प्रेग्नेंट होने के लिए कितनी बार सेक्स करें? - Pregnancy ke liye kitni baar karna chahiye - Healthunbox
मेरिज & सेक्स

प्रेग्नेंट होने के लिए कितनी बार सेक्स करें? – Pregnancy ke liye kitni baar karna chahiye

प्रेग्नेंट होने के लिए कितनी बार सेक्स करें? - Pregnancy ke liye kitni baar karna chahiye

इसमें कोई शक नहीं है कि सेक्स एक मजेदार चीज है, लेकिन सेक्स के बारे में सही जानकारी न होना आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है। मैं सेक्स के बावजूद गर्भवती होने से कैसे बच सकती हूं? गर्भवती होने के लिए कितनी बार सेक्स करना सही है? प्रेग्नेंट होने के लिए कितनी बार सेक्स करें? गर्भधारण के लिए कितनी बार सेक्स करना चाहिए? ये ऐसे सवाल हैं जो लगभग हर कपल जानना चाहता है।

अगर आप शादीशुदा हैं और जल्दी बच्चा चाहते हैं, तो आपको रात में दो बार सेक्स करना चाहिए। यह आपको हैरान कर सकता है, लेकिन यह सच है। एक नए शोध में यह बात सामने आई है कि एक रात में दूसरी बार स्खलन के दौरान निकलने वाले शुक्राणु में अधिक प्रोटीन होता है और इससे शुक्राणु की गति बढ़ जाती है, जिससे अंडे के निषेचित होने की संभावना बढ़ जाती है। यानी ऐसी स्थिति में गर्भवती होने की संभावना बढ़ जाती है।

तीन घंटे के बाद सेक्स कर सकते हैं

जर्नल ऑफ मॉलिक्यूलर एंड सेलुलर प्रोटिओमिक्स में प्रकाशित इस रिसर्च में यह भी पाया गया कि एक बार सेक्स करने के 180 मिनट के बाद, शुक्राणु फिर से उत्पन्न हो जाते है और आईवीएफ से गर्भवती होने की सफलता दर को बढ़ा सकता है। इस अध्ययन के लिए, शोधकर्ताओं ने अस्पताल में 500 जोड़ों का परीक्षण किया। ये सभी जोड़े आईवीएफ की तैयारी कर रहे थे। पुरुषों को पहले स्खलन के बाद अलग-अलग समय पर वीर्य के नमूने देने को कहा गया था।

एक बार सेक्स करने के दो दिन के बाद ही सेक्स करें

भ्रूण को फिर महिला में प्रत्यारोपित किया गया, जिसके बाद यह परिणाम सामने आया कि किसी भी मामले में पुरुष साथी ने पहली बार स्खलन के कुछ घंटे बाद जब दूसरी बार स्खलन किया था और जब यह महिला में प्रत्यारोपित किया गया था, वे महिलाएं गर्भवती थीं। अभी, बेबी प्लान करने वाले जोड़ों को सलाह दी जाती है कि वे एक बार सेक्स करें और फिर दो दिन बाद सेक्स करें।

ओवुलेशन पीरियड के दौरान सेक्स करने से फायदा

शोध से पता चला है कि कई वर्षों से पुरुषों को गर्भावस्था की संभावना को बढ़ाने के लिए अपनी यौन गतिविधि को सीमित करने की सलाह दी गई है, लेकिन अब मानसिकता को बदलने की आवश्यकता है। डेटा का सुझाव है कि किसी भी युगल जिसका वीर्य पैरामीटर सामान्य है, उसे ओवुलेशन अवधि के दौरान अधिक बार सेक्स करना चाहिए। इससे उन्हें अपनी पत्नी को गर्भवती करने में मदद मिल सकती है। हालांकि, यह भी कहा गया है कि यह अध्ययन छोटे पैमाने पर किया गया है और परिणामों की पुष्टि करने के लिए आगे और शोध की आवश्यकता हो सकती है।

क्या होती है ओवुलेशन टेस्ट किट और कैसे करें इसका इस्तेमाल

गर्भनिरोधक का उपयोग करना बंद करें

जब आप गर्भवती होने की कोशिश कर रहीं हों तो उसके एक साल पहले से गर्भनिरोधक का उपयोग न करें। वास्तव में, गर्भनिरोधक के लगातार उपयोग से ओव्यूलेशन की प्रक्रिया पर गहरा प्रभाव पड़ता है और इससे लंबे समय तक कंसीव नहीं होता है। जब भी आप माँ बनना चाहती हैं, तो सबसे पहले गर्भनिरोधक को न कहें और सप्ताह में दो से तीन बार एक दूसरे से प्यार करें और संबंध बनायें।

लुब्रिकेंट्स का इस्तेमाल न करें

यदि आप जल्द ही बच्चा चाहते हैं, तो संबंध बनाते समय लुब्रिकेंट्स या स्नेहक का उपयोग न करें। ये स्नेहक शुक्राणु को अंडाशय में जाने से रोक देते हैं और इस तरह गर्भधारण और कंसीव करने की संभावना समाप्त हो जाती है। संबंध बनाते समय महिलाओं के शरीर में पर्याप्त तरल बनता है, जो शुक्राणु को अंडाशय तक ले जाने में सहायक होता है, और यह गर्भाधान की संभावना को भी मजबूत करता है। इसलिए, कपल्स के लिए स्नेहक का उपयोग नहीं करना अच्छा है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration