गुदा मैथुन से जुड़े मिथक और तथ्य – Anal Sex myths and facts in Hindi




गुदा मैथुन से जुड़े मिथक और तथ्य - Anal Sex myths and facts in Hindi
Written by Daivansh

Anal Sex Myths And Facts In Hindi आज इस आधुनिकता के समय में भी गुदा मैथुन से जुड़े मिथक और तथ्‍य में कुछ विरोधाभास है। कुछ लोग गुदा मैथुन को गलत बताते है तो कुछ लोग इसे सही बताते हैं। जो लोग इस विषय को भ्रमित हैं उनके लिए अच्‍छी खबर है वास्‍तव में गुदा सेक्‍स वास्‍तव में वर्जित नहीं है। गुदा सेक्‍स करने से भी पूर्ण यौन सुख प्राप्‍त किया जा सकता है। लेकिन इस विषय को लेकर कुछ बुरी खबरें भी हैं जो कि गलत धारणाएं हैं कि एनल सेक्‍स करना अच्‍छा नहीं है। आज इस आर्टिकल में आप गुदा मैथुन से जुड़े मिथक और तथ्‍य से संबंधित पूरी जानकारी प्राप्‍त करेगें। आइए विस्‍तार से जाने कि गुदामैथुन से जुड़ी कुछ अवधारणाएं जो प्रचलित हैं।

गुदा मैथुन से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा मैथुन से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

कोई भी व्‍यक्ति गुदा सेक्‍स नहीं करता है

गुदा मैथुन से जुडी सच्‍चाई – Anal Sex Facts in Hindi

लोगों की यह गलत धारणा है कि कोई भी लोग एनल सेक्‍स नहीं करते हैं। जबकि ऐसा नहीं है यह केवल एक मिथक है। एक अध्‍ययन के अनुसार 2010 के आंकड़े बताते हैं कि 20 से 24 वर्ष की आयु के बीच की 40 प्रतिशत महिलाएं गुदा सेक्‍स करती हैं। इस तरह से यह कहना गलत है कि कोई भी व्‍यक्ति गुदा सेक्‍स नहीं करता है।

(और पढ़े – जानिए एनल सेक्स यानि गुदा मैथुन करने से होने वाले नुकसान…)

मिथक जो गुदा मैथुन से जुड़े हैं – Anal Sex Myths in Hindi

मिथक जो गुदा मैथुन से जुड़े हैं - Anal Sex Myths in Hindi

किसी भी व्‍यक्ति को गुदा सेक्‍स से पहले एनीमा (enema) की आवश्‍यकता होती है।

एनल सेक्‍स से जुड़ी सच्‍चाई – Anal Sex Facts in Hindi

यह स्‍पष्‍ट रूप से कहा जा सकता है कि गुदा सेक्‍स करने से पहले एनीमा करने की जरूरत नहीं है। गुदा सेक्‍स करते समय आपको विशेष सावधानी रखना चाहिए। लेकिन आवश्‍यकता से अधिक चिंता करना आपके यौन प्रदर्शन को खराब कर सकता है। यह कहना गलत है कि गुदा सेक्‍स करने से मलत्‍याग की भवना को उत्‍तेजित किया जाता है। लेकिन अगर आपको इस प्रकार की चिंता है तो आप कुछ सावधानियों का उपयोग कर सकते हैं। गुदा सेक्‍स करने से पहले आप ऐसी चीजों से बचें जो इस तरह की समस्‍याओं को बढ़ा सकती है।

(और पढ़े – सेक्‍सुअल परफॉरमेंस की चिंता के कारण, लक्षण और ठीक करने के उपाय…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Guda Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Guda Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स उन लोगों को पर्याप्‍त सुख नहीं दिला सकता है जिनके पास प्रोस्‍टेट नहीं है।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

यह पूरी तरह से गलत है। क्‍योंकि प्रोस्‍टेट ग्रंथि और सभी तंत्रिका अंत के बिना भी गुदा सेक्‍स आपको आनंद का अनुभव करा सकता है। एक अध्‍ययन के अनुसार गुदा सेक्‍स करने वाली 94 प्रतिशत महिलाओं को योनि सेक्‍स के समान ही उत्‍तेजना मिलती है।

(और पढ़े – सेक्स के लिए अपनी महिला साथी को ऐसे करें उत्तेजित…)

एनल सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स को सही तरीके से नहीं कर सकते हैं।

गुदा सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

यह कुछ हद तक सही है लेकिन इसे पूरी तरह से सही नहीं कहा जा सकता है। यह सच है कि मलाशय योनि की तरह सेक्‍स के अनुकूल नहीं है और योनि से बिल्‍कुल उल्‍टा भी है। क्‍योंकि इसमें योनि की तरह प्राकृतिक चिकनाई नहीं होती है। इसलिए गुदा सेक्‍स करने से पहले आप अपनी उंगलियों में चिकनाई लगाकर या पतले सेक्‍स खिलौनों का उपयोग कर सकते हैं। जब गुदा क्षेत्र में कुछ ढीलापन आ जाए तब सावधानी के साथ गुदा सेक्‍स किया जा सकता है।

(और पढ़े – सेक्स टॉय क्या होते हैं फायदे और नुकसान…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स करने से चोट या घाव होता है।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

सच यह है कि गुदा सेक्‍स करने से चोट या घाव नहीं होता है। यह अक्‍सर गलत तरीके से किये जाने पर इस प्रकार की समस्‍याएं हो सकती हैं। बहुत सी महिलाओं को यह सुखद अनुभव कराता है और उनकी उत्‍तेजना को बढ़ाता है। यदि आपके साथी को गुदा सेक्‍स करने में परेशानी हो रही है तो उसे आराम से करने के लिए कहें। साथ ही इसके लिए आप सेक्‍स खिलौनों और चिकनाई का भरपूर उपयोग कर सकते हैं। इस तरह से एनल सेक्‍स करने में आपको किसी प्रकार की चोट या घाव नही हो सकता है।

(और पढ़े – एनल सेक्स (गुदामैथुन) के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले बुरे प्रभाव…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स करने पर जब दर्द होता है तो यह हमेशा गुदा सेक्‍स करने पर दर्द देता है।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

स्‍वाभाविक है कि पहली बार एनल सेक्‍स करने पर आपको सफलता नहीं मिली होगी साथ ही आपको कुछ दर्द का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन इसका यह मतलब बिल्‍कुल नहीं है कि आपको अगली बार गुदा सेक्‍स करने पर भी दर्द का अनुभव हो। शुरुआती लोगों के लिए यह तकलीफ का कारण हो सकता है लेकिन कुछ बार करने के बाद उन्‍हें इस प्रकार की समस्‍या नहीं होती है। क्‍योंकि दो या तीन बार एनल सेक्‍स करने के बाद उन्‍हें इस बात का अनुभव हो जाता है कि किस प्रकार एनल सेक्‍स को सुविधाजनक बनाया जा सकता है।

(और पढ़े – बिना दर्द के अपनी वर्जिनिटी कैसे खोये…)

एनल सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स केवल वैश्‍या या अश्‍लील म‍हिलाएं ही करती हैं।

गुदा सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

आपने हमेशा सुना होगा की वैश्‍याएं या बुरी लड़कीयां गुदा मैथुन के लिए जल्‍दी तैयार हो जाती हैं। वास्‍तव में गुदा मैथुन सेक्‍स करने का सबसे अच्‍छा तरीका है विषमलैंगिक जोड़ों के लिए। ऐसा नहीं है कि एनल सेक्‍स केवल वैश्‍याएं ही करती हैं। पूर्ण यौन आनंद प्राप्‍त करने के लिए लगभग सभी महिलाएं एनल सेक्‍स का उपयोग कर सकती हैं।

(और पढ़े – कैसे पता करें कि गर्लफ्रेंड सेक्स के लिए राजी है…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स करने के बाद आपका साथी आपका सम्मान नहीं करेगा।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

यह गलत है क्‍योंकि कोई भी महिला एनल सेक्‍स करने के उस समय तैयार होती है जब उसे भी यौन संतुष्टि की इच्‍छा होती है। एनल सेक्‍स करने से उसे भी वही कुछ प्राप्‍त होता है जो किसी पुरुष को प्राप्‍त होता है यानि यौन सुख। यह भी सही है कि लोग कभी कभार ही एनल सेक्‍स करने की इच्‍छा जताते हैं। जिसके कारण महिलाएं भी गुदा सेक्‍स के लिए आकर्षित होती हैं। चूंकि एनल सेक्‍स मात्र यौन संतुष्टि का एक माध्‍यम है जबकि योनि सेक्‍स प्राकृतिक है। इसलिए महिलाएं भी इस अनुभव को प्राप्‍त करना चाहती हैं। यदि आपको ऐसा लगता है कि महिलाएं एनल सेक्‍स करने के बाद आपका सम्‍मान नहीं करेगीं तो गलत सोच रहे हैं। क्‍योंकि ऐसा करने पर उन्‍हे भी आनंद मिलता है जब उन्‍हें आनंद प्राप्‍त होता है तो उनके मन में आपके प्रति सम्मान बढ़ता है न कि सम्‍मान कम होता है।

(और पढ़े – सेक्स के दौरान महिलाओं को संतुष्ट करने के तरीके…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स करने से आपको शारीरिक क्षति हो सकती है।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

गलत तरीके से किया गया किसी भी प्रकार का सेक्‍स आपको नुकसान पहुंचा सकता है। जैसे कि शुष्‍क योनि में बिना किसी चिकनाई का उपयोग किसे सेक्‍स करने पर योनि में जलन हो सकती है। इसी तरह की समस्‍या गुदा सेक्‍स के दौरान भी हो सकती है। हालांकि योनि सेक्‍स करने में आपको प्राकृतिक स्‍नेहक प्राप्‍त हो सकता है। लेकिन गुदा सेक्‍स करने पर आपको ऐसे किसी प्राकृतिक स्‍नेहक की अनुपस्थिति के कारण योनि में जलन या रक्‍त स्राव जैसी समस्‍या हो सकती है। लेकिन यदि आप गुदा सेक्‍स करते समय पर्याप्‍त स्‍नेहक का उपयोग करते हैं तो आपको किसी प्रकार का नुकसान नहीं हो सकता है।

(और पढ़े – योनि में जलन के कारण और घरेलू इलाज…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

एनल सेक्‍स करते समय कंडोम का उपयोग करने की आवश्‍यकता नहीं होती है।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

यह एक गलत धारणा है कि कंडोम का उपयोग करने पर सेक्‍स का सही मजा नहीं मिलता है। साथ ही बहुत से लोगों मानना है कि एनल सेक्‍स करने से गर्भाधारण की समस्‍या नहीं होती है इसलिए कंडोम का उपयोग जरूरी नहीं है। लेकिन यह पूरी तरह से गलत है क्‍योंकि एनल सेक्‍स करते समय आपको विशेष रूप से कंडोम का उपयोग करना चाहिए। क्‍योंकि कंडोम का उपयोग न करने से क्‍लैमाइडिया, गोनोरिया, संक्रामक हेपेटाइटिस और एचआईवी जैसे यौन रोगों की संभावना बढ़ जाती है। इसके अलावा गुदा का अस्‍तर भी पतला होता है जो कि सेक्‍स करने के दौरान फट सकता है क्‍योंकि यह प्राकृतिक चिकनाई मौजूद नहीं है। इसलिए गुदा क्षेत्र में चिकनाई देने और यौन संक्रमणों से बचने के लिए हमेशा एनल सेक्‍स के दौरान कंडोम का उपयोग करना चाहिए।

(और पढ़े – सभी प्रकार के कंडोम का उपयोग कैसे करें…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

जो लोग गुदा सेक्‍स करते हैं उन्‍हें केवल इसी में मजा आता है और वे इसके अलावा कुछ नहीं करते हैं।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

गुदा सेक्‍स लोगों के यौन अनुभव को बढ़ाता है यह कोई रहस्‍य नहीं है। बहुत से लोगों को योनि सेक्‍स के अपेक्षा गुदा सेक्‍स करने में अधिक आनंद मिलता है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वे लोग योनि सेक्‍स को पूरी तरह से छोड़ देते हैं। योनि सेक्‍स करना पारंपरिक रूप से प्राकृतिक है। लोग केवल अपने अनुभव को बदलने के लिए गुदा सेक्‍स को अपनाते हैं। लेकिन वे वास्‍तविक रूप से योनि सेक्‍स से दूर नहीं होना चाहते हैं। सेक्‍स के लिए केवल और केवल योनि सेक्‍स ही सबसे ज्‍यादा लोकप्रिय है। एनल सेक्‍स केवल एक सेक्‍स करने का एक प्रकार हो सकता है।

(और पढ़े – सेक्स करने के दस तरीके जो हर आदमी ट्राय करना चाहता है…)

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स से जुडे मिथक – Anal Sex Myths in Hindi

गुदा सेक्‍स एक करना गंदा है।

एनल सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य – Guda Sex Facts in Hindi

संभवत: यह एक बड़ी गलतफहमी है कि गुदा सेक्‍स करने से गंदगी का समामना करना पड़ता है। वास्‍तव में गुदा और मलाशय के निचले हिस्‍से में मल सामग्री बहुत ही कम होती है। जिसका मतलब यह है कि यहां गंदगी उतनी नहीं है जितना आप सोच रहे हैं। लेकिन इसका यह भी मतलब नहीं निकाला जाना चाहिए कि गुदा सेक्‍स के तुरंत बाद योनि सेक्‍स किया जा सकता है। क्‍योंकि गुदा में मल की बहुत ही कम मात्रा होने के बाद भी संक्रमण योनि को प्रभावित कर सकता है। योनि और गुदा क्षेत्र दोनों की वातावरण और प्रकृति अलग अलग होती है। एनल सेक्‍स करने के बाद यदि आपको योनि सेक्‍स करना हो तो पहले अपने लिंग को एंटीमाइक्रोबियल साबुन से धुलें या आपके द्वारा उपयोग किये गए कंडोम को बदल लें।

(और पढ़े – पहली बार शारीरिक संबंध (संभोग, सेक्स) कैसे बनाएं…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration