सर्दियों में होठों का फटना कैसे रोके और बनाएं बेबी सॉफ्ट – Natural Remedies To Treat Dry Cracked Lips At Home In Winter In Hindi

सर्दियों में होठों का फटना कैसे रोके और बनाएं बेबी सॉफ्ट - Natural Remedies To Treat Dry Cracked Lips At Home In Winter In Hindi
Written by Diksha

फटे, सूखे या पीड़ादायक होंठ ठंड के मौसम में सामान्य हैं। लेकिन होठों का फटना आमतौर पर घरेलू उपचार के उपयोग से ठीक किये जा सकते हैं। सर्दियों के दिनों होंठ बड़ी जल्‍दी-जल्‍दी फटने लगते हैं, जो कि काफी खराब सा अनुभव होता है। होठ जब भी थोड़े सूखे महसूस होते है तो उन्हें चाट कर गीला करने की इच्छा होने लगती है। होठों पर जीभ फिराने के कुछ मिनट बाद ही वापस होठ सूखे महसूस होने लगते है। फिर उन्हें नम करने की इच्छा होती है। फिर से ऐसा करना पड़ता है और यह लगातार चलता रहता है। इससे होठ ज्यादा सूखने लगते है।

होठो पर एक सूखी परत सी बन जाती है। इस परत को कुछ लोग दांत से काट कर निकलने की कोशिश करने लगते है। कुछ लोगों की आदत होती है वे बार बार होठो को दांतों से हल्का हल्का चबाते रहते है। ये सभी हरकतें होठो के लिए नुकसान देह होती है। परंतु इससे समस्या कम नहीं होती बल्कि बल्कि खाने पीने में और बातचीत करने में भी परेशानी होने लगती है।

होंठो की बनाबट कैसी होती है – Formation of lips in Hindi 

जहाँ सामान्य त्वचा  16 परतों से बनी होती है वहीं होंठ की त्वचा में सिर्फ 4 -5 परत ही होती है। होठों की परत के पतली होने के कारण ही होठो का रंग गुलाबी दिखाई देता है जो असल में नीचे की परत में मौजूद रक्त से भरी केशिकाओं के कारण दिखाई देता है। लार में मौजूद बेक्टिरिया जो वैसे तो नुकसानदेह नहीं होते लेकिन ये होठों को नाजुक और पतली परत को नुकसान पहुंचा सकते है। अतः यदि होंठ चबाने, चाटने या काटने की बुरी आदत हो तो इसे तुरंत छोड़ देना चाहिए।

होंठ के किनारों का फटना  – Cracking of lips in Hindi

होठो का किनारे ( जहाँ दोनों होंठ जुड़ते है ) की तरफ से होठों का फटना या होठों के किनारे पर सूजन या जलन आदि होना फंगल इन्फेक्शन या  बेक्टिरिया आदि के कारण हो सकता है। ये बेक्टिरिया या फंगस लार में मौजूद होते है।

हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली यदि मजबूत होती है तो इनसे कुछ नुकसान नहीं होता। लेकिन प्रतिरक्षा तंत्र के कमजोर होने तथा मुंह पर चोट या खरोंच आने से या ज्यादा लार या थूक किनारे पर इकठ्ठा होने से ये बेक्टिरिया तेजी से बढ़ने लगते है । इस वजह से वहाँ संक्रमण दिखाई देता है।  प्रतिरक्षा तंत्र के कमजोर होने का कारण बीमारी या तनाव की स्थिति हो सकती है।

फटे हुए होंठो को ठीक करने के घरेलू उपाय – Home remedies to fix cracked lips in Hindi

फटे हुए होंठो को ठीक करने और होठों का फटना रोकने के घरेलू उपाय - Home remedies to fix cracked lips in hindi

फटे हुए होंठ दिखने में काफी भद्दे लगते हैं लेकिन सर्दियों में ऐसा सभी के साथ होता है इसलिये इसमें इतना कोई परेशान होने की जरुरत नहीं है। क्‍योंकि आज हम आपको फटे होंठो से निपटने के लिये कुछ घरेलू स्‍क्रब बनाना सिखाएंगे आप क्यों न अपनी रसोई में इस्तेमाल होने वाली चीजों को अपनाएं। इन आसान उपायों से आपके होठों की संवेदनशील त्वचा का पोषण होता है और कुछ ही दिनों में होठ बड़ी आसानी से नमी पा सकते हैं।

1. होंठ फटने का इलाज बादाम तेल और शहद – Almond oil and honey for cracked lips in Hindi

बादाम तेल में विटामिन इ और विटामिन सी होता है। इससे आपको बहुत पोषण मिलता है। सर्दियों में जब आपके होंठ फट जाते हैं तो आप होंठो पर कुछ बूंद बादाम के तेल की लगा सकती हैं। बादाम के तेल के साथ थोड़ा सा शहद मिक्‍स कर सकती हैं। बादाम और शहद को मिक्‍स कर के लिपबाम बना कर फ्रिज में स्‍टोर भी कर सकती हैं।

(और पढ़े: नाखूनों को ऐसे रखें स्वस्थ और खूबसूरत)

2. शहद और ग्लिसरीन कम करें होठों का फटना – Honey and glycerin for dry cracked lips in Hindi

हनी में एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी गुण होते हैं जिसमें विटामिन सी की एक उच्च मात्रा भी होती है, जो त्‍वचा को हाइड्रेट करती है। शहद और चीनी का स्‍क्रब, शहद और नींबू का रस, शहद और ग्लिसरीन, गुलाब के पानी के साथ शहद आदि आपके फटे होंठो को काफी सुंदर बना सकते हैं। एक चम्मच शहद में ग्लिसरीन की कुछ बूंदें मिलाएं। इसे होठों पर लगा कर 15 मिनट छोड़ दें। सामान्य पानी से धो लें। फटे होठों पर दिन में 2-3 बार शहद लगाएं। थोड़ा-सा शहद रात को सोने से पहले अपने होठों पर लगाएं।

(और पढ़े: इन सर्दियों में नाइट क्रीम बनाएं घर पर, जिससे त्वचा रहेगी जवान और मखमल सी कोमल!)

3. फटे होठों के लिए उपाय चुकंदर का रस – beetroot juice for treating dry cracked lips in Hindi

यदि आपके होंठो का रंग दबा हुआ है तो चुकंदर का रस काफी काम आएगा। यह सूखे और फटे होंठो को भी ठीक करता है। जब इसे होंठो पर लगाया जाता है और 20 मिनट तक छोड़ दिया जाए तो लिप्‍स साफ्ट हो जाते हैं और उनमें गुलाबी निखार आ जाता है।

(और पढ़े: होममेड फेस मास्क और स्क्रब बनाने के तरीके)

4. टमाटर का रस रोकेगा होठों को फटने से – tomato juice for treating dry cracked lips in Hindi

टमाटर का पेस्ट सूखे और गहरे होंठों का इलाज करने का एक शानदार तरीका है, क्योंकि इसमें विटामिन सी होता है जो कि एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह खराब हो चुकी त्वचा की कोशिकाओं को स्‍वस्‍थ बनाने में मदद करता है। आपको बस होंठ पर टमाटर का पेस्ट लगाना है और 15 मिनट तक वेट करना है। बाद में आप पाएंगी कि आपके होंठो में नमी आ चुकी होगी और वह मॉइस्चराइज्ड हो चुके होंगे।

5. होठों को फटने से बचाने का उपाय नींबू का रस और दूध क्रीम – Lemon juice and milk cream for dry cracked lips in Hindi

हमेशा पूरे शरीर की खूबसूरती निखारने के लिये जाना जाता था। इसमें कैल्शियम, पोटेशियम, विटामिन बी 12, विटामिन बी 2 और अन्‍य उपयोगी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। एक छोटी कटोरी में नींबू के रस की 3-4 बूंदों के साथ एक चम्मच दूध क्रीम मिला कर फ्रिज में कुछ देर रखें। इसे होठों के आसपास लगाएं।

(और पढ़े – टमाटर को चेहरे पर लगाने के फायदे)

6.फटे होठों का घरेलू उपाय ताजा मक्खन – Fresh butter for treating dry cracked lips in Hindi

थोड़ा-सा ताजा मक्खन अपने होठों पर लगाकर धीरे-धीरे उंगली से मालिश करें। दूध इसके मॉइस्चराइजिंग गुण भी सभी को पता हैं। फटे होंठो पर आप दूध और हल्‍दी मिक्‍स कर के 5 मिनट तक स्‍क्रब कर सकती हैं।

(और पढ़े – चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए दूध की मलाई का इस तरह करें इस्तेमाल)

7. देशी घी है होठों का फटना रोकने का देशी नुस्खा – Desi ghee for treat dry cracked lips in Hindi

दिन में किसी भी समय खासतौर पर रात को सोते समय घी की कुछ बूंदें अपनी उंगली से होठों पर लगाएं। घी में जरा सा नमक मिलाकर सुबह शाम होठो पर और नाभि में लगाने से होंठ फटना बंद होता है। सरसों के तेल की कुछ बूंदें भी आप अपने होठों पर लगा सकते हैं।

(और पढ़े: दमकती और चमकती स्किन पाना है तो अपनाये शहनाज हुसैन के ब्यूटी टिप्स)

8. तरल पदार्थों का अधिक सेवन करने से होगा होठों का फटना कम  – Drink plenty of water for treat dry cracked lips in Hindi 

प्रति दिन पानी की 8-10 गिलास खपत आदर्श मानाी गई है। अगर आपका शरीर निर्जलित है, तो यह अक्सर सबसे पहले होठों से पता चलता है। जितना अधिक पानी पियेंगें, उतना बेहतर होगा!

(और पढ़े – सर्दियों में गर्म पानी पीने के फायदे और नुकसान)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration