100 मास्क – N99 and N100 masksin hindi

ये मास्क N95 मास्क से ज्यादा शक्तिशाली हैं। N99 मास्क, 0.3 माइक्रोन जितने  छोटे आकर के कणों को 99% तक हटाने में सक्षम होता है। यह तेल से भरे वातावरण के लिए उपयुक्त नहीं है। N100 मास्क वायु से 99.97% तक प्रदूषकों को हटा सकता है। N99 मास्क में ट्रिपल फिल्टर सिस्टम होता है। N99 और N100 मास्क नियमित रूप से औद्योगिक और स्वास्थ्य सुविधाओं, सड़कों, निर्माण स्थलों और खदानों पर प्रदूषण से बचाव के लिए उपयोग में लाया जाता है। N99 और N100 दोनों ही मास्क धोने योग्य और पुन: उपयोग योग्य हैं।

P95 मास्क – P95 masks in hindi

P95 मास्क तेल-आधारित और गैर-तेल आधारित दोनों प्रकार की अशुद्धियों को रोकने में सक्षम होते हैं। यह मास्क आयल प्रूफ हैं, और गैस स्टेशनों, तेल रिफाइनरी (refineries), दवा संयंत्र, रसोई और तले हुए खाद्य पदार्थों के कारखानों जैसे तैलीय वातावरण के लिए उत्कृष्ट एयर प्यूरीफायर मास्क है। कुछ मास्क में गंधों को छानने के लिए एक अतिरिक्त सक्रिय कार्बन परत होती है।

चूंकि P95 एयर प्यूरीफायर मास्क तेल को फ़िल्टर करते हैं, इसलिए यह बहुत जल्द खराब हो जाते हैं। इन्हें बार-बार धोने की आवश्यकता होती है इन्हें नरम गीले कपड़े से पोंछा जा सकता है।

वोगमास्क, 3एम और अन्य अच्छे ब्रांड – Vogmask, 3M, and other good brands in hindi

वोगमास्क, 3 एम, और कैम्ब्रिज मास्क (Cambridge mask) के अलावा अन्य वायु प्रदूषण रोधी मास्क के लोकप्रिय ब्रांड में टोटोबोबो और रेसप्रो (Respro) को शामिल किया जा सकता है।

(और पढ़े – सिंगल यूज प्लास्टिक को कहें न जानें इससे होने वाले नुकसान…)

एयर प्यूरीफायर मास्क कैसे काम करते हैं – How do Anti Pollution Mask work in hindi

एयर प्यूरीफायर मास्क कैसे काम करते हैं - How do pollution masks work in hindi

मास्क के प्रकार के आधार पर, यह हवा में मौजूद गैर-तेलीय (non-oil-based) कण और तेलीय कण के खिलाफ सुरक्षा प्रदान कर सकता है। ये कण 2.5 माइक्रोमीटर से छोटे या बड़े हो सकते हैं तथा अस्थमा (asthma) और ब्रोंकाइटिस (bronchitis) सहित श्वसन संबंधी विभिन्न बीमारियों को जन्म दे सकते हैं। एयर प्यूरीफायर मास्क में, गैसीय दूषित पदार्थों को हटाने के लिए सक्रिय कार्बन की एक पतली परत भी हो सकती है। कुछ मास्क में हवा को बाहर निकालने के लिए एक वाल्व (रेस्पिरेटर वाल्व) लगा होता है। यह वाल्व नमी युक्त हवा को मास्क के अंदर फंसने से रोकने और बाहर निकालने में मदद करता है।

हालांकि, यह जानलेना बेहद जरूरी है कि इन मास्क का गलत तरीके से इस्तेमाल करना या सही तरीके से नहीं पहनना, असुरक्षा का कारण बन सकता है और शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है।

(और पढ़े – एयर कंडीशनर (एसी) के फायदे और नुकसान…)

वायु प्रदूषण से बचने के लिए एक अच्छा मास्क कैसे चुनें – Choose a correct Anti Pollution Mask in hindi

जानें वायु प्रदूषण से बचने के लिए कौन सा मास्क रहेगा सही। जो व्यक्ति वायु प्रदूषण के उच्च स्तर वाले किसी शहर या औद्योगिक क्षेत्र के पास रहता है, तो उन्हें वायु प्रदूषण से सम्बंधित अनेक स्वास्थ्य समस्याओं से बचने के लिए एक अच्छे और पूर्ण सुरक्षित एंटी-पॉल्‍यूशन मास्क का चयन करता पड़ता है।

N वर्णमाला वाले N95 और N99 मास्क तेलीय प्रदूषकों के लिए प्रतिरोधी नहीं है। इसका मतलब है कि इस प्रकार के मास्क स्मॉग, धूल, वाहनों के प्रदूषण और अन्य वायु-जनित कणों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं, लेकिन वे गैसीय और तेल आधारित प्रदूषकों से नहीं बचाते हैं। N95 मास्क 95% तक पार्टिकुलेट मैटर (particulate matter) को फिल्टर करता है। जबकि N99 और N100 एयर मास्क 99 से 99.97 प्रतिशत दक्षता के साथ PM 2.5 एयरबोर्न पार्टिकुलेट मैटर को फ़िल्टर करने में सक्षम हैं।

शरीर को डीजल और पेट्रोल प्रदूषकों से बचाने के लिए P सीरीज के P95 और P100 प्रदूषण-रोधी मास्क (anti-pollution masks) को चुनना आवश्यक होता है। चूंकि सभी एंटी-पॉल्‍यूशन मास्क विभिन्न आकारों में उपलब्ध होते हैं, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि जो मास्क आपके चेहरे पर पूरी तरह से फिट बैठता है, उसे ही खरीदना सही होता है।

(और पढ़े – घर की हवा को शुद्ध करने वाले 20 पौधे…)

एयर पॉल्‍यूशन मास्क को पहनने का सही तरीका – how to correctly wear an air pollution mask in hindi

एयर पॉल्‍यूशन मास्क को पहनने का सही तरीका - how to correctly wear an air pollution mask in hindi

ऐंटी-पलूशन मास्क पहनने का सही तरीका। जो व्यक्ति वायु प्रदूषण से बचने के लिए ऐंटी-पलूशन मास्क का उपयोग करते हैं तो उन्हें उस मास्क को ठीक तरीके से पहनना चाहिए।
इससे पहले कि आप प्रदूषण विरोधी मास्क लगाएं, अपने हाथों को अच्छी तरह से धोएं।

प्रदूषण रोधी मास्क को पहनते समय नाक, मुंह और ठुड्डी (दाढ़ी) को अच्छी तरह से ढकना चाहिए और कानों के पीछे इलास्टिक बैंड ध्यान से लगाना चाहिए।

एयर पॉल्‍यूशन मास्क को ठीक तरीके से पहननें के बाद एयर-लीक की जांच करना आवश्यक होता है। हवा के रिसाव की जाँच करने के लिए सांस को अंदर-बाहर करें, और सुनिश्चित करें कि हवा केवल मास्क में वाल्व या फिल्टर के माध्यम से आ रही हो।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि एंटी-पॉल्यूशन मास्क पहनने से वायु प्रदूषण के खिलाफ पूर्ण सुरक्षा की गारंटी नहीं होती है। यदि एंटी-पॉल्यूशन मास्क अपना आकार खो देता है या अपनी फ़िल्टरिंग क्षमता तक पहुंच जाता है, तो यह अप्रभावी हो जाता है

रेस्पिरेटर वाल्व (Respirator Valve) – हर कपड़े के प्रदूषण रोधी मास्क (anti-pollution mask) में एक वाल्व लगाया जाता है, जो नमी को बाहर करते हुए, शरीर में हवा को प्रवेश करने की अनुमति देता है। इसके अतिरिक्त इसमें एक कार्बन फिल्टर फिट किया जा सकता है जो हानिकारक कणों और कीटाणुओं के लिए अवरोध का कार्य करता है।

एक अच्छे मास्क की विशेषताएं – Characteristics of a good mask in Hindi

एक अच्छे एयर मास्क की विशेषताएं निम्न हैं, जैसे:

  • मास्क पहनकर दौड़ने या काम करने के दौरान कानों में जलन नहीं होना चाहिए।
  • स्मॉग, रोगाणु और वायु प्रदूषण मास्क त्वचा पर नरम (soft) और आरामदायक (comfortable) होना चाहिए।
  • मास्क अच्छी तरह फिट होना चाहिए, यह बहुत टाइट या बहुत ढीला नहीं होना चाहिए।
  • आपका मास्क धोने योग्य और पुन: उपयोग योग्य होना चाहिए।
  • मास्क कम खर्चील और environmental friendly होना चाहिए ।
  • एयर प्यूरीफायर मास्क आईएसआई मार्क (ISI mark), बीआईएस प्रमाणीकरण (BIS certification) और NIOSH से प्रमाणित होना चाहिए।
  • नाक की तंत्रिका पर फिट होना चाहिए।
  • अच्छा एयर मास्क सर्दी के मौसम में गर्मी प्रदान करने वाला और नमी को दूर करने वाला होना चाहिए।
  • एक अच्छा मास्क पुरुषों, महिलाओं और बच्चों सभी के लिए उपयुक्त होना चाहिए है।

(और पढ़े – सर्दी की 10 बीमारियां और उनसे बचने के उपाय…)

एयर प्यूरीफायर मास्क के जोखिम – Risks of Air Purifier Mask in Hindi

एयर प्यूरीफायर मास्क के जोखिम - Risks of Air Purifier Mask in Hindi

चूँकि कुछ मास्क में वायु प्रदूषण के खिलाफ पूर्ण सुरक्षा की गारंटी नहीं होती है। मास्क ढीला होने पर या फ़िल्टरिंग क्षमता समाप्त हो जाने पर, यह अप्रभावी हो जाता है। अतः इस स्थिति में मास्क का उपयोग करना असुरक्षित होता है।

कुछ स्थितियों में इन मास्क को लंबे समय तक कसकर पहनने से सांस लेने में तकलीफ और घुटन जैसी स्थितियां उत्पन्न हो सकती हैं। एयर प्यूरीफायर मास्क हवा की मात्रा में कमी के कारण सिरदर्द, थकावट और श्वसन संबंधी समस्याओं का भी कारण बन सकता है।

साँस छोड़ने के दौरान मुंह से नमी आने के कारण वायु प्रदूषण मास्क गीले हो सकते हैं, जिससे यह बैक्टीरिया और वायरस के प्रजनन का कारण बन सकते हैं, जिससे विभिन्न वीमारियां उत्पन्न हो सकती हैं। अतः प्रत्येक व्यक्ति को मास्क की जाँच करते रहना चाहिए और बहुत अधिक गीला होने पर इसे बदल देना चाहिए।

(और पढ़े – एलर्जी के घरेलू उपाय और उपचार…)

एयर प्यूरीफायर मास्क की कीमत – Air pollution mask price in hindi

वायु प्रदूषण मास्क या एयर प्यूरीफायर मास्क जिन्हें एंटी-पॉल्यूशन मास्क भी कहा जाता है की कीमत, मास्क के प्रकार पर निर्भर करती है। कुछ प्रमुख एयर प्यूरीफायर मास्क की कीमत इस प्रकार है, जैसे:

  • N99 और N100 एयर मास्क की कीमत 1800 से Rs. 2800 के बीच।
  • N95 मास्क की कीमत Rs. 90 से Rs. 150 के बीच।
  • P95 मास्क की कीमत 10 मास्क के एक पैकेट के लिए Rs. 10,900 के लगभग।
  • P99 और P100 मास्क का मूल्य Rs. 3000 से Rs. 3500 के बीच।
  • टोटोबोबो मास्क (Totobobo mask) का मूल्य R 2000 से Rs. 2500 के बीच।
  • रेसप्रो मास्क (Respro mask) की लागत R 750 से Rs. 1000 के बीच।

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration