मानव शरीर में जल की मात्रा – Human Body Water Percentage In Hindi

मानव शरीर में जल की मात्रा - Manav Sharir Me Jal Ki Matra In Hindi
Written by Hemant

Manav Sharir Me Jal Ki Matra क्या आपने कभी सोचा है कि आपके शरीर में कितना पानी है? पानी का प्रतिशत आपकी उम्र और लिंग के अनुसार बदलता रहता है। सामान्य मनुष्य के शरीर में 50-75% प्रतिशत जल पाया जाता है। मानव शरीर को सही तरीके से काम करने के लिए पानी की आवश्यकता होती है। आपके शरीर के पानी में सही संतुलन होना बहुत ही जरूरी होता है। एक मानव शरीर से पसीने, मूत्र और श्वास के माध्यम से, त्वचा के माध्यम से शरीर का पानी निकलता है। यदि पानी का संतुलन सही है तो आप अच्छा महसूस करेंगे और स्वस्थ भी रहेंगे। हमारे रक्त से लेकर भोजन को पचाने के लिए सभी कार्यों के लिए पानी बहुत ही जरूरी होता है। अधिक मात्रा में पानी पीना हमें अनेक प्रकार की बीमारियों से बचाने में मदद करता है।

शरीर में पानी की कमी किसी उम्र या किसी भी वर्ग के महिला या पुरुषों को हो सकती है। लेकिन यदि समय पर आप ध्‍यान नहीं देते हैं तो यह कई गंभीर समस्‍याओं का कारण बन सकता है। व्यक्ति को अपने शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी की मात्रा बनाये रखना चाहिए। आइये मानव शरीर में जल की मात्रा को विस्तार से जानते हैं।

  1. मनुष्य के शरीर में कितने प्रतिशत जल होता है – What percentage of water does the human body have?
  2. मानव शरीर में जल की आवश्यकता – The need for water in the human body in Hindi
  3. सबसे अधिक पानी किस में होता है – Who Has the Most Water in Hindi
  4. मानव शरीर में पानी के कार्य – Water works in the human body in Hindi
  5. पर्याप्त पानी न पीने के परिणाम – Consequences of not drinking enough water in Hindi
  6. प्यास लगने का कारण – Reason of Thirsty in Hindi
  7. मानव शरीर में पानी कहाँ है – Where Exactly Is Water in the Human Body in Hindi

मनुष्य के शरीर में कितने प्रतिशत जल होता है – What percentage of water does the human body have?

मनुष्य के शरीर में कितने प्रतिशत जल होता है - What percentage of water does the human body have?

मानव शरीर में पानी की मात्रा 50-75% से होती है। वयस्क मानव के शरीर में औसत 50-65% पानी होता है। शिशुओं में पानी का प्रतिशत बहुत अधिक होता है, यह आमतौर पर लगभग 75-78% होता है, लेकिन एक वर्ष की आयु तक बच्चे के शरीर में 65% पानी बचता है। शरीर की संरचना लिंग और फिटनेस स्तर के अनुसार मानव शरीर में जल की मात्रा बदलती है क्योंकि वसायुक्त ऊतक में दुबले ऊतक की तुलना में कम पानी होता है। एक औसत वयस्क पुरुष में लगभग 60% पानी होता है और एक औसत वयस्क महिला में लगभग 55% पानी होता है क्योंकि महिलाओं में स्वाभाविक रूप से पुरुषों की तुलना में अधिक वसायुक्त ऊतक होते है। अधिक वजन वाले पुरुषों और महिलाओं में पानी की मात्रा कम होती है, जो उनके दुबले समकक्षों की तुलना में एक प्रतिशत होता है।

(और पढ़े – पानी की कमी (निर्जलीकरण) क्या है, लक्षण, कारण और इलाज…)

मानव शरीर में जल की आवश्यकता – The need for water in the human body in Hindi

मानव शरीर में जल की आवश्यकता - The need for water in the human body in Hindi

मनुष्य के शरीर मे सबसे अधिक मात्रा में जल पाया जाता हैं।  मानव शरीर में कम से कम 50% पानी होना ही चाहिए। कई कारकों (जैसे उम्र और लिंग) के आधार पर पानी का प्रतिशत भिन्न हो सकता है। शरीर का पानी कोशिकाओं के लिए प्राथमिक बिल्डिंग ब्लॉक (building block) है। यह आंतरिक शरीर के तापमान को विनियमित करने में मदद करता है, आपकी मांसपेशियों को मजबूत करता है और आपकी त्वचा को मॉइस्चराइज करता है। यह केवल कुछ उदाहरण हैं कि शरीर का पानी और पीने का पानी इतना महत्वपूर्ण क्यों है। हमारे शरीर के लगभग सभी कार्यों के लिए पानी की आवश्यकता होती है।

(और पढ़े – पानी पीने का सही समय जानें और पानी पीने के लिए खुद को प्रेरित कैसे करें…)

सबसे अधिक पानी किस में होता है – Who Has the Most Water in Hindi

सबसे अधिक पानी किस में होता है - Who Has the Most Water in Hindi

मानव शरीर में जल की मात्रा कितना प्रतिशत होती है? आइये इसे नीचे दिए कुछ बिंदुओं के आधार पर अच्छे से समझते हैं।

  • शिशुओं और बच्चों में पानी का प्रतिशत सबसे अधिक है।
  • वयस्क पुरुषों में पानी का स्तर बच्चों से कम होता है।
  • वयस्क महिलाओं में शिशुओं या पुरुषों की तुलना में पानी का प्रतिशत कम होता है।
  • दुबले पुरुषों की तुलना में मोटे पुरुषों और महिलाओं में पानी की मात्रा कम होती है।

(और पढ़े – मानव शरीर के बारे में रोचक तथ्य…)

मानव शरीर में पानी के कार्य – Water works in the human body in Hindi

मानव शरीर में पानी के कार्य - Water works in the human body in Hindi

पानी हम सभी को चलते रहने के लिए कई आवश्यक कार्य करता है, यह कार्य निम्न है-

  • पानी कोशिकाओं का प्राथमिक निर्माण खंड (building block) है।
  • पानी हर कोशिका के जीवन के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व, एक निर्माण सामग्री के रूप में सबसे पहले काम करता है।
  • पानी पसीने और श्वसन द्वारा हमारे आंतरिक शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है।
  • भोजन के रूप में हमारे शरीर द्वारा उपयोग किए जाने वाले कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन रक्तप्रवाह में पानी द्वारा चयापचय और परिवहन किए जाते हैं।
  • पानी मुख्य रूप से पेशाब के माध्यम से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकलने में सहायता करता है।
  • पानी मस्तिष्क, रीढ़ की हड्डी और भ्रूण के लिए झटके अवशोषक के रूप में कार्य करता है।
  • मानव शरीर में पानी लार बनाता है और हमारे शरीर के जोड़ों में चिकनाई देता है।
  • पानी ऑक्सीजन और पोषक तत्वों को कोशिकाओं तक पहुंचाता है।
  • पानी शरीर में प्रमुख विलायक है। यह खनिज, घुलनशील विटामिन और कुछ पोषक तत्वों को घोलता है।

(और पढ़े – पानी पीने का सही तरीका…)

पर्याप्त पानी न पीने के परिणाम – Consequences of not drinking enough water in Hindi

पर्याप्त पानी न पीने के परिणाम - Consequences of not drinking enough water in Hindi

हमारे शरीर में पानी की एक निश्चित मात्रा का होना बहुत ही आवश्यक होता है, पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन ना करना आपको कई गंभीर बीमारियों से ग्रस्त कर सकता है। आपके शरीर के पानी के प्रतिशत को बढ़ाने के कई तरीके हैं। आप इसके लिए प्रति दिन कम से कम 2 लीटर पानी जरूर पियें। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि जब आप प्यासे हो तब प्रतीक्षा न करें और तुरंत ही पानी को पियें। इसके अलावा सभी को अपने दिन की शुरुआत एक गिलास पानी से करने की सिफारिश की जाती है। इससे शरीर के बेकार और विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद मिलती है।

अपने शरीर में पानी के प्रतिशत को बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका कच्चे फल और सब्जियां का सेवन होता है क्योंकि इनमे पानी की अधिक मात्रा होती हैं। ध्यान में रखें कि जब तक आप बार-बार और हल्के रंग के साथ पेशाब करते हैं, तब तक पानी और अन्य तरल पदार्थों का सेवन अवश्य करें।

(और पढ़े – क्या आप जानतें है आपको रोज कितना पानी पीना चाहिए…)

प्यास लगने का कारण – Reason of Thirsty in Hindi

प्यास लगने का कारण - Reason of Thirsty in Hindi

पानी का प्रतिशत आपके हाइड्रेशन स्तर पर निर्भर करता है। लोग अपने शरीर के पानी का लगभग 2-3% कम करने पर प्यास महसूस करते हैं। आमतौर पर लगभग 1% निर्जलीकरण में प्यास का एहसास होने लगता है। हालांकि तरल पानी शरीर में सबसे प्रचुर मात्रा में होता है। मानव शरीर के वजन का लगभग 30-40% कंकाल ( skeleton) है, लेकिन जब इन हड्डियों से रासायनिक विलयन या गर्मी से पानी को हटा दिया जाता है तो आधा वजन कम हो जाता है।

(और पढ़े – शरीर में पानी की कमी को दूर करने के उपाय…)

मानव शरीर में पानी कहाँ है – Where Exactly Is Water in the Human Body in Hindi

मानव शरीर में पानी कहाँ है - Where Exactly Is Water in the Human Body in Hindi

शरीर का अधिकांश पानी इंट्रासेल्युलर द्रव (intracellular fluid)  में शरीर के पानी का 2/3 होता है। अन्य तीसरा बाह्य तरल पदार्थ पानी का 1/3 होता है। मानव के अंगों के आधार पर पानी की मात्रा अलग अलग होती है। अधिकांश पानी रक्त प्लाज्मा (blood plasma) में होता है इसमें शरीर के कुल पानी का 20% होता है। जर्नल ऑफ बायोलॉजिकल केमिस्ट्री (Journal of Biological Chemistry) में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, मानव हृदय और मस्तिष्क में पानी की मात्रा 73% है, फेफड़े 83% हैं, मांसपेशियों और गुर्दे 79% हैं, त्वचा 64% है और हड्डियां लगभग 31% पानी की मात्रा होती हैं।

(और पढ़े – बहुत अधिक पानी पीना भी हो सकता है खतरनाक…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration