अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती कैसे करें - How To Get An Ex Back By Being A Friend in Hindi
रिलेशनशिप टिप्स

अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती कैसे करें – How To Get An Ex Back By Being A Friend in Hindi

अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती कैसे करें - How To Get An Ex Back By Being A Friend in Hindi

Ex Se Dosti kaise kare क्या कोई अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्त बनकर रह सकता है? अगर आप भी यही सोच रहें हैं तो हम आपको अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती करने के तरीके, एक्‍स के साथ दोस्‍ती कैसे बनाये रखें और ब्रेकअप के बाद दोस्‍ती के फायदे और नुकसान के बारे में बताने जा रा रहें हैं। कहा जाता है कि प्यार करना आसान है लेकिन दोस्ती करना मुश्किल है। ब्रेकअप के बाद अक्सर प्रेमी प्रेमिका इसी मुश्किल काम को करना चाहते हैं यानि अपने पूर्व पार्टनर प्रेमी या प्रेमिका से दोस्ती करना चाहते हैं। हालांकि मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि यदि कोई व्यक्ति अपनी गलती को स्वीकार करके आपके आगे दोस्ती का हाथ बढ़ाता है तो इसे स्वीकार करना कोई गलत काम नहीं है। लेकिन कभी कभी आपको भावनात्मक क्षति का भी सामना करना पड़ सकता है।

आज के आधुनिक समय में लोग भूलने और माफ करने में विश्वास रखते हैं और फिर से जुड़ जाते हैं। यदि आप भी ऐसा ही सोचते हैं तो इस लेख में हम आपको बताने जा रहे हैं कि अपने पूर्व प्रेमी/प्रेमिका के साथ दोस्ती कैसे करें और इसके फायदे एवं नुकसान क्या हैं।

विषय सूची

  1. पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के दोस्त बनने के लिए संवाद करने की कोशिश करें – Effort To Communicate to do friendship with Ex in Hindi
  2. पार्टनर को दोस्ती स्वीकार करने के लिए समय दें – Give Time to do friendship with Ex in Hindi
  3. पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के दोस्त बनने मैसेज या फोन करके दोस्त बनने की बात करें – Text or call to do friendship with Ex in Hindi
  4. जन्मदिन की बधाई देकर ब्रेकअप के बाद दोस्‍ती का प्रस्ताव – Birthday wishes to do friendship with Ex in Hindi
  5. अपनी गलतियों को स्वीकार करके एक्‍स के साथ दोस्‍ती बनाये रखें – Accept the Fault to do friendship with Ex in Hindi
  6. पूर्व प्रेमी या प्रेमिका से दोस्ती के फायदे – Benefits of Being Friends with Your Ex in Hindi
  7. पूर्व प्रेमी/ प्रेमिका से दोस्ती करने के नुकसान – Side effects of Being Friends with Your Ex in Hindi

पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के दोस्त बनने के लिए संवाद करने की कोशिश करें – Effort To Communicate to do friendship with Ex in Hindi

पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के दोस्त बनने के लिए संवाद करने की कोशिश करें - Effort To Communicate to do friendship with Ex in Hindi

एक बार एक दूसरे से अलग होने या ब्रेकअप हो जाने के बाद यदि आप अपने प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोबारा दोस्ती करना चाहते हैं तो उसके साथ संवाद करें। चाहे वह आपको कॉलेज में मिले, कैंटीन में मिले या फिर मॉल में, उससे बात करने की कोशिश करें। लेकिन यह ध्यान रखें कि बात सिर्फ आपसे दोस्ती के बारे में उसका ख्याल जानने के लिए होनी चाहिए न कि आपको उन कारणों के बारे में बात करना चाहिए जिसकी वजह से आपका ब्रेकअप हुआ था। इससे पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोबारा से दोस्ती करने की संभावना बढ़ सकती है।

(और पढ़े – लड़की से बात कैसे शुरू करें…)

पार्टनर को दोस्ती स्वीकार करने के लिए समय दें – Give Time to do friendship with Ex in Hindi

पार्टनर को दोस्ती स्वीकार करने के लिए समय दें - Give Time to do friendship with Ex in Hindi

अक्सर देखा गया है कि ब्रेकअप होने के बाद ज्यादातर लोग अपने पार्टनर को भूल नहीं पाते हैं। वे उसके साथ दोबारा तो उसी रिश्ते में नहीं जीना चाहते हैं लेकिन दोस्त बनाने की ख्वाहिश रखते हैं। यदि आप भी ऐसा करना चाहते हैं तो अपने पार्टनर के सामने दोस्ती का प्रस्ताव रखें और उसे पर्याप्त समय दें। यह स्पष्ट जरूर कर दें कि आप सिर्फ दोस्त रहेंगे न कि प्रेमी या प्रेमिका। इससे दोनों को पर्सनल स्पेस मिलेगा और दोस्ती की संभावना बढ़ जाएगी।

(और पढ़े – 10 टिप्स जो ब्रेकअप के दर्द से बाहर निकलने में मदद करेगें…)

पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के दोस्त बनने मैसेज या फोन करके दोस्त बनने की बात करें – Text or call to do friendship with Ex in Hindi

पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के दोस्त बनने मैसेज या फोन करके दोस्त बनने की बात करें - Text or call to do friendship with Ex in Hindi

जब आप अपने प्रेमी या प्रेमिका के साथ रिलेशनशिप में थे, उस दौरान जिन माध्यमों से आप उससे बात करते थे। पूर्व प्रेमी या प्रेमिका से दोबारा से दोस्ती करने के लिए भी उन्हीं माध्यमों का प्रयोग करें। यानि कि आप अपने प्रेमी या प्रेमिका को फोन करके या मैसेज करके दोस्ती का प्रस्ताव भेजें। हो सकता है कि वह इस रिश्ते की कड़वाहट को अभी तक न भूली हो लेकिन आपके दोस्ती के प्रस्ताव पर वह एक बार जरूर विचार करेगी जिससे कि आपको उम्मीद की किरण नजर आ सकती है और आपको एक नई दोस्त मिल सकती है।

(और पढ़े – लांग डिस्टेंस रिलेशनशिप क्या है, फायदे, नुकसान और बनाए रखने के उपाय…)

जन्मदिन की बधाई देकर ब्रेकअप के बाद दोस्‍ती का प्रस्ताव – Birthday wishes to do friendship with Ex in Hindi

जन्मदिन की बधाई देकर ब्रेकअप के बाद दोस्‍ती का प्रस्ताव - Birthday wishes to do friendship with Ex in Hindi

आमतौर पर जन्म दिन या त्योहारों की बधाई देने के बहाने एक दूसरे से फिर से दोस्ती करना एक अच्छा उपाय हो सकता है। प्रेमी या प्रेमिका एक दूसरे का जन्मदिन कभी नहीं भूलते हैं, यहां तक कि संबंध टूटने या ब्रेकअप होने के बाद भी। इसलिए यदि आप दोबारा से दोस्ती का हाथ आगे बढ़ाने के बारे में सोच रहे हैं तो उसे जन्मदिन की बधाई दें और यदि दोस्ती का प्रस्ताव रखने की हिम्मत नहीं हो रही है तो कार्ड में संदेश लिखकर भेजें। चूंकि एक समय आप दोनों रिलेशनशिप में रह चुके हैं इसलिए पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के द्वारा दोस्ती का प्रस्ताव स्वीकार करने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

(और पढ़े – प्यार जताने के अनोखे तरीके…)

अपनी गलतियों को स्वीकार करके एक्‍स के साथ दोस्‍ती बनाये रखें – Accept the Fault to do friendship with Ex in Hindi

अपनी गलतियों को स्वीकार करके एक्‍स के साथ दोस्‍ती बनाये रखें - Accept the Fault to do friendship with Ex in Hindi

एक कहावत है कि एक हाथ से ताली नहीं बजती। जी हां, कहने का अर्थ यह है कि आपके पार्टनर के साथ साथ आपकी गलतियों के कारण भी आपका ब्रेकअप हुआ होगा। यदि आप ब्रेकअप के बाद अपने पार्टनर को अपना दोस्त बनाना चाहते हैं तो आपको अपनी गलती स्वीकार करनी पड़ेगी। आप दोस्ती का हाथ आगे बढ़ाएं लेकिन साथ में उसके सामने अपनी गलती के लिए माफी भी मांगें। जब आप डाउन टू अर्थ रहेंगे तो हो सकता है आपकी पूर्व प्रेमी या प्रेमिका आपसे दोस्ती करने के लिए तैयार हो जाए।

(और पढ़े – प्यार और दोस्ती में क्या फर्क होता है…)

पूर्व प्रेमी या प्रेमिका से दोस्ती के फायदे – Benefits of Being Friends with Your Ex in Hindi

पूर्व प्रेमी या प्रेमिका से दोस्ती के फायदे - Benefits of Being Friends with Your Ex in Hindi

क्या कोई अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्त बनाकर रह सकता है माना जाता है कि जब तक आप रिलेशनशिप में होते हैं, अपनी भावनाओं के बारे में बात करना मुश्किल होता है लेकिन जब आपका रिश्ता उस समीकरण से हट जाता है तब आप स्वतंत्र होते है। पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती करने से आपको ब्रेकअप के कारणों पर खुलकर बात करने और मजबूत बनने में मदद मिलती है।

  • पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती करने का एक बड़ा फायदा यह होता है कि वह पहले से ही आपको बेहतर तरीके से समझ रहा होता है। जिसके कारण वह आपके अन्य दोस्तों से काफी अलग होता है। भले ही अब आप उसके साथ रिलेशनशिप में नहीं हैं तो क्या हुआ लेकिन उससे अपनी महत्वपूर्ण बातें शेयर करके सलाह ले सकती हैं।
  • आपको अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती करके मजा आ सकता है। क्योंकि आपको यह जानने में समय खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ेगी कि उसे कहां घूमना पसंद और क्या खाना पसंद है। जब भी आप दोनों साथ होंगे तो उस पल का आनंद ही अलग होगा।
  • पूर्व प्रेमी या प्रेमिका के साथ दोस्ती आपकी परिपक्वता को दर्शाता है। अपने पूर्व साथी के साथ एक स्वस्थ दोस्ती बनाए रखने के लिए एक निश्चित स्तर की परिपक्वता की आवश्यकता होती है। लोग कभी-कभी सिर्फ गलत समय पर अलग हो जाते हैं। दोस्ती का हाथ बढ़ाना समझदारी का परिचय है।
  • अपने पूर्व पार्टनर से दोस्ती करने का यह फायदा होता है कि अब आपके रिश्ते पहले जैसे नहीं होते हैं और इस नई दोस्ती का रिश्ता स्वतंत्र होता है जिसमें किसी के रोक टोक की परवाह नहीं होती है और ना ही एक दूसरे की हरकतों पर नाराजगी पैदा होती है। वह महज एक दोस्त है और आपकी पर्सनल लाइफ उससे कहीं हटकर है।

(और पढ़े – लड़की में हैं अगर ये 14 गुण हैं तो उसे कभी ना छोड़े…)

पूर्व प्रेमी/ प्रेमिका से दोस्ती करने के नुकसान – Side effects of Being Friends with Your Ex in Hindi

पूर्व प्रेमी/ प्रेमिका से दोस्ती करने के नुकसान - Side effects of Being Friends with Your Ex in Hindi

आमतौर पर माना जाता है कि कोई भी व्यक्ति अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका से दोस्ती करता है तो फायदे से ज्यादा इसके नुकसान होते हैं। आइये कुछ महत्वपूर्ण पहलूओं पर नजर डालते हैं और जानते हैं कि पूर्व पार्टनर से दोस्ती करने के नुकसान क्या हैं।

  • माना जाता है कि संबंध टूटने का दुख काफी गहरा होता है। अगर आप अपने पूर्व प्रेमी या प्रेमिका से दोस्ती करते हैं तो आपको उसे भूलने या पुराने जख्मों को ठीक होने में काफी वक्त लग सकता है।
  • पुराने पार्टनर से दोस्ती करने का नुकसान यह होता है कि वह आपकी निजी जिंदगी में पहले की तरह ताक झांक कर सकता है और आपके ऊपर दोबारा से हुकूमत चला सकता है और आप चाहकर भी कुछ नहीं कर पाएंगे।
  • दोस्ती के बहाने आपका पूर्व प्रेमी या प्रेमिका आपके दिल के दरवाजे को फिर से खटखटाने की कोशिश कर सकता है। जिसके कारण आप कभी डिप्रेशन का शिकार हो गए थे, आज वही फिर से आपको रिलेशनशिप में आने के लिए मजबूर कर सकता है।
  • आपका पूर्व प्रेमी या प्रेमिका आपके बारे में सबकुछ जानता है और यहां तक कि आपके रहस्य भी जानता है। आपसे दोस्ती करने के बाद वह आपके दोस्तों से भी दोस्ती करके आपके बारे में उन्हें सबकुछ बता सकता है या आपके निजी जिंदगी का राज खोल सकता है।
  • चूंकि वह अब आपका दोस्त बन गया है इसलिए आपके घर जाने की भी जिद कर सकता है और इस मौके का गलत फायदा भी उठा सकता है।

(और पढ़े – रिलेशनशिप कि वह बातें जो आपको अपने दोस्तों से भी नहीं बोलना चाहिए…)

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration