एक महीने के अंदर प्रेग्नेंट होने के तरीके - Ek mahine me pregnant hone ke tarike in Hindi
गर्भावस्था

एक महीने के अंदर प्रेग्नेंट होने के तरीके – How to get pregnant fast and Naturally in Hindi

एक महीने के अंदर प्रेग्नेंट होने के तरीके - Ek mahine me pregnant hone ke tarike in Hindi

क्या आप भी एक महीने के अंदर गर्भवती होना चाहती हैं। अगर आप शीघ्र गर्भवती होने के लिए प्रयास कर रही हैं, तो अपनी जीवनशैली में कुछ बदलाव करके और कुछ उपाय और तरीकों को अपनाकर अपनी प्रजनन क्षमता बढ़ा सकती हैं। यह उपाय आपको जल्द गर्भधारण करने में मदद करेंगे। आइए जानते हैं उन तरीकों के बारे में जिन्हें अपनाकर जल्दी प्रेग्नेंट हुआ जा सकता है। गर्भधारण के लिए प्रयास करते समय आप दोनों को जीवनशैली में कुछ बदलाव करने होगें जो प्रजनन क्षमता को बढ़ा सकते हैं।

मां बनना किसी भी महिला के लिए बहुत ही खूबसूरत अहसास होता है। आमतौर पर कपल्स शादी के बाद एक या दो साल तक बच्चा नहीं चाहते, इसलिए वे प्रेग्नेंसी के बारे में ज्यादा नहीं सोचते। लेकिन कुछ ऐसे भी कपल्स हैं, जो शादी के तुरंत बाद ही बच्चे की प्लानिंग शुरू कर देते हैं। लेकिन ये जरूरी नहीं, कि आपने चाहा और हो गया। कई बार प्लानिंग के बावजूद भी बच्चा नहीं ठहर पाता। हालांकि, इसकी कई वजह होती हैं। अगर आपको भी बच्चे की जल्दी है और आप शीघ्र गर्भवती होना चाहती हैं, तो ऐसे कई रास्ते हैं, जिससे किसी भी महिला के प्रेग्नेंट होने की संभावना बढ़ जाती है।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे, कि कैसे आप प्राकृतिक और स्वस्थ तरीके से एक महीने के अंदर गर्भवती हो सकती हैं। इससे पहले ये जानना जरूरी है, कि महिला गर्भवती कैसे होती है और जल्दी गर्भवती न होने की वजह क्या है।

(और पढ़ें – गर्भवती होने (गर्भधारण करने) के लिए सही सही समय)

विषय सूची

महिलाएं कैसे गर्भवती होती हैं – How do women get pregnant in Hindi

महिलाएं कैसे गर्भवती होती हैं - How do women get pregnant in Hindi

हर महीने महिलाओं की ओवरीज से एक बार में एक ही अंडा निकलता है। ओवुलेशन के समय यह अंडा ओवरीज से निकलने के बाद फैलोपियन ट्यूब में आ जाता है। इसके बाद अगर पुरूष के शुक्राणु अंडे से मिल जाएं, तो फर्टिलाइजेशन होता है। बता दें, कि जब तक फर्टिलाइजेशन नहीं होती, तब तक महिला गर्भधारण नहीं कर सकती। कभी-कभी कई समस्याओं की वजह से भी फर्टिलाइजेशन नहीं हो पाता।

(और पढ़ें – गर्भवती होने के लिए पूरा गाइड)

महिलाएं प्रेग्नेंट क्यों नहीं होती – Why are women not pregnant in Hindi

महिलाएं प्रेग्नेंट क्यों नहीं होती - Why are women not pregnant in Hindi

कई महिलाओं का सवाल होता है, कि सबकुछ सही होते हुए भी वे प्रेग्नेंट क्यों नहीं हो पातीं। तो इसका जवाब हम आपको बताते हैं।

ओव्यूलेशन न होना- गर्भवती होने के लिए महिला का ओव्यूलेट करना बहुत जरूरी है। जो महिलाएं नियमित रूप से ओव्यूलेट नहीं करतीं, उन्हें बच्चा पैदा करने में देरी होती है। यानि की, जब एक महिला अंडों का उत्सर्जन नहीं करती, तो वह गर्भवती नहीं हो सकती, क्योंकि गर्भ में ऊवर्रक होने के लिए कोई अंडे नहीं मिलते हैं।

सेक्स में रूचि कम हो जाना- दरअसल, जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, कपल्स का रूचि संभोग की तरफ काफी कम हो जाती है। साथ ही साथ उनकी फर्टिलिटी पॅावर भी कम होती जाती है, चाहे वह पुरूष में हो या महिला में।

अंडे की गुणवत्ता में कमी आना- महिलाएं जैसे-जैसे 30 साल की उम्र का पड़ाव पार करती हैं, उनके अंडे की क्वालिटी हल्की होती जाती है और साथ ही अंडों की संख्या भी कम होने लगती है। इसके अलावा पुरूषों में टेस्टीस्टेरोन का लेवल कम हो जाता है, जिसकी वजह से संभोग के प्रति उनकी रूचि कम हो जाती है।

वजन ज्यादा होना- यदि आप या आपका साथी ज्यादा या बहुत कम वजन वाले हैं, तो यह आपके गर्भवती होने के समय और समस्या को बढ़ा सकता है।

(और पढ़ें – गर्भवती न होने के पीछे मिथक और सच्‍चाई )

कैसे पता करें ओव्यूलेशन का समय – How to know the time of ovulation in Hindi

कैसे पता करें ओव्यूलेशन का समय - How to know the time of ovulation in Hindi

असल में महिलाओं के प्रेग्नेंट न होने का मुख्य कारण उन्हें ओव्यूलेशन के बारे में जानकारी न होना है। उन्हें यह पता ही नहीं होता, कि उनका ओव्यूलेयान पीरियड क्या है। अगर आपको भी इस बारे में जानकारी नहीं है, तो हम आपको बताते हैं कि कैसे पता करें, कि आपका ओव्यूलेशन कब होगा। ओव्यूलेशन चैक करने के चार तरीके हैं, जिनके बारे में हम आपको बता रहे हैं।

(और पढ़ें – ओव्यूलेशन (अंडोत्सर्ग) क्या है, साइकिल, कब होता है, कितने दिन तक रहता है और लक्षण )

सबसे पहला तरीका है, बसल बॉडी टेम्परेचर चैक करना

ओव्यूलेशन आमतौर पर एक महिला के मासिक धर्म चक्र के अंतिम दिन के लगभग 14 दिन पहले होता है। मान लीजिए, आपकी पीरियड अवधि 28 दिन की है, तो ओव्यूलेशन की संभावना 14 दिन के आसपास की होगी। इन दिनों में आप सबसे ज्यादा ज्यादा फर्टाइल होते हैं। फटाईल डेज का पता लगाने के लिए आप ओव्यूलेशन प्रेडिक्टर की मदद ले सकती हैं। अब ये कैसे जानें, कि आप ओव्यूलेट कर रही हैं या करने वाली हैं। इसके लिए डॉक्टर आपके शरीर का तापमान बढ़ाने की सलाह देते हैं। हर सुबह जब आप उठें, तो एक थर्मामीटर की मदद से अपना तापमान चैक करें। आपको एक पैटर्न दिखाई देगा। आप देखेंगे कि आपका बीबीटी बसल बॉडी टेम्प्रेचर उस दिन कम होता है, जिस दिन आप ओव्यूलेट करती हैं। फिर अगले दिन यह बढ़ जाता है और तब तक बढ़ा हुआ रहता है, जब तक की आप गर्भधारण नहीं कर लेतीं।

दूसरा तरीका है, ओव्यूलेशन प्रेडिक्शन किट

दूसरा तरीका है, ओव्यूलेशन प्रेडिक्शन किट

यह किट आपको मेडिकल स्टोर पर मिल जाएगी। इनकी मदद से आप आसानी से जान सकती हैं, कि आप ओव्यूलेट कब करने वाली हैं। एक सकारात्मक टेस्ट रिजल्ट मिलने के बाद के दिन संभोग करने के लिए एकदम सही हैं। इन दिनों में गर्भवती होने की संभावना 60 से 70 प्रतिशत तक रहती है।

(और पढ़ें – क्या होती है ओवुलेशन टेस्ट किट और कैसे करें इसका इस्तेमाल )

तीसरा तरीका है वेजाइनल सीक्रेशन में बदलाव दिखना

ओव्यूलेशन से एक से दो दिन पहले सफेद, गीला और चिपचिपा वेजाइनल सीक्रेशन होता है, जिसे सर्वाइकल म्यूकस कहते हैं। जब यह कम हो जाए और चिपचिपापन थोड़ा मोटा लगने लगे, तो समझ जाएं कि कंसीव करने के लिए यह समय सेक्स के लिए सबसे अच्छा है।

चौथा तरीका है फॉलिक्यूलर मॉनीटरिंग

यदि आपको ऊपर दिए गए तरीकों का उपयोग करके ओव्यूलेशन को ट्रेक करने में परेशानी हो रही है, तो आप डॉक्टर से बात कर सकते हैं। कुछ डॉक्टर ब्लड हार्मोन टेस्ट और अंडाशय के अल्ट्रासाउंड के साथ निगरानी करेंगे। इससे आपको ये जानने में मदद मिलेगी कि आपका ओव्यूलेशन कब होगा।

एक महीने में प्रेग्नेंट होने के उपाय – Ek mahine me pregnant hone ke upay in Hindi

एक महीने में प्रेग्नेंट होने के उपाय - Ek mahine me pregnant hone ke upay in Hindi

यह सबसे जरूरी है कि प्रेग्नेंट होने के लिए महिलाओं को अपने पीरियड्स पर ध्यान देना चाहिए। यहां हम आपको जल्द से जल्द कंसीव करने के कुछ ऐसे ही आसान और स्वस्थ उपाय बताएंगे। ध्यान रखें, यह उपाय उन लोगों के लिए लाभदायक साबित होंगे, जिन्हें कोई बड़ी फर्टिलिटी प्रॉब्लम नहीं है।

जल्द गर्भवती होने का उपाय मेंस्ट्रुअल साइकिल को ट्रैक करें

जल्द गर्भवती होने का उपाय मेंस्ट्रुअल साइकिल को ट्रैक करें

एक महीने में प्रेग्नेंट होने के लिए आपको अपनी मेंस्ट्रुअल साइकिल यानि मासिक धर्म चक्र पर ध्यान देना होगा। मासिक धर्म हर महिला का अलग-अलग हो सकता है। यानि किसी का 21 दिन तो, किसी का 28 या 30 दिन का। जब आपको पता होगा, कि आपकी मेंस्ट्रुअल साइकिल कितने दिन की है, तब आप किसी महीने के पीरियड के खत्म होने के तुरंत बाद अगले महीने के पीरियड शुरू होने की तारीख का अंदाजा लगा लीजिए। अब इस डेट से 14 दिन आगे की डेट काउंट करें। इस डेट से अगले चार दिन तक उचित तरीके से संभोग करें। ऐसे में प्रेग्नेंट होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाएगी।

(और पढ़ें – मासिक धर्म कप (मेंस्ट्रुअल कप) क्या है कैसे इस्तेमाल किया जाता है फायदे और नुकसान)

शीघ्र गर्भवती होने के लिए हेल्दी वेट रखें

महिलाओं में मोटापे के कारण कंसीव करने की समस्या बढ़ जाती है। वहीं जरूरत से ज्यादा दुबलापन उन्हें प्रेग्नेंट नहीं होने देता। ऐसे में महिलाओं को अपना वजन संतुलित रखना चाहिए। दरअसल, शरीर में ज्यादा चर्बी होने की वजह से शरीर एस्ट्रोजन का उत्पादन ज्यादा करता है, जिससे ओव्यूलेशन की प्रक्रिया में बाधा आती है। इसलिए अगर आपका वजन बहुत ज्यादा है या बहुत कम है, तो शीघ्र गर्भवती होने के लिए इसे कुछ किलो कम या कुछ किलो बढ़ाएं।

गर्भधारण करने के लिए बर्थ कंट्रोल पर रोक लगाएं

अगर आप एक महीने में प्रेग्नेंट होने की प्लानिंग कर रही हैं, तो सबसे पहले बर्थ कंट्रोल पिल्स लेना बंद कर दें। ऐसा करने से प्रजनन क्षमता सामान्य हो जाती है और आपके गर्भवती होने की संभावना भी बढ़ जाती है।

1 महीने के अंदर प्रेग्नेंट होने के तरीके शांत वातावरण में रहें

ऐसा माना जाता है, कि घर में अगर वातावरण सुंदर और शांत हो, तो फर्टिलिटी के चांस बढ़ जाते हैं। जबकि प्रदूषित और नकारात्मक माहौल में रहने वाली महिलाओं की प्रजनन क्षमता बहुत कम होती है। इसलिए 1 महीने के अंदर प्रेग्नेंट होने के लिए अपने घर में बच्चों के सुंदर पोस्टर और तस्वीरें लगाएं। इससे माहौल खुशनुमा रहेगा और आप भी खुश रहेंगी, तो प्रेग्नेंसी की संभावना भी बढ़ेगी।

जल्दी गर्भधारण करने के लिए सही पोषण लें

जल्दी गर्भवती होने के लिए महिलाओं को प्रतिदिन सही पोषण लेना बहुत जरूरी है। अपने आहार में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, विटामिन्स, मिनरल्स, अमीनो एसिड आदि। अगर आप अच्छी मात्रा में फल या सब्जी नहीं खा सकतीं, तो वेजीटेरियन फूड सप्लीमेंट की मदद भी ले सकती हैं।

(और पढ़ें – गर्भावस्था में आहार जो देगा माँ और बच्चे को पूरा पोषण)

प्रेग्नेंट होने का तरीका संभोग करने की सही पोजीशन जानें

प्रेग्नेंट होने का तरीका संभोग करने की सही पोजीशन जानें

जल्दी गर्भवती होने के लिए संभोग करने की सही पोजीशन जरूर पता होनी चाहिए। ताकि पुरूष के वीर्य महिला की योनि की गहराई तक पहुंच पाए। इसके लिए सबसे अच्छी पोजीशन है, मिशनरी पोजीशन। इसमें पुरूष महिला के ऊपर होते हैं।

जल्दी गर्भधारण करने के उपाय  प्रीनेटल विटामिन का सेवन करें

जो महिलाएं शीघ्र गर्भवती होना चाहती हैं, उन्हें गर्भवती होने से पहले ही प्रीनेटल विटामिन का सेवन शुरू कर देना चाहिए। इसके अलावा वह चाहे तो डेली मल्टीविटामिन भी ले सकती है। इसमें कम से कम 400 माइक्रोग्राम फॉलिक एसिड होता है। विटामिन बी भी बच्चे के मास्तिष्क और रीढ़ में जन्म दोष को रोकने के लिए महत्वपूर्ण होता है। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र महिलाओं को जन्म दोषों को रोकने में मदद करने में रोकने के लिए गर्भवती होने से पहले कम से कम एक महीने के लिए फॉलिक एसिड लेने की सलाह देता है।

एक महीने में गर्भवती होने की संभावना को अधिकतम करने के लिए स्वस्थ भोजन खाएं

विभिन्न प्रकार के स्वस्थ खाद्य पदार्थ खाने से महिला के शरीर को गर्भावस्था के लिए तैयार करने में मदद मिलती है। स्वस्थ खाद्य पदार्थ से अर्थ विटामिन, मिनरल, प्रोटीन, आयरन युक्त खाने से है। इसके अलावा जल्दी गर्भवती होने के लिए महिलाएं सब्जी, अनाज, ताजे फल और डेयरी प्रोडक्ट्स का भी सेवन कर सकती हैं। कई डॉक्टर्स ऐसी महिलाओं को फिश खाने की सलाह भी देते हैं।

गर्भवती होने की प्रबल संभावना के लिए कैफीन का सेवन कम करें

30 दिन में गर्भवती होने के लिए महिलाओं को कैफीन का सेवन कम से कम करना चाहिए। एक दिन में 500 मिग्री से अधिक केफीन का सेवन करने से महिलाओं की प्रजनन क्षमता में कमी आती है। अमेरिकन सोसाइटी फॉर रिप्रोडक्टिव मेडिसिन के अनुसार, गर्भवती होने से पहले कॉफी की मात्रा में कमी करनी चाहिए। जैसे हर दिन केवल 250 मिग्रा कॉफी ही पीएं यानि सिर्फ एक से दो कप। इससे बहुत जल्दी गर्भधारण करने की संभावना बढ़ जाती है।

गर्भवती होने के लिए महिलाएं हल्का वर्कआउट करें

एक महीने के अंदर प्रेग्नेंट होने के लिए महिलाओं को हल्का वर्कआउट करना चाहिए। वैसे तो शारीरिक रूप से एक्टिव रहना महिला के शरीर को गर्भावस्था के लिए तैयार करने में बहुत मदद करता है, लेकिन बहुत ज्यादा व्यायाम करने से भी ओव्यूलेशन पर असर पड़ सकता है। एक रिसर्च के अनुसार, जो महिलाएं बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करती हैं, उनका मासिक धर्म असंतुलित होता है, जो गर्भधारण न कर पाने का कारण बनता है।

(और पढ़ें – मासिक धर्म (पीरियड्स) के देर से आने के कारण और उपाय)

गर्भवती होने की उच्च संभावना के लिए धुम्रपान और शराब के सेवन से बचें

धुम्रपान करने से महिलाओं और पुरूषों दोनों में ही प्रजनन समस्याएं हो सकती हैं। अमेरिकन सोसाइटी फॉर रिप्रोडक्टिव मेडिसिन के अनुसार, सिगरेट के धुएं में पाए जाने वाले रसायन जैसे निकोटिन और कार्बनमोनोऑक्साइड महिलाओं के अंडों को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके अलावा महिलाओं को शराब के सेवन से भी बचना चाहिए।

एक महीने में गर्भवती होने की संभावना को अधिकतम करने के लिए भरपूर आराम करें

अगर आप जल्द से जल्द प्रेग्नेंट होना चाहती हैं, तो तनाव से बचें और भरपूर आराम करें। तनाव आपकी गर्भधारण की संभावनाओं पर असर डाल सकता है। इसलिए जितना हो सके आराम करें।

जल्दी गर्भधारण करने के लिए कंसेप्शनमून पर जाएं

जल्दी गर्भवती होने का यह सबसे अच्छा उपाय है। कंसेप्शनमून वह छुट्टियां होती हैं, जो लोग सिर्फ गर्भधारण के प्रयास के लिए लेते हैं। इसमें दोनों पाटनर्स को एकदूसरे के लिए रोजमर्रा की दिनचर्या से हटकर एकदूजे के लिए टाइम निकालें और रिलेक्स होकर एक साथ समय व्यतीत करें। इससे गर्भधारण की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है।

शीघ्र गर्भवती होने के लिए फिर से प्यार जगाएं

एक महीने के भीतर गर्भवती होने के लिए एकदूजे के बीच फिर से प्यार जगाना बहुत जरूरी है। व्यस्त दिनचर्या के चलते पति-पत्नी में प्यार थोड़ा कम हो जाता है। वह कहीं घूमने नहीं जा पाते, ऐसे में अपने फर्टाइल दिनों को भूलकर फिर से रोमांस पर ध्यान दें।

एक महीने में गर्भवती होने के लिए नियमित संभोग करें

प्रेग्नेंट होने के लिए लव रिलेशन बनाना बहुत जरूरी है। अगर आप जल्दी बच्चा पैदा करना चाहती हैं, तो हर दूसरे या तीसरे दिन संभोग करें। इससे जल्दी गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है। हालांकि, इसके लिए आपको अपने ओव्यूलेशन पीरियड का पता होना भी उतना ही जरूरी है। क्योंकि प्रजनन का समय छह दिन का होता है, ओव्यूलेशन के पांच दिन पहले और ओव्यूलेशन का दिन। ऐसे में ओव्यूलेशन से दो दिन पहले संभोग करने से शीघ्र गर्भवती होने की संभावना बढ़ जाती है।

जल्दी गर्भधारण करने के लिए ओव्यूलेशन पर ध्यान दें

शीघ्र गर्भवती होने के लिए ओव्यूलेशन पर ध्यान देना बहुत जरूरी है। जिन महिलाओं को नियमित रूप से पीरियड्स आते हैं, उनका ओव्यूलेशन उनका मासिक धर्म शुरू होने के दो हफ्ते पहले से शुरू हो जाता है। इसालिए जिन महिलाओं के पीरियड्स अनियमित होते हैं, उनके ओव्यूलेशन के दिनों का अनुमान लगाना बहुत मुश्किल है। इसलिए यदि आप जल्दी प्रेग्नेंट होना चाहतीं हिं तो अपने ओव्यूलेशन पीरियड पर ध्यान दें।

(और पढ़ें – महिला को गर्भवती होने में कितना समय लगता है)

शीघ्र प्रेग्नेंसी को लेकर जुड़े लोगों के सवाल और जवाब – Question and answer related to getting pregnant fast in Hindi

आमतौर पर गर्भवती होने में कितना समय लगता है?

जो महिलाएं असुरक्षित यौन संबंध रखती हैं, वे एक साल के भीतर गर्भधारण कर लेती हैं। लेकिन अगर आपकी उम्र 35 से ज्यादा है और अब भी आप गर्भवती नहीं हुईं, तो अब आपको डॉक्टर से मिलकर प्रजनन उपचार के विकल्पों के बारे में चर्चा करनी चाहिए।

पुरूषों के स्पर्म काउंट को कैसे बढ़ाया जाए?

पुरूषों के स्पर्म काउंट को कैसे बढ़ाया जाए?

शुक्राणु की कम संख्या अक्सर जिंक की कमी से होती है। इसलिए कुछ पोषण संबंधी बदलाव करने से स्पर्म काउंट को बढ़ाया जा सकता है।

(और पढ़ें – शुक्राणु की जांच (सीमेन एनालिसिस टेस्ट) स्पर्म टेस्ट क्या है, कीमत, आवश्यकता)

शीघ्र गर्भवती होने के लिए क्या खाना चाहिए?

अच्छा आहार केवल हमारे स्वास्थ्य के लिए ही नहीं, बल्कि प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए भी बहुत जरूरी है। ऐसा करने के लिए अपने आहार में स्वस्थ खाद्य पदार्थों को शामिल करें। इसमें पालक, केले, अंडे, अनाज, बीन्स, दाल, नट्स खाने चाहिए। बता दें कि, पालक स्वस्थ अंडे और शुक्राणु के उत्पादन के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। जबकि केले में विटामिन 6 भरपूर मात्रा में होता है, जो हार्मोन को विनियमित करने में मदद करता है। अंडे खाने से विटामिन डी मिलता है, जिससे बांझपन की कमी दूर होती है। इसके अलावा दाल, नट्स आदि प्रोटीन से भरपूर हैं। ये सभी ऐसे सुपर रिच फूड्स हैं, जो आपको जल्दी गर्भवती करने में मददगार साबित होंगे।

(और पढ़ें – गर्भवती महिलाओं के लिए जरूरी पोषक तत्‍व)

गर्भवती न होने पर डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए

गर्भवती न होने पर डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए

अगर कई कोशिशों के बाद भी अगर आप छह महीने तक प्रेग्रेंट नहीं होतीं, तो चिंता की बात नहीं है। लेकिन अगर आपकी उम्र 35 या उससे ज्यादा है और नियमित संभोग करने के साथ आप ओव्यूलेट भी सही से कर रही हैं, लेकिन गर्भधारण नहीं कर पा रहीं हैं तो फिर आपको डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है।

गर्भधारण जल्दी न होना एक बड़ी चुनौती है। इसलिए ऐसे में आपको सब्र रखना होगा। यह सामान्य बात है। इसका मतलब ये नहीं, कि आप कभी गर्भवती नहीं हो पाएंगी। एक महीने में गर्भवती होने की संभावना को अधिकतम करने के लिए खुश, तनावमुक्त और साहसिक रहें। इन चीजों को करने से आपको सकारात्मक परिणाम मिलने की संभावना बढ़ जाएगी।

(और पढ़ें – गर्भवती होने (गर्भधारण करने) के लिए सही सही समय)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration